बजट 2020: क्या छोटी बचत योजनाओं पर लगा ग्रहण? नहीं मिलेगा निवेश करने पर टैक्स छूट में लाभ

बिजनेस डेस्क, अमर उजाला Updated Sat, 01 Feb 2020 06:50 PM IST
विज्ञापन
union budget 2020 taxpayers will not get benefit in small saving if return filed under new slab

पढ़ें अमर उजाला ई-पेपर
कहीं भी, कभी भी।

*Yearly subscription for just ₹249 + Free Coupon worth ₹200

ख़बर सुनें
वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने आयकर के स्लैब की नई दरों की घोषणा करते हुए कई तरह की छूट के प्रावधान को खत्म कर दिया है। इसमें से सेक्शन 80सी और आयकर कानून के चैप्टर 6ए भी शामिल हैं। इससे आयकर रिटर्न फाइल करते वक्त कई निवेश पर मिलने वाली छूट को खत्म हो जाएगी। इनमें पोस्ट ऑफिस की छोटी बचत योजनाएं भी शामिल हैं। 

पुराने स्लैब से भरेंगे तो होगा फायदा 

सीए गिरीश नारंग के अनुसार अगर कोई आयकरदाता पुराने स्लैब के अनुसार आयकर रिटर्न को भरता है तो फिर उसको छूट में इन पुराने निवेश का लाभ मिलेगा। इनमें सेक्शन 80सी के तहत किए गए 1.5 लाख रुपये का निवेश, एचआरए और होम लोन के ब्याज पर मिलने वाली छूट शामिल है। अगर करदाता पुराने स्लैब में सभी तरह की छूट का इस्तेमाल करता है, तो फिर नए स्लैब में उतना फायदा नहीं मिलेगा, जितना पुराने स्लैब से रिटर्न फाइल करने पर मिलेगा। 
विज्ञापन

अगर करते हैं केवल 1.50 लाख का निवेश तो फिर होगा कम फायदा

पुराने स्लैब के अनुसार अगर कोई करदाता केवल 1.5 लाख रुपये की छूट का इस्तेमाल करता है, तो फिर इसका कम फायदा मिलेगा। वहीं नए स्लैब के अनुसार अगर व्यक्ति 1.5 लाख की छूट नहीं लेता है तो फिर उसे फायदा मिलेगा। 

छोटी बचत योजनाओं पर लगा ग्रहण

हालांकि सरकार के नए कदम से अब छोटी बचत योजनाओं में निवेश पर ग्रहण लग सकता है। इन निवेश योजनाओं में ज्यादातर आम आदमी बचत और निवेश के लिए करता था, ताकि उसको आयकर में लाभ के साथ ही बचत भी होती रहे। अब नए स्लैब के बाद और निवेश में छूट के 100 में से 70 विकल्पों को खत्म करने के बाद यह योजनाएं पूरी तरह से लोगों को आकर्षित नहीं कर पाएंगी। 

होम लोन के ब्याज और एचआरए का भी नहीं मिलेगा लाभ

सीए गिरीश नारंग के अनुसार नए टैक्स स्लैब के मुताबिक होम लोन के ब्याज और एचआरए में पहले मिलने वाली छूट का भी लाभ नहीं मिलेगा। ज्यादातर टैक्सपेयर इस छूट का इस्तेमाल भी रिटर्न फाइल करते वक्त लेते थे। इसके अलावा परिवार और स्वंय के लिए स्वास्थ्य बीमा पॉलिसी पर मिलने वाली छूट और स्टैण्डर्ड डिडक्शन के तहत 50 हजार की छूट भी नहीं मिलेगी।  
विज्ञापन
विज्ञापन
सबसे विश्वसनीय हिंदी न्यूज़ वेबसाइट अमर उजाला पर पढ़ें कारोबार समाचार और बजट 2020 से जुड़ी ब्रेकिंग अपडेट। कारोबार जगत की अन्य खबरें जैसे पर्सनल फाइनेंस, लाइव प्रॉपर्टी न्यूज़, लेटेस्ट बैंकिंग बीमा इन हिंदी, ऑनलाइन मार्केट न्यूज़, लेटेस्ट कॉरपोरेट समाचार और बाज़ार आदि से संबंधित ब्रेकिंग न्यूज़
 
रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें अमर उजाला हिंदी न्यूज़ APP अपने मोबाइल पर।
Amar Ujala Android Hindi News APP Amar Ujala iOS Hindi News APP
विज्ञापन

Spotlight

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
Election
X

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
  • Downloads

Follow Us