चीनी कंपनियों से तोड़ा करार तो दूरसंचार कंपनियों के लिए होगी मुश्किल, बढ़ेगा भुगतान का बोझ

बिजनेस डेस्क, अमर उजाला, नई दिल्ली Updated Tue, 23 Jun 2020 12:35 PM IST
विज्ञापन
दूरसंचार कंपनियां
दूरसंचार कंपनियां - फोटो : pixabay

पढ़ें अमर उजाला ई-पेपर
कहीं भी, कभी भी।

*Yearly subscription for just ₹249 + Free Coupon worth ₹200

ख़बर सुनें
सीमा पर तनाव बढ़ने के बाद से देश भर में चीन विरोधी लहरों के बीच भारतीय दूरसंचार कंपनियां अगर चीनी कंपनियों से करार तोड़ती है तो उसके लिए मुश्किल खड़ी हो जाएगी। भारतीय दूरसंचार कंपनियों के हुवावे और जेडटीई जैसी चीनी कंपनियों से करार तोड़ने पर उन्हें 8,602 करोड़ का भुगतान करना पड़ेगा। 
विज्ञापन

कंपनियों को करना होगा इतना भुगतान
अगर वोडा-आइडिया, एयरटेल हुवावे व जेडटीई अपने मौजूदा अनुबंध को तोड़ती है तो उन्हें क्रमश: 65 करोड़ों डॉलर (4,929 करोड़ रुपये) और 30 करोड़ डॉलर (2,270 करोड़ों रुपये) चुकाने पड़ सकते हैं। बीएसएनल को भी जेडटीई को 1,300 करोड़ और हुवावे को 100 करोड़ भुगतान करना पड़ सकता है।
उद्योग से जुड़े अधिकारियों का कहना है कि अगर चीनी कंपनियों को भारत में कारोबार से रोका जाता है तो वह बकाया वसूली का प्रयास तेज कर देंगी। उनका यह कदम नकदी संकट से जूझ रही घरेलू दूरसंचार कंपनियों के लिए मुश्किलें खड़ी कर सकता है।

30,000 कर्मचारियों को मई का वेतन देगी एयरटेल
एयरटेल अपनी खुदरा और वितरण कारोबार में भागीदार के तौर पर जुड़ी इकाइयों के 30,000 कर्मचारियों को मई का वेतन देगी। कोरोना संकट के दौर में मदद के लिए कंपनी ने सहयोग को पत्र लिखा है। कंपनी इससे पहले अप्रैल में भी वितरण और खुदरा फ्रेंचाइजी नेटवर्क के कर्मचारियों को वेतन दे चुकी है।
विज्ञापन
विज्ञापन
सबसे विश्वसनीय हिंदी न्यूज़ वेबसाइट अमर उजाला पर पढ़ें कारोबार समाचार और बजट 2020 से जुड़ी ब्रेकिंग अपडेट। कारोबार जगत की अन्य खबरें जैसे पर्सनल फाइनेंस, लाइव प्रॉपर्टी न्यूज़, लेटेस्ट बैंकिंग बीमा इन हिंदी, ऑनलाइन मार्केट न्यूज़, लेटेस्ट कॉरपोरेट समाचार और बाज़ार आदि से संबंधित ब्रेकिंग न्यूज़
 
रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें अमर उजाला हिंदी न्यूज़ APP अपने मोबाइल पर।
Amar Ujala Android Hindi News APP Amar Ujala iOS Hindi News APP
विज्ञापन

Spotlight

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
Election
X

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
  • Downloads

Follow Us