विज्ञापन

RBI ने की तीन बड़ी घोषणाएं, ऑनलाइन ले सकेंगे 50 लाख तक का लोन

बिजनेस डेस्क, अमर उजाला Updated Thu, 05 Dec 2019 06:59 PM IST
rbi made three big announcement, people can take online loan worth 50 lakh rupees
ख़बर सुनें
भारतीय रिजर्व बैंक ने गुरुवार को रेपो रेट तो घटाया नहीं, लेकिन आम आदमी की परेशानी और अर्थव्यवस्था में छाई सुस्ती को दूर करने के लिए तीन बड़ी घोषणाएं की हैं। इससे केंद्रीय बैंक को लगता है कि लोगों में खपत बढ़ेगी, जिससेे अर्थव्यवस्था में तेजी आएगी। 
विज्ञापन

ऑनलाइन मिलेगा 50 लाख का कर्ज

आरबीआई के गवर्नर शक्तिकांत दास ने कहा कि अब कोई भी व्यक्ति या फिर बैंक अथवा एनबीएफसी कंपनी किसी को भी ऑनलाइन 50 लाख तक का लोन दे सकेगी। पहले यह सीमा एक व्यक्ति के लिए 50 हजार रुपये थी, वहीं कंपनियों के लिए 10 लाख रुपये की सीमा थी। यह सुविधा केवल पीयर-टू-पीयर प्लेटफॉर्म पर मिलेगी। लोन के अलावा लोग इन प्लेटफॉर्म पर इतनी ही राशि का निवेश भी कर सकेंगे, जिनको ज्यादा रिटर्न की उम्मीद है। इसके लिए केंद्रीय बैंक जल्द ही दिशा-निर्देशों को जारी करेगा। 

लॉन्च होगा 10 हजार रुपये का नया प्रीपेड कार्ड

केंद्रीय बैंक ने कहा है कि जल्द ही वो एक नया प्रीपेड कार्ड लॉन्च करने जा रही है, जिसका इस्तेमाल लोग शॉपिंग और अन्य दुकानों पर भुगतान के लिए कर सकेंगे। इस कार्ड में लोग एक बार में अधिकतम 10 हजार रुपये की राशि को लोड कर सकेंगे। हालांकि इस कार्ड में केवल बैंक खाते से ही पैसा लोड या फिर रि-लोड किया जा सकेगा। इस कार्ड का इस्तेमाल केवल डिजिटल तरीके से भुगतान के लिए किया जा सकेगा। इसके लिए आरबीआई 31 दिसंबर को अन्य दिशा-निर्देश जारी करेगा। यह एक मोबाइल वॉलेट की तरह होगा। 

एटीएम की सुरक्षा होगी और पुख्ता

आरबीआई ने बैंकों से एटीएम की सुरक्षा को और पुख्ता करने के लिए कहा है। इसके लिए बैंकों से कहा जाएगा कि वो थर्ड पार्टी जो एटीएम का सर्वर और स्विच एप्लीकेशन देखती हैं, उनके साथ अपने करार को बदलें। इसमें सॉफ्टवेयर में बदलाव, सर्विलांस, डाटा के स्टोरेज और एटीएम की निगरानी के लिए एक नया तंत्र विकसित करें। एटीएम में हो रहे फ्रॉड, क्लोनिंग और फिशिंग को रोकने के लिए सभी तरह के मुमकिन प्रयास करने होंगे। 

केंद्रीय बैंक ने जीडीपी का अनुमान घटा दिया है। रेपो दर 5.15 फीसदी पर बरकरार रहेगी। तीन दिसंबर को मौद्रिक नीति समिति की बैठक शुरू हुई थी और आज पांच दिसंबर को रेपो रेट की घोषणा हुई। बता दें कि केंद्रीय बैंक खुदरा महंगाई को ध्यान में रखते हुए प्रमुख नीतिगत दरों पर फैसला लेता है। इस साल रेपो दर में कुल 135 आधार अंकों की कटौती हुई है। नौ सालों में पहली बार रेपो रेट इतना कम है। मार्च, 2010 के बाद यह रेपो रेट का सबसे निचला स्तर है। रिवर्स रेपो रेट 4.90 फीसदी है बैंक रेट 5.40 फीसदी पर है। 
विज्ञापन

Recommended

त्योहारों के मौसम में ऐसे बढ़ाएं रिश्तों में मिठास
Dholpur Fresh (Advertorial)

त्योहारों के मौसम में ऐसे बढ़ाएं रिश्तों में मिठास

मौनी अमावस्या पर गया में कराएं तर्पण, हर तरह के ऋण से मिलेगी मुक्ति : 24 जनवरी 2020
Astrology Services

मौनी अमावस्या पर गया में कराएं तर्पण, हर तरह के ऋण से मिलेगी मुक्ति : 24 जनवरी 2020

विज्ञापन
अमर उजाला की खबरों को फेसबुक पर पाने के लिए लाइक करें
सबसे विश्वसनीय हिंदी न्यूज़ वेबसाइट अमर उजाला पर पढ़ें कारोबार समाचार और बजट 2020 से जुड़ी ब्रेकिंग अपडेट। कारोबार जगत की अन्य खबरें जैसे पर्सनल फाइनेंस, लाइव प्रॉपर्टी न्यूज़, लेटेस्ट बैंकिंग बीमा इन हिंदी, ऑनलाइन मार्केट न्यूज़, लेटेस्ट कॉरपोरेट समाचार और बाज़ार आदि से संबंधित ब्रेकिंग न्यूज़
 
रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें अमर उजाला हिंदी न्यूज़ APP अपने मोबाइल पर।
Amar Ujala Android Hindi News APP Amar Ujala iOS Hindi News APP

Spotlight

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

Most Read

Business Diary

आधार से लिंक न होने पर पैन कार्ड नहीं होगा रद्दी, अवैध है नई डेडलाइनः गुजरात हाईकोर्ट

गुजरात हाईकोर्ट ने हाल में अपने एक आदेश में कहा है कि पैन कार्ड के आधार से लिंक नहीं होने पर यह रद्दी नहीं होगा।

22 जनवरी 2020

विज्ञापन

कानपुर में CAA पर बोले योगी आदित्यनाथ,देश विरोधी नारे लगाने वालों पर होगा मुकदमा

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने बड़े चेतावनी भरे लहजे में कहा कि यदि उत्तर प्रदेश की धरती पर कोई देश विरोधी नारे लगाएगा, तो उस पर देशद्रोह का मुकदमा दर्ज होगा।

22 जनवरी 2020

आज का मुद्दा
View more polls

Disclaimer

अपनी वेबसाइट पर हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर अनुभव प्रदान कर सकें, वेबसाइट के ट्रैफिक का विश्लेषण कर सकें, कॉन्टेंट व्यक्तिगत तरीके से पेश कर सकें और हमारे पार्टनर्स, जैसे की Google, और सोशल मीडिया साइट्स, जैसे की Facebook, के साथ लक्षित विज्ञापन पेश करने के लिए उपयोग कर सकें। साथ ही, अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।

Agree
Election
  • Downloads

Follow Us