बेहतर अनुभव के लिए एप चुनें।
INSTALL APP

स्नैचिंगः संशोधित धारा 379 ‘ए’ के तहत चंडीगढ़ में पहला मामला दर्ज, ये है सजा का प्रावधान

अमर उजाला, चंडीगढ़ Published by: खुशबू गोयल Updated Tue, 21 Jan 2020 11:49 AM IST
विज्ञापन
फाइल फोटो
फाइल फोटो

पढ़ें अमर उजाला ई-पेपर
कहीं भी, कभी भी।

ख़बर सुनें
संशोधित धारा 379 ‘ए’ के तहत चंडीगढ़ में पहला मामला दर्ज किया गया है। आरोप साबित होने पर पांच से दस साल की सजा हो सकती है। चंडीगढ़ के एसडी कॉलेज की छात्रा से दो झपटमारों ने पर्स छीन लिया। घटना रविवार रात करीब 10 बजे की है। खास बात यह है कि पुलिस ने नई धाराओं के तहत यह पहला केस दर्ज किया है।
विज्ञापन


इससे पहले झपटमारी में 356 और 379 के तहत केस दर्ज होता था। अब झपटमारों पर शिकंजा कसने के लिए धारा 379 में ‘ए’ जोड़ दिया है। इसमें दोषी को पांच से दस साल तक सजा हो सकती है। मूलरूप से कुल्लू निवासी टशी ने बताया कि उसकी बहन डीचेन (20) चंडीगढ़ सेक्टर-32 स्थित एसडी कॉलेज में बीए तृतीय वर्ष की छात्रा है। वह सेक्टर-32 में पीजी में रहती है।


रविवार रात वह अपनी सहेली के साथ मार्केट से लौट रही थी। सेक्टर-32 के वाटर वर्क्स आईटीबीपी क्वार्टर्स के पास पहुंची तो ज्यादा अंधेरा होने की वजह से बाइक सवार दो युवक उसका पर्स झपटकर ले गए। वह बाइक का नंबर भी नोट नहीं कर सकी। पर्स में मोबाइल, चार हजार और जरूरी कागजात थे। शोर शराबे के बाद लोग जमा हो गए, जिसके बाद इसकी सूचना पुलिस को दी गई।

डीचेन ने बताया कि झपटमार काले रंग की बाइक पर थे और हेलमेट पहना हुआ था। पुलिस ने सीसीटीवी कैमरों को खंगालना शुरू कर दिया है।
विज्ञापन
आगे पढ़ें

आरोप साबित होने पर पांच से दस साल तक की सजा

विज्ञापन

आपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।

खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?
विज्ञापन
विज्ञापन
सबसे विश्वसनीय हिंदी न्यूज़ वेबसाइट अमर उजाला पर पढ़ें हर राज्य और शहर से जुड़ी क्राइम समाचार की
ब्रेकिंग अपडेट।
 
रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें अमर उजाला हिंदी न्यूज़ APP अपने मोबाइल पर।
Amar Ujala Android Hindi News APP Amar Ujala iOS Hindi News APP
विज्ञापन
विज्ञापन

Spotlight

विज्ञापन
Election
  • Downloads

Follow Us