पंजाब यूनिवर्सिटी में म्यूजिक में डिग्री लीजिए और संगीत की दुनिया में छा जाइए, अपार संभावनाएं हैं

अमर उजाला नेटवर्क, चंडीगढ़ Updated Wed, 26 Feb 2020 01:24 PM IST
विज्ञापन
प्रतीकात्मक तस्वीर
प्रतीकात्मक तस्वीर

पढ़ें अमर उजाला ई-पेपर
कहीं भी, कभी भी।

*Yearly subscription for just ₹249 + Free Coupon worth ₹200

ख़बर सुनें
प्रसिद्ध पंजाबी गायक सतिंदर सरताज को कौन नहीं जानता। उन्होंने अपने संगीत का जादू पूरी दुनिया में बिखेरा है। गायक सतिंदर सरताज को म्यूजिक की बारीकियां सिखाने वाला पंजाब यूनिवर्सिटी का म्यूजिक विभाग है। उन्होंने यही से शिक्षा पाई और पूरी दुनिया में छा गए। इस विभाग की ओर से करवाए जा रहे मास्टर कोर्सेज की पढ़ाई करके विद्यार्थी कई क्षेत्रों में अपनी प्रतिभा का लोहा मनवा रहे हैं। म्यूजिक से पढ़ाई करने के बाद तमाम रोजगार के अवसर मिल रहे हैं।
विज्ञापन

पीयू के म्यूजिक विभाग की स्थापना वर्ष 1987 में हुई थी। शुरुआत में विभाग ने एक कोर्स शुरू किया, लेकिन बाद में धीरे-धीरे कोर्सेज की संख्या बढ़ा दी। वर्तमान में विभाग एमए म्यूजिक वोकल, एमए म्यूजिक इंस्ट्रूूमेंटल की पढ़ाई करवा रहा है। दोनों ही कोर्सेज में 17-17 सीटें हैं। मांग अधिक होने के कारण हर साल इनमें दाखिले के लिए 100 से अधिक आवेदन आते हैं। प्रवेश परीक्षा के जरिये प्रवेश होता है। स्नातक में म्यूजिक विषय होने के बाद विद्यार्थी यहां अप्लाई कर सकते हैं।
एमफिल भी विभाग करवा रहा है। साथ ही विभाग हॉबी कोर्स भी चला रहा है। इसमें तमाम लोग हिस्सा ले रहे हैं। म्यूजिक विभाग यहां ऐसा विभाग है जिसकी हर जगह जरूरत है। हर कार्यक्रम की शुरुआत ही संगीत से होती है। ऐसे में विद्यार्थियों की प्रतिभा में कार्यक्रमों के जरिये निखार आ रहा है।
म्यूजिक विभाग से पास आउट विद्यार्थी फिल्म इंडस्ट्री में अच्छे पदों पर काम कर रहे हैं। इवेंट प्लानर से लेकर बैंड बनाने तक का कार्य उनके माध्यम से किया जा रहा है। विदेशों में भी नौकरी कर रहे हैं। साथ ही म्यूजिक कोचिंगों का संचालन भी कई विद्यार्थी कर रहे हैं। तमाम विद्यार्थी टीचिंग के क्षेत्र में काम कर रहे हैं। पंजाबी सिंगर सतिंदर सरताज भी यहीं के एलुमनी हैं जिनका पूरी दुनिया में नाम है। विद्यार्थी म्यूजिक से मास्टर डिग्री करके बेहतर भविष्य बना सकते हैं। रोजगार के तमाम अवसर यहां से मिलते हैं। मेहनत हर क्षेत्र में करनी पड़ती है।
- प्रो. नीलम पॉल, चेयरपर्सन, म्यूजिक विभाग
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

Spotlight

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
Election
X

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
  • Downloads

Follow Us