विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
सावन के सोमवार पर कराएं शिव का सहस्राचन, मिलेगी समस्त आकस्मिक परेशानियों से मुक्ति
SAWAN Special

सावन के सोमवार पर कराएं शिव का सहस्राचन, मिलेगी समस्त आकस्मिक परेशानियों से मुक्ति

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

From nearby cities

विज्ञापन
Digital Edition

चंडीगढ़: शिक्षा विभाग में कोरोना पॉजिटिव मिलने के बाद पुलिस मुख्यालय दो दिनों के लिए बंद

चंडीगढ़ के सेक्टर- 9 स्थित शिक्षा विभाग में कोरोना के पॉजिटिव केस मिलने के बाद चंडीगढ़ पुलिस हेडक्वार्टर आज (06 जून) से दो दिनों के लिए  बंद रहेगा।
जांच में सामने आया कि कोरोना पॉजिटिव मरीज चंडीगढ़ पुलिस हेडक्वार्टर के कैंटीन में चाय और नाश्ता करने आता था। इसके चलते प्रशासन ने हेडक्वार्टर को बंद करने का फैसला लिया।


यह भी पढ़ें-
खुलासा: घरवालों को नींद की गोली देकर युवकों से मिलने आई थीं युवतियां, फिर हुई दो पुलिसवालों की हत्या
  अब अगले दो दिनों तक पूरे हेडक्वार्टर को सैनिटाइज किया जाएगा। हेडक्वार्टर को बंद करने का आदेश एसपी हेडक्वार्टर मनोज कुमार मीणा ने जारी किए हैं। वहीं इस दौरान सभी अधिकारी और पुलिसकर्मी घर से काम करेंगे। सैनिटाइज करने के बाद बुधवार को हेडक्वार्टर के खुलने की संभावना है।
पुलिस मुख्यालय स्वच्छता के लिए दो दिनों तक बंद रहेगा। शिक्षा विभाग कार्यालय में काम करने वाले एक व्यक्ति ने COVID-19 को पीड़ित मिला है। सेक्टर -9 में पुलिस मुख्यालय और शिक्षा विभाग का कार्यालय एक-दूसरे से सटे हुए हैं: एसपी, मुख्यालय, मनोज कुमार मीणा।
... और पढ़ें
chandigarh chandigarh

पबजी की गिरफ्त में बच्चे... एक ने खरीदे 16 लाख के वर्चुअल हथियार, दूसरे ने उड़ाए तीन लाख

मोहाली जिले में पबजी गेम की लत में दो बच्चों ने अपने परिजनों को कंगाल बना दिया। वर्चुअल हथियार और बुलेट प्रूफ जैकेट खरीदनेे के शौक में इन दोनों बच्चों ने अपने परिजनों के खातों से 19 लाख रुपये उड़ा डाले। इनमें से एक लड़का मोहाली का है, जो दसवीं में पढ़ता है, उसने अपने परिजनों के खाते से तीन लाख जबकि दूसरा खरड़ निवासी 17 वर्षीय किशोर है, जिसने अपने परिजनों के खाते से करीब 16 लाख रुपये उड़ा डाले।

मामले का खुलासा तब हुआ जब पैरेंट्स ने अपने बैंक अकाउंट चेक किए। बैंक अकाउंट खाली होने से दोनों के परिजन लगभग कंगाल हो गए हैं। वहीं, इस तरह का नया मामला सामने आने से लोग भी हैरान हैं। आहत पैरेंट्स ने इस मामले में पुलिस की शरण ली है। उनका कहना है कि गेम के जरिये ऑनलाइन ठगी करने के पीछे बड़ा गिरोह है जो कि कोरोना कॉल में काफी सक्रिय हो गया है और बच्चों को अपने जाल में फंसा कर लूट रहा है। ऐसे तुरंत कार्रवाई होनी चाहिए। पैरेंट्स का कहना है कि सैकड़ों लोग ऐसी ठगी का शिकार हुए हैं लेकिन इज्जत के डर से वह कुछ भी बोलने से बच रहे हैं।


यह भी पढ़ें-
खुलासा: घरवालों को नींद की गोली देकर युवकों से मिलने आई थीं युवतियां, फिर हुई दो पुलिसवालों की हत्या

पहला मामला खरड़ के एक 17 वर्षीय किशोर का है, जिसने पबजी गेम्स में करीब 16 लाख रुपये के वर्चुअल हथियार खरीद डाले। यह रकम उसने परिजनों के बैंक अकाउंट से उड़ाए। पैरेंट्स को इस बात की जानकारी तब हुई जब उन्हें पैसे कटने संबंधी एक मैसेज फोन पर मिला। इसके बाद पैरेंट्स ने बैंक पहुंचकर सारे रिकॉर्ड चेक किए तो होश उड़ गए। खाते से करीब 16 लाख रुपये उड़ चुके थे।
... और पढ़ें

चंडीगढ़: घर में झगड़े के बाद बहन को फोन कर कहा- मरने जा रहा हूं, अगले दिन लटकी मिली लाश

मलोया स्थित स्नेहालय के पीछे जंगल में पेड़ से लटकता हुआ एक युवक का शव मिलने से हड़कंप मच गया। पुलिस की शुरुआती जांच में सामने आया कि घटना से करीब 12 घंटे पहले युवक ने अपनी बड़ी बहन को फोन कर कहा कि वह मरने जा रहा है। यह सुनकर घर वालों ने उसकी तलाश शुरू की लेकिन वह कहीं नहीं मिला। अगले दिन उसका शव पेड़ से लटकता मिला।

मृतक की पहचान मलोया निवासी 24 वर्षीय राहुल के रूप में हुई है। रविवार दोपहर करीब एक बजे पुलिस को सूचना मिली कि मलोया स्थित स्नेहालय की पिछली साइड जंगल में एक युवक ने पेड़ पर फंदा लगा लिया है। मौके पर पहुंची पुलिस ने शव को जीएमएसएच-16 पहुंचाया, जहां डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया।
पुलिस जांच में सामने आया कि मृतक का नाम राहुल है वह मलोया में परिवार समेत रहता था। बीती शनिवार रात शराब के नशे में उसकी घर वालों से लड़ाई हो गई। इसके चलते वह रात वापस नहीं लौटा। पुलिस के अनुसार, रात करीब 12.30 बजे खुड्डा लाहौरा में रहने वाली बड़ी बहन को फोन कर राहुल ने कहा कि वह मरने जा रहा है। यह सुनकर घर वाले परेशान हो गए और रात भर राहुल को तलाशते रहे लेकिन वह नहीं मिला।

मोबाइल लोकेशन से युवक तक पहुंचा परिवार
बताया गया कि लड़ाई के बाद राहुल घर से चला गया। उसके पास मोबाइल फोन था, जिसके बाद फोन की लोकेशन पता कर परिवार वाले घटनास्थल तक पहुंचे तो उसकी मौत का पता चला। राहुल के पांच बहनें और एक भाई है। राहुल मोहाली के फेस 5 स्थित एक कपड़े की शॉप पर सेल्समैन का काम करता था। फिलहाल पुलिस ने शव को हॉस्पिटल की मोर्चरी में रखवा दिया है, जहां पोस्टमार्टम के बाद शव परिवार को सौंप दिया जाएगा।
... और पढ़ें

झज्जर में सगे भाइयों की गोली मारकर हत्या, एक को ढाबे पर तो दूसरे को घर में घुसकर मारी गोली

चिमनी गांव के दो सगे भाई भाइयों की गोली मारकर हत्या कर दी गई है। एक को बेरी कलानौर रोड पर उसके ढाबे पर गोली मारी तो दूसरे भाई की थोड़ी देर बाद गांव में जाकर घर में घुसकर गोली मारकर हत्या कर दी गई। घटना की जानकारी मिलते ही बेरी पुलिस थाना प्रभारी व डीएसपी नरेश कुमार मौके पर पहुंचे घटनास्थल का मुआयना करने के बाद पुलिस ने आगामी कार्रवाई शुरू कर दी है।

एक भाई का रोहतक पीजीआई में तो दूसरे भाई का सामान्य अस्पताल झज्जर में पोस्टमार्टम करवाया जा रहा है। दोनों का चिकित्सकों के बोर्ड से पोस्टमार्टम करवाया जा रहा है।

जानकारी के अनुसार चिमनी गांव निवासी ओमप्रकाश पुत्र दयाराम ने पुलिस को दिए बयान में कहा है कि उसके 3 पुत्र थे। जिनमें से उसके मझले पुत्र राजेश कुमार की बीमारी के चलते 22 मई को मौत हो गई थी। जबकि उसका बड़ा पुत्र आनंद बेरी कलानौर रोड पर ढाबा चलाता था। जबकि छोटा पुत्र कुलबीर किसी काम के लिए महेंद्रगढ़ जिले के जैनपुर गांव में गया था। 
... और पढ़ें

चंडीगढ़: अलग-अलग जगहों से दो ऑटो चालकों के शव मिले, इलाके में फैली सनसनी

बापूधाम और सारंगपुर से दो ऑटो चालकों के शव मिलने से दोनों इलाकों में हड़कंप मच गया। इनमें से एक की मौत नशे के ओवरडोज से जबकि दूसरे की मौत भी नशे के ओवरडोज से होने की आशंका है। वहीं एक अन्य युवक की हालत गंभीर बनी हुई है, जिसका इलाज जीएमएसएच-16 में चल रहा है।

मृतकों की पहचान बापूधाम निवासी अजय कुमार (20) और धनास निवासी गागा (30) के रूप में हुई है। पुलिस ने दोनों ही मामलों में सीआरपीसी 174 के तहत कार्रवाई करते हुए मामले की छानबीन शुरू कर दी है। पहली घटना बीती शनिवार देर शाम की है। पुलिस को सूचना मिली कि सारंगपुर स्थित मार्बल मार्केट के पीछे जंगल में दो लोग बेसुध पड़े हैं। सूचना पर सारंगपुर थाना पुलिस मौके पर पहुंची और दोनों को जीएमएसएच-16 पहुंचाया, जहां डॉक्टरों ने गागा नामक ऑटो चालक को मृत घोषित कर दिया जबकि उसके साथी मनोज का इलाज चल रहा है।


यह भी पढ़ें-
खुलासा: घरवालों को नींद की गोली देकर युवकों से मिलने आई थीं युवतियां, फिर हुई दो पुलिसवालों की हत्या

पुलिस की प्राथमिक जांच में सामने आया कि गागा ऑटो चलाने का काम करता था। वह और उसके दोस्त मनोज ने बीती शनिवार शाम को इकट्ठे शराब का सेवन किया और फिर जंगल में नशीले इंजेक्शन लगा लिए। इसके बाद दोनों बेहोशी की हालत में जंगल में पड़े रहे। आसपास के मजदूरों ने उन्हें बेसुध देखा तो पुलिस को सूचना दी।
 
वहीं दूसरी घटना रविवार सुबह करीब 8 बजे की है। सेक्टर-26 स्थित बापूधाम फेज-1 रामलीला ग्राउंउ के पास खड़े एक ऑटो में चालक का संदिग्ध परिस्थितियों में शव मिला। पुलिस की जांच में मृतक की पहचान बापूधाम निवासी अजय के रूप में हुई। पुलिस ने शव को जीएमएसएच-16 के मोर्चरी में रखवाकर मामले की छानबीन शुरू कर दी है। पुलिस ने आशंका जताई है कि हो सकता है कि चालक की मौत नशे के ओवरडोज के चलते हुई हो। पुलिस का कहना है कि पोस्टमार्टम रिपोर्ट से साफ होगा कि अजय की मौत किन कारणों से हुई है।
... और पढ़ें

प्रदूषण ने बदली प्रवृत्ति, औद्योगिक क्षेत्र में कम, रिहायशी इलाके में बढ़ रहा

चंडीगढ़ में प्रदूषण के स्वरूप में बदलाव देखने को मिला है। चंडीगढ़ के औद्योगिक व व्यवसायिक क्षेत्र में प्रदूषण कम हो रहा है तो रिहायशी व इंस्टीट्यूशनल एरिया में प्रदूषण की मात्रा हर साल बढ़ रही है। यह दावा पीजीआई के कम्युनिटी मेडिसिन एंड स्कूल ऑफ पब्लिक हेल्थ व पंजाब यूनिवर्सिटी के एनवायरनमेंट स्टडीज ने संयुक्त रूप से प्रदूषण के 25 साल के आंकड़ों का आकलन करके किया है।

शोधकर्ताओं के मुताबिक औद्योगिक व व्यवसायिक क्षेत्र में क्रमश: 1.3 फीसदी व 0.4 फीसदी की दर से हर साल पीएम-10 की मात्रा कम हो रही है, जबकि रिहायशी, इंस्टीट्यूशनल और ग्रामीण क्षेत्र में पीएम 10 की मात्रा 0.3 फीसदी, 1.3 फीसदी और 1.1 फीसदी की दर से हर साल बढ़ रही है। 

विशेषज्ञों के मुताबिक रिहायशी इलाकों में पीएम 10 बढ़ने के कई कारण हैं। इनमें प्रमुख रूप से वाहनों की बढ़ती संख्या, एक मौसम में पराली का जलना और खुले में नगर निगम के कूड़े को जलाना है। वाहनों के टायरों के घिसने से निकलने वाले कण की भी पीएम 10 की बढ़ोतरी में अहम भूमिका है।

वहीं, औद्योगिक व व्यवसायिक क्षेत्रों में कम होने की वजह प्रदूषण नियंत्रण की नीति को सख्ती से लागू करना है। शोधकर्ताओं ने रिहायशी इलाके के लिए सेक्टर-39, औद्योगिक क्षेत्र के लिए फेज वन, व्यवसायिक के लिए सेक्टर-17, इंस्टीट्यूशनल के लिए पंजाब इंजीनियरिंग कॉलेज व ग्रामीण क्षेत्र के लिए कैंबवाला गांव को लिया है।
... और पढ़ें

चंडीगढ़: बीएस-4 इंजन वाले वाहनों को लेकर हाईकोर्ट पहुंचा मामला, केंद्र सरकार को नोटिस

बीएस-4 इंजन वाले वाहनों को अंतिम तिथि से पहले खरीदने और इसका रजिस्ट्रेशन न करवा पाने वाले खरीदारों ने इंसाफ के लिए पंजाब-हरियाणा हाईकोर्ट से गुहार लगाई है। खरीदारों की ओर से कहा गया कि वाहन को बेचने से जुड़े नियम के बारे में उनको नहीं पता था जिसके चलते वाहन रजिस्ट्रेशन न होने के कारण वे पिस रहे हैं। हाईकोर्ट में याचिका पर केंद्र सरकार सहित अन्य प्रतिभागियों को नोटिस जारी करते हुए जवाब तलब कर लिया है।

याचिका दाखिल करते हुए एडवोकेट कनु ने हाईकोर्ट को बताया कि सुप्रीम कोर्ट ने बीएस 4 इंजन वाले वाहनों को बेचने की अंतिम तिथि 30 अप्रैल निर्धारित की थी। याचिकाकर्ता ने तारीख से बहुत पहले वाहन खरीद लिया था। वाहन खरीदने के बाद विश्व भर में कोरोनावायरस ने आतंक मचाया, जिसके चलते भारत में भी लॉकडाउन लागू कर दिया गया। लॉकडाउन होने के कारण याचिकाकर्ता सहित बहुत से लोग अपने वाहनों का रजिस्ट्रेशन नहीं करवा सके। 

याची ने बताया कि इसके बाद भी 10 दिन के लिए रजिस्ट्रेशन हेतु समय दिया गया था लेकिन लॉकडाउन के कारण ज्यादातर लोग इसका लाभ नहीं ले सके। सुप्रीम कोर्ट में अभी भी बीएस-4 वाहनों को लेकर मामला लंबित है। हाईकोर्ट ने मामले को अहम मानते हुए केंद्र सरकार सहित अन्य प्रतिवादी पक्षों को नोटिस जारी करते हुए जवाब दाखिल करने के आदेश दिए हैं। इसके साथ ही केंद्र सरकार को आदेश दिए हैं कि वह बताएं कि सुप्रीम कोर्ट में लंबित मामले की वर्तमान स्थिति क्या है।
... और पढ़ें

अपने ही जाल में फंसा चीन, चंडीगढ़वासी बोले- सीमा पर सेना और बाजार में हम सिखाएंगे सबक

चीन को सबक सिखाने का सही वक्त आ गया है। चीन बार बार धोखा देता है। धोखेबाज को ऐसे सबक सीखाने की जरूरत है उसकी पीढ़ियां याद रखे। उसे पता चले जब देश एक होता है तो बड़े बड़ों के होश ठिकाने लगते देर नहीं लगती। सरकार का जो काम करना है वह कर रही है, एक जिम्मेदार नागरिक होने के नाते हम सभी चीन के सामान का बहिष्कार करेंगे। साथ ही देश की सेना और सरकार के साथ डटकर खड़े रहेंगे। यह कहना है चंडीगढ़ के व्यापारियों और युवाओं का। 

बहुत हो गया, अब चीन को मिलकर सबक सिखाओ
माडवाड़ी बेकर्स और नमकीन सेक्टर-45 के मालिक कन्हैया लाल का कहना है कि बहुत हो गया। चीन की दादागीरी को खत्म करने का यही सही वक्त है। 

चीनी सामान का बहिष्कार करें
सेक्टर- 45 के प्रॉपर्टी कंसल्टेंट भूपेंद्र शर्मा का कहना है कि चीन हमें हमेशा परेशान करता है। इस बार हमारी बारी है। हम सभी भारत के लोग चीन के माल का बहिष्कार कर दें तो चीन का चेहरा मुरझा जाएगा और दादागीरी खत्म होगी।

आर्थिक मोर्चा पर घिरा चीन 
न्यू एकता मार्केट शोपकीपर्स एसोसिएशन बुड़ैल सेक्टर- 45 के प्रधान भारत भूषण कपिला का कहना है कि चीन के चालबाजी के खिलाफ पूरा देश एक है। चीन की शरारत का जबाव सरकार ने दे दिया है। देश के लोग भी साथ दे रहे हैं। अब आर्थिक मोर्चा पर चीन घिर गया है। अब उसे समझ आने लगा होगा। कि जब देश के लोग चीन का माल का बहिष्कार करेंगे तो क्या होगा। 

स्वदेशी को बढ़ावा मिलेगा 
पीयू की छात्रा सोनिया कहती हैं कि चीन का सस्ता माल लेने का कोई लाभ नहीं है। अब स्वदेशी माल ही खरीदना है। चाहे जो हो। पैसा तो अपने ही देश में रहेगा। सोचिए यदि हम अपने ही देश का बना माल खरीदेंगे तो हमारा विदेशी मुद्रा का भंडारा बढ़ेगा। हमारी ताकत बढ़ेगी। 

चीन में मचेगी आर्थिक तबाही 
पीयू के छात्र विकास सिंह राणा का कहना है कि भारत के लोगों ने दिखा दिया है। चीन का माल का पूरी तरह से बहिष्कार होगा। देखते जाइए चीन अब चक्कर खाकर गिर जाएगा। आर्थिक तबाही मचेगी। गलत समय में चीन ने भारत से पंगा लिया है। अपनी ही जाल में चीन फंस गया है। 
... और पढ़ें

चंडीगढ़: टमाटर हुआ लाल, सात दिनों में दोगुने हुए दाम, आलू भी आसमान पर

पेट्रो पदार्थों के दामों में बढ़ोतरी के बाद अब टमाटर ने किचन का बजट बिगाड़ दिया है। एक सप्ताह में टमाटर के फुटकर दाम करीब दोगुना हो गए हैं। इतना ही नहीं, अन्य सब्जियों के दामों में भी 5 से 10 प्रतिशत की बढ़ोतरी हुई है। एक सप्ताह में आलू के दाम भी 10 रुपये बढ़ गए हैं। आढ़ती सब्जियों के दामों में बढ़ोतरी के पीछे गर्मी के कारण सब्जियों का अधिक खराब होना बता रहे हैं। वहीं इस दौरान सब्जियों की खरीद में 25 प्रतिशत की कमी आई है।

लॉकडाउन के दौरान टमाटर फुटकर में 10 रुपये किलो में बिका। अनलॉक 2.0 के साथ ही टमाटर के दाम करीब दोगुने हो गए हैं। इससे आम आदमी के किचन का बजट बिगड़ गया है। एक सप्ताह पूर्व आईएसबीटी-17 में अस्थायी रूप से चल रही मंडी में टमाटर 20-25 रुपये किलो फुटकर में बिका। वहीं इन दिनों टमाटर 50-60 रुपये किलो के हिसाब से बिक रहा है।

सब्जियों के फुटकर व थोक मूल्य

  • सब्जी    थोक मूल्य    फुटकर मूल्य   
  • टमाटर    25-30    50-55
  • गोभी      35-40    50-55
  • कद्दू       10-15     20-25
  • बैंगन    15-20     25-30
  • भिंडी      20-25   35-40
  • घिया     20-25    25-30
  • खीरा (पहाड़ी) 20-25    30-35
  • आलू (पहाड़ी) 25-27    30-33
  • प्याज         12-13    16-20
जुलाई के दौरान पहले भी सब्जियों के रेट में उछाल आता रहा है। इस माह गर्मी और बरसात के कारण सब्जियों के खराब होने की संभावना अधिक रहती है। इस कारण दामों में इजाफा होता है। - रामरतन जैन, प्रधान, अरिहंत वेजिटेवल आढ़ती एसोसिएशन 
... और पढ़ें
Election
  • Downloads

Follow Us