विज्ञापन

महिलाएं अपनी इच्छाशक्ति से अपना जीवन बदल रही हैं

Veena Nagpalवीना नागपाल Updated Thu, 12 Dec 2019 06:57 PM IST
विज्ञापन
महिलाएं तमाम विपदाओं के बाद आगे बढ़ी हैं।
महिलाएं तमाम विपदाओं के बाद आगे बढ़ी हैं। - फोटो : Social Media
ख़बर सुनें
गत शुक्रवार जिसने भी कौन बनेगा करोड़पति कार्यक्रम देखा होगा तो उसकी आंखे तो भर आई ही होंगी। पर, इन आंसुओं में एक गर्व भी होगा जो उन दो महिलाओं को हॉट सीट पर बैठे देखकर हुआ होगा या उस समय हो रहा था। दीपा मलिक और मानसी जोशी को यू देखकर और उनसे उनकी सफलताओं के एक-एक कदम की बात सुनकर ऐसा लग रहा था कि यह जीवटता से भरी दोनों महिलाएं कितनी ताकतवर हैं, मजबूत हैं और जीवन के संघर्षों के अनेक कठिनाइयों भरे रास्तों पर चलने का कितना आत्मविश्वास रखती हैं।
विज्ञापन
दीपा मलिक और मानसी जोशी दोनों ही दिव्यांग हैं। दीपा तो लकवाग्रस्त हैं और पूरी तरह से व्हील चेयर पर हैं तो वहीं मानसी एक सड़क हादसे में अपनी टांग खो चुकी हैं। पर प्रोस्थेटिक लेग से इतना कुछ कर रही हैं कि वह स्वयं में एक मिसाल है।

दरअसल, दोनों ने ही खेलों को अपनाया और यह दिखाया है कि स्वयं पर विश्वास हो और चुनौतियों का सामना करने का जज्बा हो तो सबकुछ किया जा सकता है।

दीपा मलिक ने पैरा ओलंपिक में शार्टपुट में भाग लेकर न केवल गोल्ड मेडल जीता बल्कि वह इसकी चैंपियन भी बनीं। इस वर्ष उन्हें खेल-रत्न पुरस्कार मिला है।

इसी प्रकार मानसी जोशी बैडमिंटन के खेल में पैरा चैंम्पिनशिप में भाग लेकर गोल्ड मेडल जीता। इस तरह से प्रोस्थेटिक लिंब के साथ बैडमिंटन कोर्ट में इधर से उधर भागकर तथा आगे नेट पर जाकर तथा तुरंत पीछे जाकर शॉट लेना और उसे वापस लौटाना कितना कठिन होता होगा, पर जब उनके मैच के उनके खेलते हुए कुछ अंश दिखाए जा रहे थे तो उनकी चुस्ती-फुर्ती में कोई कमी नहीं दिख रही थी।
 
विज्ञापन
आगे पढ़ें

विज्ञापन
विज्ञापन

Recommended

मैसकट रिलोडेड- देश की विविधता में एकता का जश्न
Invertis university

मैसकट रिलोडेड- देश की विविधता में एकता का जश्न

विवाह संबंधी दोषों को दूर करने के लिए शिवरात्रि पर मल्लिकार्जुन ज्योतिर्लिंग में कराएं रुद्राभिषेक : 21-फरवरी-2020
Astrology Services

विवाह संबंधी दोषों को दूर करने के लिए शिवरात्रि पर मल्लिकार्जुन ज्योतिर्लिंग में कराएं रुद्राभिषेक : 21-फरवरी-2020

विज्ञापन
अमर उजाला की खबरों को फेसबुक पर पाने के लिए लाइक करें
विज्ञापन

Spotlight

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

स्थायी कमीशन से महिला सैनिकों को कितना होगा फायदा

भारतीय सशस्त्र बलों में महिला अधिकारियों को स्थायी कमीशन के मिलने से न केवल रक्षा के क्षेत्र में भारत का डंका बजेगा बल्कि सभी सेवा कर्मियों के लिए अवसर की समानता भी उपलब्ध होगी।

17 फरवरी 2020

Most Read

Blog

मध्य प्रदेशः इन वजहों से आमने-सामने हैं सिंधिया और सीएम कमलनाथ?

मप्र कांग्रेस की अंदरुनी लड़ाई अब सड़कों पर है। मुख्यमंत्री कमलनाथ ने भी खुलकर ज्योतिरादित्य सिंधिया की चुनौती को स्वीकार कर उन्हें सड़कों पर उतरने के लिए कह दिया है।

17 फरवरी 2020

विज्ञापन
आज का मुद्दा
View more polls

Disclaimer

अपनी वेबसाइट पर हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर अनुभव प्रदान कर सकें, वेबसाइट के ट्रैफिक का विश्लेषण कर सकें, कॉन्टेंट व्यक्तिगत तरीके से पेश कर सकें और हमारे पार्टनर्स, जैसे की Google, और सोशल मीडिया साइट्स, जैसे की Facebook, के साथ लक्षित विज्ञापन पेश करने के लिए उपयोग कर सकें। साथ ही, अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।

Agree
Election
  • Downloads

Follow Us