देहरादून: आयुर्वेदिक विवि में युवाओं से डेढ़ करोड़ की ठगी के आरोप में मृणाल धूलिया गिरफ्तार

न्यूज डेस्क, अमर उजाला, देहरादून Updated Tue, 07 Jul 2020 11:34 PM IST
विज्ञापन
Dehradun: Mrinal Dhulia arrested for Fraud of 1.5 crore Rupees from youth in Ayurvedic University
- फोटो : फाइल फोटो

पढ़ें अमर उजाला ई-पेपर
कहीं भी, कभी भी।

*Yearly subscription for just ₹249 + Free Coupon worth ₹200

ख़बर सुनें

सार

  • आयुर्वेदिक विश्वविद्यालय में नौकरी के नाम पर बेरोजगार युवकों से की थी जालसाजी
  • जनवरी 2019 में मुकदमा दर्ज होने के बाद से चल रहा था फरार 

विस्तार

उत्तराखंड आयुर्वेदिक विवि में युवाओं से करोड़ों रुपये ठगने का आरोपी मृणाल धूलिया आखिरकार पुलिस के हत्थे चढ़ गया। धूलिया जनवरी 2019 से फरार चल रहा था। पुलिस के अनुसार इस दौरान उसने बंगलूरू, दिल्ली, जम्मू आदि कई जगहों पर शरण ली। मंगलवार को पुलिस ने उसे जम्मू से लौटते हुए दिल्ली-पानीपत हाईवे से गिरफ्तार कर लिया। 
विज्ञापन

एसपी सिटी श्वेता चौबे ने बताया कि मृणाल के खिलाफ आयुर्वेदिक फार्मासिस्ट संघ के प्रदेश अध्यक्ष आजाद डिमरी ने जनवरी 2019 में मुकदमा दर्ज कराया था। आरोप था कि धूलिया ने कई युवाओं से फार्मासिस्ट के पदों पर नियुक्ति दिलाने के नाम पर करीब 1.54 करोड़ रुपये लिए थे। नियुक्ति नहीं हुई तो दबाव में धूलिया ने 87 लाख रुपये के चेक युवाओं को दिए थे। लेकिन, सभी चेक बाउंस हो गए। 
मुकदमा दर्ज होने के बाद से धूलिया फरार चल रहा था। उसकी गिरफ्तारी में पुलिस ने देश के कई बड़े शहरों में छापे मारे, मगर उसका कहीं सुराग नहीं लगा। इस बीच पता चला कि उसने हाईकोर्ट से स्टे हासिल कर लिया था। हाईकोर्ट के आदेश के बावजूद उसने जांच में सहयोग नहीं किया। इस पर पुलिस ने उसके खिलाफ गैर जमानती वारंट और कुर्की आदेश हासिल कर लिए। धूलिया लगातार पुलिस की आंखों में धूल झोंककर छिपता रहा। 

इस बीच लॉकडाउन में पता चला कि वह दिल्ली के किसी फ्लैट में रह रहा है। लेकिन, जब पुलिस ने फ्लैट पर छापा मारा तो वह वहां से भी भाग चुका था। इसके बाद पता चला कि वह जम्मू गया है, जिसके बाद पुलिस ने उसके पीछे मुखबिर लगा दिए। सोमवार को जम्मू से लौटते समय पुलिस ने उसे पानीपत हाईवे से उसे गिरफ्तार कर लिया। उसे न्यायालय में पेश किया गया, जहां से उसे 14 दिन की न्यायिक हिरासत में जेल भेज दिया गया है। 
विज्ञापन
आगे पढ़ें

मृत्युंजय मिश्रा ने खोले थे राज

विज्ञापन
विज्ञापन
सबसे विश्वसनीय हिंदी न्यूज़ वेबसाइट अमर उजाला पर पढ़ें हर राज्य और शहर से जुड़ी क्राइम समाचार की
ब्रेकिंग अपडेट।
 
रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें अमर उजाला हिंदी न्यूज़ APP अपने मोबाइल पर।
Amar Ujala Android Hindi News APP Amar Ujala iOS Hindi News APP
विज्ञापन

Spotlight

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
Election
X

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
  • Downloads

Follow Us