बेहतर अनुभव के लिए एप चुनें।
INSTALL APP
विज्ञापन
विज्ञापन
इस सप्ताह इन चार राशियों की होगी मौज, धनलाभ के हैं प्रबल योग
Myjyotish

इस सप्ताह इन चार राशियों की होगी मौज, धनलाभ के हैं प्रबल योग

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

From nearby cities

उत्तराखंड : खेतों में ओलंपिक क्वालिफाइंग की तैयारी कर रहीं अंकिता, मैदान न मिलने से मायूस

करीब चार महीने पहले जूनियर नेशनल में नए राष्ट्रीय रिकॉर्ड के साथ स्वर्ण पदक जीतकर राज्य का नाम रोशन करने वालीं अंकिता ध्यानी सड़क और खेतों में दौड़कर...

18 जून 2021

विज्ञापन
Digital Edition

उत्तराखंड में कोरोना: 24 घंटे में मिले 136 नए संक्रमित, चार की मौत, 206 मरीज हुए ठीक 

उत्तराखंड में पिछले 24 घंटों में कोरोना संक्रमण के 136 नए मामले सामने आए हैं। वहीं चार मरीजों की मौत हुई है। इसके अलावा आज 206 मरीजों को ठीक होने के बाद घर भेजा गया। 

स्वास्थ्य विभाग की ओर से जारी बुलेटिन के अनुसार, रविवार को 16043 सैंपलों की जांच रिपोर्ट निगेटिव आई है। वहीं, अल्मोड़ा और बागेश्वर जिले में एक भी कोरोना संक्रमित मरीज नहीं मिला। जबकि चमोली में एक, चंपावत में पांच, देहरादून में 53, हरिद्वार में नौ, नैनीताल में तीन, पौड़ी में चार, पिथौरागढ़ में चार, रुद्रप्रयाग में 10, टिहरी में 14, ऊधमसिंह नगर में 11 और उत्तरकाशी में 22 मामले सामने आए हैं।

उत्तराखंड अनलॉक : कर्फ्यू में ढील, अब हफ्ते में पांच दिन खुलेंगी दुकानें, इस दिन शुरू होगी चारधाम यात्रा

प्रदेश में अब तक कोरोना के कुल संक्रमितों की संख्या तीन लाख 38 हजार 644 हो गई है। इनमें से तीन लाख 22 हजार 681 लोग ठीक हो चुके हैं। वहीं, सक्रिय मामलों की संख्या घटकर 3136 पहुंच गई है। राज्य में कोरोना के चलते अब तक चुल 7035 लोगों की जान जा चुकी है।
... और पढ़ें
कोरोना वायरस की जांच (प्रतीकात्मक तस्वीर) कोरोना वायरस की जांच (प्रतीकात्मक तस्वीर)

त्तराखंड: कोरोना कर्फ्यू में मिली ढील और नदियों के जलस्तर में आई कमी, पढ़ें प्रदेश की 5 बड़ी खबरें...

उत्तराखंड में कोरोना कर्फ्यू में सरकार ने ढील दी है। अब दुकानें हफ्ते में पांच दिन खुलेंगी। वहीं, चारधाम यात्रा को लेकर भी सरकार ने फैसला लिया है। उधर, प्रदेश में नदियों का जलस्तर तो कम हुआ है, लेकिन बदरीनाथ हाईवे की हालत खस्ता है। पढ़ें कुछ और बड़ी खबरें...

उत्तराखंड अनलॉक : कर्फ्यू में ढील, अब हफ्ते में पांच दिन खुलेंगी दुकानें, इस दिन शुरू होगी चारधाम यात्रा
उत्तराखंड में कोरोना संक्रमण कम होने के बाद अब सरकार ने कोविड कर्फ्यू में और ज्यादा ढील दे दी है। प्रदेश सरकार अधिक ढील के साथ कोविड कर्फ्यू को जारी रखेगी। 
पूरी खबर पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें...

उत्तराखंड : गंगा, अलकनंदा एवं मंदाकिनी नदी के जलस्तर में आई कमी, बदरीनाथ हाईवे बंद, यमुनोत्री मार्ग खुला
विगत तीन दिनों से लगातार हो रही बारिश से बदरीनाथ हाईवे की स्थिति बेहद खराब हो गई है। शनिवार को अलकनंदा का जलस्तर बढ़ने से बदरीनाथ हाईवे मारवाड़ी पुल से विष्णुप्रयाग तक करीब 25 मीटर तक ध्वस्त हो गया है।
पूरी खबर पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें...

गंगा दशहरा : कोरोना के चलते हरिद्वार में सांकेतिक स्नान, काफी संख्या में पहुंचे लोग तो हरकी पैड़ी खोली, तस्वीरें
हरिद्वार धर्मनगरी में गंगा दशहरा और निर्जला एकादशी पर होने वाले स्नान पर्व को कोरोना महामारी के चलते स्थगित कर दिया गया था, लेकिन अधिक संख्या में भक्तों के पहुंचने के बाद हरकी पैड़ी खोल दी गई।
पूरी खबर पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें...

उत्तराखंड मौसम अपडेट : प्रदेश के कई जिलों में आज भी भारी बारिश की चेतावनी
प्रदेश के कई जिलों में रविवार को भी भारी बारिश हो सकती है। मौसम केंद्र ने इन जिलों में कई स्थानों पर भारी बारिश की संभावना जताई है। कुछ अन्य इलाकों में गर्जन के साथ आकाशीय बिजली चमकने और तेज बौछारें पड़ने का भी अनुमान है।
पूरी खबर पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें...

कुंभ कोविड जांच फर्जीवाड़ा : कुंभ मेलाधिकारी स्वास्थ्य से पांच घंटे पूछताछ, एसआईटी करेगी आगे की कार्रवाई
हरिद्वार कुंभ के दौरान कोविड जांच फर्जीवाड़े मामले में एसआईटी ने कुंभ मेलाधिकारी स्वास्थ्य से पांच घंटे तक पूछताछ कर बयान दर्ज किए। इससे पहले सीएमओ हरिद्वार के बयान दर्ज किए थे। 
पूरी खबर पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें...
... और पढ़ें

उत्तराखंड अनलॉक : कर्फ्यू में ढील, अब हफ्ते में पांच दिन खुलेंगी दुकानें, इस दिन शुरू होगी चारधाम यात्रा

उत्तराखंड में कोरोना संक्रमण कम होने के बाद अब सरकार ने कोविड कर्फ्यू में और ज्यादा ढील दे दी है। प्रदेश सरकार अधिक ढील के साथ कोविड कर्फ्यू को जारी रखेगी। शासकीय प्रवक्ता और कैबिनेट मंत्री सुबोध उनियाल ने बताया कि प्रदेश में 22 जून सुबह छह बजे से 29 जून सुबह छह बजे तक कोविड कर्फ्यू जारी रहेगा। राज्य में प्रवेश के लिए निगेटिव रिपोर्ट जरूरी होगी।

उत्तराखंड में कोरोना: 24 घंटे में 220 नए संक्रमित मिले, 5 की मौत, 217 मरीज हुए ठीक 

शनिवार और रविवार को बंद रहेंगी दुकानें
बताया कि अब हफ्ते में पांच दिन दुकानें खुलेंगी। केवल शनिवार और रविवार को दुकानें बंद रहेंगी। बता दें कि व्यापारी वर्ग भी पूरे सप्ताह बाजार खोलने की मांग कर रहा था। वहीं नगरीय क्षेत्रों में नाइट कर्फ्यू की व्यवस्था की जाएगी।

उत्तराखंड : टीका लगवाया कोविशील्ड का और प्रमाणपत्र में दर्ज किया कोवाक्सीन

11 जुलाई से प्रदेश भर के लोगों के लिए खोल दी जाएगी चारधाम यात्रा
वहीं तीन जिलों के लिए चारधाम यात्रा भी शुरू की जाएगी। एक जुलाई से केवल तीन जिलों चमोली, रुद्रप्रयाग और उत्तरकाशी के लिए चारधाम यात्रा शुरू की जाएगी। 11 जुलाई से प्रदेश भर के लोगों के लिए चारधाम यात्रा खोल दी जाएगी।
... और पढ़ें

गंगा दशहरा :  कोरोना के चलते हरिद्वार में सांकेतिक स्नान, काफी संख्या में पहुंचे लोग तो हरकी पैड़ी खोली, तस्वीरें

हरिद्वार धर्मनगरी में गंगा दशहरा और निर्जला एकादशी पर होने वाले स्नान पर्व को कोरोना महामारी के चलते स्थगित कर दिया गया था, लेकिन अधिक संख्या में भक्तों के पहुंचने के बाद हरकी पैड़ी खोल दी गई। दोपहर बाद भक्तों ने हरकी पैड़ी पर गंगा स्नान किया। इससे पहले गंगा दशहरा पर रविवार को सिर्फ तीर्थ पुरोहित और गंगा सभा के पदाधिकारियों ने ही स्नान किया। पाबंदी के बावजूद भी काफी संख्या में लोग स्नान के लिए पहुंचे।हालांकि, बाहरी राज्यों से आने वाले श्रद्धालुओं को बॉर्डर पर ही रोका जा रहा है। हरिद्वार पुलिस ने सोशल मीडिया के माध्यम से दूसरे राज्यों के श्रद्धालुओं से गंगा स्नान के लिए न आने की अपील की थी, लेकिन लोग फिर भी रविवार को हरकी पैड़ी के पास पहुंच गए। इस दौरान सोशल डिस्टेंसिंग की भी धज्जियां उड़ीं। पुलिस ने बैरिकेड लगाकर लोगों को रोका। लोग अन्य घाटों पर स्नान कर रहे हैं। वहीं शनिवार को गंगा दशहरा के स्नान पर्व के लिए हरिद्वार आ रहे लोगों के 27 हजार वाहनों को जिले की सीमाओं से वापस भेज दिया गया। सबसे ज्यादा वाहन नारसन बॉर्डर से वापस किए गए। यह लोग बिना पंजीकरण और आरटीपीसीआर की निगेटिव रिपोर्ट के ही हरिद्वार आ रहे थे। हालांकि बॉर्डर पर सख्ती के चलते अधिकतर लोग शुक्रवार को ही धर्मनगरी में पहुंच गए थे। इसका असर शहर की सड़क और पार्किंग में दिखा। अधिकांश पार्किंग पूरी तरह से पैक नजर आई। 
... और पढ़ें

कुंभ कोविड जांच फर्जीवाड़ा :  कुंभ मेलाधिकारी स्वास्थ्य से पांच घंटे पूछताछ, एसआईटी करेगी आगे की कार्रवाई

गंगा दशहरा
हरिद्वार कुंभ के दौरान कोविड जांच फर्जीवाड़े मामले में एसआईटी ने कुंभ मेलाधिकारी स्वास्थ्य से पांच घंटे तक पूछताछ कर बयान दर्ज किए। इससे पहले सीएमओ हरिद्वार के बयान दर्ज किए थे। कुंभ मेला से जुड़े अधिकारियों के बयान दर्ज होने के बाद आगे की कार्रवाई की जाएगी। 

कोरोना जांच फर्जीवाड़ा : 25 जून को हरिद्वार में गंगा तट पर उपवास के साथ कांग्रेस का प्रदेशव्यापी आंदोलन का एलान

महाकुंभ मेले के दौरान हरिद्वार आने वाले श्रद्धालुओं की कोविड जांच रिपोर्ट में फर्जीवाड़े का खुलासा होने के बाद मुकदमा दर्ज हो चुका है। जिला प्रशासन और कुंभ मेला प्रशासन पहले ही इस मामले की जांच कर रहा है। शुक्रवार को मामले की विवेचना के लिए जिला स्तर पर एसएसपी ने एसआईटी का गठन किया है।

एसआईटी की टीम ने पहले दिन से ही इस मामले में जांच शुरू कर दी थी। पहले दिन सीएमओ हरिद्वार डॉ. एसके झा से एक घंटे तक रोशनाबाद कार्यालय में बुलाकर पूछताछ की थी। शनिवार को पुलिस ने इस मामले में कुंभ मेलाधिकारी स्वास्थ्य अर्जुन सेंगर से पांच घंटे तक पूछताछ करने के बाद उनके बयान दर्ज किए।

पूछताछ में एसआईटी की टीम ने कुंभ मेलाधिकारी स्वास्थ्य अर्जुन सिंह सेंगर से कई सवाल किए। जिसमें प्रमुख रूप कंपनी को टेंडर कब दिया गया। किस तरीके से दिया गया। टेंडर के क्या नियम कायदे थे। जांच अधिकारी राजेश शाह ने बताया कि शनिवार को कुंभ मेलाधिकारी स्वास्थ्य से पूछताछ के बाद बयान दर्ज किए गए हैं। 
... और पढ़ें

उत्तराखंड : गंगा, अलकनंदा एवं मंदाकिनी नदी के जलस्तर में आई कमी, बदरीनाथ हाईवे बंद, यमुनोत्री मार्ग खुला

विगत तीन दिनों से लगातार हो रही बारिश से बदरीनाथ हाईवे की स्थिति बेहद खराब हो गई है। शनिवार को अलकनंदा का जलस्तर बढ़ने से बदरीनाथ हाईवे मारवाड़ी पुल से विष्णुप्रयाग तक करीब 25 मीटर तक ध्वस्त हो गया है। यहां छोटे वाहनों की आवाजाही भी मुश्किल से हो पा रही है। टनकपुर-पिथौरागढ़ राष्ट्रीय राजमार्ग तीन जगह बंद है। पिथौरागढ़-घाट एनएच में पांच स्थानों पर मलबा आ गया है।

उत्तराखंड मौसम अपडेट : प्रदेश के कई जिलों में आज भी भारी बारिश की चेतावनी

शनिवार को दिनभर बारिश होने के कारण मारवाड़ी के समीप देवी मंदिर से हाथी पहाड़ के ठीक नीचे हाईवे के पुराने पुश्ते बह गए हैं, जिससे सड़क पर नदी की साइड लगातार भू-धंसाव हो रहा है। हाईवे पर बड़े वाहनों की आवाजाही पूरी तरह से ठप पड़ गई है, जबकि छोटे वाहन भी मुश्किल से पार हो रहे हैं। मौसम सामान्य होने के बाद सीमा सड़क संगठन (बीआरओ) की ओर से यहां हिल कटिंग कर हाईवे को वाहनों की आवाजाही लायक बनाया जाएगा।

रुड़की : अचानक बढ़ा जलस्तर, गंगा की दो धाराओं के बीच टापू पर फंसे 34 किसान, तस्वीरें



रुद्रप्रयाग जिले में आसमान में बादल छाए हैं। अलकनंदा एवं मंदाकिनी नदी के जलस्तर में रविवार को कमी आई है। ऋषिकेश-बदरीनाथ एवं गौरीकुंड राजमार्ग यातायात के लिए खुले हैं, लेकिन 30 संपर्क मार्ग अब भी बंद हैं। गौरीकुंड-केदारनाथ पैदल मार्ग कई जगहों पर क्षतिग्रस्त है। यहां प्रशासन ने आवाजाही रोकी है।

ऋषिकेश में भी गंगा का जलस्तर घटा है। रविवार सुबह नौ बजे गंगा जलस्तर 339.69 आरएल मीटर रहा। जबकि खतरे का निशान 340.50 आरएल मीटर है।
... और पढ़ें

उत्तराखंड :  कैबिनेट मंत्री  सतपाल महाराज के बयान पर कांग्रेस ने साधा सरकार पर निशाना

तीरथ सरकार के वरिष्ठ कैबिनेट मंत्री सतपाल महाराज शनिवार को कहा कि हमने कैबिनेट में प्रस्ताव लाकर बड़े ठेकों को छोटा किया है ताकि कार्यकर्ताओं को काम मिले। उनके इस बयान पर प्रदेश कांग्रेस को प्रदेश सरकार पर निशाना साधने का मौका मिल गया।

कांग्रेस ने कहा कि जो आरोप वह सरकार पर लगा रहे थे, उसे कैबिनेट मंत्री के बयान ने सही साबित कर दिया। पार्टी के प्रदेश उपाध्यक्ष सूर्यकांत धस्माना ने कहा कि महाराज के बयान से भाजपा सरकार की पोल खुल गई कि वह अपने कार्यकर्ताओं को ठेके देने के लिए कैबिनेट में प्रस्ताव ला रही है। 

महाराज का यह बयान सोशल मीडिया पर खूब वायरल हो रहा है। उनका यह बयान रुद्रपुर के प्रवास के दौरान का बताया जा रहा है। वायरल वीडियो में महाराज कह रहे हैं कि वह कार्यकर्ताओं की बात को सुनेंगे और उनके काम करेंगे। महाराज मीडियाकर्मियों से कह रहे हैं, कार्यकर्ताओं ने यह कहा था कि सिंचाई विभाग में बड़े-बड़े ठेके हैं। छोटे ठेके होने चाहिए। हम कैबिनेट में प्रस्ताव ले आए हैं और छोटे-छोटे ठेके कर दिए हैं, ताकि कार्यकर्ताओं को काम मिले और इकोनॉमी बूस्ट हो।

कांग्रेस ने साधा निशाना, सरकार पर किया तंज
महाराज के बयान पर प्रदेश कांग्रेस की इस पर तीखी प्रतिक्रिया सामने आई। पार्टी के प्रदेश उपाध्यक्ष सूर्यकांत धस्माना ने महाराज के बयान पर तंज किया। उन्होंने कहा कि आकंठ भ्रष्टाचार में डूबी भाजपा सरकार की सारी पोल सतपाल महाराज ने खोल दी। वह कैमरे के सामने कह रहे हैं कि कार्यकर्ताओं की मांग पर सरकार ने कैबिनेट में प्रस्ताव पास कर बड़े ठेके छोटे कर दिए हैं, जिससे कार्यकर्ताओं को ठेके मिल सकें। 

कैबिनेट में लगनी है प्रस्ताव पर मुहर
बड़े ठेकों के छोटे-छोटे ठेके करने के प्रस्ताव पर अभी प्रदेश मंत्रिमंडल की मुहर नहीं लगी है। यह प्रस्ताव अगली कैबिनेट में आ सकता है। मंत्रिमंडलीय उपसमिति ने अपनी सिफारिशें तैयार कर ली हैं। अधिप्राप्ति नियमावली में कई संशोधन किए गए हैं, ताकि निर्माण योजनाओं में ज्यादा से ज्यादा लोगों को काम मिल सके।

कार्यकर्ता किसी भी पार्टी का हो सकता है: महाराज
सोशल मीडिया पर वायरल अपने बयान के संबंध में कैबिनेट मंत्री सतपाल महाराज ने अमर उजाला से कहा कि उन्होंने किसी पार्टी का नाम नहीं लिया। कार्यकर्ता किसी भी दल का हो सकता है। उत्तराखंड में पर्यटन और ठेके आजीविका के प्रमुख साधन हैं। कोविडकाल में इन दोनों को नुकसान पहुंचा है। बड़े-बड़े ठेके होने से राज्य के ठेकेदारों को ठेके नहीं मिल पाते थे। मेरे कहने का आशय यह था कि छोटे-छोटे ठेके होंगे तो राज्य के लोगों को आजीविका के साधन मिलेंगे। उन्होंने कहा कि जब कोई सड़क बनती है तो उस पर सभी लोग चलते हैं। 

हर व्यक्ति लाभ देना भाजपा की नीति : कौशिक
भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष मदन कौशिक ने कहा कि भाजपा नीति समाज के हर वर्ग और व्यक्ति को लाभ देने की है। केंद्र और राज्य सरकार की तमाम योजनाओं लाभ सभी वर्गों को दिया जा रहा है। महाराज का बयान मेरी जानकारी में नहीं है। इस बारे में वही बता सकते हैं।
... और पढ़ें

उत्तराखंड मौसम अपडेट :  प्रदेश के कई जिलों में आज भी भारी बारिश की चेतावनी

प्रदेश के कई जिलों में रविवार को भी भारी बारिश हो सकती है। मौसम केंद्र ने इन जिलों में कई स्थानों पर भारी बारिश की संभावना जताई है। कुछ अन्य इलाकों में गर्जन के साथ आकाशीय बिजली चमकने और तेज बौछारें पड़ने का भी अनुमान है। उत्तराखंड के अधिकतर इलाकों में रविवार तीसरे दिन भी रुक-रुक कर बारिश जारी जारी रही। वहीं दोपहर बाद देहरादून सहित कई इलाकों में मौसम साफ हो गया।

हरिद्वार : 2013 के बाद पहली बार गंगा का जलस्तर चार लाख क्यूसेक, पुल में दरार, कानपुर तक हाई अलर्ट

शनिवार को प्रदेश के कई इलाकों में तेज बारिश हुई। इससे ज्यादातर नदियां उफान पर हैं। राज्य के तमाम पहाड़ी क्षेत्रों में तेज बारिश का क्रम बना हुआ है। मौसम केंद्र की ओर से जारी बुलेटिन में रविवार को भी भारी बारिश की चेतावनी दी गई है। बुलेटिन के अनुसार पिथौरागढ़, नैनीताल, चंपावत, देहरादून, पौड़ी, टिहरी जिलों में कई जगह भारी बारिश हो सकती है।

उत्तराखंड : नदियों के रौद्र रूप से अब आपदा का खौफ, ऋषिकेश में फिर भगवान शिव को छू रही गंगा, तस्वीरें

इससे तापमान में भी गिरावट आने के आसार हैं। दूसरी ओर राजधानी दून में भी बादल छाये रहने का अनुमान है। दिन में दो से तीन दौर की बारिश हो सकती है। इससे दून के तापमान में करीब सात डिग्री तक की कमी आने के आसार हैं। लोगों को दिन में होने वाली गर्मी और उमस से कुछ राहत मिल सकती है।
... और पढ़ें

रुड़की :  अचानक बढ़ा जलस्तर, गंगा की दो धाराओं के बीच टापू पर फंसे 34 किसान, तस्वीरें

वर्ष 2013 में केदारनाथ आपदा के बाद पहली बार गंगा के इतने रौद्र रूप से कई जानें सांसत में आ गईं। खेती करने गए 34 किसान जलस्तर बढ़ने से गंगा की दो धाराओं के बीच टापू पर फंस गए। सूचना पर पुलिस-प्रशासन में हड़कंप मच गया। करीब छह घंटे की मशक्कत के बाद एसडीआरएफ की टीम ने रेस्क्यू कर एक-एक को सुरक्षित बाहर निकाला। सुल्तानपुर क्षेत्र के रणजीतपुर-जसपुर गांव के किसानों की अधिकांश खेती नीलधारा गंगा के बीच टापू पर है। कई परिवारों ने टापू पर ही झोपड़ी बना रखी है, जिसमें रुककर किसान खेतीबाड़ी करते हैं। शुक्रवार को गांव के 34 किसान खेती करने गंगा के बीच टापू पर गए थे। पहाड़ों पर हो रही तेज बारिश के चलते अचानक गंगा का जलस्तर बढ़ गया। इसके चलते ये किसान टापू पर फंस गए। सुबह करीब नौ बजे किसानों के परिजनों ने भिक्कमपुर पुलिस चौकी प्रभारी मनोज नौटियाल को सूचना दी। लोगों के फंसने की जानकारी मिलते ही पुलिस और प्रशासनिक अधिकारियों में हड़कंप मच गया। एसडीएम लक्सर शैलेंद्र सिंह नेगी पुलिस टीम के साथ मौके पर पहुंचे। साथ ही एसडीआरएफ की टीम को बुलाकर करीब 10 बजे किसानों को रेस्क्यू करने का कार्य शुरू किया।
... और पढ़ें
Election
  • Downloads

Follow Us