DU ADMISSION 2018: लेना चाहते हैं रामजस कॉलेज में दाखिला, तो पहले जान लें इसकी खास बातें

ब्यूरो/अमर उजाला, नई दिल्ली Updated Wed, 16 May 2018 09:52 AM IST
विज्ञापन
DU ADMISSION 2018: know the specialities of this college of Delhi University.

पढ़ें अमर उजाला ई-पेपर
कहीं भी, कभी भी।

*Yearly subscription for just ₹299 Limited Period Offer. HURRY UP!

ख़बर सुनें
धीमी रफ्तार से ही सही पर रामजस कॉलेज ने अपनी एक अलग साख बनाई है। पढ़ाई के साथ सांस्कृतिक गतिविधियां व व्यवहारिक ज्ञान की इसकी पहल हमेशा अलग रहती है। डीयू के टॉप टेन कॉलेजों में शुमार रामजस कॉलेज ने बीते साल जनवरी 2017 में अपने 100 साल पूरे किए हैं। पुराना होने के साथ अपनी अलग पहचान बरकरार रखी है।
विज्ञापन

कॉलेज को मैथमेटिक्स, इकनॉमिक्स, हिस्ट्री, इंग्लिश, बॉटनी व जूलॉजी कोर्सेज के लिए जाना जाता है। इसके अलावा यहां अंडरग्रेजुएट छात्रों के लिए रिसर्च सेंटर बनाया गया है। यहां छात्र व शिक्षक मिलकर नए विषयों पर काम करते हैं। इसके अलावा नॉलेज सेंटर पर ज्ञान लेने व देने का काम नए व पुराने छात्र करते हैं।
रामजस कॉलेज की स्थापना 1917 में दिल्ली के आनंद पर्वत से हुई। कॉलेज की शुरुआत काफी धीमी रही। लंबे समय तक कम छात्रों की सीमित संख्या के साथ कॉलेज चलता रहा। 1953 में नॉर्थ कैंपस शिफ्ट होने के बाद इसने अपनी अलग पहचान बनाई।
विज्ञापन
आगे पढ़ें

कॉलेज में खास

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

Spotlight

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
Election
X

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00
X
  • Downloads

Follow Us