विज्ञापन

निजामुद्दीन मरकज में शामिल तामिलनाडु के 45 लोग कोरोना संक्रमित, मौलाना साद के खिलाफ मामला दर्ज

अमर उजाला नेटवर्क, नई दिल्ली Updated Tue, 31 Mar 2020 11:19 PM IST
विज्ञापन
मरकज से लोगों को क्वारंटीन केंद्र ले जाती एक बस का नजारा
मरकज से लोगों को क्वारंटीन केंद्र ले जाती एक बस का नजारा - फोटो : रॉयटर्स एजेंसी
ख़बर सुनें
दिल्ली में आयोजित हुए तबलीगी जमात कार्यक्रम में शामिल हुए लोगों में से 24 लोगों में कोरोना की पुष्टि हुई है। इतनी बड़ी मात्रा में जमात में मौजूद लोगों में संक्रमण की पुष्टि से पूरे देश में हड़कंप मच गया है। वहीं केंद्र सरकार जमात में शामिल हुए विदेशी नागरिकों पर सख्त कार्रवाई करने की तैयारी में है। वहीं लखनऊ से तीन विदेशी नागरिक जो जमात में शामिल हुए थे पकड़े गए हैं। पुलिस सूत्रों ने ये खुलासा भी किया है कि जमात से छह विदेशी इस्लाम का प्रचार-प्रसार करने लखनऊ गए थे।
विज्ञापन

दिल्ली पुलिस ने की कार्रवाई की मांग
दिल्ली पुलिस ने दिल्ली सरकार को पत्र लिखकर तब्लीगी जमात से जुड़े 157 विदेशी नागरिकों पर तत्काल कार्रवाई करने की मांग की है, जो निजामुद्दीन मरकज में मिले थे और वर्तमान में दिल्ली में विभिन्न मस्जिदों और स्थानों पर रह रहे हैं।
विशाखापट्टनम में मिले चार संक्रमित 
विशाखापट्टनम में कोरोनो वायरस के चार नए मामलों की पुष्टि हुई है।  विशाखापट्टनम प्रशासने ने बताया कि  ये चारों लोग निजामुद्दीन (दिल्ली) मरकज में शामिल हुए थे। हम उन अन्य लोगों का पता लगाने की कोशिश कर रहे हैं जो इस सभा में शामिल हुए थे।

वजीराबाद और जामा मस्जिद के मौलवियों के खिलाफ दर्ज होगा मामला 
दिल्ली पुलिस ने जानकारी दी है कि जामा मस्जिद और वजीराबाद मस्जिद के मौलवी के खिलाफ मामला दर्ज किया जाएगा। 12 विदेशी जिन्होंने मरकज में हिस्सा लिया था, वे मस्जिद के अंदर हैं। पुलिस जल्द ही लोगों को मस्जिद से निकालेगी और उन्हें क्वारंटाइन में भेज देगी।

दिल्ली की पांच मस्जिदों से मिले 48 विदेशी: पुलिस 
48 विदेशी, जो निजामुद्दीन में मरकज में शामिल हुए थे वो उत्तर-पूर्वी  दिल्ली पांच मस्जिदों में मिले हैं। आगे की कार्रवाई के लिए उनकी सूचना पुलिस द्वारा जिला आयुक्त को दे दी गई है।


दिल्ली पुलिस ने जारी किया चेतावनी वाला वीडियो 
दिल्ली पुलिस ने 23 मार्च 2020 को मरकज को खाली करने और लॉकडाउन दिशा निर्देशों का पालन करने के लिए मरकज, निजामुद्दीन के वरिष्ठ सदस्यों को चेतावनी देते हुए वीडियो जारी किया है। 

मरकज में शामिल लोग और उनके रिश्तेदारों में 15 संक्रमित पाए गए : तेलंगाना लोक स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण विभाग

तेलंगाना लोक स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण विभाग ने जानकारी दी है कि आज दिल्ली मरकज में भाग लेने वाले और उनके रिश्तेदारों में 15 कोरोना संक्रमित मिले हैं । वर्तमान में, राज्य में कुल संक्रमितों की संख्या 77 पहुंच गई है। 
शिलांग मरकज के सदस्य नहीं लौटे मेघालय : पुलिस 
मेघालय पुलिस ने जानकारी दी है कि शिलांग मरकज के 7 सदस्य, जो दिल्ली निजामुद्दीन मरकज में शामिल हुए थे, वो मेघालय नहीं लौटे हैं। इनमें से 5 वर्तमान में दिल्ली और 2 लखनऊ (यूपी) में हैं। इन सदस्यों की सूचना संबंधित पुलिस अधिकारियों को दे दी गई है। 

19 मार्च से भारत नगर रह रहे थे विदेशी नागरिक : दिल्ली पुलिस 
दिल्ली पुलिस ने जानकारी दी कि आठ विदेशी नागरिक जो आज सुबह दिल्ली के भारत नगर में पाए गए थे। पूछताछ करने पर पता चला कि वे मरकज निजामुद्दीन से आए थे और 19 मार्च से यहां रह रहे थे। हमने जिलाधिकारी को इसके बारे में सूचित किया है।

तमिलनाडु में 45 संक्रमितों की पुष्टि 
तमिलनाडु की स्वास्थ्य सचिव बीला राजेश ने जानकार दी है कि तमिलनाडु के 45 लोग जो दिल्ली के निजामुद्दीन मरकज में शामिल हुए थे, उनके कोरोना वायरस से संक्रमित होने की पुष्टि हुई है।

उन्होंने बताया कि तमिलनाडु के 1500 सदस्यों जिन्होंने दिल्ली (मरकज, निजामुद्दीन) के सम्मेलन में भाग लिया था, उनमें से 1130 राज्य में वापस आ गए, बाकी दिल्ली में ही रह गए थे। वापस लौटे 1130 में से, हमने कई जिलों में 515 की पहचान कर ली है।

भोपाल में हुई 36 लोगों की पहचान 
भोपाल के कलेक्टर तरुम पिथोडे ने जानकारी दी है कि भोपाल से 36 लोगों की पहचान की गई है जो दिल्ली में निजामुद्दीन मरकज में शामिल हुए थे। जांच के लिए सभी का सैंपल ले लिया गया है और उन्हें क्वारंटाइन में रखा गया हैै। 

मौलाना साद के खिलाफ मामला दर्ज : दिल्ली पुलिस 
दिल्ली पुलिस आयुक्त ने जानकारी दी है कि मौलाना साद और तबलीगी जमात के अन्य के खिलाफ महामारी रोग अधिनियम 1897 और आईपीसी की अन्य धाराओं के अंतर्गत सरकारी निर्देशों के उल्लंघन का मामला दर्ज किया गया है। 

पुडुचेरी के पांच लोगों को किया गया क्वांरटाइन 
पुडुचेरी के मुख्यमंत्री वी नारायणसामी ने जानकारी दी कि राज्य के कुल छह व्यक्तियों ने दिल्ली में निजामुद्दीन मरकज का दौरा किया था, जिनमें से पांच व्यक्तियों को निगरानी में रखा गया है, उन्हें क्वारंटाइन कर दिया गया है। आगे के परीक्षण किए जा रहे हैं।

निजामुद्दीन में रानी खेत से भी आए थे चार लोग 
दिल्ली के निजामुद्दीन में 13 से 15 मार्च के बीच हुई तब्लीगी जमात के जलसे में शामिल होने वालों में रानी खेत से भी चार लोग गए थे। बताया जा रहा है कि यह लोग 15 मार्च को वहां पहुंचे और 16 मार्च को लौट आए थे। पुलिस ने चारों को सत्यापित कर दो बार उनका स्वास्थ्य परीक्षण कराया है। उनमें कोरोना के लक्षण नहीं पाए गए हैं, एहतियात के तौर पर चारों को 14 दिनों के लिए क्वारंटाइन सेंटर भेज दिया गया है।

दिल्ली के स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन ने मंगलवार को बताया कि मरकज बिल्डिंग से निकाले गए लोगों में से अब तक 24 कोरोना पॉजिटिव पाए गए हैं। उन्होंने कहा कि हमें सही तरीके से नहीं पता है कि वहां कुल कितने लोग मौजूद थे। यह आकलन है कि 1500-1700 लोग इस भवन में थे। अब तक 1033 लोग यहां से निकाले जा चुके हैं। 334 लोगों को  अस्पतालों में भेजा जा चुका है और 700 को क्वारंटीन सेंटर में भेजा गया है।




21 मार्च तक मरकज में थे 1746 लोग : गृह मंत्रालय 
गृह मंत्रालय ने जानकारी दी है कि 21 मार्च तक, हजरत निजामुद्दीन मरकज में लगभग 1,746 लोग रहे थे। इनमें से 216 विदेशी और 1530 भारतीय थे। इसके अतिरिक्त लगभग 824 विदेशी 21 मार्च को देश के विभिन्न हिस्सों में तबलीग गतिविधियां कर रहे थे।

गृह मंत्रालय ने इन 824 विदेशियों का विवरण 21 मार्च को राज्यों की पुलिस के साथ साझा किया गया था ताकि उनकी जांच कर उन्हें क्वारंटाइन किया जा सके। 28 मार्च को राज्यों को सलाह दी गई थी कि वे भारतीय तबलीगी जमात कार्यकर्ताओं के नाम एकत्र करें ताकि उनकी जांच की कर उन्हें क्वारंटाइन किया जा सके ।

गृह मंत्रालय ने बताया कि 29 मार्च तक लगभग 162 तबलीगी जमात के कार्यकर्ताओं की जांच कर उन्हें क्वारंटाइन में स्थानांतरित कर दिया गया है। अब तक 1339 कार्यकर्ताओं को नरेला, सुल्तानपुरी और बक्करवाला क्वारंटाइन सुविधाओं और एलएनजेपी, जीटीबी, डीडीयू, एम्स अस्पतालों में स्थानांतरित कर दिया गया है।

जम्मू व्यापारी से कई लोगों के संक्रमित होने का डर 
मंगलवार को अधिकारियों ने बाताया कि श्रीनगर का एक व्यापारीजो निजामुद्दीन तब्लीगी जमात के कार्यक्रम में शामिल हुआ था।  कोरोना वायरस की वजह से मरने से उसने  दिल्ली, उत्तर प्रदेश और जम्मू-कश्मीर में हवाई, ट्रेन और सड़क सेवा के माध्यम से यात्रा की थी। जिससे यह डर बढ़ जाता है कि उसने बाकि कई लोगों को भी संक्रमित किया होगा। व्यापारी द्वारा संक्रमितों में जम्मू के एक डॉक्टर भी शामिल हैं।  व्यापारी की दिल्ली से जाने के 19 दिनों बाद  26 मार्च को श्रीनगर के अस्पताल में मृत्यु हो गई थी।

गाजियाबादः मरकज से वापस लौटे मसूरी में 10 लोग रखे गए होम क्वारंटीन में 
निजामुद्दीन मरकज से गाजियाबाद वापस लौटे 10 लोगों को होम क्वारंटीन में रखा गया है। सीएमओ डा. एनके गुप्ता ने बताया कि मसूरी क्षेत्र से कुल 15 लोग मरकज में गए थे। पांच लोग वहीं पर रह गए हैं, जबकि 10 लोग 26 मार्च को वापस आ गए थे। सभी को स्वास्थ्य विभाग की टीम ने होम क्वारंटीन में रखने के बाद सख्त निर्देश दिए गए हैं। उनके घर के बाहर नोटिस भी चिपका दिया गया है कि यहां पर कोरोना वायरस का संदिग्ध मरीज है। 

दिल्ली-एनसीआर के सभी मस्जिदों की हो रही जांच
मरकज से लौटे लोगों के कोरोना संदिग्ध होने के चलते दिल्ली-एनसीआर समेत देशभर के उन तमाम इलाकों के मस्जिदों में इस वक्त जांच हो रही है, जहां इसमें शामिल लोगों के पाए जाने की संभावना है।

दिल्ली पुलिस के सूत्रों का बड़ा खुलासा
दिल्ली पुलिस के सूत्रों के हवाले से खबर आई है कि निजामुद्दीन मरकज से छह विदेशी नागरिक लखनऊ के अमीनाबाद के मरकज में इस्लाम का प्रचार-प्रसार करने गए थे।ये सभी कजकानिस्तान के हैं। निजामुद्दीन मामले में दिल्ली पुलिस मुख्यालय पर अधिकारियों की बैठक चल रही है। बैठक के बाद मुकदमे का फैसला लिया जाएगा। कई पुलिस अधिकारियों पर लापरवाही बरतने के लिए गाज गिर सकती है।

निजामुद्दीन मरकज में शामिल तीन लोग लखनऊ में मिले, अन्य की हो रही तलाश
दिल्ली के निजामुद्दीन मरकज में शामिल होकर लौटे लोगों में कई लोग लखनऊ भी आए हैं। लखनऊ सीएमओ डॉक्टर नरेंद्र अग्रवाल ने बताया कि अभी तीन लोग ऐसे मिले हैं, इनके सैंपल लिए गए हैं। इन्हें लोकबंधु अस्पताल में क्वारंटीन के लिए भेजा जा रहा है। इनसे पुलिस अन्य लोगों के बारे में पूछताछ कर रही है। इनके जरिए यह पता लगाया जा रहा है कि कितने लोग आए और कब से यहां हैं। पुलिस इनके बारे में सूचना न देने वालों के खिलाफ कार्रवाई भी करेगी।

सीएम के घर चल रही बैठक, इसके बाद लेंगे एफआईआर का फैसला
मरकज भवन से सामने आए कोरोना पॉजिटिव केसों ने दिल्ली सरकार की नींद उड़ा दी है। इस वक्त इसी मामले पर मुख्यमंत्री के घर पर उच्चस्तरीय बैठक चल रही है। बता दें कि मंगलवार सुबह दिल्ली के निजामुद्दीन इलाके से आज भी लोगों का शहर के कई अस्पतालों में जांच के लिए जाना जारी है। 

सरधना में रह रहे इंडोनेशिया के 6 लोग, जमात में हुए थे शामिल
सरधना नगर के मोहल्ला आजाद नगर की मस्जिद में जो छह जमात के लोग मिले हैं, वह इंडोनेशिया के रहने वाले हैं। जिनकी स्वास्थ्य विभाग के द्वारा पूर्व में भी जांच की जा चुकी है। लेकिन निजामुद्दीन मरकज में यह विदेशी जमात के लोग वहां पर ठहरे थे, जिसको लेकर स्वास्थ्य विभाग में हड़कंप मचा है।

शामली में 14 लोगों को दो मकानों में अलग-अलग रखा
कस्बा झिंझाना में त्रिपुरा से आए तबलीगी जमात के 14 लोगों को दो मकानों में अलग-अलग क्वारंटीन किया गया है। उन्हें 14 दिन तक घर में रहने के लिए कहा गया है। स्वास्थ्य विभाग की टीम सुबह-शाम उनकी निगरानी कर रही है।

तबलीगी जमात में गए अंडमान के 10 में से 9 कोरोना पॉजिटिव
दिल्ली के निजामुद्दीन के मरकज भवन में तबलीगी जमात कार्यक्रम में शामिल हुए अंडमान-निकोबार के 10 में से 9 लोग कोरोना संक्रमित पाए गए हैं। इस बात की पुष्टि अंडमान के डिप्टी स्वास्थ्य एवं नोडल अफसर अभिजीत रॉय ने की है।



जमात में शामिल हुए विदेशियों पर हो सकती है कार्रवाईः केंद्र सरकार के सूत्र
केंद्र सरकार के सूत्रों के अनुसार जो विदेशी नागरिक दिल्ली में हुए तबलीगी जमात कार्यक्रम में शामिल हुए थे उन पर कठोर कार्रवाई हो सकती है। दरअसल वीजा नियमों के अनुसार भारत में आकर कोई भी धार्मिक कार्यक्रम में हिस्सा नहीं ले सकता। ऐसे में जमात में शामिल होना नियमों के खिलाफ है और ऐसे में विदेशियों पर कार्रवाई हो सकती है।

जमात में शामिल तेलंगाना के छह कोरोना संक्रमित लोगों की मौत
जमात में देशभर से लोग शामिल हुए थे जिसमें अंडमान से लेकर तेलंगाना, महाराष्ट्र, यूपी आदि जिले शामिल हैं। बता दें कि सरकारों की चिंता इसलिए भी बढ़ गई है क्योंकि जमात में आए तेलंगाना के छह कोरोना संक्रमित लोगों की मृत्यु हो चुकी है। इसी के बाद से देश के कई राज्यों की सरकारें उन लोगों की पहचान में लगी हैं जो जमात में आए थे।
विज्ञापन
विज्ञापन

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|
Get all India News in Hindi related to live update of politics, sports, entertainment, technology and education etc. Stay updated with us for all breaking news from India News and more news in Hindi.

विज्ञापन

Spotlight

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
Election
  • Downloads

Follow Us