विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विवाह संबंधी दोषों को दूर करने के लिए शिवरात्रि पर मल्लिकार्जुन ज्योतिर्लिंग में कराएं रुद्राभिषेक : 21-फरवरी-2020
Astrology Services

विवाह संबंधी दोषों को दूर करने के लिए शिवरात्रि पर मल्लिकार्जुन ज्योतिर्लिंग में कराएं रुद्राभिषेक : 21-फरवरी-2020

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

निर्भया: अगर ऐसा हुआ तो 3 मार्च को भी टल जाएगी दोषियों की फांसी

निर्भया के दोषियों की फांसी की नई तारीख 3 मार्च सुबह 6 बजे निश्चित की गई है। यह तीसरी बार है जब निर्भया के दोषियों का डेथ वारंट जारी किया गया है। हालांकि तीन मार्च को भी दोषियों को फांसी होगी ऐसा यकीन से नहीं कहा जा सकता

17 फरवरी 2020

विज्ञापन
विज्ञापन

गाजियाबाद

सोमवार, 17 फरवरी 2020

पीसीआर पर बदमाशों ने बरामद कराई लूट की रकम, तमंचा बरामद

बदमाशों ने बरामद कराई लूट की रकम, तमंचा बरामद
गाजियाबाद। 13 जनवरी 2020 को मसूरी फ्लाईओवर पर हापुड़ की फर्म के सुपरवाइजर अमित कुमार से साढ़े 4 लाख रुपये लूटने की घटना में मसूरी पुलिस ने तीन आरोपियों को जेल से पीसीआर पर लेकर पूछताछ की। उनकी निशानदेही पर 1.60 लाख रुपये, वारदात में प्रयुक्त तमंचा व कारतूस बरामद कर लिया गया। पुलिस का कहना है कि घटना में छह लोग शामिल थे, जिनमें से एक आरोपी को पहले गिरफ्तार किया जा चुका है। घटना के बाद तीन लोग अन्य मामलों में जेल चले गए थे, जिन्हें पुलिस कस्टडी रिमांड पर लिया गया।
गौरतलब है कि थाना खानपुर, बुलंदशहर के गांव लडाना निवासी अमित कुमार पिलखुवा के जिंदलनगर स्थित एनआर व्हीट प्रोडक्ट फर्म में सुपरवाइजर हैं। गत 13 जनवरी को अमित कैश कलेक्शन कर साथी मुनीष शर्मा के साथ स्कूटी से हापुड़ लौट रहे थे। शाम करीब पांच बजे मसूरी फ्लाईओवर पर पीछे से सफेद रंग की अपाचे सवार तीन बदमाशों ने उन्हें रोक लिया और गन प्वाइंट पर लेकर स्कूटी में रखा थैला लूटकर फरार हो गए। एसएचओ नरेश कुमार सिंह का कहना है कि इस मामले में 31 जनवरी को इस्माइल नाम केबदमाश को गिरफ्तार किया था। इस्माइल ने पिपलेडा धौलाना निवासी वसीम, साहिल, वकार, सरताज व सलमान के साथ मिलकर वारदात की थी।
सलमान व साहिल की गिरफ्तारी को दबिश
पुलिस से बचने के लिए वसीम 22 जनवरी को पुराने मामले में जमानत तुड़वाकर जेल चला गया, जबकि वकार और सरताज को गौतमबुद्धनगर पुलिस ने 27 जनवरी को कार लूट के मामले में जेल भेज दिया। एसएचओ ने बताया कि वसीम, वकार व सरताज को शुक्रवार को जेल से पुलिस कस्टडी रिमांड पर लिया गया। पूछताछ में उनकी निशानदेही पर 1.60 लाख रुपये, तमंचा व कारतूस बरामद कर लिया गया। उन्होंने बताया कि घटना में शामिल सलमान व साहिल की गिरफ्तारी के लिए टीमें दबिश दे रही हैं।
... और पढ़ें

सेंट्रल पार्क में मार्च से देना होगा प्रवेश शुल्क

एक मार्च से राजनगर सेंट्रल पार्क में घूमने के लिए देने होंगे 10 रुपये
गाजियाबाद। राजनगर स्थित सेंट्रल पार्क में लोगों को घूमने व टहलने के लिए मार्च से प्रवेश शुल्क देना होगा। जीडीए की ओर से बोली के जरिए चार लाख में ठेका दिया गया है। प्रवेश शुल्क संबंधी फाइल पर जीडीए उपाध्यक्ष की मुहर और वर्कआर्डर जारी होने के बाद एक मार्च से प्रवेश शुल्क की वसूली की जाएगी। शुल्क लगने के बाद लोगों को सेंट्रल पार्क में प्रवेश के लिए 10 रुपये देने होंगे।
दूसरी ओर राजनगर के सबसे बड़े पार्क में प्रवेश शुल्क लगाए जाने का फिर से विरोध होने की संभावना है। पिछले साल भी पार्क में प्रवेश शुल्क लगाने की तैयारी थी लेकिन स्थानीय लोगों के विरोध के कारण योजना लागू नहीं हो सकी। इससे पहले संजयनगर के शिल्प उद्यान पार्क में प्रवेश शुल्क को लेकर हंगामा हुआ था। इसके बावजूद अब शिल्प उद्यान पार्क में प्रवेश शुल्क लागू है। बता दें कि करीब पांच एकड़ में फैले राजनगर के सेंट्रल पार्क में लोगों को ओपन जिम, संगीत सहित अन्य सुविधाएं मिल रही हैं। पार्क में रोजाना 3500 से अधिक लोग घूमने और टहलने के लिए आते हैं।
ऐसे में अब लोगों को प्रवेश शुल्क जमा करने के बाद ही प्रवेश मिल सकेगा। जीडीए ने पहली बार एक्सप्रेशन ऑफ इंट्रेस्ट (ईओआई) की जगह नीलामी प्रक्रिया के जरिए ठेका दिया है। प्राधिकरण ने आरक्षित मूल्य 2.50 लाख रखा था लेकिन 4 लाख प्रतिवर्ष की बोली पर कंपनी को ठेका दिया गया है। जीडीए अधिकारियों के मुताबिक कंपनी को ठेके के तहत दूसरे साल 10 फीसदी अधिक शुल्क जमा कराना होगा। अब केवल फाइल पर जीडीए उपाध्यक्ष की मुहर व वर्कआर्डर होते ही मार्च से प्रवेश शुल्क वसूली की प्रक्रिया शुरू हो जाएगी।
सुबह नौ बजे तक नि:शुल्क, फिर 10 रुपये फीस
जीडीए अधिकारियों ने बताया कि राजनगर के सेंट्रल पार्क में लोगों को 10 रुपये प्रति व्यक्ति प्रवेश शुल्क जमा करना होगा। प्रवेश शुल्क की समयसीमा पर विचार जारी है लेकिन स्थानीय लोगों को सुबह नौ बजे तक नि:शुल्क प्रवेश की सुविधा प्रदान की जा सकती है। प्रति व्यक्ति मासिक पास की राशि 150 रुपये और युगल के लिए शुल्क 250 रुपये प्रति माह होगा। शिल्प उद्यान पार्क की तरह 12 साल तक के बच्चों को कोई प्रवेश शुल्क नहीं देना होगा। पार्क में 15 अगस्त व 26 जनवरी को नि:शुल्क प्रवेश के साथ बगैर टिकट पकड़े जाने पर 200 रुपये जुर्माना देना होगा।
प्रवेश शुल्क की व्यवस्था इन पार्कों में है लागू
जीडीए की ओर से संजयनगर के शिल्प उद्यान पार्क के अलावा इंदिरापुरम के स्वर्णजयंती पार्क, ग्रीन पार्क, वैशाली के डॉ. भीमराव अंबेडकर पार्क, कृष्ण वाटिका पार्क, पोडियम पार्क, राजेंद्रनगर के राममनोहर लोहिया पार्क और सिटी फॉरेस्ट में प्रवेश शुल्क की व्यवस्था लागू है।
पार्कों के रखरखाव में अधिक खर्च और सुविधाएं बढ़ाने के उद्देश्य से प्रवेश शुल्क की व्यवस्था लागू की जा रही है। सेंट्रल पार्क में प्रवेश शुल्क के बाबत नीलामी प्रक्रिया पूरी हो चुकी है। वर्कआर्डर जारी होने के बाद प्रवेश शुल्क की वसूली शुरू की जाएगी।
- संतोष कुमार राय, सचिव, जीडीए
... और पढ़ें

पैसों के विवाद में साथियों ने की युवक की हत्या, हिंडन में फेंका शव

पैसों के लेनदेन में साथियों ने की युवक की हत्या, हिंडन में फेंका शव
गाजियाबाद। सात दिन से लापता चल रहे युवक की हत्या कर दी गई। पैसों के लेनदेन के विवाद में साथियों ने ही युवक को मौत के घाट उतारा और सुबूत मिटाने को शव हिंडन नदी में फेंक दिया। मोबाइल की लोकेशन व अन्य तकनीकी आधार पर खोजबीन कर सिहानी गेट पुलिस ने तीन आरोपियों को हिरासत में ले लिया। उनकी निशानदेही पर एनडीआरएफ की टीम शव तलाशने के लिए हिंडन नदी में सर्च ऑपरेशन चला रही है।
परिजनों के मुताबिक मालीवाड़ा निवासी संजय सैनी घर पर ही मनी ट्रांसफर का काम करते थे। गत 7 फरवरी को शाम के वक्त वह रोजाना की तरह पेमेंट कलेक्शन के लिए बाइक से निकले और घर नहीं लौटे। परिजनों ने देर रात तक तलाश की, लेकिन कोई सुराग न लगने पर रात 11 बजे सिहानी गेट थाने में गुमशुदगी दर्ज कराई। पुलिस और परिजन संजय सैनी की तलाश में खाक छानते रहे, लेकिन कोई सुराग नहीं लगा।
पत्नी से कहा था आधे घंटे में आ रहा हूं
परिजनों के मुताबिक घर न पहुंचने पर पत्नी रजनी ने शाम करीब साढ़े 7 बजे संजय से फोन पर बात की थी। संजय ने बताया था कि वह अभी नंदग्राम स्थित बालाजी मोबाइल शॉप पर हैं और आधा घंटे में घर पहुंच जाएंगे। साथ ही संजय ने पत्नी से खाना बनाने को भी कहा था, लेकिन वह घर नहीं पहुंचे। परिजनों का कहना है कि रात पौने 8 बजे संजय का मोबाइल स्विच ऑफ हो गया। इसके बाद संजय से कोई संपर्क नहीं हो सका। 8 फरवरी को परिजनों ने सिहानी गेट थाने पहुंच संजय के अपहरण का अंदेशा जताते हुए रिपोर्ट दर्ज कराई।
मोबाइल की लोकेशन से संदिग्धों तक पहुंची पुलिस
परिजनों के मुताबिक संजय का मोबाइल देर रात करीब 2 बजे खुला था, लेकिन उस पर कॉल रिसीव नहीं हुई। 8 फरवरी की सुबह 11 बजे तक मोबाइल ऑन रहा। संजय के मोबाइल की आखिरी लोकेशन सिहानी गांव में मिली थी। बताया जा रहा है कि लोकेशन के आधार पर ही पुलिस संदिग्धों तक पहुंची।
अपने परिजनों से बोले आरोपी, छह माह में जेल से आ जाएंगे
पुलिस ने नंदग्राम क्षेत्र निवासी दो दोस्तों सहित तीन आरोपियों को हिरासत में लिया है। उन्होंने अपने परिजनों से भी हत्या की बात कबूल कर ली है। परिजनों से उन्होंने कहा कि उनसे हत्या हो गई है। वह चिंता न करें। छह महीने में जेल से बाहर आ जाएंगे।
रॉड से वार कर संजय को मार डाला
पुलिस सूत्रों का कहना है कि संजय सैनी व आरोपियों के बीच पैसों का लेनदेन था। 7 फरवरी को सभी ने साथ में पार्टी की। वहां पैसों के लेनदेन के विवाद में झगड़ा हो गया। इसके बाद लोहे की रॉड से हमला कर संजय की हत्या कर दी गई। सुबूत मिटाने के लिए संजय का शव, बाइक और रॉड हिंडन नदी में फेंक दिए।
हिंडन से बाइक, रॉड बरामद
आरोपियों की निशानदेही पर पुलिस ने एनडीआरएफ की टीम बुलाकर सर्च ऑपरेशन शुरू कर दिया। इस दौरान हिंडन नदी से बाइक व रॉड तो बरामद हो गई, लेकिन संजय का शव नहीं मिल सका। बृहस्पतिवार को भी एनडीआरएफ ने सर्च ऑपरेशन चलाया, लेकिन शव बरामद नहीं हो सका।
लापता चल रहे युवक की हत्या का मामला सामने आया है। शव तलाशने के लिए हिंडन पर एनडीआरएफ लगा दी गई है। शव मिलने के बाद मुकदमा हत्या में तरमीम कर दिया जाएगा।
- कलानिधि नैथानी, एसएसपी
... और पढ़ें

गाजियाबाद: पीडब्ल्यूडी घोटाला मामले में त्रिपुरा के पूर्व सचिव गिरफ्तार

एनआरआई सेजन्म प्रमाणपत्र बनाने को मांगी रिश्वत, हंगामा

एनआरआई से जन्म प्रमाणपत्र बनाने को मांगी रिश्वत, हंगामा
गाजियाबाद। जन्म-मृत्यु प्रमाणपत्र बनाने में घूसखोरी सिर्फ नगर निगम मुख्यालय में ही नहीं जोनल कार्यालयों में चल रही है। निगम के कविनगर जोनल कार्यालय में तैनात आउटसोर्सिंग कर्मचारी ने एनआरआई महिला से जन्म प्रमाणपत्र बनाने के नाम पर पांच हजार रुपये मांगे। महिला ने दो हजार रुपये दे भी दिए लेकिन बाद में कर्मचारी ने जन्म प्रमाणपत्र बनाने से मनाकर एनओसी जारी करने की बात कही। इस पर महिला भड़क गई। मामला स्थानीय पार्षद तक पहुंचा तो उसने समझौता कराकर रिश्वत की रकम वापस कराई।
कविनगर निवासी महिला की बेटी अमेरिका में रह रही है। उसे जन्म प्रमाणपत्र की जरूरत पड़ी तो उसने जनवरी में नगर निगम के कविनगर जोनल कार्यालय में आवेदन किया। यहां पर तैनात आउटसोर्सिंग कर्मचारी ने प्रमाणपत्र जारी करने के लिए पांच हजार रुपये मांगे। महिला ने दो हजार रुपये एडवांस दे दिए और तीन हजार बाद में देने की बात तय हुई। महिला के जन्म को 20 साल से ज्यादा हो जाने के कारण नगर स्वास्थ्य अधिकारी ने प्रमाणपत्र बनाने से मना कर दिया। ऐसे आवेदनों पर नगर निगम सिर्फ एनओसी जारी करता है कि निगम में आवेदक के नाम का जन्म प्रमाणपत्र नहीं बना है। इस पर मामला बिगड़ गया। महिला के साथ उनके पड़ोसी भी नगर निगम में पहुंच गए और हंगामा किया। रिश्वत लेने के बावजूद जन्म-मृत्यु प्रमाणपत्र न मिलने पर उन्होंने विरोध जताया।
पार्षद ने वापस कराए दो हजार रुपये
जन्म-मृत्यु प्रमाण पत्र बनाने के नाम पर रुपये लेने और फिर विवाद होने का मामला नगर निगम के स्थानीय पार्षद हिमांशु मित्तल के पास पहुंचा। वह जोनल कार्यालय पहुंचे और मामले को शांत कराया। उन्होंने रिश्वत के रूप में लिए गए दो हजार रुपये वापस कराकर मामला रफादफा कराया। नगर निगम में यह मामला अभी चर्चा का विषय बना है।
कोट
एनआरआई से जन्म प्रमाणपत्र बनवाने के नाम पर पैसा लेने का मामला सामने आया था। विवाद बढ़ने पर मुझे जानकारी हुई तो मैंने दोनों पक्षों में समझौता कराकर रकम वापस कराई। पैसा लेने वाले कर्मचारी को हिदायत भी दी गई है कि भविष्य में ऐसी शिकायत नहीं मिलनी चाहिए। - हिमांशु मित्तल, पार्षद, कविनगर
महिला की ओर से दिया गया पैसा लौटा दिया गया था। प्रमाणपत्र के लिए पैसा मांगा नहीं गया था। इससे ज्यादा मुझे मामले में कुछ नहीं कहना है। - कविनगर जोन में तैनात आउटसोर्सिंग कर्मचारी
... और पढ़ें

बदमाशों ने गैस कटर से एटीएम मशीन काट 28 लाख रुपये उड़ाए

बदमाशों ने गैस कटर से एटीएम काट 28 लाख रुपये उड़ाए
पहासू (बुलंदशहर)। थाना क्षेत्र स्थित त्रिवेणी शुगर मिल के समीप लगे पीएनबी बैंक के एटीएम को गैस कटर से काट कर बदमाशों ने 28 लाख 34 हजार रुपये की नकदी चोरी कर ली। बताया जा रहा है कि वारदात के वक्त एटीएम पर तैनात रहने वाला गार्ड देर रात 10 बजे के बाद ही सोने चला गया था। जिसके चलते बदमाश आराम से एटीएम रूम में घुस गए और बडे़ आराम से एटीएम काटते हुए भारी कैश लेकर फरार हो गए। एटीएम में चोरी की वारदात से पुलिस महकमे में हड़कंप मच गया है। मौके पर एसपी क्राइम, एसपी देहात, लीड बैंक मैनेजर ने पहुंच कर जांच की है।
एसपी क्राइम शिवराम यादव ने बताया कि कस्बा स्थित त्रिवेणी शुगर मिल के समीप पीएनबी बैंक का एटीएम लगा हुआ है। शनिवार देर रात बदमाशों ने गैस कटर की मदद से एटीएम मशीन को काट दिया और फिर एटीएम का शटर गिराकर एटीएम में रखे 28 लाख 34 हजार रुपये की नकदी को चोरी कर लिया। बदमाश वारदात को अंजाम देने के बाद बडे़ ही आराम से वहां से निकल गए और किसी को भनक तक नहीं लगी। बता दें कि मिल के गन्ने का पेराई सत्र चालू हो गया है। जिसके चलते वहां रातभर क्षेत्रीय किसान ट्रैक्टर-बुग्गी के माध्यम से गन्ना लेकर आते जाते रहते है। लेकिन किसी को बदमाशों की भनक तक नहीं लगी। वहीं दूसरी ओर एटीएम पर तैनात दिव्यांग गार्ड सुशील भी रात 10 बजे के बाद सोने के लिए चला गया था। आशंका है कि अगर गार्ड की तैनाती एटीएम पर होती तो बड़ी वारदात को होने से रोका जा सकता था। फिलहाल एसओजी टीम और थाना पुलिस सभी बिंदुओं पर सिलसिलेवार रुप से जांच कर रही है।
---------
निजी कंपनी की कैश वैन से रोजाना आती है नकदी
पुलिस के अनुसार निजी कंपनी की कैश वैन से पीएनबी के एटीएम में लगभग रोजाना लाखों रुपये कैश आता है। मिल परिसर के समीप एटीएम होने के चलते अक्सर किसानों और स्थानीय लोगों का आना जाना लगा रहता है। कैश लाने वाली कंपनी के कस्टोडियन मोहित-रिंकू ने बताया कि कल शाम पांच बजे एटीएम मशीन में 29 लाख 62 हजार पांच सौ रुपये थे।
--------
फोरेसिंक टीम ने खंगाले साक्ष्य
एटीएम को काटने की घटना के बाद मौके पर आए एसपी देहात हरेंद्र सिंह, एसपी क्राइम शिवराम यादव, एसओजी प्रभारी सुधीर त्यागी, लीड बैंक मैनेजर विजय गांधी, बैंक मैनेजर करौरा वीरपाल सिंह ने मौके पर पहुंच कर साक्ष्य खंगालने शुरू कर दिए हैं। वारदात से ठीक पहले नौ बजकर 49 मिनट पर 28 लाख 34 हजार रुपये कैश मशीन में मौजूद था।
---------
दिव्यांग गार्ड की मौजूदगी होने से टल सकती थी घटना
त्रिवेणी शुगर मिल के समीप लगे एटीएम में हुई घटना के बाद गार्ड की लापरवाही सामने आई है। 10 बजे के बाद गार्ड किसी और स्थान पर सोने चला गया। जबकि गार्ड को एटीएम रूम में सोना चाहिए थे। पुलिस के अनुसार अगर गार्ड ड्यूटी पर तैनात रहता तो एटीएम कटने की वारदात टल सकती थी।
--------
अफसरों ने जताई नकदी जलने की भी आशंका
पुलिस अफसरों के अनुसार गैस कटर से एटीएम काटते वक्त कुछ नकदी भी जलने की आशंका जताई जा रही है। फिलहाल मौके से कुछ भी जले नोट नहीं मिले। एटीएम में रखे 100, 200, 500 और 2000 के नोटो के बॉक्स भी मौके से गायब मिले है। पुलिस इलाके के सीसीटीवी कैमरों की जांच में जुटी है।
----------
शिवाली में भी उखाड़ा था एटीएम
बीते दिनों जहांगीराबाद थाना क्षेत्र के गांव शिवाली में बदमाशों ने एक कंपनी का एटीएम उखाड़ लिया था। बदमाशों ने खाली एटीएम मशीन को देहात कोतवाली बुलंदशहर क्षेत्र में फेंक दिया था। बताया गया कि बदमाशों ने एटीएम से करीब साढ़े पांच लाख रुपये की नगदी चोरी कर ली थी। वहीं, अमर उजाला ने भी गत तीन फरवरी को एटीएम की सुरक्षा को लेकर सवाल उठाया था और इस संबंध में प्रमुखता से खबर भी प्रकाशित की थी। इसके बावजूद पुलिस-प्रशासन ने एटीएम मशीनों की सुरक्षा पर कोई गौर नहीं दिया है। यदि सुरक्षा को चाक चौबंद किया जाए तो एटीएम लूट और चोरी की वारदातों को रोका जा सकता है।
... और पढ़ें

सीओ बड़ौत की गिरफ्तारी के आदेश, एसएसपी को फटकार, पूर्व में जारी हो चुके हैं एनबीडब्ल्यू

बड़ौत के सीओ आलोक के खिलाफ अपर जिला एवं सत्र न्यायाधीश त्वरित न्यायालय ने गिरफ्तारी आदेश जारी किए हैं। बागपत एसएसपी को निर्देश दिए हैं कि सीओ को गिरफ्तार कर न्यायालय में पेश करें। सीओ बड़ौत वर्ष 2018 में बुलंदशहर के शिकारपुर सर्किल के सीओ थे जिन्होंने एक दहेज हत्या के मुकदमे की जांच करने के बाद कोर्ट में चार्जशीट दी थी। उन्हें बयानों के लिए बुलाया जा रहा है, लेकिन सीओ अदालत में पेश नहीं हो रहे हैं। आदेश मिलने के बाद कोई उचित कार्रवाई न करने पर एसएसपी को भी कोर्ट ने चेतावनी दी है। 

अपर जिला एवं सत्र न्यायाधीश त्वरित न्यायालय संख्या तीन अमरजीत ने गत बुधवार को एसएसपी बागपत को एक आदेशित पत्र जारी किया है। उन्होंने कहा है कि बड़ौत क्षेत्र के सीओ आलोक सिंह वर्ष 2018 में बुलंदशहर के शिकारपुर सर्किल के सीओ थे। उस दौरान उन्होंने दहेज हत्या के एक मामले में कोर्ट में आरोपी के खिलाफ चार्जशीट दाखिल की थी। 

मामला सत्र में विचारण के लिए आने के बाद उन्हें बयान दर्ज करने के लिए बुलाया गया था, लेकिन वह न्यायालय में उपस्थित नहीं हुए। गैर जमानती वारंट जारी होने के बाद भी वह अदालत में पेश नहीं हुए। उसके बाद कोर्ट ने विभाग को सीओ का वेतन रोकने के संबंध में दिसंबर 2019 में भी एक पत्र भेजा था। 

वहीं, गत बुधवार को सीओ आलोक सिंह को बयान देने के लिए पेश होना था, लेकिन वह नहीं आए। कोर्ट से पत्राचार के बावजूद एसएसपी बागपत द्वारा अभी तक नहीं बताया गया कि सीओ के खिलाफ पत्राचार किया गया या नहीं। इसमें लापरवाही होने पर अदालत एसएसपी के खिलाफ भी कार्रवाई करने पर बाध्य होगी। 

डीजीपी और प्रमुख सचिव गृह को भेजी प्रतिलिपि

सीओ आलोक सिंह के खिलाफ कार्रवाई के लिए डीजीपी उत्तर प्रदेश और प्रमुख सचिव गृह को भी वाया ईमेल और फैक्स के जरिए अवगत कराया गया है।
... और पढ़ें

कवि कुमार विश्वास की फॉर्च्यूनर कार ले उड़े चोर, घर के बाहर खड़ी थी

आप के बागी नेता और कवि कुमार विश्वास की कार उनके घर के बाहर से चोर चुरा ले गए। बता दें कि कुमार विश्वास गाजियाबाद के इंदिरापुरम में रहते हैं। उनके घर के बाहर ही उनकी फॉर्च्यूनर कार खड़ी थी, जिस पर चोरों ने हाथ साफ कर दिया।

इसकी शिकायत कुमार विश्वास के मैनेजर ने पुलिस में दी है। पुलिस से मिली जानकारी के अनुसार कुमार विश्वास के घर के बाहर खड़ी फार्च्यूनर कार शनिवार रात डेढ़ बजे चोर उड़ा ले गए।

कवि कुमार विश्वास अपने परिवार के साथ वसुंधरा सेक्टर तीन में रहते हैं। शनिवार रात सेक्टर तीन स्थित उनके घर के बाहर काली कार में सवार होकर कुछ बदमाश पहुंचे और घर के बाहर खड़ी उनकी फार्च्यूनर कार चोरी कर ले गए। पूरी धटना सीसीटीवी कैमरे में कैद हुई है।
... और पढ़ें

कार में फर्जी नंबर प्लेट लगाकर वारदात करने वाले दो धरे

कार में फर्जी नंबर प्लेट लगाकर वारदात करने वाले दो धरे
लोनी। लोनी के मुस्तफाबाद कालोनी से पुलिस ने फर्जी नंबर प्लेट लगाकर कार से वारदात करने वाले दो शातिरों को गिरफ्तार किया है। आरोपियों की निशानदेही पर तीन अन्य गाड़ियां बरामद हुई हैं। बदमाश बैंक से लोन पर किश्त टूटी हुई गाड़ियां खरीदकर फर्जी नंबर डालकर चलाते थे। पुलिस इनके अन्य साथियों की तलाश कर रही है।
सीओ लोनी राजकुमार पांडेय ने बताया कि मुखबिर की सूचना पर शाम करीब चार बजे फर्जी नंबर प्लेट लगाकर आपराधिक घटनाओं को अंजाम देने वाले गिरोह के दो सदस्यों को मुस्तफाबाद कालोनी लोनी में पहुंचने की जानकारी मिली। सूचना पुलिस ने मौके पर पहुंचकर हसरत औैर गुलफाम निवासी मुस्तफबाद कालोनी को दबोच लिया। आरोपियों के पास से पुलिस ने एक इंडिगो कार और कई गाड़ियों की नंबर प्लेट मिली। पुलिस दोनों को पकड़कर थाने ले आई। पुलिस ने उनकी निशानदेही पर तीन अन्य कार कालोनी स्थित एक बाग से बरामद कीं। पूछताछ में आरोपियों ने पुलिस को बताया कि वह गाड़ियों के इंश्योरेंस, परमिट समाप्त होने पर प्राइवेट बैंकों, फाइनेंस कंपनियों से लोन की किश्त टूटी गाड़ियां खरीद लेते थे। स्क्रैप की गाडिय़ों से उनके इंजन और नंबर प्लेट बदलकर दो-तीन टैक्सियों को एक ही नंबर प्लेट लगाकर चलाते थे। उन्होंने फर्जी कागजातों के आधार पर गाड़ियों को ट्रैवल्स कंपनियों में लगाया था।
... और पढ़ें

नाबालिग बेटी ने प्रेमी के साथ मिलकर की मां की हत्या, दिल्ली पुलिस में थीं कांस्टेबल

लिंकरोड थाना क्षेत्र की एक कॉलोनी में प्यार के लिए किशोरी ने प्रेमी के साथ मिलकर अपनी मां की गला दबाकर हत्या कर दी। मृतका दिल्ली पुलिस में हेड कांस्टेबल थी। प्रेम-प्रसंग की जानकारी होने पर मां ने बेटी व उसके प्रेमी की पिटाई कर दी थी। घटना को अंजाम देने के बाद आत्महत्या दर्शाने के लिए किशोरी ने ही शोर मचाकर पड़ोसियों को इकट्ठा किया था। पड़ोसियों के साथ मां को जीटीबी अस्पताल में भर्ती कराया, जहां उन्हें मृत घोषित कर दिया गया। पुलिस ने हत्यारोपी प्रेमी युगल को पकड़ लिया है। 

मूलरूप से बिहार निवासी महिला पिछले एक वर्ष से अपनी इकलौती बेटी के साथ एक कॉलोनी में रहती थी। जबकि पति गांव में खेती करते हैं। महिला दिल्ली पुलिस में हेड कांस्टेबल के पद पर पीसीआर सेल में तैनात थीं। शुक्रवार दोपहर करीब तीन बजे उनकी बेटी की चीख-पुकार सुनकर पड़ोसी फ्लैट पर पहुंचे। इस दौरान लोगों ने देखा की कांस्टेबल बेहोशी की हालत में थीं। पड़ोसी उन्हें लेकर दिल्ली के जीटीबी अस्पताल पहुंचे, जहां डाक्टरों ने मृत घोषित कर दिया। अस्पताल से लिंकरोड पुलिस को देर रात घटना की जानकारी मिली। पुलिस ने सख्ती से पूछताछ की तो किशोरी ने प्रेम प्रसंग का विरोध करने पर हत्या करने की बात कबूल की। 

उसने बताया कि पहले दोनों ने मां की आंख में मिर्च डाली और सिलबट्टे से सिर पर वार किया। उसके बाद रस्सी से गला दबाकर हत्या कर दी। एसपी सिटी डा. मनीष मिश्र ने बताया कि पीड़ित पति की तहरीर पर हत्या की धारा में रिपोर्ट दर्ज कर आरोपी प्रेमी जितेंद्र को गिरफ्तार कर लिया है, जबकि किशोरी को बाल सुधार गृह भेज दिया गया है। 
... और पढ़ें

ज्वेलर की दुकान में घुसकर लूट की कोशिश

ज्वेलर की दुकान में घुसकर लूट की कोशिश
साहिबाबाद। साहिबाबाद गांव में एक ज्वेलरी शॉप का शटर गिराकर दो लुटेरों ने पिस्टल के बल पर लूट करने की कोशिश की। सराफा ने आटोमैटिक लॉकर बंद कर शोर मचा दिया। इस दौरान दोनों बदमाश भाग गए। शिकायत मिलने पर लिंकरोड थाने में रिपोर्ट दर्ज हुई है।
विजयनगर के कैलाशनगर में ओम प्रकाश वर्मा परिवार के साथ रहते हैं। उनकी साहिबाबाद गांव के सरस्वती कॉलोनी में ओम ज्वेलर्स के नाम से दुकान है। बुधवार शाम करीब चार बजे वह दुकान में खाना खा रहे थे। इस दौरान दो लुटेरे उनकी दुकान में घुस गए। दोनों ने अंदर से दुकान का शटर गिरा दिया और पिस्टल के बल पर जेवर मांगे। सराफा ने आनन फानन में हाथ मारकर आटोमैटिक तिजोरी लॉक कर दी और शोर मचा दिया। शोर मचाने पर आरोपी शटर उठाकर पैदल ही भाग गए। आसपास के दुकानदारों ने लुटेरों का पीछा भी किया, लेकिन वह गलियों से निकलकर फरार हो गए। पीड़ित ने बताया कि एक लुटेरे ने मास्क लगाया था, जबकि दूसरे का चेहरा खुला था। दोनों की उम्र करीब 20 से 21 वर्ष की होगी। पीड़ित के मुताबिक, गली में कई दुकानों पर सीसीटीवी लगे हैं। पुलिस उनकी फुटेज खंगाल रही है। एसएचओ लिंकरोड देवेंद्र सिंह बिष्ट ने बताया कि रिपोर्ट दर्ज कर घटनास्थल के आसपास लगे सीसीटीवी कैमरों की फुटेज खंगाली जा रही है।
... और पढ़ें

शादी से एक माह पहले चुराया दहेज का सामान, केस दर्ज

शादी से एक माह पहले चुराया दहेज का सामान, केस दर्ज
गाजियाबाद। युवती की शादी से एक माह पहले दहेज का सारा सामान चोरी कर लिया गया। युवती की मां ने दंपती सहित छह लोगों को नामजद कर विजयनगर थाने में केस दर्ज कराया है। पुलिस का कहना है कि आरोपी घटना के बाद से फरार हैं। वहीं, दो अन्य घटनाओं में चोरों ने लाखों रुपये केजेवर न नगदी समेत अन्य सामान चोरी कर लिया।
विजय नगर के आश्रम अमृता कुटी निवासी वाली गीता पत्नी विनोद कुमार का कहना है कि वह वहां 15 साल से रह रही हैं। कमरा क्षतिग्रस्त होने तथा शौचालय न होने के कारण वह कुछ समय से परिवार के साथ माधोपुरा में संदीप गुर्जर के मकान में किराए पर रहने लगीं। गीता का कहना है कि उन्होंने बेटी की शादी के लिए दहेज का सामान इकट्ठा कर रखा था। गत 12 फरवरी की रात को पड़ोसी ने फोन किया कि उनके मकान में चोरी हो रही है। पता चला कि मकान के पड़ोस में रहने वाले मनोज, उसकी पत्नी ममता, साढ़ू मोहन तथा तीन साली रजनी, गीता और कुसुम ने की है।
गीता देवी का कहना है कि उक्त लोगों ने घर में रखे 2 कूलर, गैस सिलेंडर, वाशिंग मशीन, फ्रिज, अलमारी के अलावा सोने-चांदी के जेवर चोरी कर लिए। चोरी हुआ सामान करीब 5 लाख रुपये का है। एसएचओ नागेंद्र चौबे ने बताया कि आरोपियों के किलाफ केस दर्ज कर लिया गया है। जिस जगह घटना हुआ है, वह आश्रम का कमरा है। वह अब किसी अन्य को अलॉट हो गया। जिसे अलॉट हुआ, उसने कमरे का ताला तोड़कर सामान हटा दिया। आरोपी फरार चल रहा है।
---------
अधिवक्ता के घर से 1.30 लाख व जेवर चोरी
विजयनगर थानाक्षेत्र के अधिवक्ता अनवार चौधरी का कहना है कि गत 11 फरवरी की रात को मकान के निचले हिस्से में परिवार के साथ सोए थे। सुबह 4 बजे आंख खुलने पर देखा तो दूसरी मंजिल पर जीने का गेट खुला हुआ था। चेक करने पर अलमारी में रखे 1 लाख 30 हजार रुपये, सोने की चेन के अलावा घर से गैस सिलेंडर व मोबाइल चोरी मिला। पीड़ित की तहरीर पर पुलिस ने केस दर्ज कर बदमाशों की तलाश शुरू कर दी है।
------
ऑडियोलॉजिस्ट के केबिन से उड़ाया सामान
थाना सिकंदरपुर, जिला बलिया के ग्राम रामपुर हजिया निवासी सद्दाम हुसैन का कहना है कि वह मरियमनगर स्थित सेंट जोसफ हॉस्पिटल में स्पीच थैरेपी एंड ऑडियोलॉजिस्ट के पद पर कार्यरत हैं। बृहस्पतिवार दोपहर को उनके केबिन में रखा सामान चोरी हो गया। सीसीटीवी कैमरे में दो अज्ञात चोर कैद हुए। पीड़ित के मुताबिक केबिन से लैपटॉप, हियरिंग ऐड प्रोगामेबल मशीन, पर्स व दस्तावेज चोरी हुए हैं।
... और पढ़ें
अपने शहर की सभी खबर पढ़ने के लिए amarujala.com पर जाएं

Disclaimer

अपनी वेबसाइट पर हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर अनुभव प्रदान कर सकें, वेबसाइट के ट्रैफिक का विश्लेषण कर सकें, कॉन्टेंट व्यक्तिगत तरीके से पेश कर सकें और हमारे पार्टनर्स, जैसे की Google, और सोशल मीडिया साइट्स, जैसे की Facebook, के साथ लक्षित विज्ञापन पेश करने के लिए उपयोग कर सकें। साथ ही, अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।

Agree
Election
  • Downloads

Follow Us