विज्ञापन

दहेज उत्पीड़न के तीन मामले दर्ज, पति समेत कई नामजद

Amarujala Local Bureauअमर उजाला लोकल ब्यूरो Updated Sat, 28 Mar 2020 05:51 PM IST
विज्ञापन
- फोटो : AMAR UJALA
ख़बर सुनें
माई सिटी रिपोर्टर गाजियाबाद। दहेज उत्पीड़न के तीन मामलों में रिपोर्ट दर्ज हुई है। इनमें से दो मामले महिला थाने में दर्ज हुए हैं, जबकि एक मुकदमा कविनगर थाने का है। तीनों मामलों में पति समेत ससुराल पक्ष के कई कई लोगों को नामजद किया गया है। रिपोर्ट दर्ज कर पुलिस आगे की कार्रवाई कर रही है। पहला मामला .... कविनगर थाने में दर्ज हुई रिपोर्ट में पूजा निवासी शास्त्रीनगर ने कहा है कि उसकी शादी 17 अप्रैल वर्ष 2019 को राजस्थान निवासी इंजीनियर हिमांशु कुमार के साथ हुई थी। शादी में जरूर से ज्यादा दान दहेज देने के बाद भी पति हिमांशु कुमार, सास वंदना, ससुर मुकेश कुमार और मुकेश कुमार की दो नानी पूजा को दहेज के लिए प्रताड़ित करने लगे। आरोप है कि खर्चे के लिए पूजा को एक भी रुपया नहीं दिया जाता है और मैं ही नौकरी करने दी जाती है। इसके साथ ही पूजा के भाइयों के अपहरण और उसकी विधवा मां को जलाकर मार देने की धमकी दी जाती है। विरोध करने पर उसे मारपीट कर घर से निकाल दिया गया। इस मामले में पूजा के पति हिमांशु समेत पांच आरोपियों के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज कराई गई है। दूसरा मामला....... दूसरे मामले में महिला थाने में अशोक कुमार निवासी शिव गंगा अपार्टमेंट वसुंधरा थाना इंदिरापुरम ने रिपोर्ट दर्ज कराई है। जिसमें बताया गया है कि उन्होंने अपनी बेटी देविना श्रीवास्तव की शादी हरियाणा में रहने वाले अनुज श्रीवास्तव के साथ 13 दिसंबर वर्ष 2018 में हिंदू रीति रिवाज के अनुसार की थी। शादी में भी करीब 20 लाख का खर्चा किया गया था। शादी के कुछ दिनों बाद तक तो सब कुछ ठीक-ठाक रहा, इसके बाद ससुराल लिया दहेज में एक फ्लैट की मांग करने लगे। मांग पूरी न होने पर देविना काम मानसिक व शारीरिक उत्पीड़न करने लगे और मारपीट कर घर से निकाल दिया। इस मामले में पति अनुज श्रीवास्तव, ससुर भारत भूषण श्रीवास्तव, सास अरुणा श्रीवास्तव, ननंद शुचि श्रीवास्तव, नंदोई लोकेश भटनागर, अनुज की मौसी कुंतल और कुंतल के बेटे को नामजद किया गया है। तीसरा मामला.... तीसरे मामले की रिपोर्ट महिला थाने में प्रीति निवासी जीवन विहार थाना कविनगर ने दर्ज कराई है। जिसमें दहेज उत्पीड़न का आरोप लगाते हुए पति मनीष चौधरी, ससुर सुरेश पाल सिंह, सास रेखा चौधरी और ननद निशा चौधरी को नाम दर्ज किया गया है। प्रीति की शादी 24 फरवरी वर्ष 2012 में मनीष के साथ हुई थी। आरोप है कि 24 सितंबर वर्ष 2019 को बेटी पैदा होने पर ससुरालियों ने प्रीति को घर से यह कहकर निकाल दिया कि वह उसका और उसकी बेटी का खर्चा नहीं उठा सकेंगे। तभी से वह अपनी बड़ी बहन के घर रह रही है। आरोप है कि ससुरालियों ने प्रीति के बेटे को जबरन अपने पास रख रखा है। पुलिस का कहना है कि तीनों मामलों की जांच पड़ताल कर कार्रवाई की जा रही है।
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

Spotlight

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
Election
  • Downloads

Follow Us