विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
हनुमान जयंती पर नौकरी प्राप्ति, आर्थिक उन्नत्ति, राजनीतिक सफलता एवं शत्रुनाशक हनुमंत अनुष्ठान - 8 अप्रैल 2020
Astrology Services

हनुमान जयंती पर नौकरी प्राप्ति, आर्थिक उन्नत्ति, राजनीतिक सफलता एवं शत्रुनाशक हनुमंत अनुष्ठान - 8 अप्रैल 2020

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

From nearby cities

#9Pm9Minute: कोरोना के खिलाफ जंग में एकजुट हुए लोग, जम्मू से लेकर गोरखपुर तक कुछ ऐसा दिखा नजारा, तस्वीरें

कोरोना वायरस के खिलाफ जंग में देश एक बार फिर एकजुट हो गया। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा किए गए अपील पर देश के लोगों रात नौ बजे नौ मिनट के लिए अपने घरों और आंगने में दीये जलाए हैं।

5 अप्रैल 2020

विज्ञापन
विज्ञापन

गाजियाबाद

रविवार, 5 अप्रैल 2020

जरूरी सेवाओं की आपूर्ति के लिए जारी होंगे ई-पास, ऐसे करें ऑनलाइन आवेदन

5 अप्रैलः सिर्फ लाइट्स करें बंद, चलने दें पंखे और फ्रिज, पीएम ने किया था ये आह्वान

संकट की इस घड़ी में देश का उत्साह बढ़ाने के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने पांच अप्रैल रात नौ बजे सभी से नौ मिनट लाइट बंद करने और बाल्कनी में दिए जलाने ओर मोबाइल की लाइट जलाने की अपील की है।

इसमें लोगों को इस बात का खास ख्याल रखना है कि प्रधानमंत्री की अपील पर घर की सिर्फ लाइट्स ही बंद करें जबकि पंखे, फ्रिज आदि खुले रहने दें। ऐसा न करने से लोगों को नुकसान उठाना पड़ सकता है।

विद्युत वितरण निगम के मुख्य अभियंता आरके राणा ने बताया कि पांच अप्रैल रात्रि नौ बजे फ्रिज, कूलर, पंखे आदि बंद ना करें, सिर्फ लाइट्स ही बंद रखें। एकाएक सारे उपकरण बंद कर देने से राष्ट्रीय ग्रिड में असंतुलन आने का खतरा रहेगा।

अगर एक साथ सारे उपकरण बंद हो जाएंगे तो लाइन में फाल्ट की ज्यादा संभावना है और एकाएक वोल्टेज बढ़ने से घर के उपकरण भी फुंक सकते हैं। उन्होंने बताया कि कई लोग सोशल मीडिया के माध्यम से भी विद्युत निगम से पांच अप्रैल की रात्रि में सप्लाई बंद किये जाने की मांग कर रहे हैं, जो सम्भव नहीं है।

विद्युत निगम ने लोगों से सिर्फ लाइट्स बंद करने की अपील की है, जिससे लाइनलॉस, फाल्ट की संभावना को खत्म किया जा सके। इसको लेकर प्रदेश मुख्यालय से अपील भी जारी की गई है।
... और पढ़ें

सिरफिरे अधेड़ ने युवती की हत्या कर की खुदकुशी

कोतवाली क्षेत्र के गांव कुरैना निवासी हरीचंद शर्मा पुत्र भूदेव शर्मा ने थाने में तहरीर देकर बताया कि शनिवार सुबह करीब नौ बजे गांव निवासी योगेश(48) पुत्र सोहनपाल सिंह उनके घर आया और सीधे घर के एक कमरे में चला गया। उस कमरे में उनकी 25 वर्षीय बेटी अपना घरेलू काम कर रही थी। आरोप है कि इस दौरान योगेश ने अपनी अंटी से पिस्टल निकालकर उनकी पुत्री के सिर में गोली मार दी। गोली लगने से उसकी मौके पर ही मौत हो गई। वादी ने बताया कि चंद सेकेंड बाद ही योगेश ने खुद अपनी ही पिस्टल से खुद की कनपटी में भी गोली मार ली। सूचना पर योगेश के परिजन आनन फानन में उसे उठाकर सीएचसी ले गए जहां उसकी हालत को देखते हुए जिला अस्पताल के लिए रेफर कर दिया गया। जिला अस्पताल में उपचार के दौरान योगेश ने भी दम तोड़ दिया। जानकारी के अनुसार योगेश शादीशुदा था। उसकी सात संतान थीं। जिनमें से दो बेटो की वह शादी पूर्व में कर चुका था। साथ ही उसके एक पोता भी है। कोतवाली प्रभारी विवेक शर्मा ने बताया कि घटना में प्रथम दृष्टया दोनों के बीच प्रेम-प्रसंग का मामला सामने आया है। मामले में रिपोर्ट दर्ज कर मौके से पिस्टल व कारतूसों के खोखे बरामद किए गए हैं। नवंबर में होनी थी युवती की शादी मिली जानकारी के अनुसार मृतक युवती का रिश्ता हो चुका था। आगामी नवंबर माह में उसकी शादी होनी थी। सूत्रों की मानें तो इसी बाबत आरोपी योगेश उससे खफा था। इसी कारण उसने उसकी हत्या कर खुद को भी गोली से उड़ा लिया। ... और पढ़ें

सांसद ने मास्क एवं दीये बाँट लोगों से की सोशल डिस्टेंसिग की अपील

ग़ौरतलब है कि कोरोना महामारी से निपटने को पूरा देश एकजुट है। हर धर्म और वर्ग के लोग अपने हिसाब से इस बीमारी से लड़ने में लगे हुए हैं। सांसद भोला सिंह ने शनिवार को जहां अपने आवास पर लोगों को मास्क वितरित किया। वहीं रविवार को यमुनापुरम स्तिथ अपने आवास पर लोगों को दिए बाँटकर प्रधानमंत्री की अपील को सफल बनाने की बात कही है। उन्होंने बताया दीपक जलाना युगों से हमारी भारतीय संस्कृति का एक महत्वपूर्ण हिस्सा रहा हैं।यह सभी बैक्टीरिया और वायरस को जला देता है, जिससे वातावरण शुद्ध होता है।इसके अलावा उन्होंने लोगों से प्रशासन की गाइड लाइन का और सामाजिक दूरी बनाए रखने की अपील की है। ... और पढ़ें
लोगों को दिए बांटते सांसद भोला सिंह। लोगों को दिए बांटते सांसद भोला सिंह।

...तो अभी भी जनपद में छिपे हैं मरकज से आए जमाती!

कोरोना वायरस के डर के कारण सोशल मीडिया पर अफवाह फैली थी कि कई दिन तक कर्फ्यू रह लग सकता है। इसके बाद बुलंदशहर में दिल्ली, नोएडा, केरल और अन्य राज्यों से बड़ी संख्या में 20 मार्च को जमाती पहुंचे थे। जैसे ही दिल्ली ल मरकज कांड हुआ तो जमातियों की तलाश शुरू हुई। इसके बाद जिले में भी तलाश की गई। खुफिया की हालत तो यह है कि वह विदेश से आए जमातियों के बारे में भी जानकारी नहीं जुटा पाई थी। इस दौरान पुलिस का मुखबिर तंत्र भी फेल साबित हो रहा है। हालांकि एसएसपी संतोष कुमार सिंह का कहना है कि जमातियों की तलाश जारी है। जो भी मिल रहे हैं। उन्हें क्वारंटीन किया जा रहा है। शुक्रवार तक 256 मिल चुके हैं। शनिवार को अनूपशहर में 13 जमाती और मिले हैं। ... और पढ़ें

कोरोना को लेकर पुलिस लगातार कर रही कार्रवाई

एसपी सिटी अतुल कुमार श्रीवास्तव ने बताया कि लॉकडाउन का उल्लंघन करने वालों के खिलाफ उनकी कार्रवाई जारी है। उन्होंने बताया कि लॉकडाउन के पहले दिन से ही उन्होंने कार्रवाई शुरू कर दी थी। जिस कारण अभी तक 25 हजार से अधिक वाहनों की चेकिंग की गई। तीन हजार 288 वाहनों के चालान किए जा चुके है। इसके अलावा अन्य वाहनों से चार लाख 72 हजार 800 रुपये का जुर्माना वसूला जा चुका है। इसके अलावा 212 वाहनों को सीज किया जा चुका है। एसपी सिटी ने बताया कि सोमवार से इस सख्ती को और बढ़ा दिया जाएगा। बिना किसी वजह के जो दुकानदार दुकानें खोल रहे हैं। उनकी वीडियोग्राफी कराने के बाद मुकदमे दर्ज किए जाएंगे। इसके अलावा जो वाहन बेवजह से सड़कों पर दौड़ रहे हैं। उनके चालान और सीज की कार्रवाई तो होगी। साथ ही वाहन को जब्त भी कर लिया जाएगा। वाहन को पुलिस लाइन में खड़ा करके उसके मालिक को उसकी चाबी दे दी जाएगी। इसलिए मेरी लोगों से अपील है कि वह लॉकडाउन का सख्ती से खुद ही पालन करें। ... और पढ़ें

संदिग्ध हालात में 11 वीं मंजिल से गिरकर युवती की मौत

लॉक डाउन के दौरान लोगो को रोकतीं नगर कोतवाल और अन्य पुलिसकर्मी।
माई सिटी रिपोर्टर साहिबाबाद। टीलामोड़ थाना क्षेत्र स्थित आक्सी होम सोसायटी में अपनी बहन के घर आई युवती की संदिग्ध हालात में 11 वीं मंजिल से गिरकर मौत हो गई। सूचना पाकर मौके पर पहुंची पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है। पुलिस मामले की जांच कर रही है। एसएचओ टीलामोड़ रण सिंह ने बताया कि बिहार की रहने वाली 25 वर्षीय युवती का 2018 से दिल्ली के अपोलो अस्पताल से इलाज चल रहा था। वह मानसिक रूप से बीमार थी। एक माह पूर्व वह आक्सी होम में रहने वाली अपनी बहन के यहां पर दवाई लेने के लिए आई थी। रविवार सुबह पुलिस को युवती के गिरने की सूचना मिली। सूचना पाकर पुलिस मौके पर पहुंची और शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है। प्रथम दृष्या सुसाइड लगता है। पुलिस को कोई सुसाइड नोट मौके से नहीं मिला है। घटना के दौरान युवती की बहन और जीजा घर पर ही थे। पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है। शिकायत मिलती है तो आगे की कार्रवाई की जाएगी। ... और पढ़ें

फोन पर ले सकते हैं अपने डॉक्टरों से परामर्श

फोन पर ले सकते है अपने डॉक्टरों से परामर्श - यशोदा अस्पताल समेत कई क्लीनिकों ने शुरू की व्यवस्था - डॉक्टरों की तरफ से मरीजों को निशुल्क परामर्श दिया जाएगा - लॉकडाउन के दौरान मरीज डॉक्टरों का परामर्श नहीं ले पा रहे थे - लगातार अस्पताल और क्लीनिकों में मरीज कर रहे थे फोन माई सिटी रिपोर्टर साहिबाबाद। कोरोना संक्रमण से बचने के लिए लगाए गए २१ दिनों के लॉकडाउन के ११ दिन बीत चुके है। ऐसे में डॉक्टर से परामर्श लेने वाले मरीजों की समस्या बढ़ गई है। इसको देखते हुए अस्पतालों ने फोन पर परामर्श देने की पहल की है। मरीज अपने अस्पताल या क्लीनिक में फोन कर डॉक्टर से बात कर परामर्श ले सकता है। लॉकडाउन के बाद से सभी अस्पतालों में ओपीडी बंद है। ऐसे में हर सात से दस दिनों में डॉक्टर से परामर्श लेने वाले शुगर, दिल, किडनी आदि के मरीजों की समस्या बढ़ गई है। वह डॉक्टर को दिखाने अस्पताल नहीं आ पा रहे हैं। कुछ आ भी रहे हैं तो डॉक्टर नहीं होने की वजह से परामर्श नहीं ले पा रहे हैं। ऐसे में टीएचए के अस्पतालों और क्लीनिक चलाने वाले डॉक्टरों ने फोन पर परामर्श देने की सुविधा शुरू की है। कौशांबी के यशोदा सुपर स्पेशलिटी अस्पताल समेत कई अन्य अस्पतालों ने यह सेवा शुरू की है। इसके साथ ही कई क्लीनिक में भी यह व्यवस्था चल रही है। जिससे लोग अपनी बीमारी के बारे में डॉक्टरों से सलाह ले सके। यशोदा अस्पताल के सीओओ डा. सुनील डागर ने बताया कि लॉकडाउन के दौरान मरीजों को घर बैठे ही चिकित्सा सुविधा मुहैया कराने के लिए यह कदम उठाया गया है। लॉकडाउन की वजह से मरीज डॉक्टर से सलाह नहीं ले पा रहे थे। इसको देखते हुए यह नई व्यवस्था मरीजों के लिए शुरू की गई है। अस्पताल और डॉक्टरों की तरफ से एक नंबर जारी किया है। उनके डाटा बैंक में सभी मरीजों के नंबर है। जिनपर मैसेज भेजकर सभी मरीजों को जानकारी दी जा रही है। इसके बाद मरीज उस नंबर पर अपॉइंटमेंट लेकर डॉक्टर से बात कर सकता है। ... और पढ़ें

गड्ढा खोदकर भरना भूल गया विभाग

माई सिटी रिपोर्टर साहिबाबाद। शालीमार गार्डन के 80 फुट रोड़ पर गहरा गड्ढा करके विभागीय अधिकारी उसे भरना भूल गए। गाजियाबाद नगर निगम का जलकल विभाग ने दो माह पहले गहरे सीवर पाइपलाइन जोड़ने का कार्य किया था। निगम के कर्मचारियों ने गड्ढा खोदकर लाइन तो जोड़ दिया वहीं इसे अब तक नहीं भरा। शालीमार गार्डन निवासी जय दीक्षित ने बताया कि गहरा गड्ढा होने की वजह राह चलते लोगों को काफी परेशानी हो रही है। कई बार दो पहिया वाहन चालक इस गड्ढे की वजह से चोटिल हो जाते हैं। गाड़ियों का पहिया इस गड्ढे में फंस जाता है, जिसकी वजह से स्थानीय लोगों की परेशानी बढ़ गई है। अब तक कई हादसे होने और विभागीय अधिकारियों से शिकायत करने के बावजूद अब तक यह गड्ढा नहीं भरा गया है। स्थानीय लोगों का कहना है कि अधिकारी लॉक डाउन का बहाना बनाकर काम नहीं करा रहे जबकि इसकी वजह से लगातार परेशानियों बढ़ती जा रही है।\n\nनिशा ठाकुर\n\n\n ... और पढ़ें

शहीदों के बच्चों को निःशुल्क शिक्षा देगा दीप मेमोरियल स्कूल

शहीदों के बच्चों को निःशुल्क शिक्षा देगा दीप मेमोरियल स्कूल - राम प्रस्थ स्थित इस स्कूल ने इस सत्र से की नई पहल - शहीदों के बच्चों को इंटर तक पढ़ाएगा निःशुल्क माई सिटी रिपोर्टर साहिबाबाद। राम प्रस्थ स्थित दीप मेमोरियल स्कूल ने सत्र 2020-2021 के शैक्षिक सत्र में एक नई पहल की है। स्कूल प्रबंधन ने फैसला लिया है कि वह शहीदों के बच्चों को इंटरमीडिएट तक निःशुल्क शिक्षा देगा। स्कूल प्रबंधन ने दाखिले की ऑनलाइन प्रक्रिया शुरू कर दी है। स्कूल की वाइस प्रिंसिपल कंचन शर्मा ने बताया कि यह पहल उन लोगों ने स्कूल के सभी स्टाफ से विचार के बाद किया है। यह एक नई और सकारात्मक पहल है। कंचन शर्मा ने बताया कि देश के किसी भी कोने में शहीद परिवार का बच्चा यदि उनके स्कूल में दाखिला लेता है तो उसकी पढ़ाई का पूरा खर्च स्कूल प्रबंधन ही उठाएगा। कंचन शर्मा ने बताया कि इस योजना का लाभ दिल्ली-एनसीआर समेत अन्य जनपदों के शहीद परिवार भी उठा सकते हैं। दरअसल स्कूल में हॉस्टल की भी व्यवस्था है, ऐसे में दूर-दराज के बच्चों को हॉस्टल सुविधा भी निःशुल्क दी जाएगी। कंचन शर्मा ने बताया कि यह पहल इसी सत्र से हुई है। हालांकि लॉक डाउन की वजह से वह बहुत ज्यादा प्रचार-प्रसार इस योजना का नहीं कर सके हैं लेकिन ऑनलाइन स्कूल की वेबसाइट पर भी इस सूचना को अपलोड कर दिया है। स्कूल के अभिभावकों को भी इस संबंध में मैसेज भेजा गया है ताकि उनका कोई परिचित हो तो इस बात की जानकारी वह दे सकें। वहीं स्कूल प्रबंधन ने ऑनलाइन दाखिले की प्रक्रिया शुरू कर दी है। ... और पढ़ें

ओटीएस में ऑनलाइन आवेदन थमे, लॉकडाउन के बाद होगा प्रचार

माई सिटी रिपोर्टर गाजियाबाद। जीडीए सहित प्रदेश के विभिन्न प्राधिकरणों की माली हालत में सुधार के लिए लाई गई एकमुश्त समाधान योजना (ओटीएस) में ऑनलाइन आवेदन थम गए हैं। लॉकडाउन के चलते ऑफलाइन आवेदन पर ब्रेक के बाद अब बकाएदार ऑनलाइन आवेदन में भी दिलचस्पी नहीं ले रहे हैं। ओटीएस में ऑनलाइन आवेदकों का आंकड़ा करीब 140 पर आकर ठहर गया है। वहीं ऑफलाइन आवेदकों की संख्या 65 पर ही पहुंच पाई है। ऐसे में लॉकडाउन में ओटीएस योजना के प्रचार-प्रसार के लिए जीडीए नई कार्ययोजना तैयार करेगा। अधिकारियों के मुताबिक ओटीएस योजना के फिर से प्रचार-प्रसार के लिए विभिन्न योजनाओं और कालोनियों में शिविर लगाए जाएंगे। इन शिविरों में लोगों को शासन की महत्वाकांक्षी और बकाएदारों को राहत देने वाली योजना की जानकारी दी जाएगी। बता दें कि महानगर के विभिन्न क्षेत्रों में 8294 छोटे-बड़े बकाएदारों पर 465 करोड़ बकाया। शासन ने छोटे-बड़े बकाएदारों को छूट के साथ बकाया जमा करने के लिए ओटीएस योजना बीते छह मार्च को लॉंच की थी। ओटीएस योजना के 50 लाख से छोटे ऑफलाइन आवेदकों के लिए जीडीए परिसर में ही हैल्पडेस्क बनाई गई थी। कोरोना की संभावना को देखते हुए ऑफलाइन आवेदनों के लिए बनाई गई हैल्प डेस्क को लॉकडाउन से पहले ही एहतियातन बंद कर दिया गया था। ऑनलाइन के साथ ऑफलाइन आवेदकों को आवेदन के लिए तीन माह की समयसीमा दी गई थी। ऐसे में शासन स्तर से लॉकडाउन की समयावधि को देखते हुए योजना में आवेदन की तिथि को एक माह और बढ़ाया जा सकता है। बता दें कि जीडीए की इंदिरापुरम योजना में सर्वाधिक छोटे-बड़े बकाएदार हैं। संपत्ति अनुभाग की ओर से तैयार की गई बकाएदारों की कुंडली में इंदिरापुरम में 1624 बकाएदारों पर सर्वाधिक 190 करोड़ से अधिक बकाया है। मधुबन बापूधाम योजना में 418 बकाएदारों पर 91 करोड़ बकाया है। फिर वैशाली में 56 बकाएदारों पर 47 करोड़, नंदग्राम में 3061 बकाएदारों पर 30 करोड़, कर्पूरीपुरम में तीन बकाएदारों पर 14 करोड़, तुलसी निकेतन में 1697 बकाएदारों पर 10 करोड़, यूपी बॉर्डर पर 132 बकाएदारों पर 13 करोड़, कोयल एंक्लेव में तीन बकाएदारों पर 30 करोड़ बकाया है। जीडीए सचिव संतोष कुमार राय ने बताया कि कोरोना के चलते ओटीएस का ऑफलाइन हेल्प सेंटर तो बंद है। ऑनलाइन आवेदन की संख्या में गिरावट आई है। जीडीए सचिव संतोष कुमार राय ने बताया कि लॉकडाउन के बाद ओटीएस योजना के प्रचार-प्रसार के लिए फिर से नई कार्ययोजना तैयार की जाएगी। 110 विधायक में से 10 ने किया है आवेदन एकमुश्त समाधान योजना (ओटीएस) में छूट का लाभ पाने के लिए बिल्डरों, आम लोगों के साथ माननीय भी कतार में लगे हुए हैं। मधुबन बापूधाम योजना में भूखंड का आवंटन होने के बाद 110 विधायकों पर भूखंड सहित ब्याज का लाखों बकाया है। ऐसे में बकाया जमा करने में देरी के कारण लगाई गई ब्याज का लाभ उठाने के लिए विधायक ओटीएस योजना में आवेदन कर रहे हैं। कोरोना के प्रभाव के कारण करीब 10 विधायकों ने योजना में ऑनलाइन आवेदन किया है। --- ... और पढ़ें

500 लोगों तक पहुंचाया गया भोजन

पांच सौ से अधिक लोगों तक पहुंचाया गया भोजन सोसायटी के गार्डस और सफाई कर्मियों का भी ख्याल, दिया राशन अमर उजाला फाउंडेशन और सहयोगी संस्थाओं ने तेज की कवायद माई सिटी रिपोर्टर गाजियाबाद। लॉकडाउन के सभी नियमों का पालन करते हुए जिले में जरूरतमंद लोगों की मदद किए जाने का सिलसिला जारी है। इस कड़ी में रविवार को अमर उजाला फाउंडेशन, अखिल भारतीय उद्योग व्यापार मंडल और पंगडंडिंयां संस्था ने मिलकर घर में बैठे लोगों को भोजन और कच्चा राशन वितरित किया। संस्थाओं ने लॉकडाउन के नियमों के तहत प्रशासनिक अनुमति, सोशल डिस्टेंसिंग, सैनिटाइजर सहित अन्य सभी व्यवस्थाओं को प्राथमिकता पर रखा है। पुलिस और प्रशासन का बेहतर तालमेल संस्थाओं के साथ दिख रहा है। अखिल भारतीय उद्योग व्यापार मंडल पुलिस की टीमों को भोजन के पैकेट सुपुर्द कर रहा है और रमतेराम रोड, नया गंज में भी चिन्हित लोगों के परिवारों को भोजन वितरित कर रहे हैं। इसी तरह से पगडंडिंयां संस्था गोविंदपुरम और मुख्य मार्ग पर सड़क पर रह रहे लोगों तक भोजन पहुंचा रही है। बनवाए कढ़ी चावल, पांच सौ पैकेट किए वितरित अखिल भारतीय उद्योग व्यापार मंडल ने रविवार को कढ़ी चावल के पैकेट बनवाकर वितरित कराए। अध्यक्ष संदीप बंसल ने बताया कि रमतेराम रोड पर एक हलवाई के घर में भोजन तैयार कराया जा रहा है। सभी कारीगर एक साथ रहते हैं और बिना बाहर जाए दिन रात भोजन बना रहे हैं। अभी तक 400 पैकेट लगभग वितरित किए जा रहे थे लेकिन रविवार को 500 पैकेट भोजन के बांटे गए। पुलिस की टीमों से फीडबैक मिलता है, उसके बाद ही पैकेट बढ़ाए जाते हैं। उन्होंने बताया कि 15 अप्रैल तक यह सिलसिला लगातार चलेगा। कोराना फाइटर्स जिनमें चिकित्सक, नर्स, पुलिस, प्रशासन, सफाईकर्मी सहित अन्य लोगों को भी संस्था भोजन उपलब्ध करा रही है। इस मौके पर अनिल कुमार गर्ग, अमन शिशौदिया, दीपक गर्ग, जगमोहन सिंह, नानक गोस्वामी, प्रेमप्रकाश चीनी, नरेंद्र कुमार बिल्लू सहित अन्य व्यापारी मौजूद रहे। सोसायटी के गार्ड्स और सफाई कर्मियों को दिया राशन गोविंदपुरम की गौड़ होम्स सोसायटी में पगडंडिंयां संस्था ने कई परिवारों की मदद से सोसायटी के गार्ड्स और सफाई कर्मियों को कच्चा राशन वितरित किया। अध्यक्ष शालू पांडेय ने बताया कि रविवार को सोसायटी के कई घरों से खाना बनकर आया, जिसे दोपहर दो बजे तक सड़क किनारे रहने वाले लोगों को वितरित किया गया। सोसायटी में पिछले दो दिनों से जरूरतमंद लोगों को चिन्हित कर राशन वितरित किया गया। दो सौ से अधिक लोगों को राशन दिया गया। इसमें सोसायटी के लोगों और पुलिस का बहुत बड़ा सहयोग रहा। मास्क, सैनिटाइजर के प्रयोग पर सोशल डिस्टेंसिंग का ख्याल रखते हुए राशन वितरित किया गया। रविवार को सोसायटी में काम कर रहे गार्ड्स और सफाई कर्मियों को आटा, दाल-चावल सहित अन्य वस्तुएं वितरित की गईं। इस मौके पर डा. अरूण पांडेय, हेमा, सरिता, मीनू, रागिनी, उत्तम नंदिता, रश्मि, पूनम शुक्ला, मीनू श्रीवास्तव, मोनिका, रिचा, पारूल, राम शर्मा, सीमा यादव सहित अन्य का सहयोग मिल रहा है। ... और पढ़ें
अपने शहर की सभी खबर पढ़ने के लिए amarujala.com पर जाएं

Disclaimer


हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर और व्यक्तिगत अनुभव प्रदान कर सकें और लक्षित विज्ञापन पेश कर सकें। अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।
Agree
Election
  • Downloads

Follow Us