विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विवाह संबंधी दोषों को दूर करने के लिए शिवरात्रि पर मल्लिकार्जुन ज्योतिर्लिंग में कराएं रुद्राभिषेक : 21-फरवरी-2020
Astrology Services

विवाह संबंधी दोषों को दूर करने के लिए शिवरात्रि पर मल्लिकार्जुन ज्योतिर्लिंग में कराएं रुद्राभिषेक : 21-फरवरी-2020

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

From nearby cities

नौकरी न कर शुरू की खुद की कंपनी, 26 साल की उम्र में बन गए बड़े उद्योगपति

गाजियाबाद के तुषार अग्रवाल, ये वो नाम है जिसने मात्र 26 साल की उम्र में उद्यम के क्षेत्र में अपना लोहा मनवा लिया है। आज तुषार दो इंडस्ट्री के मालिक है...

3 अक्टूबर 2019

विज्ञापन
विज्ञापन

दिल्ली-एनसीआर

बुधवार, 19 फरवरी 2020

दिल्ली-मेरठ रैपिड रेल प्रोजेक्ट पकड़ेगा रफ्तार, जल्द मिलेगी डिपो की जमीन

दिल्ली के सराय काले खां से मेरठ तक प्रस्तावित रैपिड रेल कॉरिडोर समय से पूरा होने की उम्मीद सिरे चढ़ रही है। केंद्र सरकार के बाद अब रैपिड रेल प्रोजेक्ट के लिए प्रदेश सरकार ने बजट में 900 करोड़ की धनराशि देने का प्रावधान किया है। इससे पहले केंद्र सरकार ने बजट में रैपिड रेल के लिए 2487 करोड़ देने घोषणा की थी।

केंद्र व राज्य सरकार से फंड मिलने से अब दुहाई में प्रस्तावित रैपिड रेल कॉरिडोर के डिपो के लिए जमीन खरीदने की प्रक्रिया जल्द पूरी हो जाएगी। दुहाई के साथ भिक्कनपुर, बसंतपुर सैंतली में डिपो के लिए 67.0523 हेक्टेयर जमीन खरीदने के लिए किसानों से कई दौर की वार्ता हो चुकी है।

किसानों से बातचीत व उनकी मांगों पर निर्णय होने के बाद मार्च तक डिपो की जमीन मिलने की संभावना जताई जा रही है। दिल्ली से मेरठ के 82 किमी लंबे आरआरटीएस कॉरिडोर पर कुल 39274 करोड़ खर्च होना है। प्रोजेक्ट में 50 फीसदी अंशदान भारत सरकार, 12.5 फीसदी अंशदान उत्तर प्रदेश सरकार, 12.5 फीसदी अंशदान हरियाणा सरकार और 12.5 फीसदी अंशदान राजस्थान सरकार का है। पहले सेक्शन में गुलधर के पास वेयरहाउस हब और दुहाई के पास कमर्शियल ऑफिस हब प्रस्तावित है।

मार्च 2023 तक शुरू होगा 17 किमी लंबा पहला सेक्शन
एनसीआरटीसी को रैपिड रेल कॉरिडोर में 17 किमी लंबे साहिबाबाद से दुहाई स्टेशन तक का सेक्शन मार्च 2023 तक शुरू करना है। इस सेक्शन में साहिबाबाद से दुहाई के बीच 200 पिलर्स की पाइलिंग का काम पूरा हो चुका है। दुहाई से मोदीनगर के बीच सड़क को बीच-बीच में कवर कर निर्माण शुरू कर दिया गया है।
 
... और पढ़ें

एनसीआर में शराब कारोबारी के 50 ठिकानों पर आयकर के छापे

आईआईटी की तर्ज पर जेएनयू भी लेगा पूर्व छात्रों से आर्थिक मदद

आईआईटी की तर्ज पर जवाहर लाल नेहरू विश्वविद्यालय भी पूर्व छात्रों से आर्थिक मदद लेगा। जेएनयू की एग्जीक्यूटिव काउंसिल में मंगलवार को अक्षय निधि (एंडॉमेंट योजना) को मंजूरी दे दी गई।

योजना के तहत 2020 में सौ करोड़ रुपये एकत्रित करने का लक्ष्य रखा गया है। योजना में फंड एकत्रित होने से छात्रों पर फीस बढ़ोतरी से भी राहत मिल जाएगी क्योंकि, विश्वविद्यालय अपने खर्चे इस योजना से निकाल सकेगा।

कुलपति प्रो. एम जगदीश कुमार के मुताबिक, जेएनयू के पूर्व छात्र-छात्राएं विश्वविद्यालय को आगे बढ़ाने में विभिन्न माध्यमों से मदद व सहयोग कर रहे हैं। इसी के चलते एंडॉमेंट योजना  शुरू की जा रही है।

दुनियाभर में फैले जेएनयू के पूर्व छात्र-छात्राएं योजना के तहत अपनी मर्जी से आर्थिक मदद कर सकते हैं। ऐसे पूर्व छात्र विश्वविद्यालय में प्लेसमेंट, पाठ्यक्रम, परीक्षा से लेकर अन्य नीतियों में सुधार के लिए योगदान दे सकेंगे। कुलपति प्रो. कुमार ने जेएनयू के सभी पूर्व छात्रों से आर्थिक मदद के तहत एंडॉमेंट योजना में अधिक से अधिक पैसे देने की अपील की है। 

80 हजार हैं पूर्व छात्र-छात्राएं
जेएनयू के 80 हजार पूर्व छात्र-छात्राएं हैं। यदि प्रति छात्र साल में 50 हजार रुपये देता है तो एक साल में विश्वविद्यालय के पास 400 करोड़ रुपये एकत्रित हो जाएंगे। विवि की योजना है कि एक हजार करोड़ रुपये इस योजना में एकत्रित हो, ताक्रि उससे मिलने वाले ब्याज से विश्वविद्यालय अपने विकास की राह पर अग्रसर हो सके। इससे आर्थिक रूप से कमजोर वर्ग के छात्रों को स्कॉलरशिप आदि भी मुहैया कराई जा सकेगी। रिसर्च कार्यों में भी बढ़ावा मिलेगा।
... और पढ़ें

वार्ताकारों के पहुंचने से पहले ही शाहीन बाग में जुट गई थी हजारों की भीड़, सुरक्षा के थे कड़े इंतजाम

वरिष्ठ अधिवक्ता संजय हेगड़े और साधना रामचंद्रन वरिष्ठ अधिवक्ता संजय हेगड़े और साधना रामचंद्रन

शाहीन बाग: प्रदर्शनकारियों और वार्ताकारों के बीच कल भी जारी रहेगी बातचीत

सुप्रीम कोर्ट के आदेशानुसार प्रदर्शनकारियों से बातचीत के लिए वार्ताकर बुधवार को शाहीन बाग पहुंचे। पैनल में शामिल वरिष्ठ वकील संजय हेगड़े और साधना रामचंद्रन ने एक सर्वमान्य हल के विभिन्न विकल्पों पर विचार किया है। प्रदर्शनकारियों का कहना है कि वे बातचीत तो करेंगे, लेकिन नागरिकता संशोधन कानून वापस लिए जाने से पहले धरना समाप्त नहीं करेंगे। हालांकि खबर है कि दोनों पक्षों में एक तरफ का रास्ता खोलने पर सहमति बन सकती है। इसके लिए शुरू से ही प्रदर्शनकारियों और वार्ताकारों के बीच तालमेल बनाने के प्रयास किए जा रहे हैं।
 
... और पढ़ें

शराब कारोबारी के 50 ठिकानों पर आयकर विभाग का छापा, कॉलेज और स्कूल में भी हुई छानबीन

आयकर विभाग ने बुधवार को शराब कारोबारी देवेंद्र गुप्ता के 50 ठिकानों पर छापे मारे। फरीदाबाद समेत पलवल, गुरुग्राम, दिल्ली, नोएडा व गाजियाबाद में कार्रवाई के दौरान टीम ने उनके कार्यालयों से मोबाइल, लैपटॉप और अन्य जरूरी कागजात अपने कब्जे में ले लिए ताकि उनसे कोई छेड़छाड़ न की जा सके। देर शाम तक छापे की कार्रवाई जारी थी।

आयकर विभाग को शराब कारोबारी और अग्रवाल शिक्षण संस्थान के प्रमुख देवेंद्र गुप्ता पर पैसों के गलत इस्तेमाल की सूचना मिली थी। सूचना के आधार पर फरीदाबाद व दिल्ली के अधिकारियों की 45 से अधिक टीमें टीम गठित की गईं। इनमें दिल्ली आयकर विभाग का भी सहयोग लिया गया। 

टीम ने बुधवार सुबह बल्लभगढ़ स्थित अग्रवाल कॉलेज, सेक्टर-तीन स्थित अग्रवाल स्कूल, कंस्ट्रक्शन वर्क कार्यालय, फरीदाबाद में शराब के गोदाम और पलवल स्थित 25 से अधिक शराब दुकानों सहित दिल्ली एनसीआर के करीब 50 स्थानों पर एक साथ छापे मारे। देर शाम तक आयकर विभाग की कार्रवाई जारी रही। 

सूत्रों के अनुसार टीम ने मौके से शराब कारोबारी के लैपटॉप, मोबाइल फोन, लेनदेन संबंधी सभी कागजात अपने कब्जे में लिए हैं। आयकर विभाग के एक अधिकारी ने बताया कि जब्त किए गए मोबाइल फोन और लैपटॉप से डाटा अपने सिस्टम पर लिया जा रहा है। इस डाटा की गहनता से जांच की जाएगी। 

कार्रवाई के दौरान कहीं भी किसी को आने-जाने की अनुमति नहीं दी गई थी। हालांकि बल्लभगढ़ स्थित अग्रवाल स्कूल व कॉलेज नियमित रूप से चल रहे थे। कॉलेज में छात्रों को जांच के बाद ही आने-जाने दिया गया।
... और पढ़ें

डॉक्टरों का कमाल: कैंसर मरीज को 3डी तकनीक से मिली जबड़े की हड्डी, चेहरे को ठीक करने में लगे आठ घंटे

अग्रवाल कॉलेज में आयकर विभाग का छापा
कैंसर के मरीज को फिर से पहले जैसा सामान्य जीवन बिताना अब और भी ज्यादा आसान है। आमतौर पर मुंह के कैंसर में ऑपरेशन और रेडियोथैरेपी के बाद अक्सर मरीज को विकृत चेहरे के साथ जीवन बिताना पड़ता है, लेकिन चिकित्सीय विज्ञान में कई वर्षों पहले आई 3डी तकनीक ने इसे बदल दिया है। दिल्ली के फोर्टिस अस्पताल के डॉक्टरों ने कैंसर के मरीज को इस तकनीक की सहायता से पहली बार जबड़े की हड्डी दी है। करीब आठ घंटे तक चले इस ऑपरेशन में डॉक्टरों के आगे सबसे बड़ी चुनौती चेहरे की नसों को सुरक्षित रखना था। साथ ही जबड़े की हड्डी के उस जोड़ को भी बनाना था, जिसकी मदद से इंसान खानपान ठीक तरह से कर सकता है। 

फरीदाबाद निवासी 30 वर्षीय प्रभजीत बताते हैं कि जब वे सात वर्ष के थे तब उन्हें सिस्टेमेटिक ल्युपस एरिथेमेटॉसिस (एसएलई) नामक क्रोनिक रोग हुआ था। इससे उन्हें मुंह का कैंसर हुआ। वर्ष 2013 में उन्होंने ऑपरेशन और रेडियोथैरेपी कराई थी, लेकिन इसके बाद उनका दैनिक जीवन बदल चुका था। ऑपरेशन के बाद उनके मैंडिबल के खिसकने की वजह से जबड़े के निचले और ऊपरी भाग आपस में जुड़ नहीं पा रहे थे। वे खाना चबाने में असमर्थ थे। बार-बार बाइट अल्सर भी रहने लगा था, जो दर्द के अलावा कैंसर की फिर से आशंका को बढ़ा रहा था। 

गुरुग्राम की एक मल्टीनेशनल कंपनी में काम करने वाले प्रभजीत के बारे में डॉ. मंदीप एस मलहोत्रा ने बताया कि एसएलई रोग और जबड़े को नया रूप देने के लिए वे पारंपरिक प्रक्रिया नहीं अपनाना चाहते थे। इसलिए उन्होंने 3डी तकनीक की मदद लेते हुए पहले चेहरे के आकार का एक मॉडल तैयार किया और उसके बाद ऑपरेशन किया। टिटेनियम से निर्मित प्रोस्थेटिक जॉ को तैयार किया, जो कि सर्वाधिक बायोकॉम्पेटिबल और लाइट मैटल है। नए जबड़े के साथ ही अब प्रभजीत का आत्मविश्वास भी लौट आया है। 

डॉ. मलहोत्रा ने बताया कि उनकी टीम के सदस्य प्रभात और डॉ. नेहा ने सही एलाइनमेंट हासिल करने के लिए भरपूर प्रयास जारी रखे। हमारी कोशिश थी कि नया जबड़ा सामान्य से भी बेहतर हो। मेडिकल जर्नल्स का अध्ययन करने के बाद ये पाया है कि यह अपनी तरह की पहली प्रक्रिया है। अब प्रभजीत पहले की तरह खानपान कर सकते हैं।  
... और पढ़ें

भाजपा का दावा- वार्ताकारों को क्या जवाब देना है, शाहीन बाग में ट्रेनिंग दे रही हैं तीस्ता

संशोधित नागरिकता कानून के खिलाफ पिछले दो महीनों से शाहीन बाग में विरोध प्रदर्शन चल रहा है। इस प्रदर्शन से कालिंदी कुंज वाली सड़क पूरी तरह से बंद है, जिसके चलते आम लोगों को काफी परेशानी हो रही है। इसे लेकर सुप्रीम कोर्ट में एक याचिका डाली गई है जिसके बाद अदालत ने प्रदर्शनकारियों से मध्यस्थता करने के लिए एक पैनल बनाया है।

अब भारतीय जनता पार्टी(भाजपा) का दावा है कि वार्ताकारों से बात करने के लिए शाहीन बाग के प्रदर्शनकारियों को प्रशिक्षण दिया जा रहा है। यह प्रशिक्षण भी कोई और नहीं बल्कि तीस्ता सीतलवाड़ दे रही हैं। भाजपा आईटी सेल के प्रमुख अमित मालवीय ने एक वीडियो ट्वीट कर यह दावा किया है कि वार्ताकारों से क्या सवाल-जवाब करने हैं उसका प्रशिक्षण प्रदर्शनकारियों को तीस्ता सीतलवाड़ दे रही हैं। अमित ने लिखा कि देखिए यह आंदोलन कितना स्वत: स्फूर्त है।


अमित मालवीय ने जो वीडियो ट्वीट किया है उसमें तीस्ता सीतलवाड़ के साथ एक युवती प्रदर्शनकारियों के सामने कुछ सवालों को समझाती दिख रही है। वो ये भी कहते हुए सुनी जा सकती है कि ये सवाल हैं लेकिन जवाब किसी को नहीं देने हैं।

जानिए किन सवालों को युवती ने पढ़कर सुनाया 

पहला सवाल: क्या शाहीन बाग आंदोलन की जगह बदलने से आंदोलन कमजोर होगा?

दूसरा सवाल: अगर जगह बदलने की बात होती है तो महिलाओं की हिफाजत की जिम्मेदारी कौन लेगा?

तीसरा सवाल: आंदोलन की वजह से कुछ पब्लिक को दिक्कत हो रही है, इसके बारे में हमें क्या करना है?

चौथा सवाल: आधा रास्ता खोलने से मसला हल होगा क्या?

पांचवां सवाल: क्या शाहीन बाग आंदोलन का रंगरूप बदलने से आंदोलन कमजोर होगा क्या?

जब युवती सवाल पूछ लेती है तो तीस्ता सीतलवाड़ माइक ले लेती हैं। वह प्रदर्शनकारियों को सवालों के मतलब समझाती हैं। वह कहती हैं कि रंग-रूप का मतलब ये है कि आप लोग 24 घंटे यहां न बैठें। दिन में कुछ समय के लिए या हफ्ते में एक-दो बार या शाम को ही आएं। हालांकि आखिर में वो ये जरूर कहती हैं कि ये सवाल हमारे हैं लेकिन जवाब आपके ही होंगे।

... और पढ़ें

दिल्लीः फ्लैट में बज रहा था तेज संगीत, बंद करवाने पहुंची पुलिस, 'डीजे वाले बाबुओं' ने पीटा

रानीबाग इलाके में एक फ्लैट में डीजे बंद करवाने पहुंची पुलिस टीम पर ही भीड़ ने हमला कर दिया। हमले में एक सब इंस्पेक्टर (एसआई) घायल हो गया। हालात बिगड़ने पर नजदीकी थाने से अतिरिक्त पुलिस कर्मियों को बुलाया गया ताकि हालात को जल्द काबू किया जा सके। 

पुलिस ने इस मामले में आरोपी दो भाईयों को गिरफ्तार कर लिया लेकिन मौके से कई आरोपी भागने में कामयाब रहे। पुलिस ने सरकारी काम में बाधा पहुंचाने सहित मारपीट का मामला दर्ज कर फरार आरोपियों की गिरफ्तारी के लिए दबिश दे रही है। 

रानीबाग थाने में तैनात सब इंस्पेक्टर गौरव कुमार सोमवार रात इमरजेंसी ड्यूटी पर तैनात थे। रात करीब 12 बजे अग्रसेन भवन के नजदीक ही एक फ्लैट में डीजे की धुनों पर शोर शराबा की शिकायत मिली। सूचना मिलते ही एसआई गौरव, बीट कांस्टेबल विरेंद्र और कांस्टेबल मुकेश के साथ मौके पर जा पहुंचे। इस दौरान वहां डीजे की धुनों पर युवा डांस कर रहे थे। इनमें कुछ महिलाएं भी शामिल थीं। 

पुलिस ने डीजे बंद करने को कहा, लेकिन डांस करने वालों ने उल्टा पुलिस कर्मियों पर ही हमला बोल दिया। पुलिस कर्मियों के साथ हुई मारपीट में एसआई जख्मी हो गए जबकि उन्हें बचाने की कोशिश में अन्य पुलिस कर्मियों से भी मारपीट की गई। 

इसी मारपीट के दौरान पुलिस कर्मियों ने दो आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया। आरोपियों की पहचान पीतमपुरा गांव निवासी सूरज तिवारी और गुड्डू तिवारी के रूप में हुई है। दोनों सगे भाई हैं। मारपीट के इस मामले में फरार अन्य आरोपियों की तलाश में पुलिस लगातार दबिश दे रही है। 
... और पढ़ें

सफल संचालन के बाद एक बार फिर चलेगी रामायण एक्सप्रेस, तैयारी में जुटे अधिकारी

रेलवे एक बार फिर रामायण सर्किट पर ट्रेन चलाने की तैयारी में है। पिछले साल रामायण एक्सप्रेस के सफल संचालन के बाद यह ट्रेन भगवान राम से जुड़े स्थलों के दर्शन कराएगी। यह ट्रेन 28 मार्च को दिल्ली के सफदरजंग रेलवे स्टेशन से रवाना होगी। इसमें गाजियाबाद, मुरादाबाद, बरेली और लखनऊ से भी लोग यात्रा शुरू कर सकेंगे।

रेलवे अधिकारियों के अनुसार, पिछले साल की तरह ही ट्रेन दिल्ली से चलकर भगवान राम से जुड़े तीर्थ स्थलों की यात्रा कराते हुए लौटेगी। इस ट्रेन से एक बार में 690 यात्री सफर करेंगे। इस बार स्लीपर क्लास के साथ ही वातानुकूलित कोच की भी सुविधा होगी। स्लीपर क्लास में यात्रा करने के लिए एक व्यक्ति का किराया 16,065 रुपये होगा। एसी थ्री श्रेणी में यात्रा के लिए 26775 रुपये प्रति व्यक्ति खर्च करने होंगे। इस पैकेज में खाने, रहने और स्थानीय जगहों पर घूमने के लिए टैक्सी/बस की व्यवस्था होगी।

16 रातों और 17 दिन के टूर में यात्री राम जन्मभूमि, नंदीग्राम स्थित भारत मंदिर, बिहार के सीतामढ़ी स्थित सीता माता मंदिर, जनकपुर स्थित तुलसी मानस मंदिर, वाराणसी स्थित संकट मोचन मंदिर, उत्तर प्रदेश के सीतामढ़ी स्थित सीता समाहित स्थल, त्रिवेणी संगम, हनुमान मंदिर, प्रयाग स्थित भारद्वाज आश्रम, श्रीरंगवीरपुर स्थित श्रीरंग राशि मंदिर, रामघाट, चित्रकूट स्थित सती अनुसूइया मंदिर, नासिक स्थित पंचवटी अंतनादारी हिल, हंपी स्थित हनुमान जन्म स्थल, रामेश्वरम स्थित शिव मंदिर के दर्शन करेंगे। नवरात्र के दौरान यात्रियों को फलाहार भी दिया जाएगा।

विमान से 40 यात्री जाएंगे श्रीलंका
श्रीलंका जाने वाले यात्रियों को विमान से ले जाया जाएगा। इसका किराया अलग से लिया जाएगा। श्रीलंका के लिए विमान चेन्नई से 11 अप्रैल को उड़ान भरेगा। श्रीलंका में 3 रात ठहरने की व्यवस्था होगी। 40 यात्री श्रीलंका जाएंगे। पैकेज की कीमत प्रतिव्यक्ति 37,800 रुपये होगी। श्रीलंका के दौरे के पैकेज में यात्रियों को कोलंबो, कैंडी, नुवारा, एलिया और निगांबो स्थित सीता माता मंदिर, अशोक वाटिका, विभीषण टेंपल व शिव टेंपल घूमने का मौका मिलेगा। 15 अप्रैल को कोलंबो से दिल्ली वापसी होगी। इस टूर पैकेज की बुकिंग आईआरसीटीसी की वेबसाइट से की जा सकेगी।  
... और पढ़ें

दिल्ली महिला आयोग अध्यक्ष स्वाति मालीवाल ने नवीन से लिया तलाक, कहा- बहुत मिस करूंगी

दिल्ली महिला आयोग की अध्यक्ष स्वाति मालीवाल ने पति नवीन जयहिंद से तलाक ले लिया है। स्वाति ने इस बात की जानकारी अपने आधिकारिक ट्विटर हैंडल पर दी। उन्होंने एक भावुक पोस्ट लिखकर अपने तलाक के बारे में बताया।

स्वाति ने अपने ट्वीट में लिखा है कि वह सबसे दुखद क्षण होता है जब आपकी परीकथा खत्म हो जाती है। मेरी खत्म हो गई  है। मैंने और नवीन ने तलाक ले लिया है। कई बार दो बहुत अच्छे लोग एक साथ नहीं रह सकते। मैं हमेशा उन्हें याद करूंगी और उस जिंदगी को भी जो हमारी हो सकती थी।

जैसा कि स्वाति ने अपने ट्वीट में लिखा कि कई बार दो अच्छे लोग एक साथ नहीं रह सकते। इसका एक बड़ा उदाहरण नवीन जयहिंद का एक ट्वीट है। दरअसल, स्वाति मालीवाल दिसंबर 2019 में महिलाओं के खिलाफ होने वाले अपराधों के दोषियों की सजा के लिए सख्त कानून बनाने के मांग के लिए कई दिनों तक भूख हड़ताल पर बैठी थीं। इस दौरान उनकी हालत इतनी खराब हो गई थी कि स्वाति को एलएनजेपी अस्पताल में भर्ती कराना पड़ा था। 

उस वक्त नवीन जयहिंद ने पत्नी को शेरनी और मर्दानी संबोधित करते हुए उनकी तारीफों के कसीदे पढ़े थे। उन्होंने लिखा था, स्वाति शेरनी है मुर्दा नहीं मर्दानी है। सोये हुए लोगों को जगाया जाता है, पर मुर्दों को जगाने चली है। मुर्दे कभी जागते नहीं हैं। इस जंगल में जंग जिंदा रहके लड़ी जाती है, मरके तो जंग नहीं लड़ी जा सकती। रेपिस्टों को फांसी के लिए 13 दिन से अनशन पर है। मर भी जाएगी तो 13 दिन भी याद नहीं रखेंगे लोग।
 

 
  ... और पढ़ें
अपने शहर की सभी खबर पढ़ने के लिए amarujala.com पर जाएं

Disclaimer

अपनी वेबसाइट पर हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर अनुभव प्रदान कर सकें, वेबसाइट के ट्रैफिक का विश्लेषण कर सकें, कॉन्टेंट व्यक्तिगत तरीके से पेश कर सकें और हमारे पार्टनर्स, जैसे की Google, और सोशल मीडिया साइट्स, जैसे की Facebook, के साथ लक्षित विज्ञापन पेश करने के लिए उपयोग कर सकें। साथ ही, अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।

Agree
Election
  • Downloads

Follow Us