बेहतर अनुभव के लिए एप चुनें।
TRY NOW
विज्ञापन
विज्ञापन
नवरात्रि कराएं कामाख्या बगलामुखी कवच का पाठ व हवन
Astrology

नवरात्रि कराएं कामाख्या बगलामुखी कवच का पाठ व हवन

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
Digital Edition

ग्राउंड रिपोर्ट : कोरोना से बेखौफ लोग बोले ...अब क्या रोजी-रोटी बंद कर दें

जिस तेजी के साथ दिल्ली में कोरोना के मामले बढ़ रहे हैं, उसे देखकर ऐसा लगता है कि जल्द ही पूरी दिल्ली कोरोना की चपेट में होगी। सरकार ने कोरोना की जांच तेज कर दी है, रविवार को सरकार ने जानकारी दी कि 24 घंटे के भीतर दिल्ली में रिकॉर्ड तोड़ 10732 लोग कोरोना पॉजिटिव पाए गए हैं, लेकिन इतना सब कुछ होने के बावजूद रविवार को पुराना किला, बगल में चिड़ियाघर, दूसरी तरफ इंडिया गेट और लाल किले के सामने पटरी बाजार में लोगों की भीड़ देखकर ऐसा लगा मानो दिल्ली वासी यह साबित करने पर तुले हों कि कोरोना जितना मर्जी बढ़े उन्हें परवाह नहीं है। पटरी बाजार में कुछ लोगों से बातचीत हुई तो उन्होंने कहा कि क्या करें  रोजी-रोटी बंद कर दें। पेश है इन स्थानों पर पड़ताल करने पहुंचे अमर उजाला संवाददाता आदित्य पाण्डेय की लाइव रिपोर्ट-

स्थान : लाल किले के सामने पटरी बाजार
समय : दोपहर 1.45 बजे
लोग बोले-दिल्ली में झूठ-मूठ का कोरोना फैलने की अफवाह
स्थानीय लोगों ने बताया कि लालकिला बंद है, तो नजर लालकिले के सामने चांदनी चौक की तरफ लगे पटरी बाजार की तरफ चली गई। जामा मस्जिद के पास तक लगा पटरी बाजार और यहां जुटी भीड़ देखकर लगा जैसे यह दिल्ली नहीं कोई और जगह है। पटरी बाजार के अंदर इस कदर भीड़ थी कि अंदर घुसने की हिम्मत नहीं हुई। फिलहाल कुछ लोगों से बातचीत हुई तो लोगों ने कहा कि क्या करेें रोजी-रोटी बंद कर दें। उन्होंने कहा कि उनको कोरोना नहीं होगा। कइयों ने तो यहां तक कह दिया कि सरकार झूठ बोल रही है और कोरोना बहुत बड़ी अफवाह है। आफताब ने कहा कि बंगाल में चुनाव है तो वहां पर आखिर कोरोना क्यों नहीं है। दिल्ली में झूठ मूठ का कोरोना फैलने की अफवाह है।

स्थान : पुराना किला, मथुरा रोड
समय : दोपहर 12 बजे
ऑनलाइन टिकट बुक करने के चक्कर में भूले सोशल डिस्टेंसिंग
पुराने किले के सामने ऑटो रिक्शा की भीड़ देखकर अंदाजा लगाना आसान था कि आज यहां पर भीड़भाड़ अधिक है। आगे बढ़ने पर पता चला कि वाकई पुराना किला घूमने बड़ी संख्या में लोग पहुंचे हैं। लोगों का आने-जाने का सिलसिला जारी था। लोग गार्ड से टिकट के विषय में जानकारी लेते नजर आए। मेन गेट के बायीं ओर छोटे से पार्क में ऑनलाइन टिकट बुक करने के लिए दो क्यूआर कोड लगाए गए थे। यहां सैकड़ों लोग टिकट बुक करने की आपाधापी में थे। सोशल डिस्टेंसिंग का किसी को ख्याल नहीं था, यहां पहुंचे ज्यादातर लोग मास्क के प्रति भी लापरवाह हो चुके थे। कई लोगों के नाक पर से मास्क हट चुका था, कइयों के चेहरे पर मास्क ही नहीं था।

स्थान : चिड़ियाघर, मथुरा रोड
समय : दोपहर 12.30 बजे
मास्क क्यों नहीं लगाया पूछने पर जवाब नहीं दिया
चिड़ियाघर के सामने लोगों का हुजूम देखनेे लायक था। रविवार का दिन था तो लोग परिवार के साथ फुरसत से यहां घूमने पहुंचे थे, लेकिन लोग बिना सोशल डिस्टेंसिंग के एक-दूसरे से सटकर बैठेे हुए थे। फोटो खींचते देखने पर लोग संकोच के साथ अपना मास्क चेहरे पर लगाते भी नजर आए। कई लोगों से बातचीत हुई, पूछा कि आखिर मास्क क्यों नहीं लगाया है तो उन्होंने जवाब नहीं दिया, बस मुस्कराने लगे। फूड स्टॉल पर जबरदस्त भीड़भाड़ थी। छोटे बच्चे, महिलाएं सब के सब बेपरवाह और कोरोना से बेखौफ मस्ती करते नजर आए।

स्थान : इंडिया गेट, अशोक रोड मोड़
समय : दोपहर 1.00 बजे
मना करने के बावजूद लोग सेल्फी खींचते नजर आए
इंडिया गेट पर भी लोगों की भीड़भाड़ कम नहीं थी। इंडिया गेट की तरफ जाने का रास्ता बंद था। यहां पर बैरीकेडिंग लगी थी, इसके अलावा यहां पर दिल्ली पुलिस, ट्रैफिक पुलिस और आरएएफ के जवान भी नजर आए। यहां पर रुकने के लिए मना करने के बावजूद लोग सेल्फी खींचते नजर आए। आसपास में लोग मौज-मस्ती करते नजर आ रहे थे, लेकिन सोशल डिस्टेंसिंग नहीं थी।
... और पढ़ें
लाल किले के सामने पटरी बाजार का हाल... लाल किले के सामने पटरी बाजार का हाल...

ट्रक ने सिविल डिफेंस कर्मी को 15 सौ मीटर तक घसीटा, मौत, चालक गिरफ्तार

बाबा हरिदास नगर इलाके में सिविल डिफेंसकर्मी का तेज रफ्तार ट्रक को रोकने का इशारा करना जानलेवा साबित हुआ। चालक ने पीड़ित पर ट्रक चढ़ा दी। घटना के दौरान सिविल डिफेंसकर्मी ट्रक के अगले हिस्से में फंस गया और चालक उसे करीब पंद्रह सौ मीटर तक घसीटता ले गया।

घटना के बाद पीसीआर वैन ने ट्रक का पीछा किया और ढिचाऊं गांव के पास चालक को दबोच लिया। घायल सिविल डिफेंस कर्मी को पास के अस्पताल में पहुंचाया गया। जहां उसे मृत घोषित कर दिया है। पुलिस ने मामला दर्ज कर ट्रक चालक को गिरफ्तार कर लिया है। 

जिला पुलिस उपायुक्त संतोष कुमार मीणा ने बताया कि मृतक की शिनाख्त पुनीत गुप्ता(27) के रूप में हुई है। वह पूर्वी दिल्ली के गणेश नगर इलाके में रहता था। वह सिविल डिफेंस में कार्यरत था। उसकी तैनाती ट्रांसपोर्ट डिपार्टमेंट के कर्मचारियों के साथ थी। 

ट्रांसपोर्ट विभाग में तैनात एसआई रविंद्र शर्मा ने पुलिस को बताया कि वह अपने सहयोगी एएसआई अशोक कुमार, हवलदार प्रवीण, सिपाही अनिल राणा, महेंद्र और सिविल डिफेंसकर्मी पुनीत के साथ शनिवार रात आठ बजे से रविवार सुबह चार बजे तक नजफगढ-नांगलोई रोड पर तैनात था। देर रात करीब साढ़े 12 बजे एक तेज रफ्तार ट्रक को पुनीत ने जांच के लिए रुकने का इशारा किया। मगर चालक ने रफ्तार बढ़ा दी और पुनीत को टक्कर मार दी। टक्कर लगने से पुनीत ट्रक के अगले हिस्से में फंस गया। 

वहां मौजूद लोगों ने चालक को ट्रक रोकने के लिए कहा लेकिन चालक तेज रफ्तार से ट्रक को भगाकर ले गया। वहां मौजूद पीसीआर की एक वैन ने ट्रक का पीछा किया। करीब 15 सौ मीटर दूर जाकर पुनीत ट्रक से गिर गया। उसके सहयोगियों ने उसे पास के अस्पताल ले गए। जबकि पीसीआर वैन और ट्रांसपोर्ट विभाग के कर्मचारियों ने ट्रक का पीछा कर ढिचाऊं गांव के पास चालक को दबोच लिया।

पुनीत को अस्पताल में मृत घोषित कर दिया गया। ट्रक चालक की पहचान नजफगढ़ निवासी देवेंद्र सिंह(55) के रूप में हुई है। पुलिस उसके खिलाफ लापरवाही से वाहन चलाने से हुई मौत का मामला दर्ज कर जांच कर रही है। 
... और पढ़ें

मौसम का हाल : दिन के साथ अब रात भी गर्म होगी, लू के हालात

न्यूनतम तापमान में आ रही कमी की वजह से सुबह-शाम गर्मी से मिल रही राहत अब खत्म होगी। अगले दो दिन के भीतर दिल्ली का तापमान 40 डिग्री सेल्सियस तक पहुंचेगा। साथ ही न्यूनतम तापमान में भी वृद्धि होगी। इससे दिन के साथ-साथ रात भी गर्म होगी और दिन में लू चलने की संभावना है। वहीं सप्ताह के अंत तक बादल छाए रहने के साथ हल्की बारिश की संभावना है। इससे आंशिक रूप से गर्मी से राहत मिलेगी। 

मौसम विभाग के आंकड़ों के मुताबिक, रविवार को दिल्ली के कई इलाकों का तापमान 40 के पार दर्ज किया गया। वहीं, एनसीआर में शामिल गुरुग्राम में भी अधिकतम तापमान 40 को पार कर गया।

प्रादेशिक मौसम विभाग के मुताबिक, रविवार को राजधानी का अधिकतम तापमान सामान्य से तीन अधिक 38.8 डिग्री सेल्सियस और न्यूनतम तापमान सामान्य से पांच कम 16 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। न्यूनतम तापमान का रिकॉर्ड पिछले एक दशक में सबसे कम रहा। इससे पहले वर्ष 2014 में न्यूनतम तापमान 17 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया था। पिछले 24 घंटे में हवा में नमी का अधिकतम स्तर 62 फीसदी और न्यूनतम 17 फीसदी रहा।

इसके अलावा दिल्ली के स्पोर्ट्स कांप्लेक्स इलाके में अधिकतम तापमान 40 डिग्री को पार करते हुए 41.3 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। पूसा में 40 डिग्री, नजफगढ़ में 40.3, नरेला में 40.8 व रिज इलाके में 41.2 और एनसीआर में शामिल गुरुग्राम में अधिकतम तापमान 40.4 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया।

मौसम विभाग के मुताबिक, सप्ताह के अंत तक बादल छाए रहने के साथ हल्की बारिश की संभावना है। इससे आंशिक रूप से गर्मी से राहत मिलेगी। वहीं, दिल्ली-एनसीआर की हवा रविवार को भी औसत श्रेणी में बनी रही। केवल गाजियाबाद की हवा 232 के साथ खराब श्रेणी में दर्ज की गई। वहीं, दिल्ली का औसत वायु गुणवत्ता सूचकांक 186 दर्ज किया गया। सफर के मुताबिक, अगले 24 घंटे में भी हवा की स्थिति में बदलाव नहीं होने की संभावना है और स्थिति यथावत रहेगी।
... और पढ़ें

दिल्ली : 24 घंटे में रिकॉर्ड 10732 संक्रमित, केजरीवाल बोले- लॉकडाउन कोई हल नहीं लेकिन...

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने आज प्रेस कॉन्फ्रेंस कर दिल्ली में बीते 24 घंटे में कितने मामले आए और शनिवार को राजधानी में जो पाबंदियां बढ़ाई गई हैं उन्हें लेकर जानकारी दी। मुख्यमंत्री ने बताया कि दिल्ली में कोरोना बहुत तेजी से बढ़ रहा है और बीते 24 घंटे में 10732 केस आए हैं जो अब तक सबसे ज्यादा है। दिल्ली में कोरोना की शुरुआत से लेकर आज तक इतने मामले नहीं आए थे जितने बीते 24 घंटे में आए हैं।

केजरीवाल ने कहा कि दिल्ली में कोरोना की चौथी लहर बेहद खतरनाक है और बहुत तेजी से लोग इसकी चपेट में आ रहे हैं। उन्होंने बताया कि कोरोना की चौथी लहर बेहद खतरनाक है और इससे निपटने के लिए हम सबका सहयोग ले रहे हैं। इससे पार पाने के लिए दिल्ली सरकार तीन स्तरों पर काम कर रही है। 

पहला कि इसे फैलने से कैसे रोका जाए- इसके लिए मुख्यमंत्री ने लोगों से आग्रह किया कि कोरोना तभी रुक सकता है जब जनता सतर्क रहे। जब बहुत जरूरी हो तभी घर से निकले। अगर जरूरी नहीं है तो घर पर ही रहें, सामाजिक आयोजनों में कम से कम शामिल हों। उन्होंने कहा कि बढ़ते कोरोना को देखते हुए सरकार को मजबूरीवश कुछ अधिक पाबंदियां लगानी पड़ी हैं।

दूसरा है अस्पताल मैनेजमेंट- सीएम केजरीवाल ने बताया कि कल वह एलएनजेपी अस्पताल गए थे। वहां जिस तरह से काम चल रहा है उसे देखकर वह सभी स्वास्थ्यकर्मियों को सैल्यूट करते हैं जो बीते एक साल से इस महामारी से लड़ रहे हैं। केजरीवाल ने आग्रह किया कि स्वास्थ्यकर्मचारी तो अपना काम कर ही रहे हैं लेकिन जनता को भी इसमें पिछली बार की तरह अपनी भागीदारी देनी होगी।



एप देखकर अस्पताल जाएं
उन्होंने कहा कि उन्हें कई मैसेज आए हैं कि लोगों को अस्पताल में बेड नहीं मिल रहा है। अगर ऐसा है तो करीब छह महीने पहले दिल्ली सरकार ने अस्पतालों में बेड की संख्या देखने के लिए जो एप बनाया था वह आज भी काम कर रहा है, लोग उसका इस्तेमाल करें। अस्पताल दर अस्पताल भटकने की बजाय पहले उस एप में बेड की स्थित पता करें फिर मरीज को अस्पताल लेकर जाएं।

सरकारी अस्पतालों में भी जाएं, वहां सुविधाएं अच्छी हैं
इसके साथ ही उन्होंने लोगों से सरकारी अस्पतालों इलाज कराने की अपील की। केजरीवाल बोले कि देखा जाता है कि कुछ लोग निजी अस्पताल के पीछे ही दौड़ते हैं लेकिन आप दिल्ली के सरकार अस्पतालों में भी इलाज करा सकते हैं वहां अच्छा इलाज व सुविधा आपको मिलेगी।

अगर अस्पतालों में बेड भरे तो होगा लॉकडाउन
उन्होंने ये भी अनुरोध किया कि अगर बहुत जरूरी लगे तब ही अस्पताल जाएं अन्यथा होम आइसोलेशन में रहें। अगर सामान्य लक्षण वाले भी अस्पतालों में बेड भरने लगेंगे तो गंभीर मरीजों परेशानी का सामना करना पड़ेगा। उन्होंने ये भी बताया कि अगर अस्पतालों में बेड भर गए तो दिल्ली में लॉकडाउन लगाना ही पड़ेगा। ऐसे में जनता सहयोग करे और जरूरत हो तभी अस्पताल में जाए।

तीसरा है वैक्सीनेशन- केजरीवाल का कहना है कि हमारे देश में ये बड़ी विडंबना है कि हम वैक्सीन के बड़े उत्पादक हैं और वैक्सीन आ भी चुकी है लेकिन उसके बाद भी देश में कोरोना तेजी से बढ़ रहा है। यह बहुत ही विरोधाभासी स्थिति है। ऐसे में हमें युद्धस्तर पर पूरे देश में बिना किसी आयु सीमा के वैक्सीनेशन शुरू करना चाहिए। जितनी तेजी से लोगों को वैक्सीन लगेगा उतनी ही तेजी से संक्रमण के विस्तार को रोका जा सकता है। 

दिल्ली में चौथी लहर में कोरोना संक्रमित हुए लोगों का आंकड़ा अध्ययन करने के बाद पता चलता है कि इस बार 65 प्रतिशत मरीज 45 साल से कम उम्र के हैं। ऐसे में अगर इस आयु वर्ग के लोगों को टीका नहीं लगेगा तो संक्रमण कैसे रुकेगा। अगर टीकाकरण तेज कर दिया जाए तो कोरोना का संक्रमण कुछ हद तक रोका जा सकता है। उन्होंने एक बार फिर उस बात पर जोर दिया कि अगर दिल्ली को ज्यादा टीकाकरण केंद्र बनाने और आयु का कोई बंधन न रखने की इजाजत दी जाए तो दो-तीन महीने में पूरी दिल्ली का टीकाकरण किया जा सकता है।
... और पढ़ें

नोएडा : झुग्गियों में लगी भीषण आग, दो बच्चों की मौत, दमकल की 30 गाड़ियां मौके पर, सिलेंडर फटने से मचा कोहराम

अरविंद केजरीवाल
नोएडा में रविवार दोपहर भीषण आग लग गई। आग थाना फेस-3 क्षेत्र के सेक्टर-63 स्थित बहलोलपुर की झुग्गियों में लग गई है। दमकल विभाग की 30 गाड़ियां मौके पर पहुंच गई हैं, बावजूद इसके आग पर काबू नहीं पाया गया। आग लगने से चारों तरफ अफरा-तफरी मच गई है। 

बताया जा रहा है कि जहां आग लगी है, वहां करीब 12 सौ झुग्गियां हैं। आग में जलकर दो बच्चों की मौत हो गई है। दोनों बच्चों को उसकी मां सुलाकर काम पर गई थी। तभी यह हादसा हुआ। मौके पर पुलिस बल व फायर ब्रिगेड द्वारा आग को बुझाने का प्रयास किया जा रहा है।

जानकारी के मुताबिक, पांच सौ से अधिक झुग्गियां जलकर राख हो गईं। आग लगने के एक मिनट के अंदर झुग्गियां आग का गोला बन गईं। झुग्गियों में रखे सिलेंडर फटने से कोहराम मच गया है। लोगों के कपड़े, पैसों से लेकर बर्तन तक जल गए, खाने को मोहताज हो रहे। वहीं, बिजली के तार से आग लगने की आशंका जताई जा रही है।



अधिकतर पीड़ित बिहार के नालंदा और शेखपुरा जिले के रहने वाले हैं। झोपड़ियों में कबाड़ का सामान रखा होने के कारण आग तीव्र गति से फैल रही है। आसपास के सेक्टरों में धुआं ही धुआं है। चारों तरफ धुएं का गुबार बन गया है। 
... और पढ़ें

दिल्ली : किन्नरों की गुरु एकता जोशी का हत्यारोपी गगन पंडित साथी के साथ गिरफ्तार, 55 लाख की ली थी सुपारी

दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल ने इनामी गैंगस्टर गगन पंड़ित को उसके साथी वरुण के साथ गिरफ्तार किया है। गिरफ्तारी के समय आरोपियों ने पुलिस टीम पर गोली चला दी थी। गगन पंडित ने सुपारी लेकर जीटीबी एंक्लेव इलाके में किन्नरों की गुरु एकता जोशी की गोली मारकर हत्या कर दी थी। उसे किन्नरों के दूसरे गुट ने एकता जोशी की हत्या के लिए 55 लाख रुपये की सुपारी दी थी। इसमें फरीदाबाद के एक किन्नरों का गुट भी शामिल है। दिल्ली पुलिस ने गगन पंडित पर एक लाख व वरुण पर 50 हजार रुपये का इनाम रखा हुआ था।

स्पेशल सेल डीसीपी प्रमोद कुशवाहा के अनुसार गिरफ्तार दोनों आरोपी पांच सितंबर, 20 में जीटीबी एंक्लेव में किन्नरों की गुरु एकता जोशी की हत्या में वांछित थे। एकता जोशी अपनी मां अनिता जोशी व भाई आशीष जोशी के साथ जब जीटीबी एंक्लेव स्थित घर पहुंची और कार से उतरकर घर की तरफ जा रही थी तभी स्कूटी पर गगन पंडित व आमिर वहां आए। आमिर स्कूटी चला रहा था। गगन पंडित ने किन्नर गुरु एकता जोशी की छह गोलियां मारकर हत्या कर दी थी। हत्या का ये मामला कई दिनों तक मीडिया की सुर्खियां बना रहा। इंस्पेक्टर शिव कुमार को सूचना मिली थी कि गगन पंडित व वरुण हरियाणा नंबर की स्कोर्पियो कार से दस अप्रैल को सुबह निरंकारी समागम के पास आएंगे।

एसीपी अत्तर सिंह की देखरेख में इंस्पेक्टर शिवकुमार, कर्मवीर, पवन कुमार और एसआई राजेश कुमार की टीम ने सुबह पांच बजे यहां घेराबंदी की। तभी मजलिस पार्क मेट्रो स्टेशन साइड की तरफ से स्कोर्पियो कार आती हुई दिखाई दी। पुलिस टीम ने चालक को रुकने का इशारा किया तो बदमाशों ने पुलिस टीम पर गोली चला दीं। पुलिस टीम ने पश्चिम विहार निवासी गगन पंडित उर्फ गगन भारद्वाज(33) और लाल कुंआ निवासी वरुण उर्फ वीरू उर्फ गौरव(19)को बिना फायरिंग दबोच लिया। गगन के पास से चार कारतूस के साथ .32 बोर की स्वचालित पिस्टल और वरुण के कब्जे से दो कारतूस के साथ.315 बोर की सिंगल सूट पिस्टल बरामद की। मौके से एक खोल मिला।

दिल्ली व फरीदाबाद के विरोधी किन्नरों ने दी थी सुपारी
गगन पंडित ने खुलासा किया है कि उसने एकता जोशी की हत्या करने के लिए 55 लाख रुपये की सुपारी ली थी। वारदात को सात लोगों ने अंजाम दिया था। जीटीबी एंक्लेव के ही किन्नरों के एक ग्रुप के सदस्य मंजूर एलाही व कमल ने एकता जोशी व उसकी सौतेली मां अनिता जोशी की हत्या की सुपारी दी थी। मंजूर एलाही ने ही उसे 55 लाख रुपये में सुपारी दी थी। तीन किश्तों में 15 लाख रुपये एडवांस में दे दिए थे। फरीदाबाद के किन्नरों के एक ग्रुप की प्रमुख सोनम व वर्षा भी इस वारदात की साजिश में शामिल थीं। ट्रांस यमुना के एरिया को लेकर किन्नरों के ग्रुप में रंजिश चल रही थी।

गगन के खिलाफ 14 मामले दर्ज हैं
गगन पंडित आदतन बदमाश है। उसके खिलाफ दिल्ली व यूपी में हत्या का एक, हत्या के प्रयास के चार, डकैती के तीन व आर्म एक्ट और चोरी के मामले समेत 14 अपराधिक मामले दर्ज हैं। देशबंधु गुप्ता रोड इलाके में रॉबरी केस में भी वह वांछित था।
... और पढ़ें

वेदना और संवेदना : भूख और बीमारी से मौत, पूरे दिन झोपड़ी में ही पड़ा रहा शव

गाजियाबाद : फ्लैट में आग लगने से फटा सिलेंडर, एक बच्चे की मौत, पांच लोग गंभीर रूप से घायल

Election
  • Downloads

Follow Us

विज्ञापन
X

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00
X