“तमाम किताबें जो नहीं कर पातीं वह असर एक फिल्म कर जाती है” : राज्यपाल सत्यपाल मलिक

अमर उजाला ब्यूरो, गोवा Updated Thu, 28 Nov 2019 10:03 PM IST
विज्ञापन
IFFI 2019
IFFI 2019 - फोटो : PTI

पढ़ें अमर उजाला ई-पेपर
कहीं भी, कभी भी।

*Yearly subscription for just ₹299 Limited Period Offer. HURRY UP!

ख़बर सुनें
गोवा, मांडवी नदी की मचलती लहरों को यहां गुरुवार की शाम जब सूरज की सुनहरी किरणों ने चूमा तो देश में सिनेमा का सबसे बड़ा मेला भारतीय अंतर्राष्ट्रीय फिल्म महोत्सव अगले साल फिर मिलने के वादे के साथ अपने अंतिम पड़ाव पर पहुंच गया। समापन समारोह के मुख्य अतिथि गोवा के राज्यपाल सत्यपाल मलिक ने इस मौके पर कहा कि तमाम किताबें जो काम नहीं कर पातीं, वह एक फिल्म कर जाती है। तीसरी कसम और गंगा जमना जैसी फिल्मों ने उनके व्यक्तित्व को गढ़ने में अहम भूमिका निभाई है।
विज्ञापन

आठ दिन तक लगे इस मेले के आखिरी दिन फ्रांस और स्विटजरलैंड के संयुक्त प्रयास से बनी फिल्म पार्टिकल्स को स्वर्ण मयूर पुरस्कार यानी सर्वश्रेष्ठ फिल्म का पुरस्कार देने का ऐलान किया गया। महोत्सव का रजत मयूर पुरस्कार यानी किसी फिल्ममेकर की पहली फिल्म का खिताब रोमानिया की फिल्म मॉन्सटर्स और अल्जीरिया के गृह युद्ध पर बनी फिल्म अबाउ लीला को दिया गया।
भारतीय अंतर्राष्ट्रीय फिल्म महोत्सव का ये स्वर्ण जयंती वर्ष रहा और इस खास मौके का जश्न यहां आठ दिन तक चली 200 फिल्मों के प्रदर्शन के साथ मनाया गया। इस दौरान सिनेमा को लेकर तमाम महफिलें जमीं। तमाम बहसें, सवाल जवाब हुए। और, आखिरी दिन सब यहां से यही संदेश लेकर निकले कि सिनेमा जैसा समाज को जोड़ने का साधन आज के समय में दूसरा मिलना मुश्किल है। महोत्सव के समापन में देश विदेश के जिन दिग्गज कलाकारों ने अपनी मौजूदगी दर्ज कराई, उनमें मशहूर संगीतकार इलय्याराजा, जापानी फिल्मकार तकाशी मीके, भारतीय निर्देशक रमेश सिप्पी व रोहित शेट्टी और मशहूर कलाकार विजय देवराकोंडा, प्रसनजीत चटर्जी और रकुलप्रीत सिंह आदि प्रमुख रहे।
विज्ञापन
आगे पढ़ें

विज्ञापन
विज्ञापन
 
रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें अमर उजाला हिंदी न्यूज़ APP अपने मोबाइल पर।
Amar Ujala Android Hindi News APP Amar Ujala iOS Hindi News APP
विज्ञापन

Spotlight

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
Election
  • Downloads

Follow Us

X

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00
X