विकास सिंह बोले- रिया चक्रवर्ती ने सुशांत को उनकी मर्जी के बिना ड्रग्स दिया

एंटरटेनमेंट डेस्क, अमर उजाला Updated Wed, 07 Oct 2020 07:30 PM IST
विज्ञापन
रिया चक्रवर्ती
रिया चक्रवर्ती - फोटो : फाइल फोटो

पढ़ें अमर उजाला ई-पेपर
कहीं भी, कभी भी।

*Yearly subscription for just ₹299 Limited Period Offer. HURRY UP!

ख़बर सुनें
ड्रग्स केस में नाम आने के बाद न्यायिक हिरासत में करीब एक महीने से ज्यादा समय बिताने के बाद रिया चक्रवर्ती (Rhea chakraborty) जमानत पर रिहा हो गई हैं। बॉम्बे हाई कोर्ट ने उन्हें जमानत दे दी है। कोर्ट ने कहा कि रिया चक्रवर्ती किसी भी ड्रग डीलर्स की चेन का हिस्सा नहीं हैं। ऐसे में उन्हें जेल में रखना उचित नहीं है।  
विज्ञापन

दरअसल एनसीबी को जो चैट्स मिले थे उसके हिसाब से रिया पर आरोप था कि रिया का ड्रग पैडकर के संपर्क में थीं। वहीं कोर्ट में इसके सुबूत ना दे पाने की वजह से रिया पर आरोप साबित नहीं हो पाए।
इस मामले में अब सुशांत के परिवार के वकील विकास सिंह का बयान आया है। विकास सिंह ने कहा है रिया को आज जो जमानत मिली है ये नारकोटिक्स कंट्रोल के केस में है। इससे बहुत बड़ा केस ये है रिया ने सुशांत को नारकोटिक्स उनकी मर्जी के बिना दिया। अगर उनकी मर्जी से भी दिया तो क्या उन डॉक्टरों को बताया, जिनके पास वो सुशांत को ले जाती थीं।
उन्होंने आगे कहा- आज हमने CBI डायरेक्टर को चिट्ठी लिखी है, उनसे मांग की है कि एक नई फॉरेंसिक टीम का गठन किया जाए जिसके द्वारा कूपर अस्पताल द्वारा तैयार की गई रिपोर्ट की जांच की जाए। हमारा CBI डायरेक्टर को चिट्ठी लिखना जांच में दखल बिल्कुल भी नहीं है, निष्पक्ष जांच हमारा अधिकार है, इसके लिए हमें जो भी कदम उठाना पड़ेगा, हम वो उठाएंगे। CBI हमारा पहला कदम है, अगर CBI कार्रवाई नहीं करती है तो हम कोर्ट में भी जाएंगे।

बता दें इस मामले में फॉरेंसिक जांच कर रही एम्स के डॉक्टरों की टीम ने माना है कि दिवंगत अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत ने आत्महत्या की थी। एम्स की इस रिपोर्ट पर सीबीआई ने भी मोहर लगा दी है। जिसके बाद विकास सिंह ने एम्स की रिपोर्ट पर सवाल खड़े किए हैं। साथ ही रिपोर्ट को दोषपूर्ण बताया है।
 
विज्ञापन
विज्ञापन
 
रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें अमर उजाला हिंदी न्यूज़ APP अपने मोबाइल पर।
Amar Ujala Android Hindi News APP Amar Ujala iOS Hindi News APP
विज्ञापन

Spotlight

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
Election
  • Downloads

Follow Us

X

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00
X