‘रीमिक्स बागची’के हाथों में अब मसकली की किस्मत, रहमान का एक और गाना रीक्रिएशन के डिब्बे में

अमर उजाला ब्यूरो, मुंबई Updated Mon, 06 Apr 2020 02:59 PM IST
विज्ञापन
Tanishk Bagchi
Tanishk Bagchi - फोटो : social media

पढ़ें अमर उजाला ई-पेपर
कहीं भी, कभी भी।

*Yearly subscription for just ₹299 Limited Period Offer. HURRY UP!

ख़बर सुनें
विश्व प्रख्यात संगीतकार ए आर रहमान को मशहूर गानों का रीक्रिएट वर्जन नहीं भाता है। वह खुद भी यह बात कह चुके हैं कि उन्हें ऐसे गाने पसंद नहीं हैं, फिर भी म्यूजिक कंपनियां उन पर दबाव बनाती हैं कि वह इस तरह के गानों को सपोर्ट करें। उनका मानना रहा है कि लोग असल संगीत के महत्व को महसूस करते हैं। बावजूद इसके दिल्ली 6 के उनके कंपोज किए गाने मसकली को रीक्रिएट किया जा रहा है। रीक्रिएशन की यह जिम्मेदारी फिर उन्हीं पर जिनका नाम ही ‘रीमिक्स बागची’ पड़ गया है।
विज्ञापन

तनिष्क बागची की पहचान मुंबई फिल्म इंडस्ट्री में रीमिक्स म्यूजिशियन के तौर पर होती है। ओरीजनल गाना उन्होंने आखिरी बार कौन सा बनाया, श्रोताओं को पता ही नहीं। वह अब तक करीब दो दर्जन से भी अधिक गानों को रीमिक्स कर चुके हैं, जिनमें हम्मा हम्मा, चीज बड़ी, मेरे रश्के कमर, दिलबर, आंख मारे, मुकाबला, नाचन नु जी करदा, याद पिया की आने लगी, मेरे अंगने में आदि शामिल हैं।
विज्ञापन
आगे पढ़ें

विज्ञापन
विज्ञापन
 
रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें अमर उजाला हिंदी न्यूज़ APP अपने मोबाइल पर।
Amar Ujala Android Hindi News APP Amar Ujala iOS Hindi News APP
विज्ञापन

Spotlight

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
Election
X

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00
X
  • Downloads

Follow Us