बेहतर अनुभव के लिए एप चुनें।
INSTALL APP
विज्ञापन
विज्ञापन
इस गायत्री जयंती फ्री में कराएं गायत्री मंत्र का जाप एवं हवन,  दूर होंगी समस्त विपदाएं - रजिस्टर करें
Myjyotish

इस गायत्री जयंती फ्री में कराएं गायत्री मंत्र का जाप एवं हवन, दूर होंगी समस्त विपदाएं - रजिस्टर करें

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

From nearby cities

विज्ञापन
Digital Edition

गोरखपुर: सीएम के जनता दरबार में पहुंची महिला तो दर्ज हुआ दुष्कर्म का केस, कई महीने से लगा रही थी थाने का चक्कर

मुख्यमंत्री के जनता दरबार में शुक्रवार को एक महिला पहुंची और दुष्कर्म के मामले में कैंट पुलिस पर कार्रवाई ना करने का आरोप लगाया। यह सुनते ही मुख्यमंत्री नाराज हो गए और फिर एसएसपी को कार्रवाई का निर्देश दिया। एसएसपी के आदेश पर हरकत में आई कैँट पुलिस ने दुष्कर्म का केस दर्ज करने के साथ ही पीड़िता का मेडिकल भी करा दिया। आरोपी के घर दबिश देने गई पर वह नहीं मिला। खबर है कि आरोपी की तलाश में लगातार पुलिस दबिश दे रही है।

जानकारी के मुताबिक, कैंट थाने के इंजीनियरिंग कॉलेज चौकी क्षेत्र की रहने वाली एक युवती से गांव के ही युवक का प्रेम था। दोनो में शारीरिक संबंध भी हुआ। बाद में युवती की शादी तिवारीपुर इलाके में हो गई। आरोप है कि प्रेमी युवक शादी के बाद भी युवती के घर जाने लगा। संबंध बनाया और कहा कि पति से तलाक ले लो तो मैं तुमसे शादी कर लूंगा। युवती को एक बचा भी है।

युवक की हरकतों की वजह से युवती को पति ने छोड़ दिया। युवती मायके में रहकर घरों में चौका बर्तन करने लगी। इधर जब युवती ने शादी को कहा तो युवक ने मना कर दिया। युवती ने पहले कैंट थाने, फिर महिला थाने व एडीजी को शिकायत की। लेकिन पुलिस छह माह से मामले को टालते रही और केस तक दर्ज नहीं किया।

 
... और पढ़ें
सांकेतिक तस्वीर। सांकेतिक तस्वीर।

नेपाल ने छोड़ा चार लाख क्यूसेक पानी: राप्ती और गोर्रा नदी में उफान, पायलट प्रोजेक्ट का हुआ नुकसान

देवरिया में राप्ती और गोर्रा नदी में उफान से दोआबा और कछार के लोग दहशत में हैं। तीन दिन में जलस्तर चार मीटर बढ़ जाने से गोर्रा नदी खतरे के निशान की ओर तेजी से बढ़ रही है। इससे 1224 करोड़ रुपये की लागत से शुरू हुआ कटानरोधी पायलट प्रोजेक्ट को नुकसान हो सकता है। उधर, नेपाल से चार लाख क्यूसेक पानी छोड़े जाने की खबर के बाद रुद्रपुर में बाढ़ का संकट गहराने लगा है। राप्ती और गोर्रा नदी के बीच बसे दोआबा के 52 गांवों के डूबने का खतरा पैदा हो गया है। तटवर्ती गांवों में लोग सो नहीं पा रहे हैं। कटान शुरू हो जाने से सिंचाई विभाग के अधिकारियों को बांध बचाने की मशक्कत करनी पड़ रही है।

मानसूनी बारिश से पांडेयमाझा राजधर, सितलमाझा और सिलहटा में कटानरोधी पायलट प्रोजेक्ट को नुकसान पहुंच रहा है। यहां सरमोहना के पास कटानरोधी कार्य के दोनों ओर गोर्रा नदी कटान शुरू कर दी है। इससे परियोजना पर खतरे के बादल मंडराने लगे हैं। गोर्रा नदी करनपुर और सिलहटा के पास भी तेजी से कटान कर रही है। नदी का जलस्तर बढ़ने से तीन दिन से परियोजना का कार्य रुका है।

 
... और पढ़ें

ट्रेन अपडेट: 14 और पैसेंजर ट्रेनों को चलाने की मंजूरी, यहां देखें शेड्यूल

रेल प्रशासन ने 14 और पैसेंजर ट्रेनों को अगले आदेश तक चलाने का निर्णय लिया है। सभी ट्रेनें अनारक्षित स्पेशल ट्रेन के रूप में चलाई जाएंगी। समय पूर्व की तरह ही रहेगा। ट्रेन में सभी कोच अनारक्षित श्रेणी के होंगे तथा इसमें यात्रा करने वाले यात्रियों को कोविड-19 के मानकों का पालन करना होगा।

ये ट्रेनें चलेंगी...
05088 लखनऊ जं.-मैलानी स्पेशल 25 जून से।
05087 मैलानी-लखनऊ जं. स्पेशल 25 जून से।
05142 गोरखपुर-सीवान स्पेशल 26 जून से।
05141 सीवान-गोरखपुर स्पेशल 27 जून से।
05086 लखनऊ जं.-मैलानी स्पेशल 25 जून से।
05085 मैलानी-लखनऊ जं. स्पेशल 25 जून से।
05356 मैलानी-बहराईच स्पेशल 25 जून से।
05355 बहराईच-मैलानी स्पेशल 26 जून से।
05093 गोरखपुर-सीतापुर स्पेशल 27 जून से।
05094 सीतापुर-गोरखपुर स्पेशल 27 जून से।
05357 बहराईच-नेपालगंज रोड स्पेशल 26 जून से।
05358 नेपालगंज रोड-बहराईच स्पेशल 26 जून से।
05080 गोरखपुर-पाटलिपुत्र स्पेशल 28 जून से।
05079 पाटलिपुत्र-गोरखपुर स्पेशल 28 जून से।

चार ट्रेनों की रेक संरचना में बदलाव
रेलवे प्रशासन ने चौरीचौरा स्पेशल एवं गोरखधाम स्पेशल ट्रेन के रेक संरचना में बदलाव किया है। यह जानकारी पूर्वोत्तर रेलवे के मुख्य जनसंपर्क अधिकारी पंकज कुमार सिंह ने दी। 05004 गोरखपुर-कानपुर अनवरगंज चौरीचौरा स्पेशल में 25 जून से जनरेटर सह लगेज यान सहित 22 कोच लगाएं जाएंगे। 05003 कानपुर अनवरगंज-गोरखपुर चौरीचौरा स्पेशल में 26 जून से जनरेटर सह लगेज यान सहित 21 कोच लगाए जाएंगे। 02555 गोरखपुर-हिसार स्पेशल में 27 जून से जनरेटर सह लगेज यान सहित 22 कोच लगाए जाएंगे। 02556 हिसार-गोरखपुर स्पेशल में 28 जून से जनरेटर सह लगेज यान सहित 22 कोच लगाए जाएंगे।
... और पढ़ें

गोरखपुर में सीएम योगी: कोरोना से अनाथ हुए बच्चों से की मुलाकात, बोले- चिंता मत करो, मैं हूं ना

बच्चों के बीच मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की आत्मीयता ऐसी होती है कि मानों वह खुद उनके अभिभावक हों। बात अगर बेसहारा बच्चों की हो तो उनकी संजीदगी, बच्चों के प्रति निश्छल प्रेम, वहां मौजूद लोगों को भी भाव विभोर करने वाली होती है। सीएम योगी ने शुक्रवार को गोरखनाथ मंदिर में कोरोना से माता-पिता दोनों को खो चुके पांच बच्चों से मुलाकात की। वह जेल रोड पर स्थित एक बाल आशय गृह भी पहुंचे। दोनों मुलाकातों में उन्होंने बेसहारा बच्चों को प्यार किया और आशीर्वाद दिया। बोले, माता पिता का न रहना बेहद दुखदायी है लेकिन चिंता मत करो, मैं हूं ना। बच्चों को प्यार दुलार के साथ उपहार देते हुए कहा, उनके साथ सरकार हर पल खड़ी है।

शुक्रवार सुबह गोरखनाथ मंदिर में जब कोरोना से माता पिता दोनों को खोने वाले जिले के पांच बच्चों से सीएम योगी मिले तो उन्हें देख उनकी आंखें नम हो गईं। माहौल बेहद भावुक था।

 
... और पढ़ें

महराजगंज: भाई की मौत का बदला लेने के लिए हुई थी मंटू की हत्या, ऐसे हुआ खुलासा

बच्चों से मुलाकात करते सीएम योगी।
महराजगंज जिले के निचलौल थानाक्षेत्र के खमहौरा गांव के टोला बंजरिया में 8 जून को बरात में शामिल एक युवक की हत्या कर दी गई थी। इस मामले में पुलिस ने दोनों आरोपियों को शुक्रवार को गिरफ्तार कर लिया। पुलिस पूछताछ में आरोपियों ने बताया कि भाई की मौत का बदला लेने के लिए मंटू का चाकू से गोद डाला था। आरोपियों के पास से एक बाइक तथा चाकू भी बरामद किया गया है।

एसपी प्रदीप गुप्ता ने बताया कि खमहौरा गांव के टोला बंजरिया स्थित ईंट भट्ठे के पीछे गन्ने के खेत में 12 जून को कुशीनगर जिले के थाना खड्डा क्षेत्र के तुरकहा निवासी 22 वर्षीय मंटू भारती का शव मिला था। पोस्टमार्टम रिपोर्ट में युवक की चाकू से गोदकर हत्या करने की रिपोर्ट आने के बाद पुलिस ने मृत युवक के पिता शारदा प्रसाद की तहरीर के आधार पर दो आरोपियों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर उनकी तलाश में जुटी थी। 17 जून की रात करीब दस बजे निचलौल पुलिस ने मुखबिर की सूचना पर दोनों आरोपितों को झुलनीपुर नहर पर घेराबंदी कर गिरफ्तार कर लिया।

एसपी ने बताया कि मुख्य आरोपी सरफराज (21) निवासी तुरकहा थाना खड्डा ने पूछताछ में बताया कि छह माह पहले मंटू भारती के चलते भाई इरशाद ने जहर खाकर आत्महत्या कर ली थी, तभी से भाई की मौत का बदला लेने के लिए अवसर की तलाश में था। आठ जून को गांव से एक बरात निचलौल थानाक्षेत्र के खमहौरा गांव के टोला बंजरिया गई थी, उसमें मंटू भारती भी शामिल था।

भाई की मौत का बदला लेने अपने साथी शमशाद (20) निवासी वार्ड नंबर 2 गांधीनगर थाना खड्डा के साथ बरात में शामिल होने बंजरिया पहुंच गया। मंटू को शराब पिलाने के बहाने आबादी से सटे ईंट भट्ठे के पीछे ले गया। उसके बाद साथी शमशाद की मदद से मंटू को चाकू से गोदकर मार डाला। शव को गन्ने की खेत में छिपा दिया।

 
... और पढ़ें

यूपी: अंशु दीक्षित की तर्ज पर जेल में हत्या के आरोपी ने बनाया वीडियो, सोशल मीडिया पर हुआ वायरल

यूपी के चित्रकूट जेल में मुख्तार के करीबी एवं पश्चिम के शातिर बदमाश की हत्या करने वाले गैंगेस्टर अंशु दीक्षित की तर्ज पर जेल में हत्या के मामले में बंद  रतन उर्फ अंबुज यादव और उसके साथी का मोबाइल पर बात करने का वीडियो वायरल हुआ है। इसकी भनक लगते ही देवरिया जेल प्रशासन ने उसके बैरक की तलाशी लिया तो उसके पास से मोबाइल बरामद हुआ है। जेल प्रशासन ने बंदी के खिलाफ कोतवाली में तहरीर दी है।

बरहज थाना क्षेत्र के अमाव गांव निवासी गुड़िया मिश्रा ने आला अफसरों को शिकायती पत्र देकर बताया है कि जेल में बंद रतन यादव उर्फ अंबुज और पीयूष का एक वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है। जिसमें दोनों जेल के बैरक में मोबाइल से बात करते हुए दिख रहे हैं।

महिला ने बताया है कि इनके खिलाफ हत्या सहित कई संगीन धाराओं में मुकदमा दर्ज है। बैरक से दोनों मोबाइल पर वार्ता करते हुए वीडियो बनाया है और उसके भाई पिंटू मिश्र के मोबाइल वाट्सअप पर तीन वीडियो भेजा है। जिससे पूरा परिवार सहमा हुआ है।

महिला ने गुहार लगाई है कि इनके द्वारा गांव में लोगों को फोन कर धमकाया जाता है। जिसकी वजह से लोगों में दहशत व्याप्त है। इस मामले को गंभीरता से लेते हुए जेल प्रशासन ने शुक्रवार को रतन यादव के बैरक की तलाशी कराई तो उसके पास से मोबाइल बरामद हुआ।

मोबाइल को अपने कब्जे में लेते हुए जेलर ने इसकी शिकायत कोतवाली पुलिस से की है। इस मामले में बंदी के खिलाफ कोतवाली में तहरीर दी है। कोतवाल राजू सिंह ने बताया कि मामले में मुकदमा दर्ज कर कार्रवाई होगी।

 
... और पढ़ें

प्रेम विवाह की सजा: नाराज भाइयों ने पिता संग महिला पर किया हमला, हालत गंभीर

उत्तर प्रदेश के गोरखपुर जिले में एक हैरान करने वाला मामला सामने आया है। यहां गोला इलाके के मठिया में प्रेम विवाह से नाराज भाइयों ने पिता के साथ मिलकर महिला को लहूलुहान कर दिया। गुरुवार को हुए हमले में उसकी गर्दन और कंधे पर गंभीर चोट आई है। उसे मेडिकल कॉलेज में भर्ती कराया गया है, जहां उसकी हालत नाजुक है। पीड़िता की ओर से थाने में तहरीर दी गई है, पुलिस घटना की जांच कर रही है।

जानकारी के मुताबिक, ग्राम मठिया की सविता व इसी गांव के जयप्रकाश ने 2011 में न्यायालय में प्रेम विवाह किया था। तभी से महिला के भाई व पिता नाराज थे। इसे लेकर कई बार भाइयों और पिता ने महिला के साथ मारपीट भी की थी। इसमें मामले में केस भी दर्ज हुआ था।

इसी बीच पति उसे लेकर हिमाचल प्रदेश चला गया था। करीब एक महीने पहले ससुर की मौत होने पर महिला पति के साथ गांव लौटी थी। गुरुवार को महिला घर में बच्चों के साथ थी और घरवाले खेत की ओर गए थे। आरोप है कि इसी दौरान दो भाइयों ने पिता के साथ मिलकर धारदार हथियार से हमला कर दिया। घायल हालत में पति उसे लेकर सीएचसी गोला गया, जहां से जिला अस्पताल भेज दिया गया। वहां से डॉक्टर ने मेडिकल कॉलेज रेफर कर दिया।

कई बार हुई मारपीट
पति के मुताबिक, 2012 व 2016 में भी पत्नी के भाई व पिता ने महिला पर हमला किया था। भाई व पिता पर एनसीआर दर्ज हुई थी। 2012 में हुई मारपीट के बाद दोनों पक्षों में पुलिस ने समझौता करा दिया था। 2016 में महिला से मारपीट की कोशिश हुई, जिसमें भाई व पिता पर दर्ज एनसीआर को विवेचना के बाद पुलिस ने खत्म कर दिया था।
... और पढ़ें

कुशीनगर: गंडक नदी की बीच धारा में फंसे थे नाव सवार 150 लोग, रेस्क्यू कर सुरक्षित निकाला गया

कुशीनगर जिले के बरवापट्टी क्षेत्र के अमवा दीगर गांव के सामने गंडक नदी की धारा में फंसी नाव के सभी डेढ़ सौ सवार लोगों को सुरक्षित बाहर निकाल लिया गया है। डीएम ने तत्परता दिखाते हुए रात में ही एसडीआरएफ और एनडीआरएफ टीम को मौके पर बुला लिया था। गोरखपुर से आई एनडीआरएफ की टीम ने रात में ढाई बजे से सुबह छह बजे तक अभियान चलाकर सभी लोगों को सुरक्षित बाहर निकाल लिया।

दुदही क्षेत्र के कई गांवों के लोग गंडक नदी के बरवापट्टी घाट को पार कर नदी के दियारा क्षेत्र में अपने खेत में काम करने गए थे। बृहस्पतिवार की शाम करीब सात बजे वापस लौटते समय नाव में लगा इंजन मझधार में ही खराब हो गया।

लहरों के सहारे बहती हुई नाव करीब पांच किलोमीटर दूर संपूर्णानगर टोले के सामने नदी में एक टीला नुमा जगह पर जाकर फंस गई। रात में 10 बजे अमवा दीगर गांव के प्रधान रिंकू सिंह पटेल ने अपने गांव कुछ मल्लाहों के साथ चार-पांच छोटी नाव से नदी में जाकर नाव पर फंसे इन लोगों से संपर्क किया।


 
अपने साथ करीब 30 लोगों को बाहर भी निकाला। रात में करीब 11 बजे डीएम एस राजलिंगम व एसपी सचिंद्र पटेल मौके पर पहुंचे। डीएम ने खड्डा में लगाई गई एसडीआरएफ टीम के अलावा गोरखपुर से एनडीआरएफ टीम को बुलवाया।

रात करीब दो बजे दोनों टीमें मौके पर पहुंचीं और इसके बाद नदी में फंसे लोगों को बचाने के लिए रेस्क्यू ऑपरेशन चलाया गया। सुबह के करीब छह बजे तक नाव पर सवार सभी लोगों को सुरक्षित बाहर निकाल लिया गया।

घटना की जानकारी होने पर बृहस्पतिवार की दोपहर में कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष व तमकुहीराज के विधायक अजय कुमार लल्लू ने भी पहुंचकर मामले की जानकारी ली।
... और पढ़ें

गोरखपुर में बोले सीएम योगी: याद रखें, कोरोना कमजोर हुआ है, खत्म नहीं, अपनी बारी आने पर जरूर लगवाएं टीका

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि वैश्विक महामारी कोरोना के कारण देश व दुनिया त्रस्त रही है। कई राज्यों व देशों में व्यापक क्षति हुई है। अपने देश मे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में जीवन व जीविका बचाने का जो संघर्ष हुआ उसके अपेक्षित व सकारात्मक परिणाम आए हैं। हमें यह ध्यान रखना होगा कि कोरोना कमजोर जरूर हुआ है, खत्म नहीं। इसके खिलाफ लड़ाई में सावधानी व जागरूकता सबसे बड़ा हथियार है। 

सीएम योगी शुक्रवार को गोरखनाथ मंदिर के कार्यालय में मीडियाकर्मियों से बातचीत कर रहे थे। उन्होंने कहा कि बीमारी में लापरवाही खतरनाक हो सकती है इसलिए हमें निरंतर सतर्क रहना होगा। सावधानी व बचाव बहुत आवश्यक है। दो गज की दूरी, मास्क जरूरी के मंत्र का पालन करते रहना होगा। कोरोना बीते 100 वर्षों में सबसे भीषण महामारी है। इसके खिलाफ सामूहिक प्रयास से सफलतापूर्वक लड़ा जा रहा है। 

टीका ही है बचाव का रक्षा कवच
सीएम के कहा कि कोरोना से बचाव के लिए टीकाकरण ही रक्षा कवच है। देश मे दो वैक्सिन पहले से है। अगले माह तक कुछ और वैक्सिन उपलब्ध होगी। सरकार की तरफ से जारी ट्रेस, टेस्ट और ट्रीट के अभियान से सबको जुड़ना होगा। इसके तहत हमारी निगरानी समितियां घर घर जा रही हैं। मुख्यमंत्री योगी ने अपील की कि लोग टेस्ट से भागें नहीं और अपनी बारी पर टीका अवश्य लगवाएं।
... और पढ़ें
Election
  • Downloads

Follow Us