विज्ञापन
विज्ञापन
क्या नौकरी में आ रही परेशानियां वर्ष 2021 में हो जाएंगी समाप्त ? जानिए अनुभवी एस्ट्रोलॉजर्स से
astrology

क्या नौकरी में आ रही परेशानियां वर्ष 2021 में हो जाएंगी समाप्त ? जानिए अनुभवी एस्ट्रोलॉजर्स से

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

From nearby cities

विज्ञापन
Digital Edition

यूपी के इस जिले के दीयों से रोशन होगा सीएम योगी का शहर, तीन सौ महिलाएं कर रही हैं काम

Diwali 2020 Diwali 2020

सीएम योगी ने अधिकारियों को चेताया, कहा- जल्दी हो निर्माण रिवाइज इस्टीमेट बनाने की नौबत न आए

गोरखपुर-देवरिया फोरलेन के साथ ही रामगढ़ताल परियोजना क्षेत्र स्थित वाटर स्पोर्ट्स कांप्लेक्स का निर्माण कार्य 15 दिसंबर तक हो जाएगा। इन विकास कार्यों की मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने बुधवार को एनेक्सी भवन में समीक्षा की। मुख्यमंत्री ने साफ कहा कि विकास कार्य निर्धारित समय पर पूरे कराए जाएं ताकि लागत बढ़ाने की नौबत न आए।

बिहार के विधानसभा चुनाव में प्रचार करके मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ बुधवार को गोरखपुर आए। साथ ही जिले के विकास कार्यों की समीक्षा की। मुख्यमंत्री ने कहा कि जंगल कौड़िया और गोरखपुर-महराजगंज फोरलेन का निर्माण कार्य भी जल्द पूरा कराया जाए।

शहरी क्षेत्र की सड़कों का निर्माण हर हाल में नवंबर तक पूरा कराया जाना चाहिए। जिले में सड़कों के लिए जहां भी जमीन अधिग्रहीत की गई है, उससे संबंधित किसानों को जल्द मुआवजा उपलब्ध कराया जाए। इसमें किसी तरह की लापरवाही नहीं होनी चाहिए।

जल निगम के कामकाज की जानकारी मुख्यमंत्री ने ली है। साथ ही कहा कि श्रमिकों की संख्या बढ़ाकर काम जल्द पूरे कराए जाएं। बैठक में  डीजी पर्यटन रवि कुमार एनजी, कमिश्नर जयन्त नार्लिकर, डीएम के. विजयेन्द्र पांडियन समेत कई विभागों के अफसर मौजूद रहे।

 
... और पढ़ें

गोरखपुर पहुंचे सीएम योगी आदित्यनाथ, अधिकारियों के साथ की समीक्षा बैठक

गोरखपुर में बुधवार को दौरे पर आए मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने एनेक्सी भवन में जिले के विभिन्न विभागों के अधिकारियों के साथ बैठक की। बैठक में सिंचाई विभाग के मुख्य अभियंता से तरकुलानी रेग्यूलेटर तथा राप्ती नदी पर बन रहे राजघाट एवं राम घाट तथा अंत्येषठी स्थल की प्रगति के बारे में पूछा।
मुख्य अभियंता आलोक जैन ने बताया कि तरकुलानी रेग्यूलेटर 15 जून एवं घाट का उपरी हिस्से का कार्य दिसम्बर तक पूरा कर लिया जाएगा। नदी के अंदर का कुछ कार्य रह गया है वह फरवरी के बाद होगा।

सिंचाई विभाग द्वारा खोराबार में तरकुलानी रेग्यूलेटर का निर्माण कराया जा रहा है। इसके लिए मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ सांसद रहते लगातार प्रयास कर रहे थे। जब वह मुख्यमंत्री बने तो 2018 में इसका शिलान्यास किया। जब शिलान्यास किया तो इसकी लागत 40.60 करोड़ थी। बाद में उसमें कई संशोधन किया गया तो उसकी लागत बढ़कर 84.86 करोड़ हो गई।

इसके बनने से 2838 हेक्टूयर जमीन किसानों की जलमग्न होने से बच जाएगी। वहीं 47 गांव की 32 हजार आवादी इससे लाभान्वित होगी। तरकुलानी रेग्यूलेटर का कार्य 15 जून 2021 को पूरा हो जाएगा। वहीं राप्ती नदी पर पूरब तरफ राजघाट का निर्माण 1869.71 लाख की लागत से कराया जा रहा है। इसका कार्य मार्च  में ही पूरा होना था पर करोना के कारण काम रुक गया है। यह लगभग पूरा हो गया है।

मुख्यमंत्री इसका निरीक्षण करने आए तो इस घाट की लंबाई 50 मीटर और बढ़ाने को कहा उसका निर्माण 916 लाख की लागत से हो रहा है। उसके बगल में अंत्येष्ठि स्थल भी सिंचाई विभाग 499 लाख की लागत से बना रहा है। दूसरे छोर पर पश्चित तरफ राम घाट का निर्माण कराया जा रहा है। इस पर 1559 लाख की लागत आ रही है। यह सभी कार्य दिसम्बर तक पूरा हो जाएंगे।

समीक्षा बैठक में मौजूद सिंचाई विभाग के मुख्य अभियंता आलोक जैन ने बताया कि सभी घाट का काम दिसंबर तक पूरा कर लिया जाएगा। नदी के अंदर 12 मीटर तक कंकरीट की ढलाई शीट पाइल डाल कर की जाती है। अधिकतर कार्य उसका भी हो गया है। जो बचा है नदी का पानी घटने पर फरवरी के बाद किया जाएगा।
... और पढ़ें

देवरिया में गद्दा फैक्टरी में लगी आग, लाखों का सामान जलकर राख

सीएम योगी आदित्यनाथ।
देवरिया जिले के चंद्रशेखर आजाद इंटर कॉलेज देवगांव के उत्तर तरफ स्थित गद्दा फैक्टरी में बुधवार को आग लग गई। जिससे लाखों का सामान जलकर राख हो गया। सूचना मिलने पर फायर बिग्रेड की दो गाड़ियां मौके पर पहुंची। लोगों के सहयोग से चार घंटे की कड़ी मशक्कत करने के बाद आग पर काबू पाया जा सक। आग की उठती लपटों से उपनगर सहित आसपास के लोगों में दहशत व्याप्त हो गया। आग के कारणों का सटीक पता नहीं चल सका, वहीं फैक्टरी मालिक मौके से फरार हो गया।

गौरी बाजार क्षेत्र के ग्राम अर्जुनडीहा निवासी सईद शेख पुत्र मोहम्मदीन ने दो वर्ष पूर्व देवगांव गौरी बाजार स्थित इंटर कॉलेज के उत्तर तरफ गद्दा बनाने की फैक्टरी खोली। यहां से थोक भाव में गद्दा, रजाई सहित रुई से निर्मित सामानों की आपूर्ति की जाने लगी।

बुधवार को अपराह्न तीन बजे फैक्टरी में आग लग गई। आग की लपटों को देखकर लोग सहम गये। आननफानन फायर बिग्रेड की सूचना दी गई। 40 मिनट बाद मौके पर दमकल की गाड़ियों सहित पुलिस व प्रशासन के लोग भी वहां पहुंचे। जेसीबी मशीन मंगाई गई।

फैक्टरी के बगल से तोड़कर पानी की बौछार की गई एवं स्थानीय लोग भी अपने स्तर आग बुझाने में जुट गए। उपनगर सहित आस-पास के क्षेत्रों में आग से दहशत फैल गई। मौके पर भीड़ एकत्रित हो गई। बताया जाता है कि फैक्टरी में सात ट्रक से भी अधिक रुई रखा था। साथ ही जाड़े के सीजन को देखते हुए गद्दा, रजाई सहित अन्य सामान निर्मित कर रखा गया था।

आग से लगभग दस लाख रुपये मूल्य का सामान जलकर राख होने का अनुमान है। आग लगने का कारण अज्ञात बताया जा रहा है। उधर आग लगते ही फैक्टरी मालिक एवं उसमें काम कर रहे मजदूर मौके से फरार हो गए। चार घंटे की मशक्कत के बाद शाम सात बजे आग पर काबू पाया जा सका।

इस दौरान एसडीएम सदर सौरभ सिंह, सीओ रुद्रपुर अंबिका, हल्का लेखपाल सहित विद्युत विभाग के अधिकारी एवं कर्मचारी सहित पुलिस बल मौके पर मौजूद रहा। इस संबंध में प्रभारी निरीक्षक अश्वनी राय ने बताया कि आग कैसे लगी, इसकी छानबीन की जा रही है।
... और पढ़ें

UP Bypolls: सपा, बसपा, कांग्रेस की तिकड़ी ने प्रदेश को लूटा

उत्तर प्रदेश के उपमुख्मंत्री केशव प्रसाद मौर्य ने बुधवार को विपक्षी दलों पर जोरदार हमला बोला। कहा कि सपा, बसपा, कांग्रेस की तिकड़ी ने प्रदेश को लूटने का काम किया है। भाजपा अगर कोई अच्छा कार्य करती है तो विरोधियों को दर्द होने लगता है। हमारे लिए दल से बड़ा देश है। जबकि अन्य पार्टियों के लिए पहले व्यक्ति, फिर दल और इसके बाद देश है।
 
उपमुख्यमंत्री चंद्रशेखर आजाद इंटर कालेज देवगांव गौरी बाजार में भाजपा प्रत्याशी डा. सत्यप्रकाश मणि त्रिपाठी के पक्ष में जनसभा को संबोधित कर रहे थे। उन्होंने कहा कि देवरिया जनपद की बंद चीनी मिलों का मामला न्यायालय में है। प्रदेश सरकार चीनी मिलों को सिलसिलेवार चलाने का कार्य कर रही है।

छह वर्ष की मोदी सरकार ने विकास को रफ्तार दी है। लूट-खसोट बंद हो गया है। उन्होंने मोदी-योगी सरकार की कई उपलब्धियां गिनाईं। कहा कि कम समय में ही चिकित्सा, शिक्षा, सड़क सहित अन्य सभी क्षेत्रों में विकास कार्यों का कीर्तिमान बना है।

जनता से सवाल किया कि साठ वर्ष यदि कांग्रेस ने शासन किया तो देवरिया में मेडिकल कालेज क्यों नहीं बना? भाजपा का लक्ष्य पिछड़े, दलित, सामान्य वर्ग सबको साथ लेकर चलने का है। इससे पूर्व पार्टी प्रत्याशी सत्य प्रकाश मणि त्रिपाठी सहित भाजपा नेताओं ने उप मुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य का माल्यार्पण कर स्वागत किया। सभा की अध्यक्षता जिलाध्यक्ष अंतर्यामी सिंह ने की व संचालन संजय सिंह ने किया।

सभा को सदर सांसद डॉ. रमापति राम त्रिपाठी, कैबिनेट मंत्री सूर्यप्रताप शाही, राज्यमंत्री सतीश चंद्र द्विवेदी, जयप्रकाश निषाद, प्रभारी मंत्री क्षेत्रीय अध्यक्ष धर्मेंद्र सिंह, सलेमपुर सांसद रविंद्र कुशवाहा, राज्यसभा सांसद जयप्रकाश निषाद, पूर्व विधायक प्रमोद सिंह, संजय यादव, अनिरुद्ध शुक्ला, विधायक आनंद शुक्ला, केतकी सिंह, सभा कुंवर, भूपेंद्र सिंह, छठ्ठेलाल निगम, त्रिगुणायक विश्वकर्मा, संजय सिंह, रविंद्र प्रताप मल्ल, विधायक ज्ञानेंद्र सिंह, धनंजय कन्नौजिया, शैलेश कुमार त्रिपाठी आदि ने संबोधित किया।
... और पढ़ें

अंतरराष्ट्रीय संस्थान के रूप में विकसित होगा गुरु गोरक्षनाथ शोधपीठ, सेमिनार में बनी रूपरेखा

गोरखपुर विश्वविद्यालय में प्रस्तावित नए पाठ्यक्रमों तथा महायोगी गुरु श्रीगोरक्षनाथ शोधपीठ के कार्यों की प्रगति के लिए समीक्षा बैठक प्रशासनिक भवन में बुधवार को हुई। कुलपति प्रोफेसर राजेश सिंह ने कहा कि शोधपीठ को एक अंतरराष्ट्रीय संस्थान के रूप में विकसित किया जाएगा।

मुख्यमंत्री के आर्थिक सलाहकार डॉ. केवी राजू एवं कुलपति प्रो. राजेश सिंह के सामने प्रस्तावित अंतरराष्ट्रीय सेमिनार, ‘नाथ पंथ और योग’ और ‘नाथ पंथ पर विश्वकोष’ की तैयारियों पर प्रो. मानवेंद्र प्रताप सिंह तथा डॉ. अंकित सिंह ने अपनी कार्ययोजना प्रस्तुत की। डॉ. राजू ने इसमें कुछ सुधार करने का सुझाव दिया। 31 अक्तूबर को होने वाली बैठक में इसे अंतिम रूप देने का निर्णय लिया गया।
 
कुलपति ने नई शिक्षा नीति के अनुरूप विश्वविद्यालय में प्रस्तावित नए पाठ्यक्रमों को शुरू करने तथा महायोगी गोरक्षनाथ शोधपीठ की गतिविधियों की गति देने के संबंध में अपने विचार रखे। डॉ. राजू ने प्राथमिकता के आधार पर नाथपंथ पर विश्वकोश विकसित करने के संबंध में सुझाव प्रस्तुत किए। सेमिनार के संबंध में प्रो. हर्ष सिन्हा, प्रो. रविशंकर सिंह, प्रो. संजीत गुप्ता, डॉ. प्रदीप राव और महेंद्र कुमार सिंह ने भी विचार रखे। इस दौरान प्रो. अजेय गुप्ता व अधिष्ठाता छात्र कल्याण प्रो. अजय सिंह भी मौजूद रहे।

समयरेखा चार्ट बनाने का दिया था निर्देश
डॉ. राजू के मार्गदर्शन और कुलपति प्रो. सिंह की अध्यक्षता में बैठक 10 सितंबर को हुई थी। इसमें नाथ पंथ व योग पर अंतरराष्ट्रीय संगोष्ठी आयोजित करने और प्राथमिकता के आधार पर नाथ पंथ पर विश्वकोष विकसित करने पर गतिविधि समयरेखा चार्ट तैयार करने के लिए कहा गया था।

 
... और पढ़ें

व्यापारी पुत्र संदीप को सिर, पीठ, पेट और हाथ में मारी गईं हैं चार गोलियां, ऑपरेशन के बाद सेहत में सुधार

गोरखपुर के पीपीगंज थाने से थोड़ी ही दूरी पर मंगलवार शाम गोली लगने से घायल व्यापारी पुत्र संदीप को बदमाशों ने एक नहीं बल्कि चार गोलियां मारी थीं। गोलियां सिर के अलावा पीठ, पेट और हाथ में लगी हैं। यही नहीं, गोलियां तमंचे से मारी गईं हैं।

मौके से मिली पिस्टल किसकी है इसकी जांच पुलिस कर रही है। चर्चा है कि पिस्टल संदीप की है, जो अवैध है। फिलहाल, पुलिस इस मामले में बोलने से बच रही है। वहीं, संदीप की हालत में सुधार है। उसे लखनऊ के एक निजी अस्पताल में भर्ती कराया गया है। ऑपरेशन करके गोलियां निकाल दी गईं हैं। संदीप के पिता ने बताया कि डॉक्टरों ने उसकी हालत स्थिर बताई है।

उधर, संदीप ने जिन दो नामों पर शक जाहिर किया था उनकी मोबाइल लोकेशन प्रदेश से बाहर की मिली है। एक इस समय जम्मू में है तो दूसरा हैदराबाद में। हालांकि, इसकी आधिकारिक पुष्टि नहीं हुई है। पुलिस का कहना है कि मामले की छानबीन की जा रही है। इस बीच एसएसपी ने पीपीगंज थानेदार को लाइन हाजिर कर दिया है।

 
... और पढ़ें

ठंड में सक्रिय हो जाते हैं ये खास गिरोह, लूटपाट के लिए बेरहमी से बहा देते हैं खून

ठंड की दस्तक के साथ ही वारदातों को अंजाम देने वाले कई गिरोह भी सक्रिय हो जाते हैं। ऐसे में एडीजी जोन ने पुलिस से सतर्क रहने और विशेष जांच अभियान चलाने को कहा है। एडीजी ने रेलवे स्टेशन और सड़क किनारे झुग्गी-झोपड़ियों में रहने वालों की विशेष रूप से जांच करने के निर्देश दिए हैं।
 
दरअसल, बावरिया व कच्छा बनियान गिरोह के बदमाश दिवाली के त्योहार से ही वारदात को अंजाम देना शुरू करते हैं। इसे देखते हुए ही एडीजी जोन ने सभी पुलिस कप्तानों को यह दिशा-निर्देश जारी किया है।

जानकारी के मुताबिक, पूर्व में जोन के कई जिलों में बावरिया व कच्छा बनियान गिरोह के बदमाशों ने कई दुस्साहसिक घटनाओं को अंजाम दिया है। बावरिया गिरोह के सदस्य दिवाली की रात से लेकर कर होलिका दहन तक अलग-अलग जगहों पर जाकर वारदातों को अंजाम देते हैं। आमतौर पर ये लूट व डकैती के दौरान घर में मौजूद सदस्यों की हत्या तक भी कर देते हैं या उन्हें गंभीर रूप से घायल कर देते हैं।  

ऐसे में एडीजी ने पुलिस को सतर्क रहने का निर्देश दिया है। उन्होंने शहर के बाहरी इलाकों की नई कॉलोनियों में खासकर गश्त बढ़ाने के निर्देश दिया है। एडीजी ने कहा कि इस तरह के लोग डेरा डालकर रहते हैं और खिलौने, कागज के फूल आदि बेचने के बहाने कॉलोनियों में जाकर पहले रेकी करते हैं और फिर घटनाओं को अंजाम देते हैं। लिहाजा खिलौने बेचने वाले, भिखारियों और घुमंतू लोगों की विशेष तलाशी ली जाए।

 
... और पढ़ें
Election
  • Downloads

Follow Us

X

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00
X