विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
चंद्र ग्रहण 2020 : चंद्र ग्रहण पर रखें इन बातों का खास ख्याल
Chandra Grahan Special

चंद्र ग्रहण 2020 : चंद्र ग्रहण पर रखें इन बातों का खास ख्याल

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
Digital Edition

बोरे में मिला 28 वर्षीय युवक का खून से लाथपथ शव, दोस्त पर लगे हत्या के आरोप, युवक फरार

बोरे में 28 वर्षीय युवक का खून से लथपथ शव देखकर पुलिस वाले हैरान रह गए। वहीं हत्याकांड के बाद गांव में सनसनी फैली हुई है। वारदात पानीपत जिले के ब्लॉक समालखा के गांव अट्टा में अंजाम दी गई। शुक्रवार की सुबह गांववासियों को खून से सना एक बोरा देख। पुलिस को सूचना दी गई।

पुलिस ने मौके पर पहुंच कर बोरे को खुलवाया तो उसमें सोनू नाम के युवक का शव बरामद हुआ, जिसकी तेजधार हथियार से हत्या कर दी गई थी। अब पुलिस मामले की जांच कर रही है। सूत्रों के मुताबिक, गांव अट्टा में वीरवार की रात को सोनू और उसके दोस्त ने शराब पी। फिर युवक सोनू को अपने घर लेकर आ गया, जहां दोनों के बीच किसी बात पर विवाद हो गया।

फिर युवक ने सोनू की तेजधार हथियार से हमला करके उसकी हत्या कर दी। मारने के बाद उसने सोनू के शव को एक बोरे में बंद किया और अपने घर से दो मकान छोड़कर गली में फेंक आया। मौके से एफएसएल टीम ने सबूत उठाए हैं। फिलहाल हत्यारोपी दोस्त फरार है, जिसकी तलाश की जा रही है।
... और पढ़ें
युवक का शव मिला, मौके पर मौजूद पुलिस युवक का शव मिला, मौके पर मौजूद पुलिस

होटल में देह व्यापार, दो कमरों में आपत्तिजनक हालत में मिले युवक-युवतियां, पांच लोग गिरफ्तार

रिद्धि-सिद्धि होटल में चल रहे देह व्यापार का पुलिस ने डमी ग्राहक भेजकर भंडाफोड़ किया है। कार्रवाई करते हुए पुलिस ने युवक-युवतियों को गिरफ्तार किया। चरखी दादरी जिले में रावलधी-दिल्ली बाईपास पर यह धंधा चल रहा था। होटल संचालिका दादरी निवासी महिला है, हालांकि उसकी अभी गिरफ्तारी नहीं हुई है। पुलिस ने वीरवार को होटल से पांच आरोपियों को गिरफ्तार किया, जिनमें तीन युवक, एक युवती और एक महिला शामिल है।

होटल संचालिका समेत छह आरोपियों के खिलाफ सदर थाने में अनैतिक देह व्यापार की धारा 3, 4, 5 व 7 के तहत केस दर्ज किया है। डीएसपी रामसिंह ने मीडिया को बताया कि बुधवार देर रात पुलिस को गुप्त सूचना मिली थी कि रिद्घि-सिद्घि होटल में देह व्यापार हो रहा है। इस होटल की संचालिका एक महिला है और देह व्यापार का काम उत्तराखंड निवासी एक युवक संभालता है। वह होटल पर नौकर का काम करता है। इस आधार पर अलसुबह करीब तीन बजे होटल पर रेड की गई।

डीएसपी ने बताया कि सामान्य कपड़ों में एक पुलिसकर्मी को होटल पर डमी ग्राहक बनाकर भेजा गया। होटल में मौजूद एक शख्स से डमी ग्राहक बनाकर भेजे गए पुलिसकर्मी ने संपर्क किया। उक्त नौकर को पुलिसकर्मी ने 500 रुपये दिए। नौकर के रुपये लेते ही इशारा पाकर पुलिस टीम अंदर पहुंच गई। टीम में महिला पुलिसकर्मी भी शामिल रहीं। डीएसपी ने बताया कि होटल में बने दो कमरों की तलाशी ली गई तो दो जोड़े आपत्तिजनक हालत में मिले। उन चारों सहित होटल के नौकर को भी पुलिस ने काबू कर लिया और उनके खिलाफ मामला दर्ज किया गया है। डीएसपी रामसिंह ने बताया कि जल्द ही होटल संचालिका को भी गिरफ्तार कर लिया जाएगा।
... और पढ़ें

हरियाणा में कोरोना से 11 की मौत, 20 जिलों में 568 नए पॉजिटिव मिले

हरियाणा के 20 जिलों में 568 कोरोना संक्रमण के नए मामले सामने आए हैं। मरने वालों का सिलसिला नहीं थम रहा है। संक्रमण से 11 और मौतों के बाद अब तक प्रदेश में कोरोना से मरने वालों की संख्या 251 हो गई है। जबकि कुल संक्रमित मरीज 15509 तक पहुंच गए। रिकवरी रेट 71.05 प्रतिशत हो गया है। संक्रमण की दर 5.71 प्रतिशत है। 5469 संदिग्ध मरीजों की सैंपल रिपोर्ट आने का इंतजार है। जबकि 59 मरीज गंभीर हालत में है। कुल संक्रमित मरीजों में से 11019 मरीज ठीक भी हो चुके हैं।

गुरुग्राम में 106, फरीदाबाद में 130, सोनीपत में 131, रोहतक में 31, अंबाला में 16, पलवल में 4, करनाल में 34, हिसार में 18, महेंद्रगढ़ में 10, झज्जर में 35, रेवाड़ी में 18, नूंह में 7, पानीपत में 6, कुरुक्षेत्र में 4, फतेहाबाद में 3, पंचकूला में 7, जींद में 2, सिरसा में 1, यमुनानगर में 2 और चरखी दादरी में 3 संक्रमण के नए मामले सामने आए हैं। जबकि गुरुग्राम में 4, फरीदाबाद में 3, रोहतक में 1, करनाल में 2 और हिसार में 1 मरीज की मौत इस जानलेवा वायरस से हो गई है।


यह भी पढ़ें-
इन एप से रहें सावधान! पुलिस को जारी करनी पड़ी एडवाइजरी, वरना बैंक खाता हो जाएगा खाली

अब तक गुरुग्राम में 5569, फरीदाबाद में 4028, सोनीपत में 1330, रोहतक में 626, अंबाला में 344, पलवल में 332, भिवानी में 441, करनाल में 359, हिसार में 250, महेंद्रगढ़ में 276, झज्जर में 297, रेवाड़ी में 314, नूंह में 207, पानीपत में 206, कुरुक्षेत्र में 133, फतेहाबाद में 122, पंचकूला में 119, जींद में 111, सिरसा में 109, यमुनानगर में 105, कैथल में 106 व चरखी दादरी में 81 संक्रमित मरीज सामने आ चुके हैं। जबकि 14 इटालियन और 21 अमेरिका से आए लोग भी संक्रमित पाए गए थे। 

ठीक होने वालों में गुरुग्राम में 4291, फरीदाबाद में 2781, सोनीपत में 844, रोहतक में 533, अंबाला में 309, पलवल में 245, भिवानी में 185, करनाल में 216, हिसार में 181, महेंद्रगढ़ में 184, झज्जर में 197, रेवाड़ी में 96, नूंह में 166, पानीपत में 123, कुरुक्षेत्र में 104, फतेहाबाद में 92, पंचकूला में 91, जींद में 75, सिरसा में 86, यमुनानगर में 86, कैथल में 54 व चरखी दादरी में 45 मरीज अब तक स्वस्थ हो चुके हैं। सभी 14 इटालियन संक्रमित भी ठीक हो चुके हैं। जबकि अमेरिका से आए 21 में से 21 मरीज भी स्वस्थ हो गए हैं।
... और पढ़ें

हरियाणा में नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो का गठन, श्रीकांत जाधव को मिली कमान

हरियाणा में नशे के जड़ से खात्मे के लिए हरियाणा स्टेट नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो का गठन हो गया है। गृहमंत्री अनिल विज ने इस बात का एलान करते हुए बताया कि इसकी कमान जिम्मेदार ऑफिसर श्रीकांत जाधव को सौंपी गई है। श्रीकांत जाधव हरियाणा स्टेट नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो के चीफ होंगे।

अनिल विज ने बताया कि गृहमंत्री बनते वक्त ही उन्होंने नशाखोरी और नशा तस्करी को प्रदेश से खत्म करने की ठान ली थी। इसके खिलाफ ब्यूरो के गठन की प्रक्रिया शुरू कर दी थी। बताया कि नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो के लिए लगभग 325 पोस्ट सेंशन भी कर दी गई हैं। विज ने इस मामले में आज श्रीकांत जाधव के साथ बैठक की और उन्हें इस ब्यूरो के लिए आधुनिक संसाधन मुहैया करवाने की बात कही। 


यह भी पढ़ें-
इन एप से रहें सावधान! पुलिस को जारी करनी पड़ी एडवाइजरी, वरना बैंक खाता हो जाएगा खाली

अनिल विज का दावा है कि अब हरियाणा से नशे को जड़ से सफाया कर दिया जाएगा। मालूम हो कि सूबे में पंजाब के साथ लगते बार्डर क्षेत्र से नशे की खेप आनी शुरू हो गई है। पंजाब के बाद सरकार हरियाणा के युवाओं को नशे के शिकंजे में फंसता नहीं देखना चाहती। इसलिए सरकार ने नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो का गठन किया है। श्रीकांत यादव को इस महकमे की कमान देने का मतलब है कि प्रदेश में नशे के खात्मे के लिए उन्हें रात दिन एक करना होगा। 
... और पढ़ें

गृह मंत्री अमित शाह के साथ बैठक में फैसला, गुरुग्राम-फरीदाबाद समेत पांच जिलों में बढ़ेगी कोरोना की जांच

गृह मंत्री अनिल विज।
हरियाणा सरकार कोरोना से ज्यादा प्रभावित राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र के पांच जिलों पर अब विशेष ध्यान देने जा रही है। इन जिलों में कोविड-19 के लिए टेस्टिंग ज्यादा की जाएगी। आईसीयू बेड, वेंटीलेटर आदि की सुविधाओं को भी बढ़ाया जाएगा। केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह से वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए बैठक में यह निर्णय लिया।

सीएम मनोहर लाल के साथ उपमुख्यमंत्री दुष्यंत चौटाला ने इसमें हिस्सा लिया। बैठक के बाद सीएम व डिप्टी सीएम ने बताया कि गुरुग्राम, फरीदाबाद, सोनीपत, रोहतक और झज्जर जिलों में कोरोना से निपटने के लिए दिल्ली जितने इंतजाम किए जाएंगे। इन जिलों में मौजूद सुविधाओं के बारे में वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के दौरान चर्चा की गई।


यह भी पढ़ें-
इन एप से रहें सावधान! पुलिस को जारी करनी पड़ी एडवाइजरी, वरना बैंक खाता हो जाएगा खाली

दुष्यंत चौटाला ने कहा कि हाल ही में उत्तर प्रदेश में बिना लक्षण वाले तीन मरीजों की 24 घंटे के भीतर ही ऑक्सीजन स्तर अचानक कम होने से मौत हुई है। इसको ध्यान में रखते हुए हरियाणा में भी तैयारी अब ऐसी होनी चाहिए कि बिना लक्षण वाले मरीजों को ऑक्सीजन की सुविधा तुरंत दी जा सके।

उन्होंने ऑक्सीमीटर के जरिये मरीजों के ऑक्सीजन के स्तर पर नजर रखने की आवश्यकता पर जोर दिया। सीएम ने कहा कि एनसीआर में कोरोना से निपटने के लिए केंद्र, हरियाणा, दिल्ली और उत्तर प्रदेश सरकार अब मिलकर काम कर रही हैं। इसका असर बीते तीन दिनों में कोरोना के मामले कम होने के रूप में देखने को मिला है। 

हरियाणा में प्लाज्मा थेरेपी की सुविधा दी जा रही है और स्वास्थ्य विभाग इसके विस्तार पर काम कर रहा है। सरकार के प्रयासों से हरियाणा में मरीजों के ठीक होने की दर लगातार बढ़ रही है। हरियाणा के दो जिलों में कोरोना टेस्टिंग में पॉजिटिव आने की दर 10 प्रतिशत से ज्यादा है। उन्होंने कहा कि केंद्र और आईसीएमआर की गाइडलाइन के मुताबिक जितने बेड और आईसीयू आदि चाहिए हों, हरियाणा में उनके हिसाब से 85-90 प्रतिशत मानक पूरे हो रहे हैं।
... और पढ़ें

युवती का आरोप- बहन ने कोल्ड ड्रिंक में नशीला पदार्थ पिलाया, भाइयों ने किया दुष्कर्म, 34 लाख भी ऐंठे

एक कॉलोनी में बहन की मदद से दो भाइयों ने युवती को कोल्ड ड्रिंक में नशीला पदार्थ पिलाकर दुष्कर्म किया। आरोपियों ने उसकी फोटो व वीडियो बना ली। फोटो और वीडियो वायरल करने के आधार पर आरोपियों ने युवती को ब्लैकमेल कर कई साल तक संबंध बनाए। युवती का आरोप है कि आरोपियों ने ब्लैकमेल कर उससे करीब 34 लाख रुपये हड़प लिए। रुपये मांगने पर आरोपियों ने उसे व उसके भाई को जान से मारने की धमकी दी।

पुलिस ने उसकी शिकायत पर दोनों भाइयों व बहन के खिलाफ केस दर्जकर जांच शुरू कर दी है। फर्कपुर थाना क्षेत्र की एक कॉलोनी निवासी युवती ने पुलिस को दी शिकायत में बताया कि कैंप की रणजीत कॉलोनी निवासी दो भाई और उनकी बहन अपने परिजनों के साथ वर्ष 2014 तक उनके पड़ोस में रहते थे। 


यह भी पढ़ें-
इन एप से रहें सावधान! पुलिस को जारी करनी पड़ी एडवाइजरी, वरना बैंक खाता हो जाएगा खाली

पड़ोस में रहने की वजह से उसकी बहन के साथ दोस्ती हो गई। जिसके चलते वह अक्सर उनके घर आती जाती थी। उस समय उसकी उम्र करीब 17 साल थी। इस दौरान आरोपी बहन ने उसकी अपने दोनों भाइयों के साथ दोस्ती करवा दी। जिसके बाद वह बहन की मौजूदगी में उसके भाइयों के साथ बैठकर बातचीत करने लगी। 
... और पढ़ें

कोरोना संक्रमण से मरने वालों की अस्थियां लेने से परिजनों का इंकार, आत्मा को मुक्ति का इंतजार

निजी स्कूलों से नहीं मांग सकते सूचना के अधिकार के तहत जानकारी: पंजाब-हरियाणा हाईकोर्ट

सूचना के अधिकार मामले में पंजाब एवं हरियाणा हाईकोर्ट ने निजी स्कूलों को बड़ी राहत दी है। हाईकोर्ट ने स्पष्ट कर दिया है कि निजी स्कूलों से सूचना के अधिकार के तहत जानकारी नहीं मांगी जा सकती। अगर शिक्षा विभाग निजी स्कूलों की कोई जानकारी अपने पास रखता है तो विभाग उस जानकारी को अन्य को शेयर नहीं कर सकता। हाईकोर्ट ने इस मामले में हरियाणा शिक्षा विभाग को नोटिस जारी कर जवाब भी मांग लिया है।

हरियाणा प्राइवेट स्कूल ट्रस्ट हिसार द्वारा दायर याचिका में हरियाणा सरकार के उन आदेशों को रद्द करने की मांग की गई थी जिसमें सरकार ने उनको सूचना के अधिकार के तहत जानकारी देने का आदेश दे रखा है। याची स्कूल ने हाईकोर्ट को बताया कि वह सेल्फ फाइनेंस स्कूल है। सूचना के अधिकार के तहत उसके बच्चों व टीचरों की जानकारी तीसरे पक्ष को नहीं दी जा सकती।


यह भी पढ़ें-
इन एप से रहें सावधान! पुलिस को जारी करनी पड़ी एडवाइजरी, वरना बैंक खाता हो जाएगा खाली

 हाईकोर्ट एक मामले में फैसला दे चुका है कि निजी स्कूल को सूचना के अधिकार के तहत नहीं रखा जा सकता। बता दें, लॉकडाउन की अवधि के दौरान निजी स्कलों पर अभिभावक सूचना के अधिकार के तहत आय से संबंध जानकारी देने की मांग कर रहे थे। इससे निजी स्कूल असमंजस में थे। अभिभावक शिक्षा विभाग के अधिकारियों पर भी निजी स्कूलों की जानकारी देने की मांग कर रहे थे। 
... और पढ़ें
Election
  • Downloads

Follow Us

विज्ञापन