विज्ञापन
विज्ञापन
ढाई साल बाद शनि बदलेंगे अपनी राशि , कुदृष्टि से बचने के लिए शनि शिंगणापुर मंदिर में कराएं तेल अभिषेक
Astrology Services

ढाई साल बाद शनि बदलेंगे अपनी राशि , कुदृष्टि से बचने के लिए शनि शिंगणापुर मंदिर में कराएं तेल अभिषेक

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

From nearby cities

जींदः तीन माह की दुल्हन ने घरवालों को खिलाई नींद की गोलियां, चार लाख रुपये और गहने लेकर फरार

24 जनवरी को उसके घर पर रेशमा के चाचा का बेटा बागिश मुंडा आया था। रात को वह रुका था।

27 जनवरी 2020

विज्ञापन
विज्ञापन

हिसार

सोमवार, 27 जनवरी 2020

स्नेचिंग के मामले में तीन दोषियों को 5-5 वर्ष कैद

स्नेचिंग के मामले में दोषी करार तीन युवकों को एडीजे डॉ. पंकज की अदालत ने बुधवार को 5-5 वर्ष कैद की सजा सुनाई। अदालत ने दोषियों पर 5-5 हजार रुपये जुर्माना भी लगाया है। जुर्माना नहीं भरने पर तीनों को 15-15 दिन की अतिरिक्त सजा भुगतनी होगी। इस मामले में 25 दिसंबर 2017 को पीएलए निवासी सुमन शर्मा ने सिविल लाइन थाना पुलिस को शिकायत दी थी। शिकायत में सुमन शर्मा ने बताया था कि 25 दिसंबर 2017 को वह दवा लेने के लिए जा रही थी। जैसे ही वह पीएलए स्थित एक होटल के पास पहुंची तो उसी दौरान बाइक सवार तीन युवकों ने आकर उसके हाथ से पर्स छीन लिया और मौके से फरार हो गए। पर्स में मोबाइल फोन के अलावा चार हजार रुपये थे। पुलिस ने मामले में ठंडी सड़क पर वाल्मीकि मोहल्ला निवासी हसनअली, लक्की और अनिल कुमार के खिलाफ केस दर्ज किया था। इस मामले में सोमवार को एडीजे डॉ. पंकज की अदालत ने तीनों को दोषी करार देते हुए सजा का फैसला बुधवार तक सुरक्षित रख लिया था। अदालत ने बुधवार को तीनों को उपरोक्त सजा सुनाई। ... और पढ़ें

मेयर का 48 घंटे का अल्टीमेटम आज होगा खत्म : राजगुरु मार्केट में स्थायी अतिक्रमण नहीं हटा तो जेसीबी से तोड़ेगा निगम

शहर के सबसे व्यस्तम बाजार राजगुरु मार्केट में दुकानों के आगे किए गए स्थायी अतिक्रमण को नगर निगम प्रशासन जेसीबी से तोड़ेगा। मेयर के बाद अब निगम कमिश्नर डॉ. जेके आभीर ने भी अधिकारियों को सख्त आदेश जारी कर दिए हैं। मेयर का दिया हुआ 48 घंटे का अल्टीमेटम वीरवार को खत्म होगा। ऐसे में कमिश्नर ने अधिकारियों को उन बाजारों की सूची तैयार करने के निर्देश दिए हैं, जहां पर बड़े स्तर पर दुकानदारों ने अतिक्रमण किया हुआ है। वहीं, दूसरी तरफ बिश्नोई मंदिर मार्केट की एसोसिएशन ने निगम प्रशासन के सामने दावा किया है कि अगर निगम अधिकारी राजगुरु मार्केट से अतिक्रमण हटवा देंगे तो उनकी मार्केट के दुकानदार अपने आप दुकानों के बाहर रखा सामान अंदर कर देंगे और भविष्य में भी अतिक्रमण नहीं करेंगे।
कमिश्नर ने अधिकारियों के साथ की बैठक
बुधवार को कमिश्नर डॉ. जेके आभीर ने तकनीकी शाखा के अधिकारियों के साथ अतिक्रमण हटाने के अभियान को लेकर बैठक की। बैठक में कमिश्नर ने स्पष्ट कहा कि चालान काटने के साथ-साथ बाजारों से स्थायी अतिक्रमण भी हटाया जाना चाहिए। इसके लिए जरूरत पड़े तो जेसीबी का भी प्रयोग किया जाए। उन्होंने कहा कि जो व्यापारी या दुकानदार अपनी दुकान के आगे किया अतिक्रमण अपने आप नहीं हटाएगा तो पहले उसका चालान किया जाएगा। इसके बाद स्थायी अतिक्रमण को जेसीबी से तुड़वा दिया जाएगा।
एसोसिएशन बोली, एक मार्केट को भी आदर्श बनाकर दिखा दे निगम प्रशासन
वहीं, बिश्नोई मंदिर मार्केट वेलफेयर एसोसिएशन के पदाधिकारी मार्केट की पार्किंग व्यवस्था लेने और अतिक्रमण के मामले में मेयर गौतम सरदाना व कमिश्नर डॉ. जेके आभीर से मिले। इस दौरान एसोसिएशन प्रधान राजेंद्र चुटानी ने दावा किया कि निगम अधिकारी राजगुरु मार्केट से दुकानों के आगे अतिक्रमण हटवा दें, हमारी मार्केट में व्यापारी अपने आप हटा लेंगे। निगम अधिकारियों को बिश्नोई मंदिर मार्केट में अतिक्रमण हटाने के बाद जबरदस्ती करने की जरूरत नहीं पड़ेगी। उन्होंने कहा कि निगम प्रशासन कम से कम एक मार्केट को तो आदर्श बनाकर दिखा दे, जहां न कोई अतिक्रमण हो और न ही पार्किंग समस्या आए।
वाहन तो क्या पैदल निकलने वालों को भी हो रही मुश्किल
राजगुरु मार्केट व इसके साथ लगते बाजारों में बड़े पैमाने पर अतिक्रमण किया हुआ है। हालात ऐसे हैं कि वाहन तो क्या पैदल निकलने वालों को भी हर रोज मुश्किल होती है। बरामदों को आम ग्राहकों के आवागमन के लिए बनाया गया था लेकिन सभी बरामदों में दुकानों का सामान रखा नजर आता है। इतना ही नहीं कई दुकानदार तो इन बरामदों से आगे भी सामान सजाए रखते हैं।
यदि बाजारों में व्यापारी 24 घंटे में अतिक्रमण नहीं हटाते हैं, तो निगम प्रशासन व्यापारियों के चालान काटेगा। इसके साथ ही स्थायी अतिक्रमण को जेसीबी से हटाया जाएगा। इसकी शुरुआत राजगुरु मार्केट से की जाएगी। अधिकारियों को आदेश दे दिए गए हैं।
डॉ. जेके आभीर, कमिश्नर, नगर निगम
अगर अधिकारियों ने राजगुरु मार्केट का अतिक्रमण हटवा दिया तो बिश्नोई मंदिर मार्केट के हम दुकानदार अपने आप अतिक्रमण हटवाएंगे। पार्किंग व्यवस्था भी हमें देने के लिए मांग की गई है। शौचालय बनवा देंगे तो उनका रखरखाव भी हम कर लेंगे।
राजेंद्र चुटानी, प्रधान, बिश्नोई मंदिर मार्केट एसोसिएशन।
... और पढ़ें

जजपा-इनेलो विवाद में आया नया मोड़, चाचा का बड़ा आरोप और भतीजे का करारा जवाब, बोले...

हरियाणा में जजपा और इनेलो में चल रहे विवाद में नया मोड़ आ गया है। चाचा ने तंज कसते हुए जो बात कही, उसका भतीजे ने करारा जवाब दिया। इनेलो नेता अभय चौटाला ने हरियाणा के उपमुख्यमंत्री और भतीजे दुष्यंत चौटाला की पार्टी पर एक बड़ा आरोप मढ़ दिया है।

अभय चौटाला ने कहा कि जजपा कभी भी भाजपा में विलय कर सकती है। भाजपा ने जजपा का समर्थन नहीं मांगा था। यह लोग खुद हिमाचल से मंत्री अनुराग ठाकुर को लेकर भाजपा के खेमे में समझौता करने गए थे।

दुष्यंत जवाब दें कि वे जेपी नडडा को बधाई देने क्यों पहुंचे? क्या उनकी पार्टी का व्यक्ति राष्ट्रीय अध्यक्ष बना था या फिर उनकी पार्टी का कोई लेना देना था। कभी वे राजनाथ सिंह से मिलने जाते हैं कभी सीतारमण से तो कभी अमित शाह से। जाना है तो अपने विभाग से संबंधित किसी मंत्री के पास जाएं और बताएं हरियाणा के लिए क्या ले कर आएं हैं।

पूर्व सीएम ओम प्रकाश चौटाला के जजपा में शामिल होने की अटकलों को लेकर उन्होंने कहा कि वे पहले ही स्पष्ट कर चुके हैं कि वे किसी गद्दार से समझौता नहीं करेंगे। मैं उन्हें जानता हूं। जीवन में कभी उन्होंने अपने आप से समझौता नहीं किया।
... और पढ़ें

एसपी से बिजली मंत्री बोले- लास्ट वार्निंग दे रहा हूं, अवैध खुर्दे बंद कराओ नहीं तो एक्शन लूंगा

बिजली मंत्री रणजीत सिंह ने सोमवार को लघु सचिवालय में जिला कष्ट निवारण समिति की बैठक ली। बैठक की शुरुआत में ही बिजली मंत्री पुलिस अधीक्षक की कार्यप्रणाली से नाराज दिखे। पहली ही शिकायत की सुनवाई में मंत्री ने कहा कि पुलिस ने इस मामले को ढीला कर दिया है। इसके बाद जब गांव बुगाना की एक युवती व महिला ने गांव में अवैध शराब बिक्री की शिकायत रखी तो उसी पर शहर के पार्षदों ने भी जगह-जगह दुकानों में शराब बिकने की बात कही। 

पार्षद ने कहा कि एसपी को भी पूरी जानकारी दी हुई है। इस पर नाराजगी जताते हुए बिजली मंत्री ने एसपी शिवचरण से मुखातिब होते हुए कहा कि एसपी साहब क्या करते हैं आप। लास्ट वार्निंग दे रहा हूं। अवैध खुर्दे बंद करवाओ, नहीं तो अगली बार एक्शन लूंगा। अपने सभी एसएचओ को खींचो। अगली बैठक में इस बारे में स्पेशल पूछा जाएगा। एसपी के पास जी सर के अलावा कोई संतोषजनक जवाब नहीं मिला।

पार्षद बोले- हमने एसपी के साथ बैठक में दी थी पूरी जानकारी
बैठक में वार्ड आठ के पार्षद भूप सिंह रोहिल्ला ने मंत्री के सामने कहा कि पार्षदों व मेयर की एसपी के साथ करीब दो माह पहले बैठक हुई थी। वार्डों में चल रहे अवैध शराब के खुर्दों की जानकारी दी थी। मगर आज तक भी उन पर कार्रवाई नहीं हुई। इसके बाद समिति के कई अन्य सदस्यों की ओर से भी मंत्री के समक्ष जिले में अवैध रूप से शराब बिकने की शिकायतें रखी गईं। मंत्री रणजीत सिंह ने 12 शिकायतों पर सुनवाई की। इसमें से सात शिकायतों का मौके पर ही समाधान किया तथा शेष शिकायतों के समाधान के लिए अधिकारियों को आवश्यक दिशा-निर्देश दिए। 
... और पढ़ें
हिसार में जिला कष्ट निवारण समिति की बैठक हिसार में जिला कष्ट निवारण समिति की बैठक

जमीन की खरीद-फरोख्त के नाम पर 1.10 करोड़ की ठगी

धोखाधड़ी के दो अलग-अलग मामलों में पुलिस ने पीड़ित लोगों की शिकायत पर केस दर्ज किए हैं। एक मामले में डिफेंस कॉलोनी निवासी अंजू देवी ने सिविल लाइन थाना पुलिस को शिकायत दी कि अग्रवाल कॉलोनी निवासी सुशीला रानी, ममता सिंगला, मधु सिंगला और दिनेश सिंगला ने बालसमंद रोड पर करीब 23 कनाल आठ मरले भूमि की खरीद-फरोख्त के मामले में उससे एक करोड़ 10 लाख रुपये की धोखाधड़ी कर ली।
अंजू देवी ने पुलिस को दी शिकायत में बताया कि उसके पति सुरेश कुमार ने इन आरोपियों से वर्ष 2014 में बालसमंद रोड पर करीब 23 कनाल 8 मरले जमीन की खरीद को लेकर इकरारनामा किया था। जमीन की कीमत करीब 1 करोड़ 10 लाख रुपये की अदायगी भी कर दी गई। आधी कीमत चेक के जरिये दी गई थी। इसके बावजूद आरोपितों ने उनके पति के नाम जमीन नहीं करवाई। मई 2017 में शिकायतकर्ता के पति सुरेश कुमार की मौत हो गई। इसके बाद अंजू देवी के नाम जमीन करवाने को लेकर कोर्ट का नोटिस भी आरोपियों को भिजवाया गया। कोर्ट ने 11 अक्तूबर 2018 को रजिस्ट्री की तारीख भी मुकर्रर कर दी। तय तारीख को आरोपी तहसील में भी उपस्थित नहीं हुए। पुलिस ने अंजू देवी की शिकायत पर पांचों आरोपियों के खिलाफ धारा 406 और 420 के तहत केस दर्ज कर लिया है।
जमीन पर ले रखा है लोन
अंजू देवी का कहना है कि आरोपियों ने इस जमीन पर बैंक से करीब 4.75 करोड़ लोन भी ले रखा था। यह बात उन्होंने इकरारनामे में भी नहीं बताई। उसके पति की मौत के बाद जब तहसील से कागजात लिए गए तो उनको लोन के बारे में पता चला।
कार खरीद के नाम पर की धोखाधड़ी
हिसार। कृष्णा नगर निवासी अनूप ने अर्बन एस्टेट थाना पुलिस को शिकायत दी कि उसने लोन पर ली अपनी फॉर्च्यूनर कार इलाहाबाद में करमट चौकी निवासी बबलू अहमद को बेची थी। जिसको लेकर आरोपी ने अनूप को कुछ राशि अदा कर दी, लेकिन लोन की बाकी किस्तों के माध्यम से अदा करने की बात हुई। पीड़ित अनूप ने आरोप लगाया कि आरोपी बबलू ने प्रयागराज निवासी मोहम्मद जैद के साथ मिलकर फर्जी कागजात के सहारे प्रयागराज आरटीओ कार्यालय से यह गाड़ी यूपी नंबर में ट्रांसफर करवा ली। पीड़ित ने बताया कि कुछ समय बाद उसे पता चला कि गाड़ी की किस्तें उसके ही बैंक खाते से कटती रही। पीड़ित के अनुसार उसने मामले को लेकर मार्च 2019 को एसपी कार्यालय में इस संबंध में शिकायत भी दी। आरोप है कि शिकायत के बावजूद कार्रवाई नहीं की गई। मामले में पीड़ित ने अब अर्बन एस्टेट थाना पुलिस को इसकी शिकायत दी है। पुलिस ने अनूप की शिकायत पर बबलू अहमद, मोहम्मद जैद और प्रयागराज आरटीओ के खिलाफ धोखाधड़ी का केस दर्ज किया है।
... और पढ़ें

गणतंत्र दिवस समारोह के लिए महाबीर स्टेडियम को दो सेक्टर में बांटा

गणतंत्र दिवस पर महाबीर स्टेडियम में होने वाले समारोह को लेकर जिला पुलिस ने सुरक्षा के कड़े प्रबंध कर लिए हैं। एसपी शिवचरण ने बताया कि महाबीर स्टेडियम में गणतंत्र दिवस के अवसर पर उपायुक्त डॉ. प्रियंका सोनी मुख्यातिथि के रूप में शिरकत कर ध्वजारोहण करेंगी। इस दौरान परेड की कमांड डीएसपी जोगेंद्र शर्मा संभालेंगे। एसपी ने बताया कि जिला पुलिस की दो प्लाटून, हरियाणा सशस्त्र पुलिस की एक प्लाटून, हरियाणा गृह रक्षी की एक प्लाटून, एनसीसी कैडेट्स की छह प्लाटून व स्काउट कैडेट्स की दो प्लाटून परेड में भाग लेंगी।
एसपी ने बताया कि समारोह के दिन महाबीर स्टेडियम को दो भागों में विभाजित किया गया है। जिसमें सेक्टर-1 में महाबीर स्टेडियम के अंदर का समस्त भाग, जिसमें वीआईपी स्टेज व सभी द्वार शामिल हैं। सेक्टर-2 में महाबीर स्टेडियम का बाहर का हिस्सा, जिसमें मुख्य द्वार व वाहन पार्किंग को रखा गया है। उन्होंने बताया कि महाबीर स्टेडियम हिसार में आम जनता व कलाकारों के प्रवेश के लिए चार द्वार निश्चित किए गए हैं। प्रवेश द्वार 1 और 2 को मधुबन पार्क की तरफ से आमजन के लिए व प्रवेश द्वार 3 और 4 पंचायत भवन की ओर से महाबीर स्टेडियम से जोडे़ गए हैं।
यहां लगाए जाएंगे विशेष नाके
समारोह के मद्देनजर बस स्टैंड, रेलवे स्टेशन, होटलों, ढाबों, धर्मशालाओं व गेस्ट हाउस के अलावा भीड़-भाड़ वाले क्षेत्रों में पुलिस की ओर से लगातार पेट्रोलिंग की जाएगी। यातायात सुचारु रूप से चलाने के लिए फव्वारा चौक, फ्लाई ओवरब्रिज व टी प्वाइंट महाबीर स्टेडियम तक, केनाल रेस्ट हाउस, मधुबन पार्क गेट के पास, टी प्वाइंट शर्मा अस्पताल के सामने, जिंदल टावर के पास और एचएयू गेट न. 1 के पास कुछ विशेष नाके लगाए जाएंगे।
... और पढ़ें

महिला से सामूहिक दुष्कर्म मामले में दो लोगों को 20-20 वर्ष कैद

महिला से सामूहिक दुष्कर्म के मामले में शुक्रवार को एडीजे डॉ. पंकज की अदालत ने ढाणी पीरावाली निवासी भूप और सतबीर को 20-20 साल कैद की सजा सुनाई। अदालत ने दोनों दोषियों पर 1.55-1.55 लाख रुपये जुर्माना भी लगाया। जुर्माना नहीं भरने पर दोनों को 6-6 माह की अतिरिक्त सजा काटनी होगी। अदालत ने दोनों को 21 जनवरी को दोषी करार दिया था।
मामले में अप्रैल 2019 को एक महिला ने हांसी महिला थाने में शिकायत दी थी कि नौ अप्रैल को वह अपने पति के साथ बाइक पर ढाणी केंदू जा रही थी। रात करीब नौ बजे नहर पुल पहुंचते ही ढाणी पीरावाली निवासी भूप और सतबीर ने उनकी बाइक रोककर उसके पति से मारपीट करनी शुरू कर दी। महिला ने आरोप लगाया था कि उस दौरान दोनों आरोपी उसे जबरन बाइक पर खेतों में ले गए, जहां दोनों ने उसके साथ सामूहिक दुष्कर्म किया। इसके बाद दोनों उसे किसी छोड़कर वहां से फरार हो गए। पुलिस ने पीड़िता की शिकायत पर दोनों आरोपियों के खिलाफ विभिन्न धाराओं के तहत केस दर्ज किया था।
किस धारा के तहत क्या सजा
धारा - सजा - जुर्माना - अतिरिक्त सजा
376 डी - 20 वर्ष - डेढ़ लाख रुपये - 6 माह
365 - 5 वर्ष - 5 हजार रुपये - एक माह
341 - एक माह
323 - छह माह
... और पढ़ें

हत्या के मामले में दो को उम्रकैद की सजा, 50-50 हजार रुपये जुर्माना भी लगाया

खरड़ अलीपुर में युवक की गोली मारकर हत्या करने के मामले में एडीजे सीमा सिंघल की अदालत ने शुक्रवार को दो लोगों को उम्रकैद की सजा सुनाई। दोनों पर अदालत ने 50-50 हजार रुपये जुर्माना भी लगाया। जुर्माना नहीं भरने पर दोनों दोषियों को एक-एक वर्ष की अतिरिक्त सजा काटनी होगी। दोनों दोषियों को आर्म्स एक्ट के तहत भी 3-3 वर्ष कैद और 10-10 हजार रुपये जुर्माना लगाया।
मामले में खरड़ अलीपुर निवासी मंजीत ने 16 नवंबर 2015 को सदर थाने में शिकायत दी थी कि वह 16 नवंबर 2015 को अपने परिवार सहित गांव में ही किसी कार्यक्रम से भाग लेकर लौट रहा था। शाम करीब सवा छह बजे उसके भाई संदीप पर दो बाइकों पर सवार चार लोगों ने गोलियां चला दीं। पुलिस ने मंजीत की शिकायत पर खरड़ निवासी अमर उर्फ अमरजीत उर्फ देशड़ व तीन अन्य के खिलाफ केस दर्ज किया था। मामले में पुलिस ने अमर उर्फ अमरजीत उर्फ देशड़ व थुराना निवासी नवदीप उर्फ दीपक को गिरफ्तार कर लिया था।
... और पढ़ें

एयरफोर्स में नौकरी के नाम पर 2 युवकों के परिजनों से 20 लाख की ठगी

उपमंडल के अलग-अलग गांवों के दो युवकों के साथ एयरफोर्स में नौकरी के नाम पर 20 लाख की ठगी किए जाने का मामला सामने आया है। पीड़ित पक्ष के मुताबिक नौकरी नहीं लगने पर जमानत के तौर पर उनके पास रखा गया बैंक का चेक भी बाउंस हो गया। शिकायत के आधार पर पुलिस ने राजस्थान निवासी चार लोगों के खिलाफ धोखाधड़ी सहित विभिन्न धाराओं के तहत केस दर्ज किया है।
बड़वा निवासी पृथ्वी सिंह और बख्तावरपुरा निवासी राजेंद्र कुमार के मुताबिक उनके दोनों भांजों अभिमन्यु व मनीष ने एयरफोर्स के लिए फार्म भरे हुए थे। इस दौरान उनकी मुलाकात हनुमानगढ़ जिले के विनोद कुमार से हुई। विनोद ने उन्हें एयरफोर्स में नौकरी लगवाने का वादा किया और उनकी मुलाकात अपने परिचितों से करवाई। इस दौरान उनके बीच सौदा 10-10 लाख रुपये में तय हुआ और आरोपियों ने दोनों से दो-दो लाख रुपये भी ले लिए। इसके बाद विनोद अपने साथियों के साथ उनके घर आया और जल्द ज्वाइनिंग करवाने का झांसा देकर उनसे आठ-आठ लाख रुपये की नकद राशि भी ले गया। शक न हो इसलिए जमानत के तौर पर एक-एक चेक भी उन्हें दिया। जब दोनों युवकों का चयन नहीं हुआ तो विनोद व उसके साथियों ने फोन उठाने बंद कर दिए। चेक बैंक में लगाया तो बाउंस हो गया। शिकायतकर्ताओं का आरोप है कि जब वे विनोद व उसके साथियों के घर गए तो उन्होंने पैसे देने से मना किया और जान से मारने की धमकी भी दी। जांचकर्ता एसआई सूरजभान ने बताया कि साहुवाला निवासी विनोद कुमार व पवन कुमार, रावला मंडी निवासी मनीष कुमार और जोधपुर जिले के गांव नारायणपुरा निवासी मगाराम के खिलाफ विभिन्न धाराओं के तहत मामला दर्ज कर कार्रवाई शुरू कर दी है।
... और पढ़ें

सेना में नौकरी लगवाने के नाम पर ठगी करने के मामले में सेवानिवृत्त कर्नल गिरफ्तार

सेना में नौकरी लगवाने के नाम पर लाखों की ठगी करने के मामले में बालसमंद पुलिस ने शुक्रवार को प्रेम कुमार शर्मा उर्फ कर्नल को गिरफ्तार कर लिया है। इससे पहले पुलिस ने डोभी निवासी परमजीत को बुधवार को गिरफ्तार करके वीरवार को अदालत में पेश कर चार दिन का रिमांड पर हासिल किया था।
उल्लेखनीय है कि डोभी निवासी तीन युवाओं ने दिसंबर में सेना में नौकरी लगवाने के नाम पर लाखों रुपये ठगने के मामले में तीन युवाओं पर मामला दर्ज किया था। बालसमंद चौकी पुलिस ने शुक्रवार को हनुमानगढ़ क्षेत्र से गिरोह के मुख्य आरोपी अंबाला निवासी सेवानिवृत्त कर्नल प्रेम कुमार शर्मा को गिरफ्तार कर लिया। पुलिस मामले में आरोपियों से पूछताछ में जुटी है। पुलिस का कहना है कि रिमांड के दौरान परमजीत ने करीब 24 लोगों से नौकरी लगवाने के नाम पर लाखों रुपये लेकर अंबाला निवासी सेवानिवृत्त प्रेम शर्मा व राजस्थान के गालड़ निवासी विकास को देने की बात कुबूली है।
कई राज्यों से जुड़े हैं तार
सेना में नौकरी लगवाने के नाम पर इन शातिरों ने हरियाणा व राजस्थान के करीब 50 युवाओं से लाखों रुपये ऐंठे हैं। राजस्थान के जैतपुर के मनीरामदास ने भी अपने दो बेटों को नौकरी लगवाने के नाम पर 10 लाख रुपये दिए थे। डोभी के भी तीन युवाओं से भी इन ठगों ने 20 लाख 70 हजार रुपये ऐंठ लिए थे। युवाओं से लाखों रुपये ठगने के बाद आरोपियों ने विश्वास बनाए रखने के लिए युवाओं को एफिडेविट ओर चेक दिए थे, जो बैंक में लगाने पर बाउंस हो गए थे। वर्ष 2018 से डोभी निवासी विकास, मुकेश और दिनेश ने सेना में भर्ती के नाम पर लाखों रुपये विकास, वीरपाल और प्रेम उर्फ कर्नल को दिए थे। आरोपियों ने विकास से सात लाख, मुकेश से सात लाख और दिनेश से छह लाख 70 हजार रुपये लिए थे। आरोपियों ने युवाओं को फर्जी ज्वाइनिंग लेटर और गारंटी में चेक भी दिए थे। पुलिस ने शिकायत मिलने पर राजस्थान के चुरू जिला के गांव गालड़ निवासी विकास कुमार, अंबाला कैंट निवासी प्रेम कुमार शर्मा उर्फ कर्नल व वीरपाल के खिलाफ मामला दर्ज किया था।
डोभी निवासी परमजीत और अंबाला निवासी प्रेम शर्मा को गिरफ्तार कर लिया गया है। आरोपी विकास, वीरपाल, प्रेम उर्फ कर्नल ने युवाओं से सेना में नौकरी लगवाने के नाम पर लाखों रुपये की धोखाधड़ी की है। अन्य आरोपियों को जल्द गिरफ्तार कर लिया जाएगा।
- हरीश शर्मा, चौकी इंचार्ज, बालसमंद
... और पढ़ें

फिर दिखी निगम अधिकारियों की ड्रामेबाजी, डेढ़ घंटे में सात चालान काट लौटे

शहर के बाजारों से अतिक्रमण हटाने को लेकर एक बार फिर नगर निगम के अधिकारियों की ड्रामेबाजी देखने को मिली। ईओ और एमई के नेतृत्व में गई टीम डेढ़ घंटे में महज सात चालान काटकर लौट गई। वहीं, दुकानों के बाहर सामान लगाने वाले 25 दुकानदारों और रेहड़ी चालकों के नाम रजिस्टर में दर्ज किए गए।
दावा है कि इन दुकानदारों के पास बाद में चालान भेजा जाएगा। टीम को मेयर गौतम सरदाना के घर के पास ही वाल्मीकि चौक के चारों तरफ रेहड़ी धारकों का कब्जा मिला। इन्हें कर्मचारियों ने जाम का कारण नहीं बनने की हिदायत दी।
दीवारों के साथ बैठकर सामान बेचने वालों के उठाए बेंच
दरअसल, दोपहर 1:30 बजे ईओ मनविंद्र सिंह व एमई सुनील लांबा के नेतृत्व में तहबाजारी शाखा के कर्मचारी ट्रैक्टर ट्रॉली लेकर राजगुरु मार्केट में पहुंचे। यहां दुकानों के बाहर सामान रखने वाले एक दुकानदार का चालान किया गया। हालांकि, निगम टीम आने की सूचना के कारण पहले से ही दुकानदारों ने अपने बेंच व सामान दुकानों और बरामदों के अंदर रख लिया था। मगर जो लोग बिना दुकान ही दीवारों के साथ सामान बेचते हैं, उनके बेंच टीम द्वारा जब्त कर लिए गए।
प्लीज दस मिनट दे दो... तू नाम बता, चालान कटेगा
राजगुरु मार्केट के सामने से होते हुए टीम चौधरी मार्केट की तरफ आई। यहां दीवार के साथ बैठकर तीन लोग बेंच पर सामान बेच रहे थे। टीम ने पहले विक्रेता का सामान उतारकर बेंच उठा लिए। इसके बाद दूसरे ने अपने आप ही सामान उठा लिया। वहीं, जब तीसरे विक्रेता की बारी आई तो वह सामान उठाने के लिए दस मिनट का समय मांगने लगा। मगर कर्मचारियों ने उसका चालान काटने के लिए नाम पूछा। वह बार-बार दस मिनट देने की मांग करता रहा। इस पर तहबाजारी शाखा इंचार्ज सत्यदेव ने कहा कि अगर चालान नहीं कटा तो सामान जब्त होगा। आखिरकार विक्रेता का चालान काटा गया।
भाजपा नेता की मेज उठाई, जेनरेटर पीछे शिफ्ट करने को कहा
राजगुरु मार्केट के साथ लगती पूजा मार्केट के कोने पर बनी एक भाजपा नेता की दुकान के बाहर रखी मेज भी कर्मचारियों ने उठा ली। टीम को दुकान के बाहर ही जेनरेटर लगा हुआ भी मिला। जेनरेटर जब्त तो नहीं किया गया, लेकिन उसे दुकान के पीछे शिफ्ट करने की हिदायत दी गई।
हरिकृष्ण नाम है, काट दे चालान और के फांसी टांगोगे
वाल्मीकि चौक के पास टीम ने दो लोगों को सड़क के ऊपर ही रेहड़ी लगाए पाया। टीम ने उन्हें ऊपर रेहड़ी करने की हिदायत दी। एमई सुनील लांबा ने चालान काटने को कहा तो कर्मचारी ने रेहड़ी चालक से नाम पूछा। इस पर रेहड़ी चालक भड़क गया और बोला कि हरिकृष्ण नाम है, काट दो चालान और कै फांसी टांगोगे। बाद में दोनों रेहड़ी चालकों को चालान काटकर उन्हें भविष्य में सड़क से दूर रेहड़ी लगाने को कहा गया।
मेयर के घर के पास स्थित वाल्मीकि चौक अतिक्रमण से बदहाल
मेयर के घर के पास ही स्थित वाल्मीकि चौक अतिक्रमण से बदहाल हो चुका है। चौक के चारों तरफ रेहड़ी, फड़ लगाने वालों का कब्जा है। दुकानों के बाहर लोगों ने रेहड़ियां लगवा रखी हैं। इस चौक के चारों तरफ से आने वाले रास्तों पर भी दुकानों के बाहर अतिक्रमण है।
या ड्रामेबाजी सिर्फ दो दिन ही चालैगी...
टीम को देखकर दुकानदार आपस में ही ठहाके लगाते रहे और कटाक्ष करते दिखे। दुकानदार बोले कि या ड्रामेबाजी सिर्फ दो दिन ही चालैगी। इसकै बाद कोई पूछण कोनी आवै। वहीं, बाजार में आए ग्राहक बोले कि सिर्फ गरीब रेहड़ी और फड़ वालों पर ही निगम का जोर चालै सै। शोरूम आलां कै तो कानी भी कोनी देखदै।
सरदाना नै लगवा राखी है रेहड़ी
राजगुरु मार्केट से नीचे उतरकर वाल्मीकि चौक की तरफ जा रहे निगम अधिकारियों को ढलान पर दो रेहड़ी लगी दिखीं। इनमें से एक ने जूते-चप्पल रखे हुए थे, जबकि दूसरे ने चूड़ियां व अन्य शृंगार का सामान रखा हुआ था। जैसे ही टीम उनकी तरफ गई तो एक रेहड़ी चालक ने कहा कि मेयर सरदाना ने लगवा रखी है रेहड़ी। इसके बाद एमई सुनील लांबा ने रजिस्टर में नाम नोट कर रहे एक कर्मचारी को इस रेहड़ी चालक का भी नाम नोट करने की कही और टीम आगे निकल गई।
अतिक्रमण हटाओ अभियान चलाया गया है। दुकानदारों व रेहड़ी चालकों के सात चालान काटे गए हैं, 25 को चालान नोटिस भेजने के लिए रजिस्टर में नाम लिख लिया है। कार्रवाई आगे भी जारी रहेगी।
- सुनील लांबा, एमई, नगर निगम
राजगुरु मार्केट में नगर निगम के ईओ के सामने सामान छोड़ने के लिए हाथ जोड़ते दुकानदार दंपत्ति।
राजगुरु मार्केट में नगर निगम के ईओ के सामने सामान छोड़ने के लिए हाथ जोड़ते दुकानदार दंपत्ति।- फोटो : Hisar
... और पढ़ें

नागरिक अस्पताल के वार्ड नंबर-13 में चले लात-घूसे, दो घायल

जिला नागरिक अस्पताल के वार्ड नंबर-13 में उपचाराधीन चाचा-भतीजे के बीच वीरवार सुबह जमकर लात-घूसे चले। उस दौरान दोनों पक्षों के कई लोगों को चोटें भी आईं। दोनों घायलों ने एक-दूसरे पर मारपीट के आरोप लगाए। उस दौरान वार्ड में अफरा-तफरी का माहौल बन गया। दोनों पक्षों के बीच करीब 15 मिनट तक झगड़ा चलता रहा। इसे देखते हुए एक बार फिर अस्पताल में सुरक्षा व्यवस्था की कमी सामने आई। कुछ देर बाद मौके पर पहुुंचकर सुरक्षा कर्मचारियों ने बीचबचाव कर मामला शांत करवाया। इस बारे में पुलिस को मामले की सूचना दे दी है।
अस्पताल के वार्ड 13 में उपचाराधीन प्रवीन कुमार ने बताया कि वह गाड़ी चलाता है और मोठ लुहारी गांव का रहने वाला है। कुछ दिन पहले ही किसी व्यक्ति ने उसे बताया कि उसका चाचा रामपाल एक एकड़ जमीन बेच रहा है। जब वह मंगलवार रात करीब नौ बजे किसी काम से गांव के बस स्टैंड की ओर गया था। उसी दौरान उसका चाचा रामपाल और उसका बेटा सुखदेव वहां पर खड़े थे। जब उसने चाचा से जमीन बेचने को लेकर पूछा तो वह तैश में आ गया और उसने उससे गाली-गलौज करना शुरू कर दिया। जब उसने विरोध किया तो उसके चाचा और उसके बेटे और दो अन्य ने उसके साथ मारपीट करनी शुरू कर दी। उसे और उसके चाचा दोनों को चोटें आईं थीं। उसके बाद वे दोनों नारनौंद अस्पताल में पहुंचे, जहां से चिकित्सकों द्वारा रेफर करने के बाद उनके परिजनों ने उन्हें नागरिक अस्पताल दाखिल करवाया।
रंजिश को लेकर गांव के अलावा वार्ड में की हाथापाई
जानकारी के अनुसार घायल प्रवीन और उसका चाचा दोनों वार्ड 13 में भर्ती थे। यह वार्ड तीन भागों में बांटा हुआ है। एक घायल को पहले भाग और दूसरे को तीसरे भाग में लेटाया हुआ था। सुबह ही दोनों में फिर से झगड़ा हो गया। करीब 15 मिनट तक दोनों पक्षों में झगड़ा होता रहा। स्टाफ नर्सों ने झगड़े के बारे में उच्च अधिकारियों को जानकारी दी। इधर, घायल चाचा रामपाल का कहना है कि बुधवार सुबह उन्होंने कोई झगड़ा नहीं किया। उनकी ओर से झगड़ा करने वाला वार्ड में ओर कोई नहीं है, क्योंकि उसके पास उसकी पत्नी व एक बहन मौजूद हैं।
अस्पताल में झगड़े की सूचना मिली है। फिलहाल एक तरफ से शिकायत की गई है। घायलों के बयान दर्ज किए गए हैं। मामले की जांच करके आगामी कार्रवाई की जाएगी।
- एएसआई रविंद्र कुमार, अनाज मंडी चौकी प्रभारी, हिसार
... और पढ़ें

ट्रैफिक लाइटों में टाइमिंग की गड़बड़ी : ऑन करते ही लग जाता है जाम

शहर में जाम से मुक्ति दिलाने के लिए लगाई गईं ट्रैफिक लाइटों ने समस्या घटाने के बजाय बढ़ा दी है। हाल ही में कुछ चौक पर लगाई गईं नई ट्रैफिक लाइटों को चालू किया जाता है तो जाम बढ़ना शुरू हो जाता है और यदि इन लाइटों को बंद करके ट्रैफिक कर्मी मैनुअली व्यवस्था संभालते हैं तो ट्रैफिक सुचारु हो जाता है। फिलहाल इसका कारण इन लाइटों की समयावधि अधिक होना पाया गया है, जिसके चलते लाइटें लगाने वाली दिल्ली की कंपनी द्वारा शुक्रवार को इंजीनियर्स हिसार भेजे जाएंगे। इंजीनियर्स ट्रैफिक एसएचओ के कहे अनुसार लाइटों की टाइमिंग को री-सेट करेंगे।
दरअसल हाल ही में डाबड़ा चौक, आधार अस्पताल के समीप, तलाकी गेट, तुलसी गेट, बरवाला चुंगी सहित कई अन्य स्थानों पर नई ट्रैफिक लाइटें लगाई गई थीं। इनमें टाइमिंग की समस्या गंभीर है। इन लाइटों में 90 से 180 सेकेंड तक का समय दिया गया है, जो स्थान और ट्रैफिक के हिसाब से उचित नहीं है। यही कारण है कि इन लाइटों के चालू होते ही जाम की समस्या हो जाती है।
यूं समझिए समस्या का कारण
उदाहरण के लिए डाबड़ा चौक पर लगी लाइटों में 120 मिनट तक का समय है, लेकिन यहां पर जिंदल चौक से टाउन पार्क की ओर जाने वाले तथा टाउन पार्क से जिंदल चौक की तरफ जाने वाले रास्तों पर ट्रैफिक सबसे अधिक होता है। डाबड़ा रोड और निरंकारी भवन रोड से आने या जाने वाला ट्रैफिक कम होता है। लाइटें चालू होने के कारण ट्रैफिक को रुकना पड़ता है। कई बार समय अधिक होने के कारण डाबड़ा रोड और निरंकारी भवन रोड की तरफ से ट्रैफिक नहीं होता, लेकिन लाइटों के कारण दूसरी तरफ के ट्रैफिक को रुकना पड़ता है। ट्रैफिक कर्मी द्वारा अधिक ट्रैफिक वाले रोड को मैनुअली चलने का इशारा कर दिया जाता है। इस कारण लाइटें कामयाब नहीं हो पा रही हैं।
ट्रैफिक एसएचओ ने निगम की इलेक्ट्रिक ब्रांच से की बात
इसी समस्या को लेकर वीरवार को ट्रैफिक एसएचओ शमशेर सिंह और आरएसओ शुभम ने फोन पर नगर निगम की इलेक्ट्रिक ब्रांच में बात की। इसके बाद नगर निगम की इलेक्ट्रिक ब्रांच में जेई आरडी शर्मा ने इस समस्या को लेकर ट्रैफिक लाइटें लगाने वाली दिल्ली की कंपनी के अधिकारियों से बात की तो उन्होंने शुक्रवार को कंपनी के इंजीनियर्स हिसार भेजने की बात कही।
ट्रैफिक लाइटों की टाइमिंग आज होगी सेट
जेई आरडी शर्मा के अनुसार शहर में दिल्ली की जिस कंपनी को ट्रैफिक लाइटें लगाने का ठेका दिया गया था, उस कंपनी के इंजीनियर्स शुक्रवार को हिसार आएंगे। इंजीनियर्स की टीम ट्रैफिक लाइटों की टाइमिंग को री-सेट करेगी। यह टाइमिंग ट्रैफिक एसएचओ के बताए अनुसार ही होगी। एसएचओ ही इसके बारे में बताएंगे कि ट्रैफिक के अनुसार किस चौक पर लाइट की क्या टाइमिंग तय की जानी है।
ट्रैफिक लाइटों की टाइमिंग सेट करने के लिए शुक्रवार को टीम आएगी। टाइमिंग सही न होने के कारण जाम कम होने के बजाय ज्यादा लग रहा है। डाबड़ा चौक पर ज्यादा परेशानी होती है। इस बारे में आज नगर निगम अधिकारियों से बात भी की गई थी। फिलहाल मैनुअली ट्रैफिक को कंट्रोल किया जा रहा है।
- इंस्पेक्टर शमशेर सिंह, ट्रैफिक एसएचओ, हिसार
... और पढ़ें
अपने शहर की सभी खबर पढ़ने के लिए amarujala.com पर जाएं

Disclaimer

अपनी वेबसाइट पर हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर अनुभव प्रदान कर सकें, वेबसाइट के ट्रैफिक का विश्लेषण कर सकें, कॉन्टेंट व्यक्तिगत तरीके से पेश कर सकें और हमारे पार्टनर्स, जैसे की Google, और सोशल मीडिया साइट्स, जैसे की Facebook, के साथ लक्षित विज्ञापन पेश करने के लिए उपयोग कर सकें। साथ ही, अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।

Agree
Election
  • Downloads

Follow Us