विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
ढाई साल बाद शनि बदलेंगे अपनी राशि , कुदृष्टि से बचने के लिए शनि शिंगणापुर मंदिर में कराएं तेल अभिषेक : 14-दिसंबर-2019
Astrology Services

ढाई साल बाद शनि बदलेंगे अपनी राशि , कुदृष्टि से बचने के लिए शनि शिंगणापुर मंदिर में कराएं तेल अभिषेक : 14-दिसंबर-2019

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

From nearby cities

हरियाणाः कामकाज की फिजिकल वेरीफिकेशन शुरू, सीएम के पास पहुंची विभागों की गोपनीय रिपोर्ट

हरियाणा में भाजपा कार्यकर्ताओं ने सरकार के कामकाज की फिजिकल वेरीफिकेशन शुरू कर दी है।

6 दिसंबर 2019

विज्ञापन
विज्ञापन

कैथल

शुक्रवार, 6 दिसंबर 2019

दुकान पर बैठे सुनार की माथे में गोली मारकर हत्या, तीन साल पहले किया था प्रेम विवाह

तीन साल पहले प्रेम विवाह करने वाले युवक की तीन युवकों ने सोमवार दोपहर उसी की दुकान में गोली मारकर हत्या कर दी। पुलिस ने मृतक के भाई की शिकायत पर युवक के साले सहित ससुराल पक्ष के छह लोगों के खिलाफ हत्या, हत्या की साजिश के आरोप में केस दर्ज किया है। जानकारी के अनुसार, गुहला के गांव मैंगड़ा में दोपहर 12:30 बजे के करीब तीन युवक बिना नंबर वाली बाइक से आए और सुनार का काम करने वाले प्रिंस (24) के माथे में गोलियां मारकर फरार हो गए। 

लोगों ने प्रिंस को अस्पताल पहुंचाया, लेकिन तब तक उसकी मौत हो चुकी थी। पुलिस को दी शिकायत में भागल निवासी राजकुमार ने बताया कि उनका छोटा भाई प्रिंस वर्मा गांव मैंगड़ा में सुनार की दुकान करता था। उसने कुरुक्षेत्र जिले के गांव नीमवाला निवासी सुनीता से प्रेम विवाह किया था। उसकी दो बेटियां हैं। उसकी ससुराल के लोग अकसर धमकी देते थे। 
... और पढ़ें

आत्मविश्वास और आत्म रक्षा की तर्ज पर संपन्न हुआ आर्यवीर सम्मेलन

रविवार को आरकेएसडी कॉलेज में दो दिवसीय राज्य स्तरीय आर्य वीर सम्मेलन का समापन समारोह हुआ। जिसमें अलग-अलग जिलों से आए वीर दलों ने भाग लिया। सम्मेलन का शुभारंभ हवन से किया और मंत्रोच्चारण से सम्मेलन का समापन किया। जिसमें बागपत ( उत्तर प्रदेश ) के लोकसभा सांसद डॉ. सत्यपाल सिंह बतौर मुख्यातिथि रहे। उन्होंने कहा कि आर्य समाज ने हमेशा युवाओं के चरित्र निर्माण पर बल दिया है। वर्तमान में युवा अपनी संस्कृति से दूर हट रहे हैं, जिन्हें भारतीय संस्कृति से जोड़ना होगा। युवाओं को अच्छे संस्कार देकर उनके चरित्र का निर्माण करना होगा। उन्होंने कहा कि युवा स्वामी दयानंद सरस्वती द्वारा दिखाए गए रास्ते का अनुसरण करें तथा उनके पद चिन्हों पर चलकर मजबूत व संस्कार युक्त राष्ट्र का निर्माण करें।
आर्य वीर सम्मेलन के आयोजकों द्वारा महासम्मेलन के मुख्य अतिथि को स्मृति चिन्ह व शाल भेंटकर सम्मानित किया। पंडित धर्मपाल आर्य और सत्यवीर आर्य ने बताया कि यह सम्मेलन हर वर्ष दो दिन के लिए आयोजित किया जाता है। जिसमें समाज और युवा पीढ़ी को सामाजिक बुराईयों को मिटाने के लिए संदेश दिया जाता है। उन्होंने बताया कि समाज में जागरूकता लाने के लिए प्रयास किया जाता है। वहीं सम्मेलन के दौरान वारों ने आत्म रक्षा की लड़ाई के लिए नियम और संयम से योग, व्यायामों के माध्यम से अपने-अपने करतब दिखाए।
आकर्षक का केंद्र रही प्रदर्शनी: एक तरफ सम्मेलन तो दूसरी दुकानदारों ने प्रदर्शनी लगाई। जिसमें स्वामी विवेकानंद के विचारों को दर्शाया गया। इस अवसर पर आर्य वीर दल के संचालक उमेद शर्मा, वेद प्रकाश आर्य, आचार्य सोमदेव, ऋषिपाल, कार्यक्रम के संयोजक पवन कुमार आर्य, धर्मवीर आर्य, ब्रिजमोहन, बदन सिंह, रामबिलास, संजय सेतिया सहित गुरुकुल के ब्रह्मचारी व छात्र-छात्राएं व अन्य लोग उपस्थित रहे।
... और पढ़ें

शॉर्ट कट तरीके से अमीर बनने के लिए पार्षद प्रतिनिधि पर फायिरंग करके मांगी थी 20 लाख की फिरौती

पार्षद प्रतिनिधि पर गोली चलाकर जानलेवा हमला करने और 20 लाख रुपये फिरौती मांगने के मामले में पुलिस ने तीन आरोपियों को काबू किया है। तीन में से दो आरोपी गांव प्यौदा के रहने वाले हैं और एक हरिपुरा का निवासी है। आरोपियों ने शॉर्ट कट तरीके से पैसे कमाने के लिए पार्षद प्रतिनिधि पर गोलियां चलाई थी और फिरौती मांगी थी। तीन आरोपियों की उम्र 23 से 24 वर्ष के बीच है। उनके खिलाफ कई मामले दर्ज हैं।
रविवार को इस संबंध में डीएसपी मुख्यालय कुलवंत सिंह ने सीआईए टू थाना में प्रेस वार्ता की। उन्होंने बताया कि पुलिस ने तीनों आरोपियों को काबू कर न्यायिक हिरासत में भेज दिया है। फिरौती मांगने व कातिलाना हमला करने के मामलों में गिरफ्तारी के लिए अदालत की मार्फत प्रोटेक्शन वांरट जारी करवाया जाएगा।
डीएसपी ने बताया कि सीआईए वन प्रभारी इंस्पेक्टर अनूप सिंह की अगुवाई में पुलिस के एचसी मनीष कुमार, एचसी तरसेम सिंह, धर्म सिंह, अजीत सिंह व करनैल सिंह की टीम 30 नवंबर को जींद बाईपास पर पुराना सत्संग भवन के पास गुप्त सूचना के बाद बिना नंबर की बाइक पर सवार तीन युवकों को काबू किया। जिनकी पहचान गांव प्यौदा निवासी सोनू व सौरभ और गांव हरिपुरा निवासी संजय के रूप में हुई। जब पुलिस ने आरोपियों की तलाशी ली तो संजय के कब्जे से प्वाइंट 32 बोर का पिस्तौल और एक जिंदा कारतूस बरामद हुआ। सोहन से 315 बोर का देशी कट्टा और एक जिंदा कारतूस व सौरभ से दो कारतूस बरामद हुए। पुलिस ने जब तीनों आरोपियों से पूछताछ की तो उन्होंने आरोपियों ने कबूला कि उन्होंने ही 24 नवंबर को दीपक सचदेवा के भाई जोनी सचदेवा पर गोली चलाई थी। शॉर्टकट तरीके से पैसे कमाने के लिए उन्होंने 20 लाख रुपये की फिरौती भी मांगी थी।
डीएसपी कुलवंत सिंह ने बताया कि 24 नवंबर की रात हुडा सेक्टर 20 से गाड़ी में घर जा रहे सुभाष नगर निवासी युवक की गाड़ी पर ढांड रोड पर अज्ञात व्यक्तियों द्वारा गाली दाग दी गई, जो गाड़ी के पिछले शीशे से बैक सीट में घुस गई। घटना के अगले दिन 25 नवंबर की सुबह सुभाष नगर निवासी युवक के बड़े भाई के मोबाइल पर व्हाटसएप कॉल की और 20 लाख रुपये रंगदारी देने की मांग की गई। आरोपी सोनू प्यौदा द्वारा फॉरच्यूनर गाड़ी पर अवैध पिस्तौल से गोली दागने व संजू हरीपुरा द्वारा फिरौती मांगने की बात कबूला है।
इससे पूर्व भी आरोपियों पर दर्ज हैं केस: आरोपी संजू के खिलाफ इससे पूर्व जानलेवा हमला करने सहित करीब सात अन्य मामले दर्ज हो चुके है, जबकि आरोपी सौरभ पर मारपीट के दो अन्य मामले दर्ज हैं। तीनों आरोपियों ने गाड़ी की उसके रजिस्ट्रेशन नंबर से पहचान करके 20 लाख रुपये फिरौती मांगने से पूर्व उन्हें डराने के लिए कातिलाना हमला किया था। तीनों आरोपी रविवार को न्यायालय के आदेशानुसार न्यायिक हिरासत में भेज दिए गए।
... और पढ़ें

बिना किसी पॉलिसी के नगर परिषद अधिकारियों ने प्रस्ताव पारित करवाकर लगा दिया प्रॉपर्टी मोरगेज करने का शुल्क

नगर परिषद कैथल ने सितंबर माह में बोर्ड बैठक में प्रस्ताव पारित करव दिया कि जो भी व्यक्ति किसी बैंक से नगर परिषद की हद में प्रॉपर्टी पर लोन लेगा तो उसे एक हजार रुपये फीस नगर परिषद में मोरगेज करने के नाम पर नगर परिषद में जमा करवानी होगी। जबकि ना तो सरकार की ही ऐसी कोई नीति है और न ही नगर निकाय के ऐसे कोई आदेश हैं। पार्षदों का कहना है कि उनसे नगर परिषद की आय में बढ़ोतरी की बात कहकर यह प्रस्ताव पारित करवाया गया था। जब लोगों को यह फीस अधिक लगी तो अब आज होने वाली हाउस की बैठक में इस फीस को कम करने के लिए एजेंडा तय किया गया है। ऐसे में सवाल उठता है कि क्या कैथल नगर परिषद राजस्व विभाग की भूमि संबंधी फैसलों के अधिकार के बीच ऐसा कोई टेक्स लगा सकते हैं? अधिकारियों से जवाब पूछा गया तो उनका कहना था कि राजस्व विभाग की तर्ज पर भूमि मोरगेज के लिए वे कोई राशि निर्धारित नहीं कर सकते।
पार्षद राकेश सरदाना ने कहा कि शुक्रवार को होने वाली बैठक में एजेंडा रखा है कि भूमि पर होने वाले किसी भी प्रकार के लोन के लिए 1000 रुपये अनुमति फीस व पूरे लोन की राशि के 1 प्रतिशत की राशि की फीस लोगों के लिए अधिक है। इसे कम किए जाने पर विचार होगा। अधिकारियों से जाना गया तो पता चला कि पिछली बैठक में परिषद की आय बढ़ाए जाने की बात कहकर यह प्रस्ताव पारित करवाया गया था। जबकि ना तो हरियाणा सरकार का और ना ही स्थानीय निकाय विभाग की ऐसी कोई नीति है और ना ही कोई आदेश तो ऐसे में सवाल उठता है कि क्या नगर परिषद अपनी ओर से ऐसा कोई टेक्स की तरह से राशि लोगों से वसूल सकती है। वह भी तब जब पिछली बैठक में पारित प्रस्ताव को अभी तक डीसी ने मंजूरी नहीं दी है।
ईओ का अजीबो-गरीब जवाब
प्रश्र-क्या नगर परिषद राजस्व विभाग की तरह से भूमि मोरगेज के लिए नियम बना सकती है?
प्रश्र:- नगर परिषद अपने अधिकार क्षेत्र में आय बढ़ाने के लिए किसी भी तरह से फीस एक्ट के अनुसार लगा सकती है। लेकिन राजस्व विभाग की तरह से मोरगेज करने के लिए इस तरह की फीस निर्धारित नहीं कर सकती।
प्रश्र:-फिर यह फीस क्यों निर्धारित की गई?
उत्तर:-एक तो प्राइवेट बैंकर्स उनके पास आकर इस बारे में जोर डालते हैं और दूसरा लोग आकर यहां इस तरह की फीस जमा करवाने की बात कहते हैं तो यह फैसला लिया गया था।
प्रश्र:-क्या यह नीति अन्य शहरों में लागू है?
त्तर:-उन्हें इस बारे में जानकारी नहीं है।
प्रश्र:-क्या अब भी इस नीति के तहत अनुमति दी जा रही है?
उत्तर:-अभी तक ना तो इस नीति के तहत किसी को अनुमति दी गई और ना ही आगे इस संबंध में आवेदन स्वीकार किए जा रहे। शुक्रवार को होने वाली बैठक में एजेंडा रखा गया है। पास होता है तो फिर देखेंगे।
हंगामेदार हो सकती है हाउस की बैठक
आज नगर परिषद में हाउस की बैठक सुबह 11 बजे होगी। जिसमें एनजीटी के आदेशानुसार बायोडायवर्सिटी मैनेजमेंट कमेटी बनाए जाने, सेप्टेज मैनेजमेंट पॉलिसी बनाए जाने, लोन की राशि पर 1 प्रतिशत फीस व 1000 रुपये ज्यादा है, इसे कम करने बारे व इंद्रप्रस्थ गैस लिमिटिड फर्म द्वारा शहर में गैस पाइपलाइन बिछाने के लिए अनुमति देने बारे बैठक में चर्चा होगी। पार्षदों का कहना है कि बैठक में कई मुद्दों पर बड़ा हंगामा हो सकता है। पिछली बैठक में अधिकारी पार्षदों द्वारा उठाए गए कई सवालों का जवाब नहीं दे पाए थे। जिस कारण आज तक भी उस बैठक की कई बातों को डीसी की मंजूरी नहीं मिल पाई है।
... और पढ़ें

मंडी के मेन गेट पर गंदा पानी जमा होने से दुकानदारों में रोष

नई अनाजमंडी के मेन गेट में गंदा पानी जमा होने के विरोध में दुकानदारों ने मार्केट कमेटी के खिलाफ नारेबाजी कर रोष जताया। दुकानदार संजू, बलकार सिंह, रिंकू गर्ग, महेंद्र सिंह, सुभाष चंद, प्रवीण कुमार व बलवान सिंह ने बताया कि मंडी के मेन गेट के पास गंदे पानी की निकासी के लिए बनाए गए नाले गंदगी से अटे पड़े हैं। नालों की सफाई न होने के कारण गंदा पानी ओवरफ्लो होकर सड़कों पर खड़ा रहता है। इससे आने-जाने वालों को गंदे पानी से होकर निकलना पड़ता है। काफी दिनों से गंदा पानी खड़ा होने के कारण बदबू आने लगी है। इससे दुकानदारों का रहना मुश्किल हो गया है। दुकानदारों ने बताया कि मंडी में किसान धान लेकर आ रहे हैं। रात के समय पैदल आने-जाने वाले बुजुर्ग किसान पांव फिसलने के कारण अक्सर गंदे पानी में गिर जाते हैं। दुकानदारों का कहना है कि मार्केट कमेटी के अधिकारियों को इसके लिए कई बार शिकायत कर चुके हैं, लेकिन अधिकारी इस ओर कोई ध्यान नहीं दे रहे हैं। दुकानदारों ने जिला प्रशासन से मांग की है कि उन्हें गंदे पानी की समस्या से जल्द निजात दिलाई जाए।
मार्केट कमेटी सचिव संदीप लोहान ने बताया कि गेट के बाहर मेन सड़क के साथ जो नाला बनाया हुआ है। नाले की सफाई की जिम्मेवारी लोक निर्माण विभाग या ग्राम पंचायत की बनती है। जल्द ही कर्मचारियों को कहकर नाले की सफाई करवाई जाएगी।
... और पढ़ें

करतारपुर कॉरिडोर के रास्ते दोस्त से मिलने पाकिस्तान पहुंची मंजीत कौर का सच आया सामने, पढ़ें

करतारपुर कॉरिडोर के रास्ते पाकिस्तान जाकर अपने फेसबुक फ्रेंड से मिलने वाली भारतीय महिला मनजीत कौर का एक सच सामने आया है। बिना वीजा के पाकिस्तानी जाकर फेसबुक फ्रेंड के साथ फैसलाबाद में घुसने का प्रयास करने वाली मनजीत कैथल के गांव भागल की रहने वाली है। कॉरिडोर के उद्घाटन के समय उसकी बाकायदा पुलिस वेरिफिकेशन हुई थी।

उसी के बाद वह कॉरिडोर के रास्ते पाकिस्तान के लिए रवाना हुई थी। इस मामले के मीडिया में आने के बाद बुधवार को दिन भर चर्चाओं का दौर चलता रहा। देर शाम तक परिजनों का मनजीत कौर नामक इस महिला से संपर्क नहीं हो पाया था। बुधवार सुबह जैसे ही लाहौर डेट लाईन से खबर अखबारों में छपी और महिला का हरियाणा कनेक्शन होने की बात सामने आई तो पूरे प्रदेश में यह मामला चर्चा का विषय बन गया।

गुहला-चीका क्षेत्र में भी सुबह से ही ऐसी चर्चाएं सामने आने लगी कि यह महिला इसी क्षेत्र से हो सकती है। दिन भर चली छानबीन के बाद बुधवार शाम स्पष्ट हो गया कि पाकिस्तानी अधिकारियों द्वारा पकड़ी गई मनजीत कौर जिले के गांव भागल की निवासी है। कुरुक्षेत्र के पास झांसा रोड स्थित गांव सिंह पुरा की रहने वाले मनजीत कौर की शादी छह-सात साल पहले भागल के एक युवक से हुई थी।
... और पढ़ें

कंपनी में शेयर की खरीद-फरोख्त में 2 करोड़ 51 लाख 50 हजार रुपये की धोखाधड़ी

सेक्टर 19 निवासी एक व्यक्ति के साथ शेयरों की खरीद - फरोख्त में 2.51 करोड़ रुपये की धोखाधड़ी का सनसनीखेज मामला सामने आया है। पुलिस ने पीड़ित की शिकायत पर दो व्यक्तियों के खिलाफ धोखाधड़ी से उसके शेयरों को ट्रांसफर डीड के माध्यम से दूसरी कंपनियों में ट्रांसफर करके फर्जीवाड़ा करने के आरोप में केस दर्ज किया है।
पुलिस को दी शिकायत में सेक्टर 19 निवासी सुरेश कुमार ने बताया कि करनाल निवासी महेश मरकंटाईस प्रा. लि. के डायरेक्टर अमित मितल और उनके पिता शीश पाल मित्तल उनके परिचित हैं। 20 साल वे उसके पास आते-जाते हैं। इन दोनों ने उसे अपनी कंपनी के शेयरों में निवेश करने और अच्छा मुनाफा कमाने की बात कही। वह इनके बहकावे में आ गया और 18 मार्च 2009 को इनकी कंपनी के 75 लाख रुपये के शेयर खरीद लिए। इसके बाद 22 मार्च 2010 में 60 लाख रुपये के शेयर खरीदे। उसके बाद कंपनी ने 22 मार्च 2011 को उसे 40 लाख रुपये के बोनस शेयर दिए। इसके बाद 28 मार्च 2012 को 76 लाख 50000 रुपये के और शेयर खरीद लिए। इस तरह से 2 करोड़ 51 लाख 50 हजार रुपये में इस कंपनी के 4,59,125 शेयर खरीद लिए। कंपनी ने अपनी सालाना रिटर्न रजिस्ट्रार ऑफ कंपनी दिल्ली में जो रिपेार्ट दी। उसमें भी उसके शेयरों की संख्या 4,59,125 दर्शाई। इन दोनों ने शेयर सर्टिफिकेट देने की मांग की। लेकिन वे टालमटोल करते रहे। वर्ष 2016 में पता चला कि उपरोक्त व्यक्तियों ने उसके 4,59,125 शेयरों में से धोखे से 2,75,000 शेयर किसी अन्य फर्म नोवेकस इन्डस्ट्री में और 165000 शेयर बी.एम इंडस्ट्री और 19,125 शेयर संजय कुमार को ट्रांसफर कर दिए। जबकि उसने ना तो इन सभी को को अपने शेयर बेचने के बारे कहा और ना ही कोई शेयर डीड बनवाकर अपने दस्तखत करके उन्हें दिए। दोनों आरोपियों अमित मितल व शीशपाल मितल ने धोखाधड़ी करते हुए गैर कानूनी तरीके से फर्जी ट्रासंफर शेयर डीड बनाकर उसके शेयर ट्रांसफर कर लिए। उन्होंने एक याचिका नेशनल कंपनी लॉ ऑफ ट्रिब्यूनल नई दिल्ली में उक्त अमित मितल तथा शीशपाल मितल के खिलाफ दायर की हुई है। इस समय उसके शेयरों की कीमत करीब चार करोड़ रुपये है। इन दोनों ने उसके दो पुत्रों के साथ भी इसी तरह की धोखाधड़ी की है। जिसके लिए पानीपत तथा गांधीधाम गुजरात में केस दर्ज करवाया हुआ है। थाना सिविल लाइन पुलिस ने इस मामले में एफआईआर नंबर 554 धारा 406, 420, 467, 468,471,120बी के तहत केस दर्ज करते हुए नरेश कुमार को जांच अधिकारी बनाया गया है।
... और पढ़ें

ऑनर किलिंग का निकला चीका में सुनार की हत्या का मामला

दो दिन पूर्व गांव मैंगड़ा में अपनी दुकान पर बैठे सुनार को गोली मार कर हत्या करने का मामला ऑनर किलिंग का निकला। अपनी बहन के साथ प्रेम विवाह किए जाने के कारण आरोपी युवक प्रिंस से खार खाए हुए था। जिस कारण उसने अपने दो साथियों के साथ मिलकर उसकी गोली मार कर हत्या कर दी। वहीं पुलिस ने मृतक के साले के अलावा जिन दो अन्य युवकों के खिलाफ मामला दर्ज किया था, वे इस मामले में संलिप्त नहीं पाए गए। एसपी विरेंद्र विज ने खुद इस मामले का चीका में खुलासा किया है।
चीका पुलिस थाने में मीडिया से बातचीत में एसपी विरेंद्र विज ने कहा कि डीएसपी गुहला किशोरीलाल के नेतृत्व में सीआईए-3 की टीम के इंचार्ज जय नारायण शर्मा व चीका पुलिस द्वारा 24 घंटे से भी कम समय में घटना को अंजाम देने वाले तीनों ओरापियों को पटियाला से चीका की तरफ आते हुए गांव सदरेहड़ी के पास से गिरफ्तार कर लिया। उन्होंने बताया कि तीनों आरोपियों के कब्जे से 4 अवैध हथियार (पिस्तौल) व 13 जिंदा कारतूस और एक अध चला अन्य कारतूस भी बरामद कर लिया है। आरोपियों को न्यायालय से दो दिनों के पुलिस रिमांड पर लेकर पूछताछ की जा रही है।
इस मामले में मृतक के भाई ने शिकायत की थी, जिसमें गोली मारने की घटना में कुल तीन लोगों को आरोपी बताया गया था। आरोपित व्यक्तियों में से तीन मुख्य नाम थे, जिनमें मृतक की पत्नी का भाई बलराम (बल्लू) व अन्य दो आरोपियों के नाम जोनी व गुरदीप बताया गया था। लेकिन इस मामले में बलराम के साथ वास्तव में जो लोग वारदात में शामिल थे उनकी शिनाख्त मनोज व प्रवीन के रूप में हुई है। उन्होंने कहा कि मृतक के भाई की शिकायत में दो अन्य आरोपियों के जो नाम दिए थे, वे इस घटना में शामिल नहीं पाए गए। जबकि अन्य ये दोनों आरोपी इस मामले में पकड़े गए है। उन्होंने बताया कि आरोपियों द्वारा दूसरा राउंड फायर किए जाने की कोशिश भी की गई थी, जो उनसे मिस हो गया था। वह कारतूस भी पुलिस ने बरामद कर लिया है।
विदित रहे कि गांव मैंगड़ा में 2 दिसंबर को दिनदहाड़े सुनार प्रिंस की गोली मारकर हत्या कर दी गई थी। जिस मामले में पुलिस द्वारा मृतक के भाई की शिकायत पर मामला दर्ज कर लिया गया था। इस मामले को पहले दिन से ही ऑनर किलिंग से जोड़कर देखा जा रहा था। हालांकि प्रिंस व सुनीता की शादी को तीन वर्ष बीत चुके थे ओर उन्हें दो बेटियां भी हैं। ऐसे में जब भी प्रिंस को कोई धमकी मिली तो परिवार द्वारा इस तरफ कोई विशेष ध्यान नही दिया गया।
बहन का ही घर उजाड़ दिया
देश की परंपराओं के अनुसार हर घर में भाई अपनी बहन को राखी बांधने पर उसकी रक्षा करने का वचन देते हैं पर जिस तरह से सुनीता के भाई ने अपने जीजा प्रिंस की हत्या कर दी व अपनी ही बहन का घर उजाड़ दिया इससे रिश्ते भी तार-तार हुए हैं।
प्रिंस के लिए प्यार करना ओर लव मैरिज करना गुनाह बन गया जिसकी सजा उन्हें अपनी जिंदगी देकर चुकानी पड़ी। यह सजा न केवल प्रिंस को मिली बल्कि उसके पीछे रह गए परिवार के सदस्यों के लिए भी जीवन भर के लिए दुखदाई घटना बनकर रह गई। प्रिंस की दो बेटियों के लिए भी यह एक सारी उम्र की सजा बन गई है। अभी तो प्रिंस की बेटियों को अपने पिता ठीक से पहचान भी नहीं पाती होंगी ओर उनके सिर से पिता का साया उठ गया।
... और पढ़ें

एक माह पहले बनी सड़क को पाइप लाइन डालने के लिए उखाड़ा

सरकारी धन और जनता की गाढ़ी कमाई की बर्बादी का नजारा देखने है तो वार्ड नंबर 18 स्थित सरगोदा कॉलोनी चले आइये, जहां विकास के नाम पर नगर परिषद के अधिकारी अजीब खेल खेल रहे है। कॉलोनी में सात लाख रुपये की लागत से एक माह पहले बनाई सड़क दोबारा उखाड़ी जा रही है। कारण, पीने के पानी की पाइप लाइन डाली जानी है। लेकिन वहां के रहने वाले लोगों को समझ नहीं आ रहे जब एक माह बाद पाइप लाइन डालनी थी तो पहले सड़क बनाई क्यों। जब नगर परिषद में इस बात की जानकारी हासिल की गई तो खुलासा यह हुआ कि जिस जेई के मार्गदर्शन में इस गली का निर्माण हुआ था, वही अब पाइप डलवाने का काम करवा रहे हैं।
कालोनी निवासी महिला कुसम बंसल, कमलेश, गिन्नी, बोहती देवी, बग्गी व ब्रह्मी देवी ने बताया कि कुछ दिन पहले ही नप द्वारा इस सड़क का निर्माण कराया गया था। कॉलोनी वासियों का आरोप है कि अधिकारियों ने लाखों रुपये का बजट यहां व्यर्थ किया है। पंद्रह दिन पहले बनी गली को बार-बार उखाड़ा जा रहा है। अगर ये कार्य करना था तो गली निर्माण से पहले होना चाहिए था।
सरगोदा कॉलोनी निवासी रमेश बंसल ने बताया कि कॉलोनी में पानी निकासी की अक्सर समस्या रहती है। पीने का पानी भी गंदा आता है।। केवल सिंगला ने बताया कि कॉलोनी मेें उखाड़ी गई गली के कारण उन्हें अपने घरों के आगे वाहनों को खड़े करने में भी काफी दिक्कतें आ रही हैं। उन्होंने मांग की कि जल्द से जल्द गली को ठीक करवाया जाए ताकि उन्हें परेशानियों से छुटकारा मिल सके।
सबसे हैरानी की बात तो यह है कि जब नगर परिषद में पड़ताल की गई तो पता चला कि जेई पंकज कुमार ने ही महीना भर पहले इस गली का निर्माण करवाया था। अब इन्हीं जेई की देखरेख में पीने के पानी की पाइप लाइन डाली जा रही है। इस संबंध में पूछने पर जेई पंकज कुमार का कहना है कि पहले गली बनाने की मांग थी। अब अमृत योजना के तहत यहां की ड्राइंग स्वीकृत होकर आई है। इसीलिए अब यहां पाइपलाइन डाली जा रही है। जब उनसे पूछा गया कि यहां बार-बार उखाड़े जाने पर अतिरिक्त खर्च होगा, इसकी जिम्मेवारी किसकी होगी तो उन्होंने कहा कि एजेंसी ही इस संबंध में खर्च वहन करेगी। जब उनसे पूछा गया कि वह एजेंसी का खर्च भी पब्लिक का पैसा होगा तो उन्होंने कहाकि केंद्र की योजना है। इसके तहत काम करवाना भी जरूरी है।
... और पढ़ें

डीसी ने किया शक्ति भवन का निरीक्षण, अनावश्यक सामान हटवाने के जारी किए निर्देश

डीसी डॉ. प्रियंका सोनी ने पिहोवा चौक स्थित उत्तर हरियाणा बिजली वितरण निगम के विद्युत भवन में स्थित विभिन्न कार्यालयों का औचक निरीक्षण किया। इस दौरान उन्होंने नए कनेक्शन लेने को उपभोक्ताओं के लिए लगाए रजिस्टर को जांचा, जिसमें कई पुरानी इंट्री लंबित मिली और 25 नवंबर के बाद की इंट्री नहीं मिली। इस पर उन्होंने अधिकारियों को निर्देश जारी किए कि कनेक्शन जारी करने के रिकॉर्ड का समय पर रजिस्टर में दर्ज किया जाए। उन्होंने नए बिजली कनेक्शन जारी करने की प्रक्रिया की भी जानकारी हासिल की। डीसी ने कार्यालय में पड़े अतिरिक्त सामान को तुरंत हटाने के आदेश जारी किए।
सबसे पहले उन्होंने कार्यालय के प्रवेश द्वार पर स्थापित किए गए उपभोक्ता हेल्प डेस्क पर मौजूद सुविधाओं का जायजा लिया व वहां मौजूद बिजली उपभोक्ताओं से बातचीत की। इसके बाद उन्होंने एसडीओ कार्यालय के अतिरिक्त बिजली बिल में खामियों को दुरुस्त करने के काउंटर, बिल प्रिंटिंग शाखा, लेखा शाखा सहित अन्य शाखाओं का निरीक्षण किया। बिल भरने के स्थान पर पड़े सामान को लेकर डीसी ने फालतू सामान को वहां से हटाने के निर्देश दिए।
सौभाग्य योजना बारे ली जानकारी: डीसी ने सौभाग्य योजना के बारे में भी जानकारी हासिल की व इस योजना के तहत जारी किए गए बिजली कनेक्शनों के बारे में बातचीत की। निगम के अधिकारियों ने बताया कि यह योजना गरीब परिवारों के लिए है। इसके तहत केवल 200 रुपये बिजली का कनेक्शन दिया जाता है।
ऑन द स्पॉट मीटर रीडिंग के लिए निकलवाया प्रिंट आउट : डॉ. प्रियंका सोनी ने ऑन द स्पॉट बिलिंग की प्रक्रिया के बारे में जानकारी हासिल की। विभाग के अधिकारियों ने बताया कि एंड्रायड फोन के माध्यम से इलेक्ट्रानिक मीटर की रीडिंग ऑन द स्पॉट की जाती है व मिनी प्रिंटर से उपभोक्ता को मौके पर बिल उपलब्ध करवाया जाता है। उन्होंने ऑन द स्पॉट बिलिंग प्रक्रिया के बारे में कहा कि इस प्रक्रिया के शुरू होने से उपभोक्ताओं की कम या ज्यादा मीटर रीडिंग की समस्याओं से छुटकारा मिलेगा। उन्होंने मौके पर बिलिंग का प्रिंट निकलवाकर भी देखा।
जिला में 76 सब स्टेशन: निगम के अधीक्षक अभियंता बीएस रंगा ने जिला में बिजली वितरण की विस्तरित जानकारी दी। उन्होंने कहा कि सर्दी के मौसम में आमतौर पर बिजली की मांग अपेक्षाकृत कम हो जाती है। उन्होंने कहा कि जिला में 76 सब स्टेशन हैं। म्हारा गांव-जगमग गांव योजना के तहत जिला में 76 फिडरों पर कार्य पूर्ण किया जा चुका है और अभी तक 82 गांवों को इस योजना के तहत 24 घंटे बिजली उपलब्ध करवाई जा रही है। कार्यकारी अभियंता भूपेंद्र सिंह ने जिले में स्थित सब स्टशनों एवं बिजली आपूर्ति के बारे में विस्तृत जानकारी दी। वहीं उन्होंने अधिकारियों को निर्देश दिए कि मीटर निर्धारित ऊंचाई पर ही लगाए जाएं।
... और पढ़ें

सीएम सुनेंगे गुरुग्राम में जनता की समस्याएं, रोहतक और सिरसा गृह मंत्री अनिल विज के जिम्मे

हरियाणा में जिला जनसंपर्क एवं कष्ट निवारण समितियां नई सरकार में फिर से अस्तित्व में आ गई हैं। राज्यपाल की मंजूरी के बाद समितियों का पुनर्गठन करते हुए मुख्य सचिव कार्यालय ने चेयरमैन की नियुक्ति की अधिसूचना बुधवार को जारी कर दी। मुख्यमंत्री मनोहर लाल को जिला गुरुग्राम का चेयरमैन नियुक्त किया गया है। 

सभी चेयरमैन संबंधित कमेटियों की मासिक बैठक लेकर जनता की समस्याओं का निवारण सुनिश्चित करेंगे। उप मुख्यमंत्री दुष्यंत चौटाला को जिला फरीदाबाद और पानीपत का चेयरमैन नियुक्त किया गया है। गृह मंत्री अनिल विज को जिला रोहतक और सिरसा की जिम्मेदारी मिली है। शिक्षा मंत्री कंवर पाल को जिला करनाल और अंबाला, परिवहन मंत्री मूलचंद शर्मा को जिला सोनीपत और कैथल का चेयरमैन लगाया गया है। 

बिजली मंत्री रणजीत सिंह जिला हिसार और फतेहाबाद, कृषि मंत्री जय प्रकाश दलाल जिला चरखी दादरी और महेंद्रगढ़ का जिम्मा संभालेंगे। सहकारिता मंत्री डॉ. बनवारी लाल को जिला नूंह और पलवल का चेयरमैन नियुक्त किया गया है।

सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता राज्य मंत्री ओम प्रकाश यादव जिला रेवाड़ी और झज्जर, महिला एवं बाल विकास राज्य मंत्री कमलेश ढांडा जिला कुरुक्षेत्र, पुरातत्व एवं संग्राहालय राज्य मंत्री अनूप धानक जिला भिवानी और जींद, खेल एवं युवा मामले राज्य मंत्री संदीप सिंह जिला पंचकूला और यमुनानगर के चेयरमैन होंगे। मुख्यमंत्री मनोहर लाल व गृह मंत्री अनिल विज के गृह जिला करनाल व अंबाला के लोगों की समस्याएं निपटाने का जिम्मा कंवरपाल को मिला है। 
... और पढ़ें

गृह मंत्री अनिल विज का फरमान, एक घंटे रोजाना जनता दरबार लगाएगी पुलिस, खुद भी सुनेंगे समस्या

हरियाणा में वरिष्ठ पुलिस अधिकारियों को जनता के साथ संवाद करना होगा। कार्यालय में बैठ कर पुलिस अधीक्षकों की जिला चलाने वाली प्रथा समाप्त करनी होगी। अधिकारियों को फील्ड में जाकर जिले के हालात काबू करने होंगे। इस लिहाज से जनता के साथ संवाद बहुत जरूरी है। जिसके तहत पुलिस अधीक्षकों को 11 से 12 बजे तक अपने कार्यालय में जनता दरबार लगा कर समस्याएं सुननी होंगी।

इन समस्याओं पर कार्रवाई करने के बाद गृह मंत्री को सूचित भी करना होगा। हरियाणा के गृह मंत्री अनिल विज ने इस संदर्भ में आदेश जारी कर दिया है। गृह मंत्री ने कहा कि पुलिस विभाग के अधिकारी जनता दरबार में आई हुई शिकायतों का रिकॉर्ड दर्ज करेंगे। उनकी रसीद शिकायतकर्ताओं को देंगे ताकि शिकायतकर्ता भविष्य में अपनी शिकायत पर हुई कार्रवाई के बारे में जानकारी ले सकें।

उन्होंने कहा कि सभी पुलिस अधीक्षक, डीसीपी एवं सीपी दो दिन में एक बार संबधित क्षेत्रों में स्थित कम से कम एक पुलिस थाने का अवश्य निरीक्षण करेंगे और उसका रिकॉर्ड दर्ज करेंगे। विज ने कहा कि वे हरियाणा सिविल सचिवालय में प्रत्येक मंगलवार व बुधवार को 1 से 3 बजे तक लोगों से मिलेंगे और उनकी समस्याओं की सुनवाई कर निवारण सुनिश्चित करेंगें। जो लोग उनके निवास स्थान अंबाला छावनी में मिलना चाहेंगे। वे प्रत्येक शनिवार व रविवार को सुबह 10 से 12 बजे तक मिल सकेंगे। 

अंबाला छावनी के लोग किसी भी दिन किसी भी समय आकर मिल सकते हैं। अंबाला छावनी के लोगों के लिए उनके द्वार सदैव खुले रहेंगे। गृह मंत्री ने स्पष्ट किया कि जो व्यक्ति ई मेल के माध्यम से शिकायतें भेज रहे हैं। वे केवल  [email protected] पर ही भेजें। अन्य किसी भी मेल पर भेजी गई शिकायत पर संज्ञान नहीं लिया जाएगा। इसके अलावा पुलिस विभाग से संबधित शिकायतें पुलिस विभाग के पोर्टल पर हर समय पर ही भेजें। 
... और पढ़ें

अनाज मंडी में जारी है चोरियों का सिलसिला

कलायत अनाज मंडी में चोरियों का सिलसिला लगातार जारी है। गत रात भी चोरों ने पांच दुकानों से करीब 20 बोरी धान चोरी कर ली। किशोरी लाल एंड संस के मालिक कृष्ण कांसल ने बताया कि देर रात तक मंडी में धान की तुलाई होने के बाद उसे बोरियों में भर कर दुकानों के सामने रखा जाता है। कई दिनों से रात्रि में गिन कर रखी गई बोरियों में से सुबह कम पाई जाती हैं। उन्होंने बताया कि सोमवार रात सच ट्रेडिंग कंपनी, भोला ट्रेडिंग कंपनी, भाना राम हुकम चंद व हरियाणा ट्रेडिंग कंपनी से दो दर्जन के करीब धान की बोरियों चोरी हो गईं। आढ़तियों ने कहा कि लगातार हो रही चोरियों को लेकर उन्होंने मार्केट कमेटी कार्यालय में भी अपनी शिकायत दर्ज करवाई है। आढ़तियों का आरोप है कि मंडी में न तो मार्केट कमेटी की और से चौकीदार की कोई व्यवस्था है व न ही सीसीटीवी कैमरे कार्य कर रहे हैं। उनका यह भी आरोप है कि पुलिस की गश्त न के बराबर है व रोशनी व्यवस्था भी पर्याप्त नहीं है। आढ़तियों ने मांग की है कि उनकी दुकानों के बाहर पड़े जिंस की सुरक्षा की जाए ताकि लगातार होने वाले नुकसान पर अंकुश लग सके। इस बारे मार्केट कमेटी के वाइस चेयरमैन राकेश कांसल ने कहा कि मंडी में मार्केट कमेटी की ओर से कोई चौकीदार नियुक्त नहीं है। जो दो चौकीदार मंडी में आढ़तियों द्वारा रखे गए हैं वे सुरक्षा के लिए अपर्याप्त हैं।
मार्केट सचिव सरिता चौधरी ने बताया कि विभाग द्वारा पूरे हरियाणा में चौकीदार रखने का कोई प्रावधान नहीं है। दो वर्ष पूर्व तक अनाज मंडी में मार्केट कमेटी द्वारा सीजन के समय में चौकीदार रखे जाते रहे हैं पर अब विभागीय तौर पर इसकी परमिशन नहीं है। उन्होंने बताया कि सीजन शुरू होने से पहले ही कलायत पुलिस स्टेशन में मंडी में पुलिस की गश्त बढ़ाए जाने का आवेदन कर दिया गया था।
... और पढ़ें
अपने शहर की सभी खबर पढ़ने के लिए amarujala.com पर जाएं

Disclaimer

अपनी वेबसाइट पर हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर अनुभव प्रदान कर सकें, वेबसाइट के ट्रैफिक का विश्लेषण कर सकें, कॉन्टेंट व्यक्तिगत तरीके से पेश कर सकें और हमारे पार्टनर्स, जैसे की Google, और सोशल मीडिया साइट्स, जैसे की Facebook, के साथ लक्षित विज्ञापन पेश करने के लिए उपयोग कर सकें। साथ ही, अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।

Agree
Election