विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विवाह संबंधी दोषों को दूर करने के लिए शिवरात्रि पर मल्लिकार्जुन ज्योतिर्लिंग में कराएं रुद्राभिषेक : 21-फरवरी-2020
Astrology Services

विवाह संबंधी दोषों को दूर करने के लिए शिवरात्रि पर मल्लिकार्जुन ज्योतिर्लिंग में कराएं रुद्राभिषेक : 21-फरवरी-2020

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

From nearby cities

अलर्टः दिल्ली-अंबाला रेल ट्रैक पर रद्द रहेंगी 24 ट्रेनें, चार का समय बदला और पांच का रूट डायवर्ट

अंबाला मंडल वरिष्ठ वाणिज्य अधिकारी हरि मोहन ने बताया कि 24 ट्रेनों को रद्द, 5 को बदले रूट से, 4 को बदले समय से तो 2 ट्रेनों को बीच रास्ते रोककर चलाया जाएगा।

19 फरवरी 2020

विज्ञापन
विज्ञापन

कैथल

बुधवार, 19 फरवरी 2020

सीएम फ्लाइंग की हुडा कार्यालय में सुबह के समय रेड

सीएम फ्लाइंग की टीम बुधवार सुबह सेक्टर 19 स्थित हुडा कार्यालय पहुंची। कर्मचारियों और अधिकारियों की उपस्थिति जांची तो 11 बजे तक कार्यालय से 8 कर्मचारी गैर हाजिर मिले। जिनकी रिपोर्ट तैयार करके आला अधिकारियों को भेज दी गई है। डीएसपी रवींद्र की अगुवाई सीएम फ्लाइंग की टीम ने यह कार्रवाई की।
डीएसपी रवींद्र ने बताया कि सरकार के आदेशानुसार हुडा सेक्टर 19 में स्थित शहरी प्राधिकरण कार्यालय में चेंकिंग की गई। जहां पर टोटल 27 कर्मचारियों की नियुक्ति है। लेकिन सीएम फ्लाइंग ने जब इस बारे कार्यालय से मुखिया से अधिकारियों व कर्मचारियों का डेटा मांगा तो उनमें से आठ कर्मचारी बिना कारण बताए गैर हाजिर मिले। जब टीम कार्यालय में पहुंची, उस समय कार्यालय में 27 में से 9 कर्मचारी सीट पर मिले। सुबह साढ़े नौ बजे शुरू हुई निरीक्षण की कार्रवाई में 18 कर्मचारी नदारद थे। इसके बाद 11 बजे तक 10 कर्मचारी ओर अलग-अलग समय पर पहुंचे। जो कर्मचारी जिस समय पहुंचा, उसका वही समय नोट किया गया। 11 बजे तक इंतजार के बाद 8 कर्मचारी बिना किसी सूचना के गैर हाजिर मिले। जिनकी रिपोर्ट विभाग के आला अधिकारियों को भेज दी गई।
टीम ने कार्यालय में रिकॉर्ड सहित साफ-सफाई की व्यवस्था भी जांची। डीएसपी ने कहा कि जो अधिकारी व कर्मचारी अपनी ड़यूटी पर नहीं मिले उनके खिलाफ विभागीय कार्रवाई की जाएगी।
कार्यालय में नहीं चल रहा नेटवर्किंग सिस्टम: यहां एक कर्मचारी ने टीम के अधिकारियों को सूचित किया कि कार्यालय में नेटवर्किंग सिस्टम काम नहीं कर रहा है। अधिकारियों की आईडी ऑटोमेटिक बंद हो जाती है। उन्होंने ये भी बताया कि यहां बायोमैट्रिक हाजिरी भी नहीं लगती। जिससे कर्मचारियों का नुकसान होता है। डीवीए मशीन भी खराब पड़ी है। जो ऑनलाइन सिग्नेचर चार्ट के लिए काम आता है। उनका कहना है कि ये समस्या करीब चार महीनों से चली आ रही है। अधिकारियों ने इन समस्याओं पर उचित कार्रवाई का आश्वासन दिया।
वहीं मौके पर मौजूद शहर वासी राजबीर ढुल व साथ आए लोगों ने कहा कि यहां के कर्मचारियों से लोग बिल्कुल परेशान है। यहां घरेलू काम के लिए आते हैं। लेकिन कर्मचारी काम न करने की बजाय कई कई दिन तक चक्कर लगवाते है। उन्होंने कहा कि यहां टीपी यानी ट्रांसपर परमीशन जैसे काम के लिए आते तो अधर में ही रोक देते हैं।
कार्यलय में लगा मिला हीटर: सीएम फ्लाइंग की टीम के निरीक्षण के दौरान कार्यालय में हीटर लगा मिला। जिस पर डीएसपी रवींद्र कहा कि ये बिजली का मिस यूज हो रहा है।
... और पढ़ें

प्रतिबंधित ट्रामाडोल दवाओं का जखीरा पकड़ा

सीआईए-3 गुहला पुलिस द्वारा पंजाब-हरियाणा बॉर्डर पर दवाओं के अवैध कारोबार का भंडाफोड़ किया है। प्रतिबंधित ट्रॉमाडोल टेबलेट का जखीरा पकड़ा है। करीब 53 हजार टेबलेट के साथ एक युवक को काबू किया है। मुख्य आरोपी मौके से भागने में काम याब रहा। इस गोरखधंधे में संलिप्त लोगों के तार दिल्ली, यूपी, पंजाब और हरियाणा के विभिन्न जिलों से जुड़े हुए हैं। पुलिस ने गिरफ्तार युवक को पूछताछ के लिए तीन दिन के रिमांड पर लिया है।
पुलिस प्रवक्ता प्रवीन कुमार श्योकंद ने बताया कि अपराध शाखा गुहला के इंचार्ज एसआई जयनारायण, एसआई राजबीर सिंह, एचसी ईश्वर सिंह, एचसी बजींद्र सिंह, एचसी प्रगट सिंह की टीम दोपहर के समय चीका से पटियाला को जाने वाली सड़क पर मौजूद थी। गुप्त जानकारी मिलने के उपरांत पुलिस द्वारा पटियाला रोड बर्तमान ढाबे के पास नाकाबंदी की गई, जहां पंजाब की तरफ से आयी होंडा गाड़ी को रुकने का इशारा किया, जिस पर कार चालक पुलिस को देखकर गाड़ी वापिस मोड़ने लगा, स्पीड ज्यादा होने के कारण हड़बड़ाहट में गाड़ी सड़क किनारे खदान में उतर गई। इसी बीच एक युवक गाड़ी से उतरकर मौके से फरार हो गया। चालक सीट पर बैठे दूसरे युवक को पुलिस द्वारा काबू कर लिया गया, जिसकी पहचान लवप्रीत उर्फ लव निवासी हंसपुरा डेरा गांव नौच थाना सदर कैथल के रुप में हुई। पुलिस द्वारा मौके पर डीएसपी गुहला किशोरी लाल को बुलाकर नियमानुसार कार्रवाई के तहत संदिग्ध आरोपी तथा होंडा कार की तलाशी ली गई, तो आरोपी की जेब से दो पत्तों में 100 नशीली गोलियां मिली। गाड़ी की पिछली सीट पर रखे दो प्लास्टिक कट्टों से से166 डिब्बों से 52900 नशीली गोलियों मिली। थाना चीका में एनडीपीएस एक्ट की धारा 21सी व 22 सी के तहत मामला दर्ज करके मौके पर पहुंचे अपराध शाखा गुहला के एसआई राजिंद्र सिंह के ने आरोपी लवप्रीत को काबू कर लिया । गाड़ी से फरार होने वाले आरोपी की पहचान सतपाल उर्फ सत्ता निवासी समाना पंजाब के रुप में कर ली गई। जांच के दौरान उपरोक्त गिरोह के तार दिल्ली, यूपी, पंजाब व हरियाणा से जुडे़ पाए गए हैं।
दिल्ली में गिरोह को नशीली टेबलेट उपलब्ध करवाने वाले आरोपी तथा घटनास्थल से फरार हुए आरोपी की गिरफ्तारी और पूछताछ के लिए आरोपी लवप्रीत का वीरवार को न्यायालय से 3 दिन के पुलिस रिमांड पर लिया गया है।
... और पढ़ें

सड़क हादसों में दो की मौत, पांच घायल

दो अलग-अलग सड़क हादसों में दो व्यक्तियों की मौत हो गई। जबकि पांच गंभीर रुप से घायल हो गए। घायलों में से दो को पीजीआई रेफर किया गया है। पुलिस मामले की जांच कर रही है।
बुधवार को हुई पहली घटना गांव रामगढ़ के निकट हुई। हिसार के गांव गिराय निवासी शमशेर सिंह ने बताया कि उसका भतीजा सुरेंद्र और गांव का ही शमशेर सिंह कार से गांव चौशाला में जा रहे थे। गांव रामगढ़ के निकट एक कुत्ते को बचाने के प्रयास में कार का संतुलन खो गया और यह पेड़ से जा टकराई। जिसमें दोनों की मौके पर ही मौत हो गई। एसएचओ कलायत बिलासा राम ने कहा कि गांव रामगढ़ के निकट यह हादसा हुआ है। जिसमें धारा 174 के तहत कार्रवाई कर शव परिजनों को सौंप दिए हैं। हादसा गाड़ी के असंतुलित होने से पेड़ से टकराने के कारण हुआ है।
दूसरा हादसा गांव रोहेड़ियां के निकट हुआ। जहां दो बाइकों की टक्कर में पांच व्यक्ति घायल हो गए। मिली जानकारी के अनुसार एक बाइक पर सवार होकर गांव बात्ता निवासी कमलदीप, गोगी व अजय कुमार सवार थे। वहीं दूसरी बाइक पर गांव दीवाल निवासी बचना राम सवार थे। दोनों बाइकों की गांव रोहेड़ियां के निकट एक मोड़ पर टक्कर हो गई। जिसमें सभी पांचों को घायलावस्था में जिला अस्पताल ले जाया गया। जहां से बचना राम व कमलदीप सिंह को पीजीआई चंडीगढ़ रेफर कर दिया गया है।
... और पढ़ें

कारोना वायरस की रोकथाम के लिए शहर के दो निजी अस्पतालों में भी बनवाए आइसोलेशन वार्ड

कोरोना वायरस की रोकथाम के लिए जिला स्वास्थ्य विभाग ने अपने प्रबंधों को और ज्यादा पुख्ता कर दिया है। जिला नागरिक अस्पताल के साथ-साथ अब विभाग ने गुहला के सरकारी अस्पताल, कैथल के शाह अस्पताल और सिग्रस अस्पताल में भी आइसोलेशन वार्ड तैयार करवाए हैं, ताकि किसी भी प्रकार की स्थिति में वायरस से होने वाले प्रभाव से तुरंत निपटा जा सके। विभाग के अधिकारियों का कहना है कि फिलहाल तक जिले में यहां तक कि प्रदेश में भी अभी तक इससे संबंधित मरीज सामने नहीं आया है। फिर भी विभाग ने पहले से ही अपनी तैयारियां पूर्ण कर ली हैं।
जागरूकता के लिए फील्ड में उतारे दो हजार से ज्यादा कर्मचारी :-
स्वास्थ्य विभाग ने इस संबंध में जागरूकता के लिए दो हजार से ज्यादा कर्मचारियों को फील्ड में उतारा है। इनमें स्वास्थ्य विभाग के विभिन्न अस्पतालों में तैनात कर्मचारी, डॉक्टरों की टीमें, आंगनबाड़ी कार्यकर्ता एवं सहायक और आशा वर्करों की टीमें शामिल हैं। विभाग द्वारा पहले इन कर्मचारियों को ट्रेनिंग दी गई है और उसके बाद लोगों को जागरूक करने के लिए भेजा जा रहा है। ये कर्मचारी शहर के साथ-साथ गांव दर गांव जाकर लोगों को जागरूक कर रहे हैं। एक तरफ जहां लोगों को वायरस के बारे में जानकारी दी जा रही है, वहीं इससे बचाव के उपायों के बारे में भी जागरूक किया जा रहा है। लोगों को पोस्टर और पंफ्लेट भी बांटे जा रहे हैं।
पूरी तरह से तैयार है जिला :
सिविल सर्जन डॉ. राकेश शहल ने बताया कि जिले में अभी तक इस प्रकार का कोई मरीज नहीं है। वायरस प्रभावित क्षेत्र से आने वाले यात्रियों में वायरस की संभावना रहती है। उन्होंने कहा कि इससे निपटने के लिए जिला पूरी तरह से तैयार है। प्रभावित क्षेत्र की ओर से आने वाले किसी यात्री को खांसी, बुखार या सांस लेने में तकलीफ जैसे लक्षण दिखाई दें तो तुरंत नजदीकी स्वास्थ्य केंद्र में संपर्क कर सकते हैं। वहीं पर परामर्श, जांच व उपचार शुरू किया जाएगा।
... और पढ़ें

करनाल रोड पर बनी कालोनियों में चला पीला पंजा

। शहर में अवैध कालोनियों को लेकर डीसी के आदेश पर डीटीपी कार्यालय की कार्रवाई लगातार जारी है। मंगलवार को चौथे दिन करनाल रोड पर स्थित दो कालोनियों में पीला पंजा चला। जिसमें दस एकड़ व दो एकड़ में बनाई गई अवैध कालोनियों में नींव व अन्य निर्माण को गिरा दिया गया। दूसरी ओर जजपा नेता एवं उद्योगपति अशोक बंसल ने डीटीपी पर अवैध कालोनाईजरों के साथ मिली भगत करके उसके खिलाफ झूठा केस दर्ज करवाए जाने का आरोप लगाया है।
करनाल रोड पर चला पीला पंजा: डीटीपी अनिल नरवाल ने बताया कि अवैध विकसित करवाई जा रही कॉलोनियों पर जिला नगर योजनाकार विभाग द्वारा पीला पंजा चलाया गया। विभाग द्वारा करनाल रोड पर लगभग आठ एकड़ व दो एकड़ भूमि पर बनाई जा रही अवैध कालोनियों की मिट्टी की सड़कें, डीपीसी, चारदीवारी व चार निर्माणाधीन कमरों को जेसीबी चलाकर ध्वस्त कर दिया गया। यहां अनुमति के बिना अवैध कॉलोनी विकसित की जा रही थी। इन सभी को कार्यालय द्वारा नोटिस भी जारी किए गए थे, लेकिन क्लोनाईजर अवैध रूप से कॉलोनी काट रहे थे। ड्यूटी मजिस्ट्रेट तहसीलदार सुदेश मेहरा की मौजूदगी में पूरी कार्रवाई की गई। अनिल नरवाल ने आमजन से आह्वान किया कि वह सस्ते प्लाट के चक्कर में प्रॉपर्टी डीलरों के बहकावे में न आएं और न ही अवैध कालोनियों में प्लाट खरीदें। मकान खरीदने से पहले जिला योजनाकार कार्यालय से पूर्ण जानकारी प्राप्त कर लें। सभी प्रॉपर्टी डीलर का भी आह्वान किया गया है कि वे सरकार द्वारा चलाई गई हाउसिंग स्कीम, दीनदयाल हाउसगिं स्कीम, अफॉर्डेबल हाउसिंग स्कीम, जिसमें पांच एकड़ भूमि पर लाइसेंस प्रदान किया जाता है। कॉलोनी काटने की जरूरी अनुमति प्राप्त करें, ताकि शहर वासियों को सस्ता मकान उपलब्ध हो सके।
उद्योगपति एवं जजपा नेता अशोक बंसल ने मंगलवार को मीडिया से बातचीत करते हुए आरोप लगाया कि डीटीपी कैथल शहर में अवैध कालोनाइजरों के साथ मिला हैं। उन्होंने उनके खिलाफ पिछले महीने केस दर्ज करवाया। जिसमें उन पर अवैध कालोनी काटे जाने का आरोप लगाया। जबकि उन्होंने अपनी कृषि भूमि को बेच दिया था। इसके बाद उनका उस भूमि से कोई लेना-देना ही नहीं है। अशोक बंसल व भाजपा नेता मोहन लाल गुप्ता ने कहा कि अब वे डीटीपी के खिलाफ उनकी छवि खराब करने को लेकर कोर्ट में मानहानि का दावा करेंगे। मीडिया सेंटर में अशोक बंसल ने कहा कि डीटीपी कार्यालय की ओर से उन्हें नोटिस दिया गया। जिसमें उन्होंने स्पष्ट जवाब देकर बता दिया था कि अवैध कालोनी से उनका कोई लेना-देना नहीं है। उन्होंने कृषि भूमि सात लोगों को बेची थी। जिनके नाम व सारी जानकारी विभाग को दे दी गई। इसके बावजूद उनके खिलाफ केस दर्ज किया गया। वे डीटीपी के खिलाफ मानहानि का केस करेंगे।
वहीं मोहन लाल गुप्ता ने भी कहा कि उनके खिलाफ भी जींद रोड पर केस अवैध कालोनी काटे जाने के आरोप में केस दर्ज करवाया गया है। जबकि उनका जींद रोड पर कोई प्लाट भी नहीं है।
ऐसे हो रही है मिलीभगत: अशोक बंसल ने कहा कि डीटीपी अवैध कालोनाईजरों के साथ मिले हुए हैं। जिस कारण उनके खिलाफ केस दर्ज करवाने की बजाए उनके खिलाफ केस दर्ज करवाया जा रहा है। ताकि केस झूठा निकलने पर एफआईआर रद्द हो जाए और अवैध कालोनाईजर बच निकलें। दूसरी ओर डीटीपी अनिल नरवाल ने कहा कि जो भी केस दर्ज करवाया गया है। वह अर्बन एरिया एक्ट के तहत सही है। वे हर तरह की जांच के लिए तैयार हैं। उन पर लगाए गए मिलीभगत जैसे आरोप झूठे हैं। बेवजह ऐसे आरोप लगाए जा रहे हैं।
... और पढ़ें

लोन ली हुई जमीन की कर दी रजिस्ट्री

कैथल। कलायत में एक व्यक्ति की जिस जमीन पर लोन लिया गया था, उसने उसे किसी अन्य को बेच दिया। जिस पर तहसीलदार व पटवारी के खिलाफ पुलिस ने जमीन मालिक सहित धोखाधड़ी के आरोप में केस दर्ज किया है।
हरियाणा ग्रामीण बैंक मैनेजर प्रतीक गोयल की शिकायत पर गांव चौशाला निवासी दलबीर सिंह, संजय, संतोषी देवी सहित तत्कालीन पटवारी और तहसीलदार पर धोखाधड़ी का मामला दर्ज किया है। शिकायत में कहा गया है कि दलबीर सिंह ने अपनी जमीन पर बैंक से अलग-अलग समय पर करीब 6 लाख रुपये का लोन लिया था। इस लोन को जमा करवाने की बजाए अपनी जमीन तत्कालीन पटवारी एवं तहसीलदार के साथ सांठ-गांठ करते हुए बेच दी और उसकी रजिस्ट्री करवा दी। जबकि बैंक का लोन चुकाए बिना रजिस्ट्री नहीं हो सकती। जमीन पर लोन होने का रिकार्ड ऑनलाइन होता है। बैंक मैनेजर प्रतीक गोयल ने बताया कि वर्ष 2011 में चौशाला निवासी दलबीर, उसकी पत्नी संतोष और बेटे संजय ने अपनी गांव खरक पांडवा में कृषि योग्य 14 कनाल 12 मरले भूमि पर बैंक से लोन लिया था। जांच अधिकारी सब इंस्पेक्टर रघबीर सिंह ने कहा कि पुलिस ने आरोपियों के खिलाफ केस दर्ज कर जांच आरंभ कर दी है।
... और पढ़ें

मटका रेस में सुनीता तो 400 मीटर रेस में सबसे तेज दौड़ी रीना

कैथल। महाराजा सूरजमल स्टेडियम में महिला एवं बाल विकास विभाग की ओर से जिला स्तरीय महिला खेलकूद प्रतियोगिता का आयोजन किया गया। इसका शुभारंभ मुख्यातिथि विभाग की कार्यक्रम अधिकारी उषा मुवाल ने दीप प्रज्ज्वलित कर किया। महिला एवं बाल विकास परियोजना अधिकारी बलवान सिंह ने कहा कि इस प्रतियोगिता में 30 वर्ष से कम महिलाओं के लिए 400 मीटर, 300 मीटर व साइकिल रेस प्रतियोगिता करवाई गई। इसके अलावा 30 वर्ष से ऊपर की महिलाओं के लिए 100 मीटर रेस, मटका रेस व आलू चम्मच रेस करवाई गई। विभाग के सुपरवाइजर सहायक सतपाल सिंह ने बताया कि इस प्रतियोगिता में प्रथम स्थान पर आने वाले प्रतिभागियों को 4100 रुपये, दूसरे स्थान पर आने वाले को 3100 रुपये व तृतीय स्थान प्राप्त करने वाले को 2100 रुपये की राशि खाते में प्रदान की जाएगी।
उन्होंने कहा कि यह प्रतियोगिता हर वर्ष करवाई जाती है। यह पहले ब्लॉक स्तर पर होती है जो प्रतिभागी इसमें प्रथम स्थान प्राप्त करते हैं वो जिला स्तर पर भाग लेते हैं। उन्होंने कहा कि जो जिला स्तर पर प्रथम स्थान पर रहते है वो राज्य स्तर पर भाग लेते हैं। सीडीपीओ कमलेश गर्ग ने बताया कि विभिन्न स्कूलों की छात्राओं ने बेटी बचाओ-बेटी बढ़ाओ पर लघु नाटिका प्रस्तुत की। इस अवसर पर कमलेश गर्ग, धमेंद्र, रामकुमार, सतपाल, रतिराम, बलवान, बलवान व ओमलता मौजूद थे।
ये रहे परिणाम :
मटका दौड़ में सुनीता काकौत प्रथम, कमलेश खेड़ी शेरखां द्वितीय व पूनम खेड़ी शेरखां तृतीय रही। आलू दौड़ में बबीता शिमला प्रथम, सीमा पट्टी अफगान द्वितीय व केलो देवी प्यौदा रोड तृतीय रही। 100 मीटर रेस में सविता नौच ने प्रथम, मीना पिंजूूपूरा दूसरा व बाला देवी अमरगढ़ गामड़ी ने तीसरा स्थान प्राप्त किया। 400 मीटर रेस में रीना कलायत प्रथम, तमन्ना मानस द्वितीय व रीचा बरटा तीसरे स्थान पर रही। 300 मीटर रेस में काफी वजीरनगर ने प्रथम, अंशमीत महमूदपूर ने दूसरा व ज्योति चौशाला ने तीसरा स्थान प्राप्त किया। इसी प्रकार साइकिल रेस में रिंकू सेरधा ने प्रथम, बबीता कलरमाजरा ने दूसरा व सोनिया कलरमाजरा ने तीसरा स्थान हासिल किया।
... और पढ़ें

ट्रामाडोल गोलियों का गोरखधंधा करने वाला अंतरराज्जीय रैकेट का सदस्य गिरफतार

youth
गुहला-चीका। अपराध शाखा गुहला पुलिस द्वारा कुरुक्षेत्र रेलवे स्टेशन से नशीली गोलियों का धंधा करने वाले अंतरराज्जीय रैकेट के एक सदस्य को गिरफ्तार कर लिया गया। व्यापक पूछताछ के लिए आरोपी का 17 फरवरी को न्यायालय से 19 फरवरी तक 2 दिन का पुलिस रिमांड हासिल किया गया है।
विदित रहे कि सीआईए-3 गुहला पुलिस द्वारा 11 फरवरी को पटियाला रोड चीका पर नाकाबंदी के दौरान एक होंडा गाड़ी में रखे दो कट्टों से 106 डिब्बों में 53 हजार नशीली ट्रामाडोल टैबलेट बरामद करके एक तस्कर को गिरफ्तार कर लिया गया था।
सीआईए-3 गुहला इंचार्ज सबइंस्पेक्टर जयनारायण ने बताया कि अपराध शाखा गुहला पुलिस की टीम द्वारा 11 फरवरी को एक गुप्त सूचना मिलने उपरांत पटियाला रोड वर्तमान ढाबा के पास नाकाबंदी की गई थी, जहां पर पंजाब की तरफ से आ रही होंडा गाड़ी नंबर डीएल3सीएके-2490 की चालक सीट पर बैठे युवक लवप्रीत उर्फ लव निवासी हंसपुरा डेरा गांव नौच थाना सदर कैथल को काबू किया गया। पुलिस द्वारा गाड़ी की पिछली सीट पर रखे दो प्लास्टिक कट्टों व आरोपी के कब्जे से बरामद हुए कुल 106 डिब्बों से कुल 53 हजार प्रतिबंधित व नशीली ट्रामाडोल टैबलेट बरामद की गई थी। एक आरोपी मौके से फरार होने में कामयाब हो गया था, जिसकी पहचान सतपाल उर्फ सत्ता निवासी समाना पंजाब के रूप में कर ली गई थी। आरोपी लवप्रीत से पूछताछ के दौरान खुलासा हुआ कि ये नशीली गोलियां उन्हें आरोपी अमरजीत सिंह निवासी ईसवपुर जिला मऊ उत्तर प्रदेश कमीशन पर दिल्ली में उपलब्ध करवाता था। एसआई जयनारायण ने बताया कि मामले की जांच कर रहे सबइंस्पेक्टर राजेंद्र सिंह की टीम द्वारा आरोपी अमरजीत को रेलवे स्टेशन कुरुक्षेत्र से काबू करके एनडीपीएस एक्ट की धारा 21सी, 22सी तहत गिरफ्तार कर लिया गया। आरोपी अमरजीत ने पूछताछ दौरान कुबूला कि उसने नशीली गोलियां उनके गिरोह सदस्य सोनू उर्फ मधुबन निवासी नजदीक लाल किला दिल्ली से लाकर दी थी, जिसकी एवज में वह प्रत्येक डिब्बे पर 50 रुपये कमीशन वसूलता था। आरोपी द्वारा वसूले गए 5300 रुपये कमीशन की बरामदगी तथा अन्य आरोपियों की गिरफ्तारी के लिए आरोपी अमरजीत का 17 फरवरी को न्यायालय से 2 दिन का पुलिस रिमांड हासिल किया गया है।
... और पढ़ें

रेलवे रोड पर सांड़ों की लड़ाई से प्रतिष्ठान छोड़ भागे दुकानदार

कलायत। नगर की गलियों के साथ मुख्य सड़कों पर घूम रहे सांड़, गायें व अन्य पशु लोगों के लिए परेशानी का सबब बने हुए हैं। इन पशुओं की चपेट में आने से कई अनेक लोग घायल हो चुके है। रविवार सुबह भी रेलवे रोड पर दो सांड़ आपस भी इस कद्र भिड़ गए कि रेलवे रोड पर अफरा-तफरी का माहौल बन गया। कुछ दुकानदार अपने प्रतिष्ठानों को छोड़ कर भाग गए कि आपस में लड़ रहे सांड़ उनकी ओर ही न आ जाएं। सडक़ पर सांडों की चली लड़ाई के दौरान जाम जैसी स्थिति बन गई व लोग अपने वाहनों को बचाने में लगे दिखाई दिए। इस सबके बीच सांड़ों की लड़ाई की चपेट में आने से एक साइकिल सहित कुछ दोपहिया वाहन का काफी नुकसान हो गया। सांड़ों की लड़ाई बंद करवाने के लिए कुछ युवकों ने साहस का परिचय देते उन्हें आपस में दूर करने का काफी देर प्रयास किया। इसके पश्चात सांड़ इधर उधर भाग गए व दुकानदारों के साथ आम लोगों ने राहत की सांस ली। दुकानदारों के साथ लोगों का कहना है कि गोशाला द्वारा पूर्व में सड़कों व गलियों में घूमने वाली गाय व सांडों को पकड़ गोशाला में बंद किया था। इसमें नगर के युवा वर्ग का भी अहम योगदान रहा। अब फिर सांड़ों व गायों की संख्या बढ़ रही है जिसके चलते ही लोगों ने प्रशासन से जहां इस समस्या से निजात दिलाने की गुहार लगाई है। गोशाला प्रबंधन समिति से भी आग्रह किया है कि वे सांड़ व गायों को पकड़ने का अभियान चला इन्हें गोशाला में बंद करने का कार्य करें
मुढाड़ गोशाला प्रबंधन समिति प्रधान योगेश गर्ग ने बताया कि पूर्व में कई बार गोवंश को पकड़ गोशाला में ले जाया जा चुका है। उन्होंने बताया कि पालिका प्रशासन द्वारा भी कई बार सैकड़ों गोवंश को छोड़ा गया व कहा गया था कि पालिका द्वारा आर्थिक सहायता गोशाला को दी जाएगी जो कि आज तक नहीं मिली। इसके अलावा गोशाला आयोग द्वारा भी समुचित तौर पर आर्थिक सहायता नहीं दी जा रही। उन्होंने कहा कि पशुओं के कारण लोगों को हो रही परेशानी को ध्यान में रखते अब फिर उचित कदम उठाया जाएगा। उन्होंने लोगों से अपील की कि ऐसे लोगों पर ध्यान रखा जाए जो कलायत में सड़कों पर गोवंश छोड़ परेशानी का कारण बन रहे हैं।
... और पढ़ें

कैथल की बेटी अपर्णा वशिष्ठ झारखंड में जज बनीं

कैथल की बेटी अपर्णा वशिष्ठ झारखंड न्यायिक सेवा में सिविल जज के रूप में चुन ली गई हैं। उनके पति उनसे पहले बैच में न्यायाधीश नियुक्त हुए थे। वहीं उनके अगले ही बैच में कैथल की बेटी अपर्णा वशिष्ठ ने भी सफलता हासिल कर ली है। झारखंड लोकसेवा आयोग द्वारा आयोजित इस परीक्षा में अपर्णा का 27वा रैंक है।
आदर्श नगर निवासी अपर्णा प्रसिद्ध इतिहासकार स्वर्गीय दामोदर वशिष्ठ की पोत्री हैं। स्व. दामोदर वशिष्ठ कैथल के आरकेएसडी कॉलेज में कई दशकों तक हिंदी के प्रोफेसर एवं विभागाध्यक्ष रहे। उनके पिता हरेश वशिष्ठ एवं चाचा दीपक वशिष्ठ चंडीगढ़ में वरिष्ठ पत्रकार हैं। जबकि उनके एक चाचा चंद्रशेखर वशिष्ठ भी न्यायाधीश हैं। कुछ माह पहले ही उनका विवाह हुआ था। उनके पति भी झारखंड के देवघर में जज एवं रजिस्ट्रार हैं। अपर्णा ने बीए एलएलबी आनर्स पंजाब विश्वविद्यालय चंडीगढ़ से की है।
एक साल तक ली थी दिल्ली में कोचिंग
अपर्णा के पिता ने बताया कि अपर्णा ने चंडीगढ़ विश्वविद्यालय से लॉ ऑनर्स की डिग्री हासिल की। इसके बाद दिल्ली में एक कोचिंग संस्थान में एक साल की कोचिंग ली। इसके बाद से वे लगातार प्रतियोगिता की तैयारी कर रहीं थीं। अब उनका चयन हुआ है। जिससे पूरा परिवार खुश है।
... और पढ़ें

जमीन खरीद फरोख्त के मामला: 70 वर्षीय व्यक्ति ने की सुसाइड

फ्रेंड्स कॉलोनी में करीब 70 वर्षीय बुजुर्ग ने फंदा लगाकर आत्महत्या कर ली। मरने से पहले व्यक्ति ने सुसाइड नोट भी लिखा है। इसमें उसके साथ मिलकर जमीन खरीदने वाले चार व्यक्तियों पर उसने आत्महत्या के लिए मजबूर करने के आरोप लगाए हैं। इस संबंध में पुलिस ने मृतक के बेटे की शिकायत पर आरोपियों के खिलाफ केस दर्ज किया है।
फ्रेंडस कॉलोनी निवासी नवीन ने सिविल लाइन थाना में शिकायत दी कि उसके पिता धर्मपाल कैथल में प्रापर्टी का काम करते थे। उन्होंने हिस्सेदारी में तारा सैनी व उसके भाइयों से लगभग 20 साल पहले नए बस स्टैंड कैथल के पास जमीन खरीदी थी। जमीन खरीदने के बाद उस पर दुकानें काट दी। इन दुकानों में से पांच दुकानें हिस्सेदार लहरी के हिस्से में आई थी, लेकिन उसने धोखे से पांच दुकानों की बजाय छह दुकानों की रजिस्ट्री करवा ली। इसी मार्केट में हिस्सेदार राज सिंह कैरो ने भी अपने हक से ज्यादा हिस्से में दुकान की रजिस्ट्री करवा रखी है। शिकायतकर्ता ने बताया कि इस जमीन में से सात-आठ मरलेे ड्रेन में आई हुई थी। उसके पिता ने अपने हिस्से की तीन मरले जमीन की पेमेंट तारा सैनी को कर दी थी। उसके बाद ड्रेन में लगभग चार से पांच मरले जमीन तारा सैनी व उसके भाइयों की थी। तारा का लड़का हरिकेश उसके पिता पर चार से पांच मरले जमीन देने के लिए दबाव डाल रहा था। इससे उसके पिता तनाव में रहने लगे। वे अपने हिस्सेदारों राज सिंह कैरो, नेहरू गार्डन कॉलोनी निवासी लहरी की पत्नी के पास गए थे। वहां पर राज सिंह कैरो, लहरी की पत्नी, उसके दामाद अमरेंद्र व हरिकेश सैनी ने उन पर दबाव बनाया। दबाव में आकर उसके पिता ने फंदा लगाकर जीवन लीला समाप्त कर ली। शिकायतकर्ता ने बताया कि आत्महत्या करने से पहले उसके पिता ने सुसाइड नोट भी लिखा है। जिसमें आरोपियों ने उसके पिता को आत्महत्या के लिए मजबूर किया है।
सिविल लाइन थाना एसएचओ वीरभान ने बताया कि मृतक के शव का पोस्ट मार्टम करवा कर परिजनों को सौंप दिया गया है। पुलिस ने आरोपियों के खिलाफ केस दर्ज कर लिया है। मामले की जांच की जा रही है।
... और पढ़ें

अवैध खुर्दो के विरोध में महिलाओं में जताया रोष

कस्बा पूंडरी में चल रहे शराब के अवैध खुर्दों को लेकर पूंडरी वासियों का गुस्सा फुट पड़ा। शुक्रवार को वार्ड न. 6 की महिलाओं ने अवैध शराब के खुर्दों को बंद करवाने को लेकर रोष जताया। इसके बाद उन्होंने हरियाणा पर्यटन निगम के चेयरमैन एवं विधायक रणधीर गोलन को से कार्रवाई की गुहार लगाई। महिलाओं की शिकायत पर चेयरमैन ने तुरंत पुलिस चौंकी प्रभारी को वार्ड से अवैध खुर्दे बंद करने के निर्देश दिए।
वार्डवासी संतोष, रामरती, सुनीता, भलियां देवी, रीना, सीना, रेखा, बिंदिया व प्रज्ञा ने विधायक को बताया कि उनके बच्चों पर अवैध रूप से बिक रही शराब को लेकर बुरा असर पड़ रहा है। कई बच्चे शराब की लत के शिकार हो रहे हैं। इसी को लेकर दर्जनों महिलाओं ने गोलन के कार्यालय में उनसे मिलकर खुर्दें बंद करवाने के लिए शिकायत सौंपी। महिलाओं का आरोप था कि वार्ड में कई अवैध खुर्दे अवैध रूप से चल रहे हैं। वहां पर सारा दिन शराबी शराब पीकर हुड़दंग मचाते हैं और महिलाओं का तो इन खुर्दों के आसपास से गुजरना भी मुश्किल हो जाता है। महिलाओं ने बताया कि इन खुर्दों पर छोटे नाबालिग बच्चे भी शराब पीते हैं और उनके परिवार के लोग जो पूरा दिन मजदूरी करके कमाते है, यहां आकर उन पैसों की शराब पी जाते हैं। शराब पीकर शराबी लड़ते-झगड़ते रहते हैं। कई बार तो गली में ही आने-जाने वालों के साथ गाली गलौच तक करते हैं। जिसकी वजह से महिलाओं को कई बार शर्मसार होना पड़ जाता है। खुर्दे बंद करवाने को लेकर कई बार पुलिस चौकी में पुलिस को भी अवगत करवा चुके हैं, लेकिन कोई कार्रवाई नहीं होती है।
पूंडरी चौकी प्रभारी ओमप्रकाश ने बताया कि पुलिस ने वार्ड में खुर्दों पर रेड की है, लेकिन वहां कोई अवैध खुर्दा खुला नहीं मिला। महिलाओं की शिकायत को ध्यान में रखते हुए देर शाम को भी रेड की जाएगी। अवैध रुप से शराब बेचने वालों से सख्ती से निपटा जाएगा।
... और पढ़ें

गांव पट्टी चौधरी में अवैध कॉलोनियों पर चलाई जेसीबी

जिला नगर योजनाकार कार्यालय द्वारा गांव नैना व अर्बन एरिया कैथल की राजस्व संपदा गांव पट्टी चौधरी में अवैध कॉलोनियों में जेसीबी से निर्माणों को ध्वस्त किया गया। इस दौरान कॉलोनियों में बनी सड़कों, प्लाटों की नीवों व एक गोदाम को जेसीबी की सहायता से हटाया गया। ड्यूटी मजिस्ट्रेट के रूप में नायब तहसीलदार पूंडरी सुभाष चंद मौजूद थे। भू-मालिक किसी प्रकार का विरोध न करें, इसके लिए पुलिस की टीम भी मौके पर मौजूद रही।
जिला नगर योजनाकार अनिल कुमार ने बताया कि गांव नैना में बिना विभागीय अनुमति के अवैध कॉलोनी विकसित करने की शिकायत सीएम विंडो पोर्टल पर प्राप्त हुई थी। इसके तुरंत बाद भू-मालिकों को नोटिस जारी किए गए। फिर भी भू-मालिक नहीं माने तो विभाग की ओर से कार्रवाई की गई। अनिल कुमार ने बताया कि अवैध कॉलोनाइजेशन के खिलाफ अभियान में जिला प्रशासन के सहयोग से तेजी लाई जा रही है और इसे पनपने नहीं दिया जाएगा। साथ ही उन्होंने जिले के तहसीलदारों व नायब तहसीलदारों से भी अनुरोध किया कि वे रजिस्ट्री करने से पूर्व सरकार द्वारा जारी हिदायतों का पालन करें।
... और पढ़ें
अपने शहर की सभी खबर पढ़ने के लिए amarujala.com पर जाएं

Disclaimer

अपनी वेबसाइट पर हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर अनुभव प्रदान कर सकें, वेबसाइट के ट्रैफिक का विश्लेषण कर सकें, कॉन्टेंट व्यक्तिगत तरीके से पेश कर सकें और हमारे पार्टनर्स, जैसे की Google, और सोशल मीडिया साइट्स, जैसे की Facebook, के साथ लक्षित विज्ञापन पेश करने के लिए उपयोग कर सकें। साथ ही, अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।

Agree
Election
  • Downloads

Follow Us