विज्ञापन

पेंशन के लिए भटक रही महिला की शिकायत पर समाज कल्याण विभाग के कर्मचारी को सस्पेंड के दिए आदेश

Amar Ujala Bureauअमर उजाला ब्यूरो Updated Fri, 14 Feb 2020 01:39 AM IST
विज्ञापन
ख़बर सुनें
परिवहन मंत्री मूलचंद शर्मा ने पेंशन के लिए भटक रही एक वृद्धा की सुनवाई ना किए जाने पर समाज कल्याण विभाग के कर्मचारी को सस्पेंड करने के आदेश जारी किए हैं। साथ ही डीटीपी को कड़े निर्देश देते हुए शहर में एक भी अवैध कॉलोनी ना पनपने देने के निर्देश जारी किए। एक शिकायत पर जींद रोड पर काटी गई अवैध कालोनी में बनाई गई चार दुकानों को तुरंत प्रभाव से गिराए जाने के आदेश भी जारी किए हैं। हरियाणा के परिवहन, खनन एवं भू विज्ञान मंत्री मूलचंद शर्मा वीरवार को लघु सचिवालय में आयोजित जिला कष्ट निवारण समिति की बैठक में लोगों की समस्याएं सुन रहे थे। इस दौरान एजेंडे में शामिल सभी 14 शिकायतों का मौके पर ही निवारण कर दिया। इनमें 3 पुरानी व 11 नई शिकायतें शामिल थीं।
विज्ञापन
कैथल निवासी धर्मवीर गर्ग की अवैध कालोनी की शिकायत पर कड़ा संज्ञान लेते हुए डीटीपी को कहा कि पट्टी चौधरी के शहरी क्षेत्र में बनाई गई अवैध 4 दुकानों को तुरंत तोड़ने की कार्रवाई करवाएं। ढांड निवासी कृष्णा देवी ने पेंशन नही बनने संबंधी शिकायत दर्ज करवाई थी, जिस पर परिवहन मंत्री ने इस कार्य में कोताही करने पर जिला समाज कल्याण अधिकारी कार्यालय में कार्यरत सुरेंद्र को सस्पेंड किए जाने के आदेश जारी किए। बाद में पता चला कि उक्त कर्मचारी कच्चा कर्मचारी है तो डीआईपीरओ की प्रेस विज्ञप्ति में संबंधित कर्मचारी के खिलाफ विभागीय कार्रवाई किए जाने के आदेश जारी होने की जानकारी दी गई। साथ ही महिला की पेंशन बनाए जाने के भी आदेश जारी किए। भूना निवासी कश्मीरी लाल के जमीनी विवाद को सिविल मामला होने के कारण एजेंडे से हटाने के निर्देश दिए। पाई निवासी कुलदीप सिंह ने खाते से गलत पैसे निकालने संबंधी शिकायत, पबनावा निवासी रामदेव ने बिजली ट्रांसफार्मर शिफ्ट करने बारे, गुहला निवासी मामदीन ने सरस्वती हैरीटेज में बाढ़ से प्रभावित क्षेत्रों में काम करने की एवज में पेमेंट के लिए, सीवन निवासी स्वरूप लाल ने अवैध खुर्दे हटवाने तथा राजौंद निवासी रामफल ने कृषि कार्ड बनवाने संबंधी शिकायत दी थी, जिस पर परिवहन मंत्री ने सुनवाई करते हुए संबंधित विभागों के अधिकारियों को निर्देश देते हुए सभी मामलों को मौके पर ही निपटा दिया। इस मौके पर अन्य लोगों ने भी परिवहन मंत्री को शिकायतें व समस्याएं दूर करने के आवेदन दिए, जिस पर उन्होंने संबंधित विभाग के अधिकारियों को निपटान के निर्देश दिए। इस अवसर पर हरियाणा पर्यटन निगम के चेयरमैन रणधीर सिंह गोलन, कैथल विधायक लीला राम, उपायुक्त सुजान सिंह, भाजपा जिलाध्यक्ष अशोक गुर्जर, जेजेपी जिलाध्यक्ष रणदीप कौल, अतिरिक्त उपायुक्त सत्येंद्र दुहन, जिला परिषद उप प्रधान मुनीष कठवाड़, उपमंडलाधीश कमलप्रीत कौर, विवेक चौधरी, शशि वंसुधरा, नगराधीश सुरेश राविश, मुकेश जैन, राजेंद्र स्लेटी, रवि भूषण गर्ग सहित समिति के गैर सरकारी सदस्य व अधिकारी मौजूद रहे।
जिम्मेवारी से बचने का प्रयास कर रहे थे एक्सईएन, मंत्री बोले-आप की जिम्मेवारी है, आप लगवाइए लाइटें
कैथल निवासी नरेश कुमार ने शिकायत की थी कि ढांड रोड बाईपास से लेकर रेलवे फाटक तक 9 लाइट पोस्ट पर लाइट व्यवस्था नही है। इस पर डीसी ने पीडब्ल्यूडी, एनएचएआई व नगर परिषद के अधिकारियों को तलब कर लिया और मंत्री से मार्गदर्शन मांगा कि तीनों विभाग अपनी जिम्मेवारी नहीं ले रहे हैं। इस पर एनएचएआई के अधिकारी ने कहा कि यह सड़क पीडब्ल्यूडी को तीन दिन पहले ही ट्रांसफर कर दी गई है। पीडब्ल्यूडी के एक्सईएन ने कहा कि सड़क बनाने का काम जल्द शुरू कर दिया जाएगा। लेकिन लाइट हुडा ने लगवाई थी। नगर परिषद सचिव ने कहा कि यहां परिषद की ओर से लाइट लगवा दी जाएंगी। लेकिन मंत्री बोले सड़क पीडब्ल्यूडी की है तो वही लाइट लगाएंगे। एक्सईन को कड़ा निर्देश देते हुए कहा कि आप अपनी योजना में लाइटें शामिल करें।
बिना सुबूत कर दिया 53 हजार का जुर्माना
कलायत निवासी महीपाल की शिकायत थी कि उसके किराये की दुकान पर बिना किसी कारण के 53000 रुपये का जुर्माना कर दिया। विभाग के पास कोई सुबूत नहीं है। मौके पर जो स्थिति थी, उसकी फोटो तक नहीं दिखाई जा रही। उसने जब चोरी की ही नहीं तो वह इतना जुर्माना कैसे भरे? अब विभाग के अधिकारी कह रहे हैं कि पुलिस से बचना है तो कोर्ट में केस डाल दो, मेरे पास केस डालने तक के पैसे नहीं हैं। एमएलए लीला राम भी बोले, कई अधिकारियों व कर्मचारियों ने गदर मचाया हुआ है, गरीब लोग परेशान हैं। इस पर मंत्री ने एक्सईएन से चोरी के संबंध में सुबूत मांगा तो एक्सईएन के पास कोई जवाब नहीं था। मंत्री ने निर्देश जारी किया कि शिकायत का निपटान करो और बिना सुबूत के जुर्माना ना किया जाए।
पाइपलाइन ना लगाने की शिकायत पर दिए जांच के आदेश
सांच निवासी कृष्ण लाल की पानी के लिए पाइपलाइन ना लगाए जाने की शिकायत पर विभाग के एक्सईएन ने जब यह कहा कि वहां पाइप नहीं लग सकती तो भाजपा जिला अध्यक्ष सहित सभी ने पीड़ित की शिकायत सुनने को कहा। लंबे समय तक हुई चर्चा के बाद मंत्री ने इस मामले में जिला अध्यक्ष अशोक गुर्जर, चेयरमैन रणधीर गोलन व एसडीएम कैथल की कमेटी गठित कर वहां जांच के आदेश जारी किए।
ट्रांसफार्मर पर हैंडल लगाए जाने के दिए निर्देश
बरोट निवासी मोहन लाल की शिकायत थी कि उसके खेत में ट्रांसफार्मर पर हैंडल नहीं लगाया गया। इस पर डीसी ने विद्युत निगम के अधिकारियों से जवाब मांगा और कहा कि आपने तो कहा था कि शिकायत का निवारण कर दिया गया है। इस पर शिकायतकर्ता ने कहा कि सुनवाई नहीं हो रही। मंत्री ने तुरंत प्रभाव से ट्रांसफार्मर पर हेंडल लगाए जाने के निर्देश जारी किए। किठाना निवासी अजमेर ने शिकायत की थी कि उनके भाई की दुर्घटना में मृत्यु 4 जुलाई 2019 को हुई थी, उसके मृत्यु प्रमाण पत्र के लिए वह भटक रहा है। मंत्री शर्मा ने सीएमओ को कड़े निर्देश देते हुए कहा कि जब व्यक्ति भगवान को ही प्यारा हो जाता तो उसके मरने के प्रमाण पत्र के लिए किसी को भटकना ना पड़े। आगे से ऐसी कोई शिकायत नहीं मिलनी चाहिए। कलायत निवासी सतनाम ने मारपीट के मामले में र्कावाई ना होने की शिकायत की थी। इस शिकायत को मंत्री ने एजेंडे से हटाने के निर्देश जारी किए।
14 में से 6 शिकायतकर्ता नहीं आए
डीसी सुजान सिंह ने एजेंडे में रखी गई शिकायतों को लेकर एक दिन पहले ही अधिकारियों की बैठक लेकर शिकायतों को गंभीरता से निपटाने, उनके जवाब तैयार करने संबंधी निर्देश दिए थे। जिस कारण बैठक में पहुंची अधिकतर शिकायतें मौके पर ही निपट गई और किसी मामले को लंबित रखने की आवश्यकता नहीं पड़ी।
विज्ञापन
विज्ञापन

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|
Get all India News in Hindi related to live update of politics, sports, entertainment, technology and education etc. Stay updated with us for all breaking news from India News and more news in Hindi.

विज्ञापन

Spotlight

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

Disclaimer


हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर और व्यक्तिगत अनुभव प्रदान कर सकें और लक्षित विज्ञापन पेश कर सकें। अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।
Agree
Election
  • Downloads

Follow Us