विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
नवरात्र में कराएं कामाख्या बगलामुखी कवच का पाठ व हवन, पाएं कर्ज मुक्ति एवं शत्रुओं से छुटकारा
Astrology Services

नवरात्र में कराएं कामाख्या बगलामुखी कवच का पाठ व हवन, पाएं कर्ज मुक्ति एवं शत्रुओं से छुटकारा

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

From nearby cities

कोरोना वायरसः आइसोलेशन वार्ड में तब्दील हुई 24 कोच की ट्रेन, रेलमंत्री ने ट्वीट की तस्वीरें देखिए

कोरोना महामारी से लड़ने को भारतीय रेलवे ने एक सराहनीय कार्य किया है। विभाग की ओर से 24 कोच की ट्रेन को आइसोलेशन वार्ड में तब्दील कर दिया गया है, देखिए तस्वीरें।

28 मार्च 2020

विज्ञापन
विज्ञापन

पंचकूला

शनिवार, 28 मार्च 2020

कोरोना वायरसः चंडीगढ़ में कर्फ्यू के दौरान चार दिनों में 3521 राउंडअप, 67 केसो में 86 गिरफ्तार

कोरोना वायरस के संक्रमण से लोगों को बचाने के लिए सोमवार आधी रात से पुलिस शहर के चप्पे-चप्पे पर मुस्तैद है। शुक्रवार को रोजाना के मुकाबले कुछ कम लोग सड़कों पर दिखाई दिए।

शहर के अलग-अलग जगहों से पिछले चार दिनों में पुलिस ने 3521 लोगों को राउंडअप किया गया है जबकि 67 केस दर्ज कर 86 लोगों को गिरफ्तार किया गया। इसके अलावा 1505 वाहनों की चेकिंग कर 102 वाहनों को जब्त किया गया। अलग-अलग बार्डर पर चंडीगढ़ पुलिस ने 38 नाके लगाए हैं। इसके अलावा पीसीआर समेत अन्य विंग जगह-जगह गश्त करने की ड्यूटी लगाई गई है।

इसके अलावा सड़कों पर लोगों के निकलने कि वजह से पुलिस लाउडस्पीकर के जरिए लोगों को कर्फ्यू के चलते घरों में ही रहने की हिदायत देती नजर आई। अनाउंसमेंट के दौरान पुलिस ने पूरी तरह साफ कर किया की यदि कोई भी शख्स किसी भी स्थिति में बाहर निकलता है तो उसके ऊपर कानूनी कार्रवाई करते हुए तुरंत गिरफ्तार कर लिया जाएगा।
... और पढ़ें

लॉकडाउनः 'फाइट्स कोरोना फंड' में मिल्खा सिंह सहित कई इंटरनेशनल खिलाड़ी देंगे लाखों रूपये दान

चंडीगढ़। कोरोना वायरस से लड़ने के लिए प्रशासन पूरी तरह से मुस्तैद दिखाई दे रहा है। इसके के लिए लोगों से अपील भी की गई है कि वह कोरोना वायरस के लिए फंड भी दे सकते हैं। इसके बाद अब पद्मश्री और उड़न सिख मिल्खा सिंह और अन्य कई इंटरनेशनल खिलाड़ी भी सामने आए हैं जिन्होंने कोरोना पीड़ितों की मदद के लिए लाखों रूपये फंड में देने के लिए बात कही है।
कोरोना वायरस का प्रभाव इन दिनों देश में कई राज्यों में फैलता जा रहा है।

राज्य सरकारें इस स्थिति से निपटने में लगी हुई है और तरह से संभव कार्यों को कर रही हैं। इस परिस्थिति से निपटने में यूटी प्रशासन भी हर तरह के कार्य कर रहा हैं। वीरवार को यूटी प्रशासक वीपी बदनौर ने सिटी का दौरा किया था। प्रशासक ने चंडीगढ़ फाइट्स कोरोना फंड की घोषणा करते हुए एक लाख रूपये का योगदान भी किया था। प्रशासन के इस कदम से सिटी के कई नामी लोग भी आगे आए हैं।

यह मेरा शहर है, मेरा भी कुछ कर्तव्य बनता है
मिल्खा सिंह ने कहा कि कोरोना वायरस के विश्वभर में तेजी से बढ़ते प्रभाव से वह चिंतित है। इन्होंने कहा कि शहर में कोरोना से प्रभावित कुछ लोगों खबरों से वह दुखी हैं। इस बीमारी से बचने के लिए खुद सचेत रहना चाहिए और घरों में रहना चाहिए। मिल्खा सिंह ने कहा कि यह मेरा शहर है और मेरा भी इसके प्रति कुछ कर्तव्य बनता है। उन्होंने कोरोना पीड़ितों को तीन-चार लाख रूपये फंड के तौर पर देने को कहा है।

दूसरों की सेवा करने से मिलती है खुशी पैरा ओलंपिक टेबल टेनिस प्लेयर और पति-पत्नी मुकेश और पूनम भी कोरोना वायरस से प्रभावित लोगों की मदद के लिए आगे आए हैं। इन दोनों ने अपने 50-50 हजार रुपये की राशि को चंडीगढ़ फाइट्स कोरोना फंड में देने की बात कही है। इंटरनेशनल स्तर पर दोनों को इनामी राशि अभी सरकार की ओर मिलनी है और कुछ रुपये इन्होंने खुद जमा किए हैं, जिसे वह कोरोना वायरस फंड में देना चाहते हैं।

सब लोगों को एक साथ आना चाहिए
देश को ओलंपिक कोटा दिलाने वाली इंटरनेशनल शूटर अंजुम मोदगिल ने कहा कि कोरोना वायरस निपटने के लिए हम सबको एक जुटकर होकर जो भी मदद बन सके उसे किया जाना चाहिए। यह हम सभी के लिए संकट की स्थिति है। इसके लिए सभी को आगे आना चाहिए। अंजुम ने कहा कि वह उन्हें चंडीगढ़ फाइट्स कोरोना फंड की अभी जानकारी मिली है और वह इसके लिए जितना होगा अपने परिवार सहित मदद करेंगी।
... और पढ़ें

कोरोना वायरसः चंडीगढ़ में कर्फ्यू के बीच डीएसपी सेंट्रल ने वकील को कराई शॉपिंग, वीडियो वायरल

कोरोना वायरस के संक्रमण को रोकने के लिए चंडीगढ़ पुलिस दिन-रात मुस्तैदी से जुटी हुई है। वहीं दूसरी ओर सोशल मीडिया पर चंडीगढ़ पुलिस के एक आलाधिकारी का शर्मसार कर देने वाला वीडियो वायरल हुआ है। वीडियो में सेंट्रल डीएसपी कृष्ण कुमार एक वकील को सेक्टर 10 स्थित माउंटव्यू के सामने शॉपिंग कराकर घर छोड़ते हुए दिख रहे हैं।

शुक्रवार को वायरल हुए 10 मिनट 48 सेकंड के इस वीडियो में डीएसपी सेंट्रल कृष्ण कुमार की सरकारी गाड़ी दिख रही है। गाड़ी में वकील समेत डीएसपी सवार थे। सेक्टर 10 में शॉपिंग के बाद डीएसपी की गाड़ी सेक्टर 2 पहुंची और डिग्गी में रखे सामान को वकील के घर छुड़वाया। बताया जा रहा है कि इस वीडियो को पीएसओ के द्वारा बनाया गया है।

बता दें कि जनता कर्फ्यू के बाद से ही चंडीगढ़ पुलिस शहर के अलग-अलग हिस्सों में मुस्तैद है। इतना ही नहीं पुलिस कर्मियों की ड्यूटी भी बढ़ाई गई है, ऐसे में डीएसपी द्वारा वकील को वीआईपी ट्रीटमेंट से शॉपिंग करवाने के वीडियो पर सवालिया निशान खड़े हो गए हैं। एसएसपी नीलंबरी विजय जगदले का कहना है कि सेंट्रल डीएसपी से पूछताछ की जाएगी।

वीडियो बनाते समय डीएसपी पर तसा कंज
यह गाड़ी में बैठ गए वकील और डीएसपी सेंट्रल कृष्ण साहिब गाड़ी नंबर (सीएच-01- जीए-6100) सेक्टर 10 माउंट व्यू होटल के सामने से निकलकर सेक्टर 2 में वकील साहब को छोड़ने जा रहे हैं। डिग्गी फुल भर रखी है और गरीब आदमियों को सामान नहीं मिल रहा है। प्रशासन के अधिकारी ही कोताही बरत रहे हैं। बड़े लोगों को ऐसे सामान दिलाते हैं, गरीब को मिलता नहीं है। अब यह सामान कोठी में उतारा जाएगा।
... और पढ़ें

हरियाणा आने की फिराक में पंजाब के एनआरआई, चौकस रहने के निर्देश

हरियाणा के उपमुख्यमंत्री दुष्यंत चौटाला ने राज्य के सभी अतिरिक्त उपायुक्तों और जिला विकास पंचायत अधिकारियों को निर्देश दिए हैं कि पंजाब के साथ लगते अंबाला, कुरुक्षेत्र, कैथल, जींद, फतेहाबाद व सिरसा जिलों में पंजाब के अप्रवासी भारतीयों के आने की भी संभावना है। इन जिलों में भी सरपंच विशेष ध्यान रखें और किसी को भी आने की अनुमति न दी जाए। यदि कोई आता भी है तो इसकी सूचना जिला प्रशासन को दी जाए। सरपंचों को गांव में ठीकरी पहरा व चौकीदारों के माध्यम से विशेष मुनादी करवानी होगी।
उन्होंने कहा कि जहां-जहां से प्रवासी श्रमिक हरियाणा से उत्तर प्रदेश व राजस्थान जैसे अपने मूल राज्यों में लॉकडाउन के दौरान पैदल जा रहे हैं, उनके लिए स्कूलों, पंचायत भवनों व अन्य सरकारी भवनों को शैल्टर होम के रूप में परिवर्तित करके उनके ठहरने व खाने-पीने की व्यवस्था की जाए और इससे पहले इन भवनों को सैनिटाइज किया जाए।
डिप्टी सीएम वीडियो कांफ्रेंसिंग के माध्यम से राज्य के सभी अतिरिक्त उपायुक्तों और जिला विकास पंचायत अधिकारियों के साथ बैठक कर रहे थे। बैठक में उन्होंने अधिकारियों को इस बात के भी निर्देश दिए कि विदेशों से या दूसरे राज्यों या शहरों से पिछले 15 दिनों में गांवों में आए व्यक्तियों के बारे में मुख्यालय को सूचित किया जाए। अगर ऐसे व्यक्ति आते हैं तो पूरे गांवों का अच्छी प्रकार से सोडियम क्लोराइड स्प्रे से सैनेटाइजेशन करवाया जाए तथा ऐसे व्यक्तियों की तुरंत सूचना जिला प्रशासन को देकर क्वारंटीन किया जाए।
इसी प्रकार, जो पंचायतें कोरोना वायरस को रोकने के लिए उत्कृष्ट प्रदर्शन करेगी, उन पंचायतों को देश के समक्ष एक मॉडल के रूप में प्रस्तुत किया जाएगा और उन्हें विशेष रूप से सम्मानित भी किया जाएगा। बैठक में इस बात की जानकारी दी गई कि सोनीपत जिले के राई खण्ड व फरीदाबाद जिले के गांव की पंचायतों के सभी सरपंचों ने अपने 6 महीने का मानदेय हरियाणा कोविड रिलीफ फंड में देने की घोषणा की है।
... और पढ़ें

जिले में वायरस पूर्ण नियंत्रण में, 410 लोग क्वारंटीन

पंचकूला। जिलों में कोरोना वायरस की स्थिति पूर्ण रूप से नियंत्रण में है। स्वास्थ्य विभाग द्वारा अब तक लिए 50 नमूनों में से 37 नमूने निगेटिव पाए गए हैं।
डीसी मुकेश कुमार आहूजा ने बताया कि अब तक भेजे गए नमूनों में से खड़क मंगोली में ही एक केस पॉजिटिव मिला है। 5 लोगों के नमूनों के नतीजे आने शेष हैं तथा 7 के नमूने रद्द पाए गए। जिला पंचकूला के 410 लोगों को निगरानी में रखा गया है। वहीं जिले के 2-2 लोगों को गुरुग्राम व दिल्ली में क्वारंटीन किया गया है। इस तरह जिले में कुल 296 लोगों को क्वारंटीन किया गया है। अब तक जिले के 100 लोगों ने 28 दिन की निगरानी पूरी कर ली है। इस समय नागरिक अस्पताल में 4, कमांड अस्पताल में 2 व नाडा साहिब गुरुद्वारे में 4 लोगों को क्वारंटीन किया गया है।
... और पढ़ें

सैनिटाइजर जेब में रखकर काम करेंगे बिजलीकर्मी

हरियाणा में बिजली कर्मचारी फील्ड के दौरान सैनिटाइजर और मास्क हमेशा अपने पास रखेंगे। लाइन फाल्ट की शिकायत आने के बाद यदि उन्हें लोगों के घरों में जाना पड़े, तो वे मास्क लगाकर जाएंगे और काम करने से पहले और काम निपटाने के बाद सैनिटाइजर से अपने हाथों को अच्छी तरह से साफ करेंगे। सैनिटाइजर और मास्क का पूरा खर्च बिजली निगम वहन करेगा।
देखा जाए तो डॉक्टर, पुलिस व सफाई कर्मचारियों के साथ-साथ बिजली कर्मचारी भी लॉकडाउन में अहम भूमिका निभा रहे हैं। फील्ड में रहने वाले कर्मचारी लाइनमैन व सहायक लाइनमैन संकट की घड़ी में लोगों को निर्बाध बिजली सप्लाई मिलती रहे, इसके लिए कार्यरत हैं। चूंकि इस वक्त लोग लॉकडाउन की वजह से घरों में ही कैद हैं, ऐसे में टीवी ही लोगों के लिए टाइमपास का एक बड़ा माध्यम बना हुआ है। ऐसी स्थिति में यदि बिजली के लंबे कट लगते हैं, तो हाहाकार मचना लाजिमी है। फिर भी शहरों और गांव में विभिन्न कारणों की वजह से लाइन फाल्ट की शिकायतें निरंतर आती रहती हैं। इन शिकायतों पर बिजली निगमों का फील्ड स्टाफ सार्वजनिक स्थानों और घरों में जाकर लोगों के इस लाइन फाल्ट को ठीक कर रहे हैं।
... और पढ़ें

साबुन से हाथ धोकर राशन डिपो में घुसेंगे लोग

हरियाणा में राशन वितरण के दौरान डिपो संचालक और लोगों को सोशल डिस्टेंसिंग का प्रोटोकॉल फॉलो करना होगा। इसके लिए विभिन्न दिशा-निर्देश सरकार ने जारी किए हैं। राशन डिपो पर राशन लेने से पहले लोगों को साबुन से हाथ धो कर अंदर जाना होगा। डिपो संचालक साबुन और पानी की व्यवस्था डिपो के बाहर करेंगे।
डिपो संचालकों को निर्देश दिए गए हैं कि वह डिपो के बाहर लोगों की भीड़ इकट्ठा न होने दें। उन्हें तीन- तीन फीट की दूरी पर खड़ा करके राशन वितरित करें। डिपो संचालक राशन वितरण में ऐसी समय सारिणी बनाएं कि 10-10 लोग ही एक बार में राशन लेने पहुंचे। गांव में मुनादी करवाकर वितरण की जानकारी दी जाएगी। संभव हो सके लाभार्थियों का व्हाट्सएप और एसएमएस ग्रुप बनाकर भी उन्हें राशन वितरण की सूचना दी जा सकती है। डिपो संचालक दुकान परिसर को साफ-सुथरा रखेंगे। काउंटर, दरवाजे के हैंडल इत्यादि चीजों को सैनिटाइज करके रखेंगे। इसके अलावा वे लाभार्थी जो बुजुर्ग हैं, यदि संभव हो सके तो डिपो संचालक उनका राशन उनके घर तक ही पहुंचाने की व्यवस्था करेंगे। किराना दुकानदारों को भी यही निर्देश दिए गए हैं। लोगों से भी कहा गया है कि यदि दुकानदारों के लिए रसद की होम-टू-होम डिलीवरी संभव नहीं हो पा रही है। तो राशन की लिस्ट दुकानदार को व्हाट्सएप या एसएमएस से भेज दें। जिसके बाद दुकानदार उस सामान को पैक कर बिल समेत अपनी दुकान के बाहर रख देगा और फिर ग्राहक को उस सामान को ले जाने के लिए व्हाट्सएप या एसएमएस के जरिए ही समय बता देगा।
... और पढ़ें

कांग्रेस ने उठाई आपातकाल वेतन योजना लागू करने की मांग

हरियाणा प्रदेश कांग्रेस कमेटी ने प्रदेश सरकार से मांग की है कि प्रदेश में आपातकाल वेतन योजना को लागू की जाए। जिसके अंतर्गत कर्मचारियों को 3 महीने के वेतन में पांच-पांच हज़ार रुपये सरकार अपनी ओर से दे। साथ ही कारोबारियों के लिए जीएसटी दरों को कम किया जाए और संकट की इस घड़ी में छोटे कारोबारियों ढाई लाख का कर्ज भी माफ किया जाए।
मुख्यमंत्री मनोहर लाल को भेजे पत्र में हरियाणा प्रदेश कांग्रेस कमेटी की अध्यक्ष कुमारी सैलजा ने मांग करते हुए कहा कि सरकार को छोटे मध्यम व्यापार की सहायता करने के लिए आपातकालीन वेतन योजना स्थापित करके अगले तीन महीनों तक इनके सभी कर्मचारियों को कम से कम पांच हज़ार प्रति माह का योगदान देना चाहिए।
इन छोटे व्यवसायों के लिए राज्य जीएसटी को आधा कर दिया जाए और इनके स्वयं के लिए एक चौथाई राज्य जीएसटी राशि रखने की अनुमति हो। राज्य जीएसटी भुगतानों को तीन महीने के लिए टाला जाए। जीएसटी रिटर्न में देरी हो जाने की वजह से जुर्माने से छूट मिलनी चाहिए। 6 महीने के लिए व्यक्तिगत आयकर को भी हटाया जाए। इसके लिये राज्य सरकार केंद्र सरकार से आग्रह करे। छोटे व्यापारी का 2.5 लाख तक का कर्ज माफ होना चाहिए। उन्होंने मांग की कि छोटे मध्यम व्यापार खासकर होटल, रेस्तरां और खुदरा उद्योग बुरी तरह से प्रभावित हैं। सेवा उद्योग से संबंधित व्यवसायों का समर्थन करने के लिए सरकार को विशेष पैकेजों की घोषणा करनी चाहिए। किराना दुकानदारों, केमिस्ट, सब्जी वालों व दूध जैसी जरूरतें पूरी करने वालो को भी मासिक भत्ता मिलना चाहिए।
... और पढ़ें

फरीदाबाद में एक और केस, हरियाणा में अब 20 कोरोना ग्रस्त मरीज

हरियाणा के फरीदाबाद में कोरोना वायरस का एक और मरीज सामने आया है। जिसके बाद प्रदेश में अब कोरोना पॉजिटिव के 20 मामले सामने आ चुके हैं। अच्छी बात यह कि प्रदेश में कोरोना ग्रस्त 6 मरीज अब ठीक भी हो चुके हैं। जिन्हें अस्पतालों से डिस्चार्ज कर दिया गया है।
पड़ोसी राज्य पंजाब की अपेक्षाकृत हालांकि हरियाणा में अभी तक मामले कम ही हैं, लेकिन उसके बावजूद भी हरियाणा सरकार कोरोना ग्रस्त मरीजों की संख्या न बढ़े, इसके लिए कोई कोर कसर बाकी नहीं छोड़ रही है। शुक्रवार को हरियाणा में कोरोना का कोई केस पॉजिटिव दर्ज नहीं हुआ था। शनिवार को फरीदाबाद का एक और मरीज पॉजिटिव आया है। अभी तक हरियाणा में 10 मरीज गुरुग्राम के, 3 फरीदाबाद के, 4 पानीपत के, 1 सोनीपत का, 1 पंचकूला का व 1 पलवल का मरीज कोरोना पॉजिटिव आ चुका है। प्रदेश में इस वक्त 11904 मरीज ऐसे हैं, जिन्हें मेडिकल सर्विलांस के दायरे में रखा गया है। जबकि 248 लोग ऐसे हैं जिन्हें लेकर सरकार ज्यादा चिंतित है। ये वे लोग हैं जो पॉजिटिव आ चुके कोरोना ग्रस्त मरीजों के संपर्क में आ चुके हैं। 185 संदिग्ध मरीजों का इलाज अस्पताल में भर्ती कर चल रहा है। जबकि 645 मरीज पिछले 28 दिन से मेडिकल निगरानी में है। 574 में से 430 सैंपल नेगेटिव आ चुके हैं। जबकि 126 सैंपल की रिपोर्ट आना अभी बाकी है।
... और पढ़ें

पंजाब में कोरोना का कोई नया केस नहीं

पंजाब के लिए शनिवार का दिन राहत भरा रहा। 24 घंटे के दौरान कोरोना से पीड़ित कोई मामला सामने नहीं आया है। महामारी के कारण में एक मौत देख चुके पंजाब में शनिवार को एक मरीज ठीक होकर अपने घर रवाना भी हो गया। सरकार से मिली जानकारी के अनुसार, शनिवार तक राज्य में 898 संदिग्ध मरीजों की जांच की गई, जिनमें 596 लोगों की रिपोर्ट नेगेटिव पाई गई जबकि 264 लोगों की जांच रिपोर्ट का इंतजार है। 24 घंटे के दौरान 109 संदिग्ध मरीजों के सैंपल लिए गए हैं। इनमें से 76 लोगों की रिपोर्ट नेगेटिव रही जबकि बाकी लोगों की रिपोर्ट का इंतजार है। राज्य में पाजिटिव मरीजों की संख्या 38 है, जिनमें से एक व्यक्ति की मौत बीते सप्ताह हो गई थी। बाकी 37 मरीज जोकि अस्पताल में दाखिल हैं, में से अमृतसर में दाखिल होशियारपुर के मरीज की हालत में सुधार होने के बाद उसे अस्पताल से छुट्टी दे दी गई है। इस तरह पंजाब में कोरोना से पीड़ित लोगों की शनिवार को कुल संख्या 36 है। इन मरीजों की हालत स्थिर बताई गई है। इन मरीजों के नजदीकियों को भी क्वारंटीन किया गया है और वह सब डाक्टरों की निगरानी में हैं। इन मामलों के करीबी व्यक्तियों के नमूने भी ले लिए गए हैं और जांच के लिए निर्धारित लैब को भेजे गए हैं।
पंजाब में कोविड-19 की जिलावार रिपोर्ट
जिला कंफर्म केस ठीक हुए मृत्यु
एसबीएस नगर 19 0 1
एसएएस नगर 06 0 0
जालंधर 05 0 0
अमृतसर 01 0 0
होशियारपुर 06 1 0
लुधियाना 01 0 0
... और पढ़ें

बीडीसी सदस्यों ने कोरोना रिलीफ फंड में दिया एक माह का वेतन

मोरनी। भारत में तेजी से बढ़ती कोरोना पीड़ितों की संख्या से निपटने में कोई परेशानी न आए इसके लिए कोरोना रिलीफ फंड में दान देने वाले दानी सज्जनों की संख्या बढ़ती जा रही है। इलाके के सभी सरपंचों व रिटायर्ड यूनियन के सदस्यों के बाद ब्लॉक समीति के सदस्यों ने अपने एक माह का वेतन मुख्यमंत्री रिलीफ फंड में देने का निर्णय लिया है।
समीति के चेयरमैन कमलदीप सिंह परमार ने बताया कि देश में समीति की उप चेयरपर्सन निर्मल कौर सहित अन्य आठ सदस्यों ने इस फैसले को स्वीकार किया है। उन्होंने कहा कि वह सरकार के लॉकडाउन में सरकार के साथ खडे़ हैं सरकार उनकी जो भी जिम्मेवारी लगाएगी उसका निर्वहन वह पूरी निष्ठा से करेंगे।
वहीं उन्होंने कहा कि जो भी किसान भाई अपनी फसल को मंडियों में बेचने के लिए जाना चाहता है उसके लिए उनकी गिगराज एग्रो फार्मर प्रोडयूसर कंपनी परमिशन बनाकर देगी जिससे वह अपनी फसल को आसानी से बेच पाएंगे। साथ ही उन्होंने लॉकडाउन के दौरान लोगों को घरों में रहने और सुरक्षा के नियमों का पालन करने का आग्रह किया।
... और पढ़ें

अधिक दामों पर सब्जी न बेचें दुकानदार : जांगड़ा

मोरनी। कोरोना वायरस में हुए लॉकडाउन के दौरान कोई भी व्यक्ति भूखा न रहे इसके लिए जिला प्रशासन के अधिकारी अपनी जिम्मेवारी को बढ़िया से निभा रहे हैं।
शनिवार को मोरनी पिंजौर वन मंडल जोगिंद्र सिंह जांगड़ा ने जिला नोडल अधिकारी के तौर पर इलाके का निरीक्षण किया। मोरनी में सब्जी व राशन की दुकानों पर जाकर रेटों के बारे जानकारी ली और जरूरत से अधिक दामों पर सामान को नहीं बेचने का आग्रह करते हुए दुकानदारों को कार्रवाई की चेतावनी भी दी।
उन्होंने लोगाें को सोशल डिस्टेंस बनाने, घरों से बाहर कम निकलने और जमाखोरी व कालाबाजारी करने वालों की शिकायत करने के बारे में जागरूक किया। इसके अलावा उन्होंने अपील करते हुए जंगलों को प्लासिटक मुक्त बनाने के बारे भी जागरूक किया।
... और पढ़ें
अपने शहर की सभी खबर पढ़ने के लिए amarujala.com पर जाएं

Disclaimer


हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर और व्यक्तिगत अनुभव प्रदान कर सकें और लक्षित विज्ञापन पेश कर सकें। अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।
Agree
Election
  • Downloads

Follow Us