विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
हनुमान जयंती पर नौकरी प्राप्ति, आर्थिक उन्नत्ति, राजनीतिक सफलता एवं शत्रुनाशक हनुमंत अनुष्ठान - 8 अप्रैल 2020
Astrology Services

हनुमान जयंती पर नौकरी प्राप्ति, आर्थिक उन्नत्ति, राजनीतिक सफलता एवं शत्रुनाशक हनुमंत अनुष्ठान - 8 अप्रैल 2020

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

Coronavirus Haryana: प्रदेश में महामारी से पहली मौत, छह नए केस भी आए, अब 35 पॉजिटिव मरीज

कोरोना महामारी से गुरुवार को हरियाणा में पहली मौत हुई है। कोरोना वायरस के संक्रमण से पीड़ित अंबाला निवासी 67 वर्षीय शख्स ने पीजीआई चंडीगढ़ में दम तोड़ा।

2 अप्रैल 2020

विज्ञापन
विज्ञापन

पानीपत

गुरूवार, 2 अप्रैल 2020

Coronavirus: हरियाणा में अब कुल मरीज 24, सात ठीक होकर घर पहुंचे, 187 की रिपोर्ट बाकी

हरियाणा में शुक्रवार को तीन नए केस मिले। इसके बाद प्रदेश में अब कोरोना पॉजिटिव मरीजों की संख्या अब 24 हो गई है। इनमें से अभी सात मरीज ही ठीक हो पाए हैं। वहीं लगातार बढ़ते जा रहे मामलों को लेकर प्रदेश सरकार पूरी तरह चिंतित और गंभीर है।

प्रदेश में 24 पॉजिटिव केसों में से 10 मरीज गुरुग्राम, 4-4 मरीज फरीदाबाद और पानीपत व एक-एक मरीज पंचकूला, अंबाला, पलवल, सोनीपत, सिरसा और हिसार के हैं। इन पॉजिटिव मरीजों के संपर्क में 348 लोग अभी तक आ चुके हैं। जिन पर स्वास्थ्य महकमे की लगातार निगरानी बनी हुई।

243 संदिग्ध मरीजों को अस्पताल में भर्ती कर उनका इलाज किया जा रहा है। 13621 लोगों को स्वास्थ्य महकमे ने मेडिकल सर्विलांस में हैं। 666 सैंपल जांच के लिए भेजे गए हैं, जिनमें से 459 सैंपल नेगेटिव आ चुके हैं। 187 सैंपल की रिपोर्ट आना अभी बाकी है।

हरियाणा स्वास्थ्य महकमे के अतिरिक्त मुख्य सचिव राजीव अरोड़ा के अनुसार, प्रदेश में इस वायरस का प्रभाव ज्यादा न बढ़े, इसे लेकर हरियाणा सरकार बेहद गंभीर है। उनके अनुसार इसी के मद्देनजर लगातार लोगों पर चिकित्सा निगरानी का दायरा बढ़ाया जा रहा है। लोगों से भी आग्रह है कि वे भी स्वास्थ्य विभाग की हिदायतों का पालन करें और स्वास्थ्य कर्मचारियों को पूरा सहयोग करें।
... और पढ़ें

कांग्रेस ने जरूरतमंदों की मदद को जारी किए नंबर

लॉकडाउन में पानीपत में जरूरतमंदों की मदद के लिए कांग्रेस पार्टी की ओर से विधानसभा वार नंबर जारी किए हैं। हरियाणा कांग्रेस कमेटी के पूर्व प्रदेश सविच सुनील बिंझौल ने बताया कि आमजन की मदद के लिए हेल्पलाइन नंबर जारी किए हैं, इन नंबरों पर संपर्क करने पर जरूरतमंदों को राशन आदि जरूरत का सामान दिया जाएगा और अन्य प्रकार की भी संभव मदद की जाएगी।
ये नंबर किए जारी
पानीपत ग्रामीण: धर्मपाल गुप्ता -9812032600, जगदेव मलिक-9215700005, सुनील बिंझौल -7206000300, ओमबीर पवार-9518300009, राजेश बडोली-9466200050, सोनू जागलान- 9896900002, चांद देशराज- 8053400002
पानीपत शहरी: संजय अग्रवाल -9812022910, बुल्ले शाह- 9812092492, प्रेम सचदेवा -941400100, मुकेश टुटेजा-9992400100, बलजीत -9215600011, रामचंद्र-9215809511, नरेश अत्री-9215776878, राजेंद्र प्रधान-9992162618
समालखा विधानसभा: संजय छोकर-09718600001, बाबूराम-9812451630, -9813082245, विनोद रावल-9215261700, संदीप -8053078231, कुनाल -9896931507, सुधीर छोकर-9215961701
इसराना विधानसभा: बलवान शेरा-9416965092, सोनू जागलान-9896900002, कृष्ण दुग्गल- 9812373100, संत बुक्कल -8901055550
... और पढ़ें

कोरोना से जंग: चतुर्थश्रेणी कर्मी असली हीरो

कोरोना वायरस से पूरा देश जंग लड़ रहा है। इस जंग में परदे के पीछे के असल हीरो अस्पताल में कोरोना वायरस रोगियों के आइसोलेशन वार्ड में काम करने वाले वो चतुर्थ श्रेेणी कर्मचारी हैं, जो इस खतरे में वहां सफाई करने के साथ साथ मरीजों को खाना तक देते हैं, यहां तक कि वो डॉक्टरों के परामर्श के अनुसार उन्हें दवा तक देने से पीछे नहीं हट रहे। ये कर्मचारी हालात के अनुसार इस जंग में डॉक्टरों के साथ कंधे से कंधा मिलाकर काम रहे हैं। संसाधनों का कैसे उपयोग करना है ये इन कर्मचारियों को भलि भांति पता है। अस्पताल में पीपी कीट का भारी टोटा है। अस्पताल में मात्र 150 किट ही बची है। इन कीट का प्रयोग आइसोलेशन वार्ड में जाने के लिए होता है। इस ड्रेस को एक बार ही पहना जा सकता है। ऐसे में अगर डॉक्टर, स्टॉफ नर्स और कर्मचारी अलग-अलग समय में बार बार इन किट का प्रयोग करेंगे तो किट काफी कम रहे सकती है जोकि बड़ी परेशानी बन सकती है। इसलिए चतुर्थ श्रेेणी कर्मचारी सुबह शाम खुद ये किट डालकर आइसोलेशन वार्ड में सफाई के लिए जाते हैं। इससे पहले वो मरीजों को दवा के साथ साथ खाना देते हैं फिर सफाई करते हैं ताकि कीट बची रहें।
चतुर्थ श्रेेणी के इन कर्मचारियों की हिम्मत डॉक्टरों के लिए भी प्रेरक बन गई है। इनकी मेहनत को देखते हुए डॉक्टर और स्टाफ नर्सों में भी काफी हौसला बना है। आइसोलेशन वार्ड में 6 चतुर्थ श्रेेणी कर्मचारी 24 घंटे ड्यूटी कर रहे हैं। कर्मचारियों के लिए ना तो मास्क की संख्या पूर्ण रूप से उपलब्ध है और ना ही सुरक्षा के कोई खास उपकरण। फिर भी बिना किसी शिकायत के डॉक्टरों के साथ खतरे में काम रहे हैं।
मास्क ना मिलते तो बांधते हैं रूमाल
चतुर्थ श्रेेणी कर्मचारी इस जंग में बिना किसी डिमांड के खतरों में काम रहे हैं। अस्पताल में मास्क की काफी कमी है। इन कर्मचारियों को समय पर मास्क नहीं मिला। ये रूमाल बांधकर ही काम में लग जाते हैं। इन कहना है कि ये समय शिकायत करने का नहीं है ब्लकि ईमानदारी व मेहनत से काम करने का है। उन्हें इस स्थिति में काम करने का मौका मिला है। वो इसे पूरी ईमानदारी से करेंगे।
डॉक्टरों से मिली प्ररेणा
कर्मचारी बताते हैं कि जब कोरोना वायरस का पहला केस पानीपत में आया था तो सभी तनाव में थे। डॉक्टरों ने सबसे पहले उन्हें खुद को बचाने के साथ साथ बेहतर काम करने के लिए प्रेरित किया था। सबसे पहले डॉक्टर पीपी कीट पहनकर मरीज के कमरे में गए थे। उनको समझाया गया कि सावधानी से काम करने कोरोना वायरस से बच सकते हैं। वो इस समय भाग नहीं सकते ब्लकि ऐसी स्थिति का डटकर मुकाबला करना होगा।
पूरी कहानी कर्मचारियों की जुबानी
अस्पताल में मात्र 40 पीपी कीट बच गई थी। डॉक्टर स्टाफ नर्स और वो चर्चा कर रहे थे कि हमें पीपी किट को कैसे बचाना है। अगर डॉक्टर दवा देने के लिए पीपी किट डालकर आइसोलेशन वार्ड में जाता है और इसके बाद स्टाफ नर्स खाना देने व सफाई करने जाएंगे तो एक समय में तीन किट खराब होंगी। एक दिन में 25 से 30 कीट खराब हो जाएंगी। ऐसे में तय किया गया कि जो भी वार्ड में जाएगा कोशिश करेगा कि वो तीनों काम एक समय में कर दें ताकि दो कीट एक समय में बच सके। वो जब भी वार्ड में सफाई के लिए जाते हैं तो डॉक्टर वीडियो कॉलिंग से उन्हें बताते रहते हैं कि दवा कैसे देनी है खाना कैसे देना है। कैसे सावधानी बरतनी है। अब इस काम की आदत हो गई है।
सभी बहुत मेहनत से काम कर रहे हैं- डॉ. वर्मा
डॉक्टरों के साथ साथ पूरा स्टाफ बहुत मेहनत से काम कर रहा है। इस वक्त कर्मचारी शिकायत की बजाय अपना 100 प्रतिशत दे रहे हैं। कर्मचारियों का काम भी बहुत सराहनीय है। बस लोगों से अपील है कि वो लॉक डाउन का पालन करें।
डॉ. एसएल वर्मा, सिविल सर्जन
... और पढ़ें

Coronavirus Haryana: प्रदेश में महामारी से पहली मौत, छह नए केस भी आए, अब 35 पॉजिटिव मरीज

कोरोना महामारी से गुरुवार को हरियाणा में पहली मौत हुई है। कोरोना वायरस के संक्रमण से पीड़ित अंबाला निवासी 67 वर्षीय शख्स ने पीजीआई चंडीगढ़ में दम तोड़ा। वहीं जिले में दो जमातियों की रिपोर्ट भी पॉजिटिव आई है। दोनों को छावनी की टांगरी मस्जिद से उठाया गया था। इनमें से एक की हालत गंभीर बनी हुई है। इसलिए उसे पीजीआई चंडीगढ़ रेफर कर दिया गया है।

दूसरे को छावनी अस्पताल में ही आइसोलेट किया गया है। इसकी पुष्टि जिले के मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ. कुलदीप सिंह ने की। हालांकि बुधवार को प्रदेश में कोरोना वायरस ग्रस्त का कोई नया पॉजिटिव के सामने नहीं आया था, लेकिन गुरुवार को हुई पहली मौत से सरकार की चिंता बढ़ गई है।

तीन मामले पलवल में और एक हिसार में सामने आया। 35 पॉजिटिव केसों में से 10 मरीज गुरुग्राम, 4 मरीज पानीपत, 5 फरीदाबाद, 4 सिरसा, 2 हिसार, 2 पंचकूला, 3 अंबाला, 4 पलवल व एक मरीज सोनीपत के हैं।


... और पढ़ें
कोरोना वायरस कोरोना वायरस

लॉकडाउन में कर रहे समय सदुपयोग, फिटनेस और स्किल्स को बेहतर कर रहे खिलाड़ी

नीरज गिरी पानीपत। कोरोना के चलते लॉकडाउन से पूरा शहर थम सा गया है। खिलाड़ियों की धरती हरियाणा में खेल और खेलों की प्रैक्टिस भी थम गई है। हालांकि खिलाड़ी लॉकडाउन का पालन करते हुए अपने अभ्यास में कमी नहीं आने दे रहे हैं। यहां तक कि कुछ खिलाड़ी पानीपत से बाहर गए थे और लॉकडाउन के कारण लौट नहीं पा रहे हैं, वे भी अपनी प्रैक्टिस में कमी नहीं आने दे रहे हैं। अपने खेल की स्किल्स में सुधार लाने के लिए प्रयत्नशील हैं। खिलाड़ियों का कहना है कि इस समय का सदुपयोग कर सकते हैं। घर की छत पर ही कर रही बॉक्सिंग की प्रैक्टिस नेशनल चैंपियन वेनका लॉकडाउन के बाद से अपने घर के छत पर ही बॉक्सिंग की प्रैक्टिस कर रही हैं। इससे पहले वेनका रोहतक में एक एकेडमी में कोचिंग ले रहीं थीं, लेकिन लॉकडाउन के बाद वह अपने घर पानीपत आ गई हैं। घर आने के बाद भी वेनका सुबह व शाम को दो से तीन घंटे अपने खेल की प्रैक्टिस कर रही है और अपनी स्ट्रेंथ पर और मेहनत कर रही हैं। बंगलुरू में दे रहीं थीं अन्य देश के अध्यापकों को ट्रेनिंग, लॉकडाउन में कर रहीं अभ्यास लॉकडाउन होने के कारण अंतरराष्ट्रीय योगा पुरस्कार प्राप्त करने वाली अंजलि बंगलुरु में ही फंस गई हैं। अन्य देश के योग अध्यापकों को योग की क्लास देने के लिए गईं थी और इसी दौरान लॉकडाउन हो गया और वह आ नहीं सकती हैं। उन्होंने बताया कि लॉकडाउन के समय को योग की प्रैक्टिस में गुजार रहीं हैं। पहले से अधिक समय है तो अधिक मेहनत करने का प्रयास है। हैंडबॉल खिलाड़ी अमन दे रहें हैं फिटनेस पर ध्यान हैंडबॉल में अंतरराष्ट्रीय स्वर्ण पदक विजेता अमन मलिक लॉकडाउन के बाद से ही अपने घर पर हैं और इस समय का सदुपयोग अपनी फिटनस और स्ट्रेंथ को बेहतर बनाने के लिए कर रहे हैं। लॉकडाउन से पहले अमन अभ्यास के लिए ग्राउंड पर प्रैक्टिस करते थे, लेकिन लॉकडाउन के बाद घर पर ही अपने खेल को बेहतर बनाने वाली एक्सरसाइज पर ध्यान रहे हैं, वह रोज पांच घंटे का वक्त फिटनेस को दे रहे हैं। ... और पढ़ें

पत्नी से झगड़े के बाद 26 वर्षीय युवक ने फंदा लगाकर दी जान, आठ महीने पहले की थी लव मैरिज

पत्नी से हुए झगड़े से परेशान 26 वर्षीय युवक ने फंदा लगाकर अपनी जान दे दी। पड़ोसी किराएदारों ने युवक को फंदे पर लटका देखकर पुलिस को सूचना दी। संबंधित थाना पुलिस मौके पर पहुंची और शव को नीचे उतारकर सामान्य अस्पताल भेजा। वहीं पुलिस ने बिहार के जिला पश्चिमी चंपारन में रहने वाले मृतक के परिवार को उपरोक्त घटना की सूचना दे दी है।
बुध बिहार के जिला पश्चिमी चंपारन, गांव साधखोत हवा निवासी संजय(26) पुत्र श्याम बदून घर से पिछले डेढ़ साल से लापता था। वह पिछले एक साल से पानीपत में न्यूज मुखीजा कॉलोनी में रहता था। आठ माह पहले संजय ने मीरा नामक लड़की से लव मैरिज की थी। दो माह उसकी पत्नी अपने भाई के पास चली गई थी। हाल ही में कोरोना वायरस के चलते लॉकडाउन के कारण संजय मजदूरी नहीं कर सका। वह पड़ोसी किराएदारों से पैसे लेकर अपना काम चला रहा था। इस दौरान उसका पत्नी से फोन पर झगड़ा भी होने लगा। मंगलवार दोपहर 12 बजे युवक ने पत्नी से फोन पर झगड़ा कर फंदा लगाकर जान देने की बात कही। पत्नी ने गांव से ही पानीपत में पड़ोसी किराएदार को फोन लगाया और पति का ध्यान रखने के लिए कहा। जब पड़ोसी किराएदार दोपहर एक बजे संजय के कमरे के पास गए तो कमरा बंद था और अंदर से कुंडी लगी हुई थी। उन्होंने खिड़की से देखा तो संजय फंदे पर लटका हुआ था। जिसके बाद उन्होंने पुलिस कंट्रोल रुम में सूचना दी, सूचना मिलते ही पुलिस मौके पर पहुंची और शव को सामान्य अस्पताल पहुंचाकर उसका पोस्टमार्टम कराया।
... और पढ़ें

लॉकडाउन तोड़ने वाले 121 वाहनों के किये चालान, तीन को किया इंपाउंड

पानीपत पुलिस ने बुधवार को लॉकडाउन तोड़ने वाले 121 वाहनों के चालान किए हैं। वहीं इसके अलावा तीन वाहनों को इंपाउंड भी किया है। इसके साथ साथ लॉकडाउन के दौरान गांव राक्सेड़ा से लाहन व तैयार कच्ची शराब को भी बरामद किया है।
उप-पुलिस अधीक्षक मुख्यालय सतीश कुमार वत्स ने बताया कि लॉकडाउन के चलते बेवजह घर से बाहर निकले वाले वाहन चालकों पर पुलिस की कार्रवाई जारी है। पुलिस ने बुधवार को 121 वाहनों के चालान किए और तीन वाहनों को इंपाउंड किया है। जिला पुलिस व प्रशासन द्वारा निरंतर लोगों को लॉकडाउन में बाहर नहीं निकलने बारे अपील की जा रही है। वहीं फिर भी कुछ लोग बेवजह घर से बाहर निकल रहे है। लॉकडाउन को पूर्णत लागू कराने के लिए ऐसे लोगों पर पुलिस द्वारा लगातार कार्रवाई की जा रही है। वहीं दूसरी और पानीपत पुलिस ने शराब तस्करों पर शिकंजा कसते हुए बड़ी कार्रवाई की है। मंगलवार साय थाना समालखा पुलिस ने डयूटी मजिस्ट्रेट रवि कुमार खंड विकास एंव पचायत अधिकारी के साथ गांव राक्सेहड़ा में जोगेंद्र के मकान पर दंबिस देते हुए वहां से 100 लीटर लाहन, 10 लीटर तैयार कच्ची शराब व कच्ची शराब तैयार करने में प्रयोग किये जा रहे सामान सहित जोगेंद्र पुत्र करतार व बिल्लू पुत्र जोगेंद्र निवासी राक्सेहड़ा को गिरफ्तार किया। आरोपियों के खिलाफ समालखा थाना में धारा 188 व एक्साईज एक्ट 61-1-14 के तहत केस दर्ज कर किया गया है।
... और पढ़ें

वृंदावन घुमने गए उद्यमी सहित परिवार के घर चोरी करने वाले दो आरोपी काबू, निशानदेही पर बरामद कराए गहने व नकदी

सीआईए-वन पुलिस ने वृंदावन घूमने गए परिवार के घर से लाखों के गहने व नकदी चोरी करने वाले दो आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है। पहचान राजेश निवासी लदवा चंबा हिमाचल प्रदेश हाल किरायेदार खटीक बस्ती व सतीश निवासी अदियाना पानीपत के रूप में हुई। आरोपियों के कब्जे से चोरी किए 5 लाख रुपये किमत के सोने, डायमंड के गहने व 2 लाख 48 हजार रुपये बरामद किए गए हैं।
सीआइए वन प्रभारी राजपाल सिंह ने बताया कि टीम को गत रविवार की शाम सूचना मिली कि एक युवक सेक्टर-18 में देशबंधु कॉलेज के पास किसी आपराधिक वारदात को अंजाम देने की फिराक में घूम रहा है। टीम ने सूचना पर मौके पर युवक को काबू कर लिया। गहनता से पूछताछ करने पर आरोपी ने साथी सतीश निवासी अदियाना के साथ मिलकर फरवरी माह में मॉडल टाउन में उद्यमी विनोद बंसल के घर से सोने व डायमंड के गहने व नगदी चोरी करने की वारदात को अंजाम देने बारे स्वीकारा। टीम ने सोमवार सुबह दबिश देते हुए आरोपी सतीश निवासी अदियाना को पानीपत असंध रोड़ पुल के नीचे से काबू किया। आरोपियों के कमरे से 5 लाख रुपये के सोने व डायमंड के गहने व 2 लाख 48 हजार रुपये की नगदी बरामद की और आरोपियों को न्यायिक हिरासत में भेज दिया।
यह था मामला
मॉडल टाउन थाना पुलिस में 23 फरवरी को दी शिकायत में विनोद बंसल ने बताया था कि वह परिवार के साथ 21 फरवरी को वृंदावन गया था, जब 23 फरवरी को लौटा तो मकान का ताला टूटा था। घर से तीन डायमंड सैट, सोने की दो चैन, दो कंगन, चार अंगुठी, तीन सिक्के, चार कानों की बालियां, एक गोल्ड सैट, एक लोकेट, एक डायमंड रिंग दो लाख रूपये नकदी और एक लाख रुपये विदेशी करंसी (यूरो व डॉलर) चोरी कर ले गए। वहीं पुलिस ने केस दर्ज कर आरोपियों की तलाश शुरू कर दी थी।
छह माह पहले बच्चन सिंह आर्य के मकान में चोरी करने की वारदात को दिया था अंजाम
दोनों आरोपियों का पहले भी आपराधिक रिकार्ड रहा है। आरोपी राजेश उर्फ बांदरी के खिलाफ पानीपत, करनाल जिला के विभिन्न थाना में चोरी के कुल 24 मुकदमे दर्ज हैं। वहीं आरोपी सतीश के खिलाफ दो मुकदमे दर्ज हैं। आरोपी सतीश थाना समालखा में दर्ज हत्या के एक मुकदमे के संबंध में 12 साल की सजा भी काट चुका है। इससे पहले दोनों आरोपियों ने अक्तूबर 2019 में मॉडल टाउन निवासी सफिदों से पूर्व विधायक एवं पूर्व मंत्री बचन सिंह आर्य के घर मे घुसकर काफी मात्रा में सोने चांदी के गहने व अन्य किमती सामान चोरी करने की वारदात को अंजाम दिया था।
दोनों आरोपियों को गिरफ्तार करने के बाद न्यायालय में पेश कर एक दिन के रिमांड पर लिया था। रिमांड के दौरान दोनों आरोपियों के कमरे से पांच लाख कीमत के सोने व डायमंड के गहने व 2.48 लाख रुपये बरामद करने के बाद दोनों आरोपियों को बुधवार को न्यायिक हिरासत में भेज दिया है।
-राजपाल सिंह, प्रभारी, सीआइए वन
... और पढ़ें

रोज 5 हजार लोगों को खाना खिला रहा संयुक्त व्यापार मंडल

कोरोना वायरस से जंग - सिविल सर्जन ने दिए 6 हजार मास्क के आर्डर

हर 10 मिनट में लाउडस्पीकर से डॉक्टरों व कर्मचारियों को हाथ धोने के दिए जा रहे निर्देश

ट्यूब के सहारे यमुना पार कराने वाले 2 तैराकों को यूपी पुलिस ने किया गिरफतार

यमुना किनारे कच्चे घाटों से ट्यूब के सहारे मजदूरों को यमुना पार कराने वाले दो तैराकों को यूपी पुलिस ने गिरफ्तार किया है। उनके पास से 4 बाइक भी कब्जे में ली हैं। पुलिस कार्रवाई की भनक लगते ही हरियाणा के कुछ तैराक अपनी ट्यूब लेकर हरियाणा की ओर भाग निकले।
कोरोना वायरस के चलते किए गए लॉकडाउन के चलते सरकार के निर्देश पर हरियाणा-यूपी सीमा बंद की गई है। इसके बावजूद कुछ तैराक ट्यूब से यमुना नदी को पार कराने के लिए मजदूरों से तीन सौ से पांच सौ रूपए कर रहे थे। मजदूरों को हरियाणा के पत्थरगढ़-राणा माजरा घाट से यमुना पार कर यूपी के मंडावर-रामड़ापार के पास छोड़ा जा रहा था। कच्चे घाटों से ट्यूब के सहारे यमुना पार करने में जुटे मजदूरों से तैराक यमुना पार कराने की एवज में मनमाने पैसे वसूल करते हैं। सूचना मिलने पर यूपी पुलिस हरकत में आई और मौके पर पहुंचकर पुलिस ने 2 युवकों को पकड़ लिया है। पुलिस ने दोनों तैराकों के पास से 4 बाइक बरामद कर कब्जे में ली हैं। वहीं हरियाणा के कुछ तैराक ट्यूब लेकर हरियाणा की ओर भाग निकले।
जान जोखिम में डालकर ट्यूब के सहारे करते हैं यमुना पार
हरियाणा-यूपी बार्डर सील होने पर पिछले तीन दिनों से तैराकों द्वारा यमुना किनारे कच्चे घाटों से ट्यूब के सहारे श्रमिकों से मनमर्जी के पैसे वसूलकर यमुना पार कराया जा रहा हैं। जबकि सरकार द्वारा कोरोना वायरस से बचाव के मद्देनजर लॉकडाउन करने के आदेश होने पर हरियाणा-यूपी बार्डर पूरी तरह से सील होने से आवागमन पर रोक लगाई हुई हैं। बार्डर पर पुलिस प्रशासन की सख्ती के चलते अब पानीपत की ओर से प्रवासी श्रमिक छोटे-छोटे बच्चों के साथ यूपी जाने के लिए यमुना नदी से सटे गांवों के रास्ते कच्चे घाटों यमुना पार करने की कोशिश कर रहे हैं। उनकी मदद में तैराक जान जोखिम में ड़ालकर ट्यूब पर बैठाकर यमुना पार कर यूपी के गांवों में छोड़ रहे हैं। इसकी एवज में तैराकों द्वारा मोटी रकम वसूली जा रही है। हरियाणा के गांव पत्थरगढ़, राणा माजरा घाट से यूपी के गांव मंडावर, रामडा-पार से दोनों राज्यों के तैराक ट्यूब के जरिये श्रमिक-मजदूरों से तीन सौ से पांच सौ रूपए लेकर यमुना पार करा रहे थे।
वर्जन
सनौली हरियाणा सीमा के लगते यमुना पार सीओ कैराना यूपी प्रदीप सिंह ने बताया कि सनौली हरियाणा-यूपी बार्डर सील होने पर दोनों ओर से तैराक यमुना नदी के कच्चे घाटों के रास्ते मजदूरों को यमुना को ट्यूब से पार करा रहे थे। इसकी सूचना मिलने पर पुलिस ने कार्रवाई करते हुए 2 युवकों को गिरफ्तार कर लिया है और उनके पास से 4 बाइक अपने कब्जे में ले ली हैं। उनके खिलाफ आवश्यक कार्रवाई की जाएगी।
... और पढ़ें

परचून का सामान लेने जा रहे युवक से मारपीट, केस दर्ज

किशनपुरा में किरयाणा की दुकान से सामान लेने जा रहे एक युवक पर नामजद चार युवकों ने पीट पीटकर घायल कर दिया। इसके अलावा आरोपी जान से मारने की धमकी देकर मौके से फरार हो गए। घायल युवक ने चांदनीबाग थाना पुलिस को शिकायत दी। पुलिस ने केस दर्ज कर आरोपियों की तलाश शुरू कर दी है।
पुलिस को दी शिकायत में अशोक कुमार पुत्र ओमप्रकाश निवासी किशनपुरा ने बताया कि वह 30 मार्च को सुबह नो बजे घर का सामान लेने के लिए जा रहा था। इसी बीच रास्ते में जोगिंद्र, उसके लड़के विकास, विशाल, विकास व उसके छोटे भाई ने मिलकर पीड़ित पर अज्ञात कारण से हमला कर दिया। आरोपियों ने कस्सी के बिंडे से हमला किया, वहीं पीड़ित ने स्थानीय लोगों को बचाव के लिए आवाज लगाई, जिनको आते देख आरोपी मौके से फरार हो गए। जहां से घायल को सामान्य अस्पताल पहुंचाया।
... और पढ़ें
अपने शहर की सभी खबर पढ़ने के लिए amarujala.com पर जाएं

Disclaimer


हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर और व्यक्तिगत अनुभव प्रदान कर सकें और लक्षित विज्ञापन पेश कर सकें। अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।
Agree
Election
  • Downloads

Follow Us