विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
नवरात्र में कराएं कामाख्या बगलामुखी कवच का पाठ व हवन, पाएं कर्ज मुक्ति एवं शत्रुओं से छुटकारा
Astrology Services

नवरात्र में कराएं कामाख्या बगलामुखी कवच का पाठ व हवन, पाएं कर्ज मुक्ति एवं शत्रुओं से छुटकारा

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

From nearby cities

कोरोना वायरसः आइसोलेशन वार्ड में तब्दील हुई 24 कोच की ट्रेन, रेलमंत्री ने ट्वीट की तस्वीरें देखिए

कोरोना महामारी से लड़ने को भारतीय रेलवे ने एक सराहनीय कार्य किया है। विभाग की ओर से 24 कोच की ट्रेन को आइसोलेशन वार्ड में तब्दील कर दिया गया है, देखिए तस्वीरें।

28 मार्च 2020

विज्ञापन
विज्ञापन

सिरसा

रविवार, 29 मार्च 2020

लॉक डाउन के दूसरे दिन पुलिस ने युवाओं की करवाई उठक बैठक, दिखाई सख्ती

सिरसा में लॉक डाउन के दूसरे दिन पुलिस से सख्ती दिखाई। शहर में हर जगह पर पुलिस तैनात रही। इस दौरान बार बार सड़कों पर बिना किसी कारण के घूम रहे युवाओं से पुलिस ने उठक बैठक करवाई। शहर के सूरतगढ़ियां चौक में एक युवक ने चौथी बार साइकिल पर चक्कर लगाया तो ड्यूटी पर तैनात पुलिस कर्मचारियों का सब्र टूट गया। पुलिस कर्मचारियों ने उसका साइकिल रुकवाकर उससे 45 उठक बैठक लगाई। वहीं हुडा चौक पर और डबवाली में भी महिला पुलिस द्वारा युवाओं से उठक बैठक करवाने के वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हुए।
हिसार से आ रही बारात को रोका
सोशल मीडिया पर सिरसा पुलिस के कई वीडियो वायरल हो रही है। बाबा भूमणशाह चौक पर सिरसा पुलिस ने हिसार से बाई पास रोड पर एक फोरच्यूनर गाड़ी को रुकवा लिया। गाड़ी में दूल्हा और उसके परिवार वाले थे। पुलिस कर्मचारियों ने दूल्हे को भी गाड़ी से उतार दिया। पुलिस अधिकारी ने कहा कि आप लोग पढ़े लिखे होकर भी बिना दूरी बनाए गाड़ी में सवार होकर आ रहे हो। दूल्हे पक्ष के लोगों को लताड़ लगाने के बाद उन्हें भेज दिया गया।
सिक्योरिटी इंचार्ज ने दुकानों के आगे बनवाए घेरे
शहर में मेडिकल और किराने की दुकानों के आगे सिक्योरिटी इंचार्ज सत्यवान ने एक, एक मीटर की दूरी पर घेरे बनवाए। उन्होंने दुकान संचालकों को इस घेरे में ही उन्हें खड़े होकर सामान सप्लाई करने के निर्देश दिए। रेहड़ी चालकों को सड़क पर रेहड़ी न लगाकर मोहल्ले में रेहड़ी लगाने के निर्देश दिए। वहीं मार्केट कमेटी ने शहर के 31 वार्डों के अंदर रेहड़ी लगाकर सामान बेचने के लिए रेहड़ी चालकों को पहचान पत्र जारी किए।
डीएसपी ने पुलिस कर्मचारियों को किया प्रोत्साहित
डीएसपी राजेश चेची ने पुलिस कर्मचारियों को जनता से सहयोग डीएसपी राजेश चेची ने शहर में लगे सभी नाकों को दौरा किया। डीएसपी ने पुलिस कर्मचारियों को उनकी ड्यूटी निभाने के लिए प्रोत्साहित किया। साथ ही नाकों पर तैनात पुरुष व महिला पुलिस कर्मचारियों को मजबूरी वश बाहर निकलने वालों का पूर्ण सहयोग करने के निर्देश दिए।
पुलिस ने बार बार साईकिल पर घूमने वाले युवक की 45 उठक बैठक लगवाई।
पुलिस ने बार बार साईकिल पर घूमने वाले युवक की 45 उठक बैठक लगवाई।- फोटो : Sirsa
... और पढ़ें

लॉक डाउन : सुबह सड़कों पर निकले लोग, प्रशासन ने की सख्ती तो लौटे

कोरोना वायरस के फैलाव और संक्रमण को रोकने के उद्देश्य से प्रदेश सरकार द्वारा नागरिक हित में लगाए गए लॉकडाउन का असर सिरसा में रहा। हालांकि सुबह लोग अपने घरों से बाहर सड़कों पर निकल आए। सड़कों पर वाहनों की संख्या बढ़ने लगी, तब गुप्तचर विभाग ने प्रशासन को अलर्ट किया। इसके बाद डीएसपी आर्यन चौधरी और एसडीएम जयबीर यादव शहर की सड़कों पर गश्त की और लोगों को वापस घरों में भेजा। शहर के एक मेडिकल स्टोर पर लोगों के इकट्ठा होने पर लोगों की लाइन लगवाई गई। लॉकडाउन के बावजूद भी घरों से बाहर निकलने पर पुलिस प्रशासन ने सख्ती शुरू कर दी।
शहर में प्रवेश करने वाले वाहनों को रोका गया। रानियां रोड पर रामनगरिया के पास सब्जी मंडी चौकी के कर्मचारियों ने शहर में रानियां और ऐलनाबाद से आने वाले लोगों को आने जाने पर लताड़ भी लगाई। वहीं शहर के महाराणा प्रताप चौक पर खैरपुर चौकी के पास पुलिस कर्मचारियों ने लोगों को चेतावनी देकर छोड़ा तो कुछ को वापस ही भेज दिया। लोग बाहर निकलने के लिए अपने जरूरी कामों के बहाने बनाते दिखाई दिए। शहर में अधिकतर लोग दवा की पर्ची अपने साथ रखने लगे और पुलिस द्वारा रोके जाने पर दवाई लेने की बात कहते दिखाई दिए। शहर के सांगवान चौक से हिसार रोड पर रेहड़ी वालों ने फल और सब्जियां बेचनी शुरू कर दी। इस पर वाहनों में सवार लोग आने जाने के लिए खरीदने लग गए। इस बात की सूचना प्रशासन का मिली तो एसडीएम जयबीर यादव और डीएसपी राजेश चेेची ने रेहड़ी वालों को वहां से हटाया। उन्हें चेतावनी दी गई कि वे गली मोहल्ले की गलियों में फल और सब्जियां बेचे। यदि मुख्य मार्ग पर कोई रेहड़ी वाला मिला तो कार्रवाई की जाएगी। वहीं उपायुक्त रमेश चंद्र बिढ़ान ने बताया कि जिला में अभी तक कोरोना वायरस का कोई मामला सामने नहीं आया है। कोरोना वायरस से बचाव के संबंध में शहरी क्षेत्रों के अलावा ग्रामीण क्षेत्रों में भी मुनादी तथा वाहनों के माध्यम से प्रचार प्रसार किया जा रहा है। इसी प्रकार गुरुद्वारों और मंदिरों में भी एनाउंसमेंट करवा कर लोगों को कोरोना वायरस से बचाव और सावधानियों के बारे में बताया जा रहा है।
घबराए नहीं सरकार की एडवाइजरी की करें पालना
उपायुक्त रमेश चंद्र बिढ़ान ने कहा कि कोरोना वायरस के संबंध में किसी भी तरह की गलत जानकारी, भ्रामक प्रचार या अफवाह फैलाना अपराध की श्रेणी में आता है। उन्होंने हिदायत दी कि कोई भी नागरिक अगर गलत सूचना या अफवाह फैलाता पाया गया तो उसके खिलाफ कड़ी कानूनी कार्रवाई की जाएगी। उन्होंने बताया कि नागरिक हित में अफवाहों की सत्यता जानने तथा कोरोना वायरस के संबंध में जानकारी पाने के लिए सिरसा एसडीएम कार्यालय में कंट्रोल रूम स्थापित किया गया है। आमजन कंट्रोल रूम के दूरभाष नंबर 01666-247345 पर कोरोना वायरस के संबंध में भ्रामक प्रचार या अफवाह की सत्यता जान सकता है।
लॉकडाउन के दौरान ये सुविधाएं नहीं होगी बाधित
उपायुक्त रमेश चंद्र बिढ़ान ने बताया कि लॉकडाउन के दौरान आवश्यक वस्तुओं से संबंधित सेवाएं बाधित नहीं होंगी। इनमें एटीएम तथा बैंकों की ऑनलाइन सर्विस जारी रहेंगी। इसके लिए बैक प्रबंधक एटीएम सैनिटाइज करते हुए सुचारू रखेंगे। इसी प्रकार रोजमर्रा की आवश्यक वस्तुओं, पशुओं का चारा, स्वास्थ्य सेवाएं, दूर संचार और इंटरनेट सेवाएं, दवाई लाने और ले जाने, मीडिया कर्मियों, पेयजल उपलब्ध करवाना, सीवरेज सेवाएं, भोजन, सब्जियां उपलब्ध करवाना, अस्पताल मेडिकल स्टोर की सुविधा, बिजली, पेट्रोल और तेल की सुविधा, रोजमर्रा की निर्माण करने वाली फैक्ट्रियां आदि सुचारु रूप से जारी रहेंगी। उन्होंने कहा कि लॉकडाउन के दौरान सब्जी विक्रेता दुकानों पर सब्जी बेचने की बजाए कालोनियों में रेहड़ियों के माध्यम से सब्जी बेचें, ताकि एक जगह लोग एकत्रित न हों। उन्होंने बताया कि कोरोना वायरस से संबंधित किसी भी जानकारी, सूचना या सहायता के लिए 01666-241155 और 94684-47897 हेल्पलाइन नंबर रहेगा।
people out on the streets in the morning
people out on the streets in the morning- फोटो : Sirsa
... और पढ़ें

लॉक डाउन के बावजूद लोग वाहनों पर निकले, पुलिस ने काटे 40 चालान, सात बाइक इंपाउंड

कोरोना वायरस से बचाव के लिए जिले को लॉकडाउन किया गया है। लॉकडाउन के बाद भी लोग अपने कामों को करने के लिए घरों से बाहर निकल रहे हैं। घरों से बेवजह निकलने वाले लोगों के शहर में लगे पुलिस नाकों पर 40 चालान काटे और सात बाइक इंपाउंड किए। पुलिस द्वारा अधिकतर लोगों को घर वापस भेज रही है ताकि संक्रमण न फैले। शहर भर में गाड़ियों के माध्यम से घोषणा करवाई जा रही है, प्रशासन द्वारा लोगों को अपने घरों में ही रहने की हिदायत दी जा रही है। एक बुलेट का भी करीब 22 हजार रुपये का चालान काटा गया।
कोरोना वायरस से बचाव के लिए जिले को मंगलवार को लॉक डाउन कर दिया गया है। लॉक डाउन के बाद पुलिस प्रशासन द्वारा कुल 21 नाके लगाकर लोगों को घरों से बाहर से निकालने और गैर जरूरी यात्रा करने के लिए रोका गया। लेकिन आम लोगों को परेशानी न हो इसलिए किराना, मेडिकल और फल सब्जियों की रेहड़ियां आम लोगों के लिए खुली रही। खुली हुई दुकानों से सामान लाने और मेडिकल से दवाइयां लाने के लिए अधिकतर लोग अपने घरों से बिना मास्क और हेलमेट के बाहर निकले। जिसके चलते यातायात पुलिस ने कुल 40 चालान काटे और सात बाइक को इंपाउंड किया गया।
एसएचओ बहादुर सिंह ने बताया कि लॉकडाउन की स्थिति में लोग बिना हेलमेट और मास्क के घरों से बाहर निकल रहे हैं। मास्क न होने से दूसरे लोगों में संक्रमण फैलने का डर बना रहता है। शहर के अधिकतर लोग बिना किसी काम से घरों के बाहर निकल रहे है। लॉकडाउन की स्थिति में जरूरी हो तो ही घरों से बाहर निकले। शहर में कुल 21 नाके लगाकर लोगों को शहर में प्रवेश करने से रोका जा रहा है, ताकि शहर में कम से कम लोग आए।
जिले को लॉकडाउन किया गया है, बिना किसी काम से घरों के अगर कोई बाहर निकलता है तो उसका चालान किया जाएगा। केवल जरूरी चीजों की ही सप्लाई होगी।
-आर्यन चौधरी ,डीएसपी, सिरसा।
... और पढ़ें

मार्केट कमेटी ने अनाज मंडी में बनाई अस्थाई सब्जी मंडी, किसान लेकर पहुंचे सब्जियां

कोरोना वायरस से बचाव के लिए मार्केट कमेटी सिरसा ने शहर की अनाज मंडी में किसानों के लिए अस्थाई सब्जी मंडी बनाई है, ताकि लोगों में सामुदायिक दूरी बनी रहे। अनाज मंडी में किसान अपनी सब्जी बेचेंगे, यहां केवल सब्जियों की खरीदारी होगी तथा फलों की खरीदारी सब्जी मंडी में ही होगी।
कोरोना वायरस के चलते शहर की सब्जी मंडी में किसानों की भीड़ जमा हो जाती है। किसानों के बीच दूरी रखने के लिए मार्केट कमेटी ने बीते दिन शुक्रवार को शहर की अनाज मंडी के नीचे खाली शेड में सब्जी बेचने का निर्णय लिया। हालांकि इस निर्णय की सूचना कुछ किसानों को नहीं मिली। ऐसे में शनिवार सुबह वे पुरानी सब्जी मंडी में ही अपनी सब्जियां लेकर पहुंच गए। लेकिन वहां पर सब्जी नहीं बिकी। क्योंकि आढ़ती और होल सेल दुकानदार सब्जी खरीदने के लिए अनाज मंडी में पहुंचे हुए थे। इसके बाद वे किसान अपनी सब्जी लेकर अनाज मंडी में पहुंचे। शनिवार को अनाज मंडी में ही सब्जियों की खरीद हुई। वहीं मौजूदा सब्जी मंडी में केवल फलों की खरीददारी का काम किया गया। कमेटी के निर्देश अनुसार किसानों के लिए किसान भवन के पीछे वाले दो शेड निर्धारित किए हैं। किसान अपनी ट्रैक्टर-ट्राली शेड के बाहर खाली जगह पर ही खड़ी करेंगे। साथ ही कोई भी दुकानदार और आढ़ती रिटले में सब्जी और फल नहीं बेचेगा। फल और सब्जी की होल सेल की दुकान प्रतिदिन नौ बजे तक खुली रहेगी। बता दें कि शहर की सब्जी मंडी की जगह बहुत कम है। सामान्य दिनों में ही इस मंडी में भीड़ हो जाती है। ऐसे में मार्केट कमेटी ने अनाज मंडी में अस्थाई सब्जी मंडी लगाने का फैसला किया है। सब्जी मंडी एसोसिएशन के प्रधान गंगाराम बजाज का कहना है कि शनिवार को किसान अनाज मंडी में ही अपनी सब्जी लेकर पहुंचे। कुछ किसान वर्तमान सब्जी मंडी में पहुंचे थे, लेकिन उन्हें सूचना देकर अनाज मंडी में ही बुला लिया गया।
... और पढ़ें
अनाज का शेड यहां सब्जी मंडी लगाई जा रही है। अनाज का शेड यहां सब्जी मंडी लगाई जा रही है।

बुखार में तप रहे चार वर्षीय बच्चे का गये थे इलाज कराने, एसडीएम ने गाड़ी का 13 हजार का चालान कर किया जब्त

कोरोना वायरस के बचाव को लेकर ऐतिहात के तौर पर लगाए गए लॉकडाउन के चलते सभी लोग घरों में बंद है, तो वहीं आपातकालीन स्थिति में भी घरों से बाहर निकलने वाले लोगों को स्थानीय प्रशासन के कड़े तेवरों का सामना करना पड़ रहा है। इस दौरान बुखार से तप रहे बेटे का इलाज कराकर घर जा रहे एक व्यक्ति के स्कार्पियो गाड़ी का एसडीएम ने चालान कर जब्त कर लिया।
बता दें कि शनिवार को गांव मिठ्ठी सुरेरां निवासी गौरव पुत्र भूप सिंह ने बताया कि वह अपने चार वर्षीय बेटे अयान की अचानक तबीयत बिगड़ने पर शहर के हनुमानगढ़ रोड़ स्थित बच्चों के एक निजी अस्पताल में उसे चेकअप करवाने के पश्चात अपने गांव वापस जा रहा था। गौरव ने बताया कि तभी शहर के अंबेडकर चौक स्थित नाके पर पहले से मौजूद एसडीएम दिलबाग सिंह ने उनकी गाड़ी रुकवा ली। उनकी बिना बात सुने ही उनकी गाड़ी का 13 हजार रुपये का चालान कर दिया। उन्होंने बताया कि जिसके पश्चात गाड़ी को जब्त करके उसे और उसके बेटे को धक्का देते हुए वहां से भाग जाने को बोला। गौरव ने बताया कि उसके पास गाड़ी के सभी दस्तावेज मौजूद थे, जिनको उसने डॉक्टर से मिलने से पहले शहर में प्रवेश करने के दौरान आंबेडकर चौक स्थित नाके पर तैनात पुलिसकर्मियों को दस्तावेज चेक करवाकर और अपना उचित कारण बताते हुए शहर में उनकी इजाजत से ही प्रवेश किया था। बता दें कि गौरव कुमार ने इस संबंध में जिला उपायुक्त सिरसा और मुख्यमंत्री मनोहर लाल को अपनी गाड़ी के सभी दस्तावेजों सहित ओपीडी रसीद और किए गए चालान की प्रति भेजकर शिकायत की है। उन्होंने अपनी शिकायत के माध्यम से एसडीएम दिलबाग सिंह पर अपनी शक्तियों का दुरुपयोग करने का आरोप लगाते हुए उनके खिलाफ कार्रवाई की मांग की है।
एसडीएम से पहले भी हो चुके हैं विवाद
लॉक डाउन में ही एसडीएम दिलबाग सिंह की विश्व हिंदू परिषद के एक पदाधिकारी और पेट्रोल पंप संचालक से भी विवाद हुआ था। पेट्रोल पंप संचालक अपने पंप के पैसे बैंक में जमा करवाने जा रहा है। वहीं इससे पहले भी एक सामाजिक कार्यकर्ता बरसाती पानी को लेकर हुई कहासुनी को मुख्यमंत्री मनोहर लाल, उपमुख्यमंत्री दुष्यंत चौटाला और रणजीत सिंह चौटाला के समक्ष रख चुके हैं।
कोरोना वायरस जैसी महामारी के चलते देशभर में लॉकडाउन लागू, जिसके चलते पूरा शहर बंद है। शनिवार दोपहर गांव मिठ्ठी सुरेरां निवासी गौरव अपनी गाड़ी में बच्चे को चेकअप करवाकर वापस जा रहा था, जिसकी गाड़ी को आंबेडकर चौक नाके पर कागजात चेक करने के लिए रोका गया तो उसके पास गाड़ी के कोई कागजात नहीं थे, जिसके चलते पुलिस ने उसकी गाड़ी का चालान कर जब्त किया है, वहां मौके पर डीएसपी जगदीश चंद्र काजला भी थे। गाड़ी जब्त होने के पश्चात मैंने मानवता के नाते नाके पर मौजूद एक निजी गाड़ी में बीमार बच्चे को घर तक पहुंचाने का कार्य किया है। इसके अलावा मैंने गाड़ी चालक के साथ कोई अभद्र व्यवहार नहीं किया है।
-दिलबाग सिंह, एसडीएम ऐलनाबाद।
उपरोक्त घटना की मुझे जानकारी नहीं है। मैं घटना स्थल पर नहीं था। अगर किसी गाड़ी का चालान हुआ है, तो सबसे पहले मैं इसकी जानकारी लूंगा। बिना किसी कारण के किसी का चालान नहीं काटते, सबसे पहले हम इन विपरीत परिस्थितियों में समझाने का कार्य करते हैं।
-जगदीश चंद्र काजला, डीएसपी ऐलनाबाद।
... और पढ़ें

अपराजिता: दोहरी जिम्मेदारी भी निभा रहीं महिला पुलिस कर्मचारी

कोरोना वायरस के चलते लॉकडाउन में पूरे जिले में पुलिस कर्मचारी नाकों पर तैनात हैं। सुरक्षा के मद्देनजर लॉकडाउन का पालन कराने के लिए महिला पुलिस कर्मचारी नाकों पर डट अपने दायित्वों का निर्वहन कर रहीं हैं। शहर में कई जगह तो ऐसी हैं कि महिला इंस्पेक्टर और महिला कांस्टेबल अकेले ही अपनी ड्यूटी कर रही हैं। वास्तव में इन दिनों वे अपने परिवार के साथ-साथ आमजन को भी लॉकडाउन के लिए प्रेरित करते हुए दोहरी जिम्मेदारी निभा रही हैं। सुबह से घर से निकली महिला पुलिस कर्मचारी रात नौ बजे अपने क्वार्टरों में वापस जाकर परिवार की सुध ले रही हैं। ऐसे में वे करीब 15 घंटे की ड्यूटी कर रही है।
डबवाली रोड पर महिला इंस्पेक्टर अरूणा अपनी टीम के साथ ड्यूटी कर रही हैं। उनकी टीम में एएसआई गुरमीत कौर, कांस्टेबल सुखविंद्र कौर, कांस्टेबल सुमन, पुष्पा भी नाके पर ड्यूटी दे रही हैं। ड्यूटी पर मौजूद महिला इंस्पेक्टर अरूणा सुबह पांच बजे उठती हैं और फिर दोनों बेटियों के लिए खाना तैयार करती हैं। उनकी एक सात साल की बेटी हैं और एक दो साल की। दोनों बच्चियों के लिए खाना तैयार करके उसके बाद वे रात नौ बजे तक नाके पर ड्यूटी करती हैं और फिर घर जाकर बच्चों की सुध लेती हैं। ऐसे में लॉकडाउन के समय में वे अपने परिवार के साथ साथ आमजन को भी कोरोना वायरस के प्रति जागरूक कर रही हैं। उनकी टीम में शामिल एएसआई गुरमीत कौर की भी यहीं दिनचर्या है। पूरा दिन नाके पर रहने के बाद करीब 15 घंटे की ड्यूटी के बाद ही वे रात को अपने घर में जाकर बच्चों और परिवार की सुध लेती हैं। वहीं कांस्टेबल सुखविंद्र कौर अपने भाई के साथ पुलिस लाइन क्वार्टर में रहती है। सुखविंद्र कौर का कहना है कि लॉकडाउन में अब तो वर्दी धोने के लिए भी समय नहीं निकलता। क्योंकि सुबह सात बजे से लेकर रात नौ बजे तक नाके पर ही तैनात रहती हैं।
... और पढ़ें

शहर की सीमा से निकलने के लिए ऑनलाइन बनेगा पास, सरल हरियाणा के वेब पोर्टल पर करना होगा आवेदन

कोरोना वायरस की रोकथाम के लिए देश को लॉकडाउन किया गया है। लॉकडाउन के चलते कुछ लोग अपने घरों से दूर दूसरे जिलों या शहरों में बैठे है। घर वापस जाने व जरूरी काम से दूसरी जगह जाने के लिए अब सरल हरियाणा के वेब पोर्टल पर आवेदन करना होगा। लोग अपने घरों तक जाने के लिए प्रशासन के चक्कर लगा रहे हैं। जिसके चलते प्रशासन कार्यालय में लोग जमा हो जाते हैं जिससे कोरोना का संक्रमण फैलने का डर बना रहता है। इस स्थिति को देखते हुए सीएम मनोहर लाल ने आदेश जारी करते हुए कहा कि जो कोई भी किसी काम से जिले या शहर की सीमाओं से बाहर जाना चाहता है वह अब इसके लिए सरल हरियाणा की वेब पोर्टल पर ऑनलाइन आवेदन करेगा।
लॉकडाउन की स्थिति में फंसे लोगों को अपने घरों तक पहुंचाने और जरूरी काम से कहीं जाने के लिए सरकार ने ऑनलाइन आज्ञा देने के लिए सरल हरियाणा की वेबसाइट पर सरलहरियाणा.जीओवी.इन का विकल्प दिया है जिसके तहत व्यक्ति को एक दिन का आपातकालीन पास उपलब्ध करवाया जाएगा। आपातकालीन पास के लिए वेब पोर्टल पर आवेदन करने के कुछ समय बाद ही आवेदन के अप्रूवल का मैसेज उपभोक्ता के फोन पर आ जाएगा। ऐसे में अगर आवेदन करते समय अगर कोई गलती होती है तो आपातकालीन पास के लिए किए गए आवेदन को रद्द कर दिया जाएगा।
सभी दस्तावेज पास रखकर करें आवेदन
लॉकडाउन की स्थिति में आपातकालीन पास के लिए आवेदन करने के लिए आईडी प्रूफ के साथ-साथ गाड़ी के दस्तावेजों को भी पास रखें। आवेदन करते समय आईडी नंबर के साथ-साथ उनकी फोटो को भी अपलोड करना होगा। अगर फोटो को अपलोड नहीं किया जाता या फिर फार्म को आधा अधूरा भरकर अपलोड किया जाएगा तो आवेदन को रद्द कर दिया जाएगा।
... और पढ़ें

लूट गिरोह के दो सदस्य गिरफ्तार, दो वारदातें सुलझी

पास बनवाने की जानकारी लेते लोग।
सीआईए कालांवाली पुलिस टीम ने महत्वपूर्ण सुराग जुटाते हुए बीते 31 दिसंबर 2019 को 20 हजार रुपये व 16 मार्च 2020 को बप्पां क्षेत्र में हुई 45 हजार की लूट की गुत्थी को सुलझाने में एक महत्वपूर्ण सफलता हासिल की है। सीआईए कालांवाली प्रभारी सब इंस्पेक्टर अजय कुमार ने बताया कि पकडे़ गए आरोपियों की पहचान वकील और बूटा सिंह वासियान बप्पां के रुप में हुई है।
सीआईए प्रभारी ने बताया कि सीआईए कालांवाली की एक पुलिस टीम गश्त और चेकिंग के दौरान बस अड्डा बप्पां पर मौजूद थी इसी दौरान गुप्त सुचना मिली कि बप्पां क्षेत्र में लूट की वारदात को अंजाम देने वाले गांव के स्टेडियम में बैठे हैं। इस सूचना को पाकर सीआईए कालांवाली पुलिस टीम मौका पर पहुंची और दो युवकों को काबू कर लिया। सीआईए प्रभारी ने बताया कि पकड़े गए आरोपियों की निशानदेही पर लूट की वारदात में प्रयुक्त बाइक, लोहे की दातर और लूटी गई दस हजार रुपये की राशि भी बरामद कर लिए हैं। उन्होंने बताया कि पूछताछ के दौरान उक्त आरोपियों ने अनेकों वारदातें भी कबूली है। सीआईए प्रभारी ने बताया की गिरफ्तार किए गए आरोपियों को अदालत में पेश कर रिमांड हासिल किया जाएगा और रिमांड अवधि के दौरान आरोपियों कि निशान देही पर लूटी गई संपत्ति बरामद की जाएगी।
... और पढ़ें

सिरसा में हुई पांच एमएम बारिश, फसलों को नुकसान की आशंका

शुक्रवार को जिले में सुबह बेमौसम बारिश हुई, जिससे शहर में जलभराव की समस्या पैदा हो गई। बारिश से अग्रसेन कालोनी में पानी जमा होने से सीवरेज ब्लॉक हो गए। इन सीवरेज को खोलने के लिए जन स्वास्थ्य विभाग के कर्मचारी जुटे हुए थे। शुुक्रवार को सिरसा में पांच एमएम, ओटू में तीन, पंजुआना में दो, रोडी में चार, कालांवाली में तीन, गोलेआला में चार एमएम बारिश हुई।
क्षेत्र में शुक्रवार को एक बार फिर हुई बेमौसमी बारिश व तेज हवा से पकने के कगार पर खड़ी रबी की फसल के लिए खराबे की आशंका बढ़ गई है। किसानों के चेहरों पर चिंता की लकीरे खींच गई है। किसानों का कहना है तीन दिन से हो रही बारिश नुकसानदायक है। चोपटा खंड में इस बार करीब छह हजार हेक्टेयर में खड़ी गेहूं, चने, सरसों और जौ आदि रबी की फसल की बिजाई की गई है। कई किसानों ने सरसों की फसल की कटाई कर रखी उसमें भी पानी खड़ा रहने गलने की आशंका बढ़ गई है। किसानों को आशंका है कि इस समय ओला वृष्टि घातक हो सकती है। चोपटा खंड में इस बार किसानों ने 40 हजार 800 हेक्टेयर में गेहूं, 15500 हेक्टेयर में सरसों, 2250 हेक्टेयर में चना, 650 हेक्टेयर में जौ और अन्य फसलों पर खराबे का खतरा मंडरा लगा है। गांव जमाल, बरासरी, ढुकड़ा, इत्यिादी गावों में तो फसल पहले ही ओलावृष्टि की चपेट में आ चुकी है।
किसान जगदीश और सुरेश कुमार ने बताया कि अब फसल पकने के कगार पर खड़ी है और बार बार मौसम में बदलाव से फसलों को नुकसान हो रहा है। बारिश के साथ तेज हवा से गेहूं और सरसों की फसल जमीन पर बिछ लगी है। किसान बलवान का कहना है कि उसने तो सरसों की फसल काटकर इक्ट्ठी की हुई है अब बारिश से पानी खड़ा रहने उसकी गलने की आशंका बढ़ गई है। गनीमत है कि अब तक क्षेत्र में ओलावृष्टि नहीं हुई। किसान राम कुमार व महेंद्र सिंह का कहना है कि कि इस बार मानसून की बारिश अच्छी होने से बीरानी जमीन में चनों की बिजाई की गई थी। लेकिन जब पकने की बारी आई तो मौसम की मार सहना मुश्किल हो गया है।
... और पढ़ें

लॉकडाउन के बावजूद भी मंडी में उमड़ रही लोगों की भीड़

लॉकडाउन की स्थिति होने के बावजूद भी रानियां की सब्जी मंडी में अव्यवस्था का माहौल देखा जा सकता है। रानियां के जीवननगर रोड़ पर गुरु घर के साथ रोजाना सुबह सब्जी मंडी लगती है जहां पर काफी लोगों का आना जाना रहता है पूरे देश में लॉकडाउन की स्थिति होने के बावजूद भी सब्जी मंडी में उपस्थित लोगों की भीड़ अधिकारियों की लापरवाही की पोल खोल रही है जिला प्रशासन के निर्देशानुसार रानियां क्षेत्र में तैनात ड्यूटी मजिस्ट्रेट सहित पुलिस प्रशासन कोरोना वायरस से निपटने के लिए दिन रात पहरा दे रहे हैं। वही रानियां की सब्जी मंडी की और किसी भी अधिकारी द्वारा ध्यान न दिए जाने के कारण सब्जी मंडी में होने वाली भीड़ और और असुरक्षित माहौल कभी भी जानलेवा साबित हो सकता है रोजाना सुबह चार बजे सब्जी मंडी में दूर-दराज के लोगों का आनाजाना रहता है यहां पर दूसरे शहरों से सब्जियां फल फ्रूट लेकर काफी लोग पहुंचते हैं। जिला प्रशासन ने लोगों को आपस में संपर्क में करने के लिए अपने घरों में रहने के निर्देश दिए हैं यदि जिला प्रशासन ने सब्जी मंडी रानियां की ओर ध्यान नहीं दिया तो यहां पर कभी भी अनहोनी घटना घटित हो सकती है। रानियां में लगने वाली सब्जी मंडी के बारे में तहसीलदार जितेंद्र कुमार ने बताया कि यह मामला उनके संज्ञान में आया है और वे तुरंत उच्च अधिकारियों को सूचित करके तुरंत समाधान निकालेंगे। इस मामले में किस अधिकारी ने लापरवाही बरती है इसके प्रति भी कार्यवाही अमल में लाई जाएगी। उन्होंने लोगों को निर्देश देते हुए कहा कि सब्जी मंडी में मास्क लगाकर प्रवेश करें तथा एक दूसरे के संपर्क में आने की बजाय दूरी बनाए रखें। ... और पढ़ें

सिरसा में रह रहे कश्मीरियों की रिपोर्ट हुई वेरीफाई

कोरोना वायरस से हुए देश में लॉकडाउन के चलते जम्मू कश्मीर के युवा घर जाने के लिए शुक्रवार को प्रशासन से मिले। प्रशासन अधिकारियों ने उन्हें घर भेजने के लिए जम्मू कश्मीर के प्रशासन से रिपोर्ट मांगी थी। जम्मू कश्मीर से वहां के संबंधित थाना ने उनकी रिपोर्ट वेरीफाई की। वहीं स्थानीय पुलिस ने भी संबंधित वार्ड के पार्षदों से उनकी रिपोर्ट मांगी तो सभी ने कहा कि वे पिछले 15 सालों से आ रहे हैं। अब प्रशासन जल्द ही इन्हें रवाना करने के लिए बंदोबस्त करेगा।
देश में कोरोना के संक्रमण को रोकने के लिए लॉकडाउन कर दिया है। रोजगार की तलाश में पिछले छह महीनों से जम्मू कश्मीर के परिवार के लोग सिरसा में रह रहे हैं। घर जाने के टिकट भी बुक करवाई लेकिन लॉकडाउन की स्थिति के चलते रेल गाड़ी को रद्द कर दिया गया। एजाज ने बताया कि घर जाने की मांग को प्रशासन अधिकारी से मिले तो उन्हें शनिवार सुबह दस बजे का समय दिया है। वहीं डीएसपी राजेश चेची ने बताया कि स्थानीय पुलिस और जम्मू कश्मीर पुलिस ने इनकी रिपोर्ट वेरीफाई की है। जल्द ही इन्हें रवाना करने के लिए बंदोबस्त किया जाएगा।
... और पढ़ें

गली-मोहल्ले में सब्जी और फल चाहिए तो रेहड़ी चालकों के इन नंबरों पर करें फोन

उपायुक्त रमेश चंद बिढान ने बताया कि कोरोना वायरस से बचाव और फैलाव को रोकने तथा दुकानों पर भीड़ न हो इसके लिए जिला प्रशासन द्वारा आवश्यक कदम उठाए गए हैं। नागरिकों को जरूरी सामान मिलने में कोई परेशानी न हो इसे देखते हुए वार्ड वाइज और गली मोहल्लों में रेहड़ियों के माध्यम से सब्जी और फल भिजवाए जाएंगे। इसके लिए रेहड़ी चालक के नाम और मोबाइल नंबर सहित सूची जारी की गई है।
चतरगढ़ पट्टी में
रेहड़ी चालक मोबाइल नं.
प्रवीण 9729101001
जगदीश कुमार 9416085794
अशोक कुमार 9812802699
विकास 9728835908
प्रेम नगर, जन कल्याण कॉलोनी, जैन कॉलोनी, विशाल नगर, अग्रवाल कॉलोनी चावला कॉलोनी, शक्ति नगर, पुलिस लाइन
रेहड़ी चालक मोबाइल नं.
रामबिलास 8795465215
अजय कुमार 9306509116
सतीश कुमार 9996128098
मुकेश 9519030618
श्याम सुंदर 9996454360
न्यू हाउसिंग बोर्ड कॉलोनी, बाटा कॉलोनी, हुडा सेक्टर-20, ईरा ग्रुप, ढाणी प्लांटा
रेहड़ी चालक मोबाइल नं.
अनिल यादव 7870800363
गणेशी लाल 9812928765
कन्हैया लाल 9017258308
अन्सीक 9729812996
जितेंद्र 9729819388
फिरोज आलम 9729669183
अजय साहनी 7090533258
गांव खैरपुर एरिया, हुडा सेक्टर-19, महाबीर कॉलोनी, फ्रेड्स कॉलोनी, जीटीएम
रेहड़ी चालक मोबाइल नं.
राजन सिंह 6394759423
वकील 9724635245
जितेंद्र 9729819388
सुरेश कुमार 8295877360
राजेंद्र कुमार 8607426442
चंद्र देव यादव 8569829171
पंकज कुमार 7988310754
राजपती यादव 8252290310
राकेश कुमार 7015555170
डीसी कॉलोनी, कनाल कॉलोनी, राम कॉलोनी, बैंक कॉलोनी, एमआईटीसी कॉलोनी, एडीसी कॉलोनी, गुरु नानक नगर
रेहड़ी चालक मोबाइल नं.
अमन 9896493882
अजय कुमार 9896029088
मोहन लाल 9896435970
शिव करण 6389498150
राकेश कुमार 7627611455
धीरज 8081753230
राकेश 7015555170
वेद प्रकाश 7508052011
भगत सिंह कॉलोनी, बंसल कॉलोनी, कोर्ट कॉलोनी, रेलवे कॉलोनी, ले ऑउट कॉलोनी, सुभाष बस्ती-1
रेहड़ी चालक मोबाइल नं.
प्रमोद यादव 8873111266
सुनील यादव 8809290041
अखिलेश 9306980554
शंभू 8708015767
हिनेश 9991891636
अमरपीत 8295468610
रणजीत 8529124481
लक्ष्मण 8307114101
अधिक लाल 9518445431
राजकुमार 7082254867
उमेश कुमार 9896593633
राजेंद्र 9350540451
गिरधारी लाल 9812781082
राजेंद्र कुमार 9416112305
एमसी कॉलोनी-1, खन्ना कॉलोनी, गोविंद नगर, अग्रसेन कॉलोनी
रेहड़ी चालक मोबाइल नं.
पवन 7357459531
विजय 9203312647
विकास यादव 8814977942
वाहिद 8059489484
प्रेम कुमार 8760522223
अशोक कुमार 9896833636
खन्ना कॉलोनी, बाटा राम कॉलोनी, खैरपुर न्यू, दयाल सिंह नगर
रेहड़ी चालक मोबाइल नं.
शिवकरण 6389498150
राजेंद्र सिंह 9996294854
मनसर 7082246927
संदीप 8901109173
कीर्ति नगर, ऑटो मार्केट, हरिवंशु कॉलोनी, भारत नगर, परशु राम नगर, गणेश विहार
रेहड़ी चालक मोबाइल नं.
पिंटू 8571097196
खिवा राम 8708610001
ललित कुमार 8053169069
भागेश्वर 9467752223
राजदेव व अमनेश 8572845359
बंधु यावद 9518632823
कल्याण नगर, शांतिनगर, डेरा सच्चा सौदा एरिया, प्रीत नगर, परमार्थ कॉलोनी
रेहड़ी चालक मोबाइल नं.
संदीप 97286-48403
राम चंद्र व अर्जुन 9896215050
विनोद 9350705268
लालजीव 89693-86739
सुनील 8295188903
सुभद 93505-33760
अजय यादव 95231-52812
नीरज 8905143995
नंदू यादव 8987031850
मेला ग्राउंड, जगदम्बे कॉलोनी, मोहला सिंगिकाट, एमसी कॉलोनी -2
रेहड़ी चालक मोबाइल नं.
जय देव 9812947821
रामू 9829758659
बंटी 9728622420
तंवर 98132-24790
जोगिंदर (94300-43742) को,
पटेल बस्ती, भीम कॉलोनी, सुभाष कॉलोनी, मोहल्ला जंडवाला, भादरा एरिया
रेहड़ी चालक मोबाइल नं.
संजय कुमार 7484033467
सूबेदार व सौरभ 9315862349
सतेंद्र यादव 8295184625
सुदर्शन यादव 74948-08068
बबलू 8307338707
कीर्ति नगर कुछ भाग, ग्रेवाल बस्ती, अग्रसेन कॉलोनी भाग-दो, नंदन वाटिका
रेहड़ी चालक मोबाइल नं.
रिंकू 9306853584
ओम प्रकाश 830786458
तारा चंद 972916716
सैनी 9729616716
पिंटो 9794948099
प्रदीप कुमार 6386696329
काठ मंडी, लोहिया बस्ती, भादरा बाजार, गांधी मार्केट एरिया, रोड़ी बाजार, मोहल्ला जेल गार्डन, गुरु तेग बहादुर मार्केट
रेहड़ी चालक मोबाइल नं.
बहादुर 7482829420
संतोष 9896818790
अमरजीत 8002538068
नवीन यादव 8572814559
राज कुमार 9034412542
ब्रह्मानंद 8295466206
मोहल्ला तेलियान, पुराना सिविल अस्पताल बाजार, द्वारका पुरी, मोहल्ला धोबियान, गली चोपड़ा वाली एरिया, मोहल्ला धानक
रेहड़ी चालक मोबाइल नं.
उपेंद्र यादव 8708777684
सुनिल यादव 9631217150
सागर 9729058688
आकाश सिद्धू 9255899990
बाबू लाल 9499215788
मुरारी लाल 9416168405
आरएसडी कॉलोनी, शिवाजी कॉलोनी, मुल्तानी कॉलोनी, शास्त्री कॉलोनी, सुभाष बस्ती-2, अनाज मंडी, सिरसा
रेहड़ी चालक मोबाइल नं.
ब्रह्म देव 9523909724
मनोज यादव 6205471454
विनय यादव 9729121240
मनोज कुमार 8084168354
देवा नंद 7091840923
रमेश 9896543785
कच्चा बास, मोहल्ला इंद्रपाल, मोहल्ला लखी तालाब, भगत सिंह पार्क क्षेत्र
रेहड़ी चालक मोबाइल नं.
सुशील 97284-98851
रमेश कुमार 9254676465
रिंकू 97294-47658
अजय 9729147658
प्रमोद 9996781599
गणेश 7759867828
गुरुद्वारा क्षेत्र, रानियां बाजार, नोहरिया बाजार वीज साइड, मोहल्ला डोकोत, सूरतगढ़िया बाजार वेस्ट साइड
रेहड़ी चालक मोबाइल नं.
मनोज यादव 9817664802
सुधीर यादव 9518600573
संजीव कुमार 8601870617
रुही 7027094998
राम प्रकाश 93061-50012
कृष्ण लाल 98125-79356
जगमोहन 8221843820
नोहरिया बाजार, सूरतगरिया बाजार, लक्कड़ मंडी, भादरा बाजार, दफ्तरीया
रेहड़ी चालक मोबाइल नं.
पप्पू 7155806072
मुकेश कुमार 8168722780
विष्णु यादव 9728096252
पवन 9306227501
गोविंद राम 9896026828
ओम प्रकाश 9813229944
प्रवीन, सोनम 9588587008
मोहल्ला गौशाला, मोहल्ला कुछ भाग में
रेहड़ी चालक मोबाइल नं.
प्रहलाद 9588145715
देव कुमार 9027077268
वधवा 9416248003
सुखमणी 9416414137
पीर बस्ती, कच्चा थेड़, गली मुख्तयार सिंह थानेदार वाली
रेहड़ी चालक मोबाइल नं.
जवान 9813519802
काला 9466616922
अखिलेश 8307526224
प्रवेश 8901109173
मोहल्ला थेड़
रेहड़ी चालक मोबाइल नं.
तिलक राज 8307592134
गिरधारी 8307764804
रोहित 9812507838
मोहल्ला कुछ भाग, गली रविदास मंदिर क्षेत्र, भाखड़ा कॉटन मिल क्षेत्र, सरस्वती कॉलोनी, रेगर बस्ती
रेहड़ी चालक मोबाइल नं.
राम प्रकाश 9307993912
मेनपाल 7357841201
रिंकु 7082350031
अमरजीत 9315862349
मुकेश 7494963962
मोहल्ला गुजरान, चंगेरिया मोहल्ला, गांधी कॉलोनी, भाट मोहल्ला, नई सब्जी मंडी
रेहड़ी चालक मोबाइल नं.
राज कुमार 8059516261
राज कुमार 9996778093
सत्य पाल 9005104824
ज्ञानचंद 8307151904
सुधीर कुमार 9621714250
राजपाल 7056833103
जनकल्याण कॉलोनी, गुरु नानक नगरी, गुरु तेग बहादुर नगर, बाजीगर बस्ती, सिविल अस्पताल रोड़, राम नगरिया, श्याम कालोनी, तारा बाबा कुटिया क्षेत्र
रेहड़ी चालक मोबाइल नं.
मनीष व विनोद 7015626632
सुनील कुमार 9472823619
नीरज कुमार 9794948097
सोलिक राम 7007648341
अवनीश कुमार 8318660659
बबलू 8307151904
नाथ मोहल्ला, जेजे कॉलोनी, लार्ड शिवा कॉलेज क्षेत्र
रेहड़ी चालक मोबाइल नं.
मुकेश कुमार 8307137539
राजेश कुमार 9255832710
जोगिंदर यादव 9729583742
चंद्र प्रकाश 9817423614
ए-ब्लॉक एकता नगर, बी-ब्लॉक, सी-ब्लॉक, डी-ब्लॉक, ई-ब्लॉक
रेहड़ी चालक मोबाइल नं.
राकेश कुमार 7056524407
पवन कुमार 8221874052
नरेश कुमार 8168233548
संदीप कुमार 7082842899
महेंद्र प्रताप सिंह 9992069727
ए-ब्लॉक, अतिरिक्त मंडी कुछ हिस्सा, संजय कॉलोनी
रेहड़ी चालक मोबाइल नं.
रमेश 8607443075
अजय कुमार 6204889757
धर्मेंद्र/वेद 9996269170
श्रवण कुमार 8814977942
रमेश कुमार 6287977519
अतिरिक्त मंडी, पुरानी हाउसिंग बोर्ड कॉलोनी, औद्योगिक क्षेत्र -1
रेहड़ी चालक मोबाइल नं.
सुचित यादव 7061170327
सुधीर यादव 9817862006
संतोष यादव 7494963794
सुनील 6205891361
पुरानी चत्तरगढ़ पट्टी, विष्णु पुरी कॉलोनी, ढाणी सोरगर, ढाणी ठकरान
रेहड़ी चालक मोबाइल नं.
बालू साहनी 9588358760
दिनेश 8002694933
भगवान दास 9354636016
कैलाश यादव 8922066716
प्रमोद 775986782
... और पढ़ें

खैरेकां के पास मरे हुए मुर्गें फेंके, पुलिस और ग्रामीणों ने दबाया

सिरसा के पास घग्गर नदी और खैरेकां गांव के बीच सड़क पर वीरवार को कुछ व्यक्ति मरे हुए मुर्गे फेंक गए। करीब आठ गट्टों में 150 मृत मुर्गे भरे हुए थे। सड़क पर मृत मुर्गों के मिलने की सूचना मिलने पर ग्रामीणों में हड़कंप मच गया। पुलिस को सूचना दी गई। इसके बाद पुलिस और ग्रामीणों ने मृत मुर्गों को खड्डा खोद कर जमीन में दबाया। गांव खैरेकां के सरपंच निशांत जोसन ने बताया कि सुबह ग्रामीणों ने गांव के पास सड़क पर मृत मुर्गों को देखा। इसके बाद पुलिस को सूचना दी गई। तब इन्हें दबाया गया। सरपंच ने बताया कि मुर्गे फेंकने वालों का कोई अता पता नहीं। वहीं बीते दिनों झोपड़ा गांव के पास भी करीब दस गट्टों में मरे हुए मुर्गों को फेंक गया था। ऐसे में कोई व्यक्ति पिछले दो दिनों से शहर के आसपास के गांवों में मरे हुए मुर्गों को फेंक रहा है। ... और पढ़ें
अपने शहर की सभी खबर पढ़ने के लिए amarujala.com पर जाएं

Disclaimer


हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर और व्यक्तिगत अनुभव प्रदान कर सकें और लक्षित विज्ञापन पेश कर सकें। अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।
Agree
Election
  • Downloads

Follow Us