विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

From nearby cities

Pics: सचिन की फैन, सहवाग के अंदाज में बल्लेबाजी, टी-20 वर्ल्ड कप में छाई रोहतक की बेटी

रोहतक की छोरी का बल्ला एक बार फिर अंतरराष्ट्रीय स्तर पर खूब तेज चला।

22 फरवरी 2020

विज्ञापन
विज्ञापन

यमुना नगर

शनिवार, 22 फरवरी 2020

ट्रक में लोड कर झारखंड भेजे माल में से चार लाख की प्लाई चोरी

शहर से ट्रक में लोड कर झारखंड प्लाइवुड फैक्टरी में भेजी प्लाई में से चार लाख रुपये की प्लाई गायब मिली। ट्रक दो दिन तक फैक्टरी में खड़ा रहा। आरोप है कि इसी दौरान ट्रक से प्लाई गायब हुई। फैक्टरी मालिक ने सीसी टीवी फुटेज भी दिखाने से मना किया। ट्रांसपोर्टर ने झारखंड के प्लाईवुड मालिक व ट्रक चालक पर मिलकर चार लाख रुपये की प्लाई हड़पने का आरोप लगाया है। ट्रांसपोर्टर ने इसकी शिकायत पुलिस को दी। पुलिस ने मामले में दोनों आरोपियों के खिलाफ धोखाधड़ी के आरोप में केस दर्जकर जांच शुरू कर दी है।
दशमेश कॉलोनी निवासी हेमंत कृष्ण ने शहर पुलिस को दी शिकायत में बताया कि उसका खानचंद चौक ट्रक अड्डा पुराना हमीदा के पास एसएस ट्रांसपोर्ट के नाम से ऑफिस है। वह ट्रांसपोर्ट के माध्यम से एक स्थान से दूसरे स्थान पर सामान पहुंचाता है। बीती 13 अगस्त 2019 को उन्हें यहां से झारखंड के देवगढ़ स्थित केसरी प्लाईवुड में प्लाई भेजनी थी। तब उन्हें राजनबाली भाग्य फ्रेड करियर से 76 हजार रुपये किराए पर ट्रक लिया। ट्रक का चालक राजस्थान के मडली बाडमेर निवासी भंवरा राम था। तब उस ट्रक में ग्लोब पैनल इंडस्ट्री और एमएम गुड प्रोडक्ट यमुनानगर से प्लाइवुड के 1024 पीस लोड किए गए। जिनकी कीमत 516720 रुपये थी। दोनों फैक्ट्रियों से प्लाई लोड करने के बाद 16 अगस्त को ट्रक झारखंड के लिए रवाना हो गया। 26 अगस्त को ट्रक माल लेकर झारखंड के देवगढ़ स्थित केसरी प्लाइवुड में पहुंच गया। 28 अगस्त को जब ट्रक को खाली किया गया और वहां से फोन आया कि इसमें से 571 प्लाइवुड के पीस ही हैं। इस बारे में ट्रक चालक से बात की तो उसने कहा कि ट्रक दो दिन से फैक्टरी में ही था। जब सामान उतारा गया तो इसमें से 453 प्लाई के पीस गायब थे। इसके बाद उन्होंने केसरी प्लाइवुड के मालिक से बात की और कहा कि वे वहीं पर आ रहे हैं और तब तक माल और ट्रक वहीं पर रहने देना। एक सितंबर 2019 को जब वे वहां पर पहुंचे तो देखा कि न तो वहां पर ट्रक था और न ही माल था। केसरी प्लाइवुड के मालिक ने उन्हें बताया कि ट्रक 28 अगस्त को ही माल खाली करके यहां से चला गया। इस दौरान उन्होंने वहां पर केसरी प्लाइवुड के मालिक से वहां पर लगे सीसीटीवी की फुटेज दिखाने की मांग की तो उसने न हीं दिखाई और गायब हुई प्लाइवुड के बारे में भी कोई संतोषजनक जवाब नहीं दिया। हेमंत का आरोप है कि यह माल ट्रक चालक और फैक्टरी मालिक ने मिलीभगत करके हड़प लिया। गायब हुए माल की कीमत चार लाख रुपये थी। उसने इसकी शिकायत पुलिस को दी।
जांच अधिकारी एएसआई लखविंद्र मसीह का कहना है कि मामले में ट्रक चालक भवरा राम व केसरी प्लाइवुड के मालिक पर केस दर्ज कर लिया है। मामले की जांच की जा रही है। जांच के बाद आगामी कार्रवाई की जाएगी।
... और पढ़ें

नकाबपोश हमलावरों ने घर में घुसकर की तोड़फोड़, सास-बहू घायल

कैंप लक्ष्मी नगर में दिन दहाड़े 25-30 नकाबपोश युवकों ने एक घर पर तलवारें, लाठी डंडों से हमला कर दिया। हमलावरों ने घर में तोड़फोड़ कर सामान तहस नहस कर दिया। हमले में घर पर मौजूद सास-बहू घायल हो गई। हमलावर परिवार को जान से मारने की धमकी देते हुए फरार हो गए। इस दौरान आसपास के लोगों ने हमले की वीडियो बना ली। यह वीडियो व्हट्सअप सहित अन्य सोशल मीडिया साइट्स पर तेजी से वायरल हो रही है। हमले की सूचना पुलिस को दी गई। पुलिस ने मामले की जांच शुरू कर दी है।
लक्ष्मी नगर कॉलोनी निवासी अर्जुन ने बताया कि उनके घर के सामने ही उसकी मासी मायादेवी अपने बेटे दीपक और बहू मणी के साथ रहती है। सोमवार को वह परिवार सहित शादी समारोह में शामिल होने गया था। अर्जुन ने बताया कि उनके पड़ौस में सोहन सिंह भी रहता है। जो छोटा हाथी चलाता है। शादी से लौटने के बाद वह गली में ही खड़ा था। इस दौरान किसी ने सोहन सिंह की गाड़ी पर पत्थर मार दिया। सोहन सिंह पत्थर मारने का आरोप उन पर लगाने लगा। जिसे लेकर उनकी बहस हो गई और हाथापाई शुरू हो गई। अर्जुन ने बताया कि बात गांधी नगर चौकी में पहुंच गई। जहां दोनों पक्षों का राजीनामा से फैसला हो गया। अर्जुन ने बताया कि मंगलवार दोपहर करीब डेढ़ बजे वह अपनी मासी के घर पर था। इस दौरान उसे कोई काम आया गया और वह सामने स्थित अपने घर आ गया। इस दौरान 25-30 युवक हाथों में तलवारें, लाठी, बिंडे लेकर उसकी मासी मायादेवी के घर घुस गए। हमलावरों ने घर में तोड़फोड़ की। इस दौरान मायादेवी, मणी व अन्यों ने वहां से भाग कर जान बचाई। हमलावरों ने घर का सारा सामान तोड़फोड़ दिया। अर्जुन ने बताया कि मामले की शिकायत पुलिस को दे दी है।
हमले का शोर सुनकर आसपास के लोग जमा हो गए। युवकों ने गली से निकलने का रास्ता बंद कर दिया। इस दौरान लोगों ने इसकी वीडियो बनाकर सोशल मीडिया में वायरल कर दी। जो आगे से आगे फॉरवर्ड की जा रही है।
परिवार पर हमले के दौरान वहां लोगों की भीड़ लग गई। लेकिन युवकों को रोकने का साहस किसी ने नहीं किया। वायरल वीडियो में नजर आ रहा है कि हमलावर मुंह पर नकाब पहन गली में डंडे, तलवारे लहरा रहे हैं। लोगों को वहां से निकलने नहीं दे रहे हैं। घर में तोड़फोड़ कर रहे हैं। इस दौरान मौके पर भीड़ लगी हुई है। लेकिन डर के मारे उन्हें कोई रोक नहीं पाया।
... और पढ़ें

काम से लौट रहे व्यक्ति से लूटे छह हजार रुपये

काम समाप्त कर रादौर रोड से पैदल घर लौट रहे जम्मू कॉलोनी निवासी अशोक कुमार से बाइक सवार दो युवकों ने छह हजार रुपये छीन लिए। सूचना मिलने पर पुलिस मौके पर पहुंची और मामले की जांच की। पुलिस ने पीड़ित व्यक्ति की शिकायत पर अज्ञात युवकों के खिलाफ केस दर्ज कर कार्रवाई शुरू कर दी।
जम्मू कालोनी बी निवासी अशोक कुमार ने बताया कि वह तड़के साढ़े चार बजे काम खत्म करके घर लौट रहा था। जब वह रादौर रोड पर पहुंचा तो बाइक पर सवार होकर दो युवक आए। आरोपियों ने आते ही उसे पकड़ लिया। जब तक वह कुछ समझ पाता आरोपियों ने उसकी जेब से छह हजार रुपये निकाल लिए। इसके बाद आरोपी उसे धक्का देकर मौके से भाग गए। उसने आरोपियों का पीछा कर उन्हें पकडऩे का प्रयास किया लेकिन आरोपी भागने में कामयाब हो गए। उसने घटना के बारे में परिजनों व पुलिस को शिकायत दी। पुलिस ने मामले की जांच के बाद अज्ञात के खिलाफ केस दर्ज कर कार्रवाई शुरू कर दी।
... और पढ़ें

हार्ट केयर सेंटर के चिकित्सक के समर्थन में उतरा आईएमए

रेलवे रोड स्थित हार्ट केयर सेंटर अस्पताल के सामने वीरवार को भाकियू द्वारा अस्पताल पर कार्रवाई की मांग को लेकर किए गए प्रदर्शन को लेकर आईएमए चिकित्सकों के समर्थन में उतरा है। शुक्रवार को आईएमए ने डीएवी डेंटल कॉलेज में प्रेस कान्फ्रेंस कर चिकित्सकों का पक्ष रखा। इस दौरान हार्ट केयर सेंटर के आरोपी चिकित्सक शगुन सभ्रवाल मौजूद रहे। वहीं शिकायतकर्ता का इलाज करने वाले दाबड़ा अस्पताल के चिकित्सक अजय दाबड़ा भी उपस्थित रहे। इस दौरान डॉ. शगुन ने कहा कि शिकायतकर्ता सुभाषचंद गुर्जर के इलाज में न तो कोताही बरती गई है और न ही कोई भय दिखाकर उनसे रुपये लिए गए हैं। उन्होंने कहा कि जब सुभाष चंद को लाया गया था, तो उनकी हालत सीरियस थी। उन्हें दिल का दौरा पड़ा था। इस दौरान होने वाले उपचार के उनके परिजनों को बताया गया। उनकी कॉउंसलिंग भी गई। जब वे राजी हुए तभी इलाज के उन्हें कहा गया। वहीं डॉ. शगुन ने अंबाला तक मरीज का बचना मुश्किल है के आरोप में कहा कि जब चिकित्सक को लगता है तो ऐसा परिजनों को बताया जाता है। यह उनकी ड्यूटी है। उन्होंने मरीज के परिजनों को बताया था कि ऐसे मामलों में 45-55 प्रतिशत की संभावना होती है। वहीं अजय दाबड़ा ने बताया कि 30 जनवरी को उनके अस्पताल में सुभाषचंद को लाया गया था। जहां उन्होंने ईसीजी और इंजोग्राफी की। जिसके बाद उन्होंने बताय कि मरीज को एंजियोप्लास्टी की जरूरत है। जिस पर परिजनों ने मरीज को पीजीआई ले जाने को कहा। जिस पर उन्होंने प्राथमिक उपचार दे दिया। आईएमए अध्यक्ष डॉ. योगेश जिंदल ने कहा कि इस मामले की निष्पक्ष जांच की जा रही है। जबकि आरोप बिना किसी आधार व चिकित्सीय प्रमाण के लगाए गए हैं। ... और पढ़ें
ima in favor ima in favor

दवाई व्यवसायी से कार और तीस हजार लूटे

शहर में पुलिस को न तो न ही लूटेरों व स्नेचरों पर कंट्रोल रहा और न ही चोरों पर। रोजाना लूट, स्नेचिंग व चोरी की घटनाएं हो रही है। दो युवकों ने जहां लाड़वा रोड पर ऊंचा चांदना के पास दवाई की सेल परचेज करने वाले लखविंद्र के पास से कार व तीन हजार रुपये लूट लिए। वहीं चोरों ने अलग अलग चार स्थानों को निशाना बनाकर चोरी की वारदातों को अंजाम दिया। पुलिस ने लूट के मामले में दो युवकों को नामजद व चारों मामलों में अज्ञात पर केस दर्जकर जांच शुरू कर दी है।
सरस्वती नगर के ऊंचा चांदना निवासी लखविंद्र सिंह ने पुलिस को दी शिकायत में बताया कि वह दवाई की सेल परचेज का कार्य करता है। वीरवार सुबह वह अपने घर से दवाई की सप्लाई देने के लिए अपनी टाटा जेस्ट कार से निकला। उसने लाड़वा रोड पर आर्यन अस्पताल जाना था। जब वह गांव से निकलकर लाडवा रोड पर आर्यन अस्पताल के पास पहुंचे, तो उसे दो युवकों ने रोक लिया। आरोप है कि इस दौरान आरोपियों ने उसके साथ मारपीट शुरू कर दी। इसके बाद आरोपियों ने उसकी कार की चाबी छीन ली और उसे कार से नीचे उतार दिया। इसके बाद आरोपी उससे कार छीन कर वहां से फरार हो गए। उसकी कार में 30 हजार रुपये की नकदी थी रखी थी। लखविंद्र सिंह ने गूूंदियाना निवासी राज व उसके बेटे मोनू पर उसकी कार व नकदी लूटने का आरोप लगाया है। उसने इसकी शिकायत छप्पर थाना पुलिस को दी। पुलिस ने मामले में दोनों आरोपियों के खिलाफ केस दर्जकर लिया है। थाना छप्पर प्रभारी जगबीर सिंह का कहना है कि मामले में दोनों आरोपियों पर केस दर्ज कर लिया है। मामले की तफ्तीश की जा रही है। जल्द ही मामला सुलझा लिया जाएगा।
हरिपुर कांबोयान निवासी चंद्रपाल ने पुलिस को दी शिकायत में बताया कि रात को वह अपने परिवार के साथ घर में ही सोया हुआ था। वह अपने कमरे में सोया था, जबकि उसकी पत्नी व पुत्रवधु दूसरे कमरे में सोए हुए थे। इसी दौरान उनके घर में चोर घुस आए। चोरों ने कमरे में रखा सामान खंगाल दिया। अलमारी से छह तोले सोना, दीवार पर लगी एलइडी व 80 हजार रुपये चोरी कर ले गए। सुबह जब उसकी आंख खुली तो घर में सामान बिखरा देख कर वह हैरान रह गए। उन्होंने जब सीसीटीवी की जांच की तो उसमें रात के समय एक युवक घर में घुसता दिखाई दे रहा है। पुलिस ने मौके का मुआयना कर अज्ञात पर केस दर्ज कर लिया।
... और पढ़ें

नई रेल लाइन से करनाल जाना होगा आसान, इंडस्ट्री और कृषि क्षेत्र को भी मिलेगा फायदा

बजट सत्र में यमुनानगर-करनाल नई रेल लाइन पर चर्चा किए जाने से इस प्रोजेक्ट के निर्माण का रास्ता खुल गया है। प्रदेश सरकार वित्तीय वर्ष 2020-21 के बजट में इस प्रोजेक्ट के लिए धनराशि का आवंटन कर सकती है। हरियाणा रेल इन्फ्रास्ट्रक्चर डेवलपमेंट कॉरपोरेशन लिमिटेड द्वारा 61 किलोमीटर लंबी इसकी डिटेल प्रोजेक्ट रिपोर्ट और विस्तृत सर्वेक्षण पहले ही मंजूरी के लिए केंद्र के पास भेजा जा चुका है। इसके निर्माण से करनाल और यमुनानगर के बीच सीधी कनेक्टिविटी होगी और यात्रा की दूरी भी करीब 20 किलोमीटर तक कम हो जाएगी। इसके अलावा यह हरिद्वार से भी सीधी कनेक्टिविटी प्रदान करेगा जो इस क्षेत्र की लंबे समय से मांग थी।
प्रस्तावित नई लाइन जगाधरी वर्कशॉप से शुरू होगी और करनाल के पास दिल्ली-अंबाला रेलवे लाइन पर भैणी-खुर्द स्टेशन से कनेक्ट होगी। इस लाइन पर 5 नए रेलवे स्टेशन बनाएं जाने का प्रस्ताव है। इनमें यमुनानगर जिले में दामला, रादौर, कुरुक्षेत्र में लाडवा, करनाल के इंद्री और रंभा में स्टेशन होंगे।
यमुनानगर व जगाधरी औद्योगिक शहर हैं। यमुनानगर में जहां प्लाईवुड है, वहीं जगाधरी में मेटल की सैकड़ों फैक्ट्रियां हैं।बर्तनों के लिए मेटल, एल्यूमिनियम समेत अन्य धातु का कच्चा माल दिल्ली, राजस्थान, मुंबई से आता है। अगर करनाल-यमुनानगर लाइन बन जाती है तो यमुनानगर सीधे दिल्ली रेल लाइन से जुड़ जाएगा। वहीं यमुनानगर के उद्यमियों को प्लाइवुड के लिए भी कच्चा माल ट्रकों में लेकर आना पड़ता है। करनाल रेल लाइन बनने से माल दिल्ली पहुंचाना आसान हो जाएगा। इससे ट्रांसपोर्टेशन का खर्च कम होगा।
इस रेलवे ट्रैक के शुरू होने से किसानों को भी काफी फायदा होगा। खासकर सब्जी और फलों के छोटे उत्पादक किसानों को अपनी फसल बड़े शहरों तक ले जाना आसान होगा। अभी थोड़ी फसल ले जाने के लिए उन्हें काफी खर्च करना पड़ता था। अब वे मामूली किराये में करनाल और दिल्ली तक अपनी फसल ले जा सकेंगे।
इस रेल लाइन के तैयार होने से यमुनानगर सीधा दिल्ली रेल रूट से जुड़ जाएगा। अभी अगर ट्रेन से दिल्ली जाना हो तो या तो वाया अंबाला या फिर सहारनपुर होकर जाना पड़ता है। इसके अलावा पानीपत, रोहतक, हिसार, झज्जर की तरफ जाना भी आसान हो जाएगा। प्रथम चरण में इस लाइन पर पांच से दस हजार यात्रियों के आवागमन का अनुमान लगाया गया है।
इस रेल लाइन की घोषणा साल 1998 में संसद में पेश किए गए रेल बजट में हुई थी। तब से यह अटका पड़ा है। साल 2015 के बजट में इसके सर्वे की घोषणा की गई। सर्वे के लिए कुछ बजट भी जारी किया गया था। अब जाकर प्रदेश सरकार इस पर गंभीर हुई है।
करनाल रेलवे लाइन का मुद्दा मैंने लगातार संसद में उठाया है। इसके बनने से तीन जिलों के लोगों को सीधा फायदा होगा। साथ ही यमुनानगर की कनेक्टिविटी भी बढ़ेगी। औद्योगिक शहर होने के कारण उद्यमियों को काफी फायदा होगा।- रतन लाल कटारिया, केंद्रीय मंत्री
फोटो 34
... और पढ़ें

चोरी के शक में खौफनाक वारदात, लोगों ने युवक को बंधक बना पीट-पीटकर मार डाला

सदर थाना क्षेत्र के गांव किशनपुर दामला में प्लाइवुड फैक्ट्री के क्वार्टरों में चोरी के शक में कुछ मजदूरों ने एक युवक को पकड़ लिया और उसकी जमकर धुनाई की। इस दौरान युवक के तीन साथी मौके से फरार हो गए। मजदूरों ने पकड़े गए युवक को रस्सी से बांध दिया और उसे बुरी तरह से पीटा।

सूचना पर पुलिस मौके पर पहुंची और अचेत हालत में पड़े युवक को अस्पताल में पहुंचाया। जहां डॉक्टर ने उसकी मौत होने की पुष्टि की। युवक की शनाख्त न होने पर पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम हाउस में रखवा दिया। पुलिस ने मामले में अज्ञात लोगों पर गैर इरादतन हत्या का केस दर्जकर जांच शुरू कर दी है। 

किशनपुरा दामला निवासी एक व्यक्ति ने बंद पड़े टोल प्लाजा के क्वार्टर बना रखे हैं। जिनमें दामला के आसपास बनी फैक्ट्रियों के मजदूर रहते हैं। गुरुवार अलसुबह करीब पांच बजे फैक्ट्री मजदूरों के क्वार्टर में कुछ युवक घुस गए। अंदेशा था कि युवक चोरी करने के इरादे से घर में घुसे थे और चोरी कर रहे थे। शोर सुनकर मजदूरों की आंख खुल गई, तो उसने युवकों को देखकर शोर मचा दिया। जिस पर आसपास के श्रमिक एकत्र हो गए।
... और पढ़ें

रामपुरा कॉलोनी में फायरिंग, भाग रहे बदमाशों की पिस्टल गिरी

सांकेतिक तस्वीर
शहर में कानून व्यवस्था चरमरा गई है। दिन हो या रात कहीं न कहीं वारदात को अंजाम दिया जा रहा है। बदमाशों के हौसले इतने बुलंद है कि एक वारदात को अंजाम देने के बाद उसी जगह अगले दिन घटना को अंजाम दे रहे हैं। बुधवार रात को बदमाशों ने रामपुरा कॉलोनी में नशा मुक्ति अभियान के सदस्यों पर हमला कर वहां जमकर उत्पात मचाया। इस दौरान बदमाशों ने हवाई फॉयरिंग की। इस दौरान कॉलोनी के लोग पहुंचे तो हमलावर अपनी गाड़ी छोड़कर फरार हो गए। इस बीच एक बदमाश का पिस्टल मौके पर गिर गया। जबकि वहां से आधा दर्जन लोहे की रॉड व गंडासियां भी बरामद की गई हैं। वहीं दूसरी तरफ कैंप की वीनानगर कॉलोनी स्थित यमुना हाई स्कूल वाली गली में भी बदमाशों ने वारदात को अंजाम दिया। चार कारों में आए बदमाशों ने एक कार पर हमलाकर उसे तहस नहस कर दिया। गली में तलवारों व लोहे की रॉड की आवाज से लोगों में दहशत फैल गई। लोगों को देखकर बदमाश फरार हो गए। गुस्साएं लोगों ने अंबाला सहारनपुर नेशनल हाईवे पर जाम लगा दिया। वहीं कैंप की लक्ष्मी नगर में नकाबपोश बाइक सवारों ने एक घर पर ईंटें व पत्थर बरसाए। काफी देर के बाद पुलिस ने जाम खुलवाया। पुलिस ने तीनों ही मामलों में जांच शुरू कर दी है।
दुर्गा गार्डन कॉलोनी निवासी मोहित वर्मा ने बताया कि वह नशा मुक्ति अभियान चलाते हैं। जिसमें शहर के सैकड़ों युवा उनके साथ इसमें काम करते हैं। उन्होंने रामपुरा कॉलोनी में अपना कार्यालय बनाया हुआ है। बुधवार रात करीब साढ़े दस बजे उनका साथी अमित, मनोज लोहट व अन्य कार्यालय में मौजूद थे। इस दौरान कारों में सवार करीब डेढ़ दर्जन युवक वहां आए और उन्होंने वहां मौजूद साथियों पर हमला कर दिया। जिसमें अमित व दो अन्य घायल हो गए। हमलावरों ने वहां फॉयरिंग की, लेकिन वे सभी बाल बाल बच गए। शोर सुनकर जब लोग पहुंचे तो हमलावर भागने लगे। इस दौरान एक हमलावर का पिस्टल मौके पर गिर गया। जबकि एक युवक को उन्होंने दबौच लिया। पुलिस ने पहुंचकर युवक को पकड़ लिया। जबकि मिली पिस्टल भी कब्जे में ले ली। इस दौरान हमलावर एक कार वहीं छोड़ गए। जिसे लोगों ने तोड़ डाला। पुलिस को मौके से आधा दर्जन लोहे की रॉड व गंडासियां मिली है।
हमले के बाद पुलिस ने हमलावर युवक व पिस्टल कब्जे में ले ली। पुलिस इस मामले में जांच ही कर रही थी कि वीरवार नकाबपोश बदमाशों ने फिर से नशा मुक्ति अभियान के कार्यालय पर हमलाकर दिया। हमलावरों ने पूरा कार्यालय तहस नहस कर दिया। दो दिन हुईं इन वारदातों से लोगों में दहशत है और पुलिस कार्रवाई के प्रति रोष है।
कैंप के वीनानगर में बुधवार देर रात कारों में सवार होकर आए बदमाशों ने एक अन्य कार पर हमला कर दिया। हमलावरों ने कार तहस नहस कर दी और फरार हो गए। जबकि कार का चालक तभी से लापता है। वह न तो घर पहुंचा है और न ही पुलिस उस तक पहुंच पाई है। हमले का शोर सुनकर कर लोग पहुंचे और उन्होंने जमकर हंगामा किया। गस्साए लोगों ने नेशनल हाईवे पर जाम लगा दिया। देर रात पहुंची गांधी नगर पुलिस ने लोगों को समझाकर जाम खुलवाया। पुलिस ने जाम लगाने के आरोप में दो दर्जन अज्ञात लोगों पर केस दर्ज कर लिया है। जबकि कार पर हमला करने वालों का कोई सुराग नहीं लग पाया है। वहीं दूसरी तरफ लक्ष्मी नगर में भी बाइक सवार नकाबपोशों ने एक घर ईंटें बरसाई।
वीनानगर की यमुना हाई स्कूल गली निवासी अमित, बिट्टू, विनोद, संपूर्ण सिंह, जोगिंद्र, कमल, राजीव, कर्मवीर ने बताया कि दो दिन से उनकी गली में इस तरह के हमले हो रहे हैं। नकाबपोश गली में तलवारें, रॉड इत्यादि लहराते हुए शोर मचाते हैं। इस बारे मंगलवार को उन्होंने थाना फर्कपुर प्रभारी मनोज कुमार से मिलकर बात भी की थी। उन्होंने कहा था कि कॉलोनी में गश्त बढ़ा दी जाएगी। लेकिन बुधवार देर रात करीब साढ़े दस बजे कारों में सवार हो कुछ लोग आए और यहां जमकर उत्पात मचाया। उन्होंने एक गाड़ी तोड़ डाली। रोज की इन वारदातों से लोगों में दशहत हैं। देर रात गुस्साए लोगों ने नेशनल हाईवे पर जाम लगा दिया। पुलिस ने पहुंचकर जाम खुलवाया और लोगों को शांत किया। पुलिस ने रात को क्रेन मंगवाकर कार अपने कब्जे में ले ली है। जबकि कार चालक पटेल नगर निवासी हुसैन लापता है। पुलिस उसके घर पहुंची तो वह घर नहीं मिला। उसका फोन स्विच ऑफ है। गांधी नगर चौकी इंचार्ज अनिल राणा ने कहा कि जाम लगाने के आरोप में अज्ञात पर केस दर्ज कर लिया गया है। गाड़ी के मालिक का पता चल गया है। जबकि चालक का अभी कुछ पता नहीं चल पाया है। पुलिस जांच कर रही है।
... और पढ़ें

बिना वजह हार्ट स्टंट डालने का आरोप, अस्पताल के सामने प्रदर्शन

शहर के एक निजी अस्पताल के खिलाफ डीसी को दी शिकायत पर कार्रवाई नहीं होने से नाराज भारतीय किसान यूनियन ने वीरवार को अस्पताल के सामने छह घंटे प्रदर्शन किया। प्रदर्शन के दौरान प्रशासनिक अधिकारियों ने उन्हें समझाने का प्रयास किया। लेकिन वे डीसी को मौके पर बुलाने के लिए अड़े रहे।
भाकियू सुबह रेलवे रोड स्थित हार्ट केयर सेंटर के सामने पहुंचे और दरियां बिछाकर धरने पर बैठ गए। प्रदर्शन में भाकियू प्रदेशाध्यक्ष रतन मान सिंह पहुंचे। जबकि अध्यक्षता जिलाध्यक्ष सुभाषचंद गुर्जर ने की। किसानों ने अस्पताल व चिकित्सकों पर गंभीर आरोप लगाते हुए जमकर नारेबाजी की। इस दौरान थाना शहर यमुनानगर की ओर से पुलिस बल तैनात कर दिया गया। प्रदर्शन को प्रदेश व्यापार मंडल के प्रदेशाध्यक्ष महेंद्र मित्तल ने भी समर्थन दिया। इस दौरान तहसीलदार छोटू राम, एसडीएम बीबी कौशिक, सीएमओ मौके पर पहुंचे। एसडीएम ने करीब आधा घंटा प्रदर्शनकारियों को समझाया। अस्पताल के खिलाफ एसडीएम ने सीएमओ को जांच करने के आदेश दिए हैं। 15 दिन में जांच रिपोर्ट देने के आश्वासन के बाद किसान शांत हुए। करीब तीन बजे प्रदर्शन समाप्त किया।
भाकियू जिलाध्यक्ष सुभाष गुर्जर ने बताया कि 30 जनवरी दोपहर को वह शादी समारोह में शामिल होने छछरौली गया था। रात को जब वह घर पहुंचे तो उनके सीने में दर्द हुआ। जिस पर उनका भाई छत्रपाल व बेटा अनुराग उन्हें हार्ट केयर सेंटर ले आए। अस्पताल पहुंचते ही चिकित्सकों ने उन्हें आईसीयू में भर्ती कर दिया। ड्यूटी नी डॉक्टर ने उनके बेटे को कहा कि उनके पिता को हार्ट अटैक आया है। इंजोग्राफी के साथ स्टंट डालना होगा। जिस पर दो लाख रुपये खर्च आएगा। उन्होंने परिजनों को उनकी जान को खतरा बताकर डराया। हार्ट और नसें ब्लॉक होना बताकर चार लाख रुपये ले लिए। इस बारे 10 फरवरी को उन्होंने डीसी को शिकायत दी थी।
-प्रदर्शन के दौरान करीब दस अन्य लोगों ने अस्पताल के खिलाफ गंभीर आरोप लगाए। पीड़ितों ने बताया कि अस्पताल बिना किसी वजह व जरूरत के वहां आने वाले मरीज को स्टंट डाल देता है। एडवोकेट दिनेश खुराना ने बताया कि उसके पिता ओमप्रकाश खुराना को छह माह पहले स्टंट डाला गया। इसके बावजूद उनके पिता की मौत हो गई। इसके अलावा दीपांशु महेंद्रु, राजकुमार सहित अन्य लोगों ने अस्पताल पर उन्हें लाखों रुपये लेने के आरोप लगाए।
एसडीएम बीबी कौशिक ने कहा कि मामले की जांच सीएमओ को सौंप दी गई हे। 15 दिन में जांच पूरी कर रिपोर्ट जारी की जाएगी। जो तथ्य सामने आएंगे। उस आधार पर कार्रवाई की जाएगी। वहीं अस्पताल प्रबंधन से बात करने का प्रयास किया गया। मोबाइल पर मैसेज भी किया गया, लेकिन उनका पक्ष नहीं मिल सका। जवाब मिलने पर उनका पक्ष भी प्रकाशित किया जाएगा।
... और पढ़ें

चोरी के शक में युवक को बांधकर पीटा, मौत

सदर थाना क्षेत्र के गांव किशनपुर दामला में प्लाइवुड फैक्टरी के क्वार्टरों में चोरी के शक में कुछ मजदूरों ने एक युवक को पकड़ लिया और उसकी जमकर धुनाई की। इस दौरान युवक के तीन साथी मौके से फरार हो गए। मजदूरों ने पकड़े गए युवक को रस्सी से बांध दिया और उसे बुरी तरह से पीटा। सूचना पर पुलिस मौके पर पहुंची और अचेत हालत में पड़े युवक को अस्पताल में पहुंचाया। जहां डॉक्टर ने उसकी मौत होने की पुष्टि की। युवक की शनाख्त न होने पर पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम हाउस में रखवा दिया। पुलिस ने मामले में अज्ञात लोगों पर गैर इरादतन हत्या का केस दर्जकर जांच शुरू कर दी है।
किशनपुरा दामला निवासी एक व्यक्ति ने बंद पड़ेे टोल प्लाजा के क्वार्टर बना रखे हैं। जिनमें दामला के आसपास बनी फैक्ट्रियों के मजदूर रहते हैं। वीरवार अलसुबह करीब पांच बजे फैक्टरी मजदूरों के क्वार्टर में कुछ युवक घुस गए। अंदेशा था कि युवक चोरी करने के इरादे से घर में घुसे थे और चोरी कर रहे थे। शोर सुनकर मजदूरों की आंख खुल गई, तो उसने युवकों को देखकर शोर मचा दिया। जिस पर आसपास के श्रमिक एकत्र हो गए। लोगों को आता देख चारों युवक मौके से भागने लगे। इस दौरान भागते हुए एक युवक हैंडपंप के पास फिसलकर गिर गया। जिसके बाद लोगों ने उसे पकड़ लिया। जबकि तीन युवक मौके से भाग निकले। पकड़े गए युवक को मजदूरों ने रस्सियों से बांध दिया और उसकी जमकर पिटाई की। मजदूरों द्वारा युवक को पीटने की सूचना किसी ने कंट्रोल रूम में दी। जिसके बाद सदर पुलिस मौके पर पहुंची। पुलिस को युवक अचेत हालत में क्वार्टरों के बाहर गली में पड़ा मिला। उसके हाथ रस्सियों से बंधे हुए थे। उसके सिर, टांग व शरीर पर चोट के निशान थे। पुलिस ने युवक को ट्रॉमा सेंटर पहुंचाया। जहां डॉक्टर ने उसे मृत घोषित किया। देर रात तक मृतक युवक की शनाख्त नहीं हो पाई थी। आरोपियों की पहचान के लिए पुलिस क्वार्टर के मजदूरों के बयान ले रही है।
दरअसल जिन क्वार्टरों के बाहर लोगों ने युवक की चोरी के शक में पकड़कर मारपीट की। इन्हीं क्वार्टरों से एक दिन पहले 15 हजार रुपये का मोबाइल चोरी हो गया था। इससे पहले भी दामला में कई बार चोरी हो चुकी हैं। जिससे दामला के लोगों में रोष था। यहीं कारण रहा था कि वीरवार अलसुबह चोरी के शक में पकड़े युवक को उन्होंने बुरी तरह से पीट डाला।
सूचना मिलने पर सुबह पुलिस मौके पर गई थी। युवक के सिर, टांग व शरीर के अन्य हिस्सों पर चोट थी। उसके हाथ बंधे हुए थे। पुलिस ने जब उसे अस्पताल पहुंचाया तो यहां डॉक्टर ने मृत घोषित किया। मामले में अज्ञात लोगों पर गैर इरादतन हत्या का केस दर्ज कर लिया है। अभी मृतक की पहचान नहीं हो पाई है। आरोपियों की पहचान के लिए क्वार्टर के मजदूरों से पूछताछ की जाएगी।-सुखबीर सिंह, एसएचओ, थाना सदर यमुनानगर।
... और पढ़ें

बदमाशों ने असलहों के बल पर लूटे 22 हजार

केमिस्ट की दुकान से दवाई लेकर लौट रहे टीवी चैनल के पत्रकार अशीष शर्मा से गन प्वाइंट पर तीन बदमाशों ने लूट की वारदात को अंजाम दिया। बदमाश पीछे से बाइक पर सवार होकर आए। देसी कट्टा व रॉड दिखाकर मोबाइल व पर्स लूट ले गए। पर्स में 22 हजार रुपये, क्रेडिट कार्ड, चैनल आईडी व अन्य दस्तावेज थे। सूचना पर पुलिस मौके पर पहुंची और जांच की। पुलिस ने मामले में तीन अज्ञात बदमाशों के खिलाफ केस दर्जकर जांच शुरू कर दी है।
शर्मा कॉलोनी कैंप निवासी आशीष शर्मा ने बताया कि वह एक न्यूज चैनल में प्रेस रिपोर्टर है। बुधवार रात वह कैंप मार्केट में केमिस्ट की दुकान से दवाई लेने गया था। रात करीब सवा दस बजे वह वहां से दवाई लेकर पैदल पैदल ही अपने घर लौट रहा था। जब वह कैंप के सुरेंद्र पब्लिक स्कूल के नजदीक पहुंचा तो उसके पीछे से बाइक पर सवार होकर तीन बदमाश आए। इससे पहले कुछ समझ पाता बदमाशों ने उसके पास आकर बाइक रोक ली। बाइक पर सवार तीनों लड़के नीचे उतरे और उसे रोक लिया। बदमाशों में से एक के हाथ में देसी कट्टा व दूसरे के हाथ में लोहे की रॉड थी। आते ही बदमाशों ने उस पर देसी कट्टा तान कर सबसे पहले उसका मोबाइल लूट लिया। इसके बाद आरोपी उसका पर्स लूटकर वहां से फरार हो गए। उसके पर्स में लगभग 22 हजार रुपये, उसका क्रेडिट कार्ड, न्यूज चैनल का आईडी कार्ड व अन्य दस्तावेज थे। आरोपियों ने जाते समय उसे जान से मारने की धमकी भी दी। उसके शोर मचाने पर आसपास के लोग मौके पर पहुंचे। उसने इसकी सूचना पुलिस को दी। सूचना पर पुलिस मौके पर पहुंची और मामले की तफ्तीश की। पुलिस ने मामले में तीन अज्ञात युवकों के खिलाफ केस दर्जकर जांच शुरू कर दी है। जांच अधिकारी एसआई सतीश कुमार का कहना है कि मामला दर्जकर लिया गया है। जांच कर रहे है। जल्द ही आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया जाएगा।
... और पढ़ें

दुष्कर्म के केस में सजा से बचने पर की लव मैरिज, अब तीन तलाक कहकर घर से निकाला

शहर की एक कॉलोनी निवासी युवती से दुष्कर्म के केस में बचने के लिए निकाह रचाने वाले युवक ने तीन तलाक कहकर घर से निकाल दिया। महिला का आरोप है कि सजा से बचने के लिए आरोपी ने पहले उससे निकाह किया। इसके बाद दहेज की मांग को लेकर उससे मारपीट की। मांग पूरी न होने पर आरोपियों ने उसे मारपीट की और तीन तलाक कहकर रिश्ता तोड़ने की बात कहीं। पुलिस ने मामले में आरोपी पति समेत पांच लोगों पर केस दर्जकर जांच शुरू कर दी है।
शहर की एक कॉलोनी निवासी महिला ने बताया कि शादी से पहले वह सिख समुदाय से संबंध रखती थी। वर्ष 2016 में उसका पुराना हमीदा की आत्मापुरी कॉलोनी निवासी आसिफ अंसारी से प्रेम प्रसंग था। इस दौरान आरोपी ने शादी का झांसा देकर उसके साथ एक साल तक कई बार दुष्कर्म किया। लेकिन बाद में शादी करने से मना कर दिया। जिसपर उसने 21 सितंबर 2017 को शहर थाना में आरोपी के खिलाफ दुष्कर्म व जान से मारने की धमकी देने के आरोप में रिपोर्ट दर्ज करवाई। पुलिस ने उसे गिरफ्तार किया। लेकिन इसके बाद आरोपी ने उससे शादी करने की बात कहकर समझौता कर लिया। शादी करने की बात कहकर कोर्ट में उसके पक्ष में ब्यान दिलवाए। जिससे वह बरी हो गया। इसके बाद आरोपी 20 अक्तूबर 2019 को उसे शादी करने की बात कहकर छछरौली के एक गांव में ले गया। जहां उसका धर्म परिवर्तन करवाकर मुस्लिम रीति रिवाज से उसके साथ निकाह किया। निकाह के कुछ दिन बाद तक आरोपी व उसके परिजन उसे अच्छा व्यवहार करते रहे। लेकिन कुछ दिन बाद ही आरोपियों का उसके प्रति व्यवहार बदल गया। आरोपी उसे गैर धर्म व जात की होने के ताने मारने लगे और शादी में दहेज न देने पर प्रताड़ित करने लगे। आरोप है कि इस दौरान उसके पति आसिफ अंसारी, सास, देवर, ससुराल पक्ष के अन्य लोगों ने उससे मारपीट की। 25 अक्तूबर 2019 को शाम को उसके पति व अन्य ससुराल पक्ष के लोगों ने उससे अपने मायके से दहेज का सामान मंगवाया, लेकिन उसने आरोपियों को दहेज का सामान देने में असमर्थता जताई। जिसके बाद आरोपियों ने उसे मारपीट कर घर से निकाल दिया। जिसके बाद वह अपने मायके पहुंची। तीन जनवरी को उसका पति उसके मायके पहुंचा। जहां आरोपी ने उसे पुलिस को शिकायत देने पर बहस की। जिसके बाद आरोपी ने उसे हर प्रकार का संबंध तोड़ने की बात कहते हुए तीन बार तलाक कह दिया। इसके बाद आरोपी उसे जान से मारने की धमकी देकर वहां से चला गया। उसने इसकी शिकायत पुलिस को दी। पुलिस ने दहेज उत्पीड़न, मारपीट, जान से मारने की धमकी देने, मुस्लिम वुमन प्रोटेक्शन ऑफ राइट ऑन मैरिज एक्ट 2019 के तहत केस दर्जकर जांच शुरू कर दी है।
... और पढ़ें

लाइन निर्माण से कई ट्रेनों के संचालन पर पड़ेगा असर

हजरत-निजामुद्दीन-पलवल के बीच चौथी रेलवे लाइन के निर्माण की वजह से यमुनानगर-जगाधरी से गुजरने वाली कई ट्रेनों के संचालन पर असर पड़ा है। कुछ ट्रेनों को आंशकि तो कुछ को पूर्ण रूप से निरस्त किया। रेलवे के अनुसार कुछ ट्रेनों के रूट में भी बदलाव हुआ है। 23 फरवरी से लेकर एक मार्च तक इन ट्रेनों के संचालन पर असर पड़ेगा।
अंबाला डिवीजन के सीनियर डीसीएम हरिमोहन ने बताया कि दिल्ली मंडल के हजरत निजामुद्दीन-पलवल स्टेशन के बीच चौथी रेलवे लाइन का निर्माण होगा। इसके चलते फरीदाबाद रेलवे स्टेशन पर प्री-नॉल इंटरलॉकिंग एवं नॉन इंटरलॉकिंग का कार्य किया जाएगा। इस कार्य के लिए उत्तर रेलवे ने ट्रेफिक ब्लॉक लिया है, जो इसी 23 फरवरी से शुरू हो जाएगा।
गाड़ी संख्या 19325 इंदौर-अमृतसर एक्सप्रेस 28 फरवरी व गाड़ी संख्या 19326 अमृतसर-इंदौर एक्सप्रेस 29 फरवरी को नहीं चलेगी। 12904 अमृतसर-मुंबई सेंट्रल 28 व 29 फरवरी को तिलक ब्रिज, नई दिल्ली, रेवाड़ी व अलवर के रास्ते चलाई जाएगी। गाड़ी संख्या 12716 अमृतसर-हजूर साहिब नांदेड़ सचखंड एक्सप्रेस 26, 27, 28 और 29 फरवरी को अंबाला कैंट, सहारनपुर, मेरठ सिटी, खुर्जा, आगरा छावनी के रास्ते दौड़ी। गाडी संख्या 11058 अमृतसर-छत्रपति शिवाजी टमिनल मुंबई एक्सप्रेस 27 व 28 फरवरी को अंबाला, सहारनपुर, मेरठ, खुर्जा और आगरा को चलाई जाएगी। गाड़ी संख्या 12715 हजूर साहिब नांदेड़ अमृतसर सचखंड एक्सप्रेस 25, 27, 28 व 29 फरवरी को आगरा, खुर्जा, मेरठ, सहारनपुर, अंबाला के रास्ते जाएगी। गाड़ी संख्या 11057 छत्रपति शिवाजी मुंबई-अमृतसर एक्सप्रेस 24 व 25 फरवरी को आगरा, खुर्जा, मेरठ, सहारनपुर, अंबाला के रास्ते चलेगी।
होली पर घर जाने वाले यात्रियों के लिए अच्छी खबर हैं। रेलवे अगले माह से होली स्पेशल ट्रेन चलाने का निर्ण लिया। अप-डाउन में ट्रेन यमुनानगर से होकर गुजरेगी। चंडीगढ़ से चलकर स्पेशल ट्रेन गोरखपुर जाएगी। अंबाला डिविजन के सीनियर डीसीएम हरिमोहन ने बताया कि होली पर ट्रेनों में यात्रियों की अधिक भीड़ रहती है। अगले माह से होली स्पेशल ट्रेनें चलाने का फैसला किया है। दिल्ली, रेवाड़ी व अलवर के रास्ते जाएगी।
... और पढ़ें
अपने शहर की सभी खबर पढ़ने के लिए amarujala.com पर जाएं

Disclaimer

अपनी वेबसाइट पर हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर अनुभव प्रदान कर सकें, वेबसाइट के ट्रैफिक का विश्लेषण कर सकें, कॉन्टेंट व्यक्तिगत तरीके से पेश कर सकें और हमारे पार्टनर्स, जैसे की Google, और सोशल मीडिया साइट्स, जैसे की Facebook, के साथ लक्षित विज्ञापन पेश करने के लिए उपयोग कर सकें। साथ ही, अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।

Agree
Election
  • Downloads

Follow Us