विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विवाह संबंधी दोषों को दूर करने के लिए शिवरात्रि पर मल्लिकार्जुन ज्योतिर्लिंग में कराएं रुद्राभिषेक : 21-फरवरी-2020
Astrology Services

विवाह संबंधी दोषों को दूर करने के लिए शिवरात्रि पर मल्लिकार्जुन ज्योतिर्लिंग में कराएं रुद्राभिषेक : 21-फरवरी-2020

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

हरियाणा

सोमवार, 17 फरवरी 2020

अंबालाः गृह मंत्री अनिल विज के क्षेत्र में एफआईआर का रिकॉर्ड, एक दिन में 101 मामले हुए दर्ज

गृहमंत्री अनिल विज के गृह क्षेत्र छावनी में एक दिन में 101 एक जैसी धाराओं पर एफआईआर दर्ज हुई। इस तरह क्राइम का नया रिकॉर्ड अंबाला छावनी में दर्ज हो गया। जो 101 एफआईआर दर्ज हुई वह सभी भगौड़ों पर हुई हैं।

इसके अलावा चोरी, गुमशुदा, ठगी इत्यादि के केस इन एफआईआर अलग हैं। दरअसल, छावनी क्षेत्र में हुई मारपीट, छीना-झपटी, लूट-खसोट सहित अन्य आपराधिक मामलों में पकड़े गए कैदी पैरोल लेने के बाद गायब हो गए।

महीनों बीत जाने और बार-बार समन भेजने के बाद भी कैदी वापस जेल नहीं पहुंचे और न ही कोर्ट के समक्ष पेश हुए तो उन्हें कोर्ट के आदेश पर भगोड़ा घोषित कर दिया गया। अलबत्ता छावनी के अलग-अलग 3 थानों में 1 ही दिन में लगभग 101 एफआईआर दर्ज की गई। यह सब कोर्ट के आदेशों के बाद पुलिस को मजबूरी में करना पड़ा। मामला दर्ज करने के बाद घोषित किए गए भगोड़ों की तलाश में पुलिस ने छापामारी शुरु कर दी है ताकि जल्द से जल्द उन्हें कोर्ट में पेश किया जाए।

अलग-अलग थानों में दर्ज मामले
कैदी को भगोड़ा घोषित करने वाले 101 मामले छावनी के 3 थानों में दर्ज किए गए हैं। इसमें कैंट थाने में 66 एफआईआर, महेशनगर थाने में 14 एफआईआर और पड़ाव थाने में 21 एफआईआर शनिवार देर शाम तक दर्ज की गई।
... और पढ़ें

अंबाला: प्रसव पीड़ा से कराहती रही प्रसूता, फोन के आधा घंटे बाद भी नहीं पहुंची एंबुलेंस

सरकारी योजनाएं एक बार फिर धाराशाही हो गई। जब आधा घंटा तक 108 नंबर पर फोन करने के बाद भी सरकारी एंबुलेंस बस अड्डे पर नहीं पहुंची। जच्चा व बच्चा की जान खतरे में पड़ते ही अड्डा इंचार्ज विजेंद्र ने इंसानियत का फर्ज निभाया और गर्भवती महिला को अपनी कार से कर्मचारी सहित छावनी सिविल अस्पताल भेजा। यहां महिला ने बच्ची को जन्म दिया लेकिन कुछ देर बाद ही कर्मचारियों की लापरवाही के कारण महिला नवजात को लेकर अस्पताल से खिसक गई।

आधे घंटे तक नहीं आई एंबुलेंस
हालात उस समय खराब हो गए जब महिला बस अड्डा परिसर में ही बेसुध हो गई। मौके पर पहुंचे अड्डा इंचार्ज ने बिना देरी किए प्राइवेट गाड़ी का बंदोबस्त किया। अस्पताल पहुंचते ही महिला का उपचार शुरु कर दिया गया। नवजात के जन्म के बाद दोनों की डॉक्टरों द्वारा निगरानी की जा रही है। 

सुबह मांगे दस्तावेज
महिला के पति ने बताया कि वह काम के सिलसिले में एक स्थान से दूसरे स्थान पर घूमते रहते हैं। सुबह लगभग 9 बजे वह पहले छावनी सिविल अस्पताल गए थे लेकिन यहां उनसे पहले पहचान व अन्य कागज मांगे गए जो उनके पास नहीं थे। इसलिए अस्पताल में मौजूद कर्मचारियों ने उपचार करने से मना कर दिया और वह वापस लौट आए।
... और पढ़ें

4.80 लाख का इनामी राजू बसौदी थाईलैंड से लाया गया, एसटीएफ ने दिल्ली एयरपोर्ट से किया काबू

एसटीएफ ने 4.80 लाख के इनामी कुख्यात राजू बसौदी को थाईलैंड से आते ही दिल्ली एयरपोर्ट से काबू कर लिया है। कुख्यात राजू बसौदी 13 हत्या व चार हत्या के प्रयास समेत 30 मामलों में नामजद था। राजू बसौदी फिलहाल लारेंस बिश्नोई, संपत नेहरा व काला जठेड़ी के गैंग को थाईलैंड में रहकर चला रहा था। गैंग हरियाणा, पंजाब व दिल्ली में दहशत फैलाकर उगाही जुटाने में लगा है।

गैंग के सदस्य आतंकवादियों की तरह वारदात को अंजाम देने के बाद उसे सोशल मीडिया पर अपलोड कर इसकी जिम्मेदारी लेते हैं और दहशत फैलाने में लगे हैं। राजू बसौदी को एसटीएफ ने राई थाने के फिरौती मांगने के मामले में काबू कर सोनीपत अदालत में पेश किया। आरोपी को अदालत ने दस दिन के रिमांड पर लेकर पूछताछ शुरू कर दी है।

एसटीएफ सोनीपत इकाई के प्रभारी सतीश देशवाल ने बताया कि गांव छोटी बसौदी का रहने वाला राजकुमार उर्फ राजू बसौदी लगातार वारदात कर रहा था। वह अपने साथी अक्षय पलड़ा के साथ मिलकर कई वारदातों को अंजाम दे चुका था। कुछ साल से वह राजस्थान के शातिर बदमाश लारेंस बिश्नोई व संपत नेहरा गैंग से जुड़कर लगातार अपराध कर रहा था।

आरोपी की गिरफ्तारी पर हरियाणा व दिल्ली पुलिस ने 4.80 लाख रुपये का इनाम घोषित कर रखा था। आरोपी एसटीएफ की हिट लिस्ट में शामिल था। एसटीएफ ने आरोपी को लेकर लुकआउट नोटिस जारी कर रखा था। सतीश देशवाल ने बताया कि शनिवार को दिल्ली एयरपोर्ट से मिली जानकारी के बाद उसे वहां से गिरफ्तार कर लिया गया।
... और पढ़ें

बजट : शिवालिक क्षेत्र की सिंचाई योजनाओं को मिले स्वीकृति, मुख्यमंत्री को भेजा ज्ञापन

हरियाणा के आगामी बजट से शिवालिक क्षेत्र को भी बड़ी उम्मीदें हैं। 2020-21 के बजट में शिवालिक क्षेत्र के लोग प्रस्तावित सिंचाई योजनाओं के लिए स्वीकृति चाह रहे हैं। शिवालिक विकास मंच के अध्यक्ष विजय बंसल ने मुख्यमंत्री मनोहर लाल को ज्ञापन भेजकर अनेक रुकी हुई परियोजना के लिए बजट में राशि मंजूर करने की मांग की है। विजय बंसल का कहना है कि केंद्र व राज्य में भाजपा की सरकार है।

केंद्र में जन संसाधन मंत्री रतनलाल कटारिया व प्रदेश कैबिनेट में 2 मंत्री शिवालिक क्षेत्र के होने के बावजूद इलाके की सिंचाई योजनाएं ठप पड़ी हैं। इसलिए बजट सत्र में शिवालिक क्षेत्र के किसानों के लिए अंबाला-नारायणगढ़ सिंचाई नहर परियोजना को स्वीकृति दी जाए। यह योजना 2006 में मंजूर हुई थी। यह नहर जिला यमुनानगर के ताजेवाला से बिलासपुर, साढौरा और नारायणगढ़ से होती हुई जिला पंचकूला के रायपुरानी तक पहुंचनी थी। हरियाणा सरकार ने 431 करोड़ की योजना का प्रस्ताव केंद्रीय जल आयोग को मंजूरी के लिए भेजी थी।

यहां भूमिगत पानी का स्तर काफी नीचे है। किसानों के पास थोड़ी-थोड़ी जमीनें हैं। इस नहर के निर्माण से हजारों एकड़ भूमि की सिंचाई होनी है। योजना से शिवालिक क्षेत्र के हजारों किसानों को फायदा होगा। बंसल ने मांग की है कि शिवालिक क्षेत्र के जिला पंचकूला में दिवानवाला, डगराना, खेतपुराली, छामला सिंचाई बांधों का निर्माण करने की स्वीकृति देकर बजट आवंटित किया जाए  ताकि निर्माण शुरू हो सके। इनका प्रस्ताव केंद्र सरकार की घग्गर स्टैंडिंग कमेटी के पास विचाराधीन है। शिवालिक विकास बोर्ड द्वारा 1993 से 2008 तक किसानों को सिंचाई ट्यूबवेल के लिए अनुदान दिए गए, लेकिन 2008 में तत्कालीन सरकार ने अनुदान देना बंद कर दिया। भाजपा सरकार से मांग है कि किसानों के हित में सिंचाई ट्यूबवेल के लिए दोबारा अनुदान देना शुरू किया जाए।
... और पढ़ें
irrigation irrigation

दिल्ली से कटड़ा जा रही हरियाणा रोडवेज की बस हादसाग्रस्त, चालक-परिचालक की मौत, सात गंभीर घायल

रविवार (16 फरवरी) सुबह करीब चार बजे जालंधर-पठानकोट राष्ट्रीय राजमार्ग पर मुकेरियां के कस्बा भंगाला के जंडवाल मोड़ पर हरियाणा रोडवेज की बस संतुलन बिगड़ने से सफेदे के पेड़ से जा टकराई। हादसे में बस चालक व कंडक्टर की मौके पर ही मौत हो गई। जबकि बस में सवार कुल 8 यात्री बुरी तरह से घायल हो गए जिन्हे सिविल अस्पताल मुकेरियां में भर्ती करवाया गया।

जानकारी के अनुसार हरियाणा रोडवेज की बस (एचआर-67 बी 9586) दिल्ली से कटड़ा जा रही थी। बस होशियारपुर के जंडवाल मोड़ पर पहुंची तो उसका संतुलन बिगड़ गया और सड़क किनारे सफेदे के पेड़ से जा टकराई। हादसे में बस चालक सलीमदीन (45) निवासी सोनीपत व कंडक्टर कृष्ण कुमार (42) पुत्र सुखवीर निवासी गांव मनाना, पानीपत की मौके पर ही मौत हो गई। टक्कर इतनी जोरदार थी कि बस बुरी तरह क्षतिग्रस्त हो गई। वही काफी मुश्किल से शवों को बाहर निकाला गया | 

घायलों में सन्नी (25) पुत्र ओमप्रकाश निवासी रानी तला जम्मू , डैनजन (21) पुत्री डिने निवासी लद्दाख , शामलाल (20) पुत्र अमरनाथ निवासी मनूल कटड़ा ,नोवजन (27) पुत्र टैसी निवासी लद्दाख ,सहवाग (21) पुत्र दोरेन निवासी लश्कर जिला कारगिल ,चारु राम (27) पुत्र व्यास देव निवासी रैली चम्बा हिमाचल, शिवशंकर (30) पुत्र जग्गू निवासी गया बिहार गंभीर रूप से घायल हैं। जिन्हें मुकेरियां के अस्पताल में भर्ती करवाया गया। हादसे की खबर मिलते ही एसडीएम अशोक शर्मा ,तहसीलदार जगतार सिंह ,डीएसपी रविन्द्र सिंह थाना प्रभारी सतिन्द्र सिंह धारीवाल मौके पर पहुंचे। पुलिस घटनास्थल कर पहुंच मामले की जांच कर रही है।
... और पढ़ें

रैली में सीएम मनोहर लाल ने घोषणाओं की लगाई झड़ी, बोले- हर शख्स का बीमा कराएगी सरकार

दूसरी बार हरियाणा के सीएम बनने के बाद मनोहर लाल ने रैलियों का सिलसिला शुरू कर दिया है। इस दौरान सीएम मनोहर लाल महेंद्रगढ़ पहुंचे। यहां उन्होंने दौंगड़ा अहीर में एक जनसभा को संबोधित किया। रैली में सामाजिक न्याय अधिकारिता मंत्री ओमप्रकाश यादव, नांगल चौधरी विधायक अभय सिंह यादव, अटेली के विधायक सीताराम यादव, पूर्व मंत्री रामबिलास शर्मा शामिल हुए। रैली को संबोधित करते हुए सीएम ने अपने पहले कार्यकाल की कल्याणकारी योजनाओं का उल्लेख किया तो वहीं इस कार्यक्रम को लेकर तमाम घोषणाएं की।
  
सीएम की घोषणाएं-
  • प्रदेश के सभी लोगों का दो लाख रुपये का बीमा प्रदेश सरकार कराएगी।
  • छह करम के सभी रास्तों को पीडब्ल्यूडी बनाएगी।
  • तीन, चार और पांच करम के रास्तों का निर्माण मार्केटिंग बोर्ड कराएगा।
  • हर वर्ष हर विधानसभा में 50 किलोमीटर छह करम की सड़कों का निर्माण होगा।
  • हर वर्ष 25 किलोमीटर तीन, चार और पांच करम की सड़कें बनेंगी।
  • 1.80 लाख तक की आय वाले सभी परिवारों को छह हजार रुपये प्रतिवर्ष देंगे।
  • प्रदेश के सभी गांव लाल डोरे से मुक्त किए जाएंगे।
  • अटेली क्षेत्र में रेलवे ओवरब्रिज के लिए 25 करोड़ रुपये मंजूर।
  • रघुनाथपुरा गोशाला का खर्च पुलिस मंदिर कमेटी से करेगी।
  • माइक्रो इरीगेशन के लिए 20 करोड़ रुपये।
  • नहरों के निर्माण के लिए करीब 40 करोड़ रुपये मंजूर।
  • शहरों को आबादी के अनुसार ग्रांट दी जाएगी।
  • चतुर्थ श्रेणी की 18500 नौकरियों में खाली हुए पद वेटिंग वालों से भरे जाएंगे।
... और पढ़ें

करनाल में अलग-अलग सड़क हादसों में तीन लोगों ने गंवाई जान, गंभीर हालत में दो पीजीआई रेफर

करनाल में तीन अलग-अलग हादसों में तीन लोगों की जान चली गई, जबकि दो गंभीर रूप से घायल हो गये हैं, जिन्हें पीजीआई चंडीगढ़ रेफर किया गया है। मरने वालों में एक पंजाब के गांव मीरापुर जिला पटियाला और दूसरा कुरुक्षेत्र का रहने वाला है, जबकि एक मृतक की पहचान नहीं हो पाई है। पुलिस ने मामलों में आरोपियों के खिलाफ केस दर्जकर लिया है। 

कैंटर ने पीछे से मारी टक्कर, फिर कुचलने से एक की मौत
गांव मीरापुर जिला पटियाला (पंजाब) निवासी कर्मजीत ने बताया में बताया कि वे आइसर 1110 गाड़ी से अपने गांव निवासी कुलदीप को साथ लेकर दिल्ली से पटियाला जा रहे थे। वे गाड़ी को चला रहा था। रविवार की रात करीब एक बजे जब वे तरावड़ी-पधाना पुल से आगे जीटी रोड पर जा रहे थे तो पीछे से एक कैंटर चालक ने उनकी गाड़ी को टक्कर मार दी। पीछे से गाड़ी की टक्कर लगने के कारण उसकी गाड़ी में बैठा कुलदीप सिंह उछलकर गाड़ी के नीचे गिर गया और उनकी गाड़ी टक्कर लगने के कारण डिवाइडर कूदकर दूसरी साइड चली गई। 

गाड़ी के अगले पहिये दूसरी साइड सड़क पर व पिछले पहिये डिवाइडर में फंस गये। उसके साथी कुलदीप सिंह के ऊपर पिछली गाड़ी का पहिया चढ़ गया। इस हादसे में कुलदीप सिंह की मौके पर ही मौत हो गई। उसे भी काफी चोटें लगी। एएसआई कृष्ण कुमार ने बताया कि पुलिस ने शिकायत के आधार पर टक्कर मारने वाली गाड़ी के चालक स्वर्ण सिंह के खिलाफ लापरवाही का केस दर्ज किया है।
... और पढ़ें

कोरोना वायरस: हरियाणा की साइंस इंडस्ट्री को झटका, चीन से आयात बंद, महंगे हुए कलपुर्जे

सांकेतिक तस्वीर।
चीन में कोरोना वायरस का असर अब लगभग दो महीने बाद विश्व में सबसे बड़ी हरियाणा की साइंस इंडस्ट्री पर पड़ने लगा है। साइंस उपकरणों में डील करने वाले प्रदेश व देश के ट्रेडर्स का चीन निर्मित पुर्जों और उपकरणों का स्टॉक  खत्म होने लगा है। चीन में करोड़ों के आर्डर फंसे हुए हैं और आयात भी ठप है। जो पुर्जे अभी ट्रेडर्स के स्टॉक में उपलब्ध हैं, उनकी कीमतें दस से पंद्रह फीसद तक बढ़ चुकी हैं।

मौजूदा स्थिति पर साइंस उद्यमियों का कहना है कि  पुर्जों को यूरोपियन देशों से मंगवाना पड़ सकता है, जिससे उपकरण और महंगे हो सकते हैं। यदि ऐसा हुआ इसका असर उपभोक्ताओं की जेब पर पड़ेगा।

तैयार होते हैं 10 हजार से ज्यादा उपकरण, 15 देशों में निर्यात
हरियाणा की साइंस, रिसर्च एवं मेडिकल उपकरणों की इंडस्ट्री विश्व में सबसे बड़ी है। अंबाला और भिवानी सबसे ज्यादा औद्योगिक इकाइयां है। सूबे में 10 हजार से ज्यादा साइंस, रिसर्च एवं मेडिकल उपकरण तैयार होते हैं। जिन्हें देश के साथ-साथ खाड़ी देशों समेत यूरोप, अमेरिका व आस्ट्रेलिया के 15 से अधिक देशों में निर्यात किया जाता है। 
... और पढ़ें

अब सुषमा स्वराज के नाम से मशहूर होगा अंबाला बस अड्डा, कॉलेज का भी होगा नामकरण

परिवहन मंत्री मूल चंद शर्मा ने कहा कि अंबाला शहर का बस अड्डा प्रदेश का पहला ऐसा बस अड्डा है जिसका नाम पूर्व विदेश मंत्री स्वर्गीय सुषमा स्वराज के नाम पर रखा गया है। अब यह बस अड्डा सुषमा स्वराज बस अड्डा के नाम से जाना जायेगा। प्रदेश में अगले 6 महीने में 1500 नई बसें शामिल की जायेंगी, जिनमें पिंक बसें व वोल्वो भी शामिल हैं।

परिवहन मंत्री मूलचंद शर्मा ने अंबाला शहर के नवनिर्मित बस अड्डे का नामकरण करने के उपरांत लोगों को संबोधित करते हुए यह बात कही। इससे पहले यहां पंहुचने पर पुलिस की एक टुकड़ी ने परिवहन मंत्री को सलामी दी। मंत्री ने कहा कि 18 करोड़ रुपये की लागत से इस बस स्टैंड का निर्माण कार्य किया गया है। बहन सुषमा स्वराज के नाम से बस स्टैंड का नामकरण किया गया है जोकि गर्व की बात है।

बल्लभगढ़ में महिला कॉलेज का नाम रखा जाएगा सुषमा स्वराज
उन्होंने कहा कि सुषमा स्वराज एक राजनैतिक यूनिवर्सिटी रही हैं, उन्होंने देश को बहुत बड़े नेता, सांसद दिए हैं। विपक्ष में रहते हुए भी उन्होंने देश व प्रदेश के लिए ऐतिहासिक कार्य किए हैं। पूरी दुनिया व देश उनके द्वारा किए गये कार्यों से भली-भांति परिचित है। उन्होंने कहा कि जिस प्रकार से आज उनके नाम से बस स्टैंड का नाम रखा गया है, उसी प्रकार बल्लभगढ़ में भी बहुत बड़े महिला कॉलेज का नाम भी सुषमा स्वराज के नाम से रखा जायेगा।

बसें गरीब वर्ग का जहाज
प्रदेश में वर्तमान समय में रोडवेज में 3600 बसें हैं, जिनमें से 3200 बसें रोड पर चल रही हैं। समय के अनुरूप प्रदेश में 4500 बसों की जरूरत है। बसें गरीब वर्ग का जहाज हैं। उन्होंने कहा कि लोगों को बेहतर से बेहतर परिवहन सुविधाएं उपलब्ध करवाने की दिशा में काम किये जा रहे हैं।
... और पढ़ें

Pics: मातम में बदला माहौल, जब एक साथ जलीं चार मासूमों की चिताएं, रो पड़ा हर शख्स

अभय चौटाला का प्रदेश सरकार पर हमला, बोले- हरियाणा में कोरोना वायरस की तरह फैल रहा नशा

नशे को लेकर केंद्रीय गृह मंत्री के जीरो टॉलरेंस वाले बयान का इनेलो नेता अभय सिंह चौटाला ने स्वागत करते हुए कहा कि नशे के व्यापार ने हरियाणा के युवाओं को बुरी तरह से अपनी गिरफ्त में ले रखा है। हरियाणा के उन जिलों में जो पंजाब की सीमा के साथ लगते हैं उनमें नशे का धंधा कोरोना वायरस की तरह अपने पैर मजबूत कर रहा है।

ऐसे में तो एक दिन हरियाणा भी ‘उड़ता हरियाणा’ के नाम से बदनाम हो जाएगा। केंद्रीय गृह मंत्री ने कहा है कि नशे के धंधे को समाप्त करने के लिए भाजपा वचनबद्ध है। परंतु केंद्रीय गृह मंत्री के बयान के विपरीत हरियाणा सरकार इस धंधे पर लगाम कसने में नाकाम साबित हो रही है।

इनेलो नेता ने कहा कि नशे के व्यापार के बारे वह मुख्यमंत्री व प्रदेश के ग्रह मंत्री को चिट्ठी लिखकर भी सूचित कर चुके हैं कि उनके हलके ऐलनाबाद में चुनाव के दौरान और अब भी नशे का व्यापार धड़ल्ले से चल रहा है। इनेलो नेता ने कहा कि पुलिस छोटे-छोटे नशाखोरों को पकड़ कर अपनी कारगुजारी दिखाकर सरकार की आंखों में धूल झोंक रही है।

नशे का धंधा करने वाले बड़े मगरमच्छों पर हाथ डालना पुलिस के बस की बात नहीं है। उनके अनुसार हरियाणा के आगामी विधानसभा बजट स्तर में इस मुद्दे को जोरदार ढंग से उठाया जाएगा। नशे के धंधे को बंद करवाने के लिये इनेलो हरियाणा में आम आदमी को गांव-गांव जाकर जागरुक करेगी, अगर आवश्यकता हुई तो प्रदेश स्तर पर हर गली, मोहल्ले में आंदोलन भी चलाया जाएगा।
... और पढ़ें

'एयरफोर्स में यूपी के बाद सबसे ज्यादा हरियाणा के अफसर, अभिभावक साथ दें तो हम हों नंबर-1'

मैं हरियाणा का हूं और खेल और फौज का गुण मेरे हरियाणा के युवाओं के डीएनए में हैं। यही वजह है कि दोनों में हम आगे रहते हैं। एयरफोर्स में भी यूपी के बाद सबसे ज्यादा हरियाणा के अफसर हैं, लेकिन अगर अभिभावक प्रयास करें और साथ दें तो यहां भी हम नंबर-1 हो सकते हैं। यह कहना है कि एयर वाइस मार्शल एलएन शर्मा का। उन्होंने कहा कि हरियाणा के ज्यादा से ज्यादा युवा सेना में जाएं।

माता-पिता को भी बच्चों को इसके लिए मोटिवेट करना चाहिए। भर्ती परीक्षाओं में एग्जाम दिलाएं। उन्हें फौज में अफसर बनने का सपना अभिभावकों को खुद दिखाना होगा। राष्ट्रपति से अति विशिष्ट सेवा मेडल मिलने पर करनाल की सामाजिक संस्थाओं द्वारा कार्यक्रम में उन्हें भी सम्मानित किया गया। एलएन शर्मा ने कहा कि भारतीय सेना दुश्मन देश के हर हमले का मुंहतोड़ जवाब देने में सक्षम है। आज सेना के पास हर वो तकनीक व हथियार हैं जो किसी सक्षम देश के पास होने चाहिए। उन्होंने कहा की हरियाणा वीर सैनिकों की भूमि है। 

मैं किसान का बेटा हूं, पिता ने मेहनत कर मुझे पढ़ाया 
पलवल के छज्जूनगर गांव में रहने वाले एलएन शर्मा बोले, मैं किसान का बेटा हूं। पिता पंडित ओमप्रकाश शर्मा और मां रामदेवी ने मेहनत से उन्हें पढ़ाया। उन्हीं की प्रेरणा थी जो आज इस मुकाम तक पहुंचे। उन्होंने बताया कि 1984 में कुरुक्षेत्र विश्वविद्यालय से उन्होंने एमए इंग्लिश की पढ़ाई की थी। इसके बाद 1985 में एयरफोर्स ज्वाइन किया। 1986 में पायलट अफसर की ट्रेनिंग हुई। इसके बाद प्रमोट होते हुए अब करीब 35 साल की सेवाओं आज एयर वाइस मार्शल हैं। 
... और पढ़ें

किचन का खर्च हुआ महंगा, एक महीने में बढ़ा 1000 रुपये का बोझ, गड़बड़ा रहा बजट

थोक कीमतों पर महंगाई का असर सीधेे किचन पर पड़ा है। एक महीने के भीतर किचन में प्रयोग होने वाली खाद्य वस्तुओं की कीमतें बढ़ने से लगभग 1000 रुपये का अतिरिक्ति बोझ पड़ा है। करियाना (ग्रॉसरी) के दामों में भी 25 से 30 प्रतिशत की बढ़ोतरी हुई है। इससे मध्यम वर्ग का बजट गड़बड़ा गया है।

थोक कीमतों पर आधारित महंगाई दर जनवरी 2020 में बढ़कर 3.1 प्रतिशत दर्ज हुई है। यह बढ़ोतरी गुजरे 9 महीने में महंगाई दर का सबसे ऊंचा स्तर है। आर्थिक विशेषज्ञों का कहना है कि महंगाई दर में यह इजाफा आलू-प्याज जैसी जरूरी खाने पीने की चीजों के दाम बढ़ने के कारण हुई है। जनवरी 2020 में जिस खाद्य वस्तु के दाम 65 रुपये थे, वही एक माह बाद फरवरी में बढ़कर 85 रुपये पहुंच गए हैं।

80 रुपये बढ़े मिर्च के दाम
खाद्य वस्तुओं में शामिल लाल मिर्च के दामों में भी एक माह में अप्रत्याशित वृद्धि हुई है। जनवरी 2020 में साबुत लाल मिर्च की कीमत 150 रुपये किलो थी, जो फरवरी में 80 रुपये बढ़कर 230 रुपये तक पहुंच गई है। मिर्च में इस तेजी को लेकर व्यापारी भी असमंजस में हैं।

1200 रुपये बढ़े छोटी इलाइची के दाम
महंगाई का आलम यह है कि आमतौर पर माउथ फ्रेशनर और मसाले में खुशबू के लिए प्रयोग की जानेे वाली छोटी इलाइची के दामों में एक माह के भीतर 1200 रुपये की बढ़ोतरी हुई है। जनवरी में 3500 रुपये इसकी कीमत थी, जो अब बढ़कर 4700 रुपये किलो पहुंच गई है।
... और पढ़ें
अपने शहर की सभी खबर पढ़ने के लिए amarujala.com पर जाएं

Disclaimer

अपनी वेबसाइट पर हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर अनुभव प्रदान कर सकें, वेबसाइट के ट्रैफिक का विश्लेषण कर सकें, कॉन्टेंट व्यक्तिगत तरीके से पेश कर सकें और हमारे पार्टनर्स, जैसे की Google, और सोशल मीडिया साइट्स, जैसे की Facebook, के साथ लक्षित विज्ञापन पेश करने के लिए उपयोग कर सकें। साथ ही, अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।

Agree
Election
  • Downloads

Follow Us

विज्ञापन