विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

From nearby cities

हिमाचल सरकार का लॉकडाउन में अभी ढील देने का कोई विचार नहीं: मुख्य सचिव

हिमाचल प्रदेश सरकार लॉकडाउन में अभी कोई ढील नहीं देगी। राज्य में कोरोना वायरस के पॉजिटिव मामलों के लगातार बढ़ने पर सरकार का रवैया सख्त ही रहेगा।

8 अप्रैल 2020

विज्ञापन
विज्ञापन

चम्बा

बुधवार, 8 अप्रैल 2020

हिमाचल प्रदेश के डीजीपी की कोरोना पॉजिटिव को हिदायत, 'अगर दूसरे पर थूका तो दर्ज होगा हत्या के प्रयास का केस'

टांडा में खराब हो गए चंबा से भेजे 11 संदिग्धों के सैंपल

स्वास्थ्य विभाग की ओर से तीसा से टांडा भेजे गए 11 लोगों के नमूने टांडा मेडिकल कॉलेज की प्रयोगशाला में खराब हो गए। इसके चलते रविवार को स्वास्थ्य विभाग की टीम ने दोबारा से उन 11 लोगों के खून के सैंपल लेकर टांडा भेजे हैं। हालांकि शनिवार रात को पहले भेजे गए सैंपलो की रिपोर्ट चंबा आनी थी। लेकिन टांडा की लैब में खराबी आने की वजह से इसकी रिपोर्ट नहीं बन पाई।

इसके चलते टांडा मेडिकल कॉलेज से चंबा अस्पताल प्रबंधन को सूचना दी गई कि भेजे गए 11 लोगों के खून के सैंपल खराब हो गए हैं। इसलिए दोबारा से खून के सैंपल भेजने की व्यवस्था की जाए। अब सोमवार रात तक इन सैंपलो की रिपोर्ट आने की उम्मीद है। जबकि शनिवार को चंबा से भेजे गए अतिरिक्त चार सैंपलो की रिपोर्ट सोमवार सुबह चंबा पहुंच जाएगी। इसमें पता लग जाएगा कि ये लोग कोरोना संक्रमण से पॉजिटिव हैं या निगेटिव। 

मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ. राजेश गुलेरी ने बताया कि तीसा से जिन 11 लोगों के सैंपल भेजे थे। वह सभी सैंपल टांडा की लैब में खराबी आने के कारण खराब हो गए। इसके चलते दोबारा से सैंपल भेजे गए हैं। इसकी रिपोर्ट सोमवार देर शाम तक चंबा आने की उम्मीद है।
... और पढ़ें

सलूणी में नाके के दौरान पुलिस ने कार से पकड़ी दो पेटी शराब

संवाद न्यूज एजेंसी
चंबा। विकास खंड सलूणी में कर्फ्यू के दौरान पुलिस ने नाके में कार से दो पेटी शराब की पकड़ी है। पुलिस ने आरोपी चालक के खिलाफ केस दर्ज कर छानबीन शुरू कर दी है।
जानकारी के अनुसार शनिवार शाम को डीएसपी सलूणी राम करण की अगुवाई में पुलिस टीम ने नाका लगाया था। इस दौरान वहां से आने जाने वाले वाहन चालकों से पूछताछ कर रही थी। कर्फ्यू के दौरान वाहनों की आवाजाही पर रोक लगाई गई है। कर्फ्यू पास या मरीजों को लेकर जा रहे वाहनों को ही आने जाने की अनुमति दी जा रही है।
इस दौरान कार जोकि धारगला से सलूणी की तरफ आ रही थी, उसे पुलिस दल ने चेकिंग के लिए रोका गया। गाड़ी की तलाशी के दौरान कार के भीतर से दो पेटी शराब बरामद की गई। जबकि कर्फ्यू और धारा 144 के चलते जिले में शराब की बिक्री पर रोक लगाई गई है।
पुलिस ने कार चालक वीरेंद्र कुमार के खिलाफ पुलिस थाना किहार में हिमाचल प्रदेश आबकारी अधिनियम की धारा 39(1) ए के अंतर्गत मुकदमा दर्ज किया गया है। पुलिस मामले की कार्रवाई को अंजाम दे रही है।
डीएसपी रामकरण राणा ने बताया कि सलूणी में नाके के दौरान कार से दो पेटी शराब बरामद की है। चालक के खिलाफ केस दर्ज किया गया है। शराब सहित अन्य नशे की तस्करी करने वालों के खिलाफ पुलिस सख्त कार्रवाई करेगी।
... और पढ़ें

एसपी ने की सभी समुदायों के प्रतिनिधियों के साथ बैठक

चंबा। पुलिस अधीक्षक कार्यालय परिसर चंबा में सभी धर्मों के प्रतिनिधियों के साथ एसपी चंबा ने बैठक का आयोजन किया। बैठक के दौरान पुलिस अधीक्षक चंबा डॉ. मोनिका ने सभी समुदाय के लोगों से बातचीत करते हुए कोरोना वायरस से संबंधित विषय पर विचार-विमर्श किया।
उन्होंने सभी प्रतिनिधियों से आग्रह किया गया कि वह अपने समुदाय के लोगों को जागरूक करें, कि हमें साथ मिलकर इस महामारी से लड़ना है। इसमें जनता के सहयोग की आवश्यकता है और कोई भी ऐसी पोस्ट सोशल मीडिया पर पोस्ट न करें या कोई भी ऐसी अफवाह न फैलाएं, जिससे कि समाज में अशांति फैलने का अंदेशा हो।
उन्होंने बताया कि इसके साथ ही सभी समुदायों के लोगों का एक व्हाट्सऐप ग्रुप भी बनाया गया है। इससे कोरोना वायरस से संबंधित जानकारी को बिना किसी विलंब के साझा किया जा सके।
... और पढ़ें

24 घंटों से अपने परिवारों के साथ घरों से बाहर नहीं निकले ग्रामीण

चंबा। चुराह में चार जमातियों के कोरोना पॉजिटिव आने के बाद पूरे क्षेत्र को सील कर दिया है। इसको लेकर प्रशासन ने क्षेत्र की ओर जाने वाली सभी सड़कों को ड्रम लगाकर बंद कर दिया है। बुधवार को प्रशासन ने इस प्रक्रिया को अंजाम दिया।
इसके साथ ही क्षेत्र में चप्पे-चप्पे पर पुलिस बल तैनात है। इसके अलावा ड्रोन से हर गतिविधि पर नजर रखी जा रही है। इस दौरान ग्रामीणों ने भी प्रशासनिक आदेशों की पालना करते हुए घरों से बाहर निकलने के बजाए घरों में ही रहना मुनासिब समझा। कुल मिला कर तीसा, सलूणी और साहो क्षेत्रों के तहत 29 पंचायतों के सीज होने से क्षेत्र में पूरी तरह से सन्नाटा परस गया है।
केवल मात्र नाकों पर ड्यूटी दे रहे पुलिस जवान ही देखने को मिले। वहीं, पुलिस की टीमें जगह-जगह पर लगाए गए नाकों पर तैनात हैं। इसके अलावा लोगों की हिफाजत और उन पर नजर रखने के लिए ड्रोन की मदद ली जा रही है।
प्रशासन ने साफ किया है कि लोगों की सुरक्षा को देखते हुए क्षेत्र को आगामी निर्देशों तक सीज रहने दिया जाएगा। बुधवार को तीसा, सलूणी और साहो क्षेत्र के तहत खाद्य सामग्री, दवाई, होटल, ढाबे और बैंकों सहित अन्य संस्थान बंद रहे।
जिलाधीश चंबा विवेक भाटिया ने बताया कि साहो क्षेत्र की 14 पंचायतों को प्रशासनिक आदेशों तक सीज रखने के आदेश दिए गए हैं। उन्होंने कहा कि ग्रामीणों को जरूरत का हर सामान घर-द्वार पर मुहैया करवाया जाएगा।
... और पढ़ें

साहो क्षेत्र से लिए 27 सैंपलो में से 26 की रिपोर्ट आई नेगेटिव

चंबा। साहो क्षेत्र से लिए गए 27 लोगों के सैंपल की जांच रिपोर्ट आ गई है। इसमें 26 लोगों के सैंपल की रिपोर्ट निगेटिव आई है जबकि एक सैंपल की टांडा में दोबारा जांच हो रही है। इसकी रिपोर्ट देर शाम तक चंबा पहुंचने की उम्मीद है।
इसके अलावा चुुराह से लिए 35 लोगों के सैंपल की रिपोर्ट भी बुधवार देर रात को चंबा पहुंचेगी। कांगड़ा के रहने वाला जो जमाती कोरोना पॉजिटिव आया था, वह 17 से 20 मार्च तक साहो क्षेत्र में रहकर गया था। इस दौरान उसके संपर्क में 27 लोग आए थे। जैसे ही जमाती की रिपोर्ट पॉजिटिव आई।
चंबा में जिला प्रशासन और स्वास्थ्य विभाग ने मुस्तैदी दिखाते हुए, सबसे पहले साहो क्षेत्र को सील कर दिया। इसके अलावा जमाती के संपर्क में आए सभी लोगों को तलाशना शुरू कर दिया।
छानबीन करने के बाद पता चला कि कुल 27 लोग उसके संपर्क में आए थे। इसके चलते स्वास्थ्य विभाग ने उन सभी लोगों को होम क्वारंटीन रखा है। इस दौरान लोगों को घर से बाहर न जाने की सख्त हिदायत दी गई।
इसके साथ ही उनके खून के सैंपल लेकर जांच को टांडा मेडिकल कॉलेज भेजे गए थे। बुधवार को टांडा से सैंपल की रिपोर्ट चंबा पहुंच गई है। इसमें चंबा के लिए राहत की खबर है। क्योंकि 27 लोगों में से 26 के सैंपल निगेटिव आई है। जबकि एक सैंपल की दोबारा से टेस्टिंग की जा रही है।
मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ. राजेश गुलेरी ने बताया कि साहो क्षेत्र से लिए 27 लोगों के सैंपल में 26 सैंपलों की रिपोर्ट निगेटिव आई है। जबकि एक सैंपल की दोबारा से टेस्टिंग की जा रही है। इसके अलावा चुराह से लिए 35 सैंपल की रिपोर्ट देर रात चंबा पहुंचेगी।
... और पढ़ें

पुलिस ने राहगीर व दुकान से पकड़ी 32 बोतल अवैध शराब

चंबा। जिला मुख्यालय से पांच किमी की दूर भद्रम में गश्त के दौरान पुलिस ने राहगीर से शराब की आठ बोतलें पकड़ी है। इसके अलावा द्रड्डा पुलिस चौकी की टीम ने रिंडा गांव में दुकान से दो पेटी शराब बरामद की है।
दुकानदार और राहगीर के खिलाफ पुलिस ने आईपीसी की धारा 188 और हिमाचल प्रदेश आबकारी अधिनियम की धारा 39 (1) ए के अंतर्गत केस दर्ज किए हैं।
पुलिस अधीक्षक डॉ. मोनिका ने बताया कि चंबा थाना का पुलिस की टीम भद्रम के पास गश्त कर रही थी। इसी दौरान एक व्यक्ति सामने से बैग उठाकर आ रहा था। यह पुलिस को देख वहां से भागने लगा। इससे पुलिस को उसके ऊपर शक हो गया। इस आधार पर पुलिस ने उसे पकड़ा और बैग की तलाशी ली।
पुलिस ने आरोपी के बैग में बोतल की आठ बोतलें शराब की है। दूसरे मामले में पुलिस चौकी द्रड्डा का पुलिस दल रिंड़ा नाले में गश्त कर रहा था। इसी दौरान पुलिस को सूचना मिली कि सोनू निवासी सिंगी दुकान में अवैध रुप से शराब बेचता है।
इसके चलते पुलिस ने दुकान में दबिश दी। दुकान की तलाशी करने पर पुलिस को दो पेटी शराब बरामद हुई। पुलिस मामले की आगामी कार्रवाई को अंजाम दे रही है।
... और पढ़ें

कोरोना वायरस: चंबा की खजुआ पंचायत में बाहरी लोगों के प्रवेश पर पाबंदी

हिमाचल प्रदेश के चंबा जिले के चुराह में चार जमातियों के कोरोना पॉजिटिव आने के बाद प्रशासन ने पंचायतों को सील कर दिया है। वहीं पंचायतों के लोगों ने एहतियात के तौर पर सभी रास्तों को बंद कर दिया है। यहां पर लोगों ने बोर्ड लगा दिए हैं कि कोई न ही पंचायतों में आएगा और न ही पंचायत का कोई बाशिंदा बाहर जाएगा। 

ग्राम पंचायत खजुआ और भराड़ा के ग्रामीणों ने पंचायतों के रास्तों को बंद करके फोटो सोशल मीडिया में शेयर की है, जिससे कि अन्य पंचायतों के लोग भी इससे प्रेरणा लेकर ऐसा ही करें। ग्रामीणों में ऐसी जागरूकता देखकर प्रशासन को भी पंचायतों में लोगों को घर के भीतर रखने में कोई मशक्कत नहीं करनी पड़ रही है।

ग्रामीण प्रशासन के आदेशानुसार काम कर रहे हैं। ग्रामीणों का कहना है कि जब तक प्रशासन इन पंचायतों को बहाल करने का आदेश नहीं देगा, तब तक ग्रामीण पंचायतों में ही रहेंगे। इसके साथ ही पंचायतों में किसी भी बाहरी व्यक्ति को नहीं घुसने देंगे, क्योंकि कोरोना महामारी से लड़ाई जीतने के लिए ऐसा करना अनिवार्य है।

भराड़ा पंचायत निवासी सुरेंद्र शर्मा, लेखराज, प्रेम लाल, हरी सिंह, पवन कुमार, खेमराम, डुम राम और मुसद्दी राम ने बताया कि भराड़ा पंचायत के लोगों ने निर्णय लिया है कि प्रशासन की अनुमति के बिना उनकी पंचायत में कोई भी बाहरी व्यक्ति आएगा, तो इसके बारे में प्रशासन को सूचित किया जाएगा।

एसडीएम तीसा हेमचंद वर्मा ने बताया कि प्रशासन के आदेश पर क्षेत्र को सील कर दिया गया है। इसके तहत पुलिस विभाग ने जगह-जगह नाके लगाए हैं। पंचायत प्रतिनिधि और ग्रामीण भी कोरोना के खिलाफ छेड़ी गई लड़ाई में सहयोग कर रहे हैं। इसके तहत भराड़ा और खजुआ में लोगों ने पत्थरों से रास्ते बंद कर गांव में प्रवेश पर पाबंदी के बारे में भी लोगों को आगाह कर दिया है।
... और पढ़ें

कोरोना वायरस व धार्मिक दुष्प्रभाव से संबंधित झूठी अफवाहें फैंलाने पर तीन पर केस दर्ज

चंबा। जिले में अलग-अलग पुलिस थानों में कोरोना वायरस और धार्मिक दुष्प्रचार से संबधित झूठी अफवाहें फैलाने वालों के खिलाफ तीन मामले दर्ज किए हैं। इनमें पुलिस थाना सदर में दो व्यक्तियों के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया है।
उन्होंने एक ग्रुप में झूठी पोस्ट डाली थी कि नकरोड़ में तीन व्यक्ति कोरोना पॉजिटिव हैं। उन्होंने दिल्ली में जमात में हिस्सा लिया था। इससे क्षेत्र में दहशत फैल गई थी।
इसी तरह पुलिस थाना किहार और थाना तीसा में भी कोरोना वायरस और धार्मिक दुष्प्रचार से संबधित झूठी अफवाहें फैलाने वालों के खिलाफ अभियोग दर्ज किए गए हैं।
पुलिस अधीक्षक चंबा डॉ. मोनिका ने इसकी पुष्टि करते हुए सभी जिलावासियों से आग्रह किया कि किसी भी सूचना की पुष्टि किए बिना इस तरह की धार्मिक आस्था को ठेस पहुंचाने वाली पोस्ट या कोरोना वायरस से संबंधित किसी भी तरह की झूठी अफवाह सोशल मीडिया में न डाले।
... और पढ़ें

चंबा के प्रवेश द्वार कटोरीबंगला के समीप रोकें वाहन, बनीखेत में कर्फ्यू तोड़ने पर 31 चालान

बनीखेत (चंबा)। जिले में कोरोना वायरस के चार पॉजिटिव मामले सामने आने के बाद पुलिस विभाग सतर्क हो गया है। विभाग ने चंबा जिले के प्रवेशद्वार कटोरीबंगला में नाकाबंदी के दौरान वाहनों के प्रवेश पर रोक लगा दी है।
इस दौरान डीएसपी डलहौजी रोहिन डोगरा और तहसीलदार राजेश कुमार ने व्यवस्थाओं का जायजा लिया है। नाके से उन्हीं वाहनों को चंबा की ओर भेजा रहा है, जिनके पास अनुमति प्रमाण पत्र है।
प्रशासन ने रोजमर्रा की वस्तुओं वाली गाड़ियों को ही आवाजाही करने की परमिशन दी है। इसमें दूध, सब्जी और राशन की गाड़ियां शामिल हैं।
वहीं, बनीखेत से लेकर कटोरी बंगला तक पुलिस ने कर्फ्यू उल्लंघन करने वाले 31 लोगों को दबोचा है। इनके चालान किए गए हैं। इसके अलावा पुलिस थाना सदर ने भी 42 लोगों के खिलाफ धारा 144 को उल्लंघन करने पर 9500 रुपये की राशि जुर्माने के स्वरूप से वसूली है।
गौरतलब है कि कोरोना वायरस के खिलाफ छेड़ी जंग को लेकर पुलिस विभाग पूरी तरह मुस्तैद है। विभाग ने चार पॉजिटिव मामले सामने आने के बाद सुरक्षा व्यवस्था और कड़ा कर दिया है।
डीएसपी डलहौजी रोहिन डोगरा ने लोगों से अपील की कि कर्फ्यू के दौरान लोग घरों में ही रहें। इसके साथ ही कर्फ्यू में ढील के दौरान भी परिवार का एक व्यक्ति खरीदारी के लिए आए और सामान लेने के बाद वापिस हो जाए।
... और पढ़ें

चार जमातियों के पॉजीटिव आने पर जिला में मचा हडकंप

चंबा। उपमंडल चुराह में चार जमातियों की कोरोना रिपोर्ट पॉजिटिव आने से पूरे जिले में हड़कंप मच गया है। प्रशासन ने मामले की गंभीरता को देखते हुए तीसा की नौ पंचायतों सहित सलूणी की सात पंचायतों में 24 घंटे तक सब्जी और खाद्य सामग्री सहित अन्य दुकानें, बैंक और व्यापारी गतिविधियों पर पूर्ण प्रतिबंध लगा दिया है।
लोगों को जरूरत का सामान घर पर ही उपलब्ध करवाया जाएगा। प्रशासन ने एहतियात बरतते हुए सभी कर्फ्यू पास भी तुरंत प्रभाव से रद्द कर दिए हैं। मंगलवार की सुबह पुलिस विभाग ने जगह-जगह पर नाके लगाकर थल्ली सड़क और नेरा सड़क को बंद कर दिया गया। तीसा क्षेत्र के लोग भी प्रशासन और पुलिस विभाग के निर्देशों की पालना करते हुए घरों में ही रहे।
गौरतलब हो कि दिल्ली से लौटे चार जमातियों के कोरोना टेस्ट पॉजिटिव आने पर प्रशासन ने मंगलवार को यह कदम उठाए हैं। इस दौरान नौ पंचायतें भंजराड़ू, थल्ली, खुशनगरी, लेसूंई, जुगरा, खजुआ, गडफरी, तीसा-1, तीसा-2, और सलूणी उपमंडल की सात पंचायतों को एहतियात के तौर पर सील कर दिया है। इसके साथ ही राशन और सब्जी की सप्लाई के लिए जिले के भीतर एवं बाहर के लिए वाहनों की दी गई अनुमतियां भी तत्काल प्रभाव से आगामी आदेशों तक स्थगित कर दी है।
ये पंचायतें तब तक सील रहेंगी, जब तक प्रशासन की ओर से आगामी आदेश जारी नहीं किए जाएंगे। प्रशासन ने सील की गई पंचायतों में पुलिस का पहरा भी सख्त कर दिया गया है। इसके अलावा ड्रोन से भी निगरानी की जा रही है।
जिलाधीश चंबा विवेक भाटिया ने बताया कि तीसा की नौ पंचायतों और सलूणी की सात पंचायतों को सील किया गया है। पुलिस बल क्षेत्र में तैनात है। लोगों को जारी किए कर्फ्यू पास निरस्त कर दिए गए हैं। उन्होंने कहा कि अब लोगों को अपनी और अन्य की सुरक्षा के लिए घरों में ही सीमित रहना होगा। लोगों को जरूरत का सामान घर-द्वार मुहैया करवा दिया जाएगा।
इनसेट
एसडीएम चुराह हेमचंद वर्मा ने कहा कि अगर कोई व्यक्ति नियमों का उल्लंघन करता है, तो उसके खिलाफ नियमानुसार कार्रवाई अमल में लाई जाएगी।
घरों में रहें सभी लोग, डरने की नहीं जरूरत : विस उपाध्यक्ष
विस उपाध्यक्ष हंसराज ने सोमवार देर रात क्षेत्र के चार लोगों के कोरोना पॉजिटिव रिपोर्ट आने पर सोशल मीडिया के जरिये स्थानीय बोली में क्षेत्र के लोगों को भयभीत न होने और घरों में रहने की अपील की।
... और पढ़ें

पर्यटन स्थल खज्जियार में नहीं खुल पाई बैंक की शाखा

खज्जियार (चंबा)। खज्जियार को भले ही मिनी स्विट्जरलैंड का दर्जा मिला हो। मगर यहां सुविधाओं के नाम पर सैलानियों समेत लोगों को आज भी मूलभूत सुविधाएं नहीं मिल पाई है। क्षेत्र में बैंक शाखा और एटीएम नहीं होने से कर्फ्यू के दौरान लोग ज्यादा परेशान है।
इसकी वजह यह है कि क्षेत्र में पैसों के लेनदेन की सुविधा नहीं है जबकि लोग वाहनों पर प्रतिबंध होने से चंबा और डलहौजी नहीं जा पा रहे हैं। ऐसे में लोग पैसों का लेनदेन करने में लाचार हैं। लोगों का आरोप है कि वह सरकारों से हर स्तर पर मांग उठा चुके हैं। मगर आज तक उनकी मांग को पूरा नहीं किया गया है। इससे उनमें भारी रोष है।
सामान्य तौर पर भी अगर पर्यटकों और स्थानीय लोगों को एटीएम पैसों का लेनदेन करना हो तो उन्हें चंबा और डलहौजी जाना पड़ता है। ग्रामीण सुरेश कुुमार, देव प्रकाश, सुनीता देवी, रेश्मा देवी, सुनील कुमार, प्रीतम चंद, चमन लाल, कुलदीप कुमार, खेमराज और दिनेश कुमार ने बताया कि बैंक और एटीएम खुलने से जहां आधा दर्जन पंचायतों को लाभ मिलेगा वहीं दूसरी तरफ पर्यटन सीजन के दौरान पर्यटकों को भी बड़ी राहत मिलेगी।
... और पढ़ें

रूटीन चैकिंग के लिए अब नहीं पड़ेगी आईजीएमसी शिमला जाने की जरूरत

चंबा। जिले के कैंसर मरीजों को अब सामान्य चिकित्सीय परामर्श के लिए आईजीएमसी शिमला नहीं जाना होगा। जिला प्रशासन और आईजीएमसी शिमला की पहल से ऐसे मरीज अब डॉक्टर से सामान्य परामर्श फोन पर ही लें पाएंगे। इसको लेेकर प्रशासन ने डॉक्टरों के नंबर जारी कर दिए हैं। इससे पहले मरीजों को सामान्य जांच के लिए कई किलोमीटर दूर चंबा से शिमला जाना पड़ता था।
गौरतलब है कि जिले में भले ही मेडिकल कॉलेज खुल चुका है। मगर अभी तक कई सेवाएं उपलब्ध नहीं है। इस कारण मरीजों को उपचार के लिए आईजीएमसी शिमला का रुख करना पड़ता है। वर्तमान में कोरोना वायरस के बढ़ते मामलों के बाद प्रशासन भी लोगों को घर में रहने की सलाह दे रहा है।
इसके साथ ही किसी प्रकार की स्थिति में डॉक्टरों से चिकित्सीय परामर्श के लिए नंबर जारी किए जा रहे हैं, जिससे मरीजों को किसी प्रकार की असुविधा का सामना न करना पड़े।
उपायुक्त चंबा विवेक भाटिया ने बताया कि आईजीएमसी के छह चिकित्सक जिले के मरीजों को चिकित्सीय परामर्श देने के लिए उपलब्ध रहेंगे। उन्होंने कहा कि कर्फ्यू के चलते लोग घरों पर ही रहें। प्रशासन और सरकार अपनी ओर से लोगों को सुविधा देने की हर संभव प्रयास कर रही है।
इन नंबरों पर इस दिन मरीज ले सकते हैं परामर्श
जानकारी के अनुसार सोमवार को मरीज डॉ. मनीष गुप्ता को 9418755673, डॉ. विकास फोतेदार को मंगलवार और शुक्रवार के दिन 9418490779 पर, डॉ. सिद्धार्थ को वीरवार और शनिवार 9418458100, डॉ. पूर्णिमा ठाकुर बुधवार 8219668548, डॉ. प्रवेश धीमान सभी दिन मेडिकल ऑनकोलॉजी 8219429276 और डॉ. विनय सौम्या को पेन एंड पलिएटिव केयर को 94180-70350 पर सभी दिन संपर्क कर सकते हैं।
... और पढ़ें
अपने शहर की सभी खबर पढ़ने के लिए amarujala.com पर जाएं

Disclaimer


हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर और व्यक्तिगत अनुभव प्रदान कर सकें और लक्षित विज्ञापन पेश कर सकें। अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।
Agree
Election
  • Downloads

Follow Us