विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विवाह संबंधी दोषों को दूर करने के लिए शिवरात्रि पर मल्लिकार्जुन ज्योतिर्लिंग में कराएं रुद्राभिषेक : 21-फरवरी-2020
Astrology Services

विवाह संबंधी दोषों को दूर करने के लिए शिवरात्रि पर मल्लिकार्जुन ज्योतिर्लिंग में कराएं रुद्राभिषेक : 21-फरवरी-2020

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

From nearby cities

7900 करोड़ रुपये के योजना आकार को आज मिलेगी मंजूरी, सीएम करेंगे बैठक की अध्यक्षता

हिमाचल में राज्य प्लानिंग बोर्ड सोमवार को नए योजना आकार को मंजूरी देगा।

17 फरवरी 2020

विज्ञापन
विज्ञापन

कांगड़ा

सोमवार, 17 फरवरी 2020

वन विभाग ने तीन लोगों से पकड़े सात मोनाल

बैजनाथ (कांगड़ा)। वन विभाग की टीम ने उतराला के नजदीक लौट गांव के पास झोंका में तीन लोगों से सात मृत मोनाल पकड़ने में सफलता हासिल की। इस संदर्भ में पुलिस ने तीनों को गिरफ्तार कर आगामी कार्रवाई शुरू कर दी है।
वन परिक्षेत्र अधिकारी रविंद्र कुमार ने बताया कि वन विभाग की टीम में शामिल वनरक्षक सुनील कुमार, राकेश कुमार पठानिया व वन खंड अधिकारी कुलदीप कुमार जब गांव लौट के पास गश्त कर रहे थे तो उन्हें रास्ते में आते हुए तीन लोग मिले। शक के आधार पर इन तीनों की तलाशी ली, तो कंड ग्वार टिक्कर के पराक्रम पुत्र शक्ति से एक मोनाल व दो मादा मोनाल मिले, जबकि राम सिंह पुत्र रंचू राम गांव सुहडू कंद्राल से एक मोनाल व एक मादा मोनाल मिली। उसी गांव के सुरेश कुमार पुत्र इंद्रजीत से भी उन्होंने एक मोनाल और एक मादा मोनाल बरामद किए। इन सभी को उन्होंने मारकर अपने-अपने बैगों में डाला था। सभी आरोपियों को वन कर्मी बैजनाथ स्थित वन परिक्षेत्र अधिकारी कार्यालय में ले आए, वहां पर वन मंडल अधिकारी पालमपुर एसके सैन भी पहुंच गए।
वहीं वन परिक्षेत्र अधिकारी ने रविंद्र कुमार ने पुलिस में उन तीनों के विरुद्ध वन्य प्राणी अधिनियम के मामला दर्ज करवा दिया। इस बारे में डीएसपी बैजनाथ पूर्ण चंद ठुकराल ने बताया कि पुलिस ने उन तीनों को हिरासत में लिया है।
... और पढ़ें

ग्राम सभा में पुलिस बताएगी ऑनलाइन ठगी से बचने के तरीके

धर्मशाला। पुलिस महानिदेशक सीताराम मरडी ने कहा कि आए दिन ऑनलाइन ठगी के मामले ज्यादा सामने आ रहे हैं। साइबर क्राइम के मामलों से निपटने के लिए उन्होंने तीन जिलों के एसएचओ और उच्च अधिकारियों को विशेष हिदायत दी। उन्होंने साइबर क्राइम के बारे में लोगों को जागरूक करने के लिए स्कूल, कॉलेज और पंचायत स्तर पर अभियान छोड़ने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि पंचायत की ग्रामसभाओं में लोगों को साइबर क्राइम के बारे में पुलिस जवान जागरूक करें।
वह वीरवार को पुलिस विभाग के उत्तरी खंड धर्मशाला के कांगड़ा, चंबा और ऊना जिला के पुलिस अधिकारियों की बैठक में बोल रहे थे। उन्होंने कहा कि प्रदेश मेें सड़क दुर्घटनाओं को रोकने के लिए एसएचओ भी ब्लैक स्पॉटों को सुधार के लिए लोक निर्माण विभाग को सुझाव दे सकते हैं, जिससे उन स्पॉटों पर पैरापिट या सड़क की ओर कटिंग की जा सकें। इसके अलावा बैठक में पुलिस विभाग के कार्यों की समीक्षा की गई। काम को बेहतर करने के लिए अधिकारियों ने सुझाव भी रखे। इस मौके पर डीआईजी संतोष पटियाल सहित ऊना, कांगड़ा और चंबा जिला के एसपी, एएसपी, डीएसपी और सभी थाना प्रभारी मौजूद रहे।
... और पढ़ें

एबीवीपी धर्मशाला ने किया मूक प्रदर्शन

एबीवीपी ने मुंह पर काली पट्टी बांधकर किया मूक प्रदर्शन
धर्मशाला। एबीवीपी ने केंद्रीय विश्वविद्यालय धर्मशाला परिसर में विभिन्न मांगों को लेकर मुंह पर काली पट्टी बांधकर मूकप्रदर्शन किया। एबीवीपी की सीयू इकाई के अध्यक्ष नरेंद्र शर्मा ने कहा कि केंद्रीय विश्वविद्यालय के स्थायी परिसर का निर्माण कार्य जल्द शुरू किया जाए। परिसर में कैंटीन, शौचालय, खेलकूद और लैब को व्यवस्था करवाई जाए।
उन्होंने कहा कि एबीवीपी इसी तरह के आंदोलन पूरे प्रदेश में कर रही है। उन्होंने आरोप लगाया कि राजनीति की आड़ में सीयू के विद्यार्थियों और शिक्षकों को सुविधाओं से वंचित रखा जा रहा है। शुक्रवार को सीयू परिसर धर्मशाला में एबीवीपी कार्यकर्ता मांगों को लेकर भूख हड़ताल करेंगे। उन्होंने सरकार और सीयू परिसर को चेतावनी दी कि जल्द मांगों को पूरा नहीं किया गया तो एबीवीपी और भी उग्र आंदोलन करेगी। इस मौके पर एबीवीपी के नरेंद्र, वैभव, वंशी, तनिषा, रविंद्र, वीरेंद्र, गीतांशु, विवेक, गौराव, आशुतोष, अतुल, अनुराग, मृदुल आदि मौजूद रहे।
... और पढ़ें

धर्मशाला में पार्किंग, रास्तों की मरम्मत पर खर्च होंगे पांच करोड़

धर्मशाला। नगर निगम धर्मशाला के सभी 17 वार्डों की पार्किंग्स, सड़कों और कूहलों की मरम्मत और अन्य छोटे कार्य जल्द शुरू किए जाएंगे। धर्मशाला शहर के कार्यों के लिए नगर निगम ने 96 टेंडरों की प्रक्रिया शुरू कर दी है। इन कामों पर लगभग पांच करोड़ दस लाख रुपये खर्च किए जाएंगे। जिसमें सड़कों, पार्किंग, कूहलों की मरम्मत, सामग्री आदि पर यह 5.10 करोड़ रुपये खर्च किए जाएंगे। वार्डों की छोटी सड़कों के कार्यों के लिए 58 टेंडरों में दो करोड़ 13 लाख 37 हजार रुपये खर्च किए जाएंगे। शहर के विभिन्न स्थानों पर छोटी पार्किंग के लिए 13 टेंडरों में एक करोड़ 82 लाख रुपये खर्चे जाएंगे। मरम्मत के लिए 17 टेंडरों में 75 लाख, निक्षेप के लिए सात टेंडरों में 25 लाख रुपये खर्च किए जाएंगे। उधर, नगर निगम धर्मशाला के मेयर देवेंद्र जग्गी ने कहा कि सभी 17 वार्डों में एक सामान कार्य किए जाएंगे। पार्किंग, छोटी सड़कों की मरम्मत आदि के टेंडर प्रक्रिया शुरू हो गई है।
पार्किंग और रास्तों की मरम्मत पर खर्च होगी राशि
वार्ड नंबर-10 श्याम नगर में गोरखा भवन के पास पार्किंग पर 13.3 लाख रुपये खर्च होंगे। सचिवालय वार्ड के डिपो बाजार में पार्किंग की मरम्मत पर 12 लाख रुपये खर्च करेंगे। कंड वार्ड में शांति देवी मंदिर के पास पार्किंग में इंटरलॉक टाइल के लिए 10 लाख रुपये खर्चे जाएंगे। खजाचीं मुहल्ला वार्ड के गमरू मैदान के पास पार्किंग की मरम्मत के लिए 13.3 लाख, दाड़ी वार्ड में रास्ते की मरम्मत पर 3.9 लाख, बड़ोल वार्ड में रास्ते की मरम्मत पर 4.5 लाख, सिद्धवाड़ी वार्ड में रास्ते की मरम्मत पर तीन लाख और बड़ोल वार्ड में कुहल के तटीकरण पर तीन लाख रुपये खर्च होंगे।
बैठक में पार्षदों ने जताई थी नाराजगी
नगर निगम धर्मशाला कि पिछली बैठक में सभी पार्षद एमसी प्रशासन कर काफी भारी पड़े थे। एमसी के मेहर देवेंद्र जग्गी और सभी पार्षदों ने चेतावनी दी थी कि जल्द लटके हुए टेंडर पारित न किए तो प्रशासन के खिलाफ धरना दिया जाएगा। बैठक में मुद्दों पंर चर्चा करने से पहले ही हंगामा हो गया था। धरने की नौबत न आए इससे पहले ही एमसी ने सारे टेंडर पारित कर दिए हैं।
... और पढ़ें

पुलिस थाने से 15 मीटर दूर कपड़े की दुकान में चोरी

रक्कड़ (कांगड़ा)। पुलिस थाना रक्कड़ से मात्र 15 मीटर की दूरी पर स्थित राज क्लॉथ हाउस में रविवार दोपहर करीब डेढ़ बजे दो अज्ञात लोग दुकान में रखा नकदी से भरा बैग को चुराकर गायब हो गए। पुलिस थाने के बाहर सीसीटीवी कैमरा भी नहीं है, जिससे आरोपियों का कोई सुराग लग सके।
जानकारी के अनुसार रविवार दोपहर करीब डेढ़ बजे दो लोग संबंधित दुकान में कुछ खरीदारी करने के बहाने दाखिल हुए। दुकान पर घटना के वक्त मौजूद दुकानदार की पत्नी अलका से इन लोगों ने कुर्ता पजामा और अन्य प्रकार के कपड़े दिखाने को कहा। इस घटना के समय दुकान के मालिक अविनाश शर्मा साथ लगते गांव में किसी समारोह में गए हुए थे। इन शातिरों के इरादों से अनजान महिला ने उन्हें कुछ कपड़े दिखाए। इस पर उन्होंने अन्य बढ़िया कपड़े दिखाने को कहा। उनके कहने पर दुकान मालिक की पत्नी दुकान के भीतर बने स्टोर में उनकी मांग के मुताबिक कपड़े लेने गई और इतने में ही शातिरों ने उसकी गैर मौजूदगी का फायदा उठाकर दुकान पर रखे नकदी से भरे बैग पर हाथ साफ कर दिया। महिला इस चोरी अनभिज्ञ थी। इतने में ही शातिर महिला को यह कहकर दुकान से बाहर आ गए कि साथ बाजार की दूसरी दुकानों में खरीदारी कर रही उनके परिवार की महिलाओं को लेकर वापस आएंगे और बाकी खरीदारी करेंगे। देखते ही देखते दोनों लोग रफूचक्कर हो गए। चोरी हुए बैग में करीब दो लाख रुपये की नकदी रखी हुई थी, जो किसी आढ़ती को अदा की जानी थी। कुछ ही समय में दुकानदार अविनाश शर्मा उर्फ रिंकु खुद दुकान पर पहुंचे और उन्होंने जब दुकान में नकदी से भरे बैग के बारे में पूछा और खोजने पर पाया कि बैग वहां से गायब हो चुका था। फिलहाल रक्कड़ पुलिस थाना में इस संबंध में प्रभावित अविनाश शर्मा ने शिकायत की है। इस घटना की पुष्टि करते हुए रक्कड़ थाना प्रभारी जीत सिंह माहल ने बताया कि चोरी से संबंधित शिकायत दर्ज हुई है। पुलिस विभिन्न पहलुओं को ध्यान में रखकर आगे की छानबीन कर रही है।
... और पढ़ें

मैक्लोडगंज में पर्यटक और एचआरटीसी चालक उलझे

धर्मशाला। पर्यटन नगरी मैक्लोडगंज में एक पर्यटक एचआरटीसी बस चालक से उलझ गया। सड़क किनारे बेतरतीब खड़े किए वाहन को हटाने की बात पर पर्यटक और चालक में बहस शुरू हो गई। इसके चलते सड़क पर जाम की भी स्थिति बन गई। इसके बाद यातायात पुलिस कर्मी ने मौके पर पहुंचकर वाहन को हटाने के बाद यातायात व्यवस्था को दुरुस्त करवाया।
जानकारी के अनुसार रविवार दोपहर को मैक्लोडगंज बस स्टैंड के एंट्री प्वाइंट के पास ही पर्यटकों ने अपनी कार को खड़ा कर दिया। इसी दौरान हिमाचल पथ परिवहन निगम की बस अपने निर्धारित समय पर बस अड्डे के पास पहुंची, लेकिन पर्यटकों के वाहन खड़े होने कारण अंदर नहीं जा सकी। इस दौरान बस चालक ने पर्यटकों को कार हटाने के लिए कहा, लेकिन उन्होंने अपनी कार को वहां से नहीं हटाया । जिस पर चालक ने यातायात पुलिस को इसकी सूचना दी। बस चालक के पुलिस को सूचना दिए जाने की बात को लेकर पर्यटक बस चालक के साथ ही उलझ पड़े और नौबत हाथापाई तक पहुंच गई। इसी दौरान मौके पर जाम की भी स्थिति बन गई। वहीं, पुलिस ने हस्तक्षेप कर मामला शांत करवाते हुए यातायात को बहाल करवाया। इसी दौरान पुलिस थाना में मामला पहुंचने और ड्यूटी के समय निगम के चालक की हाथापाई की शिकायत के चलते पर्यटकों ने माफी मांग ली। दोनों पक्षों में आपसी सुलह के चलते मामला पुलिस थाना में दर्ज नहीं हो सका। हिमाचल पथ परिवहन निगम धर्मशाला डिपो के क्षेत्रीय प्रबंधक पंकज चड्डा ने कहा कि निगम के चालक के साथ मैक्लोडगज में पर्यटकों के लड़ाई-झगड़ा होने की शिकायत मिली थी। बाद में दोनों पक्षों में समझौता हो गया।
... और पढ़ें

विशेषज्ञ सलाह: गेहूं की पत्ती छूने से हाथ पीला हो, तो समझो पीला रतुआ रोग

गेहूं प्रदेश की मुख्य फसल है। इस समय कई स्थानों पर पीला रतुआ रोग का प्रकोप इस फसल में दिखाई दे रहा है। इस रोग में फफूंदी के फफोले पत्तियों पर पड़ जाते हैं जो बाद में बिखर कर अन्य पत्तियों को ग्रसित कर देते हैं। पत्तों का पीला होना ही पीला रतुआ नहीं है, पीला पत्ता होने के कारण फसल में पोषक तत्वों की कमी, जमीन में नमक की मात्रा ज्यादा होना और पानी का ठहराव भी हो सकता है।

पीला रतुआ बीमारी में गेहूं के पत्तों पर पीले रंग का पाउडर बनता है। इसे छूने पर हाथ पीला हो जाता हैं। हिमाचल के निचले और गर्म क्षेत्रों में यह रोग अधिक पाया जाता है। फरवरी माह में गेहूं की फसल में लगने वाले पीला रतुआ रोग आने की संभावना रहती है। 

ये हैं लक्षण
फरवरी माह में गेहूं की फसल में पीला रतुआ (यलोरस्ट) रोग लगने की संभावना रहती है। तापमान में वृद्धि के साथ-साथ गेहूं में यह रोग बढ़ जाता है। हाथ से छूने पर धारियों से फंफूद के पीले रंग के बीजाणु हाथ में लगते हैं। फसल के इस रोग की चपेट में आने से कोई पैदावार नहीं होती है और किसानों को फसल से हाथ धोना पड़ता है। इस बीमारी के लक्षण प्राय ठंडे और नमी वाले क्षेत्रों में ज्यादा देखने को मिलते हैं।
 
साथ ही पोपलर और सफेदे के आसपास उगाई गई फसलों में यह बीमारी सबसे पहले आती है। पहली अवस्था में यह रोग खेत में 10-15 पौधों पर एक गोल दायरे में शुरू होकर बाद में पूरे खेत में फैल जाता है। तापमान बढ़ने पर पीली धारियां पत्तियों की निचली सतह पर काले रंग में बदल जाती है। रोग के लक्षण दिखाई दें तो उसका निदान रासायनिक अथवा जैविक किसी भी उपचार से किया जा सकता है। 

डॉ. दीपिका सूद प्रदेश कृषि विवि में सेवाएं दे रही हैं। डॉ. दीपिका के पास खुंब उत्पादन पर 20 से अधिक वर्ष का अनुभव है। इसके अलावा मई से अगस्त 2019 तक जापान में उन्होंने शीत के खुंब पर प्रशिक्षण हासिल किया है।
... और पढ़ें

रिलायंस कंपनी को किराये पर दे दिए 25 हजार बिजली के खंभे

डॉ. दीपिका सूद
पैसे कमाने के लिए बिजली बोर्ड ने रिलायंस कंपनी को हिमाचल में अपने 25000 पोल यानी खंभे किराये पर दे दिए हैं। हिमाचल में पहली बार बिजली के खंभे किराये पर दिए गए हैं। रिलायंस कंपनी जियो की फाइबर अब जमीन के बजाय बिजली पोल पर ही बिछाकर लोगों को मोबाइल नेटवर्क देगी।

कंपनी ने हिमाचल में बिजली खंभों पर तारों के साथ अपनी केबल बिछाना शुरू कर दी है। बिजली के खंभे किराये पर देने को लेकर लोगों और विपक्ष ने सवाल उठाए हैं। लोगों ने इसे सुरक्षा से खिलवाड़ बताया है। लोगों का सवाल है कि अगर कोई हादसा हुआ तो उसका जिम्मेदार कौन होगा। 

सरकार कंगाल, किराये पर देने पड़ रहे खंभे : मुकेश
नेता प्रतिपक्ष मुकेश अग्निहोत्री ने आरोप लगाया कि प्रदेश में भाजपा से सरकार चल नहीं रही है। क्या सरकार कंगाल हो गई है, जो उसे हिमाचल में बिजली बोर्ड के खंभे किराये पर देने की नौबत आई।
... और पढ़ें

ऋषि धवन ने विक्रमजीत मलिक के रिकॉर्ड की बराबरी की, प्रथम श्रेणी में हुए 308 विकेट

ऑलराउंडर ऋषि धवन ने हिमाचल की ओर से सबसे अधिक विकेट लेने के रिकॉर्ड की बराबरी कर ली है। अब वे विक्रमजीत मलिक (308 विकेट) के साथ संयुक्त रूप से पहले स्थान पर पहुंच गए हैं। आने वाले मैचों में एक विकेट लेकर वे हिमाचल की ओर से सबसे अधिक विकेट लेने वाले खिलाड़ी बन जाएंगे। 

मलिक के रिकॉर्ड की बराबरी धवन ने यूपी के खिलाफ खेले गए रणजी मैच में की। इस मैच में धवन ने आठ विकेट लिए और मैन ऑफ द मैच बने। ऋषि धवन के प्रथम श्रेणी क्रिकेट में 308 विकेट हो गए हैं। हिमाचल की ओर से 300 से अधिक विकेट लेने वाले ऋषि धवन दूसरे खिलाड़ी बने हैं। 308 विकेट लेकर उन्होंने हिमाचल की ओर से प्रथम श्रेणी में सबसे अधिक विकेट लेने के विक्रमजीत मलिक के रिकॉर्ड की भी बराबरी कर ली है।

विक्रमजीत मलिक मौजूदा समय में हिमाचल की रणजी ट्रॉफी टीम के बॉलिंग कोच हैं। विक्रमजीत मलिक ने रणजी ट्रॉफी के 81 मैच में 308 विकेट झटके हैं। धवन ने 79 मैच में 308 लिए हैं। इन्होंने रणजी में नवंबर 2009 में डेब्यू किया था। लगभग दस साल के करियर में ऋषि 308 विकेट लेने का आंकड़ा पार करने में सफल हुए हैं। धवन हिमाचल के एकमात्र क्रिकेटर हैं। जिन्होंने भारत की ओर से तीन एक दिवसीय और एक टी-20 मुकाबला खेला है।

गेंदबाजी में धवन का अब तक का प्रदर्शन
वन-डे - तीन मैच- एक विकेट
टी-20- एक मैच-एक विकेट
प्रथम श्रेणी-79 मैच- 308 विकेट
आईपीएल-26 मैच-18 विकेट
... और पढ़ें

निशानदेही के लिए मुख्य आरोपी के साथ जम्मू गई पुलिस

धर्मशाला। चोरी की वारदातों के मुख्य आरोपी को सदर पुलिस थाना धर्मशाला की टीम निशानदेही के लिए जम्मू ले गई है। पुलिस को आशंका है कि आरोपी का हाथ जिले में हुईं चोरी की अन्य वारदातों में भी रहा है।
20 जनवरी को धर्मशाला थाना के अंतर्गत घरोह शिवनगर से एक कार चोरी हुई थी। पुलिस ने कार को पांच फरवरी को बरामद कर लिया था, लेकिन मुख्य आरोपी फरार था। उसके तीन साथियों को भी पुलिस ने गिरफ्तार किया था। मुख्य आरोपी की पहचान जम्मू के उधमपुर निवासी 27 वर्षीय राकेश कुमार के रूप में हुई है। धर्मशाला पुलिस ने कार्रवाई करते हुए मुख्य आरोपी को उधमपुर से गिरफ्तार किया है। राकेश कुमार को शुक्रवार को न्यायालय में पेश किया गया, जहां से उसे 17 फरवरी तक पुलिस रिमांड मिला है। धर्मशाला पुलिस ने चोरी के आरोपियों से अभी तीन वाहन बरामद कर चुकी है, जिसमें एक बुलेट मोटरसाइकिल, स्विफ्ट डिजायर व मारुति कार शामिल है। उधर, एसएचओ धर्मशाला थाना राजेश कुमार ने मामले की पुष्टि की है।
... और पढ़ें

पंचायत चौकीदारों के लिए स्थाई नीति बनाएं प्रदेश सरकार

जवाली (कांगड़ा)। पंचायत चौकीदार संघ ब्लॉक नगरोटा सूरियां की बैठक में ब्लॉक की समस्त पंचायतों के चौकीदारों ने भाग लेकर मांगों पर मंथन किया। अध्यक्षता अध्यक्ष कमल कुमार ने की। इस दौरा सरकार से स्थायी नीति बनाने की मांग की गई।
संघ ने कहा कि पंचायत चौकीदार पंचायतों में पिछले करीब 40 सालों से कार्य कर रहे हैं। सुबह नौ से लेकर शाम पांच बजे तक ड्यूटी देते हैं, लेकिन उनको मात्र 4800 रुपये ही वेतनमान प्रति माह दिया जा रहा है। उन्होंने कहा कि पंचायत चौकीदारों के लिए आज तक कोई भी स्थायी नीति नहीं बनाई गई है। कई पंचायत चौकीदार नियमित होने की आस में रिटायर भी हो गए हैं और कई होने वाले हैं। उन्होंने कहा कि इतने कम वेतनमान में महंगाई के दौर में जीवन यापन करना मुश्किल हो रहा है। संघ ने एसडीएम जवाली सलीम आजम के माध्यम से मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर व पंचायती राज मंत्री को ज्ञापन सौंपा है कि पंचायत चौकीदारों के लिए अति शीघ्र नियमितीकरण की पॉलिसी बनाई जाए।
इस मौके पर सचिव वरिंदर सिंह, उपप्रधान पवना कुमारी, सदस्य सुमित, संजय, सूरज, रोकी, प्रवीण, इंद्रजीत, सुरेंद्र, युगल किशोर, जगदीश, सलोचना, दीप कुमार, धर्म, सुदेश कुमारी आदि मौजूद रहे।
... और पढ़ें

लाखों की धोखाधड़ी का आरोपी हरियाणा से गिरफ्तार

ज्वालामुखी (कांगड़ा)। जिला पुलिस ने लाखों की धोखाधड़ी व हेराफेरी के मामले में एक आरोपी को हरियाणा के गोहाना से गिरफ्तार किया गया है। इसकी पहचान सुनील दत्त पुत्र ईश्वर दत्त निवासी मालवीय नगर सोनीपत के रूप में हुई है। एएसपी कांगड़ा आकृति ने मामले की पुष्टि की।
जानकारी के अनुसार मामला वर्ष 2017 का है। देहरा थाने में एक व्यक्ति ने शिकायत दर्ज करवाई थी कि आरोपी ने लालच देकर उसके साथ फर्जी कंपनी के नाम से पैसे ऐंठे हैं। इसके बाद यह मामला देहरा से एसआईयू को सौंपा गया। इस मामले को लेकर एसपी के दिशा-निर्देश पर एक एसआईटी टीम गठित की गई, जिसका नेतृत्व इंस्पेक्टर पुरुषोत्तम धीमान ने किया। उनकी टीम में 4 अन्य पुलिस कर्मी शामिल रहे। एसआईटी गठित होने के बाद पुलिस ने इस मामले की तहकीकात के साथ ही आरोपियों की धरपकड़ भी शुरू कर दी। पुलिस को हाल ही में गुप्त सूचना मिली थी कि आरोपी हरियाणा में घूम रहा है। इसके तहत पुलिस ने आरोपी को हरियाणा के गोहाना से पकड़कर ज्वालामुखी थाने में हिरासत में रखा। इसके बाद उसे देहरा कोर्ट में पेश किया, जहां से आरोपी को मंगलवार तक पुलिस रिमांड में भेज दिया है। बताया जा रहा है कि इस मामले में अभी और भी गिरफ्तारियां हो सकती हैं।
एएसपी आकृति ने बताया कि एक अन्य आरोपी अभी पुलिस की गिरफ्त से बाहर है जिसे जल्द ही गिरफ्तार किया जाएगा। धोखाधड़ी के मामले में कुल तीन लोग शामिल हैं, जिसमें से एक व्यक्ति की मृत्यु हो चुकी है।
... और पढ़ें

16 लाख रुपये लेकर फरार हुए आरोपी किए गिरफ्तार

ठाकुरद्वारा (कांगड़ा)। एक ठेकेदार के दफ्तर से 16 लाख रुपये की चोरी कर फरार हुए आरोपपियों को पुलिस टीम ने गिरफ्तार कर लिया है। चोरी के इन आरोपियों को राजस्थान से गिरफ्तार किया गया है।
जानकारी के अनुसार कोतरपुर मिरथल माइनिंग ठेकेदार के कार्यालय में तैनात कर्मचारी 16,19,300 रुपये की चोरी कर फरार हुए थे। इस संदर्भ में ठेकेदार ने नंगल थाने में शिकायत दर्ज करवाई थी। शिकायतकर्ता जितेंद्र कैशियर ने पुलिस को बताया था कि वह किसी कार्य के चलते कर्मचारी रणवीर सिंह पुत्र सोहन सिंह निवासी जिला बीकानेर राजस्थान के हैंडओवर कर छुट्टी करके चला गया था। इसके बाद रणवीर सिंह अपने साथियों के साथ मिलकर आफिस में रखी 16,19, 300 की रकम लेकर फरार हो गया था। इस पर पुलिस ने टीम गठित करके राजस्थान में भेजी, जिसमें पुलिस ने छापामारी के दौरान मदन लाल और उसके दूसरे साथी राम सिंह को मौके पर ही पकड़ लिया और उनसे पांच लाख पांच हजार रुपये की चोरी की रकम बरामद की। दो व्यक्ति अभी भी पुलिस की पकड़ से बाहर हैं।
... और पढ़ें
अपने शहर की सभी खबर पढ़ने के लिए amarujala.com पर जाएं

Disclaimer

अपनी वेबसाइट पर हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर अनुभव प्रदान कर सकें, वेबसाइट के ट्रैफिक का विश्लेषण कर सकें, कॉन्टेंट व्यक्तिगत तरीके से पेश कर सकें और हमारे पार्टनर्स, जैसे की Google, और सोशल मीडिया साइट्स, जैसे की Facebook, के साथ लक्षित विज्ञापन पेश करने के लिए उपयोग कर सकें। साथ ही, अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।

Agree
Election
  • Downloads

Follow Us