विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
ढाई साल बाद शनि बदलेंगे अपनी राशि , कुदृष्टि से बचने के लिए शनि शिंगणापुर मंदिर में कराएं तेल अभिषेक : 14-दिसंबर-2019
Astrology Services

ढाई साल बाद शनि बदलेंगे अपनी राशि , कुदृष्टि से बचने के लिए शनि शिंगणापुर मंदिर में कराएं तेल अभिषेक : 14-दिसंबर-2019

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

बर्फ से लकदक रोहतांग दर्रा 19 दिन के बाद फिर बहाल, लोगों के लिए बड़ी राहत

पिछले तीन सप्ताह से बंद पड़ा रोहतांग दर्रा शनिवार को फिर बहाल कर दिया गया। सीमा सड़क संगठन (बीआरओ) ने सात दिन की कड़ी मेहनत के बाद बर्फ से लकदक दर्रे को बहाल करने में सफलता हासिल की।

7 दिसंबर 2019

विज्ञापन
विज्ञापन

रामपुर बुशहर

शनिवार, 7 दिसंबर 2019

कोटगढ़ में कार हादसा, चालक की मौत

रामपुर बुशहर। पुलिस थाना कुमारसैन के तहत आने वाले कोटगढ़ क्षेत्र में बुधवार दोपहर बाद एक कार दुर्घटनाग्रस्त होकर सड़क से 100 मीटर नीचे जा गिरी। इस हादसे में एक व्यक्ति की मौत हो गई, जबकि कार में सवार एक अन्य घायल हो गया है। घायल की गंभीर हालत को देखते हुए उसे आईजीएमसी शिमला रेफर किया गया है, जहां उसका उपचार चल रहा है।
पुलिस थाना कुमारसैन से मिली जानकारी के मुताबिक बुधवार दोपहर को एक कार संख्या 52 ए 6557 कोटगढ़ के पास सड़क से नीचे करीब 100 मीटर गहरी खाई में जा गिरी। इस हादसे में चालक नरेंद्र ठाकुर (51) पुत्र सुखराम, गांव भरेड़ीधार, कोटगढ़ जिला शिमला की मौत हो गई। नरेंद्र ठाकुर लोक निर्माण विभाग में कार्यरत था। इसके अलावा हादसे में वरुण (32) पुत्र बालानंद, गांव भरेड़ीधार, कोटगढ़ को गंभीर चोटें आई हैं। घायल को प्राथमिक उपचार देने के बाद आईजीएमसी शिमला रेफर किया गया है, जहां उसका उपचार चल रहा है। थाना प्रभारी कुमारसैन कर्मचंद ने बताया कि कार हादसे में चालक की मौत हो गई है, जबकि एक अन्य घायल हो गया है। मृतक का पोस्टमार्टम कर शव परिजनों को सौंप दिया गया है। वहीं हादसे के घायल को आईजीएमसी शिमला रेफर किया गया है। पुलिस ने मामला दर्ज कर हादसे के कारणों की छानबीन शुरू कर दी है।
... और पढ़ें

आम आदमी की पहुंच से बाहर हुआ प्याज

रामपुर बुशहर। देश-प्रदेश के साथ-साथ रामपुर शहर, रोहड़ू, किन्नौर और आसपास के क्षेत्रों के उपभोक्ताओं को प्याज के दाम लगातार रुला रहे हैं। बुधवार को रामपुर बाजार में प्याज 115 से 120 रुपये प्रतिकिलो बिका। एकदम से प्रति किलो बढ़ी कीमतों से उपभोक्ताओं में खासी हताशा है। वहीं रोहड़ू में भी प्याज 100 रुपये प्रति किलो बिका। किन्नौर में भी 100 रुपये प्रति किलो प्याज बिका। हालांकि आने वाले दिनों में प्याज की कीमतें अधिक होने के भी कयास लगाए जा रहे हैं।
देश में मौसम की मार के चलते प्याज की फसल पर पड़े असर से हर गृहिणियां और उपभोक्ता परेशान हैं। दिन-प्रतिदिन बढ़ रहे प्याज के दामों के कारण रसोईघर से प्याज गुम होता जा रहा है। बाजार में प्याज खरीदने पहुंचने वाले ग्राहकों को प्रति किलो 20-20 की रुपये की दर से प्याज के दाम बढ़ते हुए मिल रहे हैं। ऐसे में सबसे अधिक वे लोग हैं जो शादी ब्याह या कोई बड़े आयोजनों के दौर से गुजर रहे हैं। ऐसे उपभोक्ता एक क्विंटल की जगह 40-50 किलोग्राम से अपना काम सार रहे हैं। बीते दिनों जहां रामपुर में प्याज 80 से 85 रुपये प्रति किलो बिक रहा था, वहीं बुधवार को प्याज 120 रुपये पहुंच गया। ऐसे में आम लोगों में प्याज की बढ़ती कीमतों को लेकर गृहिणियों में मायूसी है। सस्ता प्याज मुहैया करवाने के लिए सरकार और खाद्य आपूर्ति विभाग द्वारा भी लोगों के लिए कोई कारगर कदम नहीं उठाए गए हैं।
- क्या कहते के सब्जी विक्रेता
सब्जी विक्रेता यूनियन रामपुर के अध्यक्ष गिरधारी लाल गुप्ता का कहना है कि बुधवार को रामपुर बाजार में 115 से 120 रुपये प्रति किलो प्याज बिका। आने वाले दिनों में प्याज के दाम और बढ़ सकते हैं। गृहिणियों के साथ-साथ शादी ब्याह में भी प्याज की खपत पर असर पड़ रहा है।
- गृहिणी उपासना साहनी का कहना है कि लगातार बढ़ती कीमतों के चलते प्याज आम इंसान की रसोई से बाहर होता जा रहा है। सरकार को जल्द ही कोई नीति बनाकर उपभोक्ताओं को कम दरों में प्याज मुहैया करवाने की व्यवस्था करनी चाहिए।
- आशा नेगी ने कहा कि प्याज की कीमतें बढ़ने से घर की रसोई का बजट बिगड़ रहा है। प्याज की अधिक कीमतों के चलते कम प्याज में गुजारा कर रही हैं। केंद्र और प्रदेश सरकार को लोगों को राहत प्रदान करनी चाहिए।
- पार्वती शर्मा ने बताया कि यदि ऐसे ही प्याज के दाम बढ़ते रहे तो उन्हें प्याज खाने से तौबा करनी पड़ेगी। प्याज की कीमतें आम आदमी की पहुंच से बाहर होती जा रही हैं। सरकार को दाम नियंत्रित करने के लिए प्रयास करने चाहिए।
... और पढ़ें

15 घंटे बाद बहाल हुई दोफदा-मशनु सड़क

ज्यूरी (रामपुर बुशहर)। रामपुर दोफदा-मशनु सड़क में भूस्खलन से यातायात करीब 15 घंटे बंद रहा। सोमवार रात को दोफदा के पास आईपीएच की पाइप लाइन टूटने से भूस्खलन हो गया, जिससे सड़क का काफी बड़ा हिस्सा टूट गया और यातायात ठप हो गया। इस सड़क के टूटने से दोफदा, मशनु, किन्नू और रामपुर के लिए यातायात ठप हो गया। यहां पर सरकारी और निजी बसों से कॉलेज और रामपुर जाने वाले स्टाफ और दूसरे लोग भी सड़क बंद होने के कारण फंस गए।
सूचना मिलते ही लोक निर्माण विभाग के मजदूर और जेसीबी मशीन बाधित सड़क को बहाल करने में जुट गए। मशीन से सड़क के पहाड़ी की ओर काट कर सड़क खोलने का प्रयास कर शाम के समय अस्थायी रूप से यातायात को बहाल किया गया। उसके बाद फंसे वाहनों की आवाजाही शुरू हुई।
उधर, लोक निर्माण विभाग रामपुर के एसडीओ चंद्र कश्मीरी ने बताया सड़क से जा रही आईपीएच की पाइप लाइनों के टूटने के कारण सड़क में भूस्खलन हो गया और सड़क का एक हिस्सा टूट गया, जिसे ठीक करवाने में विभाग ने जेसीबी मशीन लगा रखी है। सड़क को अस्थायी रूप से बहाल कर दिया गया है।
... और पढ़ें

रोहडू बाजार की हर गतिविधि पर रहेगी अब कैमरे की नजर

रोहडू। रोहडू बाजार में यातायात के नियमों का उल्लंघन करने वालों और अन्य शरारती तत्वों पर अब कैमरे की नजर रहेगी। व्यापार मंडल के सहयोग से पुलिस ने पूरे बाजार में सीसीटीवी कैमरे लगाने की कवायद शुरू कर दी है। असामाजिक तत्व को पकड़ना अब पुलिस के लिए आसान होने वाला है।
रोहडू बाजार में मुख्य चौक से लेकर पूरी सड़क पर कैमरे की नजर रहेगी। अपर बाजार और कोर्ट रोड को भी इसमें शामिल किया गया है, बाकि बचे भाग में इसको दूसरे चरण में शामिल किया गया है। बाजार में यातायात व्यवस्था पर निगरानी रखने, रात के समय चोरी की वारदात को रोकने सहित अन्य असामाजिक तत्वों से निपटने के लिए बाजार में लगे कैमरों की खास भूमिका रहेगी। सभी कैमरों की निगरानी पुलिस कंट्रोल रूम से की जाएगी। व्यापार मंडल के अध्यक्ष अमित नेपटा ने बताया कि बाजार के सभी व्यापारियों ने कैमरे लगाने के लिए पहले चरण में एक लाख रुपये की राशि आपस में जुटाई है। कैमरे पुलिस के सहयोग से बाजार में लग रहे हैे। उन्होंने कहा कि पूरे बजार में कैमरे लगाने पर करीब छह लाख रुपये खर्च होने हैं। बाजार में कैमरे लगाने का कार्य दो चरणों में किया जा रहा है।
डीएसपी रोहडू सुनील नेगी ने बताया कि रोहडू बाजार में अच्छी क्वालिटी के कैमरे लगाए जा रहे हैं। उन्होंने कहा कि रात के समय खास कर कैमरे की निगरानी से पुलिस को आपराधिक तत्व के साथ निपटने में आसानी हो जाएगी। उन्होंने कहा यातायात पर भी इससे नजर रहेगी। चोरी और अन्य वारदातों पर भी अंकुश लगेगा।
... और पढ़ें

नारकंडा मे खुले में शौच पर लगेगा 100 रुपये जुर्माना

कुमारसैन (रामपुर बुशहर)। नारकंडा में खुले में शौच किया तो 100 रुपये जुर्माना भरना पड़ेगा। नारकंडा को बाह्य शौच मुक्त नगर पंचायत का दर्जा मिलने के बाद पंचायत ने यह फरमान जारी किया है। गौर हो कि भारत सरकार के आवास और शहरी मामलों के मंत्रालय की ओर से नगर पंचायत नारकंडा को बाह्य शौच मुक्त प्रमाणित किया गया है। मंत्रालय की ओर से 3 सर्वेक्षणों के उपरांत नगर पंचायत नारकंडा को इस आशय का प्रमाण पत्र जारी किया गया है।
नगर पंचायत अध्यक्ष कमलेश कैंथला और उपाध्यक्ष राज कंवल ने बताया कि मंत्रालय के दिशा निर्देशों को पूरा करने के बाद ही बाह्य शौच मुक्त का दर्जा मिला है, जिसका श्रेय नगर पंचायत के प्रतिनिधियों, कर्मचारियों और क्षेत्र की जनता को जाता है। नायब तहसीलदार कुमारसैन और नगर पंचायत नारकंडा के सचिव रमेश चंद ने बताया कि नारकंडा में सात सार्वजनिक शौचालय हैं, जिसमें सात कर्मचारी सेवाएं दे रहे हैं। आने वाले समय में स्वच्छता के लिए और पुख्ता कदम उठाए जाएंगे। वहीं, नगर पंचायत ने फरमान जारी कर दिया है कि यदि कोई भी व्यक्ति नारकंडा में खुले में शौच करते हुए पाया गया तो उसे 100 रुपये जुर्माना वसूला जाएगा।
... और पढ़ें

बड़े वाहनों की आवाजाही से घंटों जाम की समस्या झेल रहे लोग

ब्रौ (रामपुर बुशहर)। नेशनल हाईवे पांच डकोलढ़ के पास बड़े वाहनों की आवाजाही के लिए ठप होने से भारी वाहनों को वाया वजीर बावड़ी-झाकड़ी होकर तो भेजा जा रहा है, लेकिन बेहतर यातायात और सुरक्षा व्यवस्था न होने से लोग घंटों जाम की समस्या से जूझ रहे हैं। वहीं, सड़क के दोनों ओर पार्क किए गए वाहनों से भी समस्या और अधिक होती जा रही है। ऐसे में सड़क पर पैदल चलने वाले राहगीर और स्कूली बच्चे भी समस्याओं से दो चार हो रहे हैं। हालांकि यात्रियों और लोगों की सुविधाओं को देखते हुए स्थानीय प्रशासन ने थाना प्रभारी को सतलुज नदी के किनारे की ओर पार्क हुए वाहनों को सख्ती से हटाने के निर्देश दिए हैं।
गौर हो कि बीते वीरवार को रामपुर के साथ लगते डकोलढ़ क्षेत्र में एनएच पांच धंसने से उक्त मार्ग पर बड़े वाहनों की आवाजाही पर अगले चार दिन तक प्रतिबंध लगाया गया है। वाहनों को शिमला से किन्नौर, ज्यूरी क्षेत्र की ओर जाने वाले वाहनों को वाया वजीर बावड़ी-झाकड़ी मार्ग होकर भेजा जा रहा है। इसके चलते निरमंड उपमंडल के ब्रौ, जगातखाना और चाटी क्षेत्र में वाहनों की आवाजाही काफी बढ़ गई है। दो दिन से क्षेत्र में लोगों को एक से दो घंटे तक जाम की समस्या से जूझना पड़ रहा है। उक्त क्षेत्रों से हजारों लोगों, स्कूली बच्चों और कर्मचारी वर्ग का हमेशा आना जाना इसी सड़क से रहता है। जाम की समस्या के चलते उन्हें भी खासी दिक्कतें झेलनी पड़ रही हैं। समस्या की सबसे बड़ी वजह पुलिस प्रशासन के पास पर्याप्त स्टाफ न होना और सड़क किनारे बेतरतीब पार्क वाहन हैं। तंग सड़क पर बड़े वाहनों को आने जाने में खासी मशक्कत करनी पड़ रही है।
तुनन पंचायत प्रधान देविका ने कहा कि वाहनों को पार्क करने की समस्या लंबे समय से बनी हुई है, जिसका स्थायी समाधान किया जाना चाहिए। क्षेत्र के यशवंत शर्मा, धर्म सेन, बलवीर सिंह, कुशाल साहनी, राज गौतम, ओपी ठाकुर, सुरेंद्र चौहान, तरुण शर्मा, जय सिंह, यशपाल ठाकुर, इंद्रजीत कायथ, मनमोहन सिंह, दुर्गा सिंह, साहिल जिष्टू, मोहर सिंह, राजपाल सिंह सहित अन्य लोगों ने कहा कि प्रशासन और पुलिस को चाहिए कि बेतरतीब तरीके से पार्क हुए वाहनों को यहां से हटाया जाए, ताकि जाम की स्थिति से निपटा जा सके। उन्होंने कहा कि यह समस्या वर्षों से बनी हुई है, जिसका प्रशासन को स्थायी समाधान करना चाहिए।
उधर, एसडीएम आनी चेत सिंह ने कहा कि प्रशासन ने लोगों की सुविधा को देखते हुए स्थानीय थाना प्रभारी को सतलुज रिवर बैंक साइड में पार्क किए गए वाहनों को हटाने के निर्देश दिए गए हैं। क्षेत्र में सड़क से बेतरतीब पार्क किए गए वाहनों की समस्या से निजात दिलाने को जल्द ही स्थायी समाधान किया जाएगा।
... और पढ़ें

छह-छह माह बाद उपभोक्ताओं को थमाए जा रहे बिजली बिल

सांगला (किन्नौर)। विद्युत बोर्ड की लापरवाही के चलते इन दिनों जनजातीय जिला किन्नौर के विद्युत उपभोक्ता परेशान हैं। स्टाफ के अभाव के उपभोक्ताओं को एक साथ छह-छह माह के बिजली बिल थमाए जा रहे हैं, जिसे देखकर उपभोक्ताओं के होश उड़ रहे हैं। वहीं, एक साथ छह माह का बिजली बिल चुकाना कई ग्रामीणों के लिए मुश्किल हो रहा है। ग्रामीणों ने विद्युत बोर्ड प्रबंधन से एक से दो माह की अवधि में बिजली बिल देने की मांग की है।
गौरतलब है कि किन्नौर जिले के कल्पा खंड के रिकांगपिओ में विद्युत बोर्ड ने उपभोक्ताओं को एक साथ छह माह का बिजली बिल थमाया है। 6 माह का भारी भरकम बिल देखकर जहां उपभोक्ताओं के होश उड़ गए हैं, वहीं अब उन्हें बिल अदा करने की चिंता सता रही है। जिला मुख्यालय रिकांगपिओ सहित कल्पा, रोघी, दुन्नी, पांगी, तेलंगी, खवांगी, शुदारंग, कोठी क्षेत्र में बोर्ड ने 6 माह का भारी भरकम बिल एक साथ दिया है, जबकि जिले के कल्पा, निचार और पूह खंड के तहत आने वाले कई ग्रामीण क्षेत्रों के हजारों उपभोक्ताओं को अभी भी बिजली बिल नहीं मिल पाए हैं।
जिले के विद्युत उपभोक्ता उमेश नेगी, हिम्मत नेगी, प्रेम कुमार नेगी, वीर सिंह नेगी, प्रीतम नेगी, बद्री दुध्यान, यतेंद्र दुध्यान, त्रिलोक नेगी, डीडी नेगी, राजकमल नेगी, प्रमोद नेगी सहित अन्य उपभोक्ताओं ने प्रदेश सरकार, जिला प्रशासन और विद्युत बोर्ड प्रबंधन से एक से दो माह के भीतर बिजली बिल देने की मांग की है, ताकि उपभोक्ताओं पर अधिक आर्थिक बोझ न पड़े। उन्होंने कहा कि जिले के 80 फीसदी लोग कृषि पर निर्भर हैं, ऐसे में छह माह का भारी भरकम बिल चुकाना उनके लिए परेशानियों भरा है।
उधर, विद्युत बोर्ड रिकांगपिओ के एसडीओ बीरबल नेगी ने कहा कि स्टाफ के अभाव के चलते समय पर बिजली बिल नहीं बंट पा रहे हैं। समस्या को लेकर विभाग के उच्चाधिकारियों को सूचित किया जा चुका है। उपभोक्ताओं को समय पर बिल मुहैया करवाने के हर संभव प्रयास किए जा रहे हैं।
... और पढ़ें

झाकड़ी सर्जशाफ्ट बसाहरा सड़क पर पड़े गड्ढे दे रहे हादसों को न्यौता

रामपुर बुशहर। रामपुर उपमंडल के तहत आने वाली झाकड़ी सर्जशाफ्ट बसाहरा मार्ग की हालत बीते लंबे समय से दयनीय बनी हुई है। इस सड़क पर जगह-जगह गड्ढे होने से तीन पंचायतों के हजारों लोगों को जान जोखिम में डालकर सफर कतरना पड़ रहा है। खस्ताहाल सड़क हादसों को न्योता दे रही है। ग्रामीणों ने मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर, सीएमडी झाकड़ी परियोजना, उपायुक्त शिमला और एसडीएम रामपुर को शिकायत पत्र भेजकर सड़क की दयनीय दशा सुधारने की गुहार लगाई है।
क्षेत्रवासी प्रवीण शर्मा, मस्तराम चौहान, अजय शर्मा, रूप लाल, पूर्ण चंद शर्मा, मोहन नेगी, मोनू मेहता, संजीव भंडारी, देश कुमार, राम दयाल, संजू चौहान और मस्त राम राना सहित अन्य लोगों का कहना है कि झाकड़ी परियोजना और लोक निर्माण विभाग सड़क की दयनीय हालत की सुध नहीं ले रहा है। इसके चलते ग्रामीणों को खासी परेशानियां झेलनी पड़ रही हैं। रोजाना वाहनों को नुकसान पहुंच रहा है और जान जोखिम में डालकर सफर कर रहे हैं। गौरा, गोपालपुर और झाकड़ी पंचायत की तीन पंचायतों के हजारों लोग इस मार्ग से लाभान्वित होते हैं। तीनों पंचायतों के लोगों ने परियोजना प्रमुख से समस्या को दूर करने की भी मांग उठाई। बावजूद इसके परियोजना प्रबंधन ने कोई कदम नहीं उठाया गया। मार्ग की हालत खस्ता होने से अब तो गाड़ी चालक भी आवाजाही करने से कतरा रहे हैं। ग्रामीणों ने प्रदेश सरकार और झाकड़ी परियोजना से शीघ्र सर्ज शाफ्ट सड़क को जल्द सुधारने की मांग की है।
... और पढ़ें

दूसरे दिन भी बड़े वाहनों की आवाजाही के लिए बाधित रहा एनएच पांच

रामपुर बुशहर। रामपुर के साथ लगते डकोलढ़ क्षेत्र में एनएच पांच के धंसने से लोगों की समस्याएं बढ़ती ही जा रही हैं। शुक्रवार को भी दिन भर एनएच पर बड़े वाहनों की आवाजाही न होने से शिमला और किन्नौर जाने वाले यात्रियों को खासी परेशानियां झेलनी पड़ीं। यात्रियों को कई किलोमीटर का पैदल सफर कर जीरो प्वाइंट पहुंचना पड़ा, यहां से यात्रियों को ट्रांसमिट कर रामपुर पहुंचने की व्यवस्था की गई है।
गौरतलब है कि डकोलढ़ में नेशनल हाईवे पांच के धंसने का सिलसिला लगातार बना हुआ है। एनएच पर बीते कई वर्षों से सुरक्षा दीवार न लगने के चलते यहां हमेशा खतरा बना रहता था, लेकिन बीते वीरवार को एनएच को चौड़ा करने के कार्य के दौरान आईपीएच की लाइन लीक हो गई और भूस्खलन का सिलसिला शुरू हो गया। इसके चलते सड़क पर भी लंबी दरारें पड़ गई हैं। यदि समय रहते सुरक्षा के लिहाज से सड़क की हालत को नहीं सुधारा गया तो यहां नेशनल हाईवे ध्वस्त हो सकता है, जिससे किन्नौर और शिमला की ओर आने जाने वाले हजारों लोगों को परेशानियां झेलनी पड़ सकती हैं।
शुक्रवार को शिमला से किन्नौर जाने वाले बड़े वाहनों को वजीर बावड़ी वाया झाकड़ी होकर भेजा गया। वहीं, रामपुर के लोकल रूटों पर सवारियों को ट्रांसमिट कर भेजा गया। शिमला की ओर से आने वाली बसों को वजीर बावड़ी पर रोका गया, जबकि यहां से आगे का सफर लोगों को पैदल तय करना पड़ा। हालांकि, बाद में निगम प्रबंधन ने डकोलढ़ के जीरो प्वाइंट के पास यात्रियों की सुविधा को लिए बसों की व्यवस्था कर दी थी।
वहीं रामपुर से शिमला की ओर जाने वाले यात्रियों को चाटी के पास बस लेने की व्यवस्था की गई है। ऐसे में करीब एक सप्ताह तक नेशनल हाईवे पर बड़े वाहनों की आवाजाही पर पूरी तरह से रोक लगा दी गई है। यात्रियों को एक सप्ताह तक परेशानियां झेलनी पड़ेंगी।
एसडीएम रामपुर नरेंद्र चौहान ने कहा कि यात्रियों की सुविधा को देखते हुए वजीर बावड़ी और चाटी में बसों की सुविधा मुहैया करवाई जा रही है। एनएच प्राधिकरण के अधिकारियों को युद्धस्तर पर कार्य करने के निर्देश दिए गए हैं। करीब एक सप्ताह तक लोगों को परेशानियां झेलनी पड़ सकती हैं।
परिवहन निगम रामपुर के अड्डा प्रभारी भाग चंद ने बताया कि रामपुर से शिमला जाने के लिए यात्रियों को ट्रांसमिट कर भेजा जा रहा है। वहीं किन्नौर जाने वाली बसें सीधी वजीर बावड़ी वाया झाकड़ी होकर जा रही हैं।
... और पढ़ें

चौपाल में पुलिस कर्मियों के खिलाफ लोगों ने किया धरना प्रदर्शन

चौपाल (रोहड़ू)। नेरवा में तीन युवकों पर पुलिस की ओर से किए गए लाठीचार्ज का मामला शांत होने का नाम नहीं ले रहा है। चौपाल क्षेत्र की विभिन्न पंचायतों के लोगों ने शुक्रवार को उपमंडल कार्यालय चौपाल में धरना-प्रदर्शन किया। लोगों ने एसडीएम चौपाल के माध्यम से मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर को ज्ञापन भी भेजा।
धरने में उपस्थित लोगों ने सरकार से मांग की है कि नेरवा लाठीचार्ज में संलिप्त पुलिस कर्मियों के निलंबन को रद्द नहीं किया जाए। बल्कि, मामले की उच्च स्तरीय जांच कर इनके विरुद्ध कड़ी से कड़ी कार्रवाई की जाए। प्रदर्शन में उपस्थित लोगों ने कहा कि यदि जांच को प्रभावित कर पुलिस जवानों के निलंबन को बहाल किया गया तो आंदोलन और उग्र किया जाएगा। इस अवसर पर प्रधान ग्राम पंचायत लिंगजार सीता देवी, प्रधान धबास भोपिंद्र सिंह, उप प्रधान रमेश चौहान, प्रधान ग्राम पंचायत झोकड़ आशा देवी, उपप्रधान प्रेम ठाकुर, अतुल भंडारी, पूर्व उप-प्रधान मोहरसिंह, पूर्व बीडीसी सदस्य सीमा ठाकुर, धर्मेंद्र ठाकुर, अतुल शर्मा, विक्रम शर्मा, रविंद्र ठाकुर, सीता राम ठाकुर, रोहित ठाकुर, सुरेश ठाकुर भी उपस्थित रहे।
... और पढ़ें

प्रशासन ने व्यापारियों को दिए सामान समेटने के निर्देश

रामपुर बुशहर। गत 11 नवंबर से रामपुर में आयोजित हो रहे अंतरराष्ट्रीय लवी मेले का विधिवत समापन हो चुका है। मेले में सजी दुकानों को हटाने के प्रशासन ने सख्त निर्देश जारी कर दिए हैं और मेला मैदान में दुकानों को हटाने का कार्य भी शुरू हो गया है। व्यापारियों की मांग को देखते हुए लवी मेले को पांच दिसंबर तक सजाने की प्रशासन ने मंजूरी दी थी, जो अब समाप्त हो चुकी है।
करीब तीन सौ वर्ष से रामपुर में आयोजित हो रहे व्यापारिक लवी मेले को समाप्त करने की अंतिम तिथि प्रशासन ने पांच दिसंबर घोषित कर रखी थी। शुक्रवार को प्रशासन ने नेशनल हाईवे पांच और पाट बंगला मैदान में सजी दुकानों को हटाने के निर्देश जारी कर दिए। हालांकि, प्रशासन ने व्यापारियों को स्टाल खाली करवाने के लिए एक लाउड स्पीकर वाला वाहन भी तैनात कर दिया है। इसके माध्यम से व्यापारियों को दुकानें हटाने के बारे में सूचित किया जा रहा है। बीते वर्षों के मुकाबले इस वर्ष व्यापारियों को अच्छा-खासा मुनाफा हुआ है। वहीं, ग्रामीण क्षेत्रों से पहुंचे लोगों ने भी वाजिब दामों पर गर्म कपड़े और घरेलू इस्तेमाल का सामान खरीदा। शुक्रवार को दुकानें हटाने के बावजूद लोगों की खासी भीड़ मेले में जुटी रही। आखिरी दिन होने के चलते व्यापारियों ने अपने सामान में काफी छूट दे रखी थी। एक-दो दिन में एनएच पांच और मेला मैदान पाटबंगला को पूरी तरह से खाली करवा दिया जाएगा। हर वर्ष इस मेले में जहां लोग गर्म कपड़ों, बर्तनों, खेती में इस्तेमाल होने वाले औजारों और किन्नौर लाहौल स्पीति से आने वाले मसालों की जमकर खरीदारी करते हैं।
एसडीएम रामपुर नरेंद्र चौहान ने बताया कि लवी मेले में सजी दुकानों को खाली करने के निर्देश प्रशासन ने जारी कर दिए हैं। व्यापारियों को सूचित करने के लिए लाउड स्पीकर वाला वाहन इस्तेमाल किया जा रहा है। उन्होंने सभी व्यापारियों से जल्द अपना सामान समेटने और स्टालों को खाली करने के निर्देश दिए हैं।
... और पढ़ें

सीनियर सेकेंडरी स्कूल में शॉट सर्किट से बिजली के कई उपकरण जले

नौ करोड़ 38 लाख से चकाचक होगी टापरी-चगांव सड़क

नौ करोड़ 38 लाख से चकाचक होगी टापरी-चगांव सड़क
18 किमी सड़क की हालत सुधारने के लिए बजट जारी, जल्द होंगे टेंडर
बीरबल नेगी
सांगला (किन्नौर)। किन्नौर जिले के निचार खंड की टापरी-चगांव वाया उरनी चोलिंग सड़क जल्द चकाचक होगी। करीब 18 किलोमीटर सड़क का प्रधानमंत्री ग्रामीण सड़क योजना में 9 करोड़ 38 लाख रुपये से कायाकल्प होगा। सड़क की दशा को सुधारने के लिए मंजूरी मिल चुकी है। 18 किमी सड़क पर टारिंग और मेटलिंग के साथ साथ पैरापिट, पक्की दीवारें, निकासी व्यवस्था सहित कई अन्य कार्य कर सड़क की हालत को सुधारा जाएगा। सड़क की दशा सुधरने से किन्नौर जिले के निचार खंड की चगांव, उरनी, यूला और मीरू पंचायतों की हजारों की आबादी को लाभ मिलेगा। क्षेत्र के लोगों को सड़क की बेहतर सुविधा मिलने के साथ-साथ उनकी नकदी फसलों को मंडियों तक जल्द पहुंचाने में भी मदद मिलेगी।
निचार मंडल अध्यक्ष संजय नेगी, उपप्रधान चगांव तेजिंद्र नेगी, प्रधान उरनी गीता नेगी, प्रधान मीरू किरण नेगी, प्रधान यूला कुंदन नेगी, सुनील नेगी, मस्तान नेगी, सनम ज्ञाछो नेगी, वेद प्रकाश नेगी, शरद नेगी, रणजीत नेगी, सुंदर नेगी, सुमन नेगी, बलवीर नेगी, धनवीर नेगी, संजीव नेगी, रामानंद नेगी, विमल नेगी, आदर्श नेगी, गंगादेव नेगी, राजेश नेगी, प्रवेश नेगी और कपिल नेगी ने इसके लिए मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर, प्रदेश वन निगम उपाध्यक्ष सूरत नेगी का आभार प्रकट किया।
---
उधर, लोक निर्माण विभाग भावानगर के अधिशाषी अभियंता राहुल सूद ने कहा कि 18 किमी सड़क की मरम्मत के लिए बजट को स्वीकृति मिल चुकी है। जल्द ही टेंडर प्रक्रिया शुरू कर सड़क की हालत को सुधारा जाएगा।
- बीरबल
... और पढ़ें
अपने शहर की सभी खबर पढ़ने के लिए amarujala.com पर जाएं

Disclaimer

अपनी वेबसाइट पर हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर अनुभव प्रदान कर सकें, वेबसाइट के ट्रैफिक का विश्लेषण कर सकें, कॉन्टेंट व्यक्तिगत तरीके से पेश कर सकें और हमारे पार्टनर्स, जैसे की Google, और सोशल मीडिया साइट्स, जैसे की Facebook, के साथ लक्षित विज्ञापन पेश करने के लिए उपयोग कर सकें। साथ ही, अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।

Agree
Election