Rajasthan Political Crisis News: सुलह का फॉर्मूला.. दोनों पद रहेंगे, तीन मंत्री बनेंगे, बैठक आज

अमर उजाला नेटवर्क, नई दिल्ली Updated Tue, 14 Jul 2020 06:54 AM IST
विज्ञापन
सचिन पायलट-प्रियंका गांधी वाड्रा-अशोक गहलोत (फाइल फोटो)
सचिन पायलट-प्रियंका गांधी वाड्रा-अशोक गहलोत (फाइल फोटो) - फोटो : PTI

पढ़ें अमर उजाला ई-पेपर
कहीं भी, कभी भी।

*Yearly subscription for just ₹249 + Free Coupon worth ₹200

ख़बर सुनें

सार

  • सोमवार को पूरे दिन चलती रही पायलट को मनाने की कवायद
  • प्रियंका ने बात की तो शर्तों और फार्मूले पर आ गए पायलट

विस्तार

राजस्थान में जारी सियासी संकट के बीच कांग्रेस पार्टी सोमवार को अपने बगावती विधायकों में से कुछ को अशोक गहलोत के पक्ष में खींचने में कामयाब रही। हालांकि सचिन पायलट के मान-मनौव्वल का खेल पूरे दिन चलता रहा। पार्टी एक तरफ जहां ये जताती रही कि उनके बिना भी राजस्थान सरकार सुरक्षित है, वहीं पर्दे के पीछे जोरशोर से उन्हें मनाने की कोशिश हर स्तर पर जारी रही।
विज्ञापन


बीते रोज शाम पांच बजे के करीब जब नेताओं से बात बनती नहीं दिखी तब पार्टी की महासचिव प्रियंका गांधी को मैदान में उतरना पड़ा। इसके बाद सचिन पायलट ने सुलह का एक फार्मूला और कुछ शर्तें रखीं। अब यह फॉर्मूला, शर्तें और सरकार बचाने जैसे अन्य जरूरी मसले आज होने वाली विधायक दल की बैठक में प्रमुख मुद्दा होंगे।

उधर, सरकार बचाने के लिए जयपुर भेजे गए रणदीप सुरजेवाला ने सार्वजनिक किया कि दो दिनों में सचिन पायलट से लगातार कई बार कई वरिष्ठ नेताओं ने बात की है। इससे पहले कांग्रेस नेतृत्व ने पायलट के करीबी युवा नेताओं मिलिंद देवड़ा और जतिन प्रसाद को बात करने को कहा था, लेकिन उन्होंने दोस्ती का हवाला दे इससे इंकार कर दिया।

कांग्रेस पायलट को लगातार दोनों तरह से संदेश देती रही
कभी जयपुर कांग्रेस कार्यालय से सचिन पायलट के बैनर पोस्टर हटवाए गए तो कुछ घंटों में फिर लगाए गए। पार्टी प्रवक्ता टीवी पर उन्हें इतनी कम उम्र मिले पद और कद की दुहाई देते रहे। वरिष्ठ नेता पीएल पुनिया ने पहले बयान दिया कि सचिन पायलट अब भाजपा में वो क्या कह रहे उससे फर्क नहीं पड़ता।

ऐसा उन्होंने भाजपा के संपर्क को लेकर कहा लेकिन पायलट के इस बयान पर कि वह भाजपा में नहीं जा रहे हैं के बाद बयान से पलटी मार ज्योतिरादित्य सिंधिया का नाम लिया।

आज सुबह 10 बजे फिर कांग्रेस विधायक दल की बैठक
कांग्रेस नेता सुरजेवाला ने कहा कि मौजूदा सियासी स्थिति पर चर्चा करने के लिए आज सुबह 10 बजे फिर कांग्रेस विधायक दल की बैठक होगी। हमने सचिन पायलट सहित सभी विधायकों से आने को कहा है। हम उन्हें लिखित में भी सूचना देंगे। हमने उन्हें यहां आकर स्थिति पर चर्चा करने को कहा है।  

मामला बिगड़ने की यह रही वजह
राजस्थान में गहलोत सरकार को कथित रूप से अस्थिर करने के मामले में स्पेशल ऑपरेशन ग्रुप (एसओजी) द्वारा जारी नोटिस से उपमुख्यमंत्री पायलट इतने नाराज हुए कि आलाकमान से मिलने दिल्ली को रवाना हो गए।

वहीं इस मामले में मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने कहा था कि एसओजी का नोटिस उन्हें भी आया है और उनसे भी पूछताछ की जाएगी। जबकि पायलट खेमे का कहना था कि यह सब कुछ हमारे नेता को बदनाम करने के लिए किया गया है।
विज्ञापन
आगे पढ़ें

पायलट के भाजपा में जाने का बयान देकर कुछ देर में ही पलटे पूनिया

विज्ञापन
विज्ञापन

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News apps, iOS Hindi News apps और Amarujala Hindi News apps अपने मोबाइल पे|
Get all India News in Hindi related to live update of politics, sports, entertainment, technology and education etc. Stay updated with us for all breaking news from India News and more news in Hindi.

विज्ञापन

Spotlight

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
Election
X

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
  • Downloads

Follow Us