विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
हनुमान जयंती पर नौकरी प्राप्ति, आर्थिक उन्नत्ति, राजनीतिक सफलता एवं शत्रुनाशक हनुमंत अनुष्ठान - 8 अप्रैल 2020
Astrology Services

हनुमान जयंती पर नौकरी प्राप्ति, आर्थिक उन्नत्ति, राजनीतिक सफलता एवं शत्रुनाशक हनुमंत अनुष्ठान - 8 अप्रैल 2020

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

लॉकडाउन में समय का सदुपयोग, प्रतिभा निखारने में जुटे होनहार, आप भी कर सकते हैं कुछ ऐसा

कोरोना वायरस के चलते पूरे देश में लॉकडाउन है। कुछ लोग इस समय का अपनी प्रतिभा निखारने में सदुपयोग कर रहे हैं। बच्चों से लेकर बुजुर्गों तक कुछ न कुछ नया करने में जुटे हैं।

6 अप्रैल 2020

विज्ञापन
विज्ञापन

उधमपुर

सोमवार, 6 अप्रैल 2020

जम्मू-कश्मीरः दरबार मूव पर कोरोना का प्रकोप, सरकार जल्द ही जारी कर सकती है अधिसूचना

कोरोना वायरस के कारण बने हालात के चलते केंद्र शासित जम्मू कश्मीर में दरबार मूव का टलना तय है। सरकार इस संबंध में आगामी दिनों में अधिसूचना जारी करने की तैयारी भी कर रही है। आधिकारिक सूत्रों के अनुसार देश के अन्य हिस्सों की तरह जम्मू-कश्मीर में कोरोना वायरस के चलते वर्तमान हालात में दरबार मूव हो पाना संभव नहीं लग रहा। इस विषय पर उपराज्यपाल गिरीश चंद्र मुर्मू विभिन्न स्तर पर चर्चा कर रहे हैं और आगामी दिनों में इस संबंध में सरकार अधिसूचना जारी करेगी।

उल्लेखनीय है कि दरबार मूव की परंपरा के तहत 24 अप्रैल को जम्मू में दरबार मूव के कार्यालय जिसमें नागरिक सचिवालय, राजभवन, पुलिस मुख्यालय सहित दरबार से संबंधित अन्य कार्यालय बंद होने हैं। केंद्र शासित प्रदेश की ग्रीष्मकालीन राजधानी श्रीनगर में चार मई 2020 को सरकार का दरबार सजने की तैयारी थी।

वहीं कोरोना वायरस के प्रकोप के चलते 14 अप्रैल तक तो देश सहित प्रदेश में भी लॉकडाउन है। ऐसे में दरबार मूव का टलना लगभग तय ही है। दरबार मूव के तहत सभी प्रशासनिक सचिवों से लेकर इससे जुड़े करीब दस हजार कर्मचारी भी जम्मू से श्रीनगर शिफ्ट होते हैं।
... और पढ़ें

तेज बारिश तथा ओलावृष्टि ने बढ़ाई ठंड

चिनैनी । एक ओर जहां मैदानी इलाकों में गर्मी बढ़ती जा रही है तो वही पहाड़ी इलाकों में अभी भी ठंड से राहत नहीं मिल पा रही है सुबह शाम को ठंड में इजाफा हो जाता है और दोपहर के समय गर्मी हो जाती है जिससे मौसमी बीमारियां भी फैल रही है, क्षेत्र में रविवार की सुबह आसमान पूरी तरह साफ था तथा सूर्यदेव की तपिश लोगों को राहत पहुंचा रही थी मगर दोपहर बाद आसमान पर बादलों का डेरा एकाएक लग गया और काले बादलों के साथ-साथ क्षेत्र में तेज बारिश और भारी ओलावृष्टि हुई जिससे ठंडी हवाएं तो चलने ही लगी लोगों द्वारा गर्म कपड़ों का प्रयोग भी किया गया वही ऊंची पर्वत श्रृंखला पर जिसमें सियोजदार जैसी पहाड़ियों पर हल्की बर्फ भी गिरी साथ ही ऊंची पहाड़ियों पर बसे लोगों द्वारा अलाव का भी इस्तेमाल किया गया शाम तक लगातार बारिश जारी थी और आसमान भी बादलों से घिरा हुआ था जिससे लगातार बारिश की उम्मीद लगाई जा रही थी साथ ही इस बारिश से नदी नालों के जलस्तर में भी एकाएक बढ़ोतरी हो गई ! गौरतलब है कि अप्रैल माह में पहाड़ी इलाकों में मौसम तब्दील होना शुरू हो जाता है तथा बैसाखी पर लोग ठंडे कपड़े का इस्तेमाल करना शुरू हो जाते हैं मगर जिस तरह से लगातार बारिश हो रही है उससे पहाड़ी इलाकों में अभी भी ठंड से राहत मिलने की उम्मीद कम नजर आ रही है ... और पढ़ें

कश्मीर में मिले 14 और संक्रमित, कुल मरीजों की संख्या 106 हुई, 5,552 नए संदिग्ध निगरानी में

जम्मू-कश्मीर में कोरोना संक्रमण लगातार बढ़ रहा है। आज यानी कि रविवार को कश्मीर संभाग में 14 और नए मामले सामने आए हैं। इसके साथ ही अब प्रदेश में कुल संक्रमित मरीजों की संख्या 106 हो गई है। इससे पहले शनिवार को एक ही दिन में सर्वाधिक 17 नए मरीज सामने आए थे। इनमें तीन माह की बच्ची समेत जमातियों के नौ रिश्तेदार शामिल हैं। इनके अलावा भी संक्रमित आए नए मामलों में ज्यादातर तब्लीगी जमात से जुड़े लोगों के संपर्क में रहे बताए जा रहे हैं।

शनिवार को सामने आए 17 मामलों में 14 कश्मीर घाटी व तीन उधमपुर के एक ही परिवार के हैं। कश्मीर में संक्रमित पाए गए मरीजों में छह जमाती हैं। इस बीच उधमपुर में एक होटल में क्वारंटीन किए गए 74 साल के एक संदिग्ध मरीज की शनिवार देर रात मौत हो गई।

जिले के रेड जोन घोषित एक गांव का निवासी इस व्यक्ति को 2 अप्रैल को क्वारंटीन किया गया था। गांव में दो संक्रमित मिले थे। 3 अप्रैल को जम्मू में इसका परीक्षण कराया गया था। इसकी रिपोर्ट का इंतजार था। मौत के बाद बुजुर्ग का शव जिला अस्पताल के शव गृह मे रख दिया गया है।
... और पढ़ें

लॉकडाउन में समय का सदुपयोग, प्रतिभा निखारने में जुटे होनहार, आप भी कर सकते हैं कुछ ऐसा

जम्मू-कश्मीर में लॉकडाउन जम्मू-कश्मीर में लॉकडाउन

जम्मू-कश्मीरः कोरोना से निपटने के लिए उमर ने की उद्धव ठाकरे की सराहना, कही ये बात

जम्मू-कश्मीर के पूर्व मुख्यमंत्री उमर अब्दुल्ला ने कोरोना वायरस से निपटने के लिए किए गए एहतियाती उपायों के लिए महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे की प्रशंसा की है। उमर ने ट्वीट कर कहा कि महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने जिस तरह से स्थिति को संभाला है उसके लिए उन्हें सोशल मीडिया पर सराहना मिल रही है। मालूम हो कि महाराष्ट्र में कोरोना वायरस के 661 पॉजीटिव मरीज सामने आए हैं जबकि 32 लोगों की मौत हो चुकी है।

बता दें कि रिहा होने के बाद से उमर सोशल मीडिया पर काफी सक्रिय हैं। इससे पहले उमर अब्दुल्ला ने नए अधिवास अधिनियम को लेकर केंद्र सरकार पर निशाना साधा था। उन्होंने कहा कि दिल्ली ने इस संकट के समय अधिवास नियम जारी करके गलती की है। उन्होंने कहा कि पांच अगस्त के बाद से मैंने अपने मन की बात नहीं कही है। लेकिन मौजूदा समय खत्म होते ही मैं अपनी बात कहूंगा।

वहीं एक अप्रैल को जम्मू-कश्मीर के पूर्व मुख्यमंत्री उमर अब्दुल्ला ने नए अधिवास अधिनियम पर कई सवाल उठाए थे। उमर ने कहा कि यदि भारत सरकार के पास कोरोना वायरस जैसी महामारी के बीच अधिवास कानून जारी करने का समय है तो उन्हें महबूबा मुफ्ती को रिहा करने का समय क्यों नहीं मिल सकता है।
... और पढ़ें

जम्मू-कश्मीरः जरूरतमंदों को घर-घर राहत सामग्री पहुंचा रहा आरएसएस, सेवा भारती ने भी संभाल रखा मोर्चा

कोरोना वायरस के चलते हुए लॉकडाउन से प्रभावित वर्ग को राहत पहुंचाने के लिए राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ का राहत सामग्री वितरण का काम समूचे जम्मू संभाग के साथ ही अन्य इलाकों में लगातार जारी है। शहर के राजपुरा, शिव नगर, सुभाष नगर और संग्रामपुर इलाकों में स्वयंसेवकों ने सैकड़ों जरुरतमंद परिवारों को रविवार को राहत सामग्री वितरित की।

स्वयंसेवकों ने असंगठित क्षेत्र के मजदूरों को जिन्हें अपना जीवन यापन चलाने में मुश्किल हो रही है खासतौर पर जो रेहड़ी, फड़ी लगाकर अपने परिवार का पालन पोषण करते थे। ऐसे परिवारों को राहत सामग्री वितरित की। इसके साथ ही स्वयंसवेकों ने सैनिटाइजेशन का काम भी शुरू किया है।

सेवा भारती संकटमोचन दल ने भी शहर एवं बाहरी इलाकों में सुरक्षा कर्मियों को चाय एवं बिस्कुट वितरित किए जो नाके पर सेवा प्रदान कर रहे हैं। दूसरे जिलों में भी सेवा भारती संकट मोचन दल ने राहत सामग्री वितरित की। सेवा भारती की जम्मू कश्मीर इकाई ने कश्मीर संभाग के बारामुला और पुलावामा जिलों में कोरोना वायरस से बचाव के लिए बडे पैमाने पर कार्यकर्ताओं को सक्रिय करते हुए सैनिटाइजेशन अभियान शुरु कर दिया है। इस अभियान में सेवा भारती की कश्मीर इकाई के जिला और ब्लॉक स्तर के मेंबर भी शामिल हैं।

पुलवामा से सेवा भारती के मेंबर मजीद ने बताया कि उनकी टीम का फोकस ग्रामीण इलाकों के अलावा कस्बों पर है। खासकर वह इलाके जहां पर तंग गलियां और मोहल्ले हैं। ऐसे इलाकों में सैनिटाइजेशन के लिए वाकायदा विश्व स्वास्थ्य संगठन के मानकों के मुताबिक छिड़काव किया जा रहा है। मजीद ने बताया कि सेवा भारती की पुलवामा और बारामुला जिलों में महिला मेंबर मास्क वितरित करने के काम में भी जुटी हैं।
... और पढ़ें

जम्मू-कश्मीरः कोरोना के खिलाफ जंग में गांव वालों ने बना दी सेना, दिन-रात पहरा दे रहे हैं युवा

बारिश-आंधी में भी जले संकल्प के दीये
कोरोना वायरस पर रोकथाम लगाने में जुटे सरकारी अमले के साथ आम लोग भी युद्धस्तर पर जुट गए हैं। शहर से सटे नगरोटा ब्लॉक की खानपुर पंचायत में नायब सरपंच समेत 31 युवाओं की टीम बनाई गई है। इस टीम को कोरोना सेना नाम दिया है। 31 जवानों की यह सेना पंचायत की खानपुर और सिथनी बस्तियों के प्रवेश द्वार पर पहरा दे रही है। बाकायदा कंटीले तार लगा दिए गए हैं। पंचायत की 10 हजार की आबादी को कोरोना संक्रमण से बचाने के लिए युवाओं की सेना दिन रात डटी हुई है।
 
खानपुर पंचायत के नायब सरपंच मोहम्मद अमीन ने बताया कि पंचायत में दस हजार की आबादी है। यहां कोरोना संक्रमण फैला तो उसे रोकना मुश्किल हो जाएगा। देर करने से बेहतर लगा कि पहले से ही रोकथाम के हर मुमकिन कदम उठा लिए जाएं।

पिछले 16 दिन से पंचायत की कोरोना सेना दिन-रात पहरेदारी कर रही है। पंचायत क्षेत्र में किसी भी अज्ञात के प्रवेश पर रोक है। यहां से बाहर जाने पर भी पूरी तरह से पाबंदी है। बहुत जरूरी काम होने पर सरपंच, नायब सरपंच और अन्य पंचों के साथ संपर्क करने के लिए कहा गया है। मोहम्मद अमीन ने बताया कि इस व्यवस्था को चलाने में गांव वाले भी पूरा सहयोग कर रहे हैं। दूसरी पंचायतें भी अपने स्तर पर अपने क्षेत्र का कोरोना संक्रमण से इस तरह बचाव कर सकती हैं।

पुलिस ने मुहैया करवाए कंटीले तार
नायब सरपंच ने कहा कि जैसे ही जम्मू में कोरोना संक्रमित व्यक्ति का पता चला था तो उन्होंने पुलिस से बात करके गांव को सील करने के लिए तार की मांग की। इसके बाद पुलिस ने पंचायत की ‘कोरोना सेना’ को कंटीले तार मुहैया करवा दिए। इन तारों से पंचायत के सभी प्रवेश द्वार बंद कर दिए गए। पंचायत के युवाओं ने तारबंदी का काम किया। पुलिस व प्रशासन की ओर से पंचायत को मास्क व अन्य जरूरी सामान भी मुहैया करवाया गया है।
... और पढ़ें

लॉकडाउन के बीच निकाह करने पहुंचा दूल्हा, जम्मू-कश्मीर में चर्चा का विषय रही ये शादी

कोरोना के खिलाफ पूरे देश में लॉकडाउन चल रहा है। इस दौरान जिन परिवारों में शादियां होनी थीं, अधिकांश स्थगित कर दी गईं हैं। दूसरी ओर जहां शादियां स्थगित नहीं की गईं, वहां दूल्हे को इससे जुड़ी रस्में न्यूनतम लोगों के साथ संपन्न करनी पड़ीं।

ऐसा ही एक मामला रविवार को जम्मू-कश्मीर के किश्तवाड़ में सामने आया। यहां पूही गांव निवासी काशिफ रविवार सुबह मात्र एक रिश्तेदार को लेकर निकाह करने किचलू मोहल्ला पहुंचे। वहां पहले से ही निकाह की तैयारी की गई थी। निकाह के बाद बलगीस अपने शौहर के साथ विदा हो गई।

निकाह के दौरान परिवार के सदस्य भी सामाजिक दूरी का ख्याल रख कर बैठे हुए थे। दुल्हन के पहुंचने पर निकाह पढ़ा गया। निकाह और खाने के बाद दूल्हा, दुल्हन को साथ लेकर घर चला गया। दिन भर पूरे किश्तवाड़ में यह शादी चर्चा का विषय रही और सभी सामाजिक दूरी को लेकर किए गए प्रयास की प्रशंसा भी करते रहे।
... और पढ़ें

उधमपुर में नौ बजते ही जल उठे आशा के दीपक

उधमपुर। प्रधानमंत्री के आह्वान के बाद रविवार रात को देविकानगरी के लोगों ने अपने घरों के दरवाजे व बालकनी में खड़ा होकर घर की लाइटों को बंद करके दीप, मोमबत्ती, मोबाइल की फ्लैश लाइटें जलाकर कोरोना के संकट में बनी निराशा को दूर करने के लिए आशा के दीप जलाए। उत्साह के साथ शहरवासियों ने इसमें सहयोग किया।
गौरतलब है कि कुछ दिन पहले प्रधानमंत्री अपने संबोधन में घरों के बाहर दीपक, मोमबत्ती व टार्च जलाने को लेकर आह्वान किया था। उन्होने कहा था कि मैं चाहता हुं कि आप सभी रविवार को मुझे अपने नौ मिनट दें। इस नौ मिनट में अपने घरों की लाइटों को बंद कर घर के दरवाजे और बालकनी में दीपक, मोमबत्ती जलाएं, टार्च या फिर मोबाइल फोन की फ्लैश लाइट जलाएं। इसके बाद लोग इसकी तैयारियों में जुट गए थे। रविवार रात को जैसे ही नौ बजे तो लोगों ने अपने घरों की लाइटों को बंद दिया। कुछ ने तो नौ बजने से पहले ही लाइटों को बंद कर दिया था। इसके बाद सभी ने अपने घरों के बाहर, दीपक, मोमबत्तियां जलाई, टार्च और मोबाइल फोन की फ्लैश लाइटें जलाई। करीब दस मिनट तक शहर के अंदर लाइटें जलती रही और शहर के अंदर एक अजीब सा नजारा देखने को मिला। इसमें हर आयु वर्ग के लोगों ने उत्साह के साथ हिस्सा लिया।
शहरवासियों का कहना था कि आज सभी ने दीपक, मोमबत्तियां जलाकर कोरोना योद्धाओं को हौसला बढ़ाने के साथ कोरोना वायरस से उपजे निराशा के अंधकार को मिटाने का प्रयास कर रहे हैं। आशा के दीप जलने से कोरोना की निराशा जरूर दूर होगी। इसके साथ संदेश दिया है कि इस मुश्किल हालात में पूरा देश एक साथ खड़ा है।
उधमपुर के चिनैनी में प्रधानमंत्री के आह्वान पर कोरोना वायरस से लड़ने में दीये जला कर एकजुटता का स
उधमपुर के चिनैनी में प्रधानमंत्री के आह्वान पर कोरोना वायरस से लड़ने में दीये जला कर एकजुटता का स- फोटो : UDHAMPUR
... और पढ़ें

संक्रमित के संपर्क में रहने वाले सात लोगों का जम्मू में हुआ टेस्ट

उधमपुर। नरसू इलाके में पॉजिविट पाए गए तीन लोगों के संपर्क में रहने वाले सात लोगों का रविवार को जम्मू में कोरोना परीक्षण करवाया गया। स्वास्थ्य विभाग को अब रिपोर्ट का इंतजार है।
गौरतलब है कि तब्लीगी जमात के सदस्य के कोरोना संक्रमित मिलने के बाद तीन पारिवारिक सदस्य भी शनिवार को संक्रमित पाए गए। इसके बाद स्वास्थ्य विभाग ने इन तीन के संपर्क में रहने वाले सात लोगों को विभिन्न स्थानों पर क्वारंटीन किया गया था। साथ ही प्रशासन ने शनिवार शाम को पूरे नरसू इलाके को रेड जोन घोषित कर दिया था।
रविवार सुबह क्वारंटीन किए गए सभी सात लोगों को कोरोना टेस्ट के लिए एंबुलेंस में बिठाकर जम्मू भेजा गया। अब प्रशासन व स्वास्थ्य विभाग को इनकी रिपोर्ट का इंतजार है।
... और पढ़ें

उधमपुर में लगातार तीसरे दिन भी मिली चार घंटे की छूट

उधमपुर। जिला प्रशासन ने रविवार को चार घंटे के लिए छूट देकर शहरवासियों को तीसरे दिन भी राहत प्रदान की। लोगों ने सुबह बाजार पहुंच कर दूध, किराना और दवाई खरीदी। लगातार तीसरे दिन चार घंटे के लिए बाजार में कुछ दुकानें खुलने पर कम भीड़ नजर आई। शहरवासियों ने सामाजिक दूरी बना कर सामान खरीदा। दोपहर के 12 बजते ही भी दुकानों को बंद करवा दिया गया।
पिछले दिनों जिले में पॉजिटिव मामले सामने आने के बाद भी प्रशासन की तरफ से चार घंटे के लिए छूट दी जा रही है। कुछ दिन के इंतजार के बाद प्रशासन की तरफ से शुक्रवार को दवाई, दूध और किराना की दुकानें खोलने की अनुमति मिली। इस अनुमति को रविवार को तीसरे दिन भी जारी रखा गया। सुबह आठ बजते ही लोगों का बाजार पहुंचना शुरू हो गया था। रविवार को लोगों की संख्या कम थी। दवाई की दुकानों पर लोगों ने सामाजिक दूरी का ख्याल रख कर सामान खरीदा। किराना की दुकानों पर भी सामाजिक दूरी का ख्याल रखा गया।
दुकानदारों ने अपनी दुकानों का शटर आधा ही खोल रखा था, लेकिन काफी समय तक लोगों का बाजार में पहुंचना जारी रहा। दूध की दुकानों के बाहर भी लोगों ने कतार में लग कर दूध खरीदा। शहरवासियों के घरों में भी नियमित रूप से दूध की सप्लाई पहुंची। सब्जी व फल शहर के वार्डों में ही बेचे गए। प्रत्येक वार्ड में एक वाहन पहुंचा और लोगों ने फल व सब्जी खरीदी। हालांकि होल सब्जी मंडी में सुबह के समय बहुत ज्यादा भीड़ देखी गई। सब्जी व्यापारियों ने सामाजिक दूरी का ख्याल नहीं रखा। दोपहर के 12 बजते ही फिर से सख्ती कर दी गई और सभी दुकानों को बंद करवा दिया गया। दुकानों के बंद होने के बाद एक बार फिर से बाजार में वीरानी छा गई और शहर की सड़के सुनसान हो गई।
... और पढ़ें

उधमपुर में सात और लोगों को किया क्वारंटीन

उधमपुर। स्वास्थ्य विभाग ने जिले के विभिन्न हिस्सों से रविवार को सात लोगों को क्वारंटीन किया है।
इसी के साथ जिले में क्वारंटीन किए लोगों की संख्या 324 तक पहुंच गई है। क्वारंटीन किए गए लोगों को जिला अस्पताल, डिग्री कालेज, महिला कालेज सहित कई होटलों में रखा गया है।
जिले में पॉजिविट मामलों के संपर्क में रहने वाले लोगों का पता लगाने का काम प्रशासन व स्वास्थ्य विभाग ने जारी रखा है। रविवार को सात लोगों का पता लगा कर क्वारंटीन किया गया। शनिवार तक स्वास्थ्य विभाग ने कुल 317 लोगों को क्वारंटीन किया था। रविवार को सात लोगों को क्वारंटीन करने के साथ इनकी संख्या 324 तक पहुंच गई है। स्वास्थ्य विभाग से प्राप्त जानकारी अनुसार 324 में नौ पॉजिटिव मामलों को जीएमसी में आइसोलेशन वार्ड में रखा है। दस को होम क्वारंटीन किया है।
195 लोगों को डिग्री कालेज, ग्रैंड किंग, महिला कालेज और सिंह एक्सिस होटल में रखा गया है। एक को जिला अस्पताल क्वारंटीन किया है। इसके अलावा क्वारंटीन का समय पूरा करने पर 84 लोगों को निगरानी में रखा है और 24 लोगों ने निगरानी का समय भी पूरा कर लिया है। जबकि क्वारंटीन किए एक व्यक्ति की मौत हो चुकी है।
... और पढ़ें
अपने शहर की सभी खबर पढ़ने के लिए amarujala.com पर जाएं

Disclaimer


हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर और व्यक्तिगत अनुभव प्रदान कर सकें और लक्षित विज्ञापन पेश कर सकें। अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।
Agree
Election
  • Downloads

Follow Us