विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
नवरात्र में कराएं कामाख्या बगलामुखी कवच का पाठ व हवन, पाएं कर्ज मुक्ति एवं शत्रुओं से छुटकारा
Astrology Services

नवरात्र में कराएं कामाख्या बगलामुखी कवच का पाठ व हवन, पाएं कर्ज मुक्ति एवं शत्रुओं से छुटकारा

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

From nearby cities

जम्मूः भारत भूषण को मिलेगा नवाचार किसान अवार्ड, बोले- प्रधानमंत्री से बात होते ही सब आसान हुआ

जम्मू संभाग के डोडा जिले के खेलानी हमलेट गांव के रहने वाले किसान भारत भूषण (42) को भारतीय कृषि अनुसंधान संस्थान के प्रतिष्ठित नवाचार किसान (इनोवेटिव फ...

3 मार्च 2020

विज्ञापन
विज्ञापन

जम्मू

मंगलवार, 31 मार्च 2020

पुलिस ने नाकों पर की कड़ी चौकसी

आरएस पुरा/ मीरां साहिब। सड़क मार्ग व ग्रामीण क्षेत्र को जोड़ने वाले कई स्थानों पर सोमवार को लगाए गए नाकों पर कड़ी चौकसी रखी गई। बीमार और जरूरी खाद्य पदार्थ की खरीदारी करने वाले लोगों को ही पहचान पत्र देखने के बाद ही आगे भेजा गया।
आर एस पुरा पुलिस ने कस्बे में लोगों को दवाइयां, खाद पदार्थ आदि की जरूरत होने सूचित किए जाने पर उनके घरों में सामान पुलिस कर्मियों द्वारा मुहैया कराया जा रहा है। दूसरे जिलों और प्रदेश के मजदूरों के घर पहुंच कर उन्हें खाना भी मुहैया करा रही है। एसडीएम रामलाल शर्मा ने कहा कि प्रशासन की ओर से लोगों की जरूरत को देखते हुए बाजारों में होलसेल किराना, सब्जी दवाइयों की दुकानें खुली होने पर सामान की पूर्ति की जा रही है। उन्होंने क्षेत्र के ग्रामीणों से कोरोना वायरस जैसी बीमारी को देखते हुए घरों में ही रहने का आग्रह किया। लॉकडाउन के चलते सरकार द्वारा सभी बैंक खुले रखे जाने का आदेश जारी किया गया है। कई दिन से उपजिला के मॉडल डाकखाने बंद हैं। रमेश कुमार का कहना है कि कई स्थानों पर जरूरी कार्य होने पर डाकखाने बंद पड़े हुए हैं। उन्होंने बंद पड़े डाकखाना को थोड़े समय के लिए ही खुलवाए जाने की मांग की, ताकि लोगों की दिक्कतों का समाधान हो सके। उपजिले और ग्रामीण क्षेत्र में बैंक खुल रहे हैं और लोग एटीएम से रुपये निकलवाने पहुंच रहे हैं। सरकारी राशन डीलरों ने सरकार से मांग की है कि जल्द से जल्द उन्हें राशन मुहैया कराया जाए, ताकि वह इस मुश्किल की घड़ी में लोगों तक राशन पहुंचा सकें। राशन डीलर तिलक राज ने बताया कि कई दिन से राशन स्टोर में राशन लेने के लिए पहुंच रहे हैं, लेकिन विभाग द्वारा उन्हें मुहैया नहीं कराया जा रहा है। उन्होंने बताया कि एक तरफ राज्य प्रशासन द्वारा जहां आदेश जारी किए गए हैं कि सभी लोगों को तीन माह तक राशि मुहैया कराया जाए। दूसरी तरफ विभाग के पास राशन नहीं पहुंच रहा है, जिस कारण लोगों तक राशन नहीं पहुंचा पा रहे हैं। उन्होंने प्रशासन तथा खाद्य आपूर्ति विभाग से अपील की कि जल्द से जल्द राशन डीलरों को राशन मुहैया कराया जाए।
------
फोटो
लोगों को बचाने मैदान में उतरी संस्थाएं
गांव को सैनिटाइज कर व पंफलेट वितरित कर लोगों में फैलाई जागरूकता
संवाद न्यूज एजेंसी
आरएस पुरा। उपजिला की कई विधानसभा क्षेत्रों के गांवों को सैनिटाइज करते हुए कीटनाशक दवाओं का छिड़काव करवाया गया। सामाजिक संस्था मल्टीपल एक्शन रिसर्च ग्रुप सलैहड़ व नेहरू आदर्श यूथ क्लब ने सोमवार को सलैहडड़, चक असलाम आदि गांवों में लोगों को सैनिटाइज किया। संस्था के प्रमुख चंद्र भूषण, राष्ट्रीय पुरस्कार से सम्मानित दिव्यांग अशोक कुमार, राष्ट्रीय पुरस्कार से सम्मानित विजय कुमार आदि ने ग्रामीणों को सरकार के निर्देश का पालन करते हुए घरों में रहने, आवश्यक सुविधाएं हासिल करते वक्त सामाजिक दूरी बनाए रखने, अपने आसपास सफाई बनाए रखने की अपील करते हुए पंफलेट तथा आवश्यक मास्क भी बांटे।
------
अखनूर....फोटो
लोगों की आवाजाही बंद करने को प्रशासन उठा रहा कदम
अखनूर। कोरोना वायरस की रोकथाम के लिए कस्बे सहित आसपास के गांवों में दुकानें बंद रहीं। प्रशासन लोगों की आवाजाही बंद करने के लिए कदम उठा रहा है। कस्बे में बाजार सूने रहे। लोगों में दहशत बनी हुई है। प्रशासन दूसरे राज्य से आए मजदूरों की सूची बना रहा है ताकि सस्ते दामों पर राशन देने की प्रक्रिया शुरू हो सके। किराना, सब्जी, दवा की दुकानें खुली रहीं, बाजारों में लोगों की आवाजाही बंद करने के लिए चेतावनी भी दी। पुलिस की गश्त बढ़ा दी गई है। एसडीएम गोपाल सिंह ने बताया कि कोरोना वायरस पर रोकथाम क्षेत्र में पूरी नजर रखी जा रही है। उधर भाजपा कार्यालय में दूसरे राज्य से आए मजदूरों को खाने का सामान दिया गया। अध्यक्ष जगदीश भगत की अगुवाई में भाजपा कार्यकर्ताओं ने कस्बे के बाहरी क्षेत्र में प्रवासी मजदूरों को मिठाई, खाने की चीजें वितरित कीं। संवाद
-------
फोटो
भलवाल ब्राह्मणा के दो वार्डों को किया सैनिटाइज
ज्यौड़ियां। कोरोना वायरस का भय लोगों में इस कदर है कि वे गांव मोहल्ले को सैनिटाइज करने में जुटे हैं। सोमवार को ज्यौड़ियां तहसील के ब्लाक भलवाल ब्राह्मणा के सरपंच डिंपल शर्मा ने लोगों के सहयोग से दो वार्डों में सैनिटाइज अभियान चलाया। इसमें उन्होंने वार्ड- पांच और सात को सैनिटाइज किया। सरपंच ने बताया कि इस तरह सभी वार्डों को सैनिटाइज किया जाएगा। खौड़ में समाजसेवी मोनू वर्मा ने सोमवार को एसडीएम अनिल कुमार ठाकुर, थाना प्रभारी पंजाब सिंह, तहसीलदार परवेज अशरफ की देखरेख में दूसरे राज्यों से आए मजदूर लोगों को राशन के थैले वितरित किए। शनिदेव सेवा समिति ने सुरक्षाकर्मियों व सफाईकर्मियों को मास्क और सैनिटाइजर बांटे। समिति के प्रधान अभिषेक गुप्ता ने कहा कि इस आपदा में सभी को मदद के लिए आगे आना चाहिए। खौड़ म्यूनिसिपल कमेटी की तरफ से सभी वार्डों में हर रोज फॉगिंग और छिड़काव किया जा रहा है। इसकी जानकारी ईओ सुभाष चंद्र ने दी। उन्होंने बताया कि सफाई कर्मी दिन रात सफाई व्यवस्था बनाए हुए हैं। सफाई कर्मियों को सैनिटाइजर, जूते, वर्दी, मास्क आदि भी दिए जा रहे हैं। संवाद
------
फोटो
भाजपा सदस्यों ने सभी की थाली भरने को संभाला मोर्चा
अरनिया। भाजपा अरनिया इकाई ने जरूरतमंदों को उनके घरों में ही राशन पहुंचाने का मोर्चा संभाल लिया है। इसके चलते सोमवार को अरनिया क्षेत्र के करीब पांच गांवों के जरूरतमंद लोगों को उनके घरों तक पहुंचकर राशन बांटा। हर किसी की थाली में रोटी डालने का जिम्मा संभाल रहे अरनिया इकाई भाजपा के महासचिव राकेश शर्मा, भारत भूषण सैनी व मंडल प्रधान धरमिंदर सिंह मन्हास ने कहा कि रविवार को भी एक कार्यक्रम के दौरान करीब डेढ़ सौ जरूरतमंदों को राशन बांटा गया। दूसरी तरफ प्रशासन की तरफ से संदिग्ध व संक्रमित लोगों को अलग से ठहराने के लिए 31 बिस्तरों की व्यवस्था की गई है। यह व्यवस्था राधा स्वामी सत्संग घर में की गई है। पीएचसी के डॉक्टर रोहित कुमार के अनुसार स्वास्थ्य व प्रशासन ने संक्रमित और संदिग्धों को यहां रखने का निर्णय लिया है। संवाद
फोटो
परगवाल प्रशासन ने जरूरतमंदों को राशन मुहैया कराया
परगवाल। सीमा क्षेत्र परगवाल में सोमवार को प्रशासन ने विभिन्न गांवों में पहुंचकर दूसरे राज्यों से आए श्रमिकों को राशन मुहैया कराया। इस दौरान सामाजिक दूरी का ख्याल रखा गया। प्रशासन की तरफ से श्रमिकों को किसी प्रकार की सहायता के लिए तुरंत प्रशासन से संपर्क करने के लिए भी कहा गया। इस मौके पर तहसीलदार इम्तियाज अहमद, नायब तहसीलदार देवराज, सब इंस्पेक्टर मदन लाल शर्मा समेत कई अधिकारी मौजूद रहे। संवाद
कैप्शन 1
परगवाल में श्रमिकों को राशन देते अधिकारी
... और पढ़ें

बाहरी राज्यों में फंसे डोडा के लोग 9419181361, 9419665538 और 9858552538 पर करें संपर्क

डोडा। कोरोना वायरस के कारण हुए लॉकडाउन के कारण जहां पूरा देश बंद है। वहीं, दूसरी कामधंधे के लिए हिमाचल प्रदेश, उत्तराखंड सहित अन्य राज्यों में डोडा के कई दिहाड़ीदार और लोग फंसे हुए हैं। उनकी सहायता के लिए जिला प्रशासन ने प्रयास शुरू किए हैं। इसके लिए जिला प्रशासन ने फंसे लोगों को संपर्क करने के लिए नंबर 9419181361, 9419665538 और 9858552538 जारी किए हैं, जिन मदद मांगी जा सकती है।
इस बारे में आयुक्त डोडा डॉ. सागर दत्तात्रय ने बताया कि फंसे हुए लोगों की सहायता के लिए प्रयास जारी हैं। वहीं, अधिकारियों को तुरंत कदम उठाने के के निर्देश दिए हैं। इसके अलावा परिजन भी अपने बच्चों और लोगों की जानकारी देकर सहायता ले सकते हैं।
... और पढ़ें

चार डॉक्टरों के तबादले

कोरोना को मात देंगे मार्कोस कमांडो, कश्मीर में संभाला मोर्चा, जानिए कितनी कठिन होती है इनकी ट्रेनिंग

मार्कोस कमांडो मार्कोस कमांडो

जम्मू कश्मीरः 31 कैदियों पर लगा पीएसए हटा, महबूबा मुफ्ती को रिहा किए जाने की मांग हुई तेज

जम्मू-कश्मीर सरकार ने केंद्र शासित प्रदेश की विभिन्न जेलों में बंद 31 कैदियों पर लगा पब्लिक सेफ्टी एक्ट(पीएसए) सोमवार को हटाया गया है। अब तक हटाए गए 31 पीएसए के मामलों में से 14 को हटाने का आदेश पहले ही आ चुका था। वहीं पीडीपी नेता ने जेलों में बंद सभी राजनेताओं की भी रिहाई की मांग की है।

जानकारी के अनुसार सरकार द्वारा श्रीनगर की सेंट्रल जेल में पीएसए के तहत बंद 14 कैदियों की रिहाई समेत कुल 31 कैदियों पर लगा पीएसए हटाया गया है और उन्हें जल्द रिहा किया जा सकता है। इस बीच जम्मू कश्मीर पुलिस के एक आला अधिकारी ने बताया कि अभी श्रीनगर की सेंट्रल जेल से किसी को रिहा नहीं किया गया है। हालांकि इस संबंध में आदेश जारी किया गया है। बता दें कि यह 31 कैदी जम्मू कश्मीर की विभिन जेलों में बंद हैं जिनमे से 11 कोटबलवाल, 14 श्रीनगर की सेंट्रल जेल जबकि 4 राजौरी और 2 कठुआ में हैं।

वहीं जम्मू कश्मीर पीपुल्स डेमोक्रेटिक पार्टी (पीडीपी) के नेता मोहित भान ने जम्मू कश्मीर के सभी राजनेताओं की रिहाई की मांग रखी। उन्होंने कहा कि ऐसे समय में जब कोरोना वायरस का खतरा बढ़ा हुआ है, सरकार को नेताओं की रिहाई पर विचार करना चाहिए। भान ने कहा कि जब फारूक अब्दुल्ला और उमर अब्दुल्ला को रिहा किया जा चुका है तो अब पीडीपी अध्यक्ष महबूबा मुफ्ती की रिहाई पर भी विचार किया जाना चाहिए।
... और पढ़ें

उमर अब्दुल्ला ने दिए लॉकडाउन में दिन बिताने के टिप्स, साझा किए नजरबंदी वाले पल, कई दिलचस्प किस्से भी

महबूबा मुफ्ती

उमर अब्दुल्ला ने फूफा के निधन के बाद लोगों से की एक अपील, प्रधानमंत्री ने कहा- सराहनीय है आपका कदम

ग्राउंड रिपोर्ट : पलायन के लिए कहीं यात्रा इतिहास छिपाया, कहीं लक्षण के बावजूद लौटे गांव-घर

आतंकवाद से जूझ रहे जम्मू-कश्मीर में अब कोरोना कहर बरपाने लगा है। घाटी में 41 मरीज सामने आ चुके हैं, जबकि दो की मौत हो गई है। हालत यह है कि शनिवार को एक ही दिन तेरह मामले आ गए। इनमें से एक मरीज उधमपुर के और दो जम्मू के रहने वाले हैं। जम्मू के दो संक्रमित मरीजों में से एक जीएमसी अस्पताल के चिकित्सक हैं।

दरअसल, महामारी के अलावा प्रशासन और कुछ लोगों की लापरवाही ने भी घाटी के बाशिंदों की जान संकट में डाल दी है। कहीं यात्रा इतिहास छिपाया गया, तो कहीं कोरोना लक्षण के बावजूद विदेश से आए लोगों को उनके घर-गांव जाने दिया। 

अस्पताल से लौट आए एक मरीज से श्रीनगर के अलावा बांदीपोरा, बेमिना और जम्मू संभाग के राजोरी तक संक्रमण पहुंच गया। इस वृद्ध मरीज की मौत हो गई है लेकिन इसके संपर्क में आए एक दर्जन लोग अब पॉजिटिव पाए जा चुके हैं। 

श्रीनगर में ही कोरोना मरीज के संपर्क में आने से उसके सात साल और आठ माह के दो पोते भी संक्रमित हो गए हैं। इससे पहले कोरोना को हल्के में लेते हुए विदेश से आए लोगों को बिना जांच के ही जाने दिया गया। 

सऊदी अरब से लौटीं श्रीनगर की एक 67 साल की महिला घर पहुंचने के दो दिन बाद पॉजिटिव पाई गई। ऐसे और भी कई मामले हैं, जिनकी अब तलाश की जा रही है।

नहीं संभल रहे लोग 
हालात नाजुक हैं पर लोग अभी भी नहीं संभल रहे हैं। आदेशों का पालन न करने पर सौ से ज्यादा पर कार्रवाई हो चुकी है। क्वारंटीन में 60 लोग अस्पताल से भाग गए थे, जिन्हें वापस लाया गया है। बीते दिन श्रीनगर अस्पताल में मरीजों ने तोड़फोड़ भी की है। सामजिक दूरी के नियम की धज्जियां उड़ रही हैं।

अस्पताल से जाने दिया मरीज
हैदरापुरा में 65 वर्षीय बुजुर्ग 21 मार्च को स्किम्स अस्पताल लाया गया। मरीज की ओपीडी पर्ची के अनुसार मरीज को तेज बुखार, छाती में दर्द के साथ सूखी खांसी थी। इसके बावजूद उसे भर्ती नहीं किया गया। चार दिन बाद रिपोर्ट पॉजिटिव आई और एक दिन बाद उसकी मौत हो गई। खुलासे के बाद अब मंडलायुक्त कश्मीर ने जांच बिठा दी है।  
... और पढ़ें

क्वारंटीन होने के बाद भी बाजार जाता था ये शख्स, संक्रमित होते ही इलाके में मचा हड़कंप

जम्मू संभाग के कोरोना पॉजिटिव मामलों में से एक व्यक्ति रामनगर क्षेत्र से है। पॉजिटिव मामला सामने आने के बाद समूचे रामनगर कस्बे में हड़कंप मच गया है। रविवार को रामनगर कस्बे के लोग घरों से बाहर नहीं निकले। वहीं, प्रशासन की तरफ से कुछ इलाकों को पूरी तरह से सील कर दिया गया है। लोगों का कहना है कि होम क्वारंटीन होने के बावजूद व्यक्ति बाजार में घूमता था, जिसका कोई संज्ञान नहीं लिया गया है।

प्राप्त जानकारी के अनुसार  कोरोना टेस्ट में पाजिटिव आने के बाद से ही तहसील व जिला प्रशासन सतर्क हो गया है। प्रशासन ने शनिवार की देर रात करीब 12 बजे पॉजिटिव व्यक्ति के संपर्क में रहने वाले लोगों को उनके घरों से बाहर लाया और जिला अस्पताल उधमपुर पहुंचा दिया।

इसके बाद से ही समूचे रामनगर में डर का माहौल बन गया है। यह 18 लोग और एक पॉजिटिव व्यक्ति इन दिनों किन-किन लोगों से मिले अब यहीं चर्चा समूचे रामनगर कस्बे में सुनने को मिल रही है।
... और पढ़ें

जम्मू संभाग में छह हजार से ज्यादा लोग क्वारंटीन केंद्रों में

जम्मू। जम्मू संभाग के छह जिलों में फिलहाल 6395 से ज्यादा लोगों को विभिन्न क्वारंटीन सेंटरों में रखा गया है। जबकि कश्मीर घाटी के अकेले श्रीनगर शहर में 1800 मरीज क्वारंटीन किए गए हैं। कठुआ में बाहर से आने वाले लोगों कीं बढ़ती संख्या को देखते हुए जिला प्रशासन ने कठुआ के अलावा दूसरे जिले के लोगों को उनके गृह जिलों में बनाए गए क्वारंटीन केंद्रों में शिफ्ट करने का फैसला किया है। लखनपुर के रास्ते जम्मू-कश्मीर में दाखिल हुए कई हजार लोगों को सांबा और कठुआ के क्वारंटीन केंद्रों में रखा गया है। लखनपुर बार्डर सील किए जाने के बाद अब इन्हें क्वारंटीन अवधि अपने-अपने गृह जिले में बितानी होगी। दूसरी ओर उधमपुर में संक्रमित मिली महिला के संपर्क में आए 44 लोगों को क्वारंटीन कर दिया गया है।
उधमपुर के डीएचओ डॉ. यासीन ने बताया कि संक्रमित महिला के संपर्क में आने वाले और लोगों की तलाश की जा रही है। सोमवार तक जिले में कुल 197 लोगों को क्वारंटीन किया जा चुका है। 75 लोगों को डिग्री कॉलेज में क्वारंटीन कर रखा गया है। इसके अलावा 18 को होटल, 23 लोगों को रेलवे स्टेशन में रखा गया है। रेलवे स्टेशन में क्वारंटीन किए गए आरपीएफ और जीआरपी के जवान हैं। इनको बैरक में ही क्वारंटीन किया गया है। इसके अलावा पांच को जिला अस्पताल में रखा गया है। 29 लोग होम क्वारंटीन कर रखे गए हैं। सात लोग आर्मी व सीआरपीएफ के अस्पताल में क्वारंटीन किए गए हैं। यहां जो महिला पॉजिटिव मिली है उसके संपर्क में रहने वाले लोगों का भी पता लगाया जा रहा है।
राजोरी जिले में देश व विदेश से आने वाले 720 लोगों को को क्वारंटीन सेंटर में रखा गया है। जिला स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. सुनील शर्मा ने कहा कि इनमें चार महिलाएं हैं। जम्मू में परीक्षण के लिए 17 नमूने भेजे गए, जिनमें तीन की रिपोर्ट पॉजिटिव, छह की नेगेटिव आई है, जबकि अन्य का इंतजार है।
जिले में तीन और क्वारंटीन सेंटर बनाए गए हैं। इनमें गर्ल्स हॉस्टल, मंजाकोट (60 बेड) होटल तारिक रेजीडेंसी (24 बेड) और दरहल में गर्ल्स हायर सेकेंडरी स्कूल में (12 बेड) शामिल है। वहीं पूरे जिले में अब 32 केंद्रों में 1,000 बेड की सुविधा उपलब्ध है। जिला मजिस्ट्रेट मोहम्मद नजीर शेख ने जिले के विभिन्न क्षेत्रों में बनाए गए सेंटर का सोमवार को दौरा किया और वहां उपलब्ध कराई गई सुविधाओं का जायजा लिया। डीएम ने बताया कि सभी केंद्रों में हर प्रकार की सुविधा उपलब्ध है।
सांबा जिले में अब तक 2000 से भी अधिक मरीज पहुंच चुके हैं। राधा स्वामी आश्रम ठंडी खुई में आंकड़ा 1500 से पार हो चुका है। वहीं घगवाल में 550 मरीजों को रखा गया है। आरके शिवम जतवाल में 150, आरके सत्यम घगवाल में 100, नोनाथ आश्रम घगवाल में 100, सरकारी हायर सेकेंडरी स्कूल राजपुरा में 50, एमएम रिसॉर्ट राजपुरा में 150 मरीजों का क्वारंटीन किया जा रहा है।
-----
कोट...
कठुआ में 60 क्वारंटीन केंद्र वर्तमान में सक्रिय हैं, जिनमें लगभग 3500 लोग एहतियातन रखे गए हैं, जिनमें से कठुआ जिले के लोगों को छोड़कर अन्य सभी को सुबह से अपने-अपने गृह जिलों में शिफ्ट कर दिया जाएगा।
-ओम प्रकाश भगत, उपायुक्त कठुआ
--------
विभिन्न जिलों में क्वारंटीन मरीज
कठुआ 3500
सांबा 2000
राजोरी 720
उधमपुर 197
जम्मू -152
पुंछ 26
श्रीनगर 1800
... और पढ़ें
अपने शहर की सभी खबर पढ़ने के लिए amarujala.com पर जाएं

Disclaimer


हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर और व्यक्तिगत अनुभव प्रदान कर सकें और लक्षित विज्ञापन पेश कर सकें। अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।
Agree
Election
  • Downloads

Follow Us