विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विवाह संबंधी दोषों को दूर करने के लिए शिवरात्रि पर मल्लिकार्जुन ज्योतिर्लिंग में कराएं रुद्राभिषेक : 21-फरवरी-2020
Astrology Services

विवाह संबंधी दोषों को दूर करने के लिए शिवरात्रि पर मल्लिकार्जुन ज्योतिर्लिंग में कराएं रुद्राभिषेक : 21-फरवरी-2020

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

From nearby cities

बालिकाओं को सशक्त बनाने में जुटीं रैना शुक्ला, निर्बल वर्ग की बालिकाओं को दे रहीं मुफ्त ट्रेनिंग

लखनऊ विश्वविद्यालय की स्नातक छात्रा रैना शुक्ला ने आर्थिक रूप से निर्बल तथा झुग्गी-झोपड़ी में रहने वाली छात्राओं को आत्मरक्षा के लिए तैयार करने का बीड...

13 फरवरी 2020

विज्ञापन
विज्ञापन

लखनऊ

बुधवार, 19 फरवरी 2020

यूपी: विश्व बैंक की मदद से हाईवे के लिए किया जाएगा अलग पुलिस बल का गठन

उत्तर प्रदेश सरकार के चौथे बजट के अनुसार विश्व बैंक की मदद से प्रदेश में हाईवे के लिए अलग पुलिस बल का गठन किया जाएगा। यह पुलिस केवल हाईवे पर दिखेगी। सड़क हादसों के समय पहली जिम्मेदारी इसी पुलिस की होगी। हालांकि हाईवे पुलिस थाने पर एफआईआर दर्ज नहीं की जाएगी।

हाईवे पुलिस बल का गठन उत्तर प्रदेश लोक निर्माण विभाग के ‘यूपी कोर रोड नेटवर्क प्रोजेक्ट’ के तहत किया जाएगा। विश्व बैंक ने इस परियोजना को हरी झंडी दे दी है। सड़क सुरक्षा के मद्देनजर विश्व बैंक ने ही हाईवे पुलिसिंग की कल्पना की थी। जल्द ही प्रदेश सरकार शासनादेश जारी कर योजना को अमलीजामा पहनाएगी।

प्रदेश के दो नेशनल हाईवे भी शामिल 
पायलेट प्रोजेक्ट में प्रदेश के दो  नेशल हाईवे शामिल किए गए हैं। नेशनल हाईवे संख्या दो मथुरा से चंदौली तक 752 किलोमीटर और नेशनल हाईवे संख्या 25 लखनऊ से कानपुर तक 88 किलोमीटर के बीच के लिए इस पुलिस बल का गठन होगा। पायलट प्रोजेक्ट की कामयाबी के आधार पर इसे दूसरे दुर्घटना बहुल हाईवे पर शुरू किया जाएगा।
 
... और पढ़ें

ऑटो शोरूम की दूसरी मंजिल में भीषण आग, कड़ी मशक्कत के बाद पाया काबू

लखनऊ में मोहनलालगंज इलाके के तरुण ऑटो बजाज शोरूम में देर रात अचानक आग के शोले धधकने लगे। आस-पास के लोगों ने पुलिस और दमकल को सूचना दी। मौके पर पहुंचे पुलिस और दमकल कर्मियों ने दो घंटे में आग पर काबू पा लिया। पुलिस के मुताबिक, आग से शोरूम की दूसरी मंजिल में रखे टायर और अन्य स्प्रेयर पार्ट जलने से भारी नुकसान हुआ है।

पुलिस के मुताबिक, मोहनलालगंज के यूपीएएल फैक्टरी के पास चौक निवासी तरुण रस्तोगी का बजाज ऑटो शोरूम है। शोरूम की दूसरी मंजिल पर अचानक धुआं और आग उठने लगी। इसकी सूचना आसपास के रहने वालों ने पुलिस को दी। मौके पर पुलिस के साथ शोरूम मालिक तरुण भी पहुंचे।

इस दौरान दमकल के चार वाहन भी आग पर काबू पाने में जुटे रहे। आग इस कदर फैल रही थी कि आसपास के लोग घरों से बाहर निकल आए। इस दौरान दमकल कर्मियों ने काफी मशक्कत के बाद आग पर काबू पाया। पुलिस के मुताबिक, मालिक तरुण रस्तोगी ने बताया कि शोरूम की दूसरी मंजिल पर बाइक के टायर और स्प्रेयर पार्ट रखे थे, यहां शॉर्ट शर्किट होने का कोई सवाल ही नहीं है।

शोरूम की ऊपरी मंजिल में बिजली का केबल और तार ही नहीं है। ऐसे में आग कैसे लगी। उधर, कयास लगाए जा रहे हैं कि पास के गेस्ट हाउस में हो रही आतिशबाजी इसकी वजह हो सकती है। मोहनलालगंज कोतवाल गऊदीन शुक्ल का कहना है कि आग से शोरूम को भारी नुकसान हुआ है।
... और पढ़ें

आर्थिक रूप से कमजोर वर्गों के लिए आरक्षण का कानून बनाएगी योगी सरकार

योगी सरकार प्रदेश के आर्थिक रूप से कमजोर वर्गों के लिए आरक्षण का कानून बनाएगी। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की अध्यक्षता वाली प्रदेश कैबिनेट ने मंगलवार को यूपी लोक सेवा (आर्थिक रूप से कमजोर वर्गों के लिए आरक्षण) विधेयक, 2020 को राज्य विधानमंडल के वर्तमान सत्र में पेश कर पारित कराने को मंजूरी दे दी है।

केंद्र सरकार ने पिछले दिनों संविधान में 103वां संशोधन करते हुए सरकारी सेवाओं की सभी श्रेणियों में नियुक्ति व अल्पसंख्यक संस्थाओं को छोड़कर सरकारी व निजी शैक्षणिक संस्थानों में प्रवेश के लिए आर्थिक रूप से कमजोर वर्गों के लिए अधिकतम 10 प्रतिशत का आरक्षण देने का फैसला किया था। प्रदेश सरकार ने 18 फरवरी को इसे लागू कर दिया था। इसे विधिक स्वरूप देने के लिए विधेयक लाया जा रहा है।
... और पढ़ें

सरकारी नौकरी में एससी, एसटी और ओबीसी आरक्षण के मुद्दे पर हंगामा, विपक्ष ने लगाए गंभीर आरोप

उत्तर प्रदेश लोक सेवा आयोग द्वारा सरकारी नौकरियों में अनुसूचित जाति, अनुसूचित जनजाति और अन्य पिछड़ा वर्ग के आरक्षण को लेकर जारी ताजा आदेश के खिलाफ बुधवार को विधानसभा में जमकर हंगामा हुआ।

सपा और बसपा के सदस्यों ने भाजपा सरकार पर एससी, एसटी और ओबीसी के बच्चों का गला घोंटने और उनके भविष्य के साथ खिलवाड़ करने का आरोप लगाया। कहा कि एससी, एसटी और ओबीसी के वोट के बूते ही भाजपा सत्ता में आई थी और अब उन्हीं के आरक्षण और छात्रवृत्ति पर डाका डाल रही है। सपा ने आयोग और सरकार की नीति के खिलाफ बहिर्गमन किया।

उधर, संसदीय कार्य मंत्री सुरेश खन्ना ने कहा कि सरकार आरक्षित वर्ग की सभी जातियों का सम्मान करती है, इस संबंध में लोक सेवा आयोग से रिपोर्ट मांगी गई है।
... और पढ़ें
फाइल फोटो फाइल फोटो

रायबरेली: खुद को पुलिस वाला बताकर सराफ की दुकान से 15 लाख के गहने लूट ले गए बदमाश

लालगंज कस्बे के सराफा बाजार में बुधवार दोपहर ढाई बजे एक बाइक सवार ने सराफा व्यवसायी की दुकान में 15 लाख रुपये कीमत के गहने लूट लिए। बदमाश ने खुद को पुलिसकर्मी बता वारदात को अंजाम दिया। सूचना पर एएसपी नित्यानंद राय, प्रभारी निरीक्षक ट्रेनी आईपीएस पलाश बंसल और सीओ इंद्रपाल सिंह ने जांच की।

पुलिस दूसरी दुकानों में लगे सीसीटीवी कैमरों से बदमाश की पहचान करने का प्रयास कर रही है। अब तक की पड़ताल में एक मोटे तंदुरुस्त आदमी की तस्वीर साफ हुई है। एएसपी ने वारदात के जल्द खुलासे के निर्देश दिए हैं।

दिनेश गुप्ता की सराफा बाजार में ज्वैलरी की दुकान है। पुलिस को दी गई तहरीर में दिनेश बताया है कि बुधवार को दोपहर 2.30 बजे वह अपनी बेटी को दुकान में बैठाकर खाना खाने घर गया था। उसी वक्त एक बाइक सवार आया और दुकान में बैठी उनकी बेटी महक से पूछा कि पापा कहां है, मैं पुलिस में हूँ। मैंने यहां सामान बनवाया था। मेरा सामान यहीं रखा है। मैं ड्यूटी छोड़कर आया हूं। मुझे उसे ले जाना है।

महक कुछ समझ पाती तब तक काउंटर पर रखे गहनों से भरे डिब्बे से 15 लाख की कीमत के गहनों वाले छह पैकेट लेकर आरोपी जाने लगा। बेटी ने रोका तो उसे धमका कर जेवर से भरे पैकेट छीन लिए। हड़बड़ी में उसके पैर लड़खड़ा गए और एक पैकेट भी नीचे गिर गया। बाइक सवार अन्य जेवर लेकर फरार हो गया।
... और पढ़ें

69000 शिक्षक भर्ती मामले में अगली सुनवाई 25 फरवरी को, जारी है फाइनल सुनवाई

हाईकोर्ट की लखनऊ पीठ में प्रदेश के प्राथमिक स्कूलों में 69000 सहायक शिक्षकों की भर्ती मामले में राज्य सरकार समेत अन्य अभ्यर्थियों की विशेष अपीलों पर सुनवाई मंगलवार को भी पूरी नहीं हो सकी। कोर्ट ने अब अगली सुनवाई 25 फरवरी को नियत की है।

न्यायमूर्ति पंकज कुमार जायसवाल और न्यायमूर्ति करुणेश सिंह पवार की खंडपीठ के समक्ष इन अपीलों पर फाइनल सुनवाई जारी है।

इनमें एकल न्यायाधीश के उस फैसले व आदेश को चुनौती दी गई है जिसमें भर्ती परीक्षा में न्यूनतम अर्हता अंक सामान्य वर्ग के लिये 45 और आरक्षित वर्ग के लिये 40 फीसदी रखे जाने के निर्देश सरकार को दिए गए थे। पक्षकारों के अधिवक्ताओं की बहस चल रही है।
... और पढ़ें

जिन लोगों ने रामभक्तों पर गोली चलवाई थी, उपद्रवियों पर केस करने पर वही जवाब मांग रहे हैं: सीएम

यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने विधानसभा में राज्यपाल के अभिभाषण पर जवाब देते हुए अपने संबोधन में विपक्ष पर निशाना साधा और सख्त लहजे में कहा कि नागरिकता संशोधन कानून के खिलाफ हिंसा फैलाने वाले उपद्रवियों को बख्शा नहीं जाएगा उनके खिलाफ सख्त से सख्त कार्रवाई की जाएगी। अगर कोई शांतिपूर्वक प्रदर्शन करता है तो वह कर सकता है लेकिन उपद्रव करने पर कठोर कार्रवाई होगी।

मुख्यमंत्री योगी ने कहा कि दिल्ली के जामिया मिलिया इस्लामिया में हुई हिंसा के बाद मैंने अलीगढ़ प्रशासन को अलर्ट किया। प्रशासन ने मुझे बताया था कि अलीगढ़ मुस्लिम विश्वविद्यालय के करीब 15 हजार छात्र सड़कों पर उतरकर पूरा अलीगढ़ जला देना चाहते थे लेकिन पुलिस की सक्रियता से वो कामयाब नहीं हो सके। योगी ने कहा कि प्रदेश की पुलिस को इसका श्रेय देना चाहिए कि प्रदेश में कोई दंगा नहीं हुआ।

उन्होंने समाजवादी पार्टी पर निशाना साधते हुए कहा कि जिन लोगों ने अयोध्या में राम भक्तों पर गोलियां चलवाकर अयोध्या की मान्यता को दूषित करने का प्रयास किया वो आज हमसे उपद्रवियों पर होने वाली कार्रवाई का जवाब मांग रहे हैं।
 

मुख्यमंत्री योगी ने कहा कि सीएए का विरोध करने वालों को राजनीतिक संरक्षण मिल रहा है। मैं तो सुनता था कि एक अपराधी भी अपने बच्चों को अपराधी नहीं बनाना चाहता है पर मैं देख रहा हूं कि बड़े-बड़े लोग अपने बच्चों को सीएए का विरोध करने वालों के समर्थन में नारेबाजी करने के लिए भेज रहे हैं।

मुख्यमंत्री योगी ने कहा कि प्रदेश में सीएए के विरोध में हुई हिंसा में देशविरोधियों के षडयंत्र का पर्दाफाश हुआ है। हिंसा फैलाने वाले पॉपुलर फ्रंट ऑफ इंडिया (पीएफआई) के लोग हैं। पीएफआई सिमी (स्टूडेंट इस्लामिक मूवमेंट ऑफ इंडिया) का नया वर्जन है। उन्होंने कहा कि 19 व 20 दिसंबर को लखनऊ में हुई हिंसा में पुलिस की गोली से एक भी उपद्रवी की मौत नहीं हुई। उपद्रवियों की मौत उपद्रवियों की गोली से ही हुई।
... और पढ़ें

लखनऊ: रिहायशी इलाके में प्लाइवुड फैक्टरी में आग से हाहाकार, 50 लाख रुपये का नुकसान

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ।
राजधानी लखनऊ के बाजारखाला में ऐशबाग पानी की टंकी के पास स्थित प्लाइवुड फैक्टरी में बुधवार दोपहर आग लगने से हाहाकार मच गया। अग्निकांड के वक्त फैक्टरी में काम कर रहे 20 से 25 मजदूरों में चीख-पुकार व भगदड़ मच गई। आसपास के इलाके के लोग घर छोड़कर भाग खड़े हुए। सूचना पाकर कई फायर स्टेशन से दमकल दस्ते ने मौके पर पहुंचकर राहत कार्य शुरू किया। लपटों से तीन मजदूर झुलस गए हैं। मुख्य अग्निशमन अधिकारी का कहना है कि जेनरेटर रूम में शॉर्ट-सर्किट से हादसे की आशंका जताई जा रही है। आग से करीब 50 लाख रुपये के नुकसान की बात सामने आई है।

मुख्य अग्निशमन अधिकारी ने बताया कि प्लाइवुड फैक्टरी मोतीनगर निवासी धर्मवीर गुलाटी की है। फैक्टरी में 20 से 25 महिला-पुरुष मजदूरी करते हैं। बुधवार को फैक्टरी में बिजली नहीं आ रही थी, जिसके चलते जेनरेटर से काम किया जा रहा था। दोपहर करीब डेढ़ बजे लपटों ने फैक्टरी को घेरे में ले लिया। लपटें देखकर चीखते हुए मजदूर बाहर की तरफ भागने लगे। चंद सेकंड में ही लपटों ने विकराल रूप ले लिया।

फैक्टरी के भीतरी हिस्से में काम कर रहे कुछ मजदूर आग में फंस गए। धुआं फैलने से आसपास के इलाके में दहशत फैल गई। लोग घरों से बाहर निकलकर चीख-पुकार मचाने लगे। किसी ने अग्निशमन विभाग को सूचना दी। चौक, हजरतगंज, आलमबाग समेत पांच फायर स्टेशन से नौ दमकल और कई थानों की पुलिस टीम ने मौके पर पहुंचकर राहत कार्य शुरू किया। इस बीच फैक्टरी के पिछले हिस्से में मजदूरों के फंसे होने की जानकारी से पुलिस अधिकारियों के होश उड़ गए।

अपर पुलिस उपायुक्त पश्चिम विकास चंद्र त्रिपाठी ने बताया कि फैक्टरी के पीछे ऐशबाग जलकल विभाग का तालाब है। पुलिस ने जलकल विभाग के कर्मचारियों की मदद से फैक्टरी के पीछे की दीवार तोड़कर भीतर फंसे उन्नाव के मौरावां निवासी 30 वर्षीय मजदूर सोनू व मिथिलेश और सीतापुर के बिसवां में रहने वाले वीरेंद्र की जान बचाई। तीनों काफी झुलस गए थे। उन्हें सिविल अस्पताल में भर्ती कराया गया है। फैक्टरी के कर्मचारियों व आसपास के लोगों ने अग्निकांड में लगभग 50 लाख रुपये कीमत का माल व मशीनें स्वाहा होने की जानकारी दी है। मुख्य अग्निमशन अधिकारी का कहना है कि शुरुआती छानबीन में जेनरेटर रूम में हुए शार्ट सर्किट से आग लगने की आशंका जताते हुए जांच की जा रही है।
... और पढ़ें

लोहिया विश्वविद्यालय में छात्रा से छेड़छाड़ पर बवाल, कक्षा का बहिष्कार कर धरने पर बैठे विद्यार्थी

राजधानी लखनऊ के राम मनोहर लोहिया विधि विश्वविद्यालय में छात्रा से छेड़छाड़ पर अन्य छात्र-छात्राएं आक्रोशित हो गए और कक्षाओं का बहिष्कार कर धरने पर बैठ गए। प्रशासन ने उन्हें मनाने की कोशिश की पर वो नहीं माने।

विधि विश्वविद्यालय की छात्रा ने आंबेडकर सभागार में हुए तीन दिवसीय एकल अभियान के कैटरर पर छेड़छाड़ का आरोप लगाया है। छात्रों का कहना था कि जब प्रोग्राम का विश्वविद्यालय से कोई संबंध नहीं था तो बीच में पार्टीशन क्यों नहीं करवाया गया।

प्रथम वर्ष की छात्रा ने आरोप लगाया कि कैटरर के लड़के रात पौने 12 बजे छात्राओं पर कमेंट कर रहे थे।

बता दें कि मंगलवार को एकल अभियान का समापन समारोह था। जिसमें देश के रक्षामंत्री राजनाथ सिंह ने शिरकत की थी। एकल अभियान के कार्यक्रम का आयोजन आंबेडकर सभागार में किया गया था।
... और पढ़ें

शिक्षा विभाग की सूरत बदलने के लिए 25 हजार भर्तियां करेगी योगी सरकार, दिया भारी-भरकम बजट

योगी सरकार ने बजट में शिक्षा के लिए 71,705 करोड़ रुपये का प्रावधान किया है। उच्च शिक्षा के लिए सहारनपुर, आजमगढ़ और अलीगढ़ में नए विश्वविद्यालय स्थापित किए जाएंगे।

वहीं, बेसिक, माध्यमिक और उच्च शिक्षा विभाग के सहायता प्राप्त शिक्षण संस्थानों में बड़े पैमाने पर शिक्षकों एवं शिक्षणेतर कर्मचारियों की भर्तियों के लिए उत्तर प्रदेश शिक्षा सेवा चयन आयोग का गठन किया गया है।

प्रदेश सरकार ने बजट में आयोग के लिए 50 लाख रुपये का प्रावधान किया है। आयोग पहले साल आगामी वित्तीय वर्ष में 25 हजार से अधिक नई भर्तियां करेगा। आयोग के जरिए परिषदीय विद्यालयों, परिषदीय सहायता प्राप्त जूनियर हाई स्कूल, माध्यमिक शिक्षा विभाग के सहायता प्राप्त हाई स्कूल और इंटर कॉलेज और उच्च शिक्षा विभाग के सहायता प्राप्त महाविद्यालयों में शिक्षकों और शिक्षणेतर कर्मचारियों की भर्तियां की जाएगी। आयोग में एक अध्यक्ष और आठ सदस्य मनोनीत करने का प्रावधान है। अप्रैल से नए शिक्षा सेवा चयन आयोग का विधिवत गठन होने की उम्मीद है।
... और पढ़ें

अयोध्या में कोरोना वायरस को लेकर अलर्ट, मांस बिक्री पर लगी रोक, आदेश जारी

अयोध्या में कोरोना वायरस को लेकर अलर्ट जारी किया गया है। नगर स्वास्थ्य अधिकारी ने आदेश जारी कर मांस बिक्री पर रोक लगा दी है। उनका कहना है कि नगर निगम क्षेत्र में मांस नहीं बिकेगा। यह रोक अग्रिम आदेश आने तक रहेगी। बता दें कि कोरोना वायरस का प्रकोप बढ़ता जा रहा है।



बढ़ने लगी हैं चीनी वस्तुओं की कीमतें
वहीं, राजधानी लखनऊ में कोरोना वायरस का प्रकोप जमाखोरों के लिए कमाई का बहाना बन गया है। ये आवक घटने का हवाला देकर चीनी वस्तुओं की कीमतें बढ़ाने लगे हैं। खासकर इलेक्ट्रॉनिक वस्तुओं के दाम में 10 से 12 फीसदी तक बढ़ोतरी कर दी है।

नाका में इलेक्ट्रॉनिक वस्तुओं के कारोबारियों ने बताया कि कोरोना वायरस के बहाने चीनी एलईडी की कीमत 600 से 1000 रुपये और स्पीकर की 100 से 300 रुपये बढ़ गई है। मसलन 32 इंच का जो एलईडी अब तक 5700 से 5800 रुपये का बेचते थे, उसे 6400 से 6500 रुपये में बेच रहे हैं।

इसी प्रकार 40 इंच का जो स्मार्ट एलईडी 12,200 से 12,300 रुपये का था, उसकी कीमत 13,200 से 13,300 रुपये हो गई। आर्यानगर के मोबाइल व्यापारी करन ने बताया कि मोबाइल एसेसरीज के दाम 10 से 20 फीसदी तक बढ़ गए हैं।

ब्लूटूथ स्पीकर का अभाव हो गया है। जिन दुकानदारों के पास ये स्पीकर हैं वह 100 से 300 रुपये दाम बढ़ाकर बेच रहे हैं। उत्तर प्रदेश व्यापारी समन्वय समिति के संयोजक पवन मनोचा ने कहा, दिल्ली के थोक कारोबारियों से चीनी वस्तुओं की सप्लाई होती है। बढ़ी कीमत वहीं से आ रही है।

40 पैसे का मास्क बिक रहा छह रुपये में
वायरस के खौफ की मार प्रदूषण से बचाने वाले मास्क पर भी पड़ी है। एक व्यापारी ने बताया कि ये मास्क थोक में 40 पैसा प्रति खरीद पड़ता था। वर्तमान में इसकी कीमत बढ़कर छह रुपये तक हो चुकी है। राजधानी में जिनके पास इस मास्क का स्टाक है, वह इसे मनमाने दाम पर बेच रहा है।
... और पढ़ें

जानें कौन हैं श्री रामजन्मभूमि न्यास के अध्यक्ष महंत नृत्य गोपालदास

कान्हा की नगरी मथुरा से बाल्यकाल में रामनगरी आए नृत्यगोपाल दास कृष्ण व रामभक्ति के अनुपम उदाहरण हैं। वे दोनों नगरी भक्तित्व अनुराग के प्रमुख संत के साथ जहां श्रीरामजन्मभूमि के साथ श्रीकृष्ण जन्मभूमि न्यास के भी अध्यक्ष हैं। राममंदिर आंदोलन में परमहंस के बाद सर्वेसर्वा हैं, छह दिसंबर की घटना से लेकर इसके पहले व बाद के तमाम संघर्षों में कांग्रेस, सपा-बसपा सरकारों में तरह-तरह के उत्पीडन भी झेलने पड़े। लेकिन भक्ति व समर्पण का प्रतिफल रहा कि अब सुप्रीम कोर्ट से रामलला के पक्ष में आए फैसले के बाद राममंदिर निर्माण के लिए गठित श्रीरामजन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र के ट्रस्टियों ने उन्हें बुधवार को सर्वसम्मति से अध्यक्ष मनोनीत किया है। वे रामलला के भव्य व दिव्य मंदिर का अब सपना साकार करने वाले प्रमुख शिल्पी बन गए हैं। 

राममंदिर आंदोलन में जिन प्रमुख संतों ने अयोध्या में कोर्ट से लेकर सड़क तक संघर्ष किया था, उनमें दिगंबर अखाड़ा के महंत परमहंस रामचंद्र दास के बाद मणिरामदास छावनी के महंत नृत्यगोपाल दास हैं। जन्मभूमि को मुक्त कराने हेतु जन-जागरण के लिए सीतामढ़ी से अयोध्या पहुंची राम-जानकी रथ यात्रा मणिरामदास छावनी में ही रूकी थी। परमहंस कोर्ट में सक्रिय थे तो नृत्यगोपाल आंदोलन के संतों-महंतों व कारसवेकों के लिए साधन-सुविधाएं रात दिन एक उपलब्ध कराते।  

जगद्गुरु रामानन्दाचार्य स्वामी शिवरामाचार्य जी महाराज के द्वारा श्रीराम जन्मभूमि न्यास की स्थापना हुई। दिसंबर 1985 की द्वितीय धर्म संसद उडुपी (कर्नाटक) में परमहंस की अध्यक्षता में निर्णय हुआ, 'यदि 8 मार्च 1986 को महाशिवरात्रि तक रामजन्मभूमि पर लगा ताला नहीं खुला तो महाशिवरात्रि के बाद ताला खोलो आन्दोलन, ताला तोड़ो में बदल जाएगा। 8 मार्च के बाद प्रतिदिन देश के प्रमुख धर्माचार्य इसका नेतृत्व करेंगे। इसी दौरान जब परमहंस रामचन्द्र दास ने 8 मार्च 1986 तक श्रीराम जन्मभूमि का ताला नहीं खुला तो मैं आत्मदाह करूंगा' की घोषणा करके सनसनी फैला दी तो नृत्यगोपाल आंदोलन के प्रमुख कर्ता-धर्ता थे। 

परिणाम यह हुआ कि 1 फरवरी 1986 को ही ताला खुल गया। जनवरी, 1989 में प्रयाग महाकुम्भ के अवसर पर आयोजित तृतीय धर्मसंसद में शिला पूजन एवं शिलान्यास में अहम भूमिका निभाई। इस अभिनव शिलापूजन कार्यक्रम ने सम्पूर्ण विश्व के रामभक्तों को जन्मभूमि के साथ प्रत्यक्ष जोड़ दिया। श्रीराम जन्मभूमि न्यास के अध्यक्ष जगद्गुरु रामानन्दाचार्य पूज्य स्वामी शिवरामाचार्य जी महाराज का साकेतवास हो जाने के पश्चात् अप्रैल, 1989 में परमहंस को श्रीराम जन्मभूमि न्यास का कार्याध्यक्ष घोषित किया गया। तब नृत्यगोपाल दास उपाध्यक्ष बने। 

परमहंस की दृढ़ संकल्प शक्ति के परिणामस्वरूप ही निश्चित तिथि, स्थान एवं पूर्व निर्धारित शुभ मुहूर्त 9 नवम्बर 1989 को शिलान्यास कार्यक्रम सम्पन्न हुआ। 30 अक्टूबर 1990 की कारसेवा के समय अनेक बाधाओं को पार करते हुए अयोध्या में आए हजारों कारसेवकों का नेतृत्व व मार्गदर्शन देने में नृत्यगोपाल दास की अहम भूमिका रही। 2 नवम्बर 1990 को आशीर्वाद लेकर कारसेवकों ने जन्मभूमि के लिए कूच किया। उस दिन हुए बलिदान के वे स्वयं साक्षी थे। 

अक्टूबर 1982 में दिल्ली की धर्म संसद में 6 दिसम्बर की कारसेवा के निर्णय में मुख्य भूमिका निभाई। स्वयं अपनी आंखों से उस ढांचे को बिखरते हुए देखा था, जिसका स्वप्न वह अनेक वर्षों से अपने मन में संजोए थे। अक्टूबर 2000 में गोवा में केन्द्रीय मार्गदर्शक मण्डल की बैठक, जनवरी, 2002 में अयोध्या से दिल्ली तक की चेतावनी सन्त यात्रा, 27 जनवरी 2002 को प्रधानमंत्री से मिलने गए सन्तों के प्रतिनिधि मण्डल में अहम किरदार थे। 

मार्च 2002 के पूर्णाहुति यज्ञ के समय शिलादान को लेकर भी संघर्ष किया। सितंबर, 2002 को केंद्रीय मार्गदर्शक मंडल की लखनऊ बैठक में गोरक्ष पीठाधीश्वर महन्त अवैद्यनाथ जी महाराज की अध्यक्षता में श्रीराम जन्मभूमि मन्दिर निर्माण आन्दोलन उच्चाधिकार समिति का निर्माण हुआ। 26 मार्च 2003 को दिल्ली में आयोजित सत्याग्रह के प्रथम जत्थे का नेतृत्व कर पूज्य परमहंस रामचन्द्र दास के साथ गिरफ्तारी देने वालों में नृत्यगोपाल दास भी थे। 29-30 अप्रैल 2003 को अयोध्या में आयोजित उच्चाधिकार समिति की बैठक में श्रीराम संकल्पसूत्र संकीर्तन कार्यक्रम की योजना का निर्णय हुआ। इसके द्वारा दो लाख गांवों के दो करोड़ रामभक्त प्रत्यक्ष रूप से मन्दिर के साथ सहभागी बनाए गए। 

इसके बाद परमहंस के गोलोकवाली होने पर 2003 में नृत्यगोपाल दास न्यास के अध्यक्ष बने। नृत्यगोपाल दास की अगुवाई में ही राममंदिर के लिए पत्थर तराशी तेज हुई, मंदिर मॉडल में लगने वाले दो लाख घनफुट पत्थर में सवा लाख घनफुट पत्थर तराशे जा चुके हैं। न्यास के पास करोड़ों की भूमि समेत नकदी भी है।  
 
... और पढ़ें
अपने शहर की सभी खबर पढ़ने के लिए amarujala.com पर जाएं

Disclaimer

अपनी वेबसाइट पर हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर अनुभव प्रदान कर सकें, वेबसाइट के ट्रैफिक का विश्लेषण कर सकें, कॉन्टेंट व्यक्तिगत तरीके से पेश कर सकें और हमारे पार्टनर्स, जैसे की Google, और सोशल मीडिया साइट्स, जैसे की Facebook, के साथ लक्षित विज्ञापन पेश करने के लिए उपयोग कर सकें। साथ ही, अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।

Agree
Election
  • Downloads

Follow Us