विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
ढाई साल बाद शनि बदलेंगे अपनी राशि , कुदृष्टि से बचने के लिए शनि शिंगणापुर मंदिर में कराएं तेल अभिषेक : 14-दिसंबर-2019
Astrology Services

ढाई साल बाद शनि बदलेंगे अपनी राशि , कुदृष्टि से बचने के लिए शनि शिंगणापुर मंदिर में कराएं तेल अभिषेक : 14-दिसंबर-2019

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

इन आईपीएस ने मुश्किल वक्त में बेहतर रणनीति बनाकर खुद को किया साबित, साथियों का रखते थे खास ध्यान

आईपीएस गुरुदर्शन सिंह की अलग पहचान थी। संवेदनशील हालात से निपटने के लिए उनके पास हमेशा बेहतर रणनीति रहती थी।

2 दिसंबर 2019

विज्ञापन
विज्ञापन

लखनऊ

मंगलवार, 10 दिसंबर 2019

डिफेंस एक्सपोः 20 से निलंबित होंगे मीट की दुकानों के लाइसेंस

डिफेंस एक्सपो के दौरान विमानों की आवाजाही और गोमती तट पर फ्लाइंग के दौरान रनवे या फ्लाइंग जोन में पक्षियों के कारण दुर्घटना न हो, इसके लिए 20 दिसंबर से लखनऊ की सभी मीट की दुकानों के लाइसेंस निलंबित रहेंगे।

आयोजन के समाप्त होने तक यह व्यवस्था प्रभावी रहेगी। इस दौरान मीट की अवैध दुकानों को भी हटाया जाएगा। इस बाबत नगर आयुक्त ने आदेश जारी कर दिया है। इसमें उन्होंने कहा है कि आयोजन स्थल के 10 किलोमीटर केदायरे में मीट की दुकानों पर मांस की बिक्री पर रोक रहेगी।

ऐसे में करीब डेढ़ महीने तक शहरवासियों को मांस-मछली का शौक टालना पड़ना सकता है। अमौसी एयरपोर्ट के निकट चिल्लावा व उसके आसपास के इलाके में अवैध रूप से सड़क के फुटपाथ पर दुकान लगाने वाले मीट विक्रेताओं द्वारा अवशेष फेंक देने से चील आदि पक्षी उड़ते रहते हैं।

इससे कई बार पक्षियों के टकराने की घटनाएं हो चुकी हैं। प्रशासन कई बार दुकानें बंद भी करा चुका है, लेकिन व चोरी छिपे खुल जाती हैं। मीट-मछली की दुकानों के कारण दुर्घटना की आशंका को लेकर पूर्व में एलआईयू भी रिपोर्ट दे चुकी है। ऐसे में डिफेंस एक्सपो को लेकर प्रशासन बेहद सतर्क है।

इसे देखते हुए दोनों आयोजन स्थलों (वृंदावन कालोनी और गोमती तट) के 10 किमी के दायरे में मीट-मछली की खुले में लगने वाली दुकानों पर रोक लगाने निर्णय लिया है। इस दायरे में जो ग्रामीण बाजार लगते हैं, वह भी बिना अनुमति नहीं लगेंगे। अनुमति बाद ही बाजार लगेंगे और बाजारों में स्वच्छता के पूरे उपाय होंगे।
 
... और पढ़ें

राहतः थाने हुए ऑनलाइन, अब 12 दिन में बन रहे पासपोर्ट

वाहिदा खातून, राकेश, मो. अफजल समेत पासपोर्ट के लिए आवेदन करने वाले कई लोगों ने अप्वॉइंटमेंट लेकर 26 नवंबर को लखनऊ पासपोर्ट सेवाकेंद्र पर दस्तावेज का सत्यापन कराकर पासपोर्ट बनवाने की प्रक्रिया पूरी की।

ये आवेदक जल्दी पासपोर्ट बनवाने का जुगाड़ लगवा रहे थे कि इसी बीच पांच दिसंबर को अचानक उनके मोबाइल पर एसएमएस आया कि पुलिस सत्यापन रिपोर्ट पहुंच चुकी है। पुलिस रिपोर्ट पहुंचने के बाद दो दिन के अंदर पासपोर्ट बन कर डिस्पैच कर दिया जाता है।

एमएप शुरू होने के बाद से थानों से पासपोर्ट की पुलिस सत्यापन रिपोर्ट ऑनलाइन आने लगी हैं। आवेदकों की 8 से 10 दिन में पुलिस सत्यापन रिपोर्ट आने के दो दिन के भीतर पासपोर्ट बनाकर डिस्पैच किया जा रहा है। जिस आवेदक की रिपोर्ट आठ दिन पर आती है तो उसका पासपोर्ट 10 दिन और जिसकी रिपोर्ट 10 दिन पर आती तो उसका पासपोर्ट 12 दिन में डिस्पैच हो रहा।

लखनऊ क्षेत्रीय कार्यालय में हर माह लगभग 50 हजार पासपोर्ट बनाए जा रहे हैं, जिसमें लखनऊ के 6000 से अधिक आवेदक शामिल हैं। इससे आवेदकों को अब न तो पुलिस थाना और न ही पासपोर्ट विभाग के कार्यालय के चक्कर लगाने पड़ रहे हैं।
 
... और पढ़ें

अमेठीः बर्खास्त 16 शिक्षकों के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज, फर्जी प्रमाण पत्र के सहारे हासिल की थी नौकरी

फर्जी प्रमाण पत्र के सहारे नौकरी हथियाने वाले 16 परिषदीय शिक्षकों के खिलाफ बीएसए के आदेश पर बीईओ ने प्राथमिकी दर्ज कराई है। जांच के बाद ये शिक्षक अलग-अलग तिथियों में बर्खास्त किए गए थे। 

शासन की ओर वर्ष 2016 में परिषदीय स्कूलों में 16,448 सहायक अध्यापकों की भर्ती प्रक्रिया में जिले में बड़ी संख्या में अध्यापकों की नियुक्ति हुई थी। नियुक्ति के बाद सहायक अध्यापकों के शैक्षिक प्रमाण पत्र की जांच कराई गई तो कई शिक्षकों के शैक्षिक अभिलेख फर्जी पाए गए।

शैक्षिक अभिलेख फर्जी मिलने के बाद हुई जांच 16 शिक्षकों को अलग-अलग तिथियों में बर्खास्त कर दिया गया था। सेवा समाप्ति के बाद बेसिक शिक्षा विभाग ने सभी के खिलाफ केस दर्ज कराने का आदेश दिया गया था। इसके बाद भी अभी तक फर्जी शिक्षकों के खिलाफ केस दर्ज नहीं हो सका था।

शासन के  निर्देश पर बीएसए विनोद कुमार मिश्र ने पिछले दिनों बीईओ गौरीगंज शिवबहादुर मौर्या को फर्जी प्रमाण पत्र के आरोप में बर्खास्त शैक्षिकों के खिलाफ केस दर्ज कराने का निर्देश दिया था।

बीईओ की तहरीर पर शनिवार को गौरीगंज थाने में बर्खास्त शिक्षकों के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज हुई है। बीईओ की तहरीर पर पुलिस ने केस दर्ज कर मामले की जांच में जुटी है।
... और पढ़ें

योगी सरकार का बड़ा फैसला, दुष्कर्म के मामलों की सुनवाई के लिए बनेंगे 218 फास्ट ट्रैक कोर्ट

यूपी सरकार ने हैदराबाद और फिर उन्नाव दुष्कर्म कांड की भयावह घटनाओं के बाद दुष्कर्म पीड़िताओं को जल्द न्याय दिलाने के लिए 218 नए फास्ट ट्रैक कोर्ट बनाने को मंजूरी दे दी है।मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की अध्यक्षता में आयोजित प्रदेश कैबिनेट की बैठक में इस प्रस्ताव को मंजूरी दी गई। उत्तर प्रदेश सरकार ने यह निर्णय महिलाओं के प्रति बढ़ते अपराध के मामलों को देखते हुए लिया है।

दोषियों को जल्द सजा दिलाए जाने के लिए योगी सरकार ने 218 फास्ट ट्रैक कोर्ट की स्थापना होगी।  वहीं 144 कोर्ट रेगुलर होंगे, जो रेप के मामले देखेंगे। 74 पॉक्सो कोर्ट खोले जाएंगे। जिस पर 75 लाख रुपए प्रति कोर्ट खर्च आने का अनुमान है। मालूम हो कि, उत्तर प्रदेश में बच्चों से जुड़े 42,379 और 25,749 महिलाओं से जुड़े अपराध के मामले दर्ज हैं। अब इन सभी मामलों की सुनवाई इन्हीं अदालतों द्वारा की जाएगी।

इसके अलावा कैबिनेट बैठक में इन प्रस्तावों को भी मिली मंजूरी-
- पूर्वांचल एक्सप्रेस वे परियोजना को बलिया से जोड़ने के लिए बलिया लिंक एक्सप्रेसवे परियोजना विकास व डीपीआर के संबंध में प्रस्ताव पास।

- पर्यावरण संरक्षण के तहत 29 पेड़ों की प्रजातियों को काटने के लिए पहले लेनी होगी मंजूरी। एक पेड़ काटने के लिए 10 पेड़ लगाने होंगे।

- एक्स्ट्रा न्यूट्रल अल्कोहल (ईएनए) पर 5 प्रतिशत वैट लगाने का प्रस्ताव पास। राज्य सरकार लगाएगी टैक्स।

- नगरीय परिवहन प्रणाली को मजबूत बनाने के लिए पीपीपी मोड में ग्रास कॉस्ट कांट्रैक्ट मॉडल पर लखनऊ, मेरठ, प्रयागराज, आगरा, गाजियाबाद, कानपुर, वाराणसी, मुरादाबाद, अलीगढ़, झांसी, बरेली, गोरखपुर, शाहजहांपुर तथा मथुरा-वृंदावन में वातानुकलित इलेक्ट्रिक बसों के संचालन संबंधी प्रस्ताव पास। इसके लिए पीएमआई इलेक्ट्रो मोबिलिटी प्राइवेट लिमिटेड को दिया गया टेंडर।
... और पढ़ें
मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ।

गोंडा: खाना बनाते समय सिलेंडर फटने से चार साल की बच्ची सहित मां की मौत, तीन गंभीर

गोंडा जिले के परसपुर थाना क्षेत्र के कड़रू ग्राम पंचायत के पूरे पैदामी गांव में सोमवार दोपहर खाना पकाते हुए गैस सिलेंडर फटने से हादसे में चार साल की बेटी सहित मां की मौत हो गई जबकि तीन की हालत गंभीर है।

गांव निवासी बरसाती की पत्नी अकबरी (40) सोमवार दोपहर खाना बना रही थी। इसी दौरान खाना बनाते समय गैस सिलेंडर फट गया। जिससे अकबरी की मौके पर ही मौत हो गई। विस्फोट में बरसाती की तीन बेटियां सनम (4) , तबस्सुम (18), तरन्नुम (17) व बेटा सफदर (16) गंभीर रूप से घायल हो गए।

वहीं, मौजूद ताज मोहम्मद व एजाज पुत्र शमी अहमद भी बुरी तरह घायल हो गए। घायलों को इलाज के लिए जिला अस्पताल ले जाया गया, जहां इलाज के दौरान सनम की मौत हो गई। 
... और पढ़ें

यूपी को अगले साल मिलेंगे नए डीजीपी व एडीजी कानून-व्यवस्था, वर्तमान डीजीपी होंगे रिटायर

प्रदेश को अगले वर्ष नए पुलिस महानिदेशक के साथ ही नए एडीजी कानून-व्यवस्था भी मिलेंगे। डीजीपी ओम प्रकाश सिंह का रिटायरमेंट 31 जनवरी को है जबकि एडीजी कानून-व्यवस्था पीवी रामाशास्त्री इसी महीने के आखिर में एडीजी से प्रमोशन पाकर डीजी हो जाएंगे।

इस वर्ष के अंत में भारतीय पुलिस सेवा के 58 अधिकारियों को प्रोन्नति मिलेगी। इनमें डीजी के पद पर 6 एडीजी प्रोन्नति पाएंगे, एडीजी के पद पर चार आईजी को प्रोन्नति मिलेगी और आईजी के पद पर 10 डीआईजी प्रोन्नत होंगे। इनके अलावा 11 एसएसपी भी डीआईजी बन जाएंगे।

अगले साल डीजी रैंक के छह आईपीएस रिटायर हो रहे हैं। इनमें मौजूदा डीजीपी ओम प्रकाश सिंह, डीजी एसआईटी महेंद्र मोदी और डीजी इंटेलीजेंस भवेश कुमार सिंह 31 जनवरी को रिटायर हो रहे हैं। मानवाधिकार आयोग के डीजी डीएल रतनम, मार्च में सीबीसीआईडी के डीजी वीरेंद्र कुमार और अगस्त में नागरिक सुरक्षा में तैनात जवाहर लाल त्रिपाठी फरवरी में सेवानिवृत्त हो जाएंगे।

इनकी सेवानिवृत्ति के बाद 1988 बैच के आईपीएस एडीजी पावर कॉर्पोरेशन कमल सक्सेना और एडीजी ट्रैफिक विजय कुमार, 1989 बैच के आईपीएस एडीजी रूल्स एंड मैन्युअल चंद्र प्रकाश और एडीजी कानून-व्यवस्था पीवी रामाशास्त्री और 1990 बैच के आईपीएस रेनुका कुमार और बीके मौर्या डीजी बन जाएंगे। ऐसे में एडीजी कानून-व्यवस्था के लिए नए अफसर की तलाश जल्द शुरू होगी।
... और पढ़ें

'पाक, बांग्लादेश व अफगानिस्तान में जुल्म के शिकार शियाओं को भी मिले भारत की नागरिकता'

हॉर्स रेस देखने के लिए पहुंचे दर्शक।
ऑल इंडिया शिया पर्सनल लॉ बोर्ड के रविवार को हुए अधिवेशन में कई प्रदेशों से जुटे उलमा ने कहा कि अफगानिस्तान, पाकिस्तान और बांग्लादेश में जुल्म के शिकार शिया मुसलमानों को नागरिकता संशोधन बिल के तहत भारत में नागरिकता दी जाए। शिया समुदाय की आबादी के हिसाब से संसद व विधानसभाओं में भागीदारी दी जाए। 

अगले साल शुरू होने वाली जनगणना में शिया मुसलमानों का अलग कॉलम जोड़कर उनकी गणना की जाए ताकि उनकी सही संख्या पता चल सके और आबादी के मुताबिक सरकारी लाभ दिया जाए। साइंटिफिक कन्वेंशन सेंटर में आयोजित अधिवेशन में मौलाना एजाज अतहर ने शिया मुसलमानों की समस्याओं से संबंधित प्रस्ताव रखे। 

इन पर चर्चा के बाद बोर्ड ने केंद्र व राज्यों की सरकारों से शिया समुदाय को आबादी के हिसाब से संसद व विधानसभाओं में भागीदारी देने, मानवता और हक के लिए कुर्बानी देने वाले इमाम-ए-हुसैन का नाम पाठ्यक्रम में शामिल करने, अवध के नवाबों के नाम पर लखनऊ की सड़कों का नाम रखने तथा शैक्षिक संस्थानों व नौकरियों में आरक्षण देने की मांग की। 
... और पढ़ें

'नागरिकता के अधिकार पर हमला है नागरिकता संशोधन विधेयक व एनआरसी, खुलकर विरोध करेंगे'

विभिन्न संगठनों से जुड़े सामाजिक कार्यकर्ताओं ने नागरिकता संशोधन विधेयक (सीएबी) और राष्ट्रीय नागरिक रजिस्टर (एनआरसी) को संविधान विरोधी करार देते हुए इसे नागरिकता के अधिकार पर हमला बताया। कार्यकर्ताओं में केंद्र की भाजपा सरकार के संविधान विरोधी इस कदम का खुलकर विरोध करने पर सहमति बनी।

तय हुआ कि विपक्षी दल लोकसभा व राज्यसभा में इस विधेयक का विरोध करने के साथ ही इसके खिलाफ वोट भी करें। जो सियासी दल वोटिंग से वाकआउट करेगा, उनका भी विरोध किया जाएगा।

निशातगंज की पेपरमिल कॉलोनी स्थित कैफी आजमी अकादमी में रविवार को आयोजित कार्यक्रम में सामाजिक कार्यकर्ता अमीक जामई ने कहा कि सरकार बुनियादी मुद्दों से लोगों का ध्यान हटाने के लिए इस तरह के गैर सांविधानिक विधेयक लेकर आ रही है। सरकार देश में सांप्रदायिक विभाजन पैदा करना चाहती है।

ईदगाह के इमाम मौलाना खालिद रशीद फरंगी महली ने कहा कि बिल का विरोध करने के लिए हमें सभी विपक्षी दलों से बात करनी चाहिए। राष्ट्रीय स्तर पर एनआरसी को लागू करना संभव नहीं है। हमें भारत के संविधान और अंतरराष्ट्रीय कानूनों का पालन करना चाहिए।
... और पढ़ें

सरकार की लापरवाही से जिंदा जलाई गई उन्नाव कांड की पीड़िता : अखिलेश

समाजवादी पार्टी ने रविवार को उन्नाव कांड पीड़िता को श्रद्धांजलि देने के लिए राजधानी लखनऊ समेत सभी जिलों में शोकसभाएं की। लखनऊ में सैकड़ों सपा कार्यकर्ताओं व समर्थकों ने शाम को परिवर्तन चौक से जहरतगंज स्थित जीपीओ पार्क तक कैंडल मार्च निकाला।

सपा नेताओं ने पीड़िता की दर्दनाक मौत के लिए प्रदेश सरकार को जिम्मेदार ठहराया। राजधानी में आयोजित शोकसभा में सपा नेताओं ने कहा कि उन्नाव में पीड़िता को जिंदा जलाना महिलाओं की सुरक्षा पर सवालिया निशान खड़े करता है। इस जघन्य घटना ने पूरे प्रदेश को हिला कर रख दिया है। 

सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव ने कहा कि प्रदेश में महिलाएं और बच्चियां सुरक्षित नहीं हैं। वे दहशत के माहौल में जी रहीं हैं। राज्य सरकार महिलाओं का सम्मान करना नहीं जानती है। भाजपा में अपराधियों को संरक्षण मिल रहा है।

उन्होंने कहा कि उन्नाव की बेटी ने जो दर्द सहा है, उसके प्रति सरकार का रवैया असंवेदनशील है। समाजवादी पार्टी दुखी है और पीड़ित परिवार के साथ है। उन्होंने कहा कि उन्नाव की बेटी की हत्या में भाजपा सरकार की लापरवाही जिम्मेदार है। मुख्यमंत्री योगी में जरा भी संवेदनशीलता है तो उन्हें त्यागपत्र दे देना चाहिए। यह प्रदेश की हर नारी और हमारी भी मांग है।
... और पढ़ें

एलिवेटेड रूट बनने पर तेज होगा चारबाग स्टेशन का विकास, 29 नॉन प्रीमियम ट्रेनें होंगी शिफ्ट

एकेटीयू की सेमेस्टर परीक्षाएं आज से, 119 केंद्रों पर दो पालियों में होगी परीक्षा

डॉ. एपीजे अब्दुल कलाम प्राविधिक विश्वविद्यालय (एकेटीयू) की सेमेस्टर परीक्षाएं मंगलवार को शुरू हो रही हैं। पहले दिन बीटेक द्वितीय वर्ष समेत अन्य कोर्सों की परीक्षा होगी। प्रदेश भर में 119 केंद्रों पर दो पालियों में परीक्षा होगी। इसमें लगभग ढाई लाख विद्यार्थी शिरकत करेंगे।

परीक्षा नियंत्रक डॉ. राजीव कुमार ने बताया कि परीक्षा संबंधी सभी तैयारियां पूरी कर ली गई हैं। परीक्षा केंद्रों पर सीसीटीवी लगाने के निर्देश दिए गए हैं। नकलविहीन परीक्षा के निर्देश सेंटर सुपरिटेंडेंट व पर्यवेक्षकों को दिए गए हैं। किसी केंद्र में अगर कोई शिकायत होती है तो वह सीधे संपर्क कर सकता है।

इसके लिए मोबाइल नंबर भी दिए गए हैं। परीक्षा केंद्रों का औचक निरीक्षण किया जाएगा। विद्यार्थियों को परीक्षा केंद्र पर 30 मिनट पहले पहुंचने का निर्देश दिया गया है। प्रवेश पत्र के साथ एक आईडी प्रूफ भी लाना जरूरी है।
... और पढ़ें
अपने शहर की सभी खबर पढ़ने के लिए amarujala.com पर जाएं

Disclaimer

अपनी वेबसाइट पर हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर अनुभव प्रदान कर सकें, वेबसाइट के ट्रैफिक का विश्लेषण कर सकें, कॉन्टेंट व्यक्तिगत तरीके से पेश कर सकें और हमारे पार्टनर्स, जैसे की Google, और सोशल मीडिया साइट्स, जैसे की Facebook, के साथ लक्षित विज्ञापन पेश करने के लिए उपयोग कर सकें। साथ ही, अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।

Agree
Election