विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

From nearby cities

देश के पहले कर्नल 'जैग' कपल बन लखनऊ का नाम रोशन करेंगे अनु-अमित, बधाई देने वालों का लगा तांता

लेफ्टिनेंट कर्नल अनु डोगरा जल्द कर्नल बन जाएंगी। इसके बाद वह और उनके पति लखनऊ के डालीगंज निवासी कर्नल अमित कुमार देश की सशस्त्र सेनाओं के पहले कर्नल ज...

5 मार्च 2020

विज्ञापन
विज्ञापन

लखनऊ

बुधवार, 8 अप्रैल 2020

जिले से जांच के लिए भेजा गया पांच लोगों का सैंपल

अमेठी। दिल्ली से जिले के विभिन्न गांवों में पहुंचे पांच लोगों को रैपिड रिस्पांस टीमों ने सोमवार देर शाम उनके घरों से लाकर तिलोई स्थित रेफरल अस्पताल में क्वारंटीन किया है। सभी का सैंपल जांच के लिए एसजीपीजीआई भेजा है।
कोरोना वायरस की रोकथाम में लगा जिला प्रशासन कोई चूक नहीं कर रहा है। निजामुद्दीन के मरकज की घटना के बाद जिला व पुलिस प्रशासन पूरी तरह सक्रिय है। मरकज में शामिल व निजामुद्दीन के आसपास रहने वाले ऐसे लोगों की लोकेशन सर्विलांस सेल से भी ली जा रही है।
एलआईयू ने सोमवार शाम जिला व पुलिस प्रशासन को निजामुद्दीन के आसपास की लोकेशन में रहने वाले पांच लोगों के जिले में मौजूद होने की सूचना दी। एलआईयू की रिपोर्ट मिलने के बाद सक्रिय जिलाधिकारी अरुण कुमार ने स्वास्थ्य विभाग को इनकी सूची उपलब्ध कराते हुए तत्काल उन्हें क्वारंटीन कराने का निर्देश दिया।
डीएम के आदेश पर सक्रिय स्वास्थ्य विभाग की अलग-अलग टीमें अमेठी व भादर ब्लॉक से एक-एक तो तिलोई ब्लॉक के एक ही गांव के तीन व्यक्तियों के घर पहुंचीं। टीमें सभी को उनके घर से लेकर तिलोई स्थित रेफरल अस्पताल पहुंचीं।
यहां सभी का सैंपल लेकर सोमवार रात ही जांच के लिए एसजीपीजीआई लखनऊ भेज दिया गया। घरों से लाए गए सभी लोगों को रेफरल अस्पताल में क्वारंटीन कर दिया गया है। डीएम अरुण कुमार ने पांच सैंपल जांच के लिए भेजे जाने की पुष्टि की है।
... और पढ़ें

लॉकडाउन उल्लंघन पर सख्त हुई पुलिस

अमेठी। लॉकडाउन तोड़ कर अनावश्यक बाहर निकलना 18 लोगों को भारी पड़ा। सोमवार शाम से मंगलवार सुबह तक लॉकडाउन तोड़ने वाले इन लोगों को अलग-अलग थानों की पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। पुलिस की कार्रवाई से लोगों में हड़कंप मचा है।
लॉकडाउन अवधि में दुकान/प्रतिष्ठान पर अनावश्यक भीड़ लगाना तथा नियमों का पालन नहीं कर खुद के साथ परिवार व समाज को असुरक्षित करना 18 लोगों को भारी पड़ा। एसपी डॉ. ख्याति गर्ग के निर्देश पर क्षेत्र गश्त पर निकले गौरीगंज थाना प्रभारी परशुराम ओझा ने मुखबिर की सूचना पर काजी पट्टी तिराहे पर छापा मारा।
सब्जी की दुकान पर भीड़ दिखने पर पुलिस ने सोंगरा गांव के जगदीश प्रसाद, द्वारिका प्रसाद व रामजस, कुर्मिन का पुरवा निवासी प्रदीप वर्मा, इंद्रपाल व राजेश वर्मा, काजी पट्टी निवासी हरिप्रसाद व बालजीत जायसवाल, संभुई निवासी श्रीराम व राम सुख, जगमलपुर निवासी हरिश्चंद्र, नंदा का पुरवा निवासी अमरनाथ व रामपुर गांव निवासी बाल किशुन को गिरफ्तार कर लिया।
सभी को थाने लाने के बाद केस दर्ज कर जमानत पर रिहा किया गया। मुसाफिरखाना थाना प्रभारी अवधेश कुमार यादव ने औरंगाबाद निवासी मो. वसीम तथा शिवरतनगंज थाने के उपनिरीक्षक उपेंद्र प्रताप सिंह ने भीड़ एकत्र होने पर खरगपुर निवासी कफील व सज्जाद, सेमरौता गांव निवासी मो. जुबैर तथा शिवरतनगंज गांव के मो रहमान को गिरफ्तार करने के बाद केस दर्ज कर जमानत पर रिहा करते हुए वैधानिक कार्रवाई शुरू की है।
पुलिस की कार्रवाई से अनावश्यक बाहर निकलने वालों में हड़कंप है। एसपी डॉ. ख्याति गर्ग ने बताया कि सभी थाना प्रभारियों को लॉकडाउन का कड़ाई से पालन कराने का निर्देश दिया गया है। नियमों का उल्लंघन करने वालों पर कार्रवाई की जाएगी।
... और पढ़ें

बहराइच में अराजकतत्वों ने अपवित्र किया धर्मस्थल-तोड़फोड़, गांव में पुलिस फोर्स तैनात

बहराइच के कोतवाली नानपारा क्षेत्र के लखैया कला गांव में लॉकडाउन के दौरान ही अराजकतत्वों ने सामाजिक सौहार्द को बिगाड़ने वाली वारदात को अंजाम दिया है। उन्होंने योगी-मोदी के लगे बैनर व पोस्टर फाड़ने के साथ ही मंदिर में स्थापित मूर्तियों को क्षतिग्रस्त कर कुएं में फेंक दिया।

पुलिस अधीक्षक ने मौका मुआयना किया है। गांव में पुलिस फोर्स तैनात कर दी गई है। अज्ञात के खिलाफ केस दर्ज कर मामले की जांच शुरू कर दी गई है। मूर्तियों की स्थापना दोबारा कर दी गई है।

कोतवाली नानपारा अंतर्गत लखैया कला गांव में सोमवार की शाम गांव के बाहर चौराहे पर कुछ लोग खड़े थे। यहां गांव के लोगों की ओर से कोरोना की रोकथाम के लिए मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के पोस्टर लगाए गए थे, जिन्हें कुछ लोगों ने फाड़ दिया। इसके बाद देर रात गांव में स्थापित मूर्तियों को उखाड़ कर कुएं में फेंक दिया गया। साथ ही एक धर्मस्थल में आपत्तिजनक चीजें फेंक इसे अपवित्र करने की कोशिश की।

इसकी जानकारी सुबह मायाराम को हुई तो उन्होंने गांव के लोगों को सूचना दी। इस पर गांव के लोग जुट गए साथ ही तनाव की स्थिति बन गई। सूचना पर प्रभारी निरीक्षक नानपारा ओपी चौहान पुलिस बल के साथ मौके पर पहुंचे। प्रभारी निरीक्षक ने उच्चाधिकारियों को मामले से अवगत कराया। सीओ अरुण चंद्र, एएसपी ग्रामीण रवींद्र कुमार सिंह भी मौके पर पहुंच गए। रुपईडीहा पुलिस भी बुला ली गई। पुलिस अधीक्षक विनय मिश्रा ने बताया कि लखैया गांव में टूटी मूर्तियों को दुरुस्त करा दिया गया है। साथ ही धर्मस्थल को धुलवाया गया है। मामले में अज्ञात के खिलाफ केस दर्ज किया गया है। पुलिस को आरोपियों के पकड़ने के निर्देश दिए गए हैं।
... और पढ़ें

कोरोना का खतरा बढ़ा, आज राज 12 बजे से पूरी तरह सील कर दिए जाएंगे यूपी के 15 जिले

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ

यूपीः विधायकों के वेतन में हो सकती है कटौती, आज योगी कैबिनेट की बैठक

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की अध्यक्षता में बुधवार को प्रदेश कैबिनेट की बैठक होगी। शाम पांच बजे से होने वाली इस बैठक में मंत्री वीडियोकान्फ्रेंसिंग के जरिए जुड़ेंगे।  सूत्रों ने बताया इस बैठक में केंद्र सरकार की तरह विधायक निधि और विधायकों के वेतन में कटौती से संबंधित प्रस्ताव पर चर्चा की संभावना है। 

विधायकों के वेतन में 30 से 50 प्रतिशत के बीच कटौती व विधायक निधि सांसदों के सांसद निधि की तरह दो वर्ष के लिए स्थगित की जा सकती है। वर्तमान में विधायक अपनी स्वेच्छा से वेतन व निधि से सहयोग का एलान कर रहे हैं। 

कई मंत्रियों ने चालू वितीय वर्ष की पूरी निधि व कई ने पूरे महीने के वेतन के योगदान का एलान किया है। प्रदेश के कई मंत्री राजधानी से बाहर हैं। इसलिए मंत्री वीडियोकांफ्रेंसिंग के जरिए अपने  क्षेत्र से ही जुड़ेंगे। इसके अलावा कुछ अन्य प्रस्तावों पर भी विचार हो सकता है।

इस बीच, मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि प्रदेश में लॉकडाउन खोलने के बारे में फैसला 11-12 अप्रैल को केंद्र सरकार से बातचीत के बाद किया जाएगा। मुख्यमंत्री ने कहा कि तब्लीगी जमात के कारण अचानक कुछ परिस्थितियां बदली हैं। अब तक प्रदेश में 314 केस हैं जिनमें 168 केस जमातियों के हैं। इससे स्थितियां कुछ बिगड़ी हैं। जमातियों ने चिंता को बढ़ा दिया है। इसके बाद भी स्थिति हमारे नियंत्रण में है।

योगी ने कहा कि मीडियाकर्मियों को फेक न्यूज, अफवाह और अलगाववाद जैसी खबरों से सजग रहना चाहिए। उन्होंने स्वअनुशासन और सोशल डिस्टेंसिंग पर जोर देते हुए कहा कि इसका कड़ाई से पालन कराया जा रहा है। मीडिया को भी इसके प्रति जागरुकता में सरकार से सहयोग करना चाहिए।

सीएम योगी ने मंगलवार को प्रदेश के सभी जिलों के पत्रकारों के साथ वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के दौरान ये बातें कहीं। उन्होंने कहा कि कोरोना की लड़ाई में शासन, प्रशासन और आमजन की सहभागिता के साथ ही मीडिया की भूमिका बहुत अहम है। जागरुकता पैदा करने में मीडिया की बड़ी भूमिका है। इस दौरान योगी ने मीडियाकर्मियों के साथ कोरोना से निपटने के लिए सरकार की तैयारियों व सरकार द्वारा किए जा रहे कार्यों को साझा किया।
... और पढ़ें

यूपी: कोरोना महामारी के दौरान तैनात पुलिसकर्मियों का योगी सरकार कराएगी 50 लाख का बीमा

उत्तर प्रदेश के पुलिस कर्मियों का सरकार बीमा कराएगी। प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा है कि पुलिसकर्मियों का 50 लाख रुपये का बीमा कराया जाए। जल्द ही इस संबंध में आदेश जारी किए जाएंगे। शासन की ओर से इस संबंध में जानकारी दी गई है।

वहीं, मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने मंगलवार को दिशा-निर्देश जारी किए। इसमें कहा गया कि प्रदेश के सभी जिलों में कोविड-19 की जांच के लिए कलेक्शन सेंटर स्थापित किए जाएंगे। जिन छह मंडलों में सरकारी मेडिकल कॉलेज नहीं है, उन सभी के मुख्यालयों पर टेस्टिंग लैब स्थापित की जाएंगी। 

इस समय देवीपाटन (गोंडा), मिर्जापुर, बरेली, मुरादाबाद, अलीगढ़ और वाराणसी के बीएचयू अस्पताल में एक-एक लैब बनाने की प्रक्रिया को आगे बढ़ाया जा रहा है।

मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में 130 करोड़ भारतीय पूरी तत्परता के साथ कोरोना वायरस को समाप्त करने में जुटे हुए हैं। उत्तर प्रदेश में पिछले 4-5 दिनों में कोरोना पॉजिटिव लोगों की संख्या बढ़ी है। 
 
... और पढ़ें

सीएम योगी ने 56 गाड़ियों को दिखाई हरी झंडी, यूपी को सैनिटाइज करने का चलेगा अभियान

फाइल फोटो

सख्ती के बाद भी बाज नहीं आ रहे मुनाफाखोर, महंगी दाल बेचने पर लगाया जुर्माना

लखनऊ में लॉकडाउन का सबसे ज्यादा असर खाने-पीने की चीजों के दामों में देखने को मिल रहा है। सख्ती के बावजूद कालाबाजारी करने वाले बाज नहीं आ रहे हैं। मंगलवार को भी मुनाफाखोरी और पैकेजिंग में खामियों पर कई पर जुर्माना लगाया गया।

वहीं मंगलवार को जिलाधिकारी अभिषेक प्रकाश के निर्देशन में सिटी मजिस्ट्रेट एसपी सिंह ने खुद ग्राहक बन कर पुराने लखनऊ में एक दुकान पर छापा मार बड़ी मात्रा में पान मसाला पकड़ा। 

जिला आपूर्ति अधिकारी की टीमों ने मंगलवार को मड़ियांव में गोविंद किराना स्टोर पर अरहर दाल 100 रुपये किलो बिकते पाया। इस पर दुकानदार के खिलाफ केस दर्ज कराया गया।

तेलीबाग में शिव प्रोविजन पर मूंगफली के पैकेट तो ओम साईं जनरल स्टोर पर भुजिया के पैकेट पर जरूरी जानकारियां दर्ज नहीं पाई गईं। दोनों के खिलाफ बाट-माप विभाग ने 10-10 हजार रुपये जुर्माना ठोका है। श्रीनगर कॉलोनी में गुप्ता जनरल स्टोर पर लेबलिंग और पैकेजिंग नहीं पाए जाने पर 25 हजार रुपये जुर्माना लगाया गया।
... और पढ़ें

लॉकडाउन के कारण रामलला के चढ़ावे में भारी गिरावट, इस पखवाड़े महज इतना चढ़ावा ही आया

कोरोना महामारी के चलते संपूर्ण देश में घोषित लॉकडाउन का असर रामलला के चढ़ावे पर भी पड़ा है। रामजन्मभूमि में विराजमान रामलला को इस पखवाड़े में जो चढ़ावे की राशि प्राप्त हुई है, वह अब तक की न्यूनतम राशि है। बीते 28 सालों में ऐसा दूसरी बार हुआ है। 
 

इसके पहले वर्ष 2002 में शिलादान के दौरान यहां महीनों चले अघोषित कर्फ्यू के दौरान भी ऐसी ही स्थिति आई थी। जब अयोध्या में श्रद्धालुओं के आवागमन पर पूरी तरह से रोक लग गई थी। उस दौरान भी मंदिरों के व्यवस्थापकों को भारी घाटा उठाना पड़ा था। 

कोरोना की वैश्विक महामारी के कारण देश भर में घोषित लॉकडाउन के चलते रामनगरी के मठ-मंदिर श्रद्धालुओं के लिए बंद कर दिए गए हैं। यही नहीं इस वर्ष रामनगरी का ऐतिहासिक रामनवमी मेला भी कोरोना के कारण नहीं हो सका। 

प्रशासन ने मेले पर रोक लगाते हुए बाहरी श्रद्धालुओं के अयोध्या आगमन पर प्रतिबंध लगा दिया। यही कारण है कि इस पखवाड़े रामजन्मभूमि में विराजमान रामलला को न्यूनतम चढ़ावा ही प्राप्त हुआ।
... और पढ़ें

गोंडा में बाहर से आए लोगों का सर्वे करने गई टीम पर हमला, फाड़ दिए अभिलेख

गोंडा में कोरोना संक्रमण के चलते बाहर से आए लोगों का सर्वे करने गई टीम पर  गांव के लोगों ने हमला कर दिया और अभिलेख फाड़ दिए। मामला परसपुर थाना क्षेत्र का है। सर्वे टीम में शामिल आशा कार्यकर्ताओं ने सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र के अधीक्षक डॉ. एमपी यादव से शिकायत की। 

अधीक्षक ने कोतवाल को इस बारे में कार्रवाई के लिए जानकारी दी है। बताया जा रहा है कि परसपुर थाना क्षेत्र के भौरीगंज क्षेत्र में आशा कार्यकर्ताओं की टीम बाहर विदेश और गैर प्रदेशों से आए लोगों का सर्वे कर रही थी। वो लगभग दो दर्जन लोगों के बारे में जानकारी ले चुकी थीं।

इसके बाद जैसे ही टीम अनीस के घर पूछताछ के लिए पहुंची तो वहां मौजूद करीब आधा दर्जन लोगों ने आशा कार्यकर्ता और टीम पर हमला बोल दिया। टीम के पास मौजूद सभी अभिलेखों को भी फाड़ डाला। इतना ही नहीं पीड़िता आशा कार्यकर्ता के बेटे को जमकर पीटा। किसी तरह वह अपनी जान बचाकर सीएचसी पहुंची। 

वहां पीड़ित आशा कार्यकर्ता बीना यादव और नीलम तिवारी की ओर से अधीक्षक डॉ. एमपी यादव को लिखित शिकायत दी गई। डॉ. यादव ने पूरे मामले की लिखित शिकायत कोतवाल राम अवतार यादव को दी। उन्होंने जांच कर कार्रवाई की बात कही है।
 
... और पढ़ें

कोरोना पॉजिटिव ने बिरयानी नहीं मिलने पर किया हंगामा, बोला-नहीं खाऊंगा दवा

उत्तर प्रदेश के सीतापुर के जिला अस्पताल में आईसोलेशन वार्ड में भर्ती कोरोना पॉजिटिव एक मरीज ने बिरयानी नहीं मिलने पर जमकर हंगामा किया। हालांकि बाद में मौके पर पुलिस ने मरीज को शांत कराया।

आपको बता दें कि कोरोना पॉजिटिव पाए गए सात बांग्लादेशियों में से एक को जिला अस्पताल के आईसोलेशन वार्ड में भर्ती कराया गया था। देर रात मरीज ने इलाज में लगी स्वास्थ्य टीम से बिरयानी की मांग की। 

टीम ने बिरयानी नहीं होने की बात कही, इस पर पहले से डायबिटीज के मरीज ने दवा खाने से इनकार कर दिया। वह बिरयानी न मिलने तक दवा न खाने की जिद पर अड़ा रहा। 

काफी समझाने के बाद भी न मानने पर जिला अस्पताल से एक डॉक्टर रात में शहर कोतवाल अंबर सिंह को फोन कर जमाती की शिकायत की। इस पर कोतवाल ने पुलिस भेजकर जमाती को शांत कराया। 

इसके बाद स्वास्थ्य टीम जमाती को डायबिटीज की दवा खिला पाई। शहर कोतवाल अंबर सिंह ने बताया कि कोरोना पॉजिटिव मरीज ने बिरयानी न मिलने पर डायबिटीज की दवा खाने से मना कर दिया था। काफी प्रयास के बाद उसे दवा खिलाई गई। मंगलवार सुबह जिला अस्पताल से उसे खैराबाद सीएचसी में भर्ती करा दिया गया है।
... और पढ़ें

बलरामपुर अस्पताल में नर्सिंग स्टाफ का हंगामा, नर्स ने लगाए ये आरोप

लखनऊ के बलरामपुर अस्पताल में कोविड वार्ड में ड्यूटी कर रहे नर्सिंग कर्मियों ने मंगलवार को निदेशक पर अभद्रता का आरोप लगाते हुए हंगामा किया।

हालांकि निदेशक ने अभद्रता से इंकार करते हुए कहा कि नर्सिंग स्टाफ ने वार्ड से ड्यूटी काटने की एप्लीकेशन दी थी, उन्हें वार्ड से हटा दिया गया है। बलरामपुर अस्पताल में मंगलवार को स्टॉफ नर्स क्लेरिन ब्रिग्रेन्जा ड्यूटी पर थीं।

इस बीच निदेशक डॉ. राजीव लोचन राउंड के दौरान कोविड वार्ड में मरीज का टेंपरेचर लेने पहुंचे। आरोप है कि निदेशक ने ग्लब्स अपने हाथ से उतारकर स्टॉफ नर्स की जेब में डाल दिया।

इसी बात से आक्रोशित होकर नर्सिंग कर्मचारियों ने हंगामा शुरू कर दिया। विवाद बढ़ता देख निदेशक वहां से चले गए। बाद में नर्सिंग कर्मी निदेशक से मिलने गए और काम बंद करने की चेतावनी दी वह काम बंद कर देंगे।
... और पढ़ें
अपने शहर की सभी खबर पढ़ने के लिए amarujala.com पर जाएं

Disclaimer


हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर और व्यक्तिगत अनुभव प्रदान कर सकें और लक्षित विज्ञापन पेश कर सकें। अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।
Agree
Election
  • Downloads

Follow Us