स्मार्टफोन पर खेलने से बच्चा नहीं होगा 'स्मार्ट'

वाशिंगटन/एजेंसी Updated Mon, 05 Aug 2013 03:16 PM IST
विज्ञापन
smartphone can impede childs brain development

पढ़ें अमर उजाला ई-पेपर
कहीं भी, कभी भी।

*Yearly subscription for just ₹299 Limited Period Offer. HURRY UP!

ख़बर सुनें
खिलौनों से खेलने की उम्र में ही बच्चों को स्मार्टफोन पकड़ा देने वाले अभिभावक अब सावधान हो जाएं। हाल में एक अमेरिकी शोध में पाया गया है कि स्मार्टफोन का इस्तेमाल बच्चों के मानसिक विकास के लिए बहुत बड़ी बाधा है।
विज्ञापन


सीबीएस न्यूज में प्रकाशित इस शोध के अनुसार, अमेरिका में दो साल या इससे कम उम्र के 25 प्रतिशत बच्चों के पास अपने मोबाइल फोन हैं जिनका इस्तेमाल उन्हें खिलाने व सिखाने के लिए अभिभावक करते हैं। शोधकर्ताओं का मानना है कि स्मार्टफोन से बच्चे कुछ सीखते नहीं हैं बल्कि इससे उनका ध्यान भटकता है और वे एकाग्र नहीं हो पाते हैं।


शोधकर्ताओं का दावा है कि कम उम्र में बच्चों द्वारा स्मार्टफोन का इस्तेमाल उन्हें उम्र भर के लिए भारी पड़ सकता है। बचपन में बच्चों में सीखने की गति तेज होती है लेकिन इसके इस्तेमाल से उनके बोलने और सीखने की क्षमता पर विपरीत प्रभाव पड़ता है।

शोधकर्ता व मनोवैज्ञानिक गेल साल्ट ने सीबीएस को बताया, 'बच्चों के मानसिक विकास के लिए जरूरी है कि उन्हें बोलने, सुनने और सीखने के परिवेश में रखा जाए। स्मार्टफोन जैसे गैजेट न सिर्फ उनको सीखने की इस क्रिया से भटकाते हैं बल्कि उनके मानसिक विकास को भी प्रभावित करते हैं।'

इतना ही नहीं, वे यह भी मानते हैं कि स्मार्टफोन का अधिक इस्तेमाल बच्चों को खुलकर सोचने नहीं देता है जिससे वे अपने आसपास की चीजों पर गौर नहीं करते हैं और उनकी रचनात्मकता पर विपरीत प्रभाव पड़ता है।

आपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।

खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?
विज्ञापन
विज्ञापन

Spotlight

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
Election
  • Downloads

Follow Us

X

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00
X