अमृत योजना से होगा कायाकल्प : सीएम

अमर उजाला ब्यूरो , फतेहपुर Updated Sat, 25 Nov 2017 12:24 AM IST
विज्ञापन
सभास्थल पर जुटी भीड़।
सभास्थल पर जुटी भीड़। - फोटो : अमर उजाला

पढ़ें अमर उजाला ई-पेपर
कहीं भी, कभी भी।

*Yearly subscription for just ₹249 + Free Coupon worth ₹200

ख़बर सुनें
सीएम योगी आदित्य नाथ ने कहा कि केंद्र सरकार की अमृत योजना जिले का कायाकल्प कर देगी। इससे पेयजल व्यवस्था बेहतर होगी, सीवर लाइनें बिछेंगी, सड़कें चौड़ी होंगी और पार्क बनेंगे। योजना पर काम होने के बाद बुनियादी सुविधाएं कई गुना बढ़ जाएंगी। सीएम योगी ने ये बातें तेलियानी में आयोजित जनसभा में कही।  
विज्ञापन

जिले के सातों निकायों के प्रत्याशियों के समर्थन में हुई जनसभा में सीएम ने कहा कि केंद्र सरकार ने देश के 13 जिलों को अमृत योजना में चुना है। इसमें यूपी के पांच जिले हैं, जिसमें फतेहपुर भी शामिल है। केेंद्र की तरह नगरीय विकास के लिए प्रदेश सरकार ने पं. दीनदयाल उपाध्याय के नाम से कार्ययोजना तैयार की है।
कहा कि पिछली सरकारों ने नगरीय सुविधाओं को ध्वस्त कर दिया। भाजपा सरकार ऐसे जगह भी बिजली-पानी की सुविधा पहुंचाएगी, जहां तीन परिवार भी मकान बनवाये हैं। उन्हें कनेक्शन निशुल्क देंगे। जाम की समस्या पर कहा कि हर शहर इससे जूझ रहा है। जाम में फंसे लोगों का समय और श्रम बर्बाद होता है। जाम से तेल की बर्बादी भी होती है। ठेला, खोमचा, रेवड़ी और पटरी दुकानदारों को पुनर्वास देते हुए सड़क को अतिक्रमण मुक्त कराएंगे। कहा कि केंद्र और प्रदेश के पैसे का उपयोग सही मायने में निकाय ही कर सकती हैं।
इस मौके पर केंद्रीय राज्यमंत्री साध्वी निरंजन ज्योति, कारागार मंत्री जयकुमार जैकी, कृषि राज्यमंत्री रणवेंद्र प्रताप सिंह उर्फ धुन्नी सिंह, पूर्व मंत्री राधेश्याम गुप्ता, सदर विधायक विक्रम सिंह, बिंदकी विधायक करण सिंह पटेल, खागा विधायक कृष्णा पासवान, अयाहशाह विधायक विकास गुप्ता, जिलाध्यक्ष दिनेश बाजपेई, डॉ. ज्ञानेंद्र सचान ज्ञानू, निकाय चुनाव प्रभारी अविनाश सिंह, सदर प्रत्याशी सदर अर्चना त्रिपाठी, बिंदकी प्रत्याशी गंगाराम सोनकर, खागा प्रत्याशी गीता सिंह, बहुआ प्रत्याशी बिजेंद्र सिंह, जहानाबाद प्रत्याशी सुधा सिंह, किशनपुर प्रत्याशी रमेश चंद्र और हथगाम प्रत्याशी बचानी लाल भी मौजूद रहे।

...जब विधायक को छोड़नी पड़ी कुर्सी
मंच पर सीएम के बगल में केंद्रीय राज्यमंत्री साध्वी निरंजन ज्योति बैठी थीं। वे संबोधन के लिए माइक पर पहुंची तो उनकी कुर्सी पर सदर विधायक विक्रम सिंह आकर बैठ गए। संबोधन खत्म होने के बाद साध्वी लौट रही थीं तभी सीएम ने विक्रम सिंह को कुर्सी छोड़ने का इशारा किया। इस पर विधायक को कुर्सी से उठना पड़ा। इस मामले में सदर विधायक का कहना था कि वे थोड़ी देर के लिए बैठे थे, वे खुद ही उठने वाले थे।

कृष्णा ने चीनी मिल का दिया ज्ञापन
खागा विधायक कृष्णा पासवान ने गन्ना किसानों के लिए सीएम से चीनी मिल खुलवाने की मांग की। इस आशय का ज्ञापन देते हुए बताया कि धाता क्षेत्र में इसकी संभावनाएं हैं। सीएम ने यह कहकर सहमति दे दी कि चिंता मत करिये।

अमर शहीदाें को नमन किया
सीएम ने भाषण की शुरुआत से पहले दोआबा की सरजमीं मेें सन् 1958 के स्वतंत्रता संग्राम के अमर शहीद ठाकुर जोधी सिंह अटैया, पत्रकार शिरोमणि गणेश शंकर विद्यार्थी और राष्ट्रकवि पं. सोहन लाल द्विवेदी को नमन किया।

महज बीस मिनट में खत्म कर दी बात
सीएम योगी को 40 मिनट जनसभा को संबोधित करना था, लेकिन वे अपनी बात 20 मिनट में ही खत्म कर झांसी के लिए आगे बढ़ गए। इसे लेकर तरह-तरह की चर्चाएं होती रहीं। भाजपाई भी यह कहते सुने गए कि अपेक्षित भीड़ न जुट पाने की वजह से सीएम ने पूरा समय नहीं दिया।

मुस्लिम महिलाएं भी दिखीं
सीएम की जनसभा में कुछ मुस्लिम महिलाएं भी नजर आईं। एक महिला ने तो भाजपा का मफलर भी पहन रखा था। हर किसी की इन महिलाओं पर निगाहें थीं।
 
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

Spotlight

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
Election
X

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
  • Downloads

Follow Us