विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
ढाई साल बाद शनि बदलेंगे अपनी राशि , कुदृष्टि से बचने के लिए शनि शिंगणापुर मंदिर में कराएं तेल अभिषेक : 14-दिसंबर-2019
Astrology Services

ढाई साल बाद शनि बदलेंगे अपनी राशि , कुदृष्टि से बचने के लिए शनि शिंगणापुर मंदिर में कराएं तेल अभिषेक : 14-दिसंबर-2019

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

85 आईएएस अफसरों को नव वर्ष पर पदोन्नति की सौगात देने की तैयारी, ये बन सकते हैं प्रमुख सचिव

नए साल के पहले दिन करीब 85 आईएएस अधिकारियों की पदोन्नति की सौगात मिलेगी। शासन के नियुक्ति विभाग ने इस संबंध में कार्यवाही शुरू कर दी है।

7 दिसंबर 2019

विज्ञापन
विज्ञापन

आगरा

रविवार, 8 दिसंबर 2019

मोबाइल लोकेशन से खुलेगा नवोदय छात्रा की मौत का राज, एसआईटी जुटा रही यह जानकारी

हैदराबाद एनकाउंटर पर बोले शोध छात्रा के पिता, मेरी बेटी के हत्यारों को भी दी जाए ऐसी ही सजा

हैदराबाद में दुष्कर्म के बाद हत्या के आरोपियों को सजा मिल गई है। अब हमारे मामले में भी त्वरित न्याय मिलना चाहिए। उन्होंने बेरहमी से मेरी बेटी को मार डाला था। यह मांग की है आगरा के चर्चित शोध छात्रा हत्याकांड के मामले में वादी और पीड़िता के पिता ने। वो दोषियों को सजा दिलाने के लिए सात साल से लड़ाई लड़ रहे हैं। 

15 मार्च 2013 को दयालबाग स्थित शिक्षण संस्थान की शोध छात्रा की हत्या कर दी गई थी। उसके शरीर को 12 जगह से काटा गया था। इस घटना के बाद पूरे आगरा में प्रदर्शन हुए थे। पुलिस ने दो आरोपियों को गिरफ्तार कर जेल भेजा था। 

इनमें एक आरोपी शिक्षण संस्थान के पूर्व अध्यक्ष का धेवता उदयस्वरूप अब भी जेल में बंद है। मामले की जांच सीबीआई ने भी की थी। चार्जशीट में डीएनए के आधार पर दुष्कर्म की पुष्टि की गई थी। लैब सहायक यशवीर संधू भी पकड़ा गया था।
... और पढ़ें

पुलिस ने नहीं की कार्रवाई तो महिलाओं ने छेड़छाड़ के आरोपी को दी ऐसी सजा, जिंदगी भर रखेगा याद

मैनपुरी जिले में छेड़खानी के एक मामले में जब पुलिस ने 11 दिन बाद भी कोई कार्रवाई नहीं की तो पीड़िता ने खुद ही आरोपी को पकड़ लिया। इसके बाद साथी महिलाओं ने आरोपी को ऐसी सजा दी, जिसे वो जिंदगी भर याद रखेगा। 

कुसमरा चौकी क्षेत्र में सक्रिय एक महिला समूह में काम करने वाली महिला के साथ 26 नवंबर को इलाबांस चौकी क्षेत्र निवासी एक नामजद ने छेड़छाड़ की थी। पीड़िता ने साथी महिलाओं के साथ चौकी पहुंचकर आरोपी के विरुद्ध तहरीर दी थी। 

आरोपी पर कार्रवाई किए जाने की गुहार लगाई थी। लेकिन चौकी पुलिस तो मानो आरोपी की हिमायती बन कर बैठ गई। 11 दिन बीतने के बाद भी पुलिस ने न तो रिपोर्ट दर्ज करना जरूरी समझा और न ही आरोपी को गिरफ्तार करने के प्रयास ही किए। 
... और पढ़ें

उन्नाव कांड पर बोले रामगोपाल यादव: यूपी के हालात खराब, राष्ट्रपति शासन लगाया जाए

उन्नाव कांड को लेकर समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय महासचिव प्रोफेसर रामगोपाल यादव ने भाजपा सरकार पर निशाना साधा है। उन्होंने कहा कि उत्तर प्रदेश की कानून व्यवस्था पूरी तरह से लचर है। यहां राष्ट्रपति शासन लगा देना चाहिए। 

फिरोजाबाद में शनिवार को एक निजी कार्यक्रम में आए सपा नेता रामगोपाल यादव ने मीडिया से बात करते हुए कहा कि उन्नाव की घटना पर पहले कोई कार्रवाई नहीं हुई। मैंने सदन में भी इस विषय पर कहा था कि दुष्कर्म पीड़िता 90 प्रतिशत जल चुकी है, उसका जिंदा रहना मुश्किल है। 

उन्होंने कहा कि अपराधियों को राजनीतिक संरक्षण मिलता है। उत्तर प्रदेश की व्यवस्था बिल्कुल लचर है। उन्नाव घटना के जो आरोपी हैं उन पर भी वैसी कार्रवाई नहीं हो सकती है जो हैदराबाद में हुई है।


... और पढ़ें
सपा के राष्ट्रीय महासचिव रामगोपाल यादव सपा के राष्ट्रीय महासचिव रामगोपाल यादव

हैदराबाद पुलिस को एक लाख रुपये इनाम देने का एलान, समाजसेवी ने कहा- यूपी में भी हो ऐसी कार्रवाई

महिला पशु चिकित्सक के साथ हैवानियत करने के चारों आरोपियों का एनकाउंटर करने वाली हैदराबाद पुलिस को लोग सलाम कर रहे हैं। आगरा के लोगों का कहना है कि हैदराबाद पुलिस ने रास्ता दिखाया है कि दरिंदों का यही अंजाम होना चाहिए। 

शहर के शांति मांगलिक अस्पताल के चेयरमैन सतीश मांगलिक ने तो हैदराबाद पुलिस को एक लाख रुपये इनाम देने की घोषणा की है। उन्होंने कहा कि पुलिस ने साहसिक कार्य किया है। इससे पूरे देश में सकारात्मक संदेश गया है। सभी लोग पुलिस का मनोबल बढ़ा रहे हैं।

समाजसेवी सतीश मांगलिक ने बताया कि इनाम की धनराशि भेजने के लिए वो हैदराबाद पुलिस से संपर्क कर रहे हैं। मांगलिक ने कहा कि हैदराबाद पुलिस ने जो कार्रवाई की है, उससे लग रहा है कि अपराधी इस तरह का अपराध करने से पहले सौ बार सोचेगा। 

उन्होंने कहा कि देश में यह पहली बार हुआ है कि जब दरिंदगी करने वाले त्वरित सजा मिली है। वहशी और दरिंदों के लिए इसी तरह की सजा मिलनी चाहिए। उन्होंने कहा कि उत्तर प्रदेश में भी दुष्कर्म के मामलों में इस तरह के एनकाउंटर की जरूरत है। 
... और पढ़ें

ताज एक्सप्रेस में उठा धुआं, यात्रियों में मचा हड़कंप, चेन पुलिंग कर रोकी ट्रेन

दिल्ली के निजामुद्दीन रेलवे स्टेशन से चलकर आगरा होते हुए झांसी आने वाली ताज एक्सप्रेस के डी टू कोच के पहियों में शनिवार की सुबह धुआं उठने पर हड़कंप मच गया। पहियों के ब्रेक जाम होने से धुआं उठ रहा था। 

यात्रियों की सतर्कता से बड़ा हादसा टल गया। घटना के कारण ट्रेन भांडई स्टेशन के नजदीक 40 मिनट खड़ी रही। पहियों की तकनीकी खराबी को ठीक किया गया। घटना के कारण ट्रेन ढाई घंटे देरी से ताज एक्सप्रेस झांसी पहुंची। 
  
शनिवार की सुबह निजामुद्दीन से चलकर झांसी आने वाली ताज एक्सप्रेस आगरा से ग्वालियर की तरफ बढ़ रही थी, तभी डी टू कोच के पहियों से धुआं निकलने लगा। धुआं उठते देख यात्रियों में हड़कंप मच गया। 
... और पढ़ें

ताज ट्रिपेजियम जोन में खुल गया तरक्की का रास्ता, 20 महीने बाद मिली राहत

सुप्रीम कोर्ट द्वारा यथास्थिति (स्टेटस को) हटाए जाने के बाद ताज ट्रिपेजियम जोन (टीटीजेड) को बड़ी राहत मिली है। एक तो सरकारी योजनाओं को नई रफ्तार मिलेगी। दूसरा, नए कारखानों का निर्माण हो सकेगा। तीसरा, पुरानों का विस्तार भी होगा। 

अब उद्यमियों की नजरें पर्यावरण मंत्रालय की ओर हैं। मंत्रालय ने तदर्थ रोक जो लगा रखी है, लेकिन सुप्रीम कोर्ट के निर्णय के बाद इस पर भी नए सिरे से विचार होना तय है। इसे वायु प्रदूषण रोकने के लिए लगाया गया था। अगर प्रशासन हवा में घुल रहे जहर के इंतजाम कर लेता है तो तरक्की के और भी रास्ते खुल सकते हैं।

ताजमहल को प्रदूषण से बचाने के लिए सुप्रीम कोर्ट के आदेश पर ताज ट्रिपेजियम जोन अथॉरिटी का गठन 30 दिसंबर, 1996 को किया गया था। इसके अंतर्गत आगरा, फिरोजाबाद, मथुरा, हाथरस, एटा और भरतपुर जिले का 10,400 वर्ग किमी क्षेत्र आता है।
... और पढ़ें

दर्दनाक हादसा: गलत दिशा से आ रहे एक्टिवा सवारों को ट्रक ने मारी टक्कर, एक की मौत

ताजमहल
मथुरा के फरह क्षेत्र में शनिवार को हिंदुस्तान कॉलेज के समीप दिल्ली हाईवे पर दर्दनाक हादसा हो गया। किसी भारी वाहन ने एक्टिवा को टक्कर मार दी। हादसे में एक्टिवा सवार एक व्यक्ति की मौत हो गई, जबकि दूसरी की हालत गंभीर बनी हुई है। 

मृतक की शिनाख्त राकेश सिंह (48) निवासी गांव चारबिसे शमशाबाद (आगरा) के रूप में हुई है। घायल उदयवीर सिंह मथुरा के मेघपुर का रहने वाला है। हादसे की सूचना पर पहुंची पुलिस ने घायल को अस्पताल पहुंचाया है, वहीं शव को पोस्टमार्टम के लिए भेजा। 

प्रत्यक्षदर्शियों ने बताया कि एक्टिवा सवार लोग गलत दिशा से आ रहे थे। तभी सामने से ट्रक ने टक्कर मार दी। राकेश सिंह के सिर के ऊपर से ट्रक का पहिया गुजर गया, जिससे उनकी मौके पर ही मौत हो गई। घटना के बाद चालक ट्रक लेकर फरार हो गया। 
... और पढ़ें

शहीद मुकुल द्विवेदी पार्क हो सकता है जवाहर बाग का नाम, शासन को भेजा गया प्रस्ताव

हिंसा की आग में झुलसे मथुरा के जवाहर बाग की सूरत जल्द ही संवरने वाली है। योगी आदित्यनाथ सरकार जवाहर बाग का कायाकल्प करने साथ इसका नाम भी बदल सकती है। इसके लिए शासन को प्रस्ताव भेजा गया है। 

उद्यान विभाग की 153 एकड़ जमीन पर फैले जवाहर बाग का सौंदर्याकरण कराया जा रहा है। इसके तहत सूर्य नमस्कार (योग करने का स्थान), सेंटल स्क्वॉयर, पाथ वे, बच्चों के लिए पार्क, फव्वारा के साथ अन्य कार्य होने हैं। 

इसी के चलते प्रदेश के उर्जामंत्री श्रीकांत शर्मा ने शनिवार की सुबह जवाहर बाग के निरीक्षण का किया। उनके साथ नगर आयुक्त रविंद्र कुमार, विकास प्राधिकरण वीसी नगेंद्र प्रताप और महापौर मुकेश आर्य बंधु भी रहे।  
... और पढ़ें

भाजपा नेता का बड़ा बयान, दुष्कर्म रोकने के लिए एनकाउंटर को कानूनी प्रावधान में लाया जाए

हैदराबाद एनकाउंटर पर आम जनता के साथ भाजपा नेता भी तेलंगाना पुलिस की कार्रवाई का समर्थन कर रहे हैं। भाजपा के राष्ट्रीय महासचिव एवं पश्चिम बंगाल के प्रभारी कैलाश विजयवर्गीय ने तो यहां तक कह दिया कि दुष्कर्म जैसे जघन्य अपराध रोकने के लिए एनकाउंटर को कानूनी प्रावधान में लाया जाए।

कैलाश विजयवर्गीय शुक्रवार को वृंदावन आए। उन्होंने यहां बांकेबिहारी मंदिर में ठाकुरजी के दर्शन किए। इसके बाद मीडिया से मुखातिब होते हुए भाजपा नेता ने हैदराबाद कांड के चारों आरोपियों का एनकाउंटर करने पर तेलंगाना पुलिस की जमकर प्रशंसा की।   

विजयवर्गीय ने पुलिस कार्रवाई का समर्थन करते हुए कहा कि हैदराबाद जैसी घटना पश्चिम बंगाल के मालदा में भी हुई है। वहां  बृहस्पतिवार को एक बच्ची की जली हुई लाश मिली है। इस तरह की घटनाओं को रोकने के लिए पुलिस की इस कार्रवाई को कानूनी प्रावधान में लाना चाहिए। 
... और पढ़ें

श्रीकृष्ण की जन्म और लीला भूमि के विकास में खर्च होंगे 211 करोड़, 19 परियोजनाओं पर लगी मुहर

भगवान श्रीकृष्ण की जन्म और लीला भूमि से जुड़ी 19 परियोजनाओं को राज्य सरकार ने हरी झंडी दिखा दी है। मथुरा जिले में 211 करोड़ रुपये की लागत वाली इन परियोजनाओं में सबसे ज्यादा धनराशि गोवर्धन परिक्रमा मार्ग के विकास पर खर्च होगी। इनके अलावा 18 अन्य परियोजनाओं को अभी राज्य सरकार की स्वीकृति का इंतजार है। 

उत्तर प्रदेश ब्रज तीर्थ विकास परिषद ने मथुरा धार्मिक क्षेत्र में पर्यटन विकास से जुड़ी 37 परियोजनाओं के प्रस्ताव राज्य सरकार को सौंपे हैं। इसमें से शुक्रवार को राज्य सरकार ने 18 प्रस्तावों को अपनी स्वीकृति प्रदान कर दी है। इसमें सबसे अधिक प्रस्ताव गोवर्धन परिक्रमा मार्ग के विकास से जुड़े हुए हैं। इसमें पौधों की सिंचाई के लिए स्प्रिंकलर प्रणाली भी शामिल है। 

इसके अलावा रावल कुंड सहित अन्य धार्मिक स्थलों पर प्राचीन कुंड और सरोवर का विकास भी शामिल हैं। कई स्थलों पर पर्यटकों के लिए जनसुविधा, सड़क, प्रकाश व्यवस्था भी की जानी है। इसके अलावा भगवान श्रीकृष्ण की लीलाओं से जुड़े पौधों की यहां पौध भी तैयार करने का प्रस्ताव शामिल है।
... और पढ़ें

इस जिले में 241 शिक्षकों की जाएगी नौकरी, बर्खास्तगी से बचने को लगवाई थी बीएसए दफ्तर में आग

आगरा के डॉ. भीमराव आंबेडकर विश्वविद्यालय की बीएड सत्र 2004-05 के फर्जी प्रमाणपत्र निरस्त हो जाएंगे। यह निर्णय शुक्रवार को विश्वविद्यालय की कार्य परिषद की बैठक में लिया गया। ऐसा हो जाने का सबसे पहला असर यह होगा कि आगरा जिले में 241 शिक्षकों की नौकरी से छुट्टी हो जाएगी। 

परिषदीय विद्यालयों के इन शिक्षकों की बीएड की डिग्री फर्जी पाई गई थी लेकिन तिकड़म करके बचे हुए हैं। जब नोटिस जारी किए गए तो आठ अक्तूबर को बीएसए दफ्तर में ही आग लगवा दी गई थी। 

अब विश्वविद्यालय ने बीएड सत्र 2004-05 की फर्जी अंकतालिकाएं निरस्त करने का फैसला लिया है। जब डिग्री ही निरस्त हो जाएगी तो बर्खास्तगी से बचने का रास्ता बंद हो जाएगा। बीएसए के लिए इनकी छुट्टी करना बहुत आसान हो जाएगा।
... और पढ़ें

बीएड-2005 की फर्जी डिग्री होंगी निरस्त, विश्वविद्यालय के फैसले से शिक्षा विभाग में हड़कंप

आगरा के डॉ. भीमराव आंबेडकर विश्वविद्यालय की बीएड सत्र 2004-05 की फर्जी एवं टैम्पर्ड (छेड़छाड़ कर बनाई गईं) अंकतालिकाएं निरस्त की जाएंगी। यह निर्णय शुक्रवार को विश्वविद्यालय के अतिथि गृह में हुई कार्य परिषद की बैठक में लिया गया। 

अंकतालिकाएं निरस्त करने से पहले अभ्यर्थियों को अपना पक्ष रखने का एक मौका दिया गया है। उनके पास 15 दिन का समय है। विश्वविद्यालय को यह सूची विशेष अनुसंधान दल (एसआईटी) ने लंबी जांच-पड़ताल के बाद दी थी। इस फैसले से शिक्षा विभाग में हड़कंप मच गया है। क्योंकि इस फैसले के बाद प्रदेशभर के परिषदीय स्कूलों में फर्जी डिग्री से नौकरी कर रहे शिक्षकों की नौकरी जाना तय है।

कुलपति डॉ. अरविंद कुमार दीक्षित की अध्यक्षता में हुई कार्य परिषद की बैठक में निर्णय लिया गया कि सबसे पहले एसआईटी से फर्जी व टैंपर्ड अंकतालिकाओं की अंतिम सूची प्राप्त की जाएगी। एसआईटी की पहली सूची में 4,570 रोल नंबर थे। इसके बाद दी गई संशोधित सूची में 4,704 थे। इस कारण से अंतिम सूची मांगी गई है।
... और पढ़ें
अपने शहर की सभी खबर पढ़ने के लिए amarujala.com पर जाएं
Test

Disclaimer

अपनी वेबसाइट पर हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर अनुभव प्रदान कर सकें, वेबसाइट के ट्रैफिक का विश्लेषण कर सकें, कॉन्टेंट व्यक्तिगत तरीके से पेश कर सकें और हमारे पार्टनर्स, जैसे की Google, और सोशल मीडिया साइट्स, जैसे की Facebook, के साथ लक्षित विज्ञापन पेश करने के लिए उपयोग कर सकें। साथ ही, अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।

Agree
Election