विज्ञापन
विज्ञापन
प्रतिष्ठित ज्योतिषाचार्यों से करें बात, जानें राहु केतु राशि परिवर्तन के कैसे होंगे प्रभाव
astrology

प्रतिष्ठित ज्योतिषाचार्यों से करें बात, जानें राहु केतु राशि परिवर्तन के कैसे होंगे प्रभाव

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

From nearby cities

विज्ञापन
Digital Edition

पान मसाला कंपनी में काम करते थे तीनों लुटेरे

नोएडा पुलिस से मुठभेड़ में पकड़े गए ज्वेलर लूटकांड में शामिल लुटेरे पेशेवर अपराधी हैं। उनका लंबा आपराधिक इतिहास है। खास बात है कि ये लोग यूपी में पहली बार पकड़े गए हैं। इससे पहले गुरुग्राम में इनकी गिरफ्तारी हुई थी। वहां से जमानत पर छूटने के बाद तीनों गाजियाबाद के खोड़ा में जाकर बस गए। वहीं से अपराध करने इधर उधर जाते थे और फिर वापस वहीं पहुंच जाते थे।
एसएसपी मुनिराज जी ने बताया कि तीनों चूंकि नामचीन पान मसाला कंपनी में नौकरी करते थे। इसलिए गांव क्षेत्र में ज्यादा लोगों को शक नहीं होता था। मगर इस बार जब इनके कारनामे उजागर हुए हैं तो लोग हैरान हैं। हां, कालीचरण की हत्या से पहले से ये लोग गांव में नहीं थे। गाजियाबाद ही थे। संभवत: इसीलिए इस हत्याकांड में इनकी नामजदगी नहीं हुुई और अमन की साजिश व गांव के दूसरे विरोधियों की नामजदगी इस हत्याकांड के मुकदमे में आई थी। इनके रिमांड पर आने के बाद अन्य तमाम घटनाओं को लेकर भी पूछताछ की जाएगी।
हरिदासपुर पर ज्वेलर भी इसी गैंग के सदस्य ने लूटा
पुलिस के अनुसार इनका दोस्त अमन जेल में है। उसका एक भाई पिछले दिनों लॉकडाउन के बीच में ही लोधा पुलिस ने गिरफ्तार किया था। उसने हरिदासपुर के दो ज्वेलर भाइयों को जलालपुर से लौटते समय लूटना स्वीकारा था। वह भी इन दिनों जेल में है। यह तीनों भी उसी के साथ अपराध करते थे।
... और पढ़ें

सर्वे-छापे की आड़ में अधिकारी करते हैं व्यापारियों का शोषण

सर्वे-छापे के विरोध में व्यापारी गोलबंद हो रहे हैं। उत्तर प्रदेश उद्योग व्यापार प्रतिनिधि मंडल के पदाधिकारियों ने वाणिज्य कर विभाग के अधिकारियों के माध्यम से मुख्यमंत्री को ज्ञापन भेजकर विरोध किया है।
महानगर अध्यक्ष प्रदीप गंगा ने कहा कि जीएसटी कानून में कर अपवंचना से लेकर सभी प्रकार की जांच करने के प्रावधान पहले से ही सुनिश्चित है। एसआईबी को महीने में दस व्यापारियों के यहां सर्वे-छापे का अधिकार देना जीएसटी की मूल भावना के खिलाफ है। महानगर महामंत्री संतोष माहेश्वरी ने कहा कि सर्वे-छापे की आड़ में अधिकारी व्यापारियों का उत्पीड़न करते हैं। जिलाध्यक्ष कमल गुप्ता, उमेश खन्ना, विजय, विमल, गोविंद महेश्वरी एवं मोहित राठी आदि मौजूद थे।
... और पढ़ें

बेरोजगार दिवस : डिग्रियों की फोटोकॉपी जलाकर युवाओं ने जताया विरोध

डिग्रियों की फोटोकॉपी जलाकर युवाओं ने जताया विरोध प्वाइंटर मेवाती समाज ने चाय बनाकर मनाया राष्ट्रीय बेरोजगार दिवस अमर उजाला ब्यूरो अलीगढ़। बेरोजगारी दिवस के मौके पर बृहस्पतिवार को युवाओं ने अपनी डिग्रियों की फोटोकॉपी जलाकर विरोध जताया। साथ ही मेवाती समाज ने चाय बनाकर राष्ट्रीय बेरोजगार दिवस मनाया। यहां युवाओं ने कहा कि लगातार बढ़ रही बेरोजगारी से देश परेशान है। वहीं ऊपर से पांच साल संविदा जैसे नियम जले पर नमक छिड़कने जैसा है। भारतीय मेवाती समाज के सह प्रभारी आजम मेवाती के नेतृत्व मे कार्यकर्ताओं ने जमालपुर में चाय बनाकर विरोध जताया। यहां आजम मेवाती ने कहा कि बेरोजगारी के आंकड़े पिछले 45 वर्षो के चरम पर हैं। ऊपर से संविदा का नया नियम लाकर सरकार युवाओं-नौजवानों के भविष्य से खिलवाड़ कर रही है। इस मौके पर प्रदेश सचिव मोहसिन मेवाती, अरबाज मेवाती, रशीद अली मेवाती, जाहिद मेवाती, अबसर मलिक, अजीम अब्बासी, असद ठाकुर, मो. फारूक, शादाब ठाकुर, शाहरुख खान, इब्राहिम खान, अकरम मेवाती आदि मौजूद रहे। जबकि टीईटी पास मोअल्लिम रहबर ए उर्दू के आह्वान पर 4000 उर्दू शिक्षकों की भर्ती व 69000 शिक्षकों की भर्ती की मांग को लेकर बेरोजगार युवाओं ने अपनी डिग्रियों की फोटो कॉपी जलाकर विरोध जताया। तीन साल से लटकी चार हजार उर्दू भर्ती के अभ्यर्थी अब्दुल जलील सिद्दीकी का कहना था कि सरकार हाईकोर्ट के आदेश तक को नहीं मान रही है और अभी तक हमें नियुक्ति पत्र नहीं दिया गया है। यह बेरोजगारों के भविष्य के साथ खिलवाड़ है। जिसे बेरोजगार युवा सहन नहीं करेगा। यहां पांच साल संविदा का भी विरोध जताया गया। इस मौके पर मोहम्मद सलमान, मोहम्मद आरिफ, मोहम्मद आसिफ, गुलाम रब्बानी, दानिश जैदी, मोहम्मद अफजाल आदि मौजूद रहे। ... और पढ़ें

अलीगढ़ः अब मास्क लगाकर मोबाइल शॉप से लाखों की चोरी, व्यापारियों में आक्रोश

महानगर में सक्रिय बदमाशों ने फिर एक बड़ी वारदात को अंजाम दे डाला। बदमाश सिविल लाइंस के समद रोड की एक मोबाइल शॉप से 22 लाख रुपये कीमत के 88 मोबाइल फोन चोरी कर ले गए। शुक्रवार सुबह घटना की जानकारी होने पर पुलिस भी पहुंच गई और व्यापारियों में आक्रोश पैदा हो गया। पुलिस जांच में सीसीटीवी में मास्क लगाए तीन बदमाश कैद हुए हैं, जिनकी पहचान के प्रयास किए जा रहे हैं। वहीं मौके पर सपा जिलाध्यक्ष गिरीश यादव ने भी पहुंचकर नाराजगी जताई है।

सिविल लाइंस के हरिओम नगर निवासी देवाशीष पुत्र प्रसून कुमार की मंगलम कांप्लेक्स समद रोड पर किंग मोबाइल के नाम से दुकान है। शुक्रवार सुबह जब वह रोजाना की तरह दुकान खोलने पहुंचे तो दुकान का शटर टूटा नजर आया और ताले भी टूटे पड़े थे। यह देखकर उनके होश उड़ गए और अंदर जाकर देखा तो सामान बिखरा पड़ा था। दुकान में रखे ज्यादातर मोबाइल गायब थे। दुकान स्वामी देवाशीष के अनुसार चोर करीब 88 मोबाइल ले गए हैं। जिनकी कीमत करीब 22 लाख रुपये है।

इस खबर पर सिविल लाइंस पुलिस के साथ-साथ एसपी सिटी अभिषेक भी पहुंच गए। घटनास्थल का मुआयना करते हुए सीसीटीवी चेक किए। जिसमें तीन बदमाश कैद हुए हैं। जो मास्क लगाए हुए हैं। हुलिया आदि के आधार पर उनकी गिरफ्तारी के प्रयास किए जा रहे हैं। एसपी सिटी ने बताया कि जल्द घटना का खुलासा किया जाएगा। इधर, इस घटना को लेकर व्यापारियों में नाराजगी है।

गश्ती लैपर्ड-पीआरवी निलंबित, थानेदार की होगी जांच
महानगर के सबसे प्रमुख सेंटर प्वाइंट चौराहे से सटे समद रोड की मोबाइल शॉप में लाखों की चोरी पर एसएसपी ने गश्ती पुलिस की जवाबदेही को लेकर बड़ा एक्शन लिया है। एक तरफ जहां रात में ड्यूटी पर तैनात लैपर्ड व पीआरवी कर्मियों को निलंबित कर दिया है और इंस्पेक्टर व चौकी प्रभारी के खिलाफ जांच के निर्देश दिए हैं।

पुलिस प्रवक्ता के अनुसार, एसएसपी मुनिराज जी ने सेंटर प्वाइंट चौराहे पर तैनात लैपर्ड-78 के सिपाही सचिन कुमार को तत्काल प्रभाव से निलंबित कर दिया गया है और साथी होमगार्ड मनोहर सिंह को ड्यूटी से हटाते हुए उनके खिलाफ कार्रवाई के लिए कमांडेंट होमगार्ड को लिखा है। इसके अलावा इस इलाके की गश्ती पीआरवी 719 के सिपाही प्रिंस कुमार, महिला सिपाही छवि त्यागी को निलंबित कर दिया गया है और पीएसी 38 से यहां पीआरवी पर संबद्ध चालक योगेंद्र के निलंबन की संस्तुति कमांडेंट के लिए की गई है। इन पर कार्रवाई को लेकर कहा गया है कि रात से सुबह तक इनकी इस इलाके में गश्ती ड्यूटी रही। फिर भी शहर के इस मुख्य बाजार में चोरी हो गई और किसी को भनक तक नहीं लगी। वहीं इंस्पेक्टर सिविल लाइंस व चौकी प्रभारी सेंटर प्वाइंट एसआई सौरभ शर्मा के खिलाफ जांच के आदेश दिए हैं।
... और पढ़ें
समद रोड स्थित मोबाइल शोरूम में लाखों की चोरी ... समद रोड स्थित मोबाइल शोरूम में लाखों की चोरी ...

सड़क पर फिर उतरे कांग्रेसी, पुलिस ने रोका, नोकझोंक

बेरोजगारी, कृषि संबंधी विधेयक और अन्य समस्याओं को लेकर कांग्रेसी शुक्रवार को फिर सड़कों पर उतरे। अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी के राष्ट्रीय सचिव विवेक बंसल के नेतृत्व में मैरिस रोड से कांग्रेसियों ने कलेक्ट्रेट की तरफ कूच किया लेकिन स्टेट बैंक तिराहे पर पुलिस ने रोक लिया। इस पर नोकझोंक भी हुई। कांग्रेसियों ने सरकार के खिलाफ नारेबाजी की। अधिकारियों के अनुरोध पर प्रदर्शन समाप्त कर दिया गया। गिरफ्तार किए गए कांग्रेसियों की रिहाई की मांग करते हुए एसीएम द्वितीय रंजीत सिंह को ज्ञापन सौंपा गया।
इस मौके पर कांग्रेसी नेता विवेक बंसल ने कहा कि वर्तमान में देश और प्रदेश की भाजपा सरकारें जनता को लूटने में लगी हैं। रोजगार का अभाव है। इसके चलते करोड़ों युवा बेरोजगार हैं। किसानों के शोषण में भी सरकार पीछे नहीं है। अभी हाल ही में संसद में कृषि से संबंधित बिल पारित कराया गया। इसके लागू होते ही देश का अन्नदाता अपनी ही निजी कृषि भूमि में बंधुआ मजदूर बनकर रह जाएगा और इसका लाभ प्रधानमंत्री मोदी के चहेते औद्योगिक घरानों को मिलेगा।
उन्होंने कहा कि विदेशों में वहां की सरकारें कोई अतिरिक्त बोझ डाले बिना अपने देश की जनता की सेवा कर रही है। लेकिन हमारे देश भारत में सरकार ने कोरोना को कमाई का जरिया बना दिया है। इस अवसर पर रूही जुबैरी, माया गुप्ता, सबिया हसन, विनोद पांडेय, ऋषि भारद्वाज, गोपाल मिश्रा, सागर सिंह तोमर, उमेश अग्रवाल, राजू सोल्जर, नितेश कुमार, कासिम अली, शीलू चंदेल, सुलेमान मलिक, अनिल सिंह चौहान आदि कांग्रेसी कार्यकर्ता मौजूद रहे। वहीं, कांग्रेसियों के प्रदर्शन के दौरान स्टेट बैंक चौराहे पर क्षेत्राधिकारी तृतीय अनिल समानिया, इंस्पेक्टर सिविल लाइन पुलिस बल के साथ मौजूद थे।
सेंटर प्वाइंट चौराहा पर भाजपा सरकार के खिलाफ प्रदर्शन करते कांग्रेसी।
सेंटर प्वाइंट चौराहा पर भाजपा सरकार के खिलाफ प्रदर्शन करते कांग्रेसी। - फोटो : CITY OFFICE
... और पढ़ें

अलीगढ़: राष्ट्रद्रोह के मुकदमे में हुई शरजिल इमाम की पेशी

सीएए-एनआरसी के विरोध में एएमयू छात्रों के धरने के बीच देश को विभाजित करने संबंधी बयान देकर गए जेएनयू छात्र नेता शरजिल इमाम की शुक्रवार को दीवानी न्यायालय में पेशी हुई। दिल्ली पुलिस कड़ी सुरक्षा के बीच सुबह उसे लेकर यहां पहुंची। इस दौरान सिविल लाइंस थाने के विवेचक ने उस पर यहां चल रहे राष्ट्रद्रोह के मुकदमे के संबंध में रिमांड वारंट तामील कराया। इसके बाद न्यायालय ने उसे वापस दिल्ली पुलिस के हवाले कर दिया और दिल्ली पुलिस उसे अपने साथ तिहाड़ जेल ले गई।
15 दिसंबर की रात एएमयू में हुए बवाल के बाद छात्र यहां धरने पर बैठ गए थे। जनवरी में एएमयू छात्र शरजिल उस्मानी अपने दोस्त बिहार निवासी जेएनयू छात्र नेता शरजिल इमाम को एएमयू बुलाकर लाया। एएमयू में छात्रों के बीच धरने में इमाम ने देश विभाजित करने संबंधी बयान दिया। इसी तरह के बयान शरजिल इमाम ने दिल्ली व गुवाहाटी में भी दिए थे। इसी क्रम में उस पर दिल्ली व गुवाहाटी के साथ-साथ यहां सिविल लाइंस में 26 जनवरी को राष्ट्रद्रोह का मुकदमा दर्ज किया गया। इसी बीच दिल्ली पुलिस ने उसे पटना से गिरफ्तार कर लिया था।
मुकदमे के विवेचक ने न्यायालय से रिमाइंडर बी वारंट बनवाकर तिहाड़ जेल दाखिल किया। इसी वारंट के आधार पर शुक्रवार को दिल्ली पुलिस शरजील इमाम को अलीगढ़ लेकर पहुंची। इस दौरान उसे सीजेएम न्यायालय में पेश किया गया। कई गाड़ियों के काफिले संग उसे सीधे दीवानी परिसर ले जाया गया। इस दौरान सीओ तृतीय अनिल समानिया, इंस्पेक्टर सिविल लाइंस प्रमेंद्र कुमार व मुकदमा विवेचक एसएसआई आदि मौजूद रहे। जहां पुलिस ने उस पर अपने थाने से संबंधित मुकदमे का रिमांड वारंट तामील कराया। इस प्रक्रिया के तहत न्यायालय के समक्ष उसे अलीगढ़ के मुकदमे में आरोपी बनाया गया। कागजी औपचारिकताओं के बाद न्यायालय ने उसे अग्रिम तारीख पर पेश करने का आदेश देकर दिल्ली पुलिस के हवाले कर दिया। जहां से दिल्ली पुलिस उसे अपने साथ ले गई।
इंस्पेक्टर सिविल लाइंस प्रमेंद्र कुमार के अनुसार चूंकि उस पर दिल्ली में कई मुकदमे लंबित हैं, जहां उनकी लगातार सुनवाई चल रही हैं। इसलिए उसे यहां जेल दाखिल नहीं किया गया। वापस दिल्ली ले जाया गया है। अब आगे की तारीखों पर फिर उसे दिल्ली पुलिस यहां पेश करेगी।
... और पढ़ें

चयन के बाद स्वास्थ्य विभाग को झटका दे गए 40 डॉक्टर

कौशल कुमार ओझा
कोरोना महामारी के काल में भी स्वास्थ्य विभाग को चिकित्सक नहीं मिल रहे हैं। आलम यह है कि चयन के बाद भी पिछले दो महीनों के दौरान 40 डॉक्टर स्वास्थ्य विभाग को अंगूठा दिखाकर चले गए। इतना ही नहीं प्रतिदिन पांच हजार रुपये देने की पेशकश के बावजूद कोई निजी डाक्टर सामने नहीं आया।
स्वास्थ्य विभाग में पहले से ही डॉक्टरों की भारी कमी है। कोरोना वायरस संक्रमण फैलने के बाद डॉक्टरों की सख्त जरूरत महसूस हुई। जेएन मेडिकल कॉलेज, पंडित दीनदयाल उपाध्याय संयुक्त चिकित्सालय, 100 बेड अस्पताल अतरौली, सीएचसी हरदुआगंज, खेरेश्वर रोड स्थित जीवन ज्योति आयुर्वेदिक मेडिकल कॉलेज, छेरत स्थित राजकीय होम्योपैथिक मेडिकल कॉलेज को कोविड-19 अस्पताल में तब्दील किया गया। यहां पर उपचार के लिए पर्याप्त संख्या में चिकित्सक नहीं थे। विशेषज्ञ चिकित्सकों की सख्त जरूरत है। महानगर के अस्पतालों एवं सीएचसी तथा पीएचसी पर भी चिकित्सकों की भारी कमी है।
अगस्त में संविदा पर विभिन्न विभागों के चिकित्सकों के 24 पदों के लिए साक्षात्कार हुए। इसमें 18 चिकित्सकों का चयन किया गया। शासन से उनमें से 15 चिकित्सकों की तैनाती के लिए हरी झंडी मिल गई। ज्वाइनिंग का वक्त आया तो एक भी चिकित्सक तैयार नहीं हुआ। इसी तरह अगस्त में ही चिकित्सकों के 22 पदों के लिए साक्षात्कार हुए। इसमें चार बेहोशी, छह फिजीशियन एवं 12 मेडिकल ऑफिसर के पद थे। इसमें भी वहीं हुआ और चयनित चिकित्सकों ने ज्वाइनिंग से मुंह फेर लिया। कोरोना महामारी को देखते हुए शासन द्वारा निजी चिकित्सकों को भी ऑफर दिया गया था कि महीने में 15 दिन कोविड-19 अस्पताल में आकर सेवा दें। प्रत्येक दिन पांच हजार यानी महीने में 15 दिन के 75 हजार रुपये वेतन के रूप में देंगे, लेकिन एक भी निजी चिकित्सक तैयार नहीं हुए।
डॉक्टरों के 193 में से 132 पद खाली
सीएमओ के अधीन डॉक्टरों के 193 पद है। इनमें से 132 पद खाली है। 61 डॉक्टरों के भरोसे लाखों की आबादी है। 61 डॉक्टरों में सीएमओ, एसीएमओ, डिप्टी सीएमओ व अन्य अधिकारी भी शामिल हैं। हालत यह है कि एसीएमओ के नौ पद है, जिसमें आठ खाली है। जिला एवं मंडल स्तरीय अस्पतालों मे स्वीकृत 81 पदों में से करीब 35 रिक्त हैं।
23 डॉक्टरों के चयन के लिए 25 को साक्षात्कार
राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन के अंतर्गत विभिन्न चिकित्सा इकाइयों में संविदा पर 23 चिकित्सकों की तैनाती के लिए 25 सितंबर 2020 को साक्षात्कार होना है। साक्षात्कार विकास भवन स्थित मुख्य विकास अधिकारी के कार्यालय में होगी।
सरकारी अस्पतालों में चिकित्सक के प्रति जनता का रवैया बहुत अच्छा नहीं है। मामूली बात पर लोग धमकाने लगते हैं। सरकारी विभाग के चिकित्सकों को काम के लिए वक्त निर्धारित नहीं है। गांव में जाने से चिकित्सक कतराते हैं। आवासीय व अन्य कई तरह की सुविधाओं का अभाव है। पैसा भी एक वजह है।
- डॉ. बीपी सिंह कल्याणी, सीएमओ
सेंट्रल यूनिवर्सिटी में जूनियर रेजीडेंट एवं सीनियर रेजीडेंट को क्रमश: 90-95 हजार से लेकर 1.20 लाख रुपये तक हर महीने मिलते हैं। ऐसे में युवा 55 हजार रुपये की संविदा की नौकरी क्यों करने जाएगा। भ्रष्टाचार व अन्य कई बुराइयां भी है, जिसकी वजह से वे अपना भविष्य सुरक्षित नहीं समझते।
- डॉ. हमजा मलिक, अध्यक्ष आरडीए, जेएनएमसी
इसके बहुत सारे कारण है। जो ज्ञान अर्जित किया है, उसे अपडेट करतेे रहने का वहां मौका नहीं मिलता है। अस्पतालों में नया सीखने का कोई मौका नहीं है। वेतन कम है। वातावरण भी अच्छा नहीं है। संविदा की नौकरी में भविष्य सुरक्षित नहीं लगता। सरकारी डॉक्टर को मूल काम छोड़कर प्रशासनिक काम ज्यादा करने पड़ते हैं।
- डॉ. अम्मर, जेएनएमसी
... और पढ़ें

अलीगढ़: 111 संक्रमित, 160 लोगों ने कोरोना को हराया

कोरोना वायरस से 111 लोग संक्रमित हुए हैं, जबकि 160 लोग निरोग हुए हैं। संक्रमितों में सीएमओ ऑफिस के डॉक्टर, बैंककर्मी, वाणिज्य विभाग के कर्मी शामिल हैं। जनपद में अब तक कोरोना वायरस से संक्रमित मरीजों की संख्या 7272 तक पहुंच गई है, जबकि करीब 5500 लोग स्वस्थ हो चुके हैं।
जेएन मेडिकल कॉलेज, पं. दीनदयाल उपाध्याय संयुक्त चिकित्सालय, प्राइवेट लैब एवं एंटीजन टेस्ट में शुक्रवार को 111 लोग संक्रमित पाए गए हैं। शुक्रवार को कुल 2813 लोगों की जांच हुई थी। संक्रमितों में एसबीआई विजयगढ़ के 4, मगदा गोंडा के 5, सीएमओ ऑफिस का डॉक्टर शामिल हैं। शिव विहार मथुरा रोड के 3, मानसरोवर के 2, मोहननगर रामबाग कॉलोनी के 4, भांखरी खास के 2, प्रभात नगर धनीपुर के 2, टप्पल के 2, प्रतिभा कॉलोनी के 2, बेला मार्ग न्यू विष्णुपुरी के 2, तांगा स्टैंड रेलवे रोड के 2 और संजय गांधी कॉलोनी के 2 लोग संक्रमण की चपेट में आए हैं। जिलाधिकारी चंद्रभूषण सिंह ने बताया कि संक्रमित मरीजों को लक्षण के आधार पर होम आइसोलेट व कोविड-19 अस्पताल में भर्ती किया जा रहा है। संपर्क में आए लोगों को क्वारंटीन कर नमूना लिया जा रहा है।
... और पढ़ें

बड़े किसान नहीं कर रहे आलू की निकासी, दाम आसमान पर

फुटकर बाजार में आलू 25 से 30, टमाटर 50 से 60 और प्याज 30 रुपये प्रति किलो बिक रहा है। जिन घरों में पहले यही सब्जियां किलो में आती थीं, वहां अब आधा किलो और पाव भर में काम चलाया जा रहा है। आलू के दाम लगातार बढ़ रहे हैं। इसका बड़ा कारण यह है कि बड़े किसान कोल्ड स्टोर से आलू की निकासी नहीं कर रहे हैं। ऐसे में प्रदेश सरकार ने आलू के दाम कम करने के लिए अधिकारियों से कहा है कि वह किसानों को समझाएं और कोल्ड स्टोर में रखा आलू बाजार में लाने के लिए प्रेरित करें।
जिले के कोल्ड स्टोरों के भंडारण पर नजर डालें तो अब वहां केवल उन किसानों का आलू बचा है, जिनके 4000 से 5000 बैग (प्रति बैग-50 किलो) रखे हैं। ये वो किसान हैं, जो अभी भी मोटा मुनाफा कमाने की सोच रहे हैं क्योंकि नवंबर तक नया आलू बाजार में नहीं आएगा। इसलिए अभी उनके पास चालीस दिनों का मौका है। इन किसानों तक सरकार की बात तो पहुंच रही है लेकिन मानना या ना मानना उन पर निर्भर करेगा। इधर, छोटे किसानों ने अपना ज्यादतर आलू बेच दिया है। इन किसानों का केवल 20-25 प्रतिशत आलू ही बचा है, जो खुद के खाने और बीज के काम आएगा।
जिला उद्यान अधिकारी नंद किशोर सहानिया ने बताया कि उन्नतशील किसानों को समझाया जा रहा है कि वह अपना आलू बाजार में लाएं, जिससे दाम कम हो सकें। नवंबर में दूसरे प्रांतों से आलू आने लगेगा। उसके बाद आलू के दाम स्थिर करने में मदद मिलेगी। जिले में टमाटर या प्याज का ऐसा भंडारण नहीं है, क्योंकि यहां पर टमाटर और प्याज का उत्पादन सीमित है। टमाटर व प्याज ज्यादा पैदा नहीं होने के कारण, बाहर से आने के कारण महंगे हो रहे हैं।
जिले में ये है आलू की स्थिति
जिले के अधिकांश कोल्ड स्टोरों से 55 से 57 प्रतिशत आलू निकल चुका है। 25 प्रतिशत बीज बचा है और शेष 20 प्रतिशत उन्नतशील किसान या व्यापारियों या आढ़तियों का है। बेसवा के कोल्ड स्टोरों में 80 प्रतिशत निकासी हो चुकी है। अलीगढ़ जिले में कुल 107 कोल्ड स्टोर हैं, जिसमें 99 में आलू भंडारण है। सात में मीट एक्सपोर्ट के आइटम भंडारित हैं। इस वर्ष 5.55 लाख मीट्रिक टन आलू भंडारित हुआ था, जिसमें 57 प्रतिशत निकल गया है।
3150 रुपये तक रहेगा आलू का बीज
इस वर्ष आलू की फसल से बेहतर मुनाफा चारों ओर चर्चा का विषय बना हुआ है, इसलिए आलू बोने के इच्छुक किसानों की तादाद बढ़ गई है। अभी से आलू के बीज के लिए आवेदनों की लाइन लगी है। लगभग 500 से ज्यादा आवेदन हो चुके हैं। जिला उद्यान अधिकारी नंद किशोर सहानिया बताते हैं कि आलू बीज की बढ़ती मांग की वजह से इस बार इसका रेट ज्यादा है। बीज 3100 से 3150 रुपये प्रति क्विंटल तक के भाव में रहने का अनुमान है। 20 सितंबर तक आवेदन लेंगे और 30 सितंबर के बाद लॉटरी निकाली जा सकती है। फिलहाल, विभाग में किसानों के आवेदन लेकर उनको नंबर दिया जा रहा है।
... और पढ़ें

जिले में सवा करोड़ की मांग...एक करोड़ पहुंचा अंडा उत्पादन

आशीष निगम
आलू, टमाटर और प्याज भले ही लगातार महंगे हो रहे हों, लेकिन इन सबसे ज्यादा पौष्टिक अंडा पांच रुपये के पुराने रेट में बिक रहा है। इसका कारण ये है कि अलीगढ़ अंडा उत्पादन में सक्षम हो चुका है। मुख्य पशु चिकित्सा अधिकारी कार्यालय की अगस्त की रिपोर्ट पर गौर करें तो एक महीने में लगभग एक करोड़ पांच लाख अंडा उत्पादन हुआ, जबकि जिले की एक महीने की मांग लगभग सवा करोड़ की है। अलीगढ़ की 10 यूनिटों में ये उत्पादन हुआ है। बाकी कमी पंजाब के बरनाला से आने वाले अंडों से होती है।
कोरोना काल में अंडों और मुर्गियों से संक्रमण फैलने की कितनी भी अफवाहें उड़ी हों लेकिन हकीकत ये है कि संक्रमण से बचाने के लिए शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता को भी अंडा खूब बढ़ाता है। अंडे रोजाना खाने से पर्याप्त मात्रा में प्रोटीन, कार्बोहाईड्रेट मिल जाता है। मलखान सिंह जिला अस्पताल के पूर्व सीएमएस और कुपोषण अभियान के जिला नोडल अधिकारी डा. बालकिशन कहते हैं कि शरीर का जितना वजन हो उतना प्रोटीन चाहिए होता है, इसमें अंडा एक बेहतर विकल्प है। बढ़ते बच्चों को एक अंडा रोज खाना चाहिए।
मार्च से जुलाई तक जबरदस्त गरमी और अफवाहों का उबाल झेल चुका अंडा कारोबार फिर से करोड़ों की गिनती की ओर बढ़ने लगा है। सितंबर से अप्रैल तक सीजन रहता है। इसलिए इस चालू महीने से इसका कारोबार एक बार फिर से पटरी पर आ गया है।
ये भी जानें
1. ढाई से तीन रुपयेे एक अंडे की लागत आती है।
2. 4.65 रुपये प्रति अंडे का होलसेल रेट है।
3. एक मुर्गी 110 से 115 ग्राम दाना रोजाना खाती है।
4. एक अंडे का औसत वजन 55 से 60 ग्राम होता है।
5. मुर्गी रोज जितना दाना खाती है, उससे आधे वजन का अंडा देती है।
6. 24 से 28 घंटे में एक मुर्गी एक अंडा देती है।
7. श्राद्ध पक्ष व नवरात्रि में एक रुपये तक भाव गिर जाता है।
8. 41 रुपये में एक छोटी मुर्गी पालने के लिए आती है।
9. मुर्गी 100 हफ्ते बाद अंडा देना शुरू कर देती है।
10. अंडा वाले लेयर और चिकन उत्पादन वाले को ब्रायलर फार्म कहलाते हैं।
11. केवल अंडे देने वाली मुर्गी चिकन के रूप में 20 रुपये किलो के भाव से बिकती है।
12. अंडा और चिकन दोनों में काम आने वाली मुर्गा 80 रुपये किलो तक है।
13. कॉक.400, कॉक.100 और काक 400 वाई प्रजाति चिकन के लिए उत्तम हैं।
14. बीबी 300 और बोमेन्स केवल अंडा उत्पादन के लिए है।
15. सरकार की ओर से प्रति मुर्गी या मुर्गा 1.20 रुपये में बीमा होता है।
16. मुर्गी का दाना वर्तमान में 24 रुपये प्रति किलो के भाव में है।
17. एक अंडे में 6 ग्राम प्रोटीन, पांच ग्राम वसा, 0.5 ग्राम कार्बोहाईड्रेट होता है, जो 71 कैलोरी बनाता है।
18- अंडे के सफेद हिस्से में एल्बुमिन और पीले हिस्से में ग्लोब्यूमिन प्रोटीन मिलता है।
19. जिले में महीने में सवा करोड़ अंडे की मांग होती है, पैदावार लगभग एक करोड़ तक।
20- अलीगढ़ में वर्तमान में पंजाब के बरनाला से सर्वाधिक अंडे की आमद होती है।
अगस्त में जिले में 11 यूनिटों में लगभग एक करोड़ पांच लाख अंडे पैदा किए गए। तीन साल में उत्पादन जरूरत के अनुसार कर लिया है। जिले में महीने में लगभग सवा करोड़ अंडे की मांग होती है। - डा. मेघश्याम, नोडल अधिकारी कुक्कुट विकास नीति।
अंडा प्रोटीन के साथ संपूर्ण खाने की अवधारणा को पूरा करता है। अंडा और चिकन से प्रोटीन भरपूर मिलता है। इसलिए नियमित भोजन में शामिल करना चाहिए। दूसरा इसमें मिलावट नहीं हो सकती हैै। ये पूरी तरह से शुद्ध है। - विवेक सिंह, ब्रालयर ब्रीडर फार्म संचालक।
अंडा उत्पादन में हम सभी मिलकर सक्षम हो रहे हैं। सितंबर के बाद से सभी का उत्पादन सौ फीसदी होने लगेगा। हम सवा करोड़ अंडा भी जल्द ही पैदा कर लेंगे। जिससे हमारे जिले की जरूरत यहीं पर पूरी हो सके। अंडा पाउडर बनाने की फैक्टरी भी लगाई जाए। - शिखाशेखर सिंह, लेयर फार्म संचालक।
अलीगढ़ में 20 बड़ी यूनिट
1- 30 हजार पक्षियों की कुक्कुट लेयर इकाई की लागत 1.80 करोड़ आंकी जाती है। जिसमें बैंक से 1.26 करोड़ रुपये का लोन मिलता है। लाभार्थी अंश 54 लाख है। पांच वर्ष के लोन में उसको ब्याज में 40 लाख की राहत मिलती है। जिले में ऐसी 10 यूनिट हैं।
2- 10 हजार पक्षियों की कुक्कुट लेयर इकाई की लागत 70 लाख रुपये आंकी गई है। जिसमें बैंक से 49 लाख रुपये का लोन मिलता है। लाभार्थी अंश 21 लाख है। पांच वर्ष के लोन में उसको ब्याज में 13.33 लाख की राहत मिलती है। जिले में ऐसी आठ यूनिट हैं।
3-10 हजार पक्षियों की कुक्कुट ब्रायलर इकाई की लागत 2.6 करोड़ रुपये आंकी गई है। जिसमें बैंक से 1.45 करोड़ रुपये का लोन मिलता है। लाभार्थी को 61.50 लाख लगाने होते हैं। पांच वर्ष की लोन अवधि में उसको ब्याज में 45 लाख की राहत मिलती है। जिले में दो यूनिट हैं।
... और पढ़ें

जेल जाने से बच गए थे निर्दोष, लाइन हाजिर हुए थे कोतवाल

अभिषेक शर्मा
सोफा के प्रधानपति कालीचरन की हत्या जेल में निरुद्ध उसके गांव के ही अपराधी अमन ने सुपारी देकर कराई थी। यह बात बुलंदशहर में मुठभेड़ में गिरफ्तार अपराधी पवन गुर्जर ने साफ कर दी थी। इसके बावजूद तत्कालीन खैर कोतवाल विनोद कुमार मिश्रा निर्दोष नामजदों को जेल भेजने पर या जेल भेजने की धमकी देकर लाभ लेने पर तुले थे। इसी मंशा से एक नामजद व कुछ के परिवार को हिरासत में लेकर थाने बैठा दिया था। खबर जब तत्कालीन एसएसपी तक पहुंची तो इंस्पेक्टर को अपने दफ्तर बुलाकर सार्वजनिक तौर पर नाराजगी जाहिर करते हुए लाइन हाजिर कर निर्दोषों को जेल भेजने से बचाया था।
सीओ ने एसएसपी को भेजी यह रिपोर्ट
नोएडा में बदमाशों की गिरफ्तारी के बाद जब यह सवाल खड़ा हुआ कि क्या उस समय हत्या में निर्दोषों को जेल भेजा गया था तो सीओ खैर ने इस मामले में विस्तृत रिपोर्ट एसएसपी को भेजी है। जिसमें बताया गया है कि इस हत्या में ऊधम सिंह, दलवीर सिंह, अजीत, पंकज, संजीत व मनोज नामजद किए गए थे। मगर 12 अक्तूबर 2010 को बुलंदशहर पुलिस ने पवन गुजर निवासी फुलवार अलवर राजस्थान को गिरफ्तार किया तो उसने स्वीकारा कि अमन ने सुपारी देकर यह हत्या कराई है। इस हत्या में उसके साथ रोहित व सौरभ थे। इस पर विवेचक ने पवन को बी वारंट पर तलब किया था। सुपारी देने वाले अमन को भी तलब किया। बाद में विवेचना इंस्पेक्टर के बदले जाने पर धर्मेंद्र सिंह पवार को मिली।
उन्होंने जांच में पाया कि अमन से मिलने एक नामजद ऊधम सिंह भी भौड़सी जेल जाता था। अमन ने पुलिस बयान में स्वीकारा कि उसने खुद अपनी रंजिश में पवन गुर्जर, सौरभ व रोहित से यह हत्या कराई है। उसे ऊधम सिंह ने भी एक लाख रुपये देकर मदद की है। इस आधार पर विवेचक ने पवन व अमन के खिलाफ 23 जनवरी को न्यायालय में चार्जशीट पेश कर दी। बाकी नामजदों के नाम निकालते हुए सौरभ, रोहित व ऊधम सिंह के खिलाफ जून माह में विवेचक ने अदालत से गैर जमानती वारंट प्राप्त किए। मगर गिरफ्तारी नहीं हो सकी। इस मामले में एसपी क्राइम डॉ. अरविंद ने बताया कि धर्मेंद्र पवार के बाद अनूप सिंह व शंभूनाथ खैर में इंस्पेक्टर व मुकदमे के विवेचक रहे। जो आरोपियों के नाम साफ हो जाने के बाद भी उनकी गिरफ्तारी न कर सके।
- यह बात सही है कि नोएडा में गिरफ्तार बदमाशों ने कालीचरन की हत्या स्वीकारी है। मगर रिकार्ड खंगालने से साफ हो गया है कि किसी निर्दोष को पूर्व में जेल नहीं भेजा गया। हां, नाम सामने आने पर भी उन्हें गिरफ्तार न कर पाने वाले विवेचकों पर विभागीय कार्रवाई की जाएगी। इस मुकदमे में पवन व अमन पहले से जेल में हैं। दो अब गिरफ्तार हो गए। तीसरे ऊधम को लेकर थाना पुलिस कार्यवाही कर रही है।
-मुनिराज जी एसएसपी
... और पढ़ें

बेरोजगारी को लेकर पीएम मोदी के जन्मदिन पर कांग्रेसियों ने किया प्रदर्शन, 125 लोग गिरफ्तार

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के जन्मदिवस को बेरोजगारी दिवस के रूप में मनाते हुए कांग्रेसियों ने बृहस्पतिवार को जमकर प्रदर्शन किया। कलेक्ट्रेट कूच करने पर पुलिस-प्रशासन ने तस्वीर महल चौराहे पर कांग्रेसियों को रोक लिया। इस पर नोकझोंक भी हुई। इसके बाद युवक कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष ओमवीर यादव और कांग्रेस के जिला अध्यक्ष सुरेंद्र सिंह सहित 125 से अधिक कार्यकर्ताओं को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया। इनमें दो महिलाओं समेत 18 कांग्रेसियों को जेल भेज दिया गया।

बृहस्पतिवार की दोपहर को कांग्रेसियों का एक गुट युवा कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष ओमवीर यादव, जिला अध्यक्ष सुरेंद्र सिंह, युवक कांग्रेस के प्रदेश महासचिव कुंवर गौरांग देव चौहान, युवक कांग्रेस के जिला अध्यक्ष कपिल शर्मा के नेतृत्व में कलेक्ट्रेट की तरफ कूच करने लगा। लेकिन पुलिस ने उन्हें तस्वीर महल चौराहे पर रोक लिया। यहां पर कांग्रेसियों की पुलिस प्रशासन के साथ जमकर नोकझोंक हुई।

इस मौके पर गौरांग चौहान ने कहा कि जिला प्रशासन युवा कांग्रेस की कार्यशैली एवं गरीब मजदूर शोषित के हक की लड़ाई लड़ने से डरा हुआ है। इसलिए बेरोजगारों की लड़ाई लड़ने जा रही युवा कांग्रेस की आवाज को दबाया जा रहा है। यहां पर 125 से अधिक कांग्रेसियों को गिरफ्तार कर लिया गया। यहां से सभी को पुलिस लाइन ले जाया गया। बाद में अधिकांश कांग्रेसियों को चेतावनी देते हुए रिहा कर दिया गया, जबकि प्रमुख पदाधिकारियों को जेल भेजने की प्रक्रिया शुरू की गई।

एसीएम द्वितीय रंजीत सिंह ने बताया कि कांग्रेसियों के खिलाफ शांति भंग की धारा में कार्रवाई की गई है। 18 कांग्रेसियों को जेल भेजा गया है। इनमें 2 महिलाएं भी हैं। सभी को एक-एक लाख रुपये के मुचलके पर पाबंद किया गया है।

हम जनता के हक की लड़ाई लड़ेंगे : ओमवीर यादव
युवक कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष ओमवीर यादव ने कहा कि आज जब शहर में भारतीय जनता पार्टी की अलग-अलग स्थानों पर बैठकें हो सकती हैं तो फिर कांग्रेस पार्टी अपना सम्मेलन क्यों नहीं कर सकती? यह तानाशाही पूर्ण रवैया है, हम जनता के हक की लड़ाई हर हालत में लड़ेंगे।

ये भेजे गए जेल
युवा कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष ओमवीर यादव, कांग्रेस के जिलाध्यक्ष सुरेंद्र सिंह, युवा प्रदेश महासचिव कुँवर गौरांग देव चौहान, युवा जिलाध्यक्ष पंडित कपिल शर्मा, प्रदेश सचिव तौकीर खान, प्रदेश महासचिव मुस्तक़ीम चौधरी, अनवर अकील, हनी यादव, आकाश मसीही, अनीता करोतिया, अनीता राजपूत, शेरपाल सविता, लोकेश चौधरी, शमशुल खान, मोहित बंसल, उदित अग्रवाल, असलम पहलवान, फहीम खान।
पहले कोरोना टेस्ट हुआ, उसके बाद जेल भेजे गए

गिरफ्तार किए गए सभी कांग्रेसियों का सबसे पहले पुलिस लाइन में कोरोना का टेस्ट हुआ। इसके बाद जब सभी की रिपोर्ट निगेटिव आई तो उसके बाद उनको खैर रोड स्थित आईएमटी जेल में भेजा गया।

पुलिस को चकमा देकर कांग्रेसी पहुंचे सम्राट लॉज, धरना-प्रदर्शन के बाद सौंपा ज्ञापन
कांग्रेसियों का एक जत्था पुलिस को चकमा देकर मुख्य आयोजन स्थल सम्राट लॉज पहुंचकर धरना प्रदर्शन करने में कामयाब रहा। 17 सितंबर को बेरोजगारी हटाओ, रोजगार दिलाओ के नारे के साथ कांग्रेसियों का एक सम्मेलन बन्नादेवी स्थित सम्राट लॉज में होना प्रस्तावित था। कांग्रेस के कई बड़े नेताओं को संबोधित करना था।

लेकिन प्रशासन ने कार्यक्रम को रोकने के लिए सम्राट लॉज के मालिक बिजेंद्र सिंह को चेतावनी देते हुए नोटिस थमा दिया था। बृहस्पतिवार सुबह से सम्राट लॉज और तस्वीर महल चौराहे पर पुलिस तैनात कर दी गई थी। दोपहर बाद करीब एक बजे कांग्रेस के महानगर अध्यक्ष परवेज अहमद और वरिष्ठ कांग्रेसी नेता विनोद पांडे के नेतृत्व में कांग्रेसियों का एक गुट सम्राट लॉज पहुंच गया और वहां पर धरना प्रदर्शन शुरू कर दिया। सूचना मिलते ही क्षेत्राधिकारी द्वितीय राघवेंद्र सिंह भी मौके पर पहुंच गए। यहां पर कांग्रेसियों ने राज्यपाल को संबोधित एक ज्ञापन क्षेत्राधिकारी को सौंपा।

युवाओं के भविष्य के साथ खिलवाड़ कर रही सरकार: आगा
कांग्रेस नेता इंजीनियर आगा यूनुस के नेतृत्व में मेडिकल रोड और दोदपुर पर भी प्रदर्शन किया गया। आगा यूनुस ने कहा कि सरकार युवाओं के भविष्य के साथ खिलवाड़ कर रही है। बेरोजगारी की दर पिछले 45 साल में सबसे अधिक हो गई है। सरकार अब नौकरी देने से पहले 5 साल तक संविदा पर रखने की बात कह रही है। यह युवाओं में असंतोष भड़काने वाला कदम है। उन्होंने सरकार से अपील की कि वह अपने युवा विरोधी सभी कदम वापस ले।
उत्तरप्रदेश युवा कांग्रेस के अध्यक्ष ओमवीर यादव और प्रदेश महासचिव कुँवर गौरांग देव घसीटकर ले जा
उत्तरप्रदेश युवा कांग्रेस के अध्यक्ष ओमवीर यादव और प्रदेश महासचिव कुँवर गौरांग देव घसीटकर ले जा- फोटो : CITY OFFICE
 
प्रदर्शन कर रहे युवा कांग्रेस जिलाध्यक्ष पंडित कपिल शर्मा को खींचकर ले जाती पुलिस।
प्रदर्शन कर रहे युवा कांग्रेस जिलाध्यक्ष पंडित कपिल शर्मा को खींचकर ले जाती पुलिस।- फोटो : CITY OFFICE
 
... और पढ़ें

कोरोना वायरस से तीन की मौत, 121 संक्रमित

कोरोना वायरस से संक्रमित एक महिला सहित तीन लोगों की मृत्यु हो गई है। जबकि 121 नए लोग वायरस की चपेट में आए हैं।
थाना बन्नादेवी के सुरक्षा विहार त्रिमूर्ति नगर निवासी 65 वर्षीय महिला की उपचार के दौरान पं. दीनदयाल उपाध्याय संयुक्त चिकित्सालय में मृत्यु हो गई। थाना सिविल लाइन क्षेत्र के एडीएम कंपाउंड निवासी निर्वाचन कार्यालय के 52 वर्षीय कर्मी की भी मौत कोरोना की चपेट में आने के कारण हो गई है। कोरोना संक्रमित कर्मचारी होम आइसोलेट था। तबियत ज्यादा खराब होने पर उसे एंबुलेंस से पं. दीनदयाल अस्पताल लाया जा रहा था। रास्ते में उसकी मौत हो गई। तीसरी मौत जेएन मेडिकल कॉलेज में उपचार करा रहे धौर्रा के 60 वर्षीय व्यक्ति की हुई है। जेएन मेडिकल कॉलेज में शक्तिनगर के एक 40 वर्षीय व्यक्ति की भी मौत हुई है लेकिन मरने से पहले उसकी रिपोर्ट निगेटिव आई है।
जेएन मेडिकल कॉलेज, पं. दीनदयाल अस्पताल, प्राइवेट लैब एवं एंटीजन टेस्ट में आज 121 लोग संक्रमित पाए गए हैं। संक्रमितों में नगर निगम के एक बड़े अधिकारी एवं उनकी कवियत्री पत्नी भी शामिल हैं। खत्रीपाड़ा अतरौली के 8, हरनारायण खैर के 4, दाऊजी हरदुआगंज के 4, विष्णुपुरी के 2, कल्याणनगर कमाक्षी मंदिर के पास के 3, सुदामापुरी के 3, कुलदीप विहार के 2, पुलिस लाइन के 2, जमीराबाद के 3, डीआईसी के 3, टप्पल के 3, शिवबाल मंदिर छर्रा के 2, बसुंधरा कॉलोनी के 4, हाथरस अड्डा के 2 लोग संक्रमित पाए गए हैं। जिलाधिकारी चंद्रभूषण सिंह ने बताया कि संक्रमितों को लक्षण के आधार पर होम आइसोलेट एवं कोविड-19 अस्पताल में भर्ती किया जा रहा है। बृहस्पतिवार को 155 लोग निरोग होकर घर लौटे हैं।
... और पढ़ें
Karwachauth Coupon
Karwachauth Coupon
Karwachauth Coupon
Karwachauth Coupon
Election
X

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00
X
  • Downloads

Follow Us