विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विवाह संबंधी दोषों को दूर करने के लिए शिवरात्रि पर मल्लिकार्जुन ज्योतिर्लिंग में कराएं रुद्राभिषेक : 21-फरवरी-2020
Astrology Services

विवाह संबंधी दोषों को दूर करने के लिए शिवरात्रि पर मल्लिकार्जुन ज्योतिर्लिंग में कराएं रुद्राभिषेक : 21-फरवरी-2020

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

From nearby cities

जानें कौन हैं श्री रामजन्मभूमि न्यास के अध्यक्ष महंत नृत्य गोपालदास

राम मंदिर आंदोलन के अहम किरदार रहे अयोध्या के श्री रामजन्मभूमि न्यास के अध्यक्ष महंत नृत्य गोपालदास को राम मंदिर निर्माण के लिए बनाए गए 'श्रीराम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र' ट्रस्ट का अध्यक्ष बनाया गया है। जानें, उनके बारे में:

19 फरवरी 2020

विज्ञापन
विज्ञापन

अलीगढ़

बुधवार, 19 फरवरी 2020

हाथरस: अज्ञात वाहन ने बाइक को रौंदा, बाइक सवार तीन युवकों की मौत

अलीगढ़: मैदान में संदिग्ध हालत में मिले 23 बंदरों के शव, कई पड़े थे बेहोश

अलीगढ़ के खैर में लक्ष्मनगढ़ी-मऊ रोड पर खाली मैदान में सोमवार को 23 बंदरों के शव एक साथ मिलने से सनसनी फैल गई। सूचना मिलते ही पुलिस और पशु चिकित्सक मौके पर पहुंच गए। कुछ बंदर बेहोशी की हालत में भी मिले। पशु चिकित्सक के इलाज के बाद उन्हें होश आया तो वह उठकर भाग गए। इन शवों को पुलिस ने जेसीबी से गड्ढा खुदवाकर दफन कराया है। पुलिस के अनुसार मामले की जांच की जा रही है।

लक्ष्मनगढ़ी-मऊ रोड पर साईं आयुर्वेदिक कॉलेज के समीप एक मैदान में कुछ समाधि बनी हैं। वहीं पर सोमवार की सुबह यह बंदर मृत और बेहोशी हालत में मिले। इनकी संख्या 50 के करीब थी। लोगों की सूचना पर खैर इंस्पेक्टर धर्मेंद्र पंवार, चौकी इंचार्ज अमित प्रताप मौके पर पहुंच गए। उन्होंने पशु अस्पताल फोन कर चिकित्सकों को बुला लिया। 

पशु चिकित्सक डॉ. मनोज व भगवान सिंह ने जांच की तो 23 बंदर मरे जबकि अन्य बेहोशी हालत में मिले। इलाज के बाद कुछ बंदरों को होश आया तो वह जंगल की ओर भाग निकले। मृत बंदरों के मुंह से खून निकल रहा था। डॉक्टरों ने दो बंदरों का पोस्टमॉर्टम कर कुछ नमूने भी लिए हैं, जिन्हें जांच के लिए भेजा जाएगा।

इंस्पेक्टर धर्मेंद्र पंवार के अनुसार संभवत: बंदरों को पकड़ कर कोई बाहर से लाकर यहां छोड़ गया है। उनको पकड़ने के दौरान कुछ ऐसा खिलाया गया है जिससे मौत हुई है। चौकीदार की तरफ से रिपोर्ट दर्ज कराई गई है।
... और पढ़ें

चाहे शाहीन बाग को जलियावाला बाग बनना पड़े, लेकिन ऐसे प्रदर्शन रूकने चाहिएः अशोक पांडेय

एक साल पहले महात्मा गांधी के पुतले को गोली मारकर सुुर्खियों आईं अखिल भारत हिंदू महासभा की पूजा शकुन पांडे के पति अशोक पांडे अब विवादित बयान देकर सुर्खियों में आ गए हैं। उन्होंने केंद्र सरकार से कहा है कि चाहे भले ही शाहीन बाग को जलियावाला बाग बनाना पड़े, लेकिन इस प्रकार के धरना-प्रदर्शन रुकने चाहिए। सरकार और पुलिस को बलपूर्वक प्रदर्शनकारियों को हटाना चाहिए। साथ ही उन्होंने प्रधानमंत्री को संबोधित ज्ञापन जिलाधिकारी कार्यालय में दिया है। ज्ञापन में लिखा है कि इन धरना प्रदर्शनों का केंद्र अलीगढ़ मुुुस्लिम यूनिवर्सिटी है। यहां का समूचा स्टाफ प्रदर्शनकारियों को सहायता पहुंचा रहा है।
सोमवार को अखिल भारत हिंदू महासभा की ओर से जिलाधिकारी कार्यालय पहुंचकर एसीएम प्रथम को ज्ञापन सौंपा गया। ज्ञापन में उन्होंने मांग की है कि सरकार को अवैध रूप से हो रहे इस प्रदर्शन पर रोक लगानी चाहिए। इसे खत्म कराने को कड़े उठाने चाहिए। एएमयू और शाहजमाल में हो रहे प्रदर्शन में शामिल लोगों को जेल भेजा जाना चाहिए। यहां भीड़ तंत्र के सामने लोकतंत्र की हार हो रही है।
... और पढ़ें

गांधी पार्क में शराब सेल्समैन से 3.25 लाख की लूट, घटना में उलझी पुलिस

महानगर के गांधी पार्क इलाके के गांव याकूतपुर के पास मंगलवार को एक शराब दुकान के सेल्समैन से 3.25 लाख रुपये की लूट हो गई। सेल्समैन के मुताबिक बदमाशों ने उससे तमंचे के बल पर लूट की वारदात को अंजाम दिया। पुलिस छानबीन के बाद घटना को संदिग्ध मान रही है। दावा है कि सेल्समैन बार-बार बयान बदल रहा है। पुलिस देर रात तक कह रही थी कि ठेका मालिक ने सेल्समेन के खिलाफ अमानत में खयानत की तहरीर दी है, जबकि मालिक का कहना था कि उन्होंने सेल्समैन से 3.25 लाख रुपये लूट की तहरीर दी है।
मूलरूप से बरेली के छावनी एरिया के रहने वाले शराब कारोबारी वैभव जायसवाल की पनैठी तिराहा सहित जिले में 15 दुकानें हैं। वर्तमान में वे एटा चुंगी के पास रहते हैं। वाकया मंगलवार सुबह करीब 11 बजे का है। पनैठी तिराहा पर काम करने वाला सेल्समैन उमेश कुमार निवासी पहाड़ीपुर, बरला शराब की सात दुकानों से एकत्रित हुई 3.25 लाख रुपये की रकम लेकर बाइक से एटा चुंगी स्थित वैभव के घर पर आ रहा था। उमेश का कहना है कि ओजोन सिटी रोड से एटा चुंगी की ओर आते वक्त रास्ते में याकूतपुर गांव के पास दो बाइकों पर पीछे से आए चार बदमाशों ने उसे तमंचा दिखाकर रोक लिया और 3.25 लाख रुपये लूट ले गए। इस मामले में थाना पुलिस को जानकारी दी गई। लूट की सूचना से पुलिस में हड़कंप मच गया। पुलिस ने छानबीन की। पूछताछ में घटना स्थल के पास खेतों में काम कर रहे लोगों ने लूट की जानकारी से इंकार किया। वहीं सेल्समैन के पास से 17 हजार रुपये व एक मोबाइल फोन मिला। इसलिए घटना संदिग्ध मानते हुए पुलिस उमेश को थाने ले आई। इधर, वैभव जायसवाल भी थाने पहुंच गए।
लूट को संदिग्ध बताने के लिए पुलिस ने कई तर्क दिए। उनका कहना था कि रोज की तरह वह अपने किसी साथी को साथ लाने की बजाय अकेला रुपये लेकर निकला। साथ ही उसने मंगलवार को जीटी रोड की बजाय ओजोन सिटी बंबे का रास्ता चुना। पुलिस का दावा है कि शराब कारोबारी ने भी इलाके में जाकर खुद छानबीन की और फिर अपने ही सेल्समैन के खिलाफ अमानत में खयानत की तहरीर दी है। हालांकि पुलिस के इस दावे को शराब कारोबारी ने सिरे से खारिज करते हुए कहा कि सेल्समैन से लूट होने की तहरीर पुलिस को दी गई है। एसपी सिटी ने कहा कि मामला संदिग्ध लग रहा है। इसलिए छानबीन की जा रही है। सेल्समैन को भी पूछताछ के लिए हिरासत में लिया है।
... और पढ़ें
लूट की जानकारी देते अवधेश कुमार सिंह। लूट की जानकारी देते अवधेश कुमार सिंह।

एक करोड़ के विवाद में एई जेई एवं बाबुओं के पटलों में फेर बदल

लंबे समय से एक ही पटल पर जमे अलीगढ़ विकास प्राधिकरण के सहायक एवं अवर अभियंताओं के साथ बाबुओं के भी कार्य क्षेत्र बदल दिए गए हैं। यह कार्रवाई कंपाउंडिंग समेत अन्य कामों में अफसर, बिल्डर व अन्य लोगों का कोकस तोड़ने तथा कामों में तेजी लाने के लिए की गई है।
बताते चलेें कि क्वारसी स्थित एक इमारत की एक करोड़ की कंपाउंडिंग के मामले में प्राधिकरण के दो अभियंता आपस में भिड़ गए थे। इस प्रकरण से विभाग की खूब फजीहत हुई। यह भी सामने आ गया कि वर्षों से एक ही पटल पर जमे रहने एवं उस क्षेत्र के लोगों से पहचान हो जाने के कारण सेटिंग का खेल आसानी से चलता था। इससे निपटने के लिए प्राधिकरण उपाध्यक्ष मनमोहन चौधरी ने बताया कि एई केदार राम को जन सूचना अधिकारी, संपूर्ण समाधान दिवस, उद्योग, सिंचाई बंधु, जिला स्तरीय बैठक एवं संपत्ति अधिकारी का काम दिया गया है। वे सहायक नगर नियोजक एवं रेसा के काम भी संभालेंगे। एई महाराज सिंह को शिकायत प्रतितोष अधिकारी, जिलाधिकारी जन सुनवाई, शासन व प्रशासन के संदर्भ, जन हित गारंटी संबंधी काम सौंपे गए हैं। अवर अभियंता मनोज शर्मा, दूधनाथ वर्मा, एसएम शुक्ला, मनोज द्विवेदी, गंगेश कुमार सिंह, नवीन शर्मा, एसपी कुशवाहा, पीयूष त्यागी, डीके शर्मा, आरके गुप्ता आदि का कार्य क्षेत्र बदल दिया गया है। इनके अलावा 13 बाबुओं के भी पटल बदल दिए गए हैं।
... और पढ़ें

फु टबॉल को लेकर एएमयू में छात्र गुटों में टकराव, फायरिंग

अलीगढ़ मुस्लिम विश्वविद्यालय के मोहसिन मुल्क हॉल के अंदर गाजीपुर के दो छात्र गुटों में फु टबॉल को लेकर आपस में टकराव हो गया। इसके बाद एक गुट ने फ ायरिंग कर दी, इस हमले में छात्र बाल-बाल बच गया। घटना की जानकारी के बाद मौके पर प्रॉक्टोरियल टीम पहुंच गई। इस प्रकरण में किसी भी पक्ष की ओर से कोई शिकायत नहीं की गई है। वरिष्ठ छात्र नेताओं ने इस घटना को कैंपस की बिगड़ती स्थिति को लेकर संकेत किया है।
एएमयू के अंदर अलग-अलग क्षेत्रों के छात्रों के बीच विवाद की स्थिति पैदा होना सामान्य बात रही है। कभी-कभी यह टकराव हिंसक भी हो जाता है। मंगलवार की देर रात ऐसा ही हुआ। एमएम हॉल के फु टबॉल क्लब को लेकर गाजीपुर क्षेत्र के ही दो छात्र गुटों में आपस में टकराव हो गया। विवाद के बाद मामला ने इतना तूल पकड़ गया कि एक छात्र गुट ने एक छात्र को निशाना बनाकर फायर कर दिया। गनीमत यही रही कि गोली किसी को नहीं लगी। दूसरी ओर फ ायरिंग की सूचना मिलते ही विश्वविद्यालय में हड़कंप मच गया। आनन-फ ानन में प्रॉक्टोरियल टीम मौके पर पहुंची और स्थिति का जायजा लिया। हालांकि, किसी भी छात्र गुट की ओर से घटना के संबंध में शिकायत नहीं की गई है लेकिन विश्वविद्यालय प्रशासन अपनी ओर से पूरी सतर्कता बरत रहा है। दूसरी और वरिष्ठ छात्र नेता मोहम्मद शिकोह कहते हैं कि इस तरह की घटनाएं इशारा करती हैं विश्वविद्यालय प्रशासन कैंपस के हालात को संभालने में विफ ल है। हालात सुधरने के बजाय और खराब होते जा रहे हैं । विश्वविद्यालय प्रशासन को चाहिए कि केवल छात्रों का विश्वास जीतने के लिए कार्य करें।
... और पढ़ें

सचिन हत्याकांडः विधायक संजीव राजा मुर्दाबाद के नारे, शव सड़क पर रख आगरा रोड पर लगाया जाम

सासनी गेट क्षेत्र के पला साहिबाबाद (अवतार नगर) इलाके में सोमवार शाम बाइक टकराने के बहाने पुरानी रंजिश में हुई सपा पिछड़ा वर्ग प्रकोष्ठ के पूर्व प्रदेश सचिव व सपा के पूर्व जिला सचिव पूरनमल प्रजापति के बेटे सचिन की हत्या के बाद मंगलवार को सत्ताधारी पार्टी के विधायकों के खिलाफ गुस्सा फूट पड़ा। पोस्टमार्टम के बाद जब शव को घर लाया जा रहा था तो दोपहर ढाई बजे हाथरस अड्डे पर शव को सड़क पर रखकर आगरा रोड पर जाम लगा दिया गया। गुस्साई भीड़ ने विधायक संजीव राजा मुर्दाबाद के नारे लगाए और आक्रोश व्यक्त किया। वहीं, इस हत्याकांड में पुलिस ने पांच लोगों पर मुकदमा दर्ज किया है। मुकदमे में भाजपा नेता ईश्वर चंद उपाध्याय निवासी भगवान नगर के बेटे सुमित उपाध्याय उर्फ गोलू, सचिन उर्फ पाली, अमित सहित उनके साथी जितेंद्र कुमार, राहुल को नामजद व आधा दर्जन को अज्ञात में दर्ज किया गया है। पुलिस फरार आरोपी पाली उर्फ सचिन की तलाश में जुटी है।
मंगलवार को पोस्टमार्टम के बाद सपा नेताओं, परिजनों और इलाके के लोगों ने दोपहर करीब ढाई बजे हाथरस अड्डे पर शव को रख आगरा-अलीगढ़ रोड जाम कर दिया। सपा नेता पीड़ित परिवार को 50 लाख रुपये मुआवजे की मांग और परिवार के एक सदस्य को सरकारी नौकरी सहित आरोपियों को फांसी देने की मांग पर अड़ गए। साथ ही आक्रोशित लोगों ने भाजपा विधायक संजीव राजा मुर्दाबाद के नारे लगाए और सांसदों के खिलाफ भी नारेबाजी की। आगरा रोड पर जाम, हंगामे और प्रदर्शन का दौर करीब एक घंटे तक चला। सूचना पर सासनी गेट, बन्नादेवी, देहली गेट से पुलिस बल जाम को खुलवाने पहुंचा। इसके बाद सिटी मजिस्ट्रेट विनीत कुमार सिंह के आश्वासन पर परिजन माने। आश्वासन पर करीब चार बजे लोगों ने शव को वहां से हटाया। इधर, एसएसपी आकाश कुलहरि ने बताया कि मुकदमे में नामजद हत्यारोपियों के खिलाफ हत्या, रंगबाजी, चौथ मांगने जैसी 10 धाराओं में मुकदमा किया गया है। जल्द ही सभी आरोपियों को दबोचकर जेल भेज दिया जाएगा।
... और पढ़ें

भोले के जयकारों से गूंजने लगा रामघाट रोड, बढ़ी कांवड़ियों की संख्या

हाथरस अड्डे पर शव रखकर जाम लगाते लोग।
शहर के रामघाट रोड से गुजरने वाले कांवड़ियों की संख्या में इजाफा होने लगा है। मगलवार को दिन में सैकड़ों की संख्या में कांवड़िये बम भोले के जयकारे लगाते हुए निकले। देर शाम के बाद इनकी संख्या में और इजाफा होने लगा। इनमें अधिकतर श्रद्धालु राजस्थान, आगरा व मथुरा के थे। शाम को मथुरा और वृंदावन जाने वाले कावंड़ियों की संख्या बढ़ गई। कांवड़ियों के आराम के लिए श्रद्धालु जगह जगह पांडाल लगवा रहे हैं।
बृहस्पतिवार रात 12 बजे से शिवालयों में कांवड़िये जल चढ़ाना प्रारंभ कर देंगे। राजघाट, रामघाट व नरौरा घाट से कांवड़िये गंगा जल लेकर अपने गंतव्य को पहुंच रहे हैं। अचलेश्वर व खेरेश्वर धाम में अधिक भीड़ के चलते बैरीकेडिंग व सीसीटीवी की व्यवस्था की जा रही है। कांवड़ियों के आराम और जलपान के लिए मंगलवार को रामघाट रोड पर शिविर लगना प्रारंभ हुए। पांडालों में जलपान के साथ कांवड़ रखने और आराम के लिए गद्दे आदि की व्यवस्था की गई है।
कांवड़ियों के आराम के लिए लगाए गए बांस बल्ली नगर निगम ने उखाड़े
मंगलवार को नगर निगम के अधिकारियों ने रामघाट रोड पर अतिक्रमण अभियान चलाया। निरंजनपुरी के पास श्रद्धालुओं ने सड़क की पटरी पर बांस, बल्ली गाढ़कर कांवड़ रखने के स्टैंड बनाए थे। इस दौरान नगर निगम के कर्मचारियों ने बांस बल्लियों को खोलकर अलग कर दिया। उनका कहना था कि मार्ग सकरा होने के चलते इससे लोगों को ही परेशानी होगी। सड़क से हटकर कहीं भी पांडाल व स्टैंड बनाए जा सकते हैं।
... और पढ़ें

अज्ञात वाहन ने बाइक सवार तीन युवकों को कुचला, मौत

अज्ञात वाहन ने बाइक सवार तीन युवकों को कुचला, मौत
लग्न समारोह से होकर एक ही बाइक पर लौट रहे थे तीनों
गांव में मचा कोहराम, तीनों युवक नहीं पहने थे हेलमेट
न्यूज डेस्क, अमर उजाला, हाथरस
हाथरस। मुरसान कोतवाली क्षेत्रांतर्गत मथुरा रोड पर करबन नदी के पुल के निकट सोमवार की मध्य रात्रि में किसी वाहन ने एक बाइक को रौंद दिया। हादसे में तीनों बाइक सवार युवकों की मौके पर ही मौत हो गई। ये लोग हेलमेट नहीं पहने थे। दुर्घटना के बाद पुलिस मौके पर पहुंच गई और शवों का पोस्टमार्टम कराया। तीनों युवक मथुरा के राया क्षेत्र के एक गांव से तिलक समारोह में शामिल होकर लौट रहे थे। कुछ देर बाद जब इस हादसे की जानकारी मृतकों के परिजनोें व ग्रामीणों को मिली तो वहां कोहराम मच गया।
कोतवाली हाथरस गेट क्षेत्र के गांव नगला तंदुला निवासी प्रमोद उर्फ बंबो की बेटी खुशबू की लग्न सगाई का कार्यक्रम सोमवार को मथुरा में राया क्षेत्र के गांव सुर्रका में था। इसमें गांव नगला तंदुला के काफी लोग अपने-अपने वाहनों से गए थे। तिलक समारोह से जब बाइक से अंकित (20) पुत्र कुंवरपाल, रवि (26) पुत्र शैलेंद्र उर्फ ओपी निवासीगण नगला तंदुला व खुशबू का रिश्ते का चाचा राहुल (21) पुत्र गिरीश निवासी खंदौली आगरा हाल निवासी लक्ष्मीनगर थाना जमुना पार मथुरा वापस लौट रहे थे तो रात्रि एक बजे के लगभग मुरसान कोतवाली क्षेत्रांतर्गत करबन नदी के पुल के पास स्पीड ब्रेकर पर किसी वाहन ने बाइक को रौंद दिया।
दुर्घटना में तीनों की मौके पर ही मौत हो गई। जब वहां से कांवड़िये गुजरे तो उन्होंने पुलिस को सूचना दी। रात्रि में ही पुलिस वहां पहुंच गई और शवों को कब्जे में ले लिया। बताते हैं कि इनके साथ आ रहे रिश्तेदारों ने जब इन युवकों के मोबाइल नंबरों पर फोन किया, तब पुलिस ने फोन करने वालों को इस दुर्घटना की जानकारी दी। पुलिस ने तीनों के शवों को पोस्टमार्टम गृह भेज दिया। वहां मृतकों परिजन व ग्रामीण भी आ गए और कोहराम मच गया। दोपहर बाद पोस्टमार्टम के उपरांत शवों का अंतिम संस्कार कर दिया गया।
... और पढ़ें

अलीगढ़ः राजा महेंद्र प्रताप सिंह विश्वविद्यालय को इस साल मिलेगा आकार

यूपी सरकार का बजट पेश करते हुए वित्त मंत्री सुरेश खन्ना ने राजा महेंद्र प्रताप सिंह विश्वविद्यालय की स्थापना का रास्ता साफ कर दिया है। उनके एलान से छात्रों में खुशी की लहर दौड़ गई है। छात्र नेताओं ने कहा कि विश्वविद्यालय बनाओ मंच के बैनर तले किए गए आठ सालों के संघर्ष का नतीजा है कि इस साल विश्वविद्यालय का काम जल्द शुरू हो जाएगा।
वित्त मंत्री सुरेश खन्ना ने प्रयागराज के लॉ विवि, गोरखपुर के आयुष विवि और आजमगढ़, सहारनपुर के साथ अलीगढ़ में राज्य विश्वविद्यालय के स्थापना की घोषणा कर दी है। अलीगढ़ में राजा महेंद्र प्रताप सिंह विश्वविद्यालय का कार्य जल्द ही शुरू हो जाएगा। उच्च शिक्षा अधिकारी डॉ. धीरेंद्र कुमार ने बताया कि सिटी ऑफिस की जमीन का प्रस्ताव सरकार को भेज दिया गया था। जल्द ही जिले में सिटी आफिस खुलेगा। छात्रों में स्थापना की खुशी है। छात्र नेताओं ने बताया कि आखिरकार आठ सालों का संघर्ष अब रंग लाने लगा है।
आठ सालों की मेहनत को वर्तमान सरकार ने बजट में तोहफा दिया है। अलीगढ़ में राज्य विवि की स्थापना से हजारों विद्यार्थियों को इसका लाभ मिलेगा।
आदित्य पंडित, छात्र नेता।
यही ख्वाहिश है कि जल्द से जल्द अलीगढ़ के युवाओं को विश्वविद्यालय मिल जाए। बजट में राज्य विवि के स्थापना की घोषणा सराहनीय है।
केशव ठाकुर, जिलाध्यक्ष हिंदू छात्र वाहिनी।
राज्य विवि की घोषणा से खुशी है। सरकार को जल्द ही प्रशासनिक भवन बना देना चाहिए, जिससे आगरा विवि की भागदौड़ कम हो जाए।
रंजीत चौधरी, छात्र नेता डीएस कालेज।
योगी सरकार ने अलीगढ़ के छात्रों की लंबित समस्या की ओर ध्यान देकर यूनिवर्सिटी निर्माण के लिए बजट जारी कर छात्र हितैषी होने का सबूत पेश किया है।
अमित गोस्वामी, छात्र नेता।
राजा महेंद्र प्रताप सिंह विवि के लिए 20 करोड़ की सौगात मिलने से छात्र-छात्राओं में खुशी है। अलीगढ़ की शिक्षा का स्तर बढ़ेगा और छात्रों को प्लेटफार्म मिलेगा।
सौरभ चौधरी, छात्रनेता।
बहुत ही कम बजट है, इसमें राज्य विवि पूरी तरह से विकसित नहीं हो पाएगा। सुविधाएं भी नहीं दे पाएंगे। विवि को बड़ा रूप देना चाहिए था।
कपिल शर्मा, जिलाध्यक्ष युवा कांग्रेस अलीगढ़।
विश्वविद्यालय के लिए पैसे का आवंटन अलीगढ़ के लिए खुशी की बात। शिक्षा का स्तर सुधरेगा। - यशवीर सिंह चौधरी, युवा
एबीवीपी ने बजट का किया स्वागत
अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद ने छात्र हित में राज्य विवि की स्थापना की घोषणा पर यूपी सरकार के बजट का स्वागत किया है। इस पर कार्यकर्ताओं ने मंगलवार को मिठाई बांटकर खुशी जाहिर की। इस मौके पर प्रदेश सहमंत्री सीटू चौधरी, योगेंद्र वर्मा, अमित चौधरी, अखिलेश गौतम, अंकुर शर्मा, अजीत चौधरी, गौरव, अरुण, हरेंद्र, अभय, विपुल, जतिन, प्रदीप आदि मौजूद रहे।
आदित्य पंडित।
आदित्य पंडित। - फोटो : CITY OFFICE
सौरभ पंवार, विधि छात्र।
सौरभ पंवार, विधि छात्र। - फोटो : CITY OFFICE
केशव ठाकुर, जिलाध्यक्ष हिंदू छात्र वाहिनी।
केशव ठाकुर, जिलाध्यक्ष हिंदू छात्र वाहिनी।- फोटो : CITY OFFICE
... और पढ़ें

सपा नेता के बेटे की हत्या की जांच के लिए पूर्व मुख्यंमंत्री अखिलेश यादव ने बनाई जांच कमेटी

पला साहिबाबाद में सपा पिछड़ा वर्ग प्रकोष्ठ के प्रदेश सचिव पूरनमल प्रजापति के बेटे सचिन की सरेशाम पुलिस के सामने गोली मार कर हत्या करने का मामला राजनीतिक तूल पकड़ गया है। सपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव ने इस मामले में पांच सदस्यीय जांच दल बना दिया है। दल से दो दिन के अंदर रिपोर्ट मांगी गई है। इस रिपोर्ट को देखने के बाद अखिलेश यादव कभी भी अलीगढ़ आ सकते हैं। सपाइयों ने उनको पूरे प्रकरण से अवगत कराया है। जांच दल में राष्ट्रीय अध्यक्ष के निर्देश पर प्रदेश अध्यक्ष नरेश उत्तम ने सपा के पूर्व विधायक जफर आलम, निवर्तमान जिलाध्यक्ष अशोक यादव, राष्ट्रीय कार्यकारिणी सदस्य विनोद सविता, पूर्व एमएलसी दयाराम प्रजापति और राष्ट्रीय कार्यकारिणी सचिव रमेश प्रजापति को शामिल किया है।
ये जांच दल अपनी रिपोर्ट भेजेगा कि आखिर किन कारणों से सचिन की हत्या हुई..? कौन जिम्मेदार हैं..? पुलिस प्रशासन की भूमिका निष्पक्ष है या सत्ता पक्ष से प्रभावित है..? आरोपियों की गिरफ्तारी हुई या नहीं..?
गौर हो कि इस प्रकरण में पुलिस ने मुख्य आरोपी सचिन पाली के भाई और दो अन्य आरोपियों को हिरासत में रखा है। शाम को सपाइयों का प्रतिनिधि मंडल उक्त जांच दल के सदस्यों के साथ डीआईजी/ एसएसपी आकाश कुलहरि से मिला और अपना पक्ष रखा। उन्होंने आश्वस्त कराया कि मामले में बहुत जल्द मुख्य आरोपी को पकड़ कर उसे जेल भेजा जाएगा। अशांति फैलाने पर रासुका की कार्रवाई भी होगी। पुलिस प्रशासन पूरी तरह से निष्पक्षता से कानून व्यवस्था बनाए रखने का काम करेगा। जांच दल ने एसएसपी से मिलने के बाद प्रदेश नेतृत्व को इस मुलाकात में हुई बातों से अवगत करा दिया है। बृहस्पतिवार तक जांच रिपोर्ट लखनऊ भेजी जाएगी।
अखिलेश को बुलाकर पिछड़ों की राजनीति गरमा सकती है सपा
पला साहिबाबाद प्रकरण में मारा गया सचिन सपा के पिछड़ा वर्ग के नेता का पुत्र है। इसलिए सपा में पिछडों की राजनीति गरमा गई है। सपाइयों का एक धड़ा इस मामले में अखिलेश यादव को बुलाने पर भी पूरा जोर लगा रहा है। जिससे पिछड़ों के बीच पार्टी पुरानी धाक जमा सके। सपाई इस मामले को पूरे प्रदेश में चर्चा में लाना चाहते हैं ताकि विधानसभा चुनाव 2022 तक पार्टी का जनाधार मजबूत किया जा सके। जांच रिपोर्ट पढ़ने के बाद सपा अध्यक्ष इस बाबत फैसला कर सकते हैं। स्थानीय सपा नेताओं ने अखिलेश को इस पहलू से भी अवगत कराया है। जिसके बाद राष्ट्रीय अध्यक्ष इस पर आगे की रणनीति बनाएंगे। सपाइयों ने इस मामले को यूपी सरकार के मौजूदा बजट सत्र में भी उठाने की बात कही है।
ये सरेआम अराजकता का दर्दनाक उदाहरण है। जिसमें एक युवा की जान चली गई और पुलिस तमाशा देखती रही। आरोपियों को जल्द से जल्द गिरफ्तार कर जेल भेजा जाए। - राकेश सिंह पूर्व विधायक सपा।
भाजपा पिछड़ों के वोटरों से ही सत्ता में है। अब उन्हीं को गोली मारी जा रही है। इसका पूरा जवाब आने वाले विधानसभा चुनाव में मिल जाएगा। लोगों अंतर्मन से बहुत दुखी है। - राजेश सैनी, सपा पिछड़ा वर्ग प्रकोष्ठ।
हाथरस अड्डे पर जाम लगाते लोगों को समझाते एएसपी विशाल पांडे।
हाथरस अड्डे पर जाम लगाते लोगों को समझाते एएसपी विशाल पांडे।- फोटो : CITY OFFICE
हाथरस अड्डे पर जाम लगाते लोगों को समझाते पूर्व विधायक राकेश, जिलाध्यक्ष अशोक।
हाथरस अड्डे पर जाम लगाते लोगों को समझाते पूर्व विधायक राकेश, जिलाध्यक्ष अशोक।- फोटो : CITY OFFICE
... और पढ़ें

अलीगढ़ः यूपी बोर्ड की परीक्षा के पहले दिन दो मुन्नाभाई पकड़े, मुकदमा दर्ज

यूपी बोर्ड परीक्षा के पहले दिन मंगलवार को हाईस्कूल के हिंदी विषय की परीक्षा में दो मुन्नाभाई पकड़े गए। ये दोनों पंजीकृत परीक्षार्थी की जगह पर परीक्षा दे रहे थे। दोनों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराया गया है। हाईस्कूल की पहली पाली 8604 छात्रों ने परीक्षा छोड़ दी।
नकल के मामले में ‘अतरौलिया बोर्ड’ के नाम से मशहूर अतरौली क्षेत्र के गांधी स्मारक इंटर कॉलेज चकाथल में पंजीकृत परीक्षार्थी रियाज खान पुत्र लुकमान खान की जगह सरताज पुत्र राशिद मुजफ्फरनगर को जांच के दौरान केंद्र व्यवस्थापक तेज प्रताप सिंह ने पकड़ लिया। अतरौली के एसजीएस इंटर कॉलेज में पंजीकृत परीक्षार्थी जीतू की जगह नाजिम पुत्र इंतजार निवासी नगला ताशी कंकर खेड़ा मेरठ को जांच के दौरान एडीएम वित्त एवं राजस्व विधान जायसवाल ने पकड़ा। दोनों मुन्नाभाई को परीक्षा में बैठाने का आरोप एक इंटर कॉलेज के प्रधानाचार्य लगाया गया है।
इसके अलावा श्रीराम चरन जनकल्याण इंटर कॉलेज कलियानपुर खेड़ा में शहीदे आजम इंटर कॉलेज रायपुर खास का एक छात्र परीक्षा दे रहा था। तलाशी लेने पर उसका फोटो आधार कार्ड व प्रवेश पत्र पर अलग था। पूछने पर बताया कि वह दोबारा परीक्षा दे रहा है। केंद्र व्यवस्थापक ने थाना पालीमुकीमपुर में छात्र के खिलाफ तहरीर दी है।
हाईस्कूल के हिंदी विषय की परीक्षा में कुल पंजीकृत 59285 में से 50681 परीक्षार्थी उपस्थित रहे, जबकि 8604 परीक्षार्थी अनुपस्थित रहे। अलीगढ़ शहर में पंजीकृत 27232 में से 24477 परीक्षार्थी उपस्थित रहे, जबकि 2755 परीक्षार्थी अनुपस्थित रहे। खैर क्षेत्र में पंजीकृत 12917 में से 11574 परीक्षार्थी उपस्थित रहे, जबकि 1343 परीक्षार्थी अनुपस्थित रहे। अतरौली क्षेत्र में पंजीकृत 19136 में से 14630 परीक्षार्थी उपस्थित रहे, जबकि 4506 परीक्षार्थी अनुपस्थित रहे। प्रारंभिक हिंदी में अलीगढ़ शहर में पंजीकृत 57 में से 56 परीक्षार्थी उपस्थित रहे। दूसरी पाली में इंटर के हिंदी विषय की परीक्षा में नौरंगीलाल राजकीय इंटर कॉलेज में बने कंट्रोल रूम की सूचना पर पंडित मौजी राम इंटर कॉलेज हरदुआगंज में एक संस्थागत छात्र को नकल करते पकड़ा गया।
... और पढ़ें

डिफेंस कॉरिडोर की राह को आसान बनाएगा जेवर एयरपोर्ट

अंडला में प्रस्तावित डिफेंस कॉरिडोर की राह को अंतरराष्ट्रीय जेवर हवाई अड्डा आसान बनाएगा। अलीगढ़ के युवाओं एवं व्यापारियों के लिए बिजनेस और रोजगार के नए अवसर सृजित होंगे। हवाई यात्रा करने वाले लोगों का कीमती वक्त भी बचेगा।
उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा बजट में जेवर अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डा के लिए दो हजार करोड़ रुपये आवंटित किया गया है। साथ ही बजट में डिफेंस कॉरिडोर के लिए अलीगढ़ (अंडला) में जगह चिन्हित करने का उल्लेख है। केंद्र व उत्तर प्रदेश सरकार की प्राथमिकता सूची में जेवर हवाई अड्डा एवं डिफेंस कॉरिडोर शीर्ष पर है। इसके बनने से अलीगढ़ एवं हाथरस जनपद के लोगों के लिए भी अवसर के नए दरवाजे खुलेंगे। आवागमन के नए साधन विकसित होंगे। होटल एवं अन्य उद्योग स्थापित होंगे। जेवर अलीगढ़ की सीमा से थोड़ी दूरी पर स्थित है। टप्पल से चंद किलोमीटर दूर है। अंडला से जेवर की दूरी करीब 46 किलोमीटर के आसपास है। इसी तरह अलीगढ़ से जेवर की दूरी लगभग 65 किलोमीटर है। इसकी वजह से विदेश एवं देश के विभिन्न शहरों से आने वाले खरीदार और उद्यमी को अलीगढ़ या जेवर तक पहुंचना आसान होगा। समय की भी बचत होगी।
तालानगरी औद्योगिक विकास एसोसिएशन के महामंत्री सुनील दत्ता का कहना है कि अभी दिल्ली हवाई अड्डा तक जाने के लिए कम से कम चार घंटा लगता है। इसकी वजह से घर से पांच घंटे पहले निकलना पड़ता है। जेवर में हवाई अड्डा बन जाने से कम से कम तीन से चार घंटे की बचत होगी।
... और पढ़ें
अपने शहर की सभी खबर पढ़ने के लिए amarujala.com पर जाएं
Aligarh Dueshera Coupon
Aligarh Dueshera Coupon
Aligarh Dueshera Coupon
Aligarh Dueshera Coupon

Disclaimer

अपनी वेबसाइट पर हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर अनुभव प्रदान कर सकें, वेबसाइट के ट्रैफिक का विश्लेषण कर सकें, कॉन्टेंट व्यक्तिगत तरीके से पेश कर सकें और हमारे पार्टनर्स, जैसे की Google, और सोशल मीडिया साइट्स, जैसे की Facebook, के साथ लक्षित विज्ञापन पेश करने के लिए उपयोग कर सकें। साथ ही, अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।

Agree
Election
  • Downloads

Follow Us