विज्ञापन
विज्ञापन
मौनी अमावस्या पर गया में कराएं तर्पण, हर तरह के ऋण से मिलेगी मुक्ति : 24 जनवरी 2020
Astrology Services

मौनी अमावस्या पर गया में कराएं तर्पण, हर तरह के ऋण से मिलेगी मुक्ति : 24 जनवरी 2020

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

From nearby cities

गोरखपुर की हर खबर अब अमर उजाला डिजिटल पर, कल सीएम योगी करेंगे लोकार्पण

अमर उजाला गोरखपुर के हाइपर लोकल ‘डिजिटल संस्करण’ की शुरुआत शनिवार को मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ लैपटॉप पर एक क्लिक करके करेंगे।

17 जनवरी 2020

विज्ञापन
विज्ञापन

प्रयागराज

शुक्रवार, 17 जनवरी 2020

मकर संक्रांति पर शोभन योग में लगेगी पुण्य की डुबकी, जानिए कब है स्नान का सबसे उत्तम मुहूर्त

रिजल्ट के लिए यूपीपीएससी के खिलाफ खोला मोर्चा

हिंदी और सामाजिक विज्ञान के अंतिम चयन परिणाम के लिए एलटी ग्रेड शिक्षक भर्ती अभ्यर्थियों ने सोमवार को उत्तर प्रदेश लोक सेवा आयोग (यूपीपीएससी) के सामने धरना-प्रदर्शन किया। धरना मंगलवार को भी जारी रहेगा। रिजल्ट के लिए अभ्यर्थी 17 जनवरी से आयोग के सामने आमरण अनशन शुरू करेंगे।

माह भर पहले आयोग के अध्यक्ष डॉ. प्रभात कुमार ने अभ्यर्थियों को आश्वासन दिया था कि जल्द ही केस डायरी का परीक्षण कर हिंदी और सामाजिक विज्ञान विषय के अंतिम चयन परिणाम पर निर्णय लिया जाएगा। बात आश्वासन से आगे नहीं बढ़ी और इस बार अभ्यर्थियों ने आरपार की ठान ली। सोमवार से शुरू हुए आंदोलन के लिए सोशल मीडिया पर भी व्यापक अभियान चलाया गया और नतीजा कि प्रदेश के कई जिलों से हिंदी और सामाजिक विज्ञान विषय के अभ्यर्थी आंदोलन में शामिल होने के लिए प्रयागराज पहुंचे।
... और पढ़ें

माघ मेले में स्नान घाटों के अधूरे निर्माण पर बिफरे नगर विकास मंत्री

अयोध्या में भव्य राम मंदिर निर्माण के लिए संगम तट पर महायज्ञ

prayagraj news prayagraj news

यूपीपीएससीः कंप्यूटर प्रोग्रामर टाइप टेस्ट में फॉन्ट पर विवाद

कंप्यूटर ऑपरेटर, ग्रेड-बी 2019 की कंप्यूटर पर आयोजित होने वाली टाइप टेस्ट परीक्षा को लेकर नया विवाद सामने आया है। परीक्षा का प्रवेश पत्र जारी होने के बाद स्पष्ट हुआ कि अभ्यथियों को क्रुति देव फॉन्ट में टाइप टेस्ट देना है, बल्कि बड़ी संख्या में अभ्यर्थियों ने मंगल फॉन्ट में तैयारी कर रखी है। अभ्यर्थियों ने आयोग में ज्ञापन देकर मांग की है कि टाइप टेस्ट में क्रुति देव के साथ मंगल फॉन्ट को भी लागू किया जाए।
कंप्यूटर ऑपरेटर, ग्रेड-बी 2019 का टाइप टेस्ट 19 जनवरी को प्रस्तावित है। सप्ताह भर पहले ही उत्तर प्रदेश लोक सेवा आयोग ने परीक्षा का कार्यक्रम जारी किया है। आयोग ने 28 मार्च 2019 को इस परीक्षा का विज्ञापन जारी किया था। राहुल कपूर एवं अन्य अभ्यर्थियों का कहना है कि विज्ञापन में यह जानकारी नहीं दी गई थी कि टाइप टेस्ट किस फॉन्ट में होगा। आयोग ने अब 19 जनवरी को होने वाले टाइप टेस्ट का प्रवेश पत्र जारी किया, जिसमें बताया गया है कि परीक्षा क्रुति देव फॉन्ट पर होगी। 

बड़ी संख्या में अभ्यर्थियों ने मंगल फॉन्ट पर टाइप टेस्ट की तैयारी की है। मंगल हिंदी फान्ॅट को भारत सरकार ने विकसित किया है और इस बढावा दिया जाता है। यह फॉन्ट सभी ऑपरेटिंग सिस्टम में पहले से इंस्टॉल रहता है और इसका प्रयोग अधिकतर सरकारी एवं निजी संस्थानों के साथ सभी ऑनलाइन डिजिटल पोर्टल्स में भी होता है।

पिछले दिनों पुलिस विभाग में हुई कंप्यूटर ऑपरेटर भर्ती में भी क्रुति देव के साथ मंगल फॉन्ट का विकल्प अभ्यर्थियों को मिला था। वहीं, आयेाग ने अब आरओ/एआरओ-2017 के टाइप टेस्ट की तिथि जारी की थी, उसे पहले अलग से नोटिस जारी कर स्पष्ट किया गया था कि परीक्षा क्रुति देव फॉन्ट पर होगी। अभ्यर्थियों ने आयोग से मांग की है कि कंप्यूटर ऑपरेटर, ग्रेड-बी 2019 के टाइप टेस्ट में मंगल फॉन्ट को भी शामिल किया जाए। परीक्षा को बहुत कम समय बाकी रह गया है। ऐसे में क्रुति देव फॉन्ट पर तैयारी नहीं की जा सकती। अभ्यर्थियों ने इस मामले पर बात करने के लिए आयोग अध्यक्ष से भी समय मांगा है लेकिन अभ्यथियों को अभी समय नहीं मिला है।

आरओ/एआरओ अभ्यर्थियों के चयन मानकों में विसंगति
उत्तर प्रदेश लोक सेवा आयोग की ओर आरओ/एआरओ-2017 का टाइप टेस्ट 18 जनवरी को आयोजित किया जाएगा। इसमें भी आयोग ने टाइप टेस्ट में अभ्यर्थियों के चयन के लिए जो मानक अपनाए, उनमें विसंगति है। एआरओ अभ्यर्थी रोहित सिंह का कहना है कि उनके एक साथी ने कानपुर विश्वविद्याल से ‘ओ’ लेवल का कंप्यूटर सर्टिफिकेट प्राप्त किया और उसे टाइप टेस्ट के लिए अर्ह माना गया लेकिन रोहित एवं अन्य लोगों ने भी कानपुर विश्वविद्यालय से ही यह सर्टिफिकेट प्राप्त किया लेकिन उन्हें टाइप टेस्ट के लिए चयनित नहीं किया गया। अभ्यर्थियों ने आयोग में ज्ञापन देकर मांग की है कि इस विसंगति को दूर किया जाएगा।
... और पढ़ें

तिरंगा लेकर संगम तीरे सीएए के समर्थन में बनाई मानव श्रृंखला

uppsc

माघ मेले में आए अजब-गजब बाबा

इविविः प्रो. आरआर तिवारी बने नए कार्यवाहक वीसी

महामंडलेश्वर-महंतों संग विदेशी संतों ने भी संगम में लगाई पुण्य की डुबकी

संगम पर बुधवार को मकर संक्रांति पर अखाड़ों के संतों,महामंडेश्वरों संग विदेशी संतों ने भी पुण्य की डुबकी लगाई। संगम तट पर आध्यात्मिक संस्कृति के विविध रूप-रंग देखते बने। संन्यासी, बैरागी हों या गृहस्थ। सभी एक साथ एक राह पर चले। संगम तीरे डुबकी की बहोड़ में छोटे-बड़े, अमीर-गरीब के फर्क मिट गए। देश-दुनिया से आए संतों-भक्तों ने एक साथ गोता लगाकर त्रिवेणी को नमन किया। 

जर्मनी के लाला बाबा दो अन्य विदेशी संतों के साथ मकर स्नान के लिए संगम पहुंचे। हाथ पर टैटू और लंबी जटा वाले इन विदेशी साधुओं ने गंगा, यमुना, विलुप्त सरस्वती के तट पर डुबकी लगाने के बाद सूर्य को अर्घ्य भी दिया और तिलक लगाकर निहाल हुए।
 
... और पढ़ें

धूमनगंज में गला रेतकर आटो ड्राइवर की हत्या

प्रयागराज। धूमनगंज के धुस्सा के जंगल में मंगलवार रात ऑटो ड्राइवर विशाल की गला रेतकर हत्या कर दी गई। वह मंगलवार की शाम को पड़ोस के रहने वाले दोस्त सूरज के साथ बाइक से गया था, फिर वापस नहीं लौटा। पिता की तहरीर पर अज्ञात के खिलाफ हत्या का केस दर्ज किया गया है। पुलिस ने सूरज को हिरासत में लिया है। उससे पूछताछ हो रही है। विशाल के काल डीटेल्स से छानबीन की जा रही है।
कालिंदीपुरम के रहने वाले नंदलाल का बेटा विशाल (20) ऑटो ड्राइवर था। मंगलवार की शाम घर में बाटी चोखा बन रहा था। शाम को ही उसका दोस्त सूरज आया। विशाल उसके साथ बाहर निकल गया। रात में खाने के समय विशाल की बहन सपना ने उसे फोन मिलाया, लेकिन फोन बंद था। घरवाले सूरज के पास पहुंचे। उसने बताया कि उसने विशाल को घर के पास चौराहे पर रात में ही छोड़ दिया था। उसके बाद वह कहां गया, वह नहीं जानता। बुधवार की सुबह धुस्सा के जंगलों में विशाल की लाश मिली। कातिलों ने उसका गला रेत दिया था। उधर, घरवालों को पता चला तो वे भी धुस्सा पहुंचे। नंदलाल बेटे का शव देखकर रोने लगे। पहचान होने के बाद शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया गया। घरवालों से जानकारी लेने के बाद पुलिस ने सूरज को हिरासत में ले लिया। उससे पूछताछ की जा रही है।
इंस्पेक्टर धूमनगंज शमशेर बहादुर सिंह ने बताया कि विशाल का मोबाइल गायब है। उसकी काल डीटेल्स निकलवाई गई है। उसके आधार पर जांच की जा रही है। घरवालों ने किसी पर शक नहीं जताया है। काल डीटेल्स के आधार पर कुछ लोग शक के दायरे में हैं। उनकी खोजबीन की जा रही है। जल्द ही कत्ल का खुलासा कर दिया जाएगा।
इंटर में फेल होने के बाद से चलाने लगा था ऑटो
प्रयागराज। विशाल के पिता नंदलाल प्लंबर का काम करते हैं। जब वह इंटर में दो बार फेल हुआ तो पिता ने उसे अपने साथ प्लंबर के काम पर लगा लिया, लेकिन वह ऑटो चलाने लगा। परिवार में दो बहनें सपना और रीना हैं। दोनों रात भर विशाल के मोबाइल पर फोन करती रहीं, लेकिन फोन स्विच आफ था। घरवालों को शक है कि सूरज ही उसे लेकर गया है, वही बता सकता है कि क्या हुआ था।
... और पढ़ें
अपने शहर की सभी खबर पढ़ने के लिए amarujala.com पर जाएं

Disclaimer

अपनी वेबसाइट पर हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर अनुभव प्रदान कर सकें, वेबसाइट के ट्रैफिक का विश्लेषण कर सकें, कॉन्टेंट व्यक्तिगत तरीके से पेश कर सकें और हमारे पार्टनर्स, जैसे की Google, और सोशल मीडिया साइट्स, जैसे की Facebook, के साथ लक्षित विज्ञापन पेश करने के लिए उपयोग कर सकें। साथ ही, अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।

Agree
Election
  • Downloads

Follow Us