बेहतर अनुभव के लिए एप चुनें।
INSTALL APP
विज्ञापन
विज्ञापन
मंगलवार को इन 4 राशिवालों की पलटेगी किस्मत, जेब में आएगा पैसा
Myjyotish

मंगलवार को इन 4 राशिवालों की पलटेगी किस्मत, जेब में आएगा पैसा

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

From nearby cities

विज्ञापन
Digital Edition

प्रयागराज : यातायात नियमों के उल्लंघन व मास्क न लगाने पर 12 करोड़ रुपये वसूले

निजी अस्पताल में येलो फंगस संक्रमित की सर्जरी, एसआरएन में ब्लैक फंगस के 20 मरीज भर्ती

जिले के एक निजी अस्पताल में येला फंगस संक्रमित मरीज की सर्जरी की गई। जिले में येलो फंगस का यह पहला मामला है। वहीं एलथ्री एसआरएन अस्पताल में ब्लैक फंगस संक्रमित 20 मरीज भर्ती हैं।  एसआरएन अस्पताल के सह प्रभारी कोरोना डॉ. सुजीत वर्मा के मुताबिक उनके यहां ब्लैक फंगस छह संक्रमितों की सर्जरी की जा चुकी है। 14 अन्य मरीजों का उपचार किया जा रहा है।

किसी मरीज में येलो फंगस के लक्षण नहीं मिले। निजी क्षेत्र के कोविड सेंटर यूनाइटेड मेडीसिटी के प्रधानाचार्य डॉ. मंगल सिंह ने बताया कि कोरोना संक्रमण मुक्त हो चुके एक 73 वर्षीय बुजुर्ग में जांच के बाद ब्लैक के साथ येलो फंगस संक्रमण की पुष्टि हुई है। चूंकि संक्रमण प्रारंभिक स्तर का था इसलिए संक्रमित की सर्जरी की गई है। डॉ. मंगल सिंह ने बताया कि संक्रमित का ऑपरेशन करने वाली टीम में डॉ. प्रभात श्रीवास्तव भी शामिल थे।

उन्होंने बताया कि इससे पहले 24 मई को गाजियाबाद में येलो फंगस संक्रमित पाया गया था।  इस संबंध में सीएमओ को जानकारी दी गई है। उनसे मरीज के लिए एंफोटेरेसिन बी इंजेक्शन उपलब्ध कराने की मांग की गई है। बाजार में इंजेक्शन है नहीं सिर्फ एसआरएन में भर्ती मरीजों को शासन की ओर से उपलब्ध कराए गए एंफोटेरेसिन बी इंजेक्शन दिए जा रहे हैं।
... और पढ़ें

प्रयागराज : गंगा में कटान से दो शव फिर निकले, नगर निगम ने कराया अंतिम संस्कार

डीए बढ़ोतरी के भुगतान पर फैसला 26 जून को संभावित, जनवरी 2020 से फ्रीज है कर्मचारियों का डीए-डीआर

prayagraj news : DA prayagraj news : DA

जिला पंचायत अध्यक्ष चुनाव के लिए अधिसूचना जारी, संभावित प्रत्याशी हरकत में आए

उत्तर प्रदेश में जिला पंचायत अध्यक्ष चुनाव के लिए अधिसूचना जारी होने के साथ ही जिले में हलचल बढ़ गई है। संभावित प्रत्याशी और उनके समर्थकों ने क्षेत्र में दौरा तेज कर दिया है। शासन ने सोमवार को जिला पंचायत चुनाव के लिए अधिसूचना जारी कर दी है। चुनाव 15 जून से तीन जुलाई के बीच कराए जाएंगे। मंगलवार को चुनाव के लिए विस्तृत कार्यक्रम जारी किया जाएगा। 

जिला पंचायत अध्यक्ष पद के लिए समाजवादी पार्टी द्वारा मालती यादव के नाम की घोषणा की जा चुकी है। वह जिला पंचायत सदस्यों को अपने पक्ष में करने के लिए लगातार संपर्क कर रही हैं। भाजपा द्वारा अभी तक प्रत्याशी घोषित नहीं किया जा सका है। सूत्रों की मानें तो इस सीट के लिए निवर्तमान जिला पंचायत अध्यक्ष रेखा सिंह और गंगापार के हंडिया से जिला पंचायत सदस्य चुने गए भाजपा के वरिष्ठ नेता डॉ. देवराज सिंह के पुत्र डॉ. कुंवर वीके सिंह प्रमुख दावेदार माने जा रहे हैं। भाजपा का एक गुट यमुनापार से जिला पंचायत सदस्य निर्वाचित नीलम पटेल के नाम की भी पैरवी कर रहा है।

इस बार जिला पंचायत अध्यक्ष पद के लिए भाजपा, सपा समेत किसी भी दल के पास अभी तक 43 प्रत्याशियों का समर्थन नहीं है। पिछले सप्ताह डिप्टी सीएम केशव प्रसाद मौर्य की मोजूदगी में 15 जिला पंचायत सदस्यों ने भाजपा ज्वाइन की, लेकिन इसके बाद भी पार्टी के पास अभी 29 सदस्य ही है। इस बीच समाजवादी पार्टी ने जिला पंचायत अध्यक्ष पद के लिए अपने प्रत्याशी का नाम घोषित कर दिया। पिछड़ी जाति की महिला प्रत्याशी का नाम घोषित होने के बाद अब भाजपा में चर्चा इस बात की चल रही है कि पार्टी सामान्य जाति के उम्मीदवार को अपना प्रत्याशी बनाएगी।


 
... और पढ़ें

प्रयागराज जंक्शन पर पकड़ी गई 16.50 किलो चांदी, आयकर विभाग को सौंपा गया युवक

प्रयागराज जंक्शन सोमवार को आरपीएफ और जीआरपी की टीम ने संयुक्त जांच अभियान के दौरान एक युवक को संदिग्ध अवस्था में पकड़ा। उनकी जांच की गई तो उनके पास 16.50 किलो चांदी पकड़ी गई। चांदी से संबंधित उनके पास कोई कागजात न होने पर उसे पकड़कर थाने ले आया गया। बाद में आरपीएफ ने दोनों युवक आयकर विभाग को सौंप दिए। 

प्रयागराज जंक्शन के सरकुलेटिंग एरिया में आरपीएफ एसआई अमित द्विवेदी, जीआरपी एसआई अजीत शुक्ला, सुधीर पांडेय चेकिंग कर रहे थे। इसी दौरान गेट नंबर तीन पर एक व्यक्ति नीले रंग के बैग के साथ दिखा। सुरक्षा कर्मियों को देखकर वह तेजी से चलने लगा। उसकी इस हरकत पर आरपीएफ और जीआरपी कर्मियों को शक हुआ। उसे रोककर उसके सामान की तलाशी ली गई तो उसके बैग में चांदी की छोटी-छोटी 21 नग एवं एक पुरानी सफेद धातु की हंसुली बरामद हुई।

चांदी से संबंधित कागजात मांगे जाने पर वह कुछ नहीं दिखा सका। आयकर की चोरी का मामला होने पर इसकी जानकारी आयकर निरीक्षक संतोष मालवीय को दी गई। थोड़ी देर में संतोष मालवीय अपनी टीम के साथ जंक्शन पहुंचे। वहां लिखापढ़ी के बाद आरपीएफ ने पकड़े गए युवक सनी कुमार जो मिर्जापुर का निवासी है उसे सारे माल के साथ आयकर विभाग को सुपुर्द कर दिया गया।
... और पढ़ें

पत्रकार सुलभ श्रीवास्तव मौत मामला : प्रियंका गांधी, सीएम ममता बनर्जी, अखिलेश ने योगी सरकार पर बोला हमला 

कांग्रेस की राष्ट्रीय महासचिव प्रियंका गांधी ने पत्रकार सुलभ श्रीवास्तव की मौत को लेकर प्रदेश की भाजपा सरकार पर तंज कसते हुए ट्वीट किया। इस घटना के बाद प्रदेश सरकार को घेरते हुए पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी, पूर्व सीएम अखिलेश यादव व आप सांसद संजय सिंह ने भी योगी सरकार पर हमला बोला।

कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा ने ट्वीट किया कि शराब माफिया अलीगढ़ से प्रतापगढ़ तक मौत का तांडव कर रहे हैं, फिर भी प्रदेश सरकार चुप है। पत्रकार सच्चाई उजागर करें, प्रशासन को खतरे के प्रति आगाह करें, सरकार सोई है। क्या जंगलराज को पालने पोसने वाली प्रदेश सरकार के पास पत्रकार सुलभ श्रीवास्तव के परिजनों के आंसुओं का कोई जवाब है।
... और पढ़ें

69 हजार शिक्षक भर्ती में खाली पदों पर नियुक्ति को लेकर बेसिक शिक्षा परिषद का घेराव

प्रियंका गांधी
69000 सहायक अध्यापक भर्ती में खाली पदों को भरे जाने की मांग को लेकर सोमवार को बड़ी संख्या में शिक्षक भर्ती के अभ्यर्थियों ने सचिव उत्तर प्रदेश बेसिक शिक्षा परिषद पर धरना प्रदर्शन किया। अभ्यर्थियों का कहना था कि 69 हजार शिक्षक भर्ती में लगभग छह हजार पद खाली हैं। प्रदेश के बेसिक शिक्षा मंत्री ने  23 मार्च को इन खाली पदों को एक महीने में भरने का आश्वासन दिया था। एक महीने का आश्वासन अब तीन महीने बीत गया है। अभी तक प्रदेश सरकार की ओर से इस बारे में कोई पहल नहीं की गई।

घेराव कर रहे अभ्यर्थियों का कहना था कि बेसिक शिक्षा परिषद की ओर से अभी तक खाली पदों का आंकड़ा तक तैयार नहीं किया जा सका। परिषद की ओर से आंकड़ा तैयार करने के साथ काउंसलिंग का कार्यक्रम जारी करना चाहिए। घेराव कर रहे अभ्यर्थियों का कहना था कि मुख्यमंत्री एवं बेसिक शिक्षा मंत्री के निर्देश के बाद भी अधिकारी पूरे मामले में हीलाहवाली कर रहे हैं। प्रदर्शन कर रहे अभ्यर्थियों का कहना था कि जब तक काउंसलिंग का कार्यक्रम जारी नहीं होता वह बेसिक शिक्षा परिषद कार्यालय से हटेंगे नहीं। 

कोरोना संक्रमण के बीच इतनी बड़ी संख्या में एक साथ शिक्षक भर्ती के अभ्यर्थियों का शिक्षा निदेशालय परिसर में एक जगह एकत्रित होना संक्रमण को बढ़ा सकता है। एक जगह इतनी बड़ी संख्या में कैसे इतने अभ्यर्थी पहुंच गए, इस बात को लेकर स्थानीय प्रशासन पूरी तरह से उदासीन रहा। बेसिक शिक्षा परिषद के सचिव के लगातार लखनऊ में बैठने के चलते अभ्यर्थियों की बात सुनने वाला कोई जिम्मेदार अधिकारी नहीं था। संयुक्त सचिव स्तर के अधिकारी की नियुक्ति है परंतु निर्णय लेने का पूरा अधिकारी शासन एवं सचिव बेसिक शिक्षा परिषद के पास होने के चलते छात्रों के किसी मांग पर सुनवाई होना संभव नहीं दिखाई पड़ रहा है।
... और पढ़ें

पत्रकार सुलभ श्रीवास्तव की मौत के मामले में हत्या का मुकदमा दर्ज

टीवी पत्रकार सुलभ श्रीवास्तव की मौत के मामले में पुलिस ने अज्ञात लोगों के खिलाफ हत्या और धमकी देने का मुकदमा दर्ज किया है। रविवार रात लालगंज से लौटते समय वह सुखपालनगर के पास संदिग्ध दशा में मृत मिले थे। उधर, सोमवार सुबह घटना पर आक्रोश जताते हुए कांग्रेस कार्यकर्ता और मीडियाकर्मी धरने पर बैठ गए। मौके पर पहुंचे डीएम व एडीजी प्रयागराज का घेराव कर मृतक पत्रकार के परिजनों को आर्थिक मदद और घटना की उच्चस्तरीय जांच कराने की मांग उठाई। इसे लेकर काफी देर तक हंगामा होता रहा। डीएम के हरसंभव मदद के आश्वासन के बाद लोग शांत हुए। दोपहर बाद सुलभ का शव अंतिम संस्कार के लिए प्रयागराज के रसूलाबाद घाट ले जाया गया।
... और पढ़ें

मेडिकल जांच  प्रक्रिया पूरी किए बिना उम्र  निर्धारित करना गलत-हाईकोर्ट

इलाहाबाद हाईकोर्ट ने कहा है कि मेडिकल जांच प्रक्रिया पूरी किए बगैर  कैदी को अपराध की घटना के दिन नाबालिग करार देना गलत है। कोर्ट ने कहा कि किशोर न्याय बोर्ड ने रेडियोलॉजी जांच के आधार पर कैदी की आयु निर्धारित कर कानूनी गलती की है। ओसीफिकेशन जांच के बाद भी निश्चित आयु निर्धारित नहीं की जा सकती तो अधूरी जांच के आधार पर कैदी को नाबालिग मान लेना सही नहीं है।

कोर्ट ने आगरा जेल मे अपराध की सजा काट रहे कैदी के नाबालिग होने की किशोर न्याय बोर्ड की रिपोर्ट के आधार पर अवैध निरूद्धि मानने से इंकार कर दिया।और नाबालिग की रिहाई की माग को लेकर दाखिल बंदीप्रत्यक्षीकरण याचिका खारिज कर दी है। यह आदेश न्यायमूर्ति सुनीता अग्रवाल तथा न्यायमूर्ति पी के श्रीवास्तव की खंडपीठ ने किरण पाल उर्फ किन्ना की याचिका पर दिया है।
... और पढ़ें

बालिग पत्नी को नाबालिग पति की अभिरक्षा का अधिकार नहीं- हाईकोर्ट

इलाहाबाद हाईकोर्ट ने कहा है कि पति नाबालिग है तो वह कानूनी रूप से अपनी बालिग पत्नी की अभिरक्षा में नहीं रह सकता है। जब तक कि वह बालिग न हो जाए। कोर्ट ने ऐसे विवाह को शून्य माना है, जिसमें पति या पत्नी में से कोई एक नाबालिग है। कोर्ट ने कहा है कि ऐसी शादी शून्यकरणीय है। यदि नाबालिग पति को उसकी बालिग पत्नी को सौपा गया तो यह पॉक्सो एक्ट के तहत अपराध होगा ।

16 साल का पति अपनी मां के साथ भी रहना नहीं चाहता है। इसलिए कोर्ट ने मां को भी उसकी अभिरक्षा नही सौपी और जिला प्रशासन को चार फरवरी 2022  (लड़के के बालिग होने तक ) उसे सारी सुविधाओं के साथ आश्रय स्थल में रखने का निर्देश दिया है। कोर्ट से साफ किया है का चार फरवरी 2022 को बालिग होने के बाद वह अपनी मर्जी से कहीं भी किसी के साथ जाने के लिए स्वतंत्र होगा। तब तक आश्रय स्थल में निवास करेगा।

यह आदेश न्यायमूर्ति जे जे मुनीर ने लड़के की मां आजमगढ की हौशिला देवी की याचिका पर दिया है। याचिका में मां ने अपने नाबालिग बेटे की अभिरक्षा की मांग की थी। याची का कहना था कि नाबालिग लड़के को  किसी लड़की से शादी करने का विधिक अधिकार नहीं है। ऐसी शादी कानूनन शून्य है। कोर्ट के निर्देश पर लड़के को 18 सितंबर 2020 को कोर्ट में पेश किया गया था। बयान से साफ हुआ कि वह जबरन पत्नी के साथ रह रहा है। पत्नी से बच्चे का जन्म भी हुआ है। कोर्ट ने कहा कि वह नाबालिग है, पत्नी की अभिरक्षा में नहीं रह सकता। बच्चे का हित देखा जाएगा। इसलिए बालिग होने तक सरकारी आश्रय स्थल में रहेगा।
... और पढ़ें

लेखपाल का रिश्वत लेते वीडियो वायरल, भूमि अधिग्रहण का मुआवजा दिलाने के नाम पर रिश्वत लेने का आरोप

तरती गांव के हल्का लेखपाल का गंगा एक्सप्रेसवे में जमीन जाने पर मुआवजे बढ़ाकर दिलाने के नाम पर रिश्वत लेने का वीडियो वायरल हुआ है। लेखपाल का रिश्वत लेते वीडियो वायरल होने पर तहसील कर्मियों के साथ लेखपालों में हड़कंप मच गया है। मामला होलागढ़ इलाके के तरती गांव का है। 

गंगा एक्सप्रेसवे हाइवे मार्ग के जाने से किसानों की जमीन अधिग्रहण कर सरकार द्वारा मुआवजा दिया जा रहा है।  वायरल वीडियो में दावा किया जा रहा है कि तरती गांव के हल्का लेखपाल द्वारा रिश्वत लेकर सरकार से अधिक मुआवजा दिलाने की बात की जा रही है।

लेखपाल के कार्यर्शली से परेशान होकर गांव के सतीश कुमार नाम के युवक ने कार में बैठे लेखपाल का रिश्वत लेते हुए वीडियो बनाकर वायरल कर दिया। सोशल मीडिया पर वीडियो वायरल होते ही सोरांव तहसील के लेखपालों के साथ तहसील कर्मियों में खलबली मच गई। मामले में  एसडीएम सोरांव अनिल कुमार चतुर्वेदी ने जांच कर कार्रवाई करने की बात कही है। 
... और पढ़ें

सीईटी कराए जाने का रास्ता साफ, एनआरए में हुई सचिव सह परीक्षा नियंत्रक की नियुक्ति

केंद्र सरकार की ओर से कर्मचारी चयन आयोग (एसएससी), रेलवे भर्ती बोर्ड एवं बैंकिंग क्षेत्र नौकरी में भर्ती के लिए संयुक्त पात्रता परीक्षा (सीईटी) कराने की तैयारी शुरू हो गई है। सरकार की ओर से भर्ती परीक्षा के आयोजन के लिए नेशनल रिक्रूटमेंट एजेंसी (एनआरए) के गठन के साथ इसके लिए सचिव सह परीक्षा नियंत्रक की नियुक्ति कर दी गई है। केंद्र सरकार की ओर से उड़ीसा कैडर के 1997 बैच के आईएएस संजीब कुमार मिश्र को एनआरए का सचिव एवं परीक्षा नियंत्रक  नियुक्त किया गया है।

नेशनल रिक्रूटमेंट एजेंसी (एनआरए) केंद्र सरकार के कार्मिक एवं प्रशिक्षण मंत्रालय के अधीन काम करेगा। एनआरए के गठन एवं उसके लिए सचिव सह परीक्षा नियंत्रक की नियुक्ति के बाद अब तय हो गया है कि जल्द ही एसएससी, रेलवे एवं बैंकिंग की भर्ती के लिए एक परीक्षा कराई जाएगी। एक परीक्षा कराए जाने से परीक्षार्थियों को पूरे वर्ष परीक्षा देने के लिए कई ऑनलाइन आवेदन के खर्च से निजात मिलेगी। एनआरए तीनों भर्ती एजेंसियों एसएससी, रेलवे एवं बैंकिंग के लिए पहले चरण की परीक्षा पूरी करने के बाद सफल अभ्यर्थियों की सूची विभागों को सौंप देगा। इसके बाद विभाग दूसरे चरण से आगे की परीक्षा कराएंगे। केंद्र सरकार ने सितंबर 2021 में पहली सीईटी कराने की घोषणा की थी परंतु अब कोरोना के चलते इसमें देरी हो सकती है।

सीईटी शुरू होने के बाद एसएससी को तीन बड़ी परीक्षाओं कंबाइंड ग्रेजुएट लेवल (सीजीएल), कंबाइंड हायर सेकेंडरी लेवल (सीएचएसएल) एवं मल्टी टॉस्किंग स्टॉफ  (एमटीएस) के पहले चरण की परीक्षा टियर-1 से मुक्ति मिलेगी। इससे लाखों परीक्षार्थियों को भी बार-बार एक स्तर की परीक्षा के लिए देश के एक कोने से दूसरे कोने तक यात्रा करने और खर्च से राहत मिलेगी। सीईटी पास कर लेने के बाद उन्हें पहले चरण के लिए तीन वर्ष तक अगले चरण की परीक्षा में शामिल होने के योग्य माना जाएगा। 

केंद्र सरकार की ओर से 2019 के बजट के समय एक भर्ती परीक्षा कराने की योजना के बारे में चर्चा की गई थी, इसके बाद दूसरी बार 2020 के बजट में भी इस बाबत वित्तमंत्री ने प्रस्ताव रखा था। एसएससी मध्य क्षेत्र के निदेशक राहुल सचान का कहना है कि केंद्र सरकार की ओर से तैयार ड्राफ्ट के अनुसार एसएससी, रेलवे भर्ती बोर्ड एवं बैंकिंग सेवा भर्ती के लिए ग्रेजुएट, हायर सेकेंडरी, मैट्रिक स्तर पर तीन अलग परीक्षाएं होंगी।
... और पढ़ें
Election
  • Downloads

Follow Us