विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
हनुमान जयंती पर नौकरी प्राप्ति, आर्थिक उन्नत्ति, राजनीतिक सफलता एवं शत्रुनाशक हनुमंत अनुष्ठान - 8 अप्रैल 2020
Astrology Services

हनुमान जयंती पर नौकरी प्राप्ति, आर्थिक उन्नत्ति, राजनीतिक सफलता एवं शत्रुनाशक हनुमंत अनुष्ठान - 8 अप्रैल 2020

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

From nearby cities

यूपी: प्रदेश में कोरोना से तीसरी मौत, गौतमबुद्धनगर में 30 अप्रैल तक धारा 144 लागू

उत्तर प्रदेश में कोरोना संक्रमितों की संख्या लगातार बढ़ती जा रही है। तब्लीगी जमात में शामिल हुए लोगों के कारण संक्रमण का आंकड़ा और भी तेजी से बढ़ा है।

5 अप्रैल 2020

विज्ञापन
विज्ञापन

अमेठी

रविवार, 5 अप्रैल 2020

लॉकडाउन अवधि में नहीं होगी वेतन कटौती

गौरीगंज (अमेठी)। लॉकडाउन अवधि में श्रमिकों को परेशानी से बचाने के लिए शासन के निर्देश पर श्रम विभाग ने कारखाना, व्यापारियों व औद्योगिक स्थान के स्वामियों के साथ नियोक्ता को पत्र जारी किया है। पत्र में श्रमिकों के वेतन में लॉकडाउन के दौरान कटौती नहीं करने के साथ तत्काल सभी का वेतन निर्गत करने का निर्देश दिया है।
दैनिक मजदूरों व श्रमिकों को आर्थिक परेशानी से बचाने के लिए लॉकडाउन की अवधि में उन्हें वेतन दिलाने की कोशिश श्रम विभाग ने शुरू कर दी है। शासन का निर्देश मिलने के बाद सहायक श्रमायुक्त डॉ. महेश कुमार पांडेय ने जिले के उद्योग व्यापार मंडल के प्रतिनिधियों, औद्योगिक स्थापना व कारखाना स्वामियों के साथ नियोक्ता को पत्र जारी किया है।
पत्र में श्रमिकों के वेतन में कटौती नहीं करने के साथ ही बंदी अवधि को उनका कार्य दिवस मानते हुए श्रमिकों का वेतन तत्काल निर्गत करने का निर्देश दिया गया है। इतना ही नहीं जो श्रमिक कार्य स्थल पर निवास करना चाहते हैं उन्हें सुरक्षित आवास के साथ भोजन आदि का प्रबंध करने को कहा गया है।
सहायक श्रमायुक्त ने लॉकडाउन की अवधि में सामाजिक दूरी और व्यक्तिगत स्वच्छता और सुरक्षा का ध्यान रखते हुए घर पर ही रहने व शासन-प्रशासन के निर्देशों का पालन करने को कहा है। श्रमिकों के वेतन में कटौती व वेतन निर्गत नहीं करने की दशा में नियमानुसार कार्रवाई की चेतावनी दी है।
... और पढ़ें

जरूरतमंदों की मदद में आगे आए संगठन

गौरीगंज (अमेठी)। लॉकडाउन के दौरान लोगों को भोजन की परेशानी से बचाने के लिए जिला प्रशासन के साथ कई संगठन आगे आए हैं। उनकी ओर से जरूरतमंदों को भोजन व राहत किट वितरित की जा रही है। इतना ही नहीं सक्रिय कार्यकर्ता लोगों से लॉकडाउन के नियमों का पालन करते हुए घरों पर रहने की अपील कर रहे हैं।
कोरोना वायरस संक्रमण को फैलने से रोकने के लिए घोषित लॉकडाउन अवधि में जरूरतमंदों की परेशानी को देखते हुए जिला प्रशासन के साथ संभ्रात नागरिक व विभिन्न संगठन सहायता करने में जुट गए हैं। संगठनों व लोगों की ओर से न सिर्फ जरूरतमंदों को लंच पैकेट के साथ राहत किट वितरित की जा रही है बल्कि उनसे लॉकडाउन अवधि में घरों पर रहने की अपील भी की जा रही है।
बुधवार को सांसद स्मृति ईरानी की ओर से मोदी किट के अलावा संसदीय क्षेत्र के मंदिरों पर रहने वाले पुजारी व दूसरे लोगों को फलाहार के साथ हवन व पूजन सामग्री उपलब्ध कराई गई।
जिला प्रशासन के साथ विधायक राकेश प्रताप सिंह, कांग्रेस जिलाध्यक्ष प्रदीप सिंघल, भाजपा नेता विजय किशोर तिवारी, उद्योग व्यापार मंडल प्रतिनिधि अजय अग्रवाल, सभासद सुनील द्विवेदी, समाजसेवी निखिल श्रीवास्तव और हैप्पी टू हेल्प फाउंडेशन ने बेसहारा बुजुर्ग, गरीब, निशक्त और पलायन करते हुए राहगीरों को लंच पैकेट, मास्क व सैनिटाइजर के साथ राहत किट बांटी।
इस दौरान लोगों से घर में रहकर कोरोना संक्रमण से खुद के साथ परिवार व समाज को सुरक्षित करने की अपील करते हुए हरसंभव मदद का आश्वासन देते हुए पलायन नहीं करने को कहा गया।
घर तक सब्जी पहुंचा रहे आनंद
मुसाफिरखाना। लॉकडाउन के दौरान लोगों को परेशनी नहीं उठानी पड़े इसके लिए ब्लॉक के प्रधान संघ अध्यक्ष आनंद विक्रम न केवल अपने गांव बल्कि आसपास के गांवों में प्रत्येक जरूरतमंद के घर सब्जियां पहुंचा रहे हैं। आनंद लोगों से अपने घरों में रहने और जरूरत पर उन्हें याद करने को कह रहे हैं।
बांटा गया साबुन, सैनिटाइजर व मास्क
संग्रामपुर। शुकुलपुर में बुधवार को ग्रामीणों के सहयोग से जरूरतमंदों को साबुन सैनिटाइजर व मास्क वितरित किया गया। ग्राम प्रधान प्रतिनिधि अरविंद मिश्र व कांग्रेस नेता विनोद मिश्र की मौजूदगी में इस सामग्री का वितरण एसएचओ राजीव सिंह ने किया। राजीव सिंह ने ग्रामीणों से घरों में रहकर लॉकडाउन को सफल बनाने की अपील की।
स्कूली बच्चों के लिए राहत किट
बाजार शुकुल। लॉकडाउन की वजह से क्षेत्र के भिटवा में संचालित आवासीय मदरसा में नेपाल, बिहार व झारखंड आदि के 67 बच्चे फंसे हुए हैं। मदरसा प्रधानाचार्य मो. असलम ने बताया कि मंगलवार को मदरसा आईं तहसीलदार पल्लवी सिंह ने बच्चों के खाने पीने की व्यवस्था के लिए राहत किट उपलब्ध कराया है।
मदद में उतरी सीआरपीएफ
भादर। त्रिुसंडी स्थित सीआरपीएफ रिक्रूट प्रशिक्षण केंद्र की ओर से 200 जरूरतमंदों को खाद्य सामग्री के साथ साबुन वितरित किया गया। इस दौरान कैंप के चिकित्सक डॉ. उमेश सिकरवार ने फीवर स्कैनिंग यंत्र के माध्यम से लोगों का परीक्षण भी किया। इस मौके पर डीआईजी आरबी सिंह, उप कमांडेंट राजेश कुमार सिंह समेत बड़ी संख्या में अफसर मौजूद रहे।
कांग्रेसियों ने बांटा फल
जामो। लॉकडाउन के दौरान पैदल अपने घरों की ओर जा रहे भूखे प्यासे लोगों को कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने मंगलवार शाम वारिसगंज चौराहे पर फल वितरित किया। इस मौके पर पीसीसी रविशंकर त्रिपाठी, महेश तिवारी और अवनीश मिश्र मौजूद रहे।
... और पढ़ें

जिला अस्पताल में बना 30 बेड आइसोलेशन वार्ड

गौरीगंज (अमेठी)। कोरोना वायरस के संक्रमण से बचाव की कोशिश में जुटा जिला प्रशासन तैयारियों को अंतिम रूप देने में जुटा है। आपदा की स्थिति से निपटने के लिए असैदापुर अस्पताल में 30 बेड का आइसोलेशन वार्ड तो तिलोई के 200 बेड का रेफरल अस्पताल में 40 बेड का क्वारंटीन सेंटर तैयार किया गया है। इतना ही नहीं पालीवार कर्मियों की ड्यूटी लगाते हुए बुधवार को डीएम ने औचक निरीक्षण कर आवश्यक दिशा-निर्देश दिया।
कोविड-19 कोरोना वायरस के संक्रमण से बचाव एवं रोकथाम के लिए लॉकडाउन के दौरान जिला प्रशासन आपदा की स्थिति से निपटने की तैयारी में जुटा है। आपदा की स्थिति में पीड़ितों को बेहतर इलाज मुहैया कराया जा सके इसके लिए शहर स्थित सीएचसी भवन में 30 बेड के आइसोलेशन वार्ड के साथ तिलोई के रस्तामऊ में निर्मित 200 बेड रेफरल अस्पताल में 40 बेड का क्वारंटीन सेंटर बनाया गया है। दोनों अस्पताल में चिकित्सक व पैरामेडिकल स्टाफ की ड्यूटी लगाने के साथ उनके रहने की व्यवस्था करते हुए नोडल अधिकारी तैनात किए गए हैं।
बुधवार को डीएम अरुण कुमार ने अस्पताल का निरीक्षण करते हुए तैयारी पूरी रखने के साथ ही आवश्यक दिशा निर्देश दिया। सीएमओ डॉ. राजेश मोहन श्रीवास्तव ने बताया कि क्वारंटीन सेंटर में कोरोना के संभावित लक्षण के पीड़ितों को भर्ती तो गौरीगंज अस्पताल में संक्रमित मरीज को भर्ती कर उपचार किया जाएगा। संक्रमित मरीज की हालात खराब होने पर एएलएस एंबुलेंस से पीजीआई रेफर किया जाएगा। सीएमओ ने बताया कि लॉकडाउन अवधि में कोरोना संक्रमण को रोकने के लिए चिकित्सक व पैरामेडिकल स्टाफ की पहले से स्वीकृत छुट्टी भी निरस्त कर दी गई है।
यह नामित हुए नोडल अफसर
सीएमओ ने बताया कि गौरीगंज अस्पताल में डॉ. मो अनीस को स्वास्थ्य कर्मियों का नोडल तो डॉ. राम प्रसाद को जनपद का नोडल नामित किया गया है। इसी तरह तिलोई के रस्तामऊ स्थित रेफर अस्पताल में डॉ. राजेंद्र प्रताप गिरि को नोडल अधिकारी नामित किया गया है।
रेफरल अस्पताल से अटैच हुए चिकित्सक
सीएमओ ने बताया कि अग्रिम आदेश तक अस्पताल तक सीएसची सिंहपुर में कार्यरत चिकित्सक डॉ. बाबर कादरी, डॉ. रईस अहमद व डॉ. संतोष कुमार गुप्ता 200 बेड रेफरल अस्पताल में मरीजों का स्वास्थ्य परीक्षण व उपचार में सहयोग करेंगे। सभी को तत्काल कार्यभार ग्रहण करने का निर्देश देते हुए निर्देशों की अवहेलना पर कार्रवाई की चेतावनी दी गई है।
... और पढ़ें

लॉकडाउन के उल्लंघन पर सख्त कार्रवाई का निर्देश

गौरीगंज (अमेठी)। लॉकडाउन के दौरान अनावश्यक रूप से घरों से बाहर निकल रहे लोगों को लेकर जिला व पुलिस प्रशासन ने सख्त रुख अख्तियार किया है। बैरियर पर तैनात पुलिस कर्मियों तथा थानाध्यक्षों को लॉकडाउन तोड़ने वालों पर सख्त कार्रवाई का निर्देश दिया गया है। डीएम व एसपी प्रतिदिन क्षेत्र में भ्रमणशील रहकर मॉनीटरिंग कर रहे हैं।
कोरोना वायरस के तेजी से बढ़ते प्रकोप को लेकर घोषित लॉकडाउन का पालन कराने को जिला व पुलिस प्रशासन सख्त हो गया है। प्रशासन की ओर से चलाए जा रहे जागरूकता कार्यक्रमों के बावजूद अनवाश्यक रूप से घरों से बाहर निकलने वालों की संख्या में लगातार हो रही वृद्धि पर डीएम अरुण कुमार व एसपी डॉ. ख्याति गर्ग ने कड़ा रुख अख्तियार किया है।
एसपी ने सभी सीओ तथा थानाध्यक्षों को लॉकडाउन का पूरी तरह से पालन कराने का निर्देश दिया है। कहा गया है कि अनावश्यक रूप से जो भी घरों व मोहल्लों से बाहर निकले उन्हें गिरफ्तार कर उनके खिलाफ तत्काल केस दर्ज किया जाए। बिना अनुमति के बाहर निकले वाहनों को सीज किया जाए।
अब तक जिले भर में लॉकडाउन तोड़ने पर करीब 70 से ज्यादा लोगों के खिलाफ केस दर्ज किया जा चुका है। डीएम व एसपी संयुक्त रूप से प्रतिदिन क्षेत्र में भ्रमणशील रहकर मॉनीटरिंग कर रहे हैं। इस दौरान बॉर्डर पर बनाए गए बैरियर तथा शहर व ग्रामीण क्षेत्र में ड्यूटी पर लगे पुलिस कर्मियों को सुरक्षित और सतर्क रहते हुए लॉकडाउन का कड़ाई के साथ पालन कराने का निर्देश दे रहे हैं।
... और पढ़ें

प्रसाधन के लिए निकली युवती से छेड़छाड़

जामो (अमेठी)। स्थानीय थाने के एक गांव में शुक्रवार देर शाम प्रसाधन के लिए निकली युवती से गांव का एक युवक छेड़छाड़ करने लगा। युवती की चीख-पुकार पर लोगों को आता देख युवक मौके से भाग निकला। पीड़िता की तहरीर पर जामो पुलिस ने केस दर्ज कर आरोपी को गिरफ्तार कर लिया।
जामो थाने एक गांव में शनिवार देर शाम प्रसाधन के लिए घर से बाहर निकली युवती से गांव निवासी पप्पू उर्फ आमीर छेड़छाड़ करने लगा। युवती की चीख-पुकार सुनकर ग्रामीणों को आता देख युवक मौके से भाग निकला। युवती ने पूरे मामले की जानकारी परिवारीजनों के साथ पुलिस को दी।
सूचना पर गांव पहुंची पुलिस ने आरोपी पप्पू उर्फ आमीर को गिरफ्तार कर पीड़िता की तहरीर पर केस दर्ज किया है। प्रभारी निरीक्षक रतन सिंह ने पीड़िता की तहरीर पर केस दर्ज करने की पुष्टि करते हुए बताया कि पकड़े गए नामजद आरोपी पप्पू का चिकित्सीय परीक्षण कराने के बाद शनिवार को उसका चालान कोर्ट भेज दिया गया है। प्रभारी निरीक्षक ने बताया कि पूरे मामले की जांच चल रही है।
... और पढ़ें

लॉकडाउन उल्लंघन पर आठ आरोपी गिरफ्तार

गौरीगंज/अमेठी। कोरोना वायरस संक्रमण रोकने के लिए घोषित लॉकडाउन के दौरान अनावश्यक घर से बाहर निकलकर टहलना शनिवार को आठ लोगों को भारी पड़ा। क्षेत्र भ्रमण पर निकले अमेठी सीओ पीयूषकांत राय ने समूह बनाकर टहल रहे बरियापुर निवासी स्वामी नाथ, हथकिला निवासी अशोक शुक्ल, सरवनपुर निवासी रामशिरोमणि तिवारी व रमेश तथा भरेथा निवासी रिंकू व अर्जुन को गिरफ्तार कर उनका चालान कोर्ट भेज दिया।
इसी तरह जायस थानाध्यक्ष भरत उपाध्याय ने पूरे राजा मजरे वादराय निवासी अशोक कुमार पाल को गिरफ्तार कर उनका चालान कोर्ट भेज दिया। जगदीशपुर थाना क्षेत्र के कादूनाला के पास झाड़-फूंक के नाम पर भीड़ एकत्र करने की सूचना पर पहुंची पुलिस ने थाना क्षेत्र के सरैया मजरे टांडा निवासी मोहम्मद अयाज को गिरफ्तार कर लिया।
पुलिस ने केस दर्ज करने के बाद आरोपी का चालान न्यायालय भेज दिया। एएसपी दयाराम सरोज ने बताया कि लॉकडाउन का उल्लंघन करने वालों पर कार्रवाई के लिए अभियान चलाया जा रहा है। नियमों का पालन नहीं करने वालों के खिलाफ कार्रवाई का निर्देश थाना प्रभारियों को दिया गया है।
क्वारंटीन सेंटर से भागने पर केस दर्ज
अमेठी। स्थानीय तहसील क्षेत्र के महराजपुर गांव निवासी प्रदीप कुमार फरीदाबाद में रहकर नौकरी करता था। प्रदीप घोषित लॉकडाउन के दौरान 30 मार्च को गांव पहुंचा था। गैर प्रांत व जिले से आने वाले को संभावित कोरोना वायरस कैरियर मानते हुए जिला प्रशासन क्वारंटीन कर रहा है। जिला प्रशासन के निर्देश पर प्रदीप को गांव स्थित जूनियर हाईस्कूल भवन में बनाए गए क्वारंटीन सेंटर में रखा गया था।
बृहस्पतिवार रात प्रदीप क्वारंटाइन सेंटर से छुपकर निकल अपने घर चला गया। शुक्रवार को ग्रामीणों ने मामले की शिकायत एसडीएम से की। शिकायत पर सक्रिय एसडीएम योगेंद्र सिंह के निर्देश पर लेखपाल राम सरन ने मामले की जांच करते हुए प्रदीप के खिलाफ कोतवाली में केस दर्ज कराया है। सीओ पीयूषकांत राय ने प्रदीप के खिलाफ केस दर्ज करने की पुष्टि की है।
... और पढ़ें

सुविधाओं से लैश जिले के 265 क्वारंटीन सेंटर

गौरीगंज (अमेठी)। कोरोना वायरस का संक्रमण रोकने के लिए जिला प्रशासन ने गैर प्रांत व जिलों से अपने घर आए हुए 2,999 लोगों को क्वारंटीन किया है। डीएम के निर्देश पर जिले में 265 क्वारंटीन सेंटर में रखे गए इन लोगों के स्वास्थ्य परीक्षण व भोजन आदि का प्रबंध करने के बाद निगरानी की जा रही है। क्वारंटीन सेंटर से लोग भाग नहीं सकें इसके लिए दोनों पालियों में उनकी उपस्थिति दर्ज करने के साथ गेट पर सुरक्षा कर्मियों की तैनाती की गई है।
लॉकडाउन अवधि में गैर प्रांत व जनपद से जिला पहुंचने वालों को संभावित कोरोना वायरस कैरियर मानते हुए जिला प्रशासन ने जिले में अस्थाई क्वारंटीन सेंटर का निर्माण करवाया था। जिले में 265 क्वारंटीन सेंटर में 2,999 ग्रामीणों को रखने के बाद जिला प्रशासन उनकी परेशानी दूर करने में जुटा है।
क्वारंटीन सेंटर में रखे गए लोगों को जिला प्रशासन नियमित भोजन मुहैया कराने के साथ उनका स्वास्थ्य परीक्षण कर निगरानी करने में जुटा है। क्वारंटीन सेंटर में लोगों को परेशानी नहीं हो इसके लिए अफसरों के साथ कर्मियों की तैनाती करते हुए प्रतिदिन रिपोर्ट तलब की जा रही है। इतना ही नहीं क्वारंटीन सेंटर से लोग घर भाग नहीं सकें इसके लिए प्रतिदिन दोनों पाली में उनकी उपस्थित दर्ज करने के साथ ही गेट पर फोर्स की तैनात की गई है।
एडीएम वंदिता श्रीवास्तव ने बताया कि क्वारंटीन सेंटर में लोगों को परेशानी नहीं हो इसके लिए उनकी सुविधा के अनुसार उन्हें उनकी ग्राम पंचायत के प्राथमिक स्कूल में शिफ्ट करने के साथ ही मूलभूत सुविधाएं पूरी की गई हैं। ग्रामीणों को क्वारंटीन अवधि पूरी होने तथा उनके कोरोना वायरस के लक्षण नहीं मिलने पर ही उन्हें घर जाने की अनुमति दी जाएगी।
... और पढ़ें

जरूरतमंदों की मदद को सड़क पर निकले मददगार

गौरीगंज (अमेठी)। कोरोना वायरस संक्रमण रोकने के लिए घोषित लॉकडाउन के दौरान जरूरतमंदों की मदद को हर वर्ग खुलकर सामने आ रहा है। शुक्रवार को जरूरतमंदों को राहत किट व लंच पैकेट के साथ बचाव के लिए मास्क व सैनिटाइजर वितरित किया गया। इस दौरान लोगों से घर में रहकर लॉकडाउन नियम का पालन करने की अपील के साथ ही हर संभव मदद का आश्वासन दिया जा रहा है।
लॉकडाउन अवधि में दिहाड़ी मजदूर के साथ ही गैर प्रांत से आकर यहां रहने वालों की मदद के लिए हर वर्ग के लोग सामने आ रहे हैं। जरूरतमंदों को परेशानी नहीं हो इसके लिए कांग्रेस जिलाध्यक्ष प्रदीप सिंघल जहां लोगों के घर-घर जाकर राहत किट व लंच पैकेट वितरित कर रहे हैं वहीं केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी की ओर से भेजी गई राहत किट को भाजपाई वितरित करने में जुटे हैं।
गौरीगंज विधायक राकेश प्रताप सिंह भी विधानसभा के गांवों को सैनिटाइज करवाने के साथ ही असहाय लोगों को लंच पैकेट मुहैया करा रहे हैं। शुक्रवार को उद्योग व्यापार मंडल अध्यक्ष अजय अग्रवाल, नितिन श्रीवास्तव, सभासद सुनील द्विवेदी, सतीश श्रीवास्तव, ओपी सिंह व अनुभव मिश्र ने भी जरूरतमंदों को लंच पैकेट वितरित किया। इस दौरान मदद में उतरे लोगों ने सभी से लॉकडाउन अवधि में घर में रहने की अपील करते हुए उन्हें हर संभव मदद का आश्वासन दिया।
जिला प्रशासन की ओर से सामुदायिक रसोई के माध्यम से अस्थाई रैन बेसरा में निवास कर रहे लोगों के साथ ही क्षेत्र में रह रहे जरूरतमंदों को भोजन का पैकेट वितरित किया जा रहा है। जिले में संचालित डायल 112 के 42 पीआरवी वाहन द्वारा लोगों की मांग पर गांव-गांव पहुंचकर राहत सामग्री किट मुहैया कराई जा रही है।
प्रधान प्रतिनिधि ने बांटी राहत सामग्री
अमेठी। अमेठी ब्लॉक की ग्राम पंचायत महमूदपुर के प्रधान प्रतिनिधि महेंद्र यादव उर्फ वीरू अपनी ओर से ग्राम पंचायत के जरूरतमंदों को राहत सामग्री पहुंचा रहे हैं। वीरू ने शुक्रवार को ग्राम पंचायत के बालीपुर, मैनापुर और गोपालपुर में बेसहारा परिवारों के घर जाकर राहत किट वितरित किया। बताया कि किट में आटा, चावल, दाल, सब्जी मसाला व तेल रखा गया है। कहा कि उनकी ओर से ग्राम पंचायत के सभी पुरवों में राहत किट का वितरण किया जाएगा। प्रधान प्रतिनिधि ने इस दौरान ग्रामीणों से अपने घरों में ही रहने की अपील भी की।
सीआरपीएफ ने जारी किया गया हेल्पलाइन नंबर
भादर। सीआरपीएफ ग्रुप केंद्र त्रिसुंडी ने भी जिले के साथ ही पड़ोसी जिला सुल्तानपुर व प्रतापगढ़ जिला प्रशासन के साथ मिलकर कोरोना महामारी में राहत एवं बचाव कार्यों में सहयोग करने का निर्णय लिया है। ग्रुप केंद्र के डीआईजी दलजीत सिंह लक्खा द्वारा ग्रुप केंद्र के आसपास स्थित गांवों में महामारी से बचाव के लिए सुरक्षा किट एवं भोजन सामग्री का वितरण कराया जा रहा है। डीआईजी ने दो पड़ोसी जिले में भी राहत एवं बचाव कार्य के लिए नोडल अधिकारी नियुक्त कर दिया है।
डीआईजी ने आम जनता की सुविधा के लिए हेल्पलाइन नंबर 7524899979 जारी करते हुए किसी भी नागरिक व परिवार की ओर से मदद के लिए संपर्क स्थापित करने की अपील की है। कहा कि गरीबों एवं मजदूरों को सैनिटाइजर, ग्लब्स, मास्क और भोजन दिया जा रहा है। बताया कि राहत एवं बचाव दल के साथ ही सीआरपीएफ के डॉक्टरों की तैनाती करते हुए आने जाने वाले लोगों की थर्मल स्क्रीनिंग भी की जा रही है।
... और पढ़ें

जिले में नहीं मिल रहा मास्क व सैनिटाइजर

गौरीगंज (अमेठी)। कोरोना संक्रमण रोकने की सर्वाधिक उपयुक्त सामग्री के रूप में प्रयुक्त होने वाला मास्क व सैनिटाइजर जिले में ढूंढे नहीं मिल रहा। एक तरफ जहां जिले के लोग मास्क व सैनिटाइजर नहीं मिलने तो कई बाजारों में इनके ज्यादा दाम पर बेचने की अफवाहों ने प्रशासन को परेशान कर रखा है।
कोरोना (कोविड-19) वायरस के संक्रमण को रोकने के लिए फैलाई जा रही जागरूकता में साबुन से हाथ धुलने के अलावा मास्क व सैनिटाइजर का प्रयोग करने की बात कही जाती है। देश के साथ प्रदेश के कई जिलों (अमेठी में अब तक कोई कोरोना पॉजिटिव नहीं) में लगातार बढ़ रहे संक्रमण के बीच जिले की बहुसंख्यक आबादी लोग मास्क व सैनिटाइजर के लिए परेशान है।
आलम यह है कि लोग लॉकडाउन को तोड़कर मेडिकल स्टोरों तक जा रहे हैं और मास्क व सैनिटाजर नहीं मिलने के बाद मायूस होकर वापस लौट रहे हैं। जिले के लोग जिले से मास्क व सैनिटाइजर नदारद होने से तो जिला प्रशासन मास्क व सैनिटाइजर नदारद रहने के अलावा इनके ज्यादा दाम पर बिकने की अफवाहों से परेशान है।
सामान्य स्थिति में मास्क जरूरी नहीं
चिकित्सक डॉ. राजीव सौरभ ने बताया कि सामान्य स्थिति में मास्क लगाने की जरूरत नहीं है। अस्पताल जाने व ऐसे किसी स्थल जाने की स्थिति में ही मास्क लगाएं जहां भीड़ ज्यादा हो। सामान्य स्थिति में मास्क लगाने से सांस लेने में परेशानी हो सकती है। जरूरी है कि आपस में उचित दूरी बनाए रखें। घरों से बाहर नहीं निकलें। साफ-सफाई का विशेष ख्याल रखते हुए साबुन से प्रति एक घंटे के अंतराल पर हाथ जरूर धोएं।
... और पढ़ें

लॉकडाउन उल्लंघन पर सख्त हुई पुलिस

गौरीगंज (अमेठी)। लॉकडाउन तोड़ने वालों के खिलाफ पुलिस 66 लोगों के खिलाफ न सिर्फ केस दर्ज कर चुकी है बल्कि 61 लोगों को गिरफ्तार कर उनका चालान भी न्यायालय भेज चुकी है। कोरोना वायरस का संक्रमण रोकने के लिए केंद्र सरकार ने 24 मार्च की रात 12 बजे से 21 दिन का लॉकडाउन घोषित किया है।
एसपी डॉ. ख्याति गर्ग ने जिले में 42 बैरियर सक्रिय करते हुए यहां तैनात कर्मियों तथा सभी थानों की पुलिस को लॉकडाउन का कड़ाई से पालन कराने के निर्देश दिए। पुलिस विभाग के आंकड़ों के अनुसार आठ दिनों में लॉकडाउन का उल्लंघन करने के कुल 12 केस (आरोपियों की संख्या 66) दर्ज हुए। इनमें से 61 को गिरफ्तार कर उनका चालान भी न्यायालय भेजा गया।
इस दौरान आवश्यक वस्तु अधिनियम का भी एक केस दर्ज हुआ जिसमें दो को गिरफ्तार कर चालान भेजा गया। एसपी डॉ. ख्याति गर्ग ने बताया कि लॉकडाउन के शुरुआती आठ दिनों में 3,345 वाहन चेक किए गए। विभिन्न कमियां मिलने पर 439 वाहनों का चालान किया गया और 1.74 लाख रुपये का शमन शुल्क भी वसूला गया। वहीं आवश्यक दस्तावेज न होने पर 41 वाहनों को सीज कर दिया गया।
... और पढ़ें

नियमों की अवहेलना पर मेडिकल स्टोर सील

गौरीगंज (अमेठी)। दवा बिक्री की बिलिंग नहीं करने के साथ औषधि बिक्री अनुबंध नियमों का पालन नहीं करना मेडिकल स्टोर संचालक को भारी पड़ा। अधिक मूल्य पर मास्क बिक्री की शिकायत पर औषधि निरीक्षक ने छापा मारा तो दुकान पर मास्क का स्टॉक नहीं मिला लेकिन औषधि नियमों का उल्लंघन होने का मामला प्रकाश में आया। औषधि निरीक्षक ने अग्रिम आदेश तक दुकान सील करते हुए जवाब देने का निर्देश दिया है।
जगदीशपुर कस्बा स्थित इजहार मेडिकल स्टोर पर निर्धारित मूल्य से अधिक पर मास्क व सैनिटाइजर बिक्री की शिकायत पर औषधि निरीक्षक दीपक शर्मा ने गुरुवार शाम छापामारी की। इस दौरान दुकान पर मास्क व सैनिटाइजर का स्टॉक शून्य मिला। लेकिन संचालक की ओर से बिक्री की दवाओं की बिलिंग, दस्तावेजी गड़बड़ी व औषधि बिक्री अनुबंध पत्र की कई शर्तों का उल्लंघन करने का मामला प्रकाश में आया।
मेडिकल स्टोर से अनुबंध नियमों की अवहेलना से नाराज औषधि निरीक्षक ने अग्रिम आदेश तक बिक्री को प्रतिबंधित करते हुए दुकान सील कर संचालक को जवाब देने का निर्देश दिया है। औषधि निरीक्षक ने बताया कि संचालक का जवाब मिलने के बाद नियमानुसार कार्रवाई की जाएगी।
औषधि निरीक्षक ने सभी मेडिकल स्टोर संचालकों से लॉकडाउन अवधि में लोगों की सहूलियत को देखते हुए दवाओं का पर्याप्त स्टॉक रखने तथा अनुबंध के नियमों के अनुसार संचालन करने का अनुरोध किया है। कहा कि जो गड़बड़ी करेगा उसके खिलाफ कार्रवाई की जाएगी।
... और पढ़ें

लॉकडाउन अवधि में चेक पोस्ट पर बढ़ी सख्ती

गौरीगंज (अमेठी)। लॉकडाउन नियमों के उल्लंघन पर जिला प्रशासन अब सख्त रुख अख्तियार करने लगा है। बुधवार को अनावश्यक घूमने वाले लोगों को पुलिस कर्मियों ने फटकार लगाते हुए दोबारा घर से निकलने पर कार्रवाई की चेतावनी देते हुए लौटा दिया।
लॉकडाउन अवधि में बिना कार्य लगातार घर से बाहर टहल रहे लोगों को देख व कोरोना वायरस संक्रमण फैलने के अंदेशे से परेशान जिला प्रशासन सख्त रुख अख्तियार करने लगा है। लगातार साउंड सिस्टम के साथ व्यक्तिगत अपील के बावजूद अनावश्यक बाइक व कार से बाहर निकल रहे लोगों से परेशान डीएम अरुण कुमार व एसपी डॉ. ख्याति गर्ग के निर्देश पर बुधवार को चेक पोस्ट पर कार्यरत पुलिस कर्मियों के साथ भ्रमण शील टीम सख्ती पर उतर आई।
टीम ने अनावश्यक घूम रहे लोगों को रोक कर उन्हें लॉकडाउन नियमों की जानकारी देते हुए खुद के साथ परिवार व समाज को कोरोना वायरस के संक्रमण से बचाने के लिए घर में रहने में रहने की नसीहत देते हुए उनके नाम, पता व मोबाइल नंबर अंकित कर फटकार लगाते हुए बैरंग लौटा दिया। कर्मियों ने दोबारा अनावश्यक घूमने पर केस दर्ज कर वैधानिक कार्रवाई करने की चेतावनी दी।
एडीएम वंदिता श्रीवास्तव ने बताया कि गांवों में आवश्यक वस्तुओं की आपूर्ति की जा रही है। बावजूद इसके लोग अनावश्यक रूप से बहार निकल रहे हैं। ऐसे लोगों को चिह्नित करने के साथ उनके खिलाफ कार्रवाई की जाएगी।
... और पढ़ें

लॉकडाउन में जरूरतमंदों की मदद में जुटे संगठन

गौरीगंज (अमेठी)। जिले भर में अलग-अलग लोग व संगठन लॉकडाउन अवधि में अस्थाई रैन बसेरे में रखे गए लोगों के साथ जरूरतमंदों की मदद में जुटे हैं। ये लोग प्रतिदिन जरूरतमंदों को भोजन व राहत किट वितरित करने के साथ ही पब्लिक से लॉकडाउन नियमों का पालन करने की अपील कर रहे हैं।
लॉकडाउन अवधि में जिला प्रशासन के साथ संभ्रांत नागरिक व विभिन्न संगठन जरूरतमंद लोगों की सहायता करने में जुट गए हैं। जिला प्रशासन सामुदायिक रसोई के माध्यम से लंच पैकेट तैयार कराकर अस्थाई रैन बसेरों में क्वारंटीन किए गए गैर प्रांतों से आए लोगों के साथ ही अन्य लोगों को वितरित करा रहा है। कांग्रेस जिलाध्यक्ष प्रदीप सिंघल गांवों में राहत किट बंटवा रहे हैं तो केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी की ओर से भेजे गए किट का वितरण करने में भाजपा कार्यकर्ता जुटे हुए हैं।
गौरीगंज विधायक राकेश प्रताप सिंह क्षेत्र को सैनिटाइज कराने के साथ लंच पैकेट व मास्क तो विभिन्न संगठन व संभ्रांत लोग जरूरतमंदों को लंच पैकेट के साथ राहत किट वितरित करा रहे हैं। वितरण के दौरान लोगों से घर में रहकर कोरोना संक्रमण से खुद के साथ परिवार व समाज को सुरक्षित करने की अपील की जा रही है।
... और पढ़ें
अपने शहर की सभी खबर पढ़ने के लिए amarujala.com पर जाएं

Disclaimer


हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर और व्यक्तिगत अनुभव प्रदान कर सकें और लक्षित विज्ञापन पेश कर सकें। अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।
Agree
Election
  • Downloads

Follow Us