विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
नवरात्र में कराएं कामाख्या बगलामुखी कवच का पाठ व हवन, पाएं कर्ज मुक्ति एवं शत्रुओं से छुटकारा
Astrology Services

नवरात्र में कराएं कामाख्या बगलामुखी कवच का पाठ व हवन, पाएं कर्ज मुक्ति एवं शत्रुओं से छुटकारा

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

From nearby cities

Coronavirus in UP Live Updates: संक्रमितों की संख्या 100 से ज्यादा, दौरे स्थगित कर लखनऊ रवाना हुए मुख्यमंत्री योगी

देश भर में कोरोना वायरस के बढ़ते प्रकोप के बीच उत्तर प्रदेश के कुछ क्षेत्रों से अच्छी और कहीं से बुरी खबरें आ रही हैं। मंगलवार सुबह बरेली में पांच नए मरीज मिले हैं जिनके बाद सूबे में संक्रमितों की संख्या बढ़कर 102 हो गई है।

31 मार्च 2020

विज्ञापन
विज्ञापन

अमरोहा

मंगलवार, 31 मार्च 2020

महंगा रसोई गैस सिलेंडर बेचने पर फटकार, कार्रवाई को चेताया

अमरोहा। रसोई गैस सिलिंडर का अधिक कीमत वसूलने का मामला सामने आया है। नौगांवा सादात के बांसखेड़ी गांव में डिलीवरी मैन/ड्राइवर ने अधिक रुपये मांगा। इसको लेकर गांववालों से तू-तू मैं-मैं हुई। गांववालों ने शिकायत की चेतावनी दी। बावजूद इसके अधिक 850 रुपये वसूला। एसडीएम और डीएसओ को फोन किया, लेकिन अफसरों का फोन नहीं उठा। इसको लेकर गांववालों में नाराजगी है।
रविवार की दोपहर लगभग 2:30 बजे एक गैस एजेंसी का डिलीवरी मैन/ड्राइवर सिलिंडर लेकर गए। उसने गांव में सिलिंडर के बदले 850 रुपये की मांग की। गांववालों ने अधिक रुपये देने से इनकार किया। इसके बाद वह सिलिंडर लेकर जाने लगा। गांव के शहाबुद्दीन, तालिब, आजम, फजलू ने बताया कि छोटा हाथी में रसोई गैस लेकर आया। हम लोगों ने सिलिंडर के बदले में रुपये पूछे तो उसने बताया कि 850 रुपये। हम लोगों ने अधिक रुपये नहीं देने को कहे तो वह जाने लगा। कोई उपाय नहीं सूझने पर रुपये देना पड़ा।
... और पढ़ें

हमें भी लगी है भूख, हमारा पेट भी है खाली

गजरौला (अमरोहा)। लॉकडाउन के चलते बाजार बंद हैं। लोग घरों में कैद हैं। अन्न के एक-एक दाने को लेकर लाखों चेहरों पर चिंता की गाढ़ी लकीरें उभरी हुई हैं। ऐसे में सरकारें और समाजसेवी उन्हें भोजन बांटने का काम भी बखूबी कर रहे हैं लेकिन सबसे अधिक परेशानी निरीह पशु-पक्षियों के सामने है। मानो कह रहे हों- हमें भी भूख लगी है। हमारा पेट भी खाली है।
लॉकडाउन का असर देश की अर्थव्यवस्था के साथ ही रोजगार पर भी पड़ा है। सरकारें काफी प्रयास कर रही हैं। लोगों को भोजन के पैकेट और पानी की बोतलें आदि मुहैया कराई जा रही हैं लेकिन बाजार बंद होने, आवाजाही ठप होने और लोगों के घरों से बाहर नहीं निकलने के कारण सड़क पर घूमने वाले कुत्तों, बंदरों, गोवंशीय पशुओं और आसमान में विचरण कर धरती से आस लगाने वाले कबूतर, चिड़िया, तोते आदि पक्षियों के पेट खाली हैं। इनकी देखभाल के प्रति प्रशासन अथवा कोई समाजसेवी जरा भी गंभीर नहीं है। यही वजह है कि इन्हें अन्न का एक दाना तक नहीं मिल रहा है। ये निरीह पशु-पक्षी भी कोरोना वारियर्स की ओर टकटकी लगाए हुए हैं। शायद किसी का ध्यान उनकी ओर भी पड़ जाए।
जनपद के अधिकारियों को निर्देशित किया गया है कि सड़क पर घूमने वाले कुत्तों, बंदरों एवं गोवशीय पशुओं को कोई दिक्कत न आने पाए। यदि ये भूखे होंगे तो बच्चों एवं लोगों पर हमले करेंगे। इसलिए इनके लिए भी भोजन आदि की पर्याप्त व्यवस्था कराई जाए।
- उमेश मिश्र, डीएम
... और पढ़ें

विधायक ने पीएम रसोई का उदघाटन किया

मंडी धनौरा (अमरोहा)। कोरोना वायरस की वजह से लागू लाकडाउन के दौरान गरीब निराश्रित लोगों को भोजन उपलब्ध कराने के लिए भाजपा विधायक राजीव तरारा ने पार्टी नेतृत्व के निर्देश पर पीएम रसोई योजना का उद्घाटन किया। उन्होंने स्वयं चार घंटे तक अपने हाथों से पूरियां भी तली। नगर के रामजानकी मंदिर में शुरू की गई पीएम रसोई से रोजाना 500 पैकेट गरीब व दिव्यांग लोगों को वितरित किए जाएंगे। उन्होंने पार्टी कार्यकर्ताओं से अपील की कि वे अपने क्षेत्र के गरीब, दिवयांग, मजदूर व घूमंतु परिवार के लोगों के भोजन की व्यवस्था करें। उन्होंने कोरोना वायरस से बचाव के लिए लाकडाउन का सख्ती सेे पालन करने की अपील भी की। इस मौके पर शरद गर्ग, गौरव अग्रवाल, अक्षय अग्रवाल, पारस सिंहल, प्रदीप सिंहल, कुसुम गोयल, राहुल चौहान, रवि, सुनील प्रजापति आदि मौजूद थे। ... और पढ़ें

लॉकडाउन धड़ाम, बाजारों में चहलपहल

अमरोहा। केंद्र सरकार की सख्ती के बाद भी अमरोहा में लॉकडाउन धड़ाम हो गया है। बाजारों में चहल-पहल रही। दुकानों पर भीड़ लगी रही। लोग बैंकों के बाहर भीड़ लगाकर खड़े दिखाई दिए। मारामारी की स्थित बनी रही। लोगों में न तो कोरोना की दहशत है, न लॉकडाउन तोड़ने का डर। कई स्थानों में पुलिस-पीएसी ने लॉकडाउन तोड़ने वालों पर लाठी भांजकर खदेड़ा। बावजूद इसके सड़कों पर लोग घूमते दिखाई दिए।
देश में कोरोना वायरस के संक्रमण का प्रकोप लगातार बढ़ता जा रहा है। बीमार और मरने वालों का आंकड़ा बढ़ने लगा है। कुछ लोग लॉकडाउन के चलते बेवजह घर के बाहर निकलकर सड़कों पर घूम रहे हैं। सोमवार को शहर के मुख्य बाजार में सामान्य दिनों की तरह हालात रहे। मोहल्ला कोट, बड़ा बाजार, मंडी चौब में बुरा आलम रहा। सड़कों पर फलों के ठेले लगे हैं। खरीदारों को लोग उमड़ रहे हैं। केंद्र सरकार ने लोगों को सरकारी इमदाद देने की घोषण क्या कर दी। लोग सड़कों पर उतर आए हैं। मोहल्ला बड़ा बाजार स्थित इलाहाबाद बैंक और लकड़ा चौराहा स्थित बैंकों पर पुरुष और महिलाओं की भीड़ लगी रही। चारों तरफ मारामारी जैसे हालात बने रहे। कई जगह लॉकडाउन तोड़ने वालों पर पुलिस ने लाठियां भांजीं। बावजूद इसके लोगों पर कोई असर नहीं है। एडीएम गुलाब चंद ने बताया कि गैर जनपदों सेे आवश्यक सेवाएं जारी रखा जाएगी। इसके अलावा किसी को आने-जाने की अनुमति नहीं हैं।
... और पढ़ें

सिंगापुर से लौटे युवक का सैंपल भेजा

अमरोहा। जिले से एक और कोरोना आशंकित मरीज का सैंपल जांच के लिए अलीगढ़ भेजा गया है। कोरोना आशंकित मरीज 22 मार्च को सिंगापुर से लौटा है। वह शिप में खानसामा है। फिलहाल डाक्टरों की निगरानी में उसे जिला अस्पताल के आइसोलेशन वार्ड में भर्ती किया गया है। इससे पहले जिले से पांच आशंकित मरीजों को सैंपल भेजा जा चुका है। सभी की रिपोर्ट निगेटिव आई है।
जिले का एक युवक पानी के जहाज में खानसामा है। वह 22 मार्च को अपने गांव लौटा है। युवक आस्ट्रेलिया से सिंगापुर आया था। जहां से वह दिल्ली पहुंचा। सोमवार को उसे बुखार खांसी की शिकायत हुई तो वह खुद जिला अस्पताल पहुंच गया। जहां केस हिस्ट्री और खांसी बुखार को देखते हुए डाक्टरों ने उसे आइसोलेशन वार्ड में भर्ती कर दिया। बाद में सर्विलांस टीम ने युवक का सैंपल लिया। जिसे जांच के लिए अलीगढ़ भेज दिया गया। मंगलवार को युवक की रिपोर्ट आएगी। इस युवक से पहले पांच आशंकितों का सैंपल लिया गया था। जांच में सभी निगेटिव पाए गए।
... और पढ़ें

बैंकों में पेंशन की आस में चक्कर काट रहे दैनिक मजदूर

अमरोहा। भरण पोषण के लिए एक-एक हजार रुपये मिलने की आस में दैनिक मजदूरों और उनके परिवारों ने बैंकों के चक्कर काटने शुरू कर दिए हैं। सोमवार को प्रथमा बैंक समेत अन्य बैंक शाखाओं में भीड़ देखने को मिली। कैश काउंटर पर पहुंचने में घंटों लग गए। कर्मचारी ने अकाउंट नंबर से रुपये नहीं होने के बारे में जानकारी दी। इसके बाद बैंक ग्राहक लौट गए।
कोरोना वायरस से बचाने के लिए लॉकडाउन जारी है। सबसे अधिक असर दिहाड़ी मजदूरों पर है। भरण पोषण मुश्किल हो गया है। सीएम योगी आदित्यनाथ ने दिहाड़ी मजदूरों को एक-एक हजार रुपये देने का एलान किया था, लेकिन इसके लिए दिहाड़ी मजदूरों को श्रम विभाग में पंजीयन जरूरी होना है। साथ ही नगरीय क्षेत्र के मजदूरों को नगरीय निकायों में ठेला, रिक्शा और वेंडर के तौर पर रजिस्ट्रेशन अनिवार्य है। हालांकि इस बीच में अपंजीकृत श्रमिकों को भी उम्मीद जग गई है उन्हें भी हजार हजार रुपये मिलेंगे। इसके तहत श्रम विभाग और निकायों के जरिये रुपये भेजने की कार्रवाई शुरू हो गई है। सोमवार को आजाद रोड स्थित प्रथमा बैंक में कई खाताधारक आ गए। उन्होंने कतार में खड़े होकर इंतजार किया। कैश काउंटर पर पहुंचने के बाद रुपये के बारे में जानकारी ली।0
... और पढ़ें

फसल काटने की छूट, बीज-खाद भी मिलेगा भरपूर

अमरोहा। बेमौसम बारिश और ओलावृष्टि से फसल बर्बादी की मार झेल रहे किसानों को सरकार ने बड़ी राहत दी है। किसानों को फसल काटने की छूट दी गई है। साथ ही अगली फसलों की बुवाई के लिए खाद-बीज भी भरपूर मात्रा में देने का दावा किया है। सरकार ने लॉकडाउन के चलते कुछ शर्तों रखी हैं, जो कोरोना वायरस को मात देने के लिए जरूरी है। साथ ही खाद-बीज बेचने वालों दुकानदारों को भी दुकान खोलने की छूट दी है। साथ ही कालाबाजारी पर रोक लगाने के लिए अधिकारी कर्मचारियों को नजर रखने के निर्देश दिए हैं। खाद-बीज खरीदते समय किसानों के हाथ साबुन से धुलवाने या सैनिटाइज कराने के निर्देश दिए हैं। जिससे कोरोना संक्रमण न फैल सके।
शासन के निर्देश पर डीएम ने किसानों के खेतों पर आवाजाही के साथ खाद-बीज की दुकानों को खोलने के लिए कुछ शर्तों के साथ मंजूरी दी है। कृषि उत्पादन और खाद सामग्री के अलावा उनके क्रेता और विक्रेता आवश्यक सेवा के तहत आते हैं। फिलहाल रबी की फसल खेतों में पकने के साथ कटने की कगार पर है। गन्ने की बुवाई होनी है। जिसके लिए सरकार ने खाद-बीज और कीटनाशक केंद्रों को खोलने और किसानों को खरीदरी की मंजूरी दी है। साथ ही डीएम ने सभी एसडीएम को खाद-बीज और कीटनाशकों की जमाखोरी कालाबाजारी और अवैध बिक्री पर रोक लगाने के निर्देश दिए हैं। इसके अलावा सामान खरीदने या बेचने से पहले लोगों के हाथ साबुन से धोने और सैनिटाइज कराने को कहा है। जिससे कोरोना संक्रमिण को फैलने से रोका जा सके। इसके अलावा केंद्रों पर भीड़ जमा नहीं करने की नसीहत दी है।
... और पढ़ें

आस्ट्रेलिया से आएं युवक को जिला अस्पताल में भर्ती कराया

मंडी धनौरा (अमरोहा)। तीन दिन पहले आस्ट्रेलिया से आए गांव कंजरबसेड़ा निवासी एक युवक ने ग्रामीणों की शिकायत पर स्वास्थ्य विभाग की टीम ने जिला अस्पताल स्थित आइसोलेशन वार्ड में भर्ती कराया है। वहीं, दूसरी ओर राजस्थान से फंदेड़ी गांव आए एक युवक की भी थर्मल स्क्रीनिंग की है। श्रीलंका से एक युवक के आने की सूचना पर भी मुहल्ले में हड़कंप मच गया। उसके श्रीलंका से 25 दिन पहले आने की जानकारी मिलने पर उसकी जांच नहीं की गई।
कंजरबसेड़ा गांव का एक युवक सिडनी में नौकरी करता है। वह तीन दिन पहले ही गांव आया था। गांव वालों ने इसकी सूचना पुलिस और स्वास्थ्य विभाग को दी। चिकित्साधीक्षक डॉ. अमोल ने बताया कि युवक को जिला अस्पताल स्थित आइसोलेशन वार्ड में रखा गया है। उसका सैंपल जांच के लिए भेजा गया है। राजस्थान से आए फंदेडी गांव के युवक की भी जांच की गई। जांच में कोई लक्षण नहीं पाए गए। सोमवार को नगर के मुहल्ला हीरानगर में एक युवक के श्रीलंका से पहुंचने की जानकारी मिलते ही हड़कंप मच गया। लोगों ने पुलिस और स्वास्थ्य विभाग को सूचना दी। बताया गया कि वह 28 दिन पहले ही श्रीलंका से कोलकाता आ गया था। वहां उसकी जांच हुई थी। अधीक्षक ने बताया कि विदेश से आए काफी दिन होने की वजह से उसकी जांच की कोई जरूरत नहीं है। फिर भी उनको घर पर ही एकांत में रहने की सलाह दी गई है।
... और पढ़ें

सोशल डिस्टेंस बनाने को कहा तो भड़का ग्राहक, मारपीट

अमरोहा। कोरोना वायरस को लेकर सोशल डिस्टेंस बनाने की बात करने पर ग्राहक भड़क गया। बाद में उसने साथियों के साथ मिलकर दुकान पर चढ़ाई कर दी। नौकरों के साथ जमकर मारपीट लहूलुहान कर दिया। सूचना मिलते ही पुलिस मौके पर पहुुंच गई। घायलों को अस्पताल में भर्ती कराया है। पीड़ित दुकानदार ने तहरीर दे दी है।
नगर के मोहल्ला दुर्गा कालॉनी निवासी रोहित अग्रवाल सुबोध नगर में जोया ओवरब्रिज के नीचे किराना की दुकान करते हैं। लॉकडाउन में सुबह से दोपहर बारह बजे में किरानों की दुकान खोलने की अनुमति हैं। लिहाजा रोहित अपने दो नौकरों के साथ दुकान पर थे। दुकान पर भीड़ लगी थी। तभी एक ग्राहक वहां गया और भीड़ में घुस गया। दुकानदार ने सोशल डिस्टेंस बनाने की बात कही तो ग्राहक भड़क गया। इसके बाद वह घर गया और अन्य साथियों को लेकर दुकान पर पहुंच गया। यहां सामान फेंकना शुरू कर दिया। बचाव में आए अभिषेक और विवेक साथ मारपीट कर लहूलुहान कर दिया। सूचना मिलते ही पुलिस मौके पर पहुंच गई। घायलों को अस्पताल में भर्ती कराया। पीड़ित दुकानदार ने तहरीर देकर कार्रवाई की मांग की है।
... और पढ़ें

विधायक ने पीएम रसोई का किया शुभारंभ

हसनपुर (अमरोहा)। विधायक महेंद्र सिंह खड़गवंशी ने अपने आवास पर पीएम रसोई का शुभारंभ किया। गरीब लोगों को खाना वितरित कराया गया। शहर और आसपास के कई गांवों में जाकर गरीब व जरूरतमंदों को भोजन के पैकेट दिए। रसोई में विधायक ने स्वयं खाना बनाया। यहां भाजपा जिला महामंत्री अभिनव कौशिक, अजयपाल, विक्रम महंत रहे। उधर, एसडीएम ने समाज सेवी संगठनों की मदद से शहर में जरूरतमंदों को भोजन बंटवाया। भाकियू के ब्लॉक अध्यक्ष काले सिंह ने अपने गांव रजोहा से आपदा पीड़ितों को राशन वितरित कराने में मदद कराई। इसके अलावा नगर में श्रीराम सेवा समिति, व्यापारी सुरक्षा फोरम गरीब लोगों को भोजन वितरित कराने में प्रशासन की सहायता में लगी हैं। ... और पढ़ें

दुश्वारियों के सफर पर लगाम, हाईवे पर थमी भीड़

अमरोहा। लॉकडाउन के छठवें दिन हाईवे पर दुश्वारियों के सफर लगाम लग गई। सोमवार को हाईवे पर दिल्ली से निकली भीड़ थम सी गई है। अब हाईवे पर इक्का दुक्का वाहन ही दिख रहे हैं। बसों का संचालन बंद है। एकाध ही रिक्शे, साइकिल और ठेले वाले दिख रहे हैं। रविवार तक हाईवे पर दिल्ली से निकले लोगों की भीड़ थी।
21 दिन के लॉकडाउन के बाद रफ्तार पर लगाम लग गई। दिल्ली में फंसे मजदूर लॉकडाउन को तोड़कर सड़कों पर निकल आए। वाहन नहीं मिलने पर मजदूर पैदल ही अपने घरों के लिए निकल पड़े। इसके बाद हाईवे पर दुश्वारियों का सफर शुरू हो गया। पैदल, रिक्शा, ठेला, साइकिल से अपने घरों को जाने वालों की हुजूम टूट पड़ा। मजबूरी में प्रदेश सरकार को बसें चलानी पड़ी, लेकिन अब इस दुश्वारियों के सफर पर विराम लग गया। बसों का संचालन रोक दिया गया। रविवार रात दिल्ली से निकले इक्का-दुक्का लोग ही हाईवे पर सोमवार को नजर आई रहे। जोया, अतरासी, रजबपुर, गजरौला में हाईवे पर सन्नाटा पसरा रहा।
... और पढ़ें

सड़कों, बैंकों में रेलमपेल, सोशल डिस्टेंस हो रहा फेल

गजरौला (अमरोहा)। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के देशव्यापारी लॉकडाउन एवं सोशल डिस्टेंसिंग रखने की अपील औद्योगिक नगरी में फ्लाप हो रही है। लोग बहानेबाजी कर न केवल सड़कों पर घूम रहे हैं बल्कि एक-दूसरे से सटकर भी चल रहे हैं। मंडी समिति में सुबह के समय दोनों की ही धज्जियां उड़ाई जा रही हैं। वहीं, पुलिस केवल वाहनों के चालान और उन्हें सीज करने में ही लगी हुई है।
सोमवार को भी नगर में लॉकडाउन और सोशल डिस्टेंस रखने की अपील का कोई खास प्रभाव नजर नहीं आया। इंदिरा चौक पर भी अपराह्न एक बजे तक मानो मेला सा लगा रहता है। टोकने पर उनका जवाब होता है कि दवा लेकर आ रहे हैं अथवा दवा लेने जा रहे हैं। कई लोग तो ऐसे भी हैं जो कि लग्जरी कारों में पानी की दो-चार पेटी लेकर घूम रहे हैं और पुलिस को देख उनके आगे यह कहकर बोतलें बढ़ा देते हैं कि समाजसेवा कर रहे हैं। चर्चा तो यहां तक भी है कि इनमें कुछ शराब तस्कर भी हैं जो कि अपना काम भी सीधा कर रहे हैं। वहीं बैंकों के बाहर ग्राहकों की भीड़ लगी हुई है। वहां भी सोशल डिस्टेंस का उल्लंघन हो रहा है। बस्ती स्थित मंडी समिति में तो हालात काफी खराब रहते हैं। सुबह के समय यहां सैकड़ों लोग एक साथ बगैर मास्क लगाए आपाधापी के बीच सब्जियां खरीदने और बेचने आते हैं। वहीं, पुलिस केवल वाहनों का चालान और उन्हें सीज करने में लगी है। इसे लेकर पुलिसकर्मियों की लोगों से नोकझोंक तक हो रही है।
... और पढ़ें

घर पहुंचने को लेकर अमरोहा में भी आपाधापी

अमरोहा। इटली और अमेरिका के बाद भारत में भी कोरोना वायरस का प्रकोप बढ़ता जा रहा है। गैर प्रांतों से लोग वापस अपने घर लौट रहे हैं। लौटने को लेकर चारों और अफरातफरी का माहौल है। दिल्ली एनसीआर में लॉकडाउन धड़ाम हो गया है। अमरोहा में भी आपाधापी की स्थिति दिखाई दी। पुलिस ने जबरन बसों को रोककर लोगों को बैठाया। जिसके लेकर पुलिस और रोडवेज चालकों के बीच नोकझोंक हुई। ऐसे में कोन कोरोना वायरस से ग्रस्त है। कुछ कहा नहीं जा सकता। इसके लिए जिला प्रशासन सतर्क हो गया है। गैर प्रांतों से आने वाले लोगों को पुलिस और प्रशासन ने नजरबंद कर लिया है। शहर में घुुसने से पहले सभी की स्क्रीनिंग कराई जा रही है। वहीं पुलिस ने सख्ती दिखाई। शहर में लॉकडाउन तोड़ने वालों को डांट फटकार कर खदेड़ दिया।
21 दिवसीय लॉक डान के पांचवें दिन अव्यवस्थाएं हावी दिखाई दी हैं। गैर प्रांतों से गरीज-मजदूर पेशा लोगों का लौटने का सिलसिला जारी है। दिल्ली एनसीआर में लॉकडाउन धड़ाम हो गया है। लोग भूखे-प्यासे अपने घर पहुंचने के लिए जद्दोजहद कर रहे हैं। यूपी हरियाणा सरकार ने लोगों को उनके घर छोड़ने के लिए बस का संचालन शुरू कर दिया है। ऐसे में कुल लोग दूध के टैंकर, रिक्शा, ठेले पर बैठक गंतव्य के निकल पड़े हैं। रविवार को नेशनल हाईवे पर जोया में आपाधापी की स्थिति दिखाई दी है। सैकड़ों की तादात में लोग जोया पहुंच गए। उन्हें मुरादाबाद, बरेली, बदायूं समेत अन्य जिलों में पहुंचना था। डिडौली इंस्पेक्टर और जोया चौकी इंचार्ज शेर सिंह थापा फोर्स के साथ हाईवे पर उतरे। यहां उन्होंने रोडवेज बसों को रोककर पांच से छह सवारियों को बैठाया। इसके बाद वह गंतव्य को रवाना हुए। जोया चौराहे पर काफी देर तक आपाधापी की स्थिति रही। चालक बस रोकने को तैयार नहीं थे। जिसके लेकर पुलिस और चालक परिचालक के बीच जमकर नोकझोंक हुई। हालांकि पुलिस की सूझबूझ के चलते लोग अपनी मंजिल की ओर जा सके। वहीं, गैर प्रांतों से अमरोहा पहुंचने वालों को प्रशासन ने नजरबंद कर लिया है। शहर में घुसने से पहले उनकी स्क्रीनिंग कराई जा रही है। इस दौरान शहर कस्बों में लॉकडाउन तोड़ने वालों को खदेड़ कर भगा दिया।
अमरोहा दिल्ली एनसीआर की तरफ से कुछ इस तरह लोग दूध के टैंकर पर बैठक पहुंचे।
अमरोहा दिल्ली एनसीआर की तरफ से कुछ इस तरह लोग दूध के टैंकर पर बैठक पहुंचे।- फोटो : JPNAGAR
अमरोहा जोया में सब में सवार होकर गंतव्य की ओर जाने के लिए खड़े लोग।
अमरोहा जोया में सब में सवार होकर गंतव्य की ओर जाने के लिए खड़े लोग।- फोटो : JPNAGAR
... और पढ़ें
अपने शहर की सभी खबर पढ़ने के लिए amarujala.com पर जाएं

Disclaimer


हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर और व्यक्तिगत अनुभव प्रदान कर सकें और लक्षित विज्ञापन पेश कर सकें। अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।
Agree
Election
  • Downloads

Follow Us