विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
ढाई साल बाद शनि बदलेंगे अपनी राशि , कुदृष्टि से बचने के लिए शनि शिंगणापुर मंदिर में कराएं तेल अभिषेक : 14-दिसंबर-2019
Astrology Services

ढाई साल बाद शनि बदलेंगे अपनी राशि , कुदृष्टि से बचने के लिए शनि शिंगणापुर मंदिर में कराएं तेल अभिषेक : 14-दिसंबर-2019

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

From nearby cities

IPS बनी गोरखपुर की बेटी एमन, सीएम योगी ने मुस्लिम लड़कियों के लिए बताया रोल मॉडल

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने शहर की एमन जमाल का भारतीय पुलिस सेवा (आईपीएस) में चयन होने पर शुभकामनाएं दीं।

10 दिसंबर 2019

विज्ञापन
विज्ञापन

आजमगढ़

मंगलवार, 10 दिसंबर 2019

रेल टिकट का फर्जीवाड़ा करने वाला गिरफ्तार

आजमगढ़। रेलवे की वेबसाइट हैक कर फर्जी तरीके से ई टिकट निकालकर विभाग को चुना लगाने वाले तरवां बाजार के दुकानदार को आरपीएफ की पुलिस ने शनिवार को गिरफ्तार कर लिया। तलाशी के दौरान 19800 रुपये, कंप्यूटर, एटीएम कार्ड, बैंक पासबुक आदि बरामद हुआ। पुलिस ने रविवार को गिरफ्तार आरोपी का चालान कर दिया।
आरपीएफ प्रभारी मिर्जा राशिद बेग के मुताबिक गिरफ्तार आरोपी नवरत्न प्रजापति पुत्र पतिराम प्रजापति है। वह तरवां थाने के बरहता विजयपुर गांव का निवासी है। वह तरवां बाजार में कंप्यूटर सेंटर चलाता है। शनिवार को मुखबिर के जरिए सूचना मिलने पर पुलिस नवरत्न प्रजापति के दुकान पर छापा मारा। इस दौरान दुकान से यूज दो टिकट कीमत 3949 रुपया, अनयूज्ड 6 ई टिकट कीमत 6 121 रुपया, दो पर्सनल आईडी पर बने हुए टिकट बरामद हुए। इसके अलावा इलाहाबाद बैंक के खाते से चार माह और और स्टेट बैंक का तीन माह का बैंक विवरण प्राप्त करने पर पता चला कि कुल 63 ईटिकटों का कीमत 74166 का निकासी हुआ है। पुलिस दुकान से एक मॉनिटर, एक सीपीयू, एक प्रिंटर, नगद 19800 रुपया, दो एटीएम कार्ड, दो पासबुक, एक चेक बुक, तीन रजिस्टर बरामद की। आरपीएफ प्रभारी ने बताया कि नवरत्न प्रजापति के खिलाफ केस दर्ज कर रविवार को उसका चालान कर दिया गया।
... और पढ़ें

गन्ना क्रय केंद्र न चालू होने पर भड़के किसान, किया प्रदर्शन

सगड़ी। तहसील क्षेत्र के मालटारी गांव में गन्ना क्रय केंद्र की स्थापना की गई है। यहां गन्ना तौल के लिए कांटा आदि स्थापित हो चुका है लेकिन अब तक खरीद नहीं शुरू हुई है। वहीं किसानों को गन्ना पर्ची भी अब तक नहीं उपलब्ध करायी गई है। जिससे आक्रोशित किसानों ने रविवार को क्रय केंद्र पर प्रदर्शन किया।
मालटारी में स्थापित किया गया गन्ना क्रय केंद्र अब तक चालू नहीं हुआ है, जबकि किसान अपने गन्ने की फसल की बिक्री को लेकर लगतार यहां का चक्कर लगा रहे है। कई दिनों भटकने से आक्रोशित गन्ना किसानों ने रविवार को केंद्र पर प्रदर्शन कर अपनी नाराजगी जतायी और जल्द क्रय केंद्र न शुरू होने पर वृहद आंदोलन की चेतावनी दिया। किसानों का कहना है कि वे मिल में गन्ना देने और गन्ना पर्ची के लिए भटक रहे है। न तो उनके गन्ने की खरीद ही की जा रही है न ही उन्हें गन्ना पर्ची ही उपलब्ध करायी जा रही है। क्रय केंद्र पर प्रदर्शन करने वाले गन्ना किसानों में रामनरायन सिंह, बृजेश शर्मा, रामपलट, प्रदीप, संदीप, गोबरी, मुकेश, प्रमोद पिंटू आदि शामिल रहे।
... और पढ़ें

खइके पान बनारस वाला पर गूंजी तालियां

निजामाबाद। ठंड के इस मौसम में भी हजारों की भीड़ रात साढ़े आठ बजे तक अपने प्रिय अभिनेता एवं गायक रवि किशन का इंतजार करती रही। मंच पर पहुंचते ही उन्होंने हाथ जोड़ कर भोजपूरी में दर्शकों का अभिवादन किया। कहा कि सीधे सिंगापुर से डीएम एनपी सिंह के विशेष आग्रह पर यहां पहुंचा हूं। माता-पिता की सेवा सर्वोपरि धन है उनकी सेवा कीजिए। मेरे पिता आईसीयू में हैं, लेकिन आपके प्यार ने यहां खींच लाया है।
इसके बाद रवि किशन ने रंग बरसे भीगे चुनर वाली रंग बरसे..., खइके पान बनारस वाला..., दिल दिया है जान भी देंगे ऐ वतन तेरे लिए..., ओढ़निया वाली जान मारे ली..., पियरवा सरसो फूलल बा पियरी ओढ़निया... में सुनाकर मन मोह लिया। उन्होंने बेटी-पढ़ाओ बेटी बचाओ पर विशेष जोर दिया। कहा कि सरकार इसके लिए काम कर रही है आप साथ दीजिए। महोत्सव देख कहा कि गोरखपुर में भी ऐसा महोत्सव आयोजित होगा। संस्कृति को बढ़ावा दिया जाएगा। गोरखपुर में नृत्य स्कूल भी खोला जाएगा। अपने बारे में कहा कि माता-पिता चाहते थे वो अधिकारी बनें। लेकिन वो रामलीला में सीता बनते थे। उनके अंदर कला बचपन में थी। रवि किशन के सुनने के लिए हजारों लोग ठंड में जमे रहे। डीएम ने मोमेंटो और शाल देकर स्वागत किया।
निजामाबाद में आयोजित तहसील महोत्सव में पहुंचे अभिनेता रवि किशन।
निजामाबाद में आयोजित तहसील महोत्सव में पहुंचे अभिनेता रवि किशन।- फोटो : AZAMGARH
निजामाबाद में आयोजित तहसील महोत्सव में पहुंचे अभिनेता रवि किशन।
निजामाबाद में आयोजित तहसील महोत्सव में पहुंचे अभिनेता रवि किशन।- फोटो : AZAMGARH
... और पढ़ें

योजनाओं को लगा रहे पलीता, छह ईओ को कारण बताओं नोटिस जारी

आजमगढ़। विभिन्न योजनाओं में शासन की ओर धनराशि जारी होने के चार से पाच माह बाद भी कार्य शुरू न होने पर डीएम ने सख्ती अपनायी है। इसमें ईओ माहुल दिनेश चंद्र आर्या, जीयनपुर/अजमतगढ़ अखिलेश चंद्र यादव, निजामाबाद प्रहलाद पांडेय, मेंहनगर विनय कुमार मिश्रा को कारण बताओ नोटिस जारी किया है। लापरवाही और कार्य में रूचि न लेने पर स्पष्टीकरण मांगा गया है। स्पष्टीकरण संतोषजनक न होने पर अनुशासनिक कार्रवाई की चेतावनी दी गई है।
डीएम के निर्देश के बाद भी नगर निकायों में शासन की योजना का क्रियान्यवय सही ढंग से नहीं हो पा रहा है। इसे लेकर उन्होंने सख्त नाराजगी जताते हुए छह नगर पंचायतों के ईओ को कारण बताओ नोटिस जारी किया है। नगर पंचायत माहुल में कान्हा गोशाला के लिए धनराशि मिलने के आठ माह बाद भी निर्माण के लिए भू मि तक तलाश नहीं कर पाए हैं। पंडित दीनदयाल आदर्श नगर पंचायत योजना के तहत भी शासन से गत वर्ष डेढ़ करोड़ की धनराशि मिली थी। इसमें अभी तक क्या कार्य हुआ है इसकी कोई जानकारी नहीं है। एसबीएम शहरी के तहत 18.88 लाख मिलने के बाद भी एक भी शौचालय और यूरीनल का निर्माण पूर्ण नहीं है। डंपिंग ग्राउंड के लिए अभी तक भूमि नहीं खोजी जा सकी है। ताकि एआरएफ का निर्माण कराया जा सके। कर वसूली में माह के लक्ष्य 1.58 लाख में .08 लाख की वसूली हुई है। इस पर डीएम ने घोर नाराजगी जताई है। नगर पंचायत जीयनपुर में शौचालय और यूरीनल के साथ ही डंपिंग ग्राउंड की स्थित यही है। 3.09 लाख के सापेक्ष .89 लाख की वसूली की गई है। नगर पंचायत अजमगढ़ में बी शौचालय और यूरीनल की स्थिति यही है। डंपिंग ग्राउंड के लिए भूमि उपलब्ध कराने के बाद भी एमआरएफ की स्थापना में रुचि नहीं ली जा रही है। निजामाबाद में शौचालय और यूरीनल अधूरे होने के साथ ही वसूली कम है। यही स्थिति मेंहनगर की भी है। डीएम एनपी सिंह की ओ से सभी ईओ को संतोषजनक जवाब न मिलने पर अनुशासनिक कार्रवाई की चेतावनी दी गई है।
... और पढ़ें

ग्रामीण कला से रूबरू कराते बूढ़नपुर महोत्सव का हुआ आगाज

शहअतरौलिया/बूढ़नपुर। ग्राम स्तर पर मृत प्राय हो चुकी कलाओं को पुर्नजीवित करने के उद्देश्य से आयोजित होने वाले तहसील महोत्सव के क्रम में सोमवार को बूढ़नपुर तहसील महोत्सव का रंगारंग आगाज हुआ। जिसका शुभारंभ शहीद भगवती सिंह की पत्नी ललिता देवी ने फीता काटकर और दीप प्रज्जवलित कर किया।
इसके बाद प्राथमिक विद्यालय पिपरी के छात्राओं द्वारा वंदना गीत, किसान बालिका इंटर कालेज बूढ़नपुर की छात्राओं द्वारा स्वागत गीत की प्रस्तुति की गयी। डीएम ने शहीद की पत्नी ललिता देवी और अन्य शहीद परिवार के लोगों को शाल और तुलसी की पौधा देकर सम्मानित किया। डीएम ने कहा कि यह महोत्सव जनता का है। जनता के लिए जनता के द्वारा यह महोत्सव आयोजित है। आज हमें अपनी सांस्कृतिक विरासतों को संजोकर रखने की जरूरत है। जिससे हमारी आने वाली पीढ़ी उसे जाने। इस तरह के कार्यक्रम आयोजित कराते रहने की आवश्यकता है। डीएम ने विश्राम सिंह मैदान अतरौलिया में आयोजित वालीबाल और खो-खो टीम के प्रत्येक सदस्यों से परिचय प्राप्त कर वालीबाल तथा खो-खो प्रतियोगिता का शुभारंभ किया। वालीबाल में बल्लू बेल पब्लिक स्कूल अतरौलिया, पटेल मेमोरियल इंटर कालेज और खो-खो में पूर्व माध्यमिक विद्यालय पासीपुर बूढ़नपुर तथा पूर्व माध्यमिक विद्यालय रामपुरखास अतरौलिया के बीच खेला गया। इसके बाद डीएम ने स्वंय सेवा महिलाओं द्वारा लगाए गए स्टाल में सिलाई.कढ़ाई, मनरेगा का कार्य पर सीआईवी निर्माण, बाल विकास पुष्टाहार विभाग,ट्रैफिक पुलिस के स्टाल और जीजीआईसी अतरौलिया की छात्राओं के हस्त शिल्प प्रदर्शनी का जिलाधिकारी ने निरीक्षण किया।
जनप्रतिनिधियों ने निभाई महोत्सव में भागीदारी
अतरौलिया। बुढनपुर तहसील महोत्सव में अधिकारियों के साथ साथ क्षेत्रीय नेताओं तथा जनता की भी भागीदारी रही। कार्यक्रम में सुरक्षा व्यवस्था के लिए एसपी ग्रामीण नरेंद्र प्रताप सिंह के निर्देशन में क्षेत्राधिकारी शीतला प्रसाद पांडेय, इंस्पेक्टर अतरौलिया हेमेंद्र प्रताप सिंह पूरी पुलिस फोर्स के साथ डटे हुए थे। कार्यक्रम को सफल बनाने के लिए एसडीएम बूढनपुर दिनेश चंद्र मिश्र, नगर पंचायत अध्यक्ष सुभाष चंद्र जायसवाल, अधिशासी अधिकारी अंजली वर्मा, जीजीआईसी प्रधानाचार्य रश्मि प्रिया सिंह जी जान से लगे हुए थे। इस मौके पर भाजपा के पूर्व जिलाध्यक्ष जयनाथ सिंह, क्षेत्रीय संयोजक पंचायत प्रकोष्ठ रमाकांत मिश्र, प्रमोद सिंह, जितेंद्र सिंह गुड्डू, महाराजगंज नगर पंचायत अध्यक्ष सीताराम कांदू आदि उपस्थित थे।
प्राथमिक विद्यालय की कजरी में पिपरी रहा प्रथम
बूढ़नपुर। महोत्सव में आयोजित कजरी प्रतियोगिता में प्राथमिक विद्यालय पिपरी कोयलसा प्रथम, जूनियर बालिका वर्ग कजरी में उच्चतर प्राथमिक विद्यालय भटौली प्रथम, सामूहिक गायन में उद्योग विद्यालय इंटर कॉलेज ने प्रथम स्थान हासिल किया। प्रथम स्थान हासिल करने वाले छात्रों को एसडीएम दिनेश मिश्रा ने पुरस्कृत किया।
लालगंज महोत्सव में संस्कृतिक कार्यक्रम प्रस्तुत करते कलाकार।
लालगंज महोत्सव में संस्कृतिक कार्यक्रम प्रस्तुत करते कलाकार।- फोटो : AZAMGARH
बुढ़नपुर महोत्सव का शुभारंभ करती अमर शहीद की पत्नी ललिता देवी और डीएम एनपी सिंह।
बुढ़नपुर महोत्सव का शुभारंभ करती अमर शहीद की पत्नी ललिता देवी और डीएम एनपी सिंह।- फोटो : AZAMGARH
... और पढ़ें

एक साल पूर्व चोरी हुई बेशकीमती मूर्तियां बरामद

अतरौलिया/बलरामपुर। प्रसिद्ध कलेश्वर धाम से करीब एक साल पूर्व चोरी गई बेशकीमती मूर्तियों सोमवार को मंदिर से करीब सौ मीटर दूर खेत में रखे गए धान के पुआल में दबी मिली। वहां खेल रहे गांव के बच्चों ने मूर्तियां देखीं। घटना की सूचना मिलने पर पुलिस पहुंची और मूर्तियों को मंदिर में रखवाने की बात कही। लेकिन पुजारी ने मूर्तियों को लेने से इंकार कर दिया। उनका कहना है कि सुरक्षा होने के बाद ही मूर्तियों को लूंगा, अन्यथा इनकी वजह से अपनी जान नहीं गवाऊंगा। बहरहाल पुलिस प्रतिमाओं को लेकर थाने चली गई।
अतरौलिया थाना क्षेत्र में का कालेश्वर धाम कैली प्रसिद्ध पौराणिक स्थल है। यहां के मंदिर में बेशकीमती मूर्तियां राम, सीता, लक्ष्मण और हनुमान जी की रखी हुई थी। 24 अक्तूबर 2018 की रात गर्भगृह से हनुमान और सीता की मूर्तियां चोरी हो गई। घटना के संबंध में मंदिर के पुजारी कांता दास ने थाने में तहरीर दी तो पुलिस ने केस दर्ज करने से ही इंकार कर दिया। रिपोर्ट लिखाने के लिए काफी मशक्कत करनी पड़ी। हालांकि पुलिस ने मामले को ठंडे बस्ते में डाल दिया था। सोमवार की शाम गांव के कुछ बच्चे मंदिर के पास खेल रहे थे। इस दौरान पुआल के नीचे दबी दोनों मूर्तियां देखीं। चोरी की कीमती मूर्तियां मिलने की सूचना पर पुलिस पहुंची और मूर्तियों को मंदिर में रखवाने लगी, लेकिन पुजारी ने मूर्तियों को लेने से इंकार कर दिया। प्रभारी निरीक्षक अतरौलिया हिमेंद्र सिंह ने बताया कि दोनों प्रतिमाएं पुलिस के पास मौजूद हैं। उच्चाधिकारियों को घटनाक्रम से अवगत करा दिया गया है। आदेश मिलने पर उसका पालन किया जाएगा।
... और पढ़ें

पाक नागरिकों की करोड़ों की संपत्ति हुई सरकारी

आजमगढ़। देश के बंटवारा के बाद जनपद के भी तमाम लोग देश छोड़कर पाकिस्तान चले गए। वहां की नागरिकता लेकर पाक के नागरिक बन गए। यहां रहने वाले इनके पड़ोसी आदि ने अभिलेखों में हेराफेरी कर उनकी करोड़ों की जमीन को हड़प लिया, जो नियमत: सरकारी (शत्रु संपत्ति) होनी चाहिए। इसी तरह से जुड़े एक मामले में 23 अक्तूबर को डीएम नागेंद्र प्रसाद सिंह ने फैसला देते हुए बिलरियागंज थाना क्षेत्र के छीही गांव में मौजूद पाक नागरिकों की करोड़ों रुपये की जमीन (1.8360 हेक्टेयर) को राज्य सरकार की संपत्ति घोषित कर दिया है। डीएम के निर्देश पर गांव में पहुंची पुलिस ने आरोपियों को खेत में बोए गए धान के फसल को न काटने की चेतावनी दी है।
बिलरियागंज थाना क्षेत्र के छीही गांव निवासी जुबैर अहमद पुत्र सुल्तान ने मुख्य राजस्व अधिकारी कोर्ट में वाद दाखिल किया था कि छीहीं गांव निवासी सरीफ, नसीम और कलीम 1947-48 में पाकिस्तान चले गए। लोग वहीं की नागरिकता लेकर बस गए हैं। गांव या देश में अब इनके परिवार का कोई सदस्य नहीं मौजूद है। ऐसे में इन तीनों के पड़ोसी छीही गांव निवासी सेराज, मेराज, मेनाज के पिता सफीक अहमद ने 15 अक्तूबर 1979 को राजस्वकर्मियों की मिलीभगत से पाकिस्तान जाने वाले तीनों लोगों की करोड़ों रुपये की जमीन अपने नाम करा लिया। आरोप लगाया कि सफीक अहमद पुत्र मो. नईम काफी चालाक, फितरती और जालसाज किस्म के व्यक्ति थे।
कमिश्नर प्रकरण को डीएम की कोर्ट में स्थानांतरित किया था। डीएम एनपी सिंह ने प्रकरण में सुनवाई के दौरान विद्वान अधिवक्ताओं की दलीलों को सुनने और साक्ष्यों पर गौर करने के बाद अपना फैसला सुनाया है। तीनों पाक नागरिकों की करोड़ो रुपये मूल्य की जमीन को राज्य सरकार की संपत्ति ( कस्टोडियन) घोषित करने का फैसला दिया है। डीएम के आदेश के बाद आदेश की राजस्व अभिलेखों में अमल दरामद भी कर दी गई है। तहसीलदार सगड़ी ने उक्त जमीन में बोई गई फसल को काटने पर रोक लगा दी है। फसल न काटने और न बोने की चेतावनी दी है। आशीष तिवारी
... और पढ़ें

बेरोक-टोक हो रहा मेहमान पक्षियों का शिकार

लाटघाट। ठंड का मौसम आते ही अजमतगढ़ विकास खंड स्थित ताल सलोना मेहमान पक्षियों के कलरव से गुलजार हो जाता है। इनके आगमन के साथ ही शिकारी भी सक्रिय हो जाता है। जो इनका शिकार कर शौकीनों को मनमाने दामों पर बेचते हैं।
जीयनपुर थाना क्षेत्र के अजमतगढ़ स्थित ताल सलोना में आए हुए साइबेरियन पक्षियों का शिकार जोरों पर है। ताल सलोना अजमतगढ़ में पक्षियों का आगमन हो रहा है। हजारों किमी दूर से चलकर यह पक्षी ताल सलोना पहुंचते हैं। जहां इन्हें पेट भरने के लिए भोजन और सुरक्षा की तलाश रहती है। इनकी प्रजनन क्रिया भी इसी ताल में होती है। मांस खाने के शौकीन लोग इनका मांस बहुत ही चाव से खाते हैं। शिकारी बंदूक, जाल, फंदे, जहरीली दवा से इनका शिकार करते हैं। पका चावल, आंटा की गोली, पुरैन के पत्ते पर रखते हैं और इनका शिकार करते हैं। वर्तमान में पक्षियों का आगमन शुरू होते ही शिकारी सक्रिय हो गए हैं। इनके द्वाराप पक्षियों का शिकार किया जा रहा है। शिकार के बाद मांस खाने के शौकीनों को इस मनमाने दामों में बेंचा जा रहा है। इसको रोकने की जिम्मेदारी वन विभाग की है लेकिन वन विभाग की टीम का कहीं पता नहीं है। जिसका फायदा शिकारियों द्वारा उठाया जा रहा है। उनके द्वारा इन पक्षियों को 1200 से लेकर 1800 रुपये जोड़ा की दर से बिक्री की जा रही है। जीयनपुर के फारेस्टर रामप्यारे सिंह पटेल ने बताया कि अभी साइबेरियन पक्षी नहीं आए हैं। हम लोग नजर लगाए हुए हैं कि इनका शिकार ना हो।
... और पढ़ें

सुको की टिप्पणी के बाद भी बीजेपी थपथपा रही अपनी पीठ: लल्लू

आजमगढ़। लगातार हो रही हत्या, लूट, मासूम बच्चियों और महिलाओं के साथ हो रहे दुष्कर्म के विरोध में जिला कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष प्रवीण कुमार सिंह के नेतृत्व में सोमवार को सुखदेव पहलवान स्टेडियम से आक्रोश मार्च निकाला गया। मार्च नगर के विभिन्न मार्गों से होते हुए कलेक्ट्रेट पहुंचकर धरने में तब्दील हो गया। धरने के बाद राज्यपाल को संबोधित छह सूत्रीय ज्ञापन डीएम को सौंपा गया।
उत्तर प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष अजय कुमार लल्लू ने कहा कि उत्तर प्रदेश में जंगल राज कायम है। बहन-बेटियां सुरक्षित नहीं है। सर्वोच्च न्यायालय की टिप्पणी के बावजूद भी बीजेपी सरकार और उसके नेता अपनी पीठ थपथपा रहे हैं। बहन-बेटियों को बलात्कार के आरोपी जिंदा जला दे रहे हैं। फिर भी मुख्यमंत्री अपनी पीठ थपथपा रहे हैं। विपक्ष जब भी आवाज उठाता तो उस पर लाठीचार्ज करवाकर उसके आंदोलन को कुचलने का असफल प्रयास करता है। कांग्रेस पार्टी इस लड़ाई को सदन तक जारी रखेगी। उत्तर प्रदेश कांग्रेस कमेटी के महासचिव विश्वविजय सिंह और सचिव शाहनवाज आलम ने कहा कि उत्तर प्रदेश की भाजपा सरकार सभी मोर्चे पर फेल है। प्रदेश की कानून व्यवस्था समाप्त हो गई है। महिलाओं के विरुद्ध अत्याचार बढ़ता ही जा रहा है। इसके विरोध कांग्रेस का संघर्ष जारी रहेगा। जिलाध्यक्ष प्रवीण कुमार सिंह ने कहा कि एक ही परिवार के तीन लोगों की हत्या, छह वर्ष की बच्ची के साथ बलात्कार, बैंक मित्र की हत्या सहित तमाम आपराधिक घटनाएं लगातार बढ़ी हैं। मिहिलाओं के खिलाफ बढ़ रहे अत्याचार के खिलाफ कांग्रेस की राष्ट्रीय अध्यक्ष सोनिया गांधी ने सोमवार को अपना जन्मदिन नहीं मनाया। आक्रोश मार्च में लालसा राय, आशुतोष द्विवेदी, चंद्रपाल सिंह यादव, मुन्नू यादव, महिश चंद्र श्रीवास्तव, सुरेंद्र सिंह, ओंकार पांडेय, रामअवध यादव, पूर्णमासी प्रजापति, दिनेश यादव, रविकांत त्रिपाठी, शीला भारती, निर्मला भारती, पुनीत राय, जगदंबिका चतुर्वेदी सहित अनेक कांग्रेसजन शामिल रहे।
... और पढ़ें

बलात्कारियों पर लगेगा गुंडा एक्ट, होगी गिरफ्तार

आजमगढ़। महिलाओं के प्रति बढ़ते अपराध पर अंकुश लगाने की योजना के तहत पुलिस उन सभी बलात्कार के आरोपियों पर गुंडा एक्ट लगाएगी। जिनकी संलिप्तता रही है। इनकी वजह से गांव या क्षेत्र में भय और दहशत का माहौल है। थानों में दर्ज हुए चार साल के आंकड़ों पर गौर करें तो अब तक कुल 1601 केस दर्र्ज है।
हाल के दिनों में जिले में हुई घटनाओं पर गौर करें तो छह अक्तूबर की रात मेहनाजपुर थाने के एक गांव में एक प्रेमी ने अपनी प्रेमिका से मिलने के लिए उसके मां की हत्या कर दी।, बाद में प्रेमिका को भी मार डाला। अकेले मुबारकपुर थाना क्षेत्र में बलात्कार की ताबड़तोड़ दो बड़ी घटनाएं हुई। दुष्कर्म के बाद पांच साल की मासूम की गला घोंटकर हत्या कर दिया। इसी थाना क्षेत्र में दुष्कर्म के लिए आरोपी ने महिला, उसके पति और चार माह के बच्चे की हत्या कर दी। हैदराबाद और उन्नाव में हुई घटना के बाद महिला सुरक्षा के प्रति और कड़ा कदम उठाने पर पुलिस को मजबूर कर दिया। ऐसे में पुलिस ने 2015 से अब तक दर्ज हुए बलात्कार के कुल 1601 मामलों का रिकार्ड जुटाया है। अभिलेखों के आधार पर यह पता लगाया जा रहा कि दर्ज केस की क्या सच्चाई है। बलात्कार की सही घटनाएं और आरोपियों का रिकार्ड खंगाल रही। सूची बनने के बाद आरोपियों के खिलाफ गुंडा एक्ट के तहत कार्रवाई कर उन्हें गिरफ्तार किया जाएगा। इस बारे में एसपी त्रिवेणी सिंह ने बताया कि वर्ष 2015 से अब तक बलात्कार के दर्ज मुकदमों की जांच की जा रही है कि कौन सी घटना वास्तव में सच है। इसकी छंटनी करवाई जा रही। जिनकी संलिप्तता है, उनके खिलाफ गुंडा एक्ट लगाकर गिरफ्तारी की जाएगी। सजा दिलाने के लिए मुकदमे की नियमित पैरवी कराई जाएगी।
... और पढ़ें

अनुपस्थित एक्सईएन, परियोजना प्रबन्धक से स्पष्टीकरण मांगा

आजमगढ़। मंडल के तीनों जनपद में 50 लाख और उससे अधिक लागत की निर्माणाधीन परियोजनाओं की समीक्षा से अनुपस्थित रहने पर आवास विकास परिषद गाजीपुर के एक्सईएन, उप्र राजकीय निर्माण निगम वाराणसी इकाई के परियोजना प्रबंधक और सीएंडडीएस के परियोजना प्रबंधक से स्पष्टीकरण मांगा गया है। साथ ही उप्र राजकीय निर्माण निगम के परियोजना प्रबंधक के लगातार अनुपस्थित रहने पर कार्रवाई की संस्तुति शासन को भेजने का निर्देश कमिश्नर कनक त्रिपाठी ने दिया है।
सोमवार को मंडलायुक्त ने समीक्षा बैठक में ग्रामीण अभियंत्रण विभाग और एनएचएआई के कार्यों की सूचना उपलब्ध नहीं कराने पर असंतोष जताया। आवास विकास परिषद बलिया द्वारा थाना गड़वार में निर्माणाधीन प्रशासनिक भवन और हुसैनाबाद में क्षेत्रीय पंचायतीराज प्रशिक्षण संस्थान के तहत जमुड़ी में सीएंडडीएस द्वारा बनाए जा रहे राजकीय इंटर कालेज की भौतिक प्रगति और गुणवत्ता की जांच के लिए प्राविधिक परीक्षक ग्राम्य विकास (टीएसी) और एक्सईएम लोनिवि की टीम बनाकर एक सप्ताह में जांच आख्या मांगी है। आजमगढ़ में वर्ष 1999 से सीएंडडीएस के स्तर पर डॉ. आंबेडकर पुस्तकालय के अधूरे पड़े निर्माण के लिए दोषी तत्कालीन एई, जेई आदि का उत्तरदायित्व निर्धारित कर आख्या मांगी गई।
पैक्सफेड के स्तर पर कई परियोजनाओं के आंगणन को बार-बार संशोधित किए जाने पर नाराजगी व्यक्त की। आजमगढ़ में वर्ष 2014 से निर्माणाधीन एडीआर सेंटर (लोक अदालत) सहित कई अन्य परियोजनाएं बीते साल ही पूरी हो जानी थी। संशोधित स्टीमेट के कारण कार्य अपूर्ण और बंद होने पर मंडलीय टास्क फोर्स से जांच कराने के निर्देश दिए। जांच आख्या उप निदेशक अर्थ एवं संख्या को एक सप्ताह के अंदर उपलब्ध कराने को कहा गया। उप निदेशक अर्थ एवं संख्या अमजद अली अंसारी ने बताया कि पूर्व बैठक में सीएचसी मझवारा मऊ की खराब प्रगति के संबंध में स्पष्टीकरण एक्सईएन आवास विकास परिषद गाजीपुर से मांगे गए थे। कमिश्नर ने आवास विकास परिषद के प्रतिनिधि को दो दिन के अंदर संबंधित का स्पष्टीकरण उपलब्ध कराने का निर्देश दिया।
... और पढ़ें

प्रधान संघ के अध्यक्ष के घर पर फेंका बम

पवई। स्थानीय ब्लाक के प्रधान संघ के अध्यक्ष के घर पर रविवार की रात करीब पौने तीन बजे किसी ने बम फेंक ा। बम के आवाज से लोग भयभीत हो गए। इससे चहारदीवारी क्षतिग्रस्त हो गई है। घटना की सूचना मिलने पर रात में ही डायल 112 की पुलिस मौके पर पहुंची थी, लेकिन दूसरे दिन थाने से कोई नहीं पहुंच सका। एसओ का कहना है कि जांच में बम का कोई सबूत नहीं मिला है, जांच जारी है।
पीड़ित महिला हीरावती देवी पत्नी दलसिंगार पवई थाना क्षेत्र के मझौरा गांव की रहने वाली हैं। वह अपने गांव की प्रधान और पवई ब्लाक प्रधान संघ की अध्यक्ष हैं। हीरावती के पति दलसिंगार प्रजापति के मुताबिक रविवार की रात घर के लोग सो रहे थे। रात करीब दो बजकर 45 मिनट पर अचानक जोर का धमाका और तेश रोशनी हुई। तेज आवाज होने से परिवार सहित आसपास के लोग भयभीत हो गए। लोग जब तक भागकर मौके पर पहुंचते कि वहां कोई मिला नहीं। आवाज सुनकर लोगों की नींद उड़ गई और दरवाजे पर लोगों की भीड़ जुट गई। देखने पर पता चला कि चहारदीवारी क्षतिग्रस्त हो गई है। घटना की सूचना मिलने पर पुलिस पहुंची और जांच पड़ताल कर वापस लौट गई। एसओ पवई संजय सिंह के मुताबिक अब तक की जांच में बम या हथगोला का कोई सबूत नहीं मिला है। किसी ने शरारत करते हुए पटाखा फोड़ा है। घटना के संबंध में कोई केस नहीं दर्ज है। जांच जारी है।
... और पढ़ें

उप स्वास्थ्य केंद्र पर प्रसव के बाद प्रसूता की मौत

मार्टीनगंज। स्थानीय प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र के अंतर्गत संचालित उप स्वास्थ्य केंद्र महुजा नेवादा पर रविवार की सुबह प्रसव के बाद महिला की मौत हो गई। परिजनों ने उपकेंद्र पर तैनात एएनएम पर लापरवाही का आरोप लगाया है। घटना से परिजनों में कोहराम मच गया है। नवजात भी गंभीर है, जिसका प्राइवेट में इलाज चल रहा है।
मार्टीनगंज तहसील क्षेत्र के नरवें गांव निवासीनी 30 वर्षीय सुमन पत्नी राम अवतार राजभर की डिलेवरी होनी थी। परिजन रविवार की सुबह दर्द शुरू होने पर उसे उप स्वास्थ्य केंद्र महुजा नेवादा लेकर पहुंचे। जहां बिना किसी जांच रिपोर्ट व डिलेवरी के लिए सहमति पत्र के ही एएनएम ने ममता भारती से ड्यूटी डॉक्टर से संपर्क करे बगैर ही डिलेवरी करा दिया। डिलेवरी के बाद सुमन को ब्लीडिंग होने लगी और ब्लड प्रेशर भी अप-डाउन होने लगा। हालत गंभीर होने पर भी न तो डॉक्टर को मौके पर बुलाया गया न ही तत्काल उसे रेफर ही किया गया। एएनएम ममता भारती ने सिर्फ बोतल लगा दिया। इसके बाद भी सुमन की हालत गंभीर होती जा रही थी। महिला की हालत कंट्रोल से बाहर होने पर एएनएम ने उसे 108 एंबुलेस सेवा से पीएचसी मार्टीनगंज रेफर कर दिया। रास्ते में ही सुमन ने दम तोड़ दिया। पीएचसी पर पहुंचने पर डॉक्टर ने जांच के बाद उसे मृत घोषित कर दिया। सुमन के मौत की जानकारी होते ही परिजनों में कोहराम मच गया। परिजनों ने एएनएम पर लापरवाही का आरोप लगाया है। नवजात की हालत भी गंभीर बतायी जा रही है, जिसे स्थानीय प्राइवेट अस्पताल में भर्ती कराया गया है।
प्रकरण संज्ञान में आया है, प्रसव के दौरान लापरवाही का जो आरोप है उसकी जांच करायी जायेगी। जांच में जो भी दोषी पाया जायेगा, उसके खिलाफ सख्त कार्रवाई होगी। इस घटना से मुख्यालय को भी अवगत करा दिया गया है।
डॉ. गौरव मिश्रा, प्रभारी-पीएचसी, मार्टीनगंज।
... और पढ़ें
अपने शहर की सभी खबर पढ़ने के लिए amarujala.com पर जाएं
deshara coopan
Badhai coopan
DIWALI COOPAN
DIWALI COOPAN

Disclaimer

अपनी वेबसाइट पर हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर अनुभव प्रदान कर सकें, वेबसाइट के ट्रैफिक का विश्लेषण कर सकें, कॉन्टेंट व्यक्तिगत तरीके से पेश कर सकें और हमारे पार्टनर्स, जैसे की Google, और सोशल मीडिया साइट्स, जैसे की Facebook, के साथ लक्षित विज्ञापन पेश करने के लिए उपयोग कर सकें। साथ ही, अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।

Agree
Election