विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विवाह संबंधी दोषों को दूर करने के लिए शिवरात्रि पर मल्लिकार्जुन ज्योतिर्लिंग में कराएं रुद्राभिषेक : 21-फरवरी-2020
Astrology Services

विवाह संबंधी दोषों को दूर करने के लिए शिवरात्रि पर मल्लिकार्जुन ज्योतिर्लिंग में कराएं रुद्राभिषेक : 21-फरवरी-2020

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

From nearby cities

जानें कौन हैं श्री रामजन्मभूमि न्यास के अध्यक्ष महंत नृत्य गोपालदास

राम मंदिर आंदोलन के अहम किरदार रहे अयोध्या के श्री रामजन्मभूमि न्यास के अध्यक्ष महंत नृत्य गोपालदास को राम मंदिर निर्माण के लिए बनाए गए 'श्रीराम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र' ट्रस्ट का अध्यक्ष बनाया गया है। जानें, उनके बारे में:

19 फरवरी 2020

विज्ञापन
विज्ञापन

भदोही

बुधवार, 19 फरवरी 2020

सामूहिक विवाह में एक-दूजे के हुए 30 जोड़े

मां सीता जयंती पर एक-दूजे के हुए 30 जोड़े
पर्यटन स्थली सीतामढ़ी में हुआ सामूहिक विवाहोत्सव, गाजे-बाजे संग बहुद्देशीय हाल पहुंची बारात
संवाद न्यूज एजेंसी
सीतामढ़ी। धार्मिक-पौराणिक और पर्यटन स्थली सीतामढ़ी रविवार को मांगलिक कार्यक्रमों से गुंजायमान रही। मौका था जगत जननी मां सीता जयंती पर 30 जोड़ों के सामूहिक विवाहोत्सव का। श्री सीता समाहित स्थल ट्रस्ट की ओर से आयोजित सामूहिक विवाहोत्सव में 30 जोड़ों ने अग्नि को साक्षी मान कर एक दूजे संग सात फेरे लेकर एक दूजे के संग आजीवन साथ निभाने की कसमें खाई।
रविवार को गाजे-बाजे के साथ श्री सीता समाहित स्थल मंदिर से 30 दूल्हों की आकर्षक बारात निकली जो एक किलोमीटर पैदल चलते हुए कार्यक्रम स्थल कन्हैयालाल पुंज मल्टीपरपज हाल में पहुंची। जहां उपस्थित लोगों ने बारात का स्वागत किया। इसके बाद दयावंती पुंज मॉडल स्कूल के शिक्षक और शिक्षिकाओं ने भव्य स्टेज पर बारी-बारी से सभी जोड़ों का जयमाल कार्यक्रम संपन्न कराया। भव्य हाल में बने तीन वेदियो पर 10-10 जोड़ों को बैठा कर हिंदू रीति रिवाज से के बीच आचार्य पुरोहित पंडित बलस्टर शुक्ल के आचार्यत्व में 11 विद्वानों ने वैदिक मंत्रोच्चार के बीच मांगलिक कार्यक्रम संपन्न कराया। इस मौके पर पूरा हाल हजारों लोगों से खचाखच भरा रहा है। कार्यक्रम के मुख्य आयोजक ट्रस्ट के मुख्य ट्रस्टी अतुल पुंज ने कहा कि यह मांगलिक कार्यक्रम बहुत ही अच्छा लगा। विवाहोपरांत नव विवाहित जोड़ों को गृहस्थी के सभी जरूरी सामान साइकिल, सिलाई मशीन, कपड़े, बर्तन, श्रृंगार के सामान आदि बहुत सामान उपहार स्वरूप प्रदान किया गया। आशीर्वाद देने के लिए ज्ञानपुर के विधायक विजय कुमार मिश्रा सहित बड़ी संख्या में गणमान्य वह संभ्रांत लोग भी उपस्थित रहे। इस मौके पर वासुकी पुंज, भूपेंद्र सिंह, रचना दूबे, कैलाश चंद, प्रेमलता मिश्रा, टीआर भाटिया आदि रहे।
इनसेट
सामूहिक विवाह में इन जोड़ों की हुई शादी
सीतामढ़ी। सामूहिक विवाहोत्सव में अंकिता प्रजापति ने साहब लाल प्रजापति, कुंता कुमारी ने सुनील कुमार, श्वेता कुमारी-प्रदीप कुमार बिंद, शर्मिला ने द्वारिका प्रसाद, प्रीति कुमारी ने सुनील कुमार, अनीता ने प्रकाश चंद गौतम, पूजा ने शिवधार को अपना हमसफर बनाया। इंद्रावती ने सतीश कुमार निषाद, संजू देवी ने अजय कुमार, रेनू ने रमेश पाल, पान देवी ने राजेंद्र, खुशबू विश्वकर्मा ने अनिल, कंचन ने रामनाथ, गुंजा देवी ने चंद्रबली, प्रियंका मौर्या ने वीरेंद्र कुमार को जीवनसाथी चुना। खुशबू ने संजय कुमार, रीना ने संजय कुमार, रीना देवी ने रामप्रसाद, अनु देवी ने अरविंद कुमार, सोना कुमारी ने संजय, चांदनी साहनी ने मुकेश, पूजा ने सुरेंद्र कुमार, सरस्वती ने प्रमोद, रीता ने वकील, गुंजा देवी ने दिनेश सरोज, निशा देवी ने महेंद्र कुमार और सरिता मोदनवाल ने शुभम मोदनवाल के साथ सात फेरे लिए। रिंका देवी ने आलोक कुमार, पूजा प्रजापति ने दीपक कुमार, लक्ष्मीना ने उदयराज और सीता ने राहुल को अपना हमसफर चुना।
इनसेट
बहुत याद आए स्व. पुंज दंपत्ति
सीतामढ़ी। सामूहिक विवाहोत्सव के सूत्रधार श्री सीता समाहित स्थल ट्रस्ट के पूर्व ट्रस्टी स्व.पं. सत्यनारायण प्रकाश पुंज और उनकी सहधर्मिणी स्वर्गीया इंदुरानी पुंज की यादें सामूहिक विवाहोत्सव में तरोताजा हो गई। पिछले वर्ष के विवाहोत्सव समारोह में दोनों महान विभूतियां शामिल हुई थीं, लेकिन अब यह दंपत्ति सदा के लिए संसार से बहुत दूर जा चुके हैं। वर्ष 2001 से शुरू हुए सामूहिक विवाह में अब तक 621 जोड़ों की शादी हो चुकी है। अमर उजाला से बात करते हुए उनके बेटे एवं उद्योगपति अतुल पुंज ने कहा कि वे सामूहिक विवाहोत्सव में पहली बार शरीक हुए है। उन्हें बहुत अच्छा लगा।
... और पढ़ें

मार्ट की कमियों को 28 फरवरी तक पूरा करने के निर्देश

मार्ट की कमियों को 28 फरवरी तक पूरा करने के निर्देश
संवाद न्यूज एजेंसी
भदोही। शनिवार को भदोही कारपेट एक्सपो मार्ट संचालन समिति की बैठक वाराणसी सर्किट हाउस में हुई। बैठक की अध्यक्षता आयुक्त सह उद्योग निदेशक उप्र एनएस गोविंद राजू ने की। बैठक में मार्ट में कुछ कमियों को पूरा करने के बाद आयोजन पर विचार करने की बात कही गई। उल्लेखनीय है कि पहले यह बैठक 14 फरवरी को भदोही में मार्ट में होनी थी लेकिन वरिष्ठ अधिकारियों की व्यस्तता के चलते वाराणसी में करना पड़ा।
बैठक में कार्यदायी संस्था के अधिकारी भी मौजूद रहे। सदस्यों द्वारा मार्ट के कुछ अधूरे एवं लंबित कार्यों की ओर ध्यानाकृष्ट कराया गाय। जिसे किसी आयोजन से पूर्व ठीक करने पर जोर दिया गया। समिति के चेयरमैन ने निर्माण इकाई के लोगों को 28 फरवरी तक मार्ट का निरीक्षण कर समस्त उपकरणों की जांच कर रिपोर्ट मांगा। चेयरमैन ने कहा कि सबकुछ ओके की रिपोर्ट मिलने के बाद यहां कुछ आयोजन के बारे में विचार किया जाएगा।
बैठक में मार्ट का अधिकाधिक लाभ के लिए भदोही में एक होटल बनाए जाने के साथ पार्किंग की व्यवस्था के बारे में विचार विमर्श किया। निदेशक ने मार्ट में आयोजन के लिए सरकार से हर संभव मदद करने का आश्वासन दिया। बैठक में
बीडा सीईओ कृतिका ज्योत्सना, सीईपीसी चेयरमैन सिद्धनाथ सिंह, प्रवीण सिंह प्रबंध निदेशक यूपिको, सीईपीसी अधिशासी निदेशक श्री संजय कुमार आदि मौजूद रहे।
... और पढ़ें

एडी ने सेक्रेटरी पर की जुर्माने की संस्तुति

यूपीः भाजपा विधायक रवींद्रनाथ त्रिपाठी समेत सात लोगों पर सामूहिक दुष्कर्म का मुकदमा दर्ज

भदोही के भाजपा विधायक समेत सात लोगों के खिलाफ सामूहिक दुष्कर्म के आरोप में मुकदमा दर्ज किया गया है। विधायक के बेटों और भतीजों पर एक महिला के साथ दुष्कर्म करने का आरोप है।

बुधवार को भदोही कोतवाली में विधायक रवींद्रनाथ त्रिपाठी समेत सात लोगों पर केस दर्ज किया गया है। महिला का आरोप है कि विधायक के भतीजे संदीप तिवारी ने शादी का झांसा देकर छह साल दुष्कर्म किया था।

सोमवार को भाजपा विधायक रविंद्रनाथ त्रिपाठी एवं उनके परिवार वालों पर यौन शोषण का आरोप लगाने वाली महिला का सोमवार को पुलिस अधीक्षक रामबदन सिंह ने बयान दर्ज किए थे। महिला ने कहा कि अगर उसे न्याय नहीं मिला तो वह मुख्यमंत्री से गुहार लगाएगी।
... और पढ़ें
FIR FIR

15 घंटे देरी से भदोही पहुंची रत्नागिरी एक्सप्रेस

भदोही। लोकमान्य तिलक से चल कर भदोही होते हुए मडुआडीह जाने वाले रत्नागिरी एक्सप्रेस मंगलवार को लगभग 15 घंटे देरी से भदोही स्टेशन पहुंची। जिस ट्रेन को कुल 24 घंटे में भदोही पहुंचना चाहिए था उस ट्रेन ने लगभग 39 घंटे में यात्रा पूरीकी। भदोही स्टेशन पनर ट्रेन से उतरे यात्रियों में झुंझलाहट साफ दिखी। लोगों ने कहा कि इस पर रेल प्रशासन को गौर करना चाहिए।
यात्रियों ने बताया कि ट्रेन सुबह 5.20 बजे लोकमान्य तिलट से चली थी। इटारसी तक ट्रेन अपने स्वाभावित गति से पहुंची। यहां रात्रि लगभग 12 बजे पहुंची और प्रात: 2.30 बजे तक खड़ी रही। वहां से जब रवाना हुई तो 9.20 घंटे लेट हो चुकी थी। इसके बाद कटनी पहुंचते पहुंचते 13 घंटे विलंब हो चुका था। ट्रेन रात लगभग 9 बजे भदोही पहुंची तो लोगों ने राहत की सांस ली। यात्री अमजद अंसारी ने बताया कि इटारसी में घंटो ट्रेन को रोक के रखने के बाद डायवर्ट कर चलाया गया। ऐसा क्यों किया गया इस बारे में लोगों को जानकारी नहीं थी।
... और पढ़ें

बीमा प्रीमियम काट लिया, मुआवजे का इंतजार

ज्ञानपुर/दुर्गागंज। अभोली ब्लॉक के भंडा समेत छह से सात गांव के किसानों के खाते से बीमा कंपनी ने पैसा काट लिया लेकिन अब तक मुआवजे की रकम नहीं मिल सकी। इसको लेकर केसीसी (किसान क्रेडिट कार्ड) वाले करीब 100 से अधिक किसान कृषि दफ्तर का चक्कर लगा रहे हैं। जिले में यह आंकड़ा दो हजार से अधिक है।
भदोही, सुरियावां और अभोली ब्लॉक से होकर गुजरी वरूणा नदी के तटवर्ती इलाके में सितंबर की बारिश में जमकर तबाही मचाई थी। सैकड़ो एकड़ दलहनी-तिलहनी फसल जलजमाव से नष्ट हो गई थी। उसी दौरान प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना के लिए नामित बीमा कंपनी ने किसान क्रेडिट लेने वाले किसानों के खाते से प्रीमियम काट लिया, लेकिन मुआवजा अब तक नहीं मिला। कई किसानों ने धान की रोपाई भी नहीं की थी लेकिन उनके खाते से भी प्रीमियम की रकम कट गई। 500 रूपये प्रति बीघे की दर से किस्त काटी गई है। भंडा निवासी रमाशंकर पाठक ने बताया कि खरीफ़ की फसल के लिए 2600 का प्रीमियम लिया गया है। उसके पूर्व गेंहू के लिए 4995 रुपये काट लिया गया। इसी तरह गांव के ही हरकेश सिंह के खाते से 1700 रुपये, भान प्रताप सिंह के खाते से 550 रुपये कटा है। इसी तरह रंगबहादुर, अभिमान सिंह, अशोक पाठक, मुन्ना सिंह के खातों से भी प्रीमियम काटी गई लेकिन सहायता अब तक नहीं मिल सकी। किसानों ने इसकी शिकायत 1076 और मुख्यमंत्री पोर्टल पर की।
उप निदेशक क़ृषि अरविंद सिंह ने कहा कि जिन किसानों का प्रीमियम कटा है, उन्हें मुआवजा अवश्य मिलेगा। अगर किसानों को मुआवजा नहीं मिला तो वह बीमा कंपनी के खिलाफ शासन को पत्र लिखेंगे।
... और पढ़ें

विरोध-प्रदर्शन कर कूड़ा गिराने से रोका,तनाव व्याप्त

घोसिया। नगर पंचायत खमरिया के वार्ड नंबर दो खलवापुर में मंगलवार को लोगों का गुस्सा उस समय फूट पड़ा, जब हिदायत के बाद भी नगर प्रशासन ने वार्डवासियों की निजी जमीन पर कूड़ा गिरवाना शुरू कर दिया। विरोध-प्रदर्शन करते हुए मौके पर पहुंचे वार्डवासियों ने कूड़ा वाहन को रोक दिया। लेकिन, कोई जिम्मेदार मौके पर नहीं पहुंचा।
विरोध कर रहे प्रमोद मौर्य, नन्हकू, श्रवण कुमार, लवकुश जायसवाल, रामू, नान्हू मौर्य, क्षमा शंकर, सर्वेश आदि ने आरोप लगाया कि चार माह पूर्व भी इस तरह की कार्यप्रणाली अपनाई गई थी। मामला तूल पकड़ने पर नगर प्रशासन ने कूड़ा निस्तारण के लिए जमीन चयनित करने का आश्वासन दिया, लेकिन भूल गया। इधर बीच भी नगर में निकलने वाले कूड़ों को बिना किसी से पूछे ही लोगों के निजी जमीनों को पर गिराया जाने लगा।
कूड़ा गिराने से जहां खेतीबारी को भारी नुकसान उठाना पड़ा, वहीं आसपास रह रहे लोगों को दुर्गंध के कारण सांस लेना दुश्वार हो चुका है। बार-बार नगर अध्यक्ष, अधिशासी अधिकारी से शिकायत करने पर भी कोई असर नहीं पड़ा। अंतत: मौके पर न अधिशासी अधिकारी पहुंच सके और ना ही नगर अध्यक्ष। वार्डवासियों ने कूड़े से भरे वाहन को काफी देर तक रोके रखने के बाद वापस करा दिया। चेतावनी दी कि यदि नगर प्रशासन ने कूड़ा निस्तारण के लिए जमीन सुरक्षित नहीं कराई तो नगरवासी अपने जमीन पर कूड़ा नहीं गिराने देंगे और इसका विरोध जिला मुख्यालय तक होगा।
घोसिया। खमरिया नगर के खलवापुर वार्डवासियों का यह भी आरोप था कि नगर में खाली पड़ी जमीनों पर नगर प्रशासन ने मिलीभगत कर अतिक्रमण करा दिया, लेकिन अब वही अतिक्रमणकारी नगर पंचायत के लिए मुसीबत साबित हो रहे हैं। नगर पंचायत के अधीन खाली पड़ी जमीन को खाली करा दिया जाए तो कूड़ा निस्तारण ही नहीं बल्कि नगरवासियों के लिए अन्य सुविधाओं के निर्माण में बाधा उत्पन्न नहीं होने पाएगी। लेकिन, नगर प्रशासन पहल करने से पीछे हट रहा है।
... और पढ़ें

संपूर्ण समाधान दिवस में न्याय की टूटी आस

ज्ञानपुर/औराई। जिले की तीनों तहसीलों में मंगलवार को आयोजित संपूर्ण समाधान दिवस में एक बार फिर फरियादियों को त्वरित न्याय नहीं मिल सका। 20 से 30 किमी सफर तय कर अफसरों के पास पहुंचे लोगों के प्रार्थना पत्र लंबित रह गए। तीनों तहसील में आए 196 प्रार्थना पत्रों में से केवल सात का निस्तारण किया जा सका। शेष प्रकरण संबंधित विभागों को सौंपा गया।
औराई तहसील में डीएम राजेंद्र प्रसाद की अध्यक्षता में संपूर्ण समाधान दिवस का आयोजन किया गया। बारी-बारी से डीएम ने फरियादियों की समस्याएं सुनी। ज्यादातर मामले राजस्व से जुड़ा होने के कारण उनका निस्तारण करने के लिए पुलिस और राजस्व विभाग से कहा। अफसरों को हिदायत दी गई कि संपूर्ण समाधान दिवस के प्रार्थना पत्र एक सप्ताह के अंदर हर हाल में निस्तारित हो। बार-बार शिकायत प्राप्त होने पर भी कोई निस्तारण न करने वाले अधिकारियों पर कार्रवाई के लिए चेताया। इस दौरान विभिन्न विभागों से आए 72 प्रार्थना पत्रों में चार का निस्तारण किया जा सका। इस मौके पर सीडीओ विवेक त्रिपाठी, सीएमओ डॉ. लक्ष्मी सिंह, तहसीलदार मृत्युंजय सिंह आदि रहे।
ज्ञानपुर तहसील में एडीएम शैैलेंद्र मिश्रा की अध्यक्षता में संपूर्ण समाधान दिवस आयोजित किया गया। इस दौरान राजस्व, पुलिस समेत विभिन्न विभागों के कुल 86 प्रार्थना पत्र आए, जिसमें मात्र एक का निस्तारण हो सका। इस मौके पर तहसीलदार देवेंद्र यादव आदि रहे।
भदोही तहसील में एसडीएम एके मिश्रा अध्यक्षता में संपूर्ण समाधान दिवस आयोजित किया गया। इसमें 38 प्रार्थना पत्र आए, जिनमें दो का निस्तारण किया जा सका। राजस्व विभाग के 15, पुलिस के 12, ब्लॉक के पांच, ईओ के तीन, बिजली के दो और चिकित्सा विभाग का एक प्रार्थना पत्र आए।
... और पढ़ें

पहले दिन था कड़ा इंतजाम, प्रशासन का भी हुआ इम्तहान

ज्ञानपुर। जिले के 83 केंद्रों पर मंगलवार को हाईस्कूल और इंटरमीडिएट की बोर्ड परीक्षा कड़ी सुरक्षा के बीच शुरू हो गई। सुबह की पाली में हाईस्कूल और दूसरी पाली में इंटरमीडिएट की हिंदी विषय की परीक्षा हुई। पहली पाली में 2401 परीक्षार्थी अनुपस्थित रहे। पहले दिन प्रबंध तंत्र, शिक्षा विभाग से लेकर छात्र-छात्राओं को मुश्किलों का सामना करना पड़ा। नामित जोनल, सेक्टर मजिस्ट्रेट दोनों पालियों की परीक्षा में केंद्रों पर चक्रमण करते रहे।
बोर्ड परीक्षा को लेकर मंगलवार की सुबह छह बजे से ही विभूति नारायण राजकीय इंटर कॉलेज ज्ञानपुर, इंद्रावती बिंद इंटर कॉलेज गिरधरपुर, जिला पंचायत बालिका इंटर कॉलेज ज्ञानपुर, गुलाबधर मिश्र इंटर कॉलेज गोपीगंज, स्वामी विवेकानंद उच्चतर माध्यमिक विद्यालय गोपीगंज में अभिभावक संग छात्र-छात्राएं पहुंचने लगे। करीब सात बजकर 30 मिनट पर एक-एक परीक्षार्थी की जांच कर कमरे में प्रवेश दिया गया। करीब तीन घंटे तक चली परीक्षा में छात्र-छात्राओं ने माथापच्ची की। तकनीकी खामियों से कुछ छात्र दूसरे परीक्षा केंद्रों पर पहुंच गए, हालांकि आनन-फानन में उन्हें संबंधित केंद्र पर पहुंचाया गया, जिससे वह परीक्षा में शामिल हो सके। बीएसए अमित कुमार, लेखाधिकारी और डीआईओएस अशोक श्रीवास्तव का उड़ाका दल कई केंद्रों पर पहुंचा, लेकिन कहीं कोई अनुचित साधन के साथ नहीं पकड़ा गया। कंट्रोल रूम के मुताबिक सुबह की पाली में हाईस्कूल की हिंदी में पंजीकृत 30 हजार 136 छात्र-छात्राओं में 2401 अनुपस्थित रहे, जबकि 27 हजार 735 परीक्षा में शामिल हुए। सामान्य हिंदी में एकमात्र परीक्षार्थी उपस्थित रहा।
और जब लखनऊ से घनघना उठी घंटी
बोर्ड परीक्षा की आनलाइन निगरानी के फायदे और नुकसान भी है। मंगलवार को प्रथम पाली में कोइरौना स्थित एक परीक्षा केंद्र की फुटेज देखकर लखनऊ से डीआईओएस के पास फोन आया कि एक छात्रा नकल कर रही है। आनन-फानन में डीआईओएस अशोक चौरसिया उक्त केंद्र के संबंधित कक्ष में पहुंचे। यहां भी नकल स्पष्ट नहीं हो सका। लखनऊ से छात्रा को लाल स्वेटर पहने बताया गया। अधिकारियों ने उसके पास देखा तो शिक्षक डायरी रखी गई थी। इसी तरह विमल मिश्र की शिकायत पर एक केंद्र पर डीआईओएस पहुंचे लेकिन वहां भी व्यवस्था सही मिली।
परीक्षा केंद्र पर धमके डीएम, मची खलबली
बोर्ड परीक्षा के पहले दिन मंगलवार को जिलाधिकारी राजेंद्र प्रसाद ने ज्ञानपुर स्थित इंद्रावती देवी इंटर कॉलेज गिरधरपुर और माधोसिंह गर्ल्स इंटर कॉलेज खमरिया का निरीक्षण किया। एक-एक कक्ष में जाकर सीसीटीवी कैमरा और वायस रिकार्डर को परखा। परीक्षा नकलविहीन मिलने पर संतोष जताया। निर्देशित किया कि सीसीटीवी कैमरा और वायस रिकार्डर बराबर क्रियाशील रहे।
कहीं कैमरा खराब तो कहीं वॉयस रिकॉर्डर गड़बड़
परीक्षा के पहले ही दिन सुरक्षा व्यवस्था को मजबूत करने के लिए लगे सीसीटीवी कैमरे और उनके वॉयस रिकॉर्डर में गड़बड़ी आ गई। करीब दर्जन भर से अधिक केंद्रों पर कैमरे और वायस रिकार्डर खराब मिले। एनआईसी और जिला विद्यालय निरीक्षक की सख्ती के बाद आनन-फानन में व्यवस्था सुधारी गई। ज्ञानपुर, सुरियावां, भदोही, डीघ, अभोली और औराई ब्लॉक के कई केंद्रों पर यह दिक्कतें सामने आईं, जिसको सुधारने के लिए विभाग से लेकर स्कूल प्रबंधतंत्र भी परेशान दिखा।
... और पढ़ें

मांगो को लेकर कलेक्ट्रेट पर रोजगार सेवकों का प्रदर्शन

ज्ञानपुर। ग्राम रोजगार सेवक वेलफेयर एसोसिएशन के बैनर तले रोजगार सेवकों ने सोमवार को कलेक्ट्रेट पर विभिन्न मांगो को लेकर प्रदर्शन किया। मुख्यमंत्री को संबोधित ज्ञापन जिलाधिकारी को सौंपा। चेतावनी दिया कि अविलंब सरकार कोई ठोस निर्णय नहीं लेगी तो वृहद स्तर पर आंदोलन किया जाएगा।
जिला संरक्षक चंद्रशेखर यादव ने कहा कि सूबे में रोजगार सेवकों से ग्राम पंचायतों में अन्य कर्मियों की तरह काम लिया जाता है लेकिन सुविधाओं के नाम पर सिर्फ मानदेय मिलता है। पिछले दो साल से उन्हें मानदेय भी नहीं मिल सका। प्रशासनिक अफसरों की लापरवाही से उनकेे सामने आर्थिक समस्या उत्पन्न हो गई है। परिवार का जीवकोपार्जन भी करना मुश्किल हो चुका है। जिला संयोजक विवेक चौधरी ने कहां कि हमारी मांगे समय रहते न मानी गई तो 17 मार्च को लखनऊ में चारबाग रेलवे स्टेशन से हाथो में तिरंगा लेकर जीपीओ पार्क तक शांति पूर्वक पैदल मार्च किया जाएगा। उन्होंने बताया कि ग्राम रोजगार सेवकों की लंबित पड़ी बकाया मानदेय दो वर्षो से नही दिया गया। प्रदेश भर के अनेको ग्राम पंचायतो में 37 हजार रोजगार सेवक कार्य कर रहे हैं। हमें समय से मानदेय नही मिल पा रहा है, न ही चिकित्सा स्वास्थ्य बीमा का लाभ, कर्मचारी भविष्य निधि का कार्य नही किया जा रहा हैं। जिससे उनके सामने तमाम समस्याएं आ रही है। सरकार उनकी मांगो को नजर अंदाज न करें। इस मौके पर विवेक चौधरी, राजेश कुमार, विरेंद्र यादव, सुरेंद्र कुमार, अजय कुमार, चंद्रेश कुमार, रविंद्र नाथ पांडेय, नरेंद्र कुमार, देवेंद्र कुमार, राजू सरोज, राजू यादव आदि रहे।
... और पढ़ें

भदोही में दो दिन में अतिक्रमण हटाने के निर्देश

भदोही। कोतवाली क्षेत्र के मोढ़ पुलिस चौकी अंतर्गत मकनपुर में ग्राम समाज की भूमि पर अवैध कब्जे की शिकायत पर सोमवार को तहसीलदार भगवान दास गुप्ता पुलिस फोर्स के साथ पहुंचे। इस दौरान अतिक्रमण का संज्ञान लेते हुए न केवल अतिक्रमण करने वालों को फटकारा बल्कि हल्का लेखपाल साधना के विरुद्ध विभागीय कार्रवाई की शिफारिश की। दो दिन में अतिक्रमण स्वत: हटाने के निर्देश देते हुए कहा गया है कि इसके बाद तहसील प्रशासन खुद हटवाएगी।
तहसीलदार ने बताया कि गत थाना दिवस पर गांव की वर्षा दूबे ने शिकायत कर कुछ लोगों द्वारा अतिक्रमण किए जाने की शिकायत की थी। मामले को गंभीरता से लिया गया था। लेकिन कुछ दिन बाद शिकायतकर्ता द्वारा संज्ञान में लाया गया कि अतिक्रमण हो रहा है। इस पर आज मौका मुआयना किया गया तो शिकायत सही मिली। कुछ लोग लबे सड़क जीएस की जमीन पर निर्माण करा रहे थे जिन्हें तत्काल रोका गया।
बकौल तहसीलदार पूरे मामले में हल्का लेखपाल साधना और राजस्व निरीक्षक कमलाशंकर की लापरवाही सामने आई है। लेखपाल के विरुद्ध विभागीय कार्रवाई की उन्होंने शिफारिश की है जबकि राजस्व निरीक्षक को मौके पर फटकार लगाई। मौके पर कोतवाल श्रीकांत राय भी हमराहियों के साथ गए थे।
... और पढ़ें

मनचलों की छींटाकशी से छात्राएं परेशान, गुहार

ज्ञानपुर। भदोही- ज्ञानपुर मार्ग पर घंटाघर से पिपरिस मार्ग पर मनचलों की छींटकशी से आईटीआई और इंटर कॉलेज की छात्राएं परेशान हो गई है। एंटी रोमियो से शिकायत के बाद भी ध्यान नहीं दिया गया। राजकीय आईटीआई में जाते समय सूनसान क्षेत्र पड़ता है। छात्राओं के साथ ही महिला शिक्षिकाएं भी उसी मार्ग से होकर जाती हैं। दोपहर दो से शाम चार बजे तक वहां नशेड़ी किस्म के कई मनचले एकत्रित हो जाते हैं। शिक्षण संस्थान से लौटते समय उन्हें मनचलों की फब्तियां और छींटाकाशी से परेशान होना पड़ता है। छात्राओं ने एसपी से मांग किया कि वहां दोपहर दो से शाम पांच बजे तक एंटी रोमियो दल तैनात किया जाए। ... और पढ़ें

धांधली को लेकर केएनपीजी कॉलेज में एबीवीपी का धरना

ज्ञानपुर। काशी नरेश राजकीय स्नातकोत्तर महाविद्यालय में क्रीड़ांगन के नव निर्माण में धांधली का मामला तूल पकड़ता जा रहा है। पूर्व छात्रनेताओं संग अब अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद भी मैदान में उतर गई है। सोमवार को कॉलेज परिसर में धरना देकर छात्रों ने विरोध जताया। सात बिंदुओं का मांगपत्र प्राचार्य को सौंपा।
एबीवीपी के नगर मंत्री शिवम तिवारी ने कहा कि पूर्वांचल के प्रमुख महाविद्यायों में शामिलों केएनपीजी कॉलेज के विकास में ध्यान नहीं दिया जाता। क्रीड़ांगन के नव निर्माण में मानक को दरकिनार किया जा रहा है। प्राचार्य डॉ. पीएन डोंगरे को ज्ञापन दिया। जिसमें कार्यदायी संस्था का नाम, टेंडर की जानकारी, ई-टेंडर क्यों नहीं कराया गया, अभी तक कितना भुगतान हुआ और किस फर्म को किया गया। जो कार्य हो रहा है उसकी संस्तुति करने वाली कमेेटी में शिक्षक सदस्यों का नाम शामिल रहे। धरने में आकाश त्रिपाठी, श्रेष्ठ मिश्रा, आदर्श पांडेय, अवनीश त्रिपाठी, राजकुमार, राहुल, हरिओम, देवेश उपाध्याय आदि रहे।
... और पढ़ें
अपने शहर की सभी खबर पढ़ने के लिए amarujala.com पर जाएं

Disclaimer

अपनी वेबसाइट पर हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर अनुभव प्रदान कर सकें, वेबसाइट के ट्रैफिक का विश्लेषण कर सकें, कॉन्टेंट व्यक्तिगत तरीके से पेश कर सकें और हमारे पार्टनर्स, जैसे की Google, और सोशल मीडिया साइट्स, जैसे की Facebook, के साथ लक्षित विज्ञापन पेश करने के लिए उपयोग कर सकें। साथ ही, अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।

Agree
Election
  • Downloads

Follow Us